News

उत्तराखंड: चारधाम के कपाट बंद होने की तिथि का ऐलान, 16 नवंबर को केदारनाथ तो 19 को बदरीनाथ के कपाट होंगे बंद

0 0

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Read Time:2 Minute, 45 Second

करन खुराना, ऋषिकेशउत्तराखंड प्रदेश में स्थित चारधाम बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट बंद होने की तिथि की घोषणा कर दी गई है। उत्तराखंड में हर वर्ष चार धाम कपाट बंद होने की तिथि और खोलने की तिथि निर्धारित की जाती है। कपाट खुलने का समय मार्च-अप्रैल में आता है और कपाट बंद होने का समय अक्टूबर-नवंबर में आता है। इसी क्रम में रविवार को बोर्ड की मीटिंग में चारधाम कपाट बन्द होने की तिथि निर्धारित कर दी गई है।

बद्रीनाथ धाम के कपाट 19 नवंबर सांय 3 बजकर 35 मिनट पर शीतकाल हेतु बंद किये जायेंगे। केदारनाथ धाम के कपाट भैयादूज 16 नवंबर को प्रात: 8.30 बजे बंद होंगे। यमुनोत्री धाम के कपाट भैयादूज के अवसर पर 16 नवंबर को पूर्वाह्न में बजे बंद होंगे। गंगोत्री धाम के कपाट अन्नकूट के अवसर पर 15 नवंबर पूर्वाह्न में शीतकाल हेतु बंद होंगे।

द्वितीय केदार मद्महेश्वर जी के कपाट 19 नवंबर को प्रात: 7 बजे बंद होंगे। तृतीय केदार तुंगनाथ जी के कपाट 4 नवंबर 11.30 बजे बंद होंगे। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार विजयदशमी को भगवान श्री बदरीविशाल जी के कपाट बंद की घोषणा पंचांग गणना द्वारा तय की जाती है।

देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डॉ हरीश गौड़ ने बताया कि पंचांग अनुसार कपाट बंद होने की तिथि निर्धारित की गई है। बैठक में बदरीनाथ मंदिर के मुख्य पुजारी ईश्वरप्रसाद नम्बूदरी, नायब रावल अमरनाथ नम्बूदरी, अपर मुख्यकार्याधिकारी बीड़ी सिंह, धर्माधिकारी भुवनचंद्र उनियाल, प्रभारी अधिकारी विपिन तिवारी, अपरधर्माधिकरी राधाकृष्ण थपलियाल, अपरधर्माधिकारी सत्यप्रसाद चमोला, वेदपाठी रविन्द्र भट्ट, सहायक मंदिर अधिकारी राजेन्द्र चौहान एवं समस्त कर्मी मौजूद रहे।

About Post Author

नवीन समाचार

‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com
loading...