News

सरकार को हाईकोर्ट का झटका, 110 करोड़ रुपए खर्चने पर लगाई रोक

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जून 2020। उत्तराखंड उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाधीश रमेश रंगनाथन व न्यायमूर्ति आरसी खुल्बे की खंडपीठ ने जिला योजना मद में सरकार की ओर से जारी 110 करोड़ रुपये की धनराशि को खर्च करने पर रोक लगा दी है, और राज्य सरकार को इस बारे में चुनाव आयोग से राय मशविरा करने के निर्देश दिए हैं।
उल्लेखनीय है कि उत्तरकाशी के जिला पंचायत सदस्य प्रदीप भट्ट ने उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर कर कहा है कि प्रदेश में जिलों में विकास योजनाओं के संचालन के लिए संविधान की धारा 243 जेड के तहत डीपीसी यानी जिला योजना समिति का गठन जरूरी होता है। अभी तक प्रदेश में डीपीसी का गठन नहीं हो पाया है। डीपीसी में तीन चौथाई सदस्य नगर निगम, नगर पालिका व जिला पंचायतों से चुनाव के जरिये चुने जाते हैं जबकि एक चौथाई सदस्य सरकार की ओर से नामित किये जाते हैं। इन चुनावों के लिए चुनाव आयोग की ओर से चुनावों की तिथि घोषित की गयी थी लेकिन बाद में चुनाव स्थगित कर दिये गये। इधर सरकार की ओर से चुनाव आयोग की राय लिये बिना बीती 12 जून को एक अध्यादेश जारी कर जिला योजना मद में स्वीकृत धनराशि को जिलाधिकारियों को खर्च करने के अधिकार दे दिये और 16 जून को जिला योजना मद में 110 करोड़ रूपये की धनराशि मंजूर की गई। याचिकाकर्ता ने सरकार के इस कदम को असंवैधानिक भी बताया है।

यह भी पढ़ें : जिला पंचायत बोर्ड की पहली बैठक में ही नहीं पहुंचे कुछ सदस्य, जो पहुंचे वे भी भरपूर स्वागत के बावजूद हुए मायूस, जानें क्यों…

-जिला पंचायत की आर्थिक स्थिति जान मायूस नजर आये सदस्य

जिला पंचायत बोर्ड की पहली बैठक में पहुंचने पर सदस्यों का इस तरह फूल माला पहनाकर स्वागत।

नवीन समाचार, नैनीताल, 2 दिसंबर 2019। जिला पंचायत नैनीताल की एक दिन पूर्व शपथ लेने वाली नवनिर्वाचित बोर्ड की सोमवार को शासन के निर्देशों पर पहली औपचारिक बैठक आयोजित हुई। जनपद की पहली निर्विरोध निर्वाचित अध्यक्ष बेला तोलिया की अध्यक्षता एवं अपर मुख्य अधिकारी साधू राम सैनी के संचालन में आयोजित हुई बैठक में न जिला पंचायत के अधिकारियों के द्वारा नव निर्वाचित अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं बोर्ड के सदस्यों का फूल माला पहनाकर एवं पुष्पगुच्छ भेंटकर स्वागत किया गया, तथा आगे बैठक में सदस्यों एवं अधिकारियों व कर्मचारियों का आपसी परिचय हुआ।

राज्य के सभी प्रमुख समाचार पोर्टलों में प्रकाशित आज-अभी तक के समाचार पढ़ने के लिए क्लिक करें इस लाइन को…

बैठक में सदस्यों ने जिला पंचायत में उनके कर्तव्यों, दायित्वों व शक्तियों के बारे में जानना चाहा। अपर मुख्य अधिकारी साधू राम सैनी ने उन्हें बताया कि वर्ष में चार बार राज्य वित्त आयोग से करीब 2.53 करोड़ की राशि प्राप्त होती है। इस धनराशि की 50 फीसद धनराशि जलापूर्ति संबंधी योजनाओं के लिए होती है, जबकि शेष 50 फीसद में जिला पंचायत के अधिकारियों व कर्मचारियों के वेतन तथा अन्य तरह की योजनाओं के कार्य होते हैं। कुल मिलाकर सदस्यों को हर तिमाही 4-4 लाख यानी कुल मिलाकर वर्ष में 16 लाख के कार्य मिल सकते हैं। इस जानकारी के बाद कई सदस्य मायूस नजर आए। उन्होंने सदस्यों को उनके अधिकारों-दायित्वों से संबंधित शासनादेश उपलब्ध कराने की बात भी कही। वहीं अध्यक्ष श्रीमती तोलिया ने कहा कि हर माह के लिए 4-5 तारीख तक योजनाएं ली जाएंगे। सदस्य आगामी किस्त की प्रत्याशा में मौजूदा माह के लिए एक सप्ताह में अपने प्रस्ताव उपलब्ध करा दें। बैठक में सदस्य डा. मोहन बिष्ट ने हल्दूचौड़ क्षेत्र में जंगली हाथियों के गांवों में आने की वजह से खेती के बाद अब जनहानि की संभावना पर एवं बसानी व खमीरा की सड़क निर्माण पर बात रखीं। बैठक में उपाध्यक्ष आनंद सिंह दर्मवाल के साथ ही अनिल चनौतिया, नरेंद्र चौहान, किशोरी लाल, संजय कुमार, प्रेम बल्लभ बृजवासी, अंकित साह, ललित मोहन, डा. मोहन बिष्ट, लक्ष्मण नेगी, विपिन चं्रदा, नेहा, निवेदिता जोशी, मीना देवी, मंजू आर्या, आशु देवी, लेखा भट्ट, भावना कपिल, पूजा, लाखन सिंह नेगी, सागर पांडे, कमलेश बिष्ट आशा, ममता सागर, प्रेमा गोस्वामी व दीपक मेलकानी आदि सदस्य तथा जिला पंचायत के पीएस बिष्ट, सुनील कुमार, दिनेश लोहनी व अनिल जोशी आदि अधिकारी मौजूद रहे।

दो सदस्य नहीं पहुंचे पहली बैठक में

नैनीताल। जिला पंचायत बोर्ड की पहली बैठक में गीता बिष्ट व मीरा यानी दो सदस्य नहीं पहुंचे। अन्य 25 सदस्य पहुंचे परंतु पांच सदस्यों ने अपने हस्ताक्षर बैठक के रजिस्टर में नहीं किये। अपर मुख्य अधिकारी ने बताया कि कुछ सदस्यों ने शादी-बारात की वजह से ने की बात कही थी।

यह भी पढ़ें : जिले की पहली निर्विरोध निर्वाचित बेला तोलिया की अध्यक्षता में नई जिला पंचायत बोर्ड ने ली शपथ

-डीएम ने अध्यक्ष बेला नेगी व उपाध्यक्ष आनंद दर्मवाल, जबकि अध्यक्ष बेला नेगी ने दिलाई जिला पंचायत सदस्यों को शपथ
-नई अध्यक्ष ने सभी सदस्यों के साथ मिलकर कार्य कराने का जताया संकल्प

नवीन समाचार, नैनीताल, 1 दिसंबर 2019। जिला पंचायत नैनीताल की नई बोर्ड ने रविवार को ऐतिहासिक फ्लैट्स मैदान में शपथ ले ली। जनपद के डीएम सविन बंसल ने एक भव्य परंतु संक्षिप्त कार्यक्रम में जनपद की पहली निर्विरोध निर्वाचित एवं भाजपा की दूसरी अध्यक्ष बेला तोलिया को जनपद की 12वीं अध्यक्ष के रूप में एवं उपाध्यक्ष के रूप में आनंद दर्मवाल को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। वहीं इसके तुरंत बाद अध्यक्ष बेला तोलिया ने अन्य सभी 25 जिला पंचायत सदस्यों को शपथ दिलाई।

राज्य के सभी प्रमुख समाचार पोर्टलों में प्रकाशित आज-अभी तक के समाचार पढ़ने के लिए क्लिक करें इस लाइन को…

इस मौके पर पत्रकारों से बात करते हुए श्रीमती तोलिया ने कहा कि जनपद की बिजली, पानी, सड़क, शिक्षा व स्वास्थ्य की समस्याओं का समाधान करना उनकी प्राथमिकता में होगा। केंद्र एवं राज्य सरकार से प्राप्त धनराशि का सभी सदस्यों के बीच सामंजस्य से बंटवारा किया जाएगा। वहीं जिला पंचायत की संपत्तियों को कब्जेदारों से मुक्त कराने के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि जांच कराने के बाद कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि वे नैनीताल के जीजीआईसी के छात्रावास में रहकर पढ़ी हुई हैं। इस मौके पर प्रदेश के शिक्षा एवं पंचायती राज्य मंत्री अरविंद पांडे, सांसद अजय भट्ट, पूर्व सांसद बलराज पासी, विधायक संजीव आर्य, बंशीधर भगत, नवीन दुम्का एवं राम सिंह कैड़ा, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, नगर पालिका अध्यक्ष सचिन नेगी, श्रीमती तोलिया के पति वरिष्ठ भाजपा नेता प्रमोद तोलिया, गजराज बिष्ट, रवि कन्याल, कमलेश कैड़ा, आशा देवी, डा. हरीश बिष्ट, पुष्पा नेगी, रूपा देवी आदि ब्लॉक प्रमुख पूर्व जिपं अध्यक्ष बीना आर्य, भाजपा के नये नगर अध्यक्ष आनंद बिष्ट, मनोज जोशी, ममता पलड़िया, तरुण बंसल, गोपाल रावत, चतुर सिह बोरा, रघुवर दत्त जोशी, आनंद बिष्ट, मनोज साह, मनोज पाठक, संतोष साह, दया किशन पोखरियां, नितिन कार्की, कुंदन बिष्ट, शांति मेहरा, जीवंती भट्ट, देवेंद्र ढैला, पूरन मेहरा व दिनेश आर्या सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे। संचालन जिला महामंत्री चंदन बिष्ट ने किया।

यह भी पढ़ें : कल नई जिला पंचायत अध्यक्ष व सदस्यों को शपथ दिलाएंगे सीएम, 8554 लाख की योजनाओं के तोहफे भी देंगे

-संदेशात्मक वॉल पेंटिंग एवं कुमाउनी परिधानों में सजे कलाकारों के द्वारा किया जाएगा पहली बार जिला कलक्ट्रेट आने पर स्वागत
नवीन समाचार, नैनीताल, 30 नवंबर 2019। शासन द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार निर्वाचित अध्यक्ष जिला पंचायत बेला तोलिया को 1 दिसम्बर को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई जायेगी। जानकारी देते हुये जिलाधिकारी सविन बंसल ने बताया कि 1 दिसम्बर को अध्यक्ष जिला पंचायत के साथ ही उपाध्यक्ष एवं जिला पंचायत सदस्यों को भी शपथ दिलाई जायेगी। इस मौके पर क्षेत्रीय सांसद अजय भट्ट एवं काबीना मंत्री अरविंद पांडे के भी मौजूद रहने की संभावना है। उन्होंने बताया कि शपथ ग्रहण के बाद 2 दिसम्बर को जिला पंचायत की प्रथम बैठक नैनीताल क्लब में आयोजित होगी। अपर मुख्य अधिकारी साधुराम ने बताया है कि शपथ ग्रहण समारोह फ्लैट्स मैदान नैनीताल में 1 दिसम्बर को होगा। अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष को पद एवं गोपनीयता की शपथ जिलाधिकारी सविन बंसल दिलाएंगे। उन्होंने बताया कि जिला पंचायत की प्रथम बैठक 2 दिसम्बर को नैनीताल क्लब सभागार में सम्पन्न होगी।

प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत रविवार को पहली बार जिला मुख्यालय में जिला कलक्ट्रेट आ रहे हैं। इस मौके को और भी खास बनाने के लिए डीएम सविन बंसल के निर्देशन में स्कूली बच्चों के द्वारा कलक्ट्रेट के आस-पास की बदनुमा दीवारों पर आकर्षक वॉल पेंटिंग कर दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है। बताया गया है कि मुख्यमंत्री कलैक्ट्रेट में तृप्ति पोर्टल, सूद एप एवं पोर्टल, टेलीमेडिसिन सेवा व संतुष्टि पोर्टल का शुभारंभ करने के साथ ही विभिन्न विभागों की लगभग 8554 लाख की योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलांयास करेंगे। कलक्ट्रेट में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का स्वागत छोलिया कलाकारों के अलावा सूचना व संस्कृति विभाग के कलाकारों द्वारा कुमाउनी परिवेश में किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि जनपद के विभिन्न विद्यालयों के बच्चों के द्वारा गत नौ नवंबर राज्य स्थापना दिवस से ही डीएसबी परिसर के चित्रकला विभाग के बच्चों के द्वारा जिलाधिकारी आवास व कलक्ट्रेट की दीवारों पर सुन्दर संदेशात्मक चित्र (वॉल पेंटिंग) उकेरी जा रही हैं। इधर एक बार पुनः 90 विद्यार्थियों के 20 समूहों को चित्र बनाने के लिए पुनः मंच प्रदान किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : बेला तोलिया को जिला पंचायत अध्यक्ष व दरम्वाल को उपाध्यक्ष पद के प्रमाण पत्र सोंपे

जिला पंचायत नैनीताल की निर्विरोध निर्वाचित अध्यक्ष बेला तोलिया एवं उपाध्यक्ष आनंद दरम्वाल को जीत के प्रमाण पत्र प्रदान करते सीडीओ विनीत कुमार।

नवीन समाचार, नैनीताल, 4 नवंबर 2019। बेला तोलिया को नैनीताल जिला पंचायत की 12वें अध्यक्ष व आनंद दरम्वाल को उपाध्यक्ष पद का प्रमाण पत्र सोंप दिया गया है। पहले प्रमाण पत्र सभी जनपदों में जिला पंचायत अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पदों के चुनाव व मतगणना के उपरांत सोंपे जाने थे। इसलिए सोमवार को अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष प्रत्याशी आज नाम वापसी की प्रक्रिया के उपरांत निर्विरोध निर्वाचन की घोषणा जानने के लिए मुख्यालय पहुंचे थे। किंतु आज ही उन्हें जनपद के मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने डीएम सविन बंसल द्वारा हस्ताक्षरित प्रमाण पत्र आज ही सोंप दिये गये। चुनाव अधिकारी धनपत कुमार ने बताया कि चुनाव आयोग से इस बारे में जानकारी लेने के उपरांत प्रमाण पत्र प्रदान कर दिये गये।
इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर निर्विरोध चुने जाने के बाद पत्रकारों से वार्ता में बेला तोलिया ने पार्टी हाईकमान के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सभी सदस्यों की रायशुमारी से जिला पंचायत के विकास कार्य किये जायेंगे। सभी सदस्यों की विकास कार्यों में बराबरी की भागीदारी होगी। उन्होंने विश्वास जताया कि केंद्र व राज्य में भाजपा की सरकार होने का फायदा जिला पंचायतों को मिलेगा। कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी सुविधाओं को पहुंचना उनकी प्राथमिकता होगी। शासन व प्रशासन के सहयोग से जिले के विकास कार्यों को भी वह प्राथमिकता के साथ करायेंगी। उन्होंने इस पद पर निर्विरोध चुनने के लिए सभी पंचायत प्रतिनिधियों का भी आभार भी प्रकट किया। इस मौके पर उनके पति वरिष्ठ भाजपा नेता प्रमोद सिंह तोलिया के साथ ही नवनिर्वाचित उपाध्यक्ष आनंद दरम्वाल तथा नवनिर्वाचित जिपं सदस्य अनिल चनौतिया, खीम सामंत, यतेंद्र सुयाल, वीरू खाती, मोहन पपनै, मदन मोहन जोशी, हरीश चौहान व किशन सिंह खड़का आदि लोग भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : नैनीताल से बेला तोलिया रचेंगी इतिहास, एक मायने में नैनीताल की पहली जिला पंचायत अध्यक्ष होंगी बेला

-भाजपा की बेला तोलिया का जिला पंचायत अध्यक्ष व आनंद दरम्वाल का उपाध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचन तय
-दोनों पदों के लिए केवल एक-एक जिला पंचायत सदस्य ने ही किया नामांकन, जंगलियागांव क्षेत्र के जिपं सदस्य अनिल चनौतिया नामांकन कराने की तैयारी के बाद माने

जिला पंचायत अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचन तय होने के बाद विजयी चिन्ह बनाते भाजपा नेता।

नवीन समाचार, नैनीताल, 2 नवंबर 2019। भाजपा की बेला तोलिया का नैनीताल जिला पंचायत अध्यक्ष व आनंद सिंह दरम्वाल का उपाध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचन तय हो गया है। शनिवार को नामांकन प्रक्रिया की पूरी अवधि में केवल इन्हीं दो प्रत्याशियों ने अपने पदों के लिए इकलौते नामांकन किये। इस दौरान अध्यक्ष पद पर तो भाजपा प्रत्याशी की जीत पहले ही सुनिश्चित लग रही थी, किंतु उपाध्यक्ष पद पर काफी देर तक निर्विरोध निर्वाचन पर संशय की स्थिति बनी। कारण जंगलियागांव क्षेत्र के एक जिला पंचायत सदस्य अनिल चनौतिया उपाध्यक्ष पद के लिए नामांकन करने की तैयारी में दिखे। हालांकि बाद में भाजपा नेताओं से वार्ता होने के बाद उन्होंने नामांकन नहीं किया। इसके बाद भाजपा के उपाध्यक्ष प्रत्याशी आनंद सिंह दरम्वाल का निर्विरोध चुनाव जीतना भी तय हुआ। हालांकि औपचारिक तौर पर उनकी जीत का ऐलान आगामी 4 नवंबर को नाम वापसी एवं सात नवंबर को चुनाव की प्रक्रिया के बाद होगा।

आजादी के बाद 10वीं निर्वाचित, भाजपा से दूसरी व पहली निर्विरोध निर्वाचित अध्यक्ष होंगी बेला

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए नामांकन कराती बेला तोलिया।

नैनीताल। बेला तोलिया नैनीताल जिला पंचायत की आजादी के बाद से 10वीं निर्वाचित अध्यक्ष, भाजपा की ओर से दूसरी, महिला के रूप में चौथी एवं निर्विरोध निर्वाचन के मामले में पहली अध्यक्ष होंगी। उनसे पूर्व जगन्नाथ पांडे, इंद्र सिंह नयाल, श्याम लाल वर्मा, सोबन सिंह दरम्वाल, आरपी जोशी, बीना आर्या, कुंवर सिंह नेगी, कमलेश शर्मा व सुमित्रा प्रसाद नैनीताल जिला पंचायत की अध्यक्ष रही हैं। उल्लेखनीय है कि इनमें से श्याम लाल वर्मा 1954 से 58 एवं 61 से 69 तक दो बार अध्यक्ष रहे। वहीं 1996 से 2002 तक अध्यक्ष रहीं बीना आर्या पहली भाजपाई जिला पंचायत अध्यक्ष थीं, और अब बेला उनकी विरासत संभालेंगी। वहीं आनंद सिंह दरम्वाल 11वें उपाध्यक्ष होंगे। उनसे पूर्व हाजी सुल्तान अहमद हुसैन, हीरा लाल आर्य, जगन्नाथ मिश्र, शिव नारायण सिंह नेगी, रघुवर सिंह मेहरा, जया बिष्ट, स्वर्गीय विधायक खड़क सिंह बोहरा, पुष्पा मटियाली, तारा सिंह व पुष्कर सिंह नयाल उपाध्यक्ष रहे हैं।

जिला पंचायत अध्यक्ष व उपाध्यक्ष बेला तोलिया व आनंद सिंह दरम्वाल।

इससे पूर्व भाजपा के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पद के दोनों प्रत्याशी और उनके प्रस्तावक व अनुमोदकों के साथ ही नरेंद्र चौहान, सागर पांडे, प्रेम बल्लभ बृजवासी, लेखा भट्ट व अनिल चनौतिया आदि जिला पंचायत सदस्यों के साथ ही करीब डेढ़ दर्जन सदस्य एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता-जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, महासचिव चंदन बिष्ट, हेमंत द्विवेदी, तीन विधायक संजीव आर्या, बंशीधर भगत व दीवान सिंह बिष्ट, नगर अध्यक्ष मनोज जोशी, महासचिव भानु पंत, गोपाल रावत, बिमला अधिकारी, भूपेंद्र बिष्ट विजय मनराल आदि दल-बल के साथ जिला पंचायत मुख्यालय पहुंचे। भारी पुलिस बल एवं बैरिकेटिंग के बीच सीमित संख्या में ही वरिष्ठ नेताओं एवं सदस्यों को भीतर प्रवेश करने दिया गया। जिसके बाद दोनों प्रत्याशियों ने दो-दो सेटों में नामांकन पत्र दाखिल किये। बेला तोलिया के नामांकन पत्र में आशा आर्या, पूजा अरोरा, मीना देवी व नेहा जबकि दर्मवाल के नामांकन में भावना कपिल, आशा देवी, दीपक मेलकानी व बेला तोलिया ने प्रस्तावक व अनुमोदन के रूप में योगदान दिया। इसके बाद निर्विरोध निर्वाचन तय होने पर सभी भाजपा नेताओं ने विजयी चिन्ह बनाये, और सभी सदस्यों का निर्विरोध निर्वाचन तय करने के लिए आभार जताते हुए विश्वास दिलाया कि सभी सदस्यों को साथ लेकर केंद्र व राज्य की विकासपरक योजनाओं को धरातल पर उतारा जाएगा।

नवीन समाचार
मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है। ’ यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….। मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड
https://navinsamachar.com

Leave a Reply

loading...