Crime

आज नैनीताल में डेढ़ व पांच वर्षीया बच्चियों समेत सात सहित राज्य के आठ जिलों में आये 31 मामले

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नैनीताल के लिए कोरोना के मोर्चे पर बड़ी राहत की खबर, फिलहाल खत्म हुआ सात नंबर का खतरा

नवीन समाचार, देहरादून, 5 जुलाई 2020। उत्तराखंड में रविवार को कोरोना के 31 नये मामले आये जबकि 22 को स्वस्थ होने पर अस्पतालों से छुट्टी मिली। वहीं आज 1606 लोगों की कोरोना की रिपोर्ट निगेटिव आई और संक्रमितों की संख्या दोगुनी होने की दर 50.28 दिन व स्वस्थ होने वालों की दर 80.79 फीसद रही। आज 838 नये मामले भी लिये गये, और इस प्रकार 6171 लोगों की रिपोर्ट आनी शेष है। गौरतलब है कि राज्य में अब तक 66,807 लोगों की अब तक रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है।
आज देहरादून जिले में सर्वाधिक 12, नैनीताल में सात, यूएस नगर व उत्तरकाशी में चार-चार तथा अल्मोड़ा, बागेश्वर, हरिद्वार व पौड़ी गढ़वाल जिलों में एक-एक यानी राज्य के 13 में से 8 जिलों में कम ही सही परंतु मामले आये। राज्य के शाम सात बजे जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार इनमें से 29 मामले बीती रात्रि ही आ गए थे। लेकिन अब दिन में एक बार ही रिपोर्ट जारी होने के कारण इन्हें आज की सूची में शामिल किया गया है।
वहीं नैनीताल जिले की एसीएमओ डा. रश्मि पंत ने बताया कि नैनीताल जिले में डेढ़ व 5 वर्षीया बच्ची एवं 17, 18, 32, 37 व 48 वर्षीय पुरुषों में कोरोना की पुष्टि हुई है।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में आज कोरोना के दो रोचक आंकड़े: कुल मामले पहली बार तीन हजार पार, पर प्रभावी संक्रमित 500 से नीचे पहुंचे

नवीन समाचार, नैनीताल, 3 जुलाई 2020। उत्तराखंड में आज कोरोना के मामले में दो रोचक आंकड़े सामने आये हैं। पहला, कुल मामले पहली बार 64 नये मामलों के साथ तीन हजार पार पहुंच गई है, वहीं 76 संक्रमितों के स्वस्थ हो जाने के साथ प्रभावी संक्रमितों की संख्या 500 से नीचे पहुंच गई है। ऐसा इसलिए कि 2481 लोग रिकॉर्ड 81 फीसद की दर से स्वस्थ हो चुके हैं। 42 की मौत हो चुकी है, और 27 संक्रमित राज्य से बाहर जा चुके हैं।
आज देहरादून जिले में सर्वाधिक 20, नैनीताल जिले में 13, ऊधमसिंह नगर में 12 एवं अल्मोड़ा जिले में आठ नये मामले सामने आये हैं। 

यह भी पढ़ें : रिलीफ केंद्र से दिल्ली रेड जोन से आये 2 युवक फरार.. हड़कंप

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 27 जून 2020। जनपद के राधा स्वामी सत्संग केंद्र स्थित रिलीफ सेंटर से दिल्ली रेड जोन से आए दो युवक फरार हो गए हैं। इससे वहां हड़कंप मच गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार करीब 25-30 वर्ष की उम्र के ‘बम’ जाति नाम वाले दो युवक सुबह करीब 5:30 बजे दिल्ली नंबर की टैक्सी से यहां पहुंचे थे। नाम पता लिखे जाने के बाद वह दोनों करीब 1 घंटे के भीतर ही वहां उपस्थित लोगों को चकमा देकर फरार हो गए। इसके बाद उनके अवैध टैक्सी चालक के फोन नंबरों पर फोन किया गया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। पुलिस एवं आरटीओ के द्वारा दोनों की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। लेकिन अभी तक उनके मिलने की जानकारी नहीं है। बताया जा रहा है कि उन्होंने खुद को नानकमत्ता का निवासी बताया था। उल्लेखनीय है की रिलीफ केंद्र में बाहर से प्रदेश में आने वाले लोगों का पंजीकरण किया जाता है, तथा उनके आने के स्थान के जोन आदि के आधार पर उन्हें होम क्वारंटाइन, संस्थागत क्वारंटाइन या आइसोलेशन में भेजने का निर्णय लिया जाता है। दिल्ली रेड जोन से आने के कारण दोनों युवकों को संस्थागत क्वॉरेंटाइन में पंतनगर भेजने की तैयारी चल रही थी, तभी वे फरार हो गए।

यह भी पढ़ें : राहत के साथ आज पांच जिलों में आये नये संक्रमित, 2642 पहुंची कुल संख्या

नवीन समाचार, देहरादून, 25 जून 2020। उत्तराखंड में कोरोना को लेकर आज कुछ राहत की खबर है। मंगलवार रात्रि नौ बजे से आज ढाई बजे तक यानी साढ़े 17 घंटों में 20 नये मामले आये हैं और 24 संक्रमितों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। इसके साथ राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 2642, स्वस्थ हुए संक्रमितों की संख्या 1745 और सक्रिय संक्रमितों की संख्या 845 हो गई है, जबकि मृतकों की संख्या 35 पर स्थिर बनी हुई है।
वहीं 1339 संभावितों की रिपोर्ट आज निगेटिव आई है। अच्छी बात यह भी है कि आज पांच जिलों में ही कोरोना के नये रोगी आये हैं। यूएस नगर में सर्वाधिक 11, देहरादून में चार तथा हरिद्वार व पौड़ी गढ़वाल में दो-दो एवं टिहरी गढ़वाल में एक नया मामला आया है। वहीं कोरोना संक्रमितों के स्वस्थ होने की दर 66 फीसद एवं दोगुनी होने की दर 28.33 दिन पर आ गई है, जबकि पिछले दिनों यह दर 4 दिन से भी नीचे आ गई थी।

यह भी पढ़ें : आज कुछ सुधरे हालात, 25 नये मरीज, 37 स्वस्थ, 66 फीसद से ऊपर पहुंची स्वस्थ होने वालों की संख्या

नवीन समाचार, देहरादून, 19 जून 2020। शुक्रवार को उत्तराखंड में नये कोरोना मरीजों के आने की गति कुछ धीमी हुई है। आज 25 नये मामले आये हैं, जबकि 37 स्वस्थ हुए हैं। इसके साथ राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 2127, स्वस्थ हुए संक्रमितों की संख्या 1423, प्रभावी संक्रमितों की संख्या 663, मामले दोगुने होने के दिनों की संख्या 22.02 दिन और स्वस्थ होने का प्रतिशत 66.9 फीसद हो गया है। आज सर्वाधिक 11 नये मामले अल्मोड़ा जिले के, सात हरिद्वार, चार देहरादून और तीन यूएस नगर जिलों के हैं।
इसके साथ देहरादून जिले में कुल संक्रमितों की संख्या सर्वाधिक 566, नेनीताल में 353, हरिद्वार में 253, पौड़ी में 91, पिथौरागढ़ में 60, टिहरी गढ़वाल में 52 हो गई है।

यह भी पढ़ें : आज देहरादून ने बिगाड़ दिये आंकड़े, राज्य में 57 नये संक्रमितों के साथ 2079 पहुंचा कोरोना मीटर, 57 में से 40 का कोई यात्रा इतिहास भी नहीं

नवीन समाचार, देहरादून, 18 जून 2020। राजधानी देहरादून में कोरोना के प्रति बरती जा रही अपेक्षाकृत कम सख्ती भारी पड़ती नजर आ रही है। बृहस्पतिवाार को देहरादून में 28 नये संक्रमित सामने आये हैं। खास बात यह है कि इनके साथ आज प्रकाश में आये 57 मामलों में से 40 का कोई यात्रा इतिहास भी नहीं है। यानी ये कहीं बाहर से नहीं आये हैं। बल्कि उन्हें राज्य में रहते हुए ही कोरोना हो गया है। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या राजधानी में कोरोना जन सामान्य में फैलने लगा है। निरंजरपुर मंडी में तो पहले ही ऐसे हालात बन चुके हैं। इन नये मामलों के साथ राज्य में आज 57 नये मामले आये हैं। और राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2079 पहुंच गयी है। आज केवल आठ लोग स्वस्थ हुए हैं। इसके साथ स्वस्थ हुए संक्रमितों की संख्या 1262 और प्रभावी संक्रमितों की संख्या 777 हो गई है।
स्वास्थ्य विभाग के अपराह्न तीन बजे जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार आज अल्मोड़ा जिले में दिल्ली-एनसीआर से आये एक व्यक्ति, चमोली में दिल्ली से आये तीन, हरिद्वार में दिल्ली से आये तीन, पौड़ी जिले में बिना किसी यात्रा इतिहास वाले 6, पुराने संक्रमितों के संपर्क में आये 5, दिल्ली से आये तीन और हरियाणा से आये एक सहित कुल 14, रुद्रप्रयाग में दिल्ली से आये दो और पुराने संक्रमितों के संपर्क में आये दो तथा उत्तरकाशी के महाराष्ट्र से आये एक व्यक्ति में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं देहरादून जिले 6 तथा नैनीताल व हरिद्वार के एक-एक सहित कुल 8 लोगों को आज स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी भीदे दी गयी।

यह भी पढ़ें : कोरोना पर फिर राहत : पिछले 6 घंटों में नए मरीजों के 6 गुने हुए स्वस्थ

नवीन समाचार, देहरादून, 15 जून 2020। उत्तराखंड मेंआज देर शाम 9 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 1845 पहुंच गया है। वहीं दूसरी ओर राहत की खबर है कि देर शाम 54 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए इस तरह स्वस्थ होने वालों की संख्या 1189 हो गई है।
स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोमवार की रात 9 बजे जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राज्य के देहरादून जिले से 6 , उत्तरकाशी में 1 और हरिद्वार से 2 मरीज मिले हैं। इनमें अधिकांश बाहर से आए हुए प्रवासी हैं। वहीं टिहरी जिले से 54 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। उल्लेखनीय है ल कि आज रविवार रविवार को अपराहन 3 बजे जारी हेल्थ बुलेटिन में 17 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी जबकि 24 स्वस्थ हो गए थे। इस प्रकार आज बीते 24 घंटों में 26 नए मरीज आये हैं, जबकि 78 यानी 3 गुने संक्रमित स्वस्थ हो गये हैं, जबकि बीते 6 घंटों में 6 गुने लोग स्वस्थ हुए हैं।
इस तरह आज सोमवार को राज्य में अभी तक कुल 26 नए संक्रमित मिले जबकि 78 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए।

यह भी पढ़ें : 35 नये मामले-76 ठीक, 707 कुल प्रभावी-1023 स्वस्थ

नवीन समाचार, देहरादून, 13 जून 2020। कुछ भी कहें, भले बीच में एकाध दिन कोरोना बड़े आंकड़ों के साथ डरा दे रहा हो, फिर भी उत्तराखंड में कोरोना काबू में आता नजर आ रहा है। आज के आंकड़े ही देख लें। आज शनिवार को 35 नये मामले आये जबकि इसके दोगुने से अधिक 76 स्वस्थ हो गये। यानी प्रभावी संक्रमितों की संख्या कल के मुकाबले 41 घट गई। राज्य में अब तक भले कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1759 हो गई हो, लेकिन 1023 लोगों के स्वस्थ हो जाने के साथ प्रभावी संक्रमितों की संख्या इससे कहीं कम 707 ही है। वहीं राज्य में संक्रमितों की संख्या 16.89 दिन में दोगुनी हो रही है, जबकि एक समय यह संख्या 3.99 दिन तक गिर गयी थी। आज 1074 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव भी आई है जबकि 1054 लोगों के नये नमूने भी लिये गये हैं। राज्य में स्वस्थ होने वालों का प्रतिशत भी 58.16 फीसद हो गया है, जो काफी अच्छा है। अब तक राज्य में केवल 21 लोगों की मौत हुई है, और इनमें से अधिकांश लोग दूसरी बीमारियों से पहले से ही ग्रस्त थे। यह बताने का हमारा मकसद कोरोना के प्रति भय कम करना तो है ही, लेकिन इसके बावजूद हमारा कहना है कि कोरोना के प्रति सावधानी लगातार जरूरी है। वरना कभी भी यह भयावह भी हो सकता है।
आज जो 35 नये मामले आये हैं, इनमें सर्वाधिक 22 टिहरी गढ़वाल के, 7 देहरादून के, तीन चमोली, दो उत्तरकाशी एवं एक रुद्रप्रयाग के हैं।

यह भी पढ़ें : बड़ी बात: देश-प्रदेश के एकमात्र जिले नैनीताल में कुल और प्रभावी कोरोना संक्रमितों की संख्या ऑरेंज जोन जिले देहरादून से हुई कम

-6 घंटे में 16 बढ़े लेकिन 35 घट गये कोरोना संक्रमित, 1215 पहुंचा कोरोना मीटर
नवीन समाचार, देहरादून, 5 जून 2020। प्रदेश में शुक्रवार का दिन कोरोना के लिहाज से राहत भरा रहा। आज दोपहर दो बजे से शाम आठ बजे तक 16 नये संक्रमित बढ़े, वहीं 35 को स्वस्थ होने पर छुट्टी दे दी गयी। वहीं पूरे दिन की बात करें तो आज कुल मिलाकर 62 नये संक्रमित आये और 47 स्वस्थ हुए। इस प्रकार पूरे दिन में भी नेट संख्या 14 ही बढ़ी। अलबत्ता राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 1215, स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 344 और प्रभावी संक्रमितों की संख्या 856 हो गई हैं। एक और बड़ी बात देहरादून में आज 23 रोगी आये। इसके साथ यहां कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 347 और 62 के स्वस्थ होने के साथ प्रभावी संक्रमितों की संख्या 275 हो गई है, जबकि आज केवल चार ही रोगी आने के साथ देश-प्रदेश के एकमात्र रेड जोन नैनीताल जिले में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 314 एवं 130 रोगियों के स्वस्थ होने के साथ प्रभावी संक्रमितों की संख्या 183 रह गयी है। गौरतलब है कि यह दोनों संख्याएं देहरादून जिले से काफी कम हैं।
आज अपराह्न में हरिद्वार के 12, चमोली के 11, नैनीताल के दो तथा बागेश्वर, पौड़ी व रुद्रप्रयाग के एक-एक रोगी को अस्पताल से छुट्टी मिली, जबकि देहरादून जिले एक स्थानीय निजी लैब से जांच कराने वाले के साथ ही गुरुग्राम, मुंबई, बिजनौर, दिल्ली व गाजियाबाद से आये 1-1 तथा एक अन्य स्थानीय व्यक्ति सहित सर्वाधिक 8, नैनीताल के दिल्ली से आये चार प्रवासी, टिहरी के महाराष्ट्र से आये दो एवं चंपावत के दिल्ली व यूएस नगर के ठाणे महाराष्ट्र से आये एक व्यक्ति में कोरोना की पुष्टि हुई हैं।

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जिलों को कोरोना की सक्रियता के लिहाज से रेड, ऑरेंज व ऑरेंज जोन जिलों की व्यवस्था समाप्त कर कंटेनमेंट, नॉन कंटेनमेंट व बफर जोन की व्यवस्था लागू करने के बाद भी उत्तराखंड में पुरानी व्यवस्था लागू है। इस व्यवस्था के तहत देश-प्रदेश में केवल नैनीताल जिले को रेड जोन में रखा गया है। अब तक यहां राज्य में सर्वाधिक कोरोना रोगी भी थे, परंतु शुक्रवार को यह स्थिति बदल गयी है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल के लिए एक और राहत की खबर, दो कोरोना योद्धाओं-चिकित्सक व चिकित्सा कर्मी की रिपोर्ट भी नकारात्मक

नवीन समाचार, नैनीताल, 5 जून 2020। गत दो जून को दो कोरोना योद्धाओं-नगर के एक स्वास्थ्य कर्मी दीवान सिंह बिष्ट एवं जनपद के एक चिकित्सक डा. सीएस पाठक का कोरोना जांच हेतु नमूना लिया गया था। तीन दिन बाद इन दोनों की जांच रिपोर्ट नकारात्मक आ गई है। इसके साथ ही नगर में अब कोई भी कोरोना से संभावित मामला नहीं रह गया है। उल्लेखनीय है कि नगर का पहला मामला होने के कारण सीएमओ कार्यालय में बीसीसी फैसिलिटेटर के रूप में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठकों में रहने वाले बिष्ट का दो जून की शाम पांच बजे कोरोना जांच के लिए सैंपल लिये जाने से पहले ही सुबह से ही नगर में अफवाहों का बाजार गर्म था, और लोग तरह ही चर्चाएं कर रहे थे। अब उनकी जांच रिपोर्ट नकारात्मक आने के बाद सारी आशंकाएं समाप्त हो गयी हैं।

यह भी पढ़ें : नैनीताल के चिकित्सकों को कोरोना संक्रमण पर बड़ी राहत की खबर, पहली बार राज्य में भी घट गये चार संक्रमित

नवीन समाचार, नैनीताल, 04 जून 2020। नैनीताल मुख्यालय स्थित बीडी पांडे जिला चिकित्सालय के चार चिकित्सकों एवं चिकित्सा कर्मियों सहित 11 लोगों की बुधवार को लिये गये नमूनों की रिपोर्ट नकारात्मक आई है। इससे इन चिकित्सकों एवं चिकित्सा कर्मियों के साथ ही नगर वासियों, कई उच्चाधिकारियों को भी राहत की सांस लेने का मौका मिला है, जो कि चिकित्सकों को कोरोना होने की संभावना से काफी तनाव में आ गये थे। बृहस्पतिवार शाम आये राज्य के मेडिकल बुलेटिन में नैनीताल जनपद के एक भी व्यक्ति में कोरोना की पुष्टि न होने के साथ सभी 11 लोगों की रिपोर्ट नकारात्मक आने की पुष्टि हो गई। जिला चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा. केएस धामी ने भी इस समाचार की पुष्टि की है।
इधर ताजा मेडिकल बुलेटिन में पूरे राज्य में केवल आठ लोगों को कोरोना होने की पुष्टि हुई हैं इनमें चंपावत जिले के महाराष्ट्र से आये दो लोगों सहित कुल तीन लोग, बागेश्वर जिले में मुंबई व गुजरात से आये दो प्रवासी, यूएस नगर में महाराष्ट्र एवं अल्मोड़ा में दिल्ली-एनसीआर से आये एक व्यक्ति में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनके अलावा देहरादून में एक सब्जी विक्रेता में भी निरंजनपुर सब्जी मंडी के पहले से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से कोरोना की पुष्टि हुई है। इस प्रकार जहां राज्य में बीते 6 घंटों में आठ नये रोगी आये हैं, वहीं 11 लोगों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दे गयी है। साथ ही एक रोगी देहरादून से दिल्ली चला गया है। इस प्रकार इस दौरान रोगी बढ़ने की जगह चार घट गये हैं। स्वस्थ होने वालों में देहरादून के 6, अल्मोड़ा के तीन और पौड़ी के दो रोगी शामिल हैं। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 1153, स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 297 एवं पांच बाहर गये रोगियों को भी घटाते हुए प्रभावी संक्रमितों की संख्या 851 हो गई है, जो दो बजे के मुकाबले चार कम है।
दिन में नैनीताल जिले में आये सभी 10 लोग बागेश्वर निवासी मुंबई से आये प्रवासी
उल्लेखनीय है बृहस्पतिवार को नैनीताल जनपद में 10 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं। जनपद की अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. रश्मि पंत ने बताया कि ये सभी लोग बागेश्वर जनपद के मूल निवासी एवं गत 27 मई को मुंबई से ट्रेन से हल्द्वानी आये प्रवासी हैं। उन्होंने बताया कि इनमें से आज 14 लोगों की रिपोर्ट आई, इनमें से 4 लोगों की रिपोर्ट नकारात्मक और 10 की सकारात्मक आई है।
इधर, मुख्यालय स्थित बीडी पांडे जिला चिकत्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा. केएस धामी ने बताया कि आज पहले से आइसोलेशन में रखे गये चार लोगों को निर्धारित अवधि पूरी होने पर छुट्टी दे दी गयी है, जबकि तीन नये लोग आइसोलेशन में भर्ती किये गये।

यह भी पढ़ें : दून में 34 तथा नैनीताल-टिहरी में 10-10 सहित उत्तराखंड में फिर 60 नये मामले, कुल 1145, मृतक संख्या भी दहाई में

-दून की निरंजनपुर मंडी में कोरोना समाज में फैला, नैनीताल में सभी 10 संक्र्रमित मुंबई से आये प्रवासी
नवीन समाचार, देहरादून, नैनीताल, 4 जून 2020। उत्तराखंड में बृहस्पतिवार का दिन भी कोरोना के लिहाज से भयावह होता नजर आ रहा है। आज देहरादून में 34 तथा नैनीताल व टिहरी में 10-10, पौड़ी गढ़वाल में चार तथा उत्तरकाशी में एक मामले सहित राज्य में फिर 60 नये मामले आ गये हैं। प्राइवेट लैब के एक मामले में भी कोरोना की पुष्टि हुई है। इसके साथ राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 1145 तथा मृतकों की संख्या भी दो बढ़ने के साथ दहाई में 10 पहुंच गयी है। हालांकि दोनों मृतक यूपी के हैं।
देहरादून में पॉजिटिव पाये गये 35 लोगों में से 21 निरंजनपुर मंडी में संक्रमित हुए कोरोना संक्रमितों से संपर्क में आये लोग हैं। इससे साफ हो गया है राजधानी की निरंजन पुर मंडी में कोरोना समाज में आ गया है। इनमें अलावा आज मुजफ्फर नगर यूपी के दो लोगों की मृत्यु हुई है। दो लोग दून मेडिकल कॉलेज के कर्मी हैं एवं एक-एक व्यक्ति मुंबई व महाराष्ट्र से आये हैं। महाराष्ट्र से आये व्यक्ति ने निजी लैब में जांच कराई है। वहीं नैनीताल जनपद में जिन 10 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है, वे सभी मुंबई से आये प्रवासी हैं, यानी राज्य में रहने वाले अथवा जैसा कि नैनीताल मुख्यालय में चिकित्सकों व चिकित्सा कर्मियों के प्रति आशंका व्यक्त की जा रही थी, वे नहीं हैं। इसी तहर टिहरी के सभी 10 और उत्तरकाशी का एक कोरोना संक्रमित भी मुंबई से आये प्रवासी हैं, जबकि पौड़ी में संक्रमित पाये गये चार में से दो लोग नोएडा एवं दो महाराष्ट्र से आये प्रवासी हैं।

यह भी पढ़ें : दून में 34 नये मामले, नैनीताल में किसी मामले में पुष्टि न होने के बावजूद अफवाहों-खबरों से आम जन के साथ चिकित्सकों में भी हड़कंप

नवीन समाचार, देहरादून/नैनीताल, 4 जून 2020। राज्य में बृहस्पतिवार सुबह 34 नये लोगों में कोरोना की पुष्टि के साथ कोरोना संक्रमितो की संख्या 1116 होने की सूचना है। इनमें से आठ लोग पहले से कोरोना का केंद्र बनी निरंजनपुर सब्जी मंडी से बताये जा रहे हैं। हालांकि इस बारे में स्थिति दो बजे आने वाले मेडिकल बुलेटिन से ही साफ होगी।
वहीं नैनीताल मुख्यालय में उच्च न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों से लेकर आम जन में मुख्यालय स्थित बीडी पांडे जिला चिकित्सालय के चिकित्सकों को कोरोना पॉजिटिव पाये जाने की अफवाहों से हड़कंप बताया जा रहा है। स्वयं जिला चिकित्सालय के चिकित्सक इन अफवाहों से खासे परेशान हैं। मिनट-मिनट में लोग सत्यता की जानकारी लेने के उन्हें फोन कर रहे हैं। इस पर जिला चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा. केएस धामी ने बताया कि कुछ समाचार पत्रों ने भी जिला चिकित्सालय में चिकित्सकों सहित 11 लोगों को कोरोना पॉजिटिव आने का समाचार प्रकाशित कर दिया है। इससे वे खासे नाराज और परेशान हैं। उन्होंने कहा कि इसकी शिकायत वे उचित फोरम में करेंगे। उन्होने कहा कि कल भेजे गये 11 और उससे पहले भी भेजे गए एक चिकित्सा कर्मी सहित अन्य नमूनों में से अभी किसी की भी रिपोर्ट नहीं आई है, और बताया गया है कि रिपोर्ट आने में अभी आज शाम अथवा कल सुबह तक का समय लग सकता है। उन्होंने साफ किया कि रैपिड टेस्ट में 11 में से चार लोगों मंे कुछ लक्षण दिखे, लेकिन इससे इन लोगों में कोरोना का संक्रमण होने की कोई पुष्टि नहीं हुई है।

Leave a Reply

loading...