विज्ञापन सड़क किनारे होर्डिंग पर लगाते हैं, और समाचार समाचार माध्यमों में निःशुल्क छपवाते हैं। समाचार माध्यम कैसे चलेंगे....? कभी सोचा है ? उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 30 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 13.7 मिलियन यानी 1.37 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

July 24, 2024

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत हिरासत में, कांग्रेस नेता दे रहे धरना…

0

नवीन समाचार, हरिद्वार, 10 जुलाई 2024 (Former Chief Minister Harish Rawat in Custody)। हरिद्वार की मंगलौर विधानसभा में बुधवार को हुए उपचुनाव के दौरान एक बूथ पर बसपा व भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुई मारपीट व कांग्रेस के आरोपों के अनुसार कथित तौर पर हुई हवाई गोलीबारी की घटना को कांग्रेस बड़ा राजनीतिक हथियार बनाती नजर आ रही है।

Former Chief Minister Harish Rawat in Custodyआज इस मुद्दे पर लंबे समय के बाद कांग्रेस के नेता एक मंच पर एक साथ नजर आये। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सहित कांग्रेसी नेताओं को मंगलौर पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इस दौरान हरीश रावत सहित प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा, नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, पूर्व नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह व यूपी के इमरान मसूद सहित कई कांग्रेस नेता पुलिस अधीक्षक-हरिद्वार ग्रामीण के कार्यालय में सरकार विरोधी नारे लगाते देखे गये। देखें वीडिओ :

प्राप्त जानकारी के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को मंगलौर पुलिस ने तब हिरासत में ले लिया जब वह लिब्बेरहेड़ी गांव जाने का प्रयास कर रहे थे। इस पर कांग्रेस नेता प्रीतम सिंह, यशपाल आर्य, करण माहरा सहित कई कांग्रेस नेताओं ने लिब्बरहेड़ी कोतवाली में धरने पर बैठ गये। इस दौरान हरीश रावत ने उत्तराखंड की धामी सरकार पर खुलेआम लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा मंगलौर उपचुनाव में भाजपा कार्यकर्ता गुड़ागर्डी पर उतारू है। इसके बाद भी पुलिस मूकदर्शक बनी है। उन्होंने कहा मंगलौर उपचुनाव में पुलिस प्रशासन मतदाताओं को डराने में लगा है।

यह हुई थी घटना (Former Chief Minister Harish Rawat in Custody)

बता दें हरिद्वार जिले की मंगलौर विधानसभा सीट के लिब्बरहेड़ी गांव के बूथ नंबर 53-54 पर बसपा और भाजपा के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई थी। दोनों ओर से जमकर लाठी डंडे चले। इस मारपीट में कई लोग घायल हुए हैं। घटना की जानकारी मिलते ही कांग्रेस प्रत्याशी व पूर्व विधायक काजी निजामुद्दीन भी मौके पर पहुंचे।

कांग्रेसियों का आरोप है कि लिब्बरहेड़ी गांव में कई राउंड फायरिंग की गई। इस मामले में कांग्रेस भाजपा को घेरा। कांग्रेस ने कहा मंगलौर विधानसभा में शासन-प्रशासन सरकार के दबाव में कार्य कर रहा है। सवाल यह भी उठ रहा है कि जब विवाद भाजपा व बसपा कार्यकर्ताओं के बीच एक बूथ पर हुआ तो इस मामले में कांग्रेस नेता कैसे बीच में आ गये। (Former Chief Minister Harish Rawat in Custody)

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप चैनल से, फेसबुक ग्रुप से, गूगल न्यूज से, टेलीग्राम से, कू से, एक्स से, कुटुंब एप से और डेलीहंट से जुड़ें। अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..। (Former Chief Minister Harish Rawat in Custody, Former Chief Minister Harish Rawat, Former Chief Minister, Harish Rawat, Police custody, Congress leaders staging dharna, Manglaur By Election, Manglaur, Karan Mahra, Yashpal Arya, Pritam Singh, Imran Masood)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :