आस्ट्रेलिया के दसवीं के बच्चे अपने खर्च पर पहुंचे भारत-नैनीताल

सभी 12 बच्चे पढ़ाई के साथ ईंट उठाने, खाना बनाने और सुपर स्टोर में सामान बेचने जैसे करते हैं कार्य अपने शिक्षक के साथ सप्ताह भर के लिए भ्रमण पर आए हैं भारत, ताजमहल के साथ हिमालय देखने का है चाव नैनीताल आकर स्थानीय बच्चों के साथ बास्केटबॉल कोर्ट में बहाया पसीना नवीन जोशी, नैनीताल।

नैनीताल में आज से शुरू होगा तीन दिवसीय नैनीताल बर्ड फेस्टिवल

पहुचेंगे देश भर के बर्ड वॉचर एवं खासकर 30 महिला बर्ड फोटोग्राफर आगे अक्टूबर-नवंबर माह में फ्लैट्स मैदान में मुख्यमंत्री की उपस्थिति के बीच इसी तरह का अंतराष्ट्रीय महोत्सव कराने की भी योजना नैनीताल। मुख्यालय स्थित हिमालयन बॉटनिकल गार्डन में शुक्रवार 27 अप्रैल से तीन दिवसीय पहला ‘नैनीताल बर्ड फेस्टिवल’ का आयोजन शुरू होने जा

राजुला-मालूशाही और उत्तराखंड की रक्तहीन क्रांति की धरती, कुमाऊं की काशी-बागेश्वर

पौराणिक काल से ऋषि-मुनियों की स्वयं देवाधिदेव महादेव को हिमालय पुत्री पार्वती के साथ धरती पर उतरने के लिए मजबूर करने वाले तप की स्थली बागेश्वर कूर्मांचल-कुमाऊं मंडल का एक प्रमुख धार्मिक एवं पर्यटन स्थल है। नीलेश्वर और भीलेश्वर नाम के दो पर्वतों की उपत्यका में सरयू, गोमती व विलुप्त मानी जाने वाली सरस्वती नदी

एशिया का पहला जिम कार्बेट राष्ट्रीय उद्यान और ब्याघ्र अभयारण्य

देश में राष्ट्रीय पशु-बाघों की ताजा गणना के अनुसार बाघों को बचाने के मामले में देश में नंबर-एक घोषित तथा भारत ही नहीं एशिया के पहले राष्ट्रीय पार्क-जिम कार्बेट राष्ट्रीय उद्यान और ब्याघ्र अभयारण्य को 1973 से देश का ‘प्रोजेक्ट टाइगर’ के तहत पहला राष्ट्रीय वन्य जीव अभयारण्य होने का गौरव भी प्राप्त है। उत्तराखंड

पक्षी-तितली प्रेमियों का सर्वश्रेष्ठ गंतव्य है पवलगढ़ रिजर्व

उत्तराखंड का नैनीताल जनपद में रामनगर वन प्रभाग स्थित पवलगढ़ रिजर्व पक्षी प्रेमियों के लिए बेहतरीन गंतव्य है। दिल्ली से सड़क और रेल मार्ग से करीब 260 किमी तथा नजदीकी हवाई अड्डे पंतनगर से करीब 87 किमी दूर रामनगर के जिम कार्बेट नेशनल पार्क से कोसी नदी के दूसरी-पूर्वी छोर से सटा 5824 हैक्टेयर में

देवभूमि के कण-कण में देवत्व

आदि गुरु शंकराचार्य का उत्तराखंड में प्रथम पड़ाव: कालीचौड़ मंदिर देवभूमि के कण-कण में देवत्व होने की बात यूँ ही नहीं कही जाती। अब इन दो स्थानों को ही लीजिये, यह नैनीताल जिले में हल्द्वानी के निकट खेड़ा गौलापार से अन्दर सुरम्य बेहद घने वन में स्थित कालीचौड़ मंदिर है। यहाँ महिषासुर मर्दिनी मां काली

चार दशक में डेढ़ किमी पीछे खिसक गया पिंडारी ग्लेशियर

यूसैक देहरादून, कुमाऊं विवि, नैनीताल व आईआईएसईआर, कोलकाता का संयुक्त अध्ययन  अध्ययन में रिमोट सेंसिंग के माध्यम से ग्लेशियर की 1976 से 2014 तक की तुलना की गई कुमाऊं का जाना-माना पिंडारी ग्लेशियर बीते चार दशक में डेढ़ किलोमीटर पीछे चला गया है। पिंडारी ग्लेशियर गंगा की सबसे बड़ी सहायक नदी अलकनंदा की भी सहायक

Destination Kumaon (कुमाऊं का प्राकृतिक सौंदर्य)

यदि आपको कोई फोटो अच्छी लगती हैं, और उन्हें बिना “वाटर मार्क” के और बड़े उपलब्ध आकार में चाहते हैं तो  यहाँ क्लिक कर “संपर्क” कर सकते हैं। कुमाऊँ के विभिन्न खूबसूरत स्थल : (कृपया फोटो को डबल क्लिक करके देखें) Naini-Jageshwar Lakhu Udiyar-A Place of Ancient Stone Age man made paintings: Chitai-Golju Temple-Almora: सेराघाट, बेरीनाग, कोटगाड़ी,

नैनीताल पैनोरमा

यदि आपको कोई फोटो अच्छी लगती हैं, और उन्हें बिना “वाटर मार्क” के और बड़े उपलब्ध आकार में चाहते हैं तो यहाँ क्लिक कर “संपर्क” कर सकते हैं। (कृपया चित्रों को बड़ा देखने के लिए  क्लिक करके देखें)

नैनीताल में पर्यटन

नैनीताल-कुमाऊं में पर्यटन सुविधाएं Hotels in Nainital-Kumaon :  CLick the Links and Directly reach to the concerned Establishments: Kumaon Mandal Vikas Nigam Limited for Best Accommodation in all over Kumaon Region. HiMADRi Tour Trek & Adventure Gears The Manu Maharani  Shervani Hilltop-Nainital Balrampur House-A Heritage Resort Alka-The Lake Side Hotel Chevron-Fair Havens, Nainital, Ranikhet, Kausani, Mukteshwar,

नैनीताल की स्मरणीय सौगातें

यदि आपको कोई फोटो अच्छी लगती हैं, और उन्हें बिना “वाटर मार्क” के और बड़े उपलब्ध आकार में चाहते हैं तो यहाँ क्लिक कर “संपर्क” कर सकते हैं। नैनीताल में कई स्थानों पर बने सुन्दर भित्ति चित्र (graffiti‬) (कृपया चित्रों को बड़ा देखने के लिए  क्लिक करके देखें)

अब केवल 9 दिनों में कीजिए कैलाश मानसरोवर यात्रा

-2012 से की जा रही है यात्रा, हेलीकॉप्टर व हवाई जहाज से नेपाल के रास्ते सुगम तरीके से होगी यात्रा नैनीताल।  पृथ्वी पर शिव के सबसे बड़े धाम कहे जाने वाले 18 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित कैलाश मानसरोवर की लंबी अवधि की यात्रा के हालांकि कई विकल्प हैं, लेकिन यदि आप के पास

उद्योगों की तर्ज पर पर्यटन प्रदेश की अवधारणा को साकार करने में मदद करे सरकार

-उत्तराखंड होटल्स एंड रेस्टारेंट एसोसिएशन की अधिशासी समिति की बैठक में सरकार को मांगपत्र सोंपने का निर्णय -निजी भूमि पर पार्किंग व होटल निर्माण को प्रोत्साहन तथा ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन के साथ ही चार अन्य सीजनों का भी सदुपयोग करने सहित अन्य मांगें उठाएंगे नैनीताल। उत्तराखंड होटल्स एंड रेस्टारेंट एसोसिएशन ने प्रदेश सरकार से पर्यटन

सीमांत की ‘रंङ’(रं) लोक संस्कृति में रमे देश भर से आये कैलाश यात्री

कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री धीराज गर्ब्याल की अभिनव पहल है ‘होम-स्टे’ योजना इस वर्ष गणतंत्र दिवस पर राजपथ पर उत्तराखंड की झांकी के रूप में भी बढ़ा चुकी है राज्य का मान कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री धिराज गर्ब्याल की अभिनव पहल है ‘होम-स्टे’ योजना इस वर्ष

देवभूमि के कण-कण में ‘देवत्व’: विश्व हिंदी सम्मेलन के संयोजक व अंतर्राष्ट्रीय पत्रकार डा. अशोक ओझा के हाथों हुआ विमोचन

नैनीताल। अमेरिका में हिंदी के जरिये रोजगार के अवसर विषयक कार्यक्रम के दौरान विश्व हिंदी सम्मेलन के संयोजक, अमेरिकी सरकार समर्थित स्टारटॉक हिंदी कार्यक्रम के निदेशक व अंतर्राष्ट्रीय पत्रकार डा. अशोक ओझा, उत्तराखंड मुक्त विवि के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के निदेशक डा. गोविंद सिंह, कुमाऊं विवि के कुलपति प्रो. एचएस धामी, कला संकायाध्यक्ष प्रो.

Loading...