यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 8077566792 पर संपर्क करें..
 

छात्र संघ चुनाव के दृष्टिगत नैनीताल के भी कई स्कूल रहेंगे बंद, कई जगह धारा 144 भी लागू

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डीएसबी परिसर में नामांकन पत्रों की खरीद के दौरान आपस में जोश बढ़ाते प्रत्याशियों के समर्थक।

नवीन समाचार, नैनीताल, 9 सितंबर 2019। सोमवार 9 सितम्बर को जिले मे सम्पन्न होने वाले छात्र संघ चुनाव की संवेदनशीलता को देखते हुये नैनीताल के 4 स्कूल भी डीएम के आदेशों का हवाला देते बंद कर दिए गए हैं।मुख्यालय के सेंट जोसेफ कॉलेज, सेंट मेरिज कॉन्वेंट व लॉन्ग व्यू पब्लिक स्कूल सहित 4 स्कूलों की ओर से अपने छात्र-छात्राओं को छुट्टी घोषित होने का संदेश भेजा गया है।  हालांकि  जिलाधिकारी का आदेश केवल हल्द्वानी के  काठगोदाम से लेकर  मंडी तक के  स्कूलों को बंद करने का है।

इससे पूर्व डीएम सविन बंसल ने शान्तिपूर्ण निर्वाचन सम्पन्न कराने हेतु मजिस्ट्रेटों की तैनाती कर दी है। महानगर हल्द्वानी स्थित एमबीपीजी कालेज के चुनाव को दृष्टिगत रखते हुये सोमवार को नैनीताल मेन रोड पर स्थित सभी सरकारी एवं गैर सरकारी विद्यालय सुरक्षा की दृष्टि से पूर्णतयाः बन्द रहेंगे। साथ ही सभी महाविद्यालयों के आसपास दो सौ मीटर के दायरे में धारा 144 प्रभावी रहेगी तथा आवश्यकतानुसार ट्रेफिक भी ड्राइवर्ट रहेगा।

जिलाधिकारी ने जनपद के 9 महाविद्यालयोें में शान्तिपूर्ण निर्वाचन सम्पन्न कराने हेतु डीएसबी परिसर नैनीताल में एसडीएम विनोद कुमार, एमबीपीजी कालेज हल्द्वानी में सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिह, राजकीय महिला महाविद्यालय हल्द्वानी में एसडीएम विजय नाथ शुक्ला, राजकीय महाविद्यालय रामनगर हरगिरी, राजकीय महाविद्यालय बेतालघाट मे एसडीएम गौरव चटवाल को पर्यवेक्षक मजिस्ट्रेट राजकीय महाविद्यालय हल्दूचौड मे तहसीलदार हल्द्वानी, राजकीय महाविद्यालय कोटाबाग मे तहसीलदार कालाढूगी, राजकीय महाविद्यालय दोषापानी तहसीलदार धारी व राजकीय महाविद्यालय पतलोट मे अधिशासी अभियन्ता लोनिवि भवाली को पर्यवेक्षक मजिस्टेªट तैनात किया है। वहीं कुमाऊँ विवि के कुलपति प्रो. केएस राणा ने बताया कि इसी तरह की मजिस्ट्रेट व्यवस्था कुमाऊँ विवि परिक्षेत्र के सभी जनपदों के महाविद्यालयों के लिए की गई है। कुलपति ने प्रशासन के सहयोगात्मक रवैये के लिए आभार व्यक्त किया है, तथा छात्रों से अपने लोकतांत्रिक अधिकारों का प्रयोग करते हुए शांति एवं संयम बरतने की अपील की है।

यह भी पढ़ें : नंदाष्टमी, अनवष्टका व भैया दूज पर रहेगा नैनीताल जनपद में अवकाश, मदिरालय व बार भी रहेंगे बंद..

नवीन समाचार, नैनीताल, 5 सितंबर 2019। नैनीताल जनपद में शुक्रवार 6 सितंबर को नंदा अष्टमी के अवसर पर सार्वजनिक अवकाश रहेगा। इस बारे में जनपद के पूर्व/तत्कालीन जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन ने 20 अप्रैल 2019 को ही ‘मैनुअल्स ऑफ गवर्नमेंट ऑडर्स’ के तहत अवकाश की घोषणा कर दी थी। इसके अलावा इसी माह 23 सितंबर को श्राद्ध पक्ष की अष्टमी की अनवष्टका एवं 29 अक्तूबर को भैया दूज के अवकाश भी रहेंगे। वर्तमान डीएम सविन बंसल ने बताया कि अवकाश के लिए यही आदेश लागू रहेंगे। इधर नैनीताल डीएम ने नंदाष्टमी के अवसर पर मुख्यालय में सभी तरह के मदिरालय व बार बंद सुबह 10 से शाम सात बजे तक बंद रखने के आदेश भी दिये हैं।

<

p style=”text-align: justify;”>कुमाऊं विवि में भी नंदाष्टमी व अनवष्टका के अवकाश घोषित
वहीं कुमाऊं विवि के कुलपति प्रो. केएस राणा ने भी नंदाष्टमी के अवसर पर 6 सितंबर एवं अनवष्टका के अवसर पर 23 सितंबर को अवकाशों की घोषणा कर दी है।

यह भी पढ़ें : छठ पर उत्तराखंड में लगातार तीसरे वर्ष भी छुट्टी घोषित

<

p style=”text-align: justify;”>नैनीताल, 12 नवंबर 2018। छठ पर उत्तराखंड में लगातार तीसरे वर्ष भी छुट्टी घोषित हो सकती है। सोमवार को इस संबंध में मुख्यमंत्री सचिवालय से मुख्यमंत्री के निजी सचिव सुरेश चंद्र जोशी की ओर से प्रदेश के अपर मुख्य सचिव-सामान्य प्रशासन विभाग को पत्र लिखा गया है। पत्र में कहा गया है कि बुधवार 13 नवंबर को छठ पूजा के अवसर पर राज्य के शासकीय, अर्द्धशासकीय कार्यालयों, समस्त सरकारी, अर्द्ध सरकारी व गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों तथा विश्वविद्यालयों में सार्वजनिक अवकाश घोषित की किये जाने की अपेक्षा की गयी है।  उल्लेखनीय है कि पहले 13 नवंबर को अवकाश घोषित करने को कहा गया था, बाद में इसमें संशोधन किया गया। इसके बाद माना जा रहा है कि शासन की ओर से शीघ्र की अवकाश की घोषणा कर दी जाएगी।
गौरतलब है कि छठ मुख्यतया पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार व झारखंड में मनाया जाने वाला सूर्य की आराधना का पर्व है। लेकिन उत्तराखंड में यह त्योहार मनाने वाले लोगों की संख्या बेहद सीमित बतायी जाती है। बावजूद वर्ष 2016 में विधानसभा चुनाव में जा रहे तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सर्वप्रथम छठ पर्व पर छुट्टी की घोषणा की थी, और इसकी काफी आलोचना भी हुई थी। कहा गया था कि इसकी जगह उत्तराखंड में हरेला, फूलदेई व नंदाष्टमी जैसे लोकपर्वों पर राज्य सरकार की ओर से सार्वजनिक अवकाश घोषित किया जाना चाहिए, जोकि नहीं होते हैं, अथवा जिला प्रशासन की ओर से केवल जिले या नगर में घोषित किये जाते हैं।

यह भी पढ़ें : 14 अगस्त छुट्टी की झूठी वायरल खबर का जारी हुआ खंडन

नैनीताल 13 अगस्त (सू.वि.) – समाचार खण्डन : कुछ शरारती तत्वों एवं व्यक्तियों द्वारा मेंरे नाम व पदनाम का गलत उपयोग करते हुए सोशल मीडिया पर दिनांक 14 अगस्त को कक्षा एक से 12 तक के सभी सरकारी व गैर सरकारी विद्यालयों में अवकाश घोषित किये जाने की गलत जानकारी प्रसारित की जा रही है। आप सभी को अवगत कराना है कि जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन द्वारा 14 अगस्त को सरकारी, गैर सरकारी विद्यालयों व आंगनबाड़ी केन्द्रों के लिए किसी भी प्रकार का अवकाश घोषित नहीं किया गया है तथा जिला सूचना कार्यालय नैनीताल एवं मीडिया सेन्टर हल्द्वानी से अवकाश से सम्बन्धित कोई भी प्रेस विज्ञप्ति जारी नहीं की गयी है।

पूर्व समाचार : सोमवार 6 अगस्त को नैनीताल जिले के 12वीं तक के स्कूलों में छुट्टी घोषित

नैनीताल, 5 अगस्त 2018। जनपद में भारी बारिश को देखते हुए डीएम विनोद कुमार सुमन ने सोमवार को जनपद के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों सहित कक्षा एक से 12वीं तक के सभी सरकारी-गैरसरकारी स्कूल में बच्चों के लिए अवकाश घोषित कर दिया है। अलबत्ता स्कूलों के शिक्षक-शिक्षिकाओं एवं आंगनबाड़ी कर्मियों के लिए अवकाश घोषित नहीं किया है।

नवीन समाचार

मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है। ’ यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….। मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड

Leave a Reply

Next Post

नैनीताल: छात्र संघ चुनाव में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की पिछले 10 चुनाओं में छठी जीत..

Mon Sep 9 , 2019
यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये      Share on Facebook Tweet it Share on Google Email https://navinsamachar.com/chhutti/#YWpheC1sb2FkZXI -डीएसबी परिसर में अध्यक्ष पर परिषद के विशाल वर्मा व सचिव पद पर हिमांशु भट्ट जीते नवीन समाचार, नैनीताल, 9 सितंबर 2019। कुमाऊं विवि के सर्वप्रमुख डीएसबी परिसर के सोमवार को छात्र […]
Loading...

Breaking News