विज्ञापन सड़क किनारे होर्डिंग पर लगाते हैं, और समाचार समाचार माध्यमों में निःशुल्क छपवाते हैं। समाचार माध्यम कैसे चलेंगे....? कभी सोचा है ? उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 30 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 13.7 मिलियन यानी 1.37 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

July 25, 2024

छात्र संघ चुनाव लड़ने के लिये मांगे रुपये न देने पर चिकित्सक को सड़क पर लाकर बेतहाशा पीटा, छात्र संघ अध्यक्ष सहित कई के विरुद्ध अभियोग दर्ज

0

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 9 जुलाई 2024 (Doctor beaten by Student Leaders in Haldwani)। शहर के एक चिकित्सक ने एक छात्र नेता व उसके साथ आये छात्र संघ अध्यक्ष सहित अन्य साथियों पर रंगदारी देने से इंकार करने पर हमला करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने आरोपितों के विरुद्ध भारतीय न्याय संहिता के तहत अभियोग दर्ज कर लिया है। साथ ही आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास भी शुरू कर दिये हैं। आरोप है कि एक छात्र नेता ने छात्र संघ चुनाव के दौरान रुपये न देने से चिकित्सक के विरुद्ध था।

Doctor beaten by Student Leaders in Haldwani हल्द्वानी: छात्रसंघ अध्यक्ष पर डकैती का मुकदमा...चिकित्सक ने सौंपी पुलिस को तहरीरपुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुखानी पुलिस को दी गयी लिखित शिकायत में हिल्स व्यू इन्क्लेव लोहरियासाल मल्ला निवासी डॉ. पुनीत कुमार गोयल पुत्र हरि प्रकाश गोयल ने कहा है कि बीती 5 जुलाई की दोपहर करीब साढ़े 12 बजे वह मुखानी रोड केवीएम स्कूल के पास स्थित रेडिएंट हस्पिटल में अपने केबिन में मरीजों को देख रहे थे।

तभी छात्र नेता विशाल सैनी एमबी राजकीय महाविद्यालय के छात्र संघ अध्यक्ष सूरज रमोला, हितेश जोशी, राहुल मठपाल, मनीकेत तोमर, मोहित खोलिया व अपने अन्य साथियों के साथ केबिन में घुसा और गालियां देने लगा। वह कुछ समझ पाते इससे पहले ही विशाल सैनी व साथियों ने उनका गिरेबान पकड़ कर उन्हें पीटना शुरू कर दिया। इस बीच इन लोगों ने विपुल की टेबल की दराज में रखे 40 हजार रुपये निकाल लिए। चिकित्सालय में पीटते-घसीटते वह पुनीत को केबिन से बाहर और चिकित्सालय से भी बाहर खींच कर सड़क तक ले आये और उन्हें जान से मारने और अपहरण करने की कोशिश भी की।

कुमाऊं के सबसे बड़े College का छात्रसंघ अध्यक्ष निकला लुटेरा! डॉक्‍टर के केबिन में घुसकर की लूट; मरीजों के सामने पीटाइस दौरान विशाल ने केबिन में टेबल की दराज में रखे 40 हजार रुपये जबरन निकाल लिए। विरोध करने पर कहा, ‘पहचाना मुझे, मैं वही विशाल सैनी हूं, जिसने छात्रसंघ चुनाव के दौरान चुनाव लड़ने के लिए तुझसे रुपये मांगे थे और तूने मना कर दिया था।’ इसके बाद धमकाया, ‘मैंने उसी दिन तुझसे कहा था कि तुझे छोडूंगा नहीं और आज वही दिन है… हम तुझे बताएंगे कि डॉक्‍टरी कैसे होती है।’

उन्होंने बगल के विवेकानंद हस्पिटल में शरण लेनी चाही, लेकिन पीछा कर आरोपितों ने उन्हें सड़क पर पकड़ कर लोगों से भरी सड़क पर भी बेतहाशा पीटना शुरू कर दिया। आरोपों के अनुसार उन्हें गाड़ी में डालकर अपहरण की कोशिश भी की। सड़क पर भारी भीड़ जुटने से आरोपित अपनी कोशिश में कामयाब नहीं हुए और चिकित्सक को जान से मारने की धमकी दे कर, छोड़कर फरार हो गए। इसके बाद चिकित्सक ने मुखानी पुलिस को तहरीर सौंपी।

मुखानी थानाध्यक्ष पंकज जोशी ने बताया कि डॉ.पुनीत की लिखित शिकायत पर मुखानी पुलिस ने विशाल सैनी, सूरज रमोला, हितेश जोशी, राहुल मठपाल, मनीकेत तोमर, मोहित खोलिया के विरुद्ध नये भारतीय न्याय संहिता कानून की 333, 309(4), 115(2), 352, 351(2), 351(3) व 191(2) के तहत डकैती सहित अन्य गंभीर आरोपों में अभियोग दर्ज कर लिया है। आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

कोई मदद को नहीं आया

डॉ.पुनीत गोयल के साथ मारपीट की इस घटना के दौरान रेडिएंट हॉस्पिटल से लेकर सड़क तक तमाशबीनों की भारी भीड़ थी। गिने-चुने लोग डॉ. पुनीत को पीटते रहे, लेकिन कोई उनकी मदद को आगे नहीं आया। उल्टे लोग फोटो-वीडियो बनाते रहे और पुनीत हाथ जोड़कर छात्र नेताओं के सामने गिड़गिड़ाते रहे। पुनीत की जान सिर्फ इसलिए बच सकी, क्योंकि वहां लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई थी।

चुनाव लड़ने के पैसे नहीं देने के कारण की मारपीट

डॉ.पुनीत कुमार अग्रवाल का कहना है कि विशाल सैनी ने छात्र संघ चुनाव के दौरान उनसे चुनाव लड़ने के लिए रुपये मांगे थे, लेकिन पुनीत ने रुपये देने से इंकार कर दिया था। उसी दिन विशाल ने धमकी दी कि थी कि वह उन्हें छोड़ेगा नहीं। घटना के दिन जब विशाल अस्पताल पहुंचा उसने कहा कि तू चंगुल में फंस गया है।

यह भी कहा कि सुंदर नाम का मरीज उसके कहने पर ही चिकित्सालय में भर्ती हुआ है। उसके उपचार के लिये जो रुपये अब तक दिये हैं, उसे ही पूरा मान ले। या बचे हुए रुपये छात्र संघ चुनाव के दौरान मांगे गये रुपयों को मान ले। अब कोई रुपये नहीं मिलेंगे। वह मरीज को बिना शेष रुपये दिये डिस्चार्ज कराकर ले जा रहा है।

पुलिस से लगाई परिवार की सुरक्षा की गुहार (Doctor beaten by Student Leaders in Haldwani)

डॉ.पुनीत ने पुलिस को दी शिकायत में लिखा है कि आरोपित ऊंचे रसूख और राजनीतिक पहुंच वाले लोग है। ऐसे में उन्हें और उनके परिवार को जान का खतरा है। पुनीत ने पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है। पुनीत ने पुलिस को बताया कि इस घटना के बाद से वह गहरे सदमे में है और इसी कारण मुकदमा दर्ज कराने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे।

घटना के बाद कुछ शुभचिंतकों ने उनकी हिम्मत बढ़ाई और अन्याय के खिलाफ लड़ाई लड़ने को प्रोत्साहित किया। जिसके बाद वह मुखानी पुलिस के पास तहरीर लेकर पहुंचे। उन्होंने पुलिस को बताया कि घटना का वीडियो वायरल होने से वह मानसिक तौर पर प्रताणित हुए और उनकी समाजिक प्रतिष्ठा खराब हुई है। (Doctor beaten by Student Leaders in Haldwani)

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप चैनल से, फेसबुक ग्रुप से, गूगल न्यूज से, टेलीग्राम से, कू से, एक्स से, कुटुंब एप से और डेलीहंट से जुड़ें। अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..। (Doctor beaten by Student Leaders in Haldwani, Haldwani, Doctor beaten, Student, Leader, Student Leaders, Doctor dragged, Beaten up mercilessly on Road, for not paying the money demanded, Student Union, Student Union Elections, Student Union President, MB PG College Haldwani President, Case Filled against Student Lesader)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :