Developement News

अपने वर्तमान एवं सेवानिवृत्त कार्मिकों से छठे वेतनमान के एरियर की एक और किस्त देगा केएमवीएन

केएमवीएन के एमडी विनीत तोमर।

नवीन समाचार, नैनीताल, 18 जनवरी 2023। कुमाऊँ मण्डल विकास निगम लिमिटेड ने अपने कार्यरत एवं सेवानिवृत्त कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान करने का निर्णय लिया है। निगम के प्रबन्ध निदेशक विनीत तोमर ने बताया कि वर्ष 2006 से दिसम्बर 2022 तक सेवानिवृत्त हुए एवं निगम में वर्तमान में कार्यरत कर्मचारियों को एरियर की एक-एक किश्त का भुगतान करने का निर्णय लिया गया है। यह भी पढ़ें : सुबह तड़के दुर्घटना में 2 की मौत, एक अन्य गंभीर रूप से घायल

इस हेतु निगम पर 86 लाख रुपए का अतिरिक्त व्यय भार पड़ रहा है। वर्तमान में निगम प्रबन्धन द्वारा आय के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु किये गये प्रयासों से एरियर की एक और किश्त दिया जाना संभव हो पा रहा है। उन्होंने बताया कि छठे वेतनमान के एरियर के रूप में कुल 6.75 करोड़ रुपए की धनराशि सेवानिवृत्त एवं वर्तमान कार्मिकों को दी जानी थी। इसके सापेक्ष 3.78 करोड़ की धनराशि दी जा चुकी है। यह भी पढ़ें : बड़ा समाचार : रितेश पांडे, मोहन मेहता, मुक्ता प्रसाद सहित पूरे कुमाऊं में होगी 20 लोगों की संपत्ति जब्त

निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि निगम प्रबन्धन ने अपनी आय के स्रोतों की वृद्धि हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार के साथ ही कार्मिकों की देयताओं एवं हित लाभों के लिए निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं, जिससे कार्मिकों का मनोबल बना रहे तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ प्राप्त हो सकें। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें :संविदा कर्मचारियों के मानदेय में अप्रैल से बढ़ोत्तरी व KMVN-GMVN के एकीकरण सहित कई प्रस्तावों को मंजूरी…

नवीन समाचार, नैनीताल, 9 जनवरी 2023। कुमाऊं मंडल विकास निगम की चार साल बाद हुई बोर्ड बैठक में 550 संविदा संविदा कर्मचारियों के मानदेय में अप्रैल से बढ़ोतरी का निर्णय लिया गया। मानदेय कितना बढ़ेगा इसके लिए प्रबंध निदेशक को अधिकृत किया गया है। इसके अलावा बोर्ड ने कर्मचारियों को महंगाई भत्ते के एरियर सहित कर्मचारियों के अवकाश व मेडिकल प्रस्तावों पर भी मुहर लगा दी है।

साथ ही नैनीताल-हल्द्वानी रोड पर के एरीज बैंड के पास पेट्रोल पंप के साथ ही फूड कोर्ट, इलेक्ट्रिक कार चार्जिंग प्वाइंट सहित अन्य पर्यटन सुविधाओं युक्त एमिनिटी प्लाजा को भी मंजूरी प्रदान कर दी गई है। बताया गया कि प्लाजा के लिए भूमि का चयन हो चुका है। उधर, अल्मोड़ा के ताड़ीखेत व नैनीताल के गरमपानी-छड़ा में पेट्रोल पंप खोलने के प्रस्ताव का भी अनुमोदन किया गया।

बुधवार को केएमवीएन के निदेशक विनीत तोमर की अध्यक्षता में 2019 के बाद आयोजित वर्चुअल बोर्ड बैठक में इनके साथ ही फिलहाल पर्यटक आवास गृहों को लीज पर नहीं देने का निर्णय लिया गया। साथ ही तय हुआ कि नई दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, लखनऊ, अहमदाबाद व पुणे में संचालित पीआरओ कार्यालयों  को अलाभप्रद होने पर बंद किया जाएगा।  बताया गया कि बैठक में केएमवीएन-जीएमवीएन के एकीकरण के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी गई।

बैठक में सचिव पर्यटन सचिन कुर्वे, अपर सचिव वित्त एन अन्य पर्यटन रविशंकर, अपर सचिव कार्मिक ललित मोहन रयाल, जीएम प्रशासन एपी बाजपेयी, जीएम एपी बाजपेयी, कंपनी सचिव नवीन कुमार व विजय चौहान आदि जुड़े रहे। 

यह भी पढ़ें : केएमवीएन-जीएमवीएन का एकीकरण राज्य हित में: एमडी

नवीन समाचार, नैनीताल, 30 नवंबर 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर ने केएमवीएन एवं जीएमवीएन यानी गढ़वाल मंडल विकास निगम के एकीकरण को समय की जरूरत एवं केएमवीएन के साथ राज्य हित में बताया है। बताया कि दोनों निगमों के एकीकरण के दो समितियां काम कर रही हैं। इनमें से एक समिति एकीकरण एवं दूसरी कर्मचारी हितों पर मंथन कर रही है। श्री तोमर स्वयं भी इन समितियों में शामिल हैं। यह भी पढ़ें : कल मां-बेटे पर हमला हुआ था, आज वहीं एक वृद्ध का आधा खाया हुआ शव बरामद…

उन्होंने बताया कि इन समितियों की सितंबर माह में पहली बैठक हो चुकी है। ऐसे में निगमों का एकीकरण भविष्य में कभी भी हो सकता है। बुधवार को मुलाकात करने गए नगर के पत्रकारों से वार्ता करते हुए श्री तोमर ने कहा कि उत्तराखंड एकमात्र राज्य है जहां दो निगम हैं। उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्य में भी एक ही निगम है। एक निगम होने से पर्यटक एक ही जगह से दोनों राज्यों के पर्यटन स्थलों की एक साथ सैर कर सकेंगे। यह भी पढ़ें : पुलिस को देखकर भागने लगीं दो महिलाएं, दौड़कर पकड़ा तो..

खासकर यदि केएमवीएन की बात करें तो जीएमवीएन चार धाम यात्रा के साथ केएमवीएन से आय व कर्मचारियों की संख्या सहित सभी मामलों में आगे है। इसलिए एकीकरण होने से केएमवीएन के कर्मचारी भी जीएमवीएन के कर्मचारियों के समकक्ष आ जाएंगे। गढ़वाल मंडल के चार धाम सहित अन्य पर्यटन स्थलों पर आने वाले सैलानियों की कुमाऊं मंडल के स्थलों पर आवक बढ़ेगी। एकीकरण होने से निगम बड़े कार्य भी कर पाएगा, जो अभी खासकर केएमवीएन नहीं कर पाता है। यह भी पढ़ें : 17 वर्ष की नाबालिग की मजबूरी का फायदा उठाकर रोज करता रहा दुष्कर्म, मिली उम्रकैद की सजा….

वहीं केएमवीएन की स्थितियों की बात करें तो यहां 1996-97 से नई नियमित नियुक्तियां नहीं हुई हैं। ऐसे में तब नियुक्त हुए अधिकांश कर्मचारी सेवानिवृत्ति की कगार पर पहुंच गए हैं। 2025 में अधिकांश एवं अगले पांच वर्षों में सभी नियमित कर्मी सेवानिवृत्त होने जा रहे हैं। इसके बाद निगम के महत्वपूर्ण कार्य संविदा कर्मियों से नहीं कराए जा सकेंगे। यह भी पढ़ें : छात्र को शराब पिलाकर नग्न किया और नग्नावस्था में बनाई अश्लील वीडियो, अब मांग रहे हजारों रुपए, मामला दर्ज

नियमितीकरण के शासनादेशों पर उच्च न्यायालय से स्थगनादेश है। निगम में करीब 300 कर्मचारियों की कमी है। इस कमी का प्रभाव निगम के कार्यों व सेवाओं पर पड़ रहा है। एकीकरण होने से इन समस्याओं का समाधान हो सकेगा। इस मौके पर निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेयी भी उपस्थित रहे। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन के कर्मचारियों ने एमडी व जीएम का पदोन्नतियों पर अभिनंदन किया

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 नवंबर 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मण्डल विकास निगम मुख्यालय में शुक्रवार को कर्मचारियों निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर एवं महाप्रबंधक एपी वाजपेयी जी के लिए अभिनंदन समारोह आयोजित किया। इस अवसर पर कर्मचारियों ने दोनों अधिकारियों का निगम में काफी समय बाद 32 कार्मिको को एक साथ पदोन्नत किए जाने पर आभार एवं धन्यवाद किया गया। यह भी पढ़ें : नैनीताल: नगर के नाबालिग छात्र ने बाइक से फर्राटा भरते हुए स्कूटी सवारों को ठोका, एक की मौत….

वहीं श्री तोमर एवं श्री बाजपेयी ने कर्मचारियों से उम्मीद की कि वह पदोन्नति के उपरांत दोहरे जोश एवं ऊर्जा के साथ निगम हिम में कार्य करेंगे। सम्मान समारोह में मुख्यालय के मोहम्मद ताहिर, भुवन काण्डपाल, राजेश साह, प्रभा बिष्ट, शिव प्रसाद, रमेश पाण्डे, तारा दत्त भट्ट, हेमंत जोशी, दीपक पाण्डे व संतोष पंत आदि कर्मचारी शामिल रहे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने 32 अधिकारियों एवं कर्मचारियों को दिया पदोन्नति का तोहफा, देखें किन्हें…?

महाप्रबंधक विनीत तोमरनवीन समाचार, नैनीताल, 21 नवंबर 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम प्रबंधन ने निगम के 32 अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पदोन्नति का तोहफा प्रदान किया है। इनमें लेखा अनुभाग के 14, कार्मिक व विपणन अनुभाग के 7-7 तथा पर्यटन अनुभाग के 4 अधिकारी व कर्मचारी शामिल हैं। यह भी पढ़ें : विराट-अनुष्का नैनीताल जनपद के एक सप्ताह के प्रवास से लौटे…

निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर के हवाले से महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि विभागीय पदोन्नति की प्रक्रिया इससे पूर्व लगभग 2 वर्ष पहले हुई थी। इस पदोन्नति के द्वारा विभिन्न ग्रेड वेतनमानों में अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पदोन्नत किया गया है। निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर द्वारा इस संबंध में पदोन्नति आदेश जारी करते हुए सभी पदोन्नत कर्मचारियों एवं अधिकारियों से निगम हित में परिश्रम करते हुए अपने दायित्व के समुचित निर्वहन की अपेक्षा की है। यह भी पढ़ें : रात में गिरी कार, सुबह-सुबह दिखी तो हो चुकी थी कार सवारों की मौत…

पदोन्नत अधिकारियों-कर्मचारियों में लेखा अनुभाग के मुख्य लेखाकार अशोक कुमार पांडे, लेखाकार शिव प्रसाद, सहायक लेखाकार राजेश साह, दिनेश सांगुड़ी, सुरेंद्र मेहरा, पुष्पा रावत व हिम्मत बिष्ट, कनिष्ठ लिपिक हेमा मेहरा, तारा दत्त भट्ट, भूपेंद्र रावत, महेंद्र कार्की, दीपक वाल्मीकि व दीपक जलाल, कार्मिक अनुभाग के कार्यालय अधीक्षक मो. ताहिर, भुवन कांडपाल, प्रभा सिंह, प्रेम सिंह, चम्पा मनराल, तारा शर्मा व हेमंत जोशी, गैस अनुभाग के रमेश पांडे, गैस प्रबंधक रवि मेहरा व अंकिता पांडे तथा दीपा पाटनी, कमला तिवारी, पूरन आर्य व भरत खाती, पर्यटन अनुभाग के प्रबंधक यतीश पंत, स्वागती प्रकाश पंत तथा गाइड विनोद नेगी व संजय आर्या शामिल हैं। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने अपने कार्मिकों को दिया एक और तोहफा

-छठे वेतनमान की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया
नवीन समाचार, नैनीताल, 11 नवंबर 2022। कुमाऊं मण्डल विकास निगम लिमिटेड वर्ष 2006 से अक्टूबर, 2022 तक सेवानिवृत्त हुए अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान करने जा रही है। बताया गया है कि इससे निगम पर 55 लाख रुपए का अतिरिक्त व्यय भार पड़ रहा है। यह भी पढ़ें : विधायक पर भारी पड़ने जा रहा है राज्य स्थापना दिवस पर दिया बयान, मिली चुनौती…

निगम के प्रबन्ध निदेशक विनीत तोमर ने बताया कि निगम के द्वारा अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय कुल 6.75 करोड़ की धनराशि के सापेक्ष 2.95 करोड़ की धनराशि दी जा चुकी है। निगम प्रबंधन द्वारा अपने आय के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार हेतु निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं। यह भी पढ़ें : ट्रक की टक्कर से नैनीताल निवासी एक स्कूटी सवार की मौत, दूसरा गंभीर

साथ ही कार्मिकों की देयताओं एवं हित लाभों के लिए भी लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इन्ही प्रयासों के तहत कार्मिकों का मनोबल बना रहे तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ प्राप्त हो सके, इस उद्देश्य से कर्मचारियों को एक और अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया जा रहा है। आगे भी निगम की आर्थिक स्थिति अनुकूल होने पर शेष धनराशि का भी भुगतान किया जाएगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दीपावली पर कार्मिकों को 4000 रुपए अतिरिक्त मानदेय देगा केएमवीएन…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अक्तूबर 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम वित्तीय वर्ष 2021-2022 मे निगम में कार्यरत कार्मिकों को दीपावली पर अपने 4800 रुपए ग्रेड पे तक के सभी नियमित एवं संविदा कार्मिकों को चार हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय देने का निर्णय लिया है। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से दीपावली पर अपने प्रियजनों को शुभकामना संदेश दें मात्र 500 रुपए में… संपर्क करें 8077566792, 9412037779 पर, अपना संदेश भेजें saharanavinjoshi@gmail.com पर… यह भी पढ़ें : अधिवक्ताओं की कारें असामाजिक तत्वों के निशाने पर ! सप्ताह भर में ही एक और….

बताया गया है कि यह अतिरिक्त मानदेय एक तरह से बोनस की तरह है। वास्तव में निगम में अनुमन्य बोनस की दर काफी कम है। पिछले वर्ष निगम ने दीपावली पर प्रत्येक कार्मिक को दो हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय दिया था, जबकि इस वर्ष इस लिहाज से दोगुना अतिरिक्त मानदेय दिया गया है। यह भी पढ़ें : नवविवाहिता बहु से 65 वर्षीय ससुर ने किया दुष्कर्म….

निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर के हवाले से महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि करीब एक हजार कार्मिकों को इस अतिरिक्त मानदेय का लाभ मिलेगा। इससे निगम पर अतिरिक्त रूप से 40 लाख रुपए का व्यय भार पड़ेगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 8.26 करोड के लाभ से प्रफुल्लित केएमवीएन इस माह से कर्मियों को 3 फीसद अतिरिक्त डीए देगा..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 अगस्त 2022। पूर्व में लगातार घाटे में चलने के लिए अभिशप्त केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड ने इस वर्ष 826.72 लाख रुपए का लाभ अर्जित किया है। निगम ने इस वर्ष कई वर्षों के बाद अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों को लक्ष्य दिए और इस वर्ष अच्छा पर्यटक सीजन चलने के साथ तीन माह में ही 44 फीसद से अधिक लक्ष्य पूरे भी कर लिए हैं। इससे प्रफुल्लित निगम प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों को 1 जुलाई 2022 यानी पिछले माह यानी इस अगस्त माह के वेतन में 31 की जगह 34 यानी 3 फीसद अधिक डीए यानी महंगाई भत्ता देने की घोषणा की है। इससे निगम पर 42 लाख रुपए का अतिरिक्त वार्षिक भार पड़ेगा। यह भी पढ़ें : बड़ा शातिर निकला छोटा खान, 5 साल से शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध एक से बनाए, शादी दूसरी से कर ली….

निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेई ने महाप्रबंधक विनीत तोमर के हवाले से बताया कि करीब एक दशक के बाद निगम ने अपने टीआरएच को इस वित्तीय वर्ष के लिए करीब 20 करोड़ का लक्ष्य दिया था, इसके सापेक्ष ए श्रेणी के 14 टीआरएच ने 44.53, बी श्रेणी के 16 टीआरएच ने 38.52 एवं सी श्रेणी के 14 टीआरएच ने 27.53 करोड़ के लक्ष्य प्राप्त कर लिए हैं। इस प्रकार पर्यटन के क्षेत्र में निगम ने 372.03 लाख, गैस, जड़ी-बूटी आदि के विपणन से 341.34 लाख, खनन से 114.93 लाख, निर्माण से 27.82 लाख, रज्जु मार्ग से 86.3 लाख सहित कुल 826.72 लाख का लाभ अर्जित किया है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

यह भी बताया कि निगम ने पिछले वित्तीय वर्ष के अंतर्गत जनवरी 2022 में अपने कार्मिकों को 74 लाख रुपए छठे वेतन आयोग के व 11 फीसद महंगाई भत्ता, मार्च 2022 में 60 लाख ग्रेज्युटी के, अप्रैल 2022 में 3 फीसद महंगाई भत्ता व संविदा कर्मियों के वेतन में 800 से 1200 रुपए की वृद्धि, जून 2022 में ग्रेज्युटी के 2085 करोड़ व छठे वेतन आयोग के एरियर के 63 लाख रुपए दिए गए हैं, जबकि इधर अगस्त माह में ग्रेज्युटी के 1.2 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि इस पर निगम के कर्मचारी व उनके संगठन भी खुश होंगे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कार्मिकों पर मेहरबान केएमवीएन, अभी दिए करीब सवा करोड़, इस साल दे चुके 5.25 करोड़

-इस वर्ष पांच माह में करीब सवा पांच करोड़ का भुगतान किया गया है

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मई 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने पिछले दो वर्ष कोरोना की विषय परिस्थितियों को झेलने के बावजूद इस माह सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में 62 लाख रुपए की धनराशि की एक किश्त जारी की है। साथ ही ग्रेज्युटी के रूप में एक करोड़ 25 लाख रुपए का भुगतान किया है और अवकाश नगदीकरण में भी 40 लाख रुपए के अतिरिक्त भुगतान का निर्णय लिया है। इस प्रकार निगम सेवानिवृत्त कार्मिकों को करीब सवा करोड़ रुपए की धनराशि दी जानी है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी ने बताया कि इस प्रकार जनवरी माह से अब तक यानी 5 माह में निगम प्रबंधन ने सेवानिवृत्त कार्मिकों के ग्रेज्युटी मद में 285 लाख व छठे वेतनमान के एरियर के रूप में दो किस्तों में 145 लाख तथा अवकाश नगदीकरण के रूप में 90 लाख यानी कुल लगभग सवा 5 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। यह भी बताया कि निगम के द्वारा अप्रैल 2022 में सेवानिवृत्त कार्मिकों के डीए में 3 फीसद की वृद्धि की है, तथा अप्रैल 2022 से ही संविदा कार्मिकों के मानदेय में तृतीय श्रेणी में 1,200 और चतुर्थ श्रेणी में 800 रुपए प्रतिमाह की बढ़ोत्तरी की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन में नए एमडी तोमर ने संभाला कार्यभार

Vineet Tomar IAS posted as DM- Champawat, Uttarakhand | Indian Bureaucracy  is an Exclusive News Portalडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 अप्रैल 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास के नए एमडी यानी प्रबंधन निदेशक के पद पर 2014 बैच के आईएएस अधिकारी विनीत तोमर ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस अवसर पर श्री तोमर ने निगम की आय बढ़ाने के लिए हर संभव उपाय करने की बात कहीं।

उल्लेखनीय है कि मैकेनिकल इंजीनियर भी रही श्री तोमर इससे पूर्व चंपावत के डीएम रहे हैं। गत 22 अप्रैल को उनकी जगह केएमवीएम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी को चंपावत का नया डीएम बनाया गया तो उन्हें परिवहन निगम का एमडी बनाया गया था। किंतु पांच दिन बाद ही उनके स्थानांतरण आदेश को संशोधित कर उन्हें केएमवीएन का नया एमडी बनाया गया है। इस प्रकार श्री भंडारी एवं श्री तोमर ने एक-दूसरे को प्रतिस्थापित किया है। यह भी पढ़ें : हंगामे की भेंट चढ़ी उच्च न्यायालय के स्थानांतरण के मुद्दे पर आयोजित बार की बैठक, समर्थन में आए पूर्व में रहे विरोधी….

कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर श्री तोमर को निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इस मौके पर श्री तोमर ने आदि कैलाश यात्रा, गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप की यूनिटों में बेहतर कार्य करने की बात कही। कहा कि आदि कैलाश यात्रा में इस वर्ष 2000 लोगों को ले जाने का लक्ष्य रहेगा।

गरमपानी व सुनकिया में नए पेट्रोल पंप लगाने का कार्य गतिमान है। ताड़ीखेत, राइआगर पिथौरागढ़, नैनीताल में एरीज के पास एवं सिडकुल रुद्रपुर में पेट्रोल पंप खोलने की योजना है। घरेलू गैस की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने काठगोदाम व चंपावत में निगम की बंद पड़ी फैक्टरियों की भूमि का सदुपयोग करने की बात भी कही। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सैलानियों के लिए रोपवे और केव गार्डन का समय बढ़ा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 अप्रैल 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम द्वारा संचालित रोपवे केबल कार और केव गार्डन के खुलने का समय बढ़ा दिया गया है। नगर में सैलानियों के लिए यह दोनों बड़े आकर्षण अब तक सुबह साढ़े 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुलते थे, जबकि अब सैलानी सुबह आठ बजे से शाम 6 बजे तक केव गार्डन और रोपवे का सुबह आठ से साढ़े 6 बजे तक आनंद उठा सकेंगे।

के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी के हवाले से जीएम एपी बाजपेई ने बताया कि पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने की शुरू की पहल, आम्रपाली से मिलाया हाथ

एमओयू पर हस्ताक्षर करने के अवसर पर केएमवीएन एवं आम्रपाली के उच्चाधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मार्च 2022। पेशेवर राह पर आगे बढ़ने और समय से कदमताल करने की पहल के साथ केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम अपने पर्यटन से जुड़े कार्मिकों को सेवा के दौरान प्रशिक्षण देने की नई शुरुआत करने जा रहा है। इस हेतु निगम ने अगले दो वर्षों के लिए हल्द्वानी के आम्रपाली समूह से हाथ मिलाए हैं।

बुधवार को निगम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी, जीएम एपी वाजपेयी तथा पर्यटन विकास अधिकारी बच्ची राम आर्य की मौजूदगी में आम्रपाली समूह के निदेशक शैलेंद्र कुमार सिंह एवं आम्रपाली होटल मैनेजमेंट संस्थान के डीन प्रो. प्रशांत की मौजूदगी में एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। बताया गया कि प्रथम चरण में आसन्न ग्रीष्मकालीन पर्यटन सत्र शुरू होने से पूर्व निगम में कार्यरत प्रबंधकों, फ्रंट ऑफिस कार्मिकों, वेटर, रूम अटैंडेंट, हाउस कीपिंग स्टाफ तथा कुक आदि 150 कर्मियों को 5 बैचों में आम्रपाली संस्थान से 6 दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा।

निगम के एमडी श्री भंडारी ने इस अवसर पर कहा कि निगम वर्तमान में 46 पर्यटक आवास गृहों के साथ कैलाश मानसरोवर एवं आदि कैलाश यात्रा का संचालन करता है। पर्यटकों के सम्मुख निगम तथा राज्य सरकार की छवि आवास गृहों में कार्यरत कार्मिकों के आचरण एवं व्यवहार की कार्य कुशलता पर निर्भर करती है। इसलिए कार्मिकों को पर्यटन के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों तथा अन्य विधाओं से अवगत कराने तथा जानकारी को अद्यतन करने के लिए उन्हें सेवाकालीन प्रशिक्षण देकर उनका कौशल विकास करने का निर्णय लिया गया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन प्रबंधन ने कर्मचारियों को किया एरियर का भुगतान

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 नवंबर 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम प्रबंधन ने कर्मचारियों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय 6.75 करोड़ रुपए की धनराशि के सापेक्ष वर्ष 2019 तक के दो करोउ़ 19 लाख रुपए की धनराशि का भुगतान कर दिया है। साथ ही निगम प्रबंधन ने निगम की आय बढ़ाने के लिए किए गए विभिन्न प्रयासों के फलस्वरूप वर्ष 2006 से दिसंबर 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कार्मिकों को एक अतिरिक्त किस्त के रूप में 83 लाख रुपए का भुगतान भी कर दिया है।

निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि निगम प्रबंधन द्वारा अपनी आय के स्रोतों की वृद्धि हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार तथा कार्मिकों के देयों एवं हित लाभों के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि कार्मिकों का मनोबल बना रहे और सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ मिल सके। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : निगम महासंघ का 13 दिनों से चल रहा आंदोलन स्थगित

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 दिसंबर 2021। कुमाऊं गढ़वाल मंडल विकास निगम के संयुक्त कर्मचारी महासंघ ने शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद अपने आंदोलन को स्थगित कर दिया है। महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुरु रानी ने कहा कि देहरादून में प्रमुख सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर से हुई वार्ता में महासंघ के 12 सूत्रीय मांग पत्र पर चर्चा की गई।

इन मांगों पर पूर्व में शासन में 7 अक्टूबर को वार्ता हुई थी। जिसमें लिखित समझौता भी हुआ था उसे पूरा न करने पर महासंघ द्वारा 23 नवंबर से अनिश्चितकालीन आंदोलन प्रारंभ कर दिया गया था। आज शासन की ओर से नियमितीकरण की कार्यवाही शीघ्र शुरू करने, खनन के पट्टे निगम को देने, निगम के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करने संबंधी मांगों पर शीघ्र कार्रवाई के साथ ही पर्यटन सचिव द्वारा दोनों निगमों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिए गए कि वे निगम स्तर की समस्याओं का अविलंब समाधान हेतु महासंघ से वार्ता करें। इस पर आंदोलन स्थगित कर दिया गया है।

अलबत्ता गुरूरानी ने कहा कि दोनों निगमों में वेतन विसंगति है। गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा जहां कर्मचारियों का 11 फीसद महंगाई भत्ता दे दिया गया है वहीं कुमाऊं मंडल विकास में उनके प्रबंधन द्वारा अभी तक महंगाई भत्ता तक नहीं दिया। यदि किसी कर्मचारी का आंदोलन में शामिल होने पर उत्पीड़न किया गया तो महासंघ पुनः आंदोलन करेगा। आंदोलन स्थगित करने का निर्णय लेने में महामंत्री आशीष उनियाल गुमान सिंह कुमटिया, दिनेश सांगुडी, राजेश रमोला, जोगिंदर लाल, किशन पवार, विनोद तिवारी, रमेश कपकोटी, गौतम कुमार, कैलाश आर्यर्, दिव्यांशु रावत, नीता आर्य, कमला धानिक, जानकी आर्य, संदीप सहाय व ललित सहाय सहित अन्य निगम कर्मी शामिल रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने तैयार की मार्चूला को साहसिक खेलों का हब बनाने की डीपीआर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अगस्त 2021। साहसिक खेल गतिविधियों के माध्यम से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से नए पर्यटन स्थलों की तलाश करने के साथ उन्हें विकसित करने पर तेजी से काम किया जा रहा है। इसके तहत अल्मोड़ा के मार्चुला में एंगलिंग, पैराग्लाइडिंग, ट्रेल रन, माउंटेन बाइकिंग, रिवर, क्रॉसिंग, वॉटर रोलिंग, ऑफ-रोडिंग, हाइकिंग, सफारी जैसे साहसिक खेलों को विकसित करने के लिए उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) के अधिकारियों ने सोमवार को स्थलीय निरीक्षण किया गया है।

यूटीडीबी के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी-साहसिक पर्यटन कर्नल अश्विन पुंडीर ने बताया कि मार्चुला से भिकियासैंण तक होने वाले विकास कार्यों के लिए केएमवीएन की ओर से डीपीआर तैयार की गई है। क्षेत्र में पर्यटकों को बेहतर सुविधा देने के लिए विभाग की ओर से कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। मार्चुला में पर्यटकों को आवास और स्वादिष्ट भोजन के साथ अन्य सभी सुविधाएं दी जाएगी। इस मौके पर केएमवीएन के सहायक अभियंता मनोज महर्षिवाल, यूटीडटी के सुरेंद्र सिंह बोहरा और एंगलिंग विशेषज्ञ संजीव मौजूद रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन-जीएमवीएन कर्मचारी महासंघ के सिल्वर जुबली वर्ष में वार्षिक अधिवेशन का ऐलान

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2021। केएमवीएन-जीएमवीएन के संयुक्त कर्मचारी महासंघ का वार्षिक अधिवेशन आगामी 4 अगस्त को ऋषिकेश में होगा। जिसमें नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बताया कि महासंघ का गठन 30 अप्रैल 1995 को ग्वालदम स्थित पर्यटक आवास गृह में हुआ था। इस वर्ष महासंघ अपने 25 साल पूरे होने पर सिल्वर जुबली के अवसर पर पूर्व के पदाधिकारियों को सम्मानित करेगा। साथ ही नई रणनीति के तहत कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए मांग पत्र के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री से भी मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दोनों निगमों में लंबे समय से संविदा में कार्यरत कर्मचारियों का नियमितीकरण नहीं हुआ है। इसके साथ ही विभागीय पदोन्नतियों व अन्य प्रकरणों पर भी कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि अधिवेशन में कुमाऊं मंडल के पदाधिकारियों के साथ गढ़वाल मंडल के समस्त जनपदों के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को दोनों निगमों के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करते हुए अतिरिक्त मानदेय दिया जाना चाहिए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कर्मचारी नेता आशीष उनियाल, राजेश रमोला, मनमोहन चौधरी, सत्यपाल बिष्ट, किशन पवार आदि जुटे हुए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नए एमडी के साथ 50-60 करोड़ से बदलेगा केएमएवीएन के टीआरएच का कलेवर

-निगम की पेट्रोल पंप सैक्टर में भी आगे बढ़ने की योजना

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जुलाई 2021। कुमाऊं मंडल विकास निगम शीघ्र ही नए प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी की पहल पर अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों का सौंदर्यीकरण करने जा रहा है। श्री भंडारी ने इस तथा अपनी अन्य भावी योजनाओं के बारे में ‘नवीन समाचार’ को एक विशेष भेंट में बताया कि टीआरएच में सौंदर्यीकरण के कार्यों पर 50 से 60 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है।

उन्होंने बताया कि निगम के अच्छे, अधिक सैलानियों की पहुंच वाले सूखाताल, भीमताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, मुक्तेश्वर, काठगोदाम, रानीखेत, बिन्सर, पिथौरागढ़, रामगढ़ व कौसानी आदि के टीआरएच का जीर्णोद्धार व विस्तार करेगा। इसके अलावा दूसरे चरण में जागेश्वर, डीनापानी, अल्मोड़ा, मुन्स्यारी, मोहान व चौकोड़ी के पर्यटक आवास गृहों का भी सौंदर्यीकरण करने की योजना है। योजना के तहत सभी पर्यटक आवास गृहों का प्रवेश द्वार एवं बाह्य आवरण एकरूप एवं बेहतर करना है। साथ ही किचन एवं बाथरूम को बेहतर फिटिंग्स एवं फर्नीचर से युक्त करना है। इसके अलावा अब तक जहां निगम के टीआरएच उनके शहर के नाम के आधार पर जाने जाते हैं, वहीं अब टीआरएच को उनके अपने विशिष्ट नाम देने तथा आसपास के कुछ टीआरएच को एक चेन या श्रृंखला में लाने की भी योजना है। जैसे ‘परिचय’ नाम की श्रृंखला में नैनीताल, भीमताल, मुक्तेश्वर व नौकुचियाताल आदि टीआरएच शामिल होंगे।

श्री भंडारी ने बताया कि सभी टीआरएच के प्रवेश द्वारों को आकर्षक बनाया जाएगा। साथ ही जहां संभव होगा, वहां नए कक्षों का निर्माण करना एवं संभव न होने पर सुविधाओं को बेहतर करने की योजना है। ताकि अधिक संख्या में सैलानी यहां ठहर सकें। उन्हें कक्ष न मिल पाने की असुविधा न हो। इसके अलावा निगम अपने पर्यटक आवास गृहों में पर्यटकों की पहुंच बढ़ाने के लिए ‘मेक माइ ट्रिप’ एवं ‘गो आईबीबो’ सरीखी ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों के साथ भी अनुबंध करने जा रहा है। निगम की कोशिश है कि उसके आवास गृहों के कक्ष खाली न रहें। अधिक यात्री उन तक पहुंचें। इसके अलावा निगम पेट्रोल पंप सैक्टर में भी अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने जा रहा है। श्री भंडारी ने बताया कि सूखाताल पेट्रोल पंप के बेहतर अनुभव को देखते हुए निगम की अल्मोड़ा जनपद के ताड़ीखेत व नैनीताल जनपद के सुनकिया-मुक्तेश्वर में भी पेट्रोल पंप खोलने की कोशिश चल रही है। बताया कि ताड़ीखेत में पेट्रोल पंप लगना प्रारंभ हो गया है, जबकि सुनकिया के लिए आईओसी से बात चल रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन की निर्माण एजेंसी के रूप में पहचान बनाएंगे नए एमडी…

-निगम के नए एमडी नरेंद्र भंडारी ने कार्यभार संभालने के बाद जताया इरादा, पर्यटन क्षेत्र में बेहतर सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का जताया इरारा

केएमवीएन के नए एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जून 2021। नैनीताल जनपद में मुख्य विकास अधिकारी के रूप में यादगार कार्यकाल के बाद आईएएस अधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने शनिवार को केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक पद का कार्यभार संभाल लिया है। इस अवसर पर मूलतः इंजीनियर भी रहे भंडारी ने निगम को निर्माण एजेंसी के रूप में स्थापित करने एवं विशेषज्ञता हासिल करने का इरादा जताया। उन्होंने कहा कि राज्य में गुणवत्तायुक्त निर्माण एजेंसियों की कमी है। निगम चाहे तो 10, 20, 50 से 100 करोड़ रुपए तक के भी कार्य कर सकता है। वहीं पर्यटन के क्षेत्र में उन्होंने बेहतर सेवा-सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का इरादा जताया। कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों में ग्रामीणों को रात्रि में सैलानियों को खुले आकाश में सितारों के दर्शन कराने के लिए दूरबीनें उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके अलावा उन्होंने गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप आदि क्षेत्रों में भी कार्य करने की बात कही।

संदीप तिवारी ने संभाला सीडीओ पद का कार्यभार
नैनीताल। टिहरी से स्थानान्तरित होकर आये आईएएस संदीप तिवारी ने शनिवार पूर्वाह्न विकास भवन भीमताल में पूर्व मुख्य विकास अधिकारी नरेंद्र सिह भंडारी से कार्यभार ग्रहण किया। इस दौरान श्री तिवारी ने अधिकारियों से औपचारिक भेंट की तथा विकास भवन परिसर के कार्यालय का निरीक्षण भी किया, तथा कोविड की दृष्टि से विभागों द्वारा संचालित कार्यक्रमों एवं विभागीय योजनाओं की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : दो टीआरएच से निकला केएमवीएन की सभी समस्याओं का समाधान, निगम की भविष्य की योजनाओं की अध्यक्ष व एमडी ने दी जानकारी

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 फरवरी 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के अध्यक्ष केदार जोशी व प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि निगम के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृह-मोहान व परिचय नौकुचियाताल को 2.25 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष की दर पर 15 वर्ष के लिए लीज पर देकर 15 करोड़ रुपए का ऋण लिया जाएगा। लीज से मिलने वाली धनराशि से ऋण की किस्त चुकाई जाएंगी, साथ ही सूखाताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, भीमताल, मुक्तेश्वर, अल्मोड़ा, बिन्सर, डीनापानी रानीखेत, जागेश्वर, चौकोड़ी, रामगढ़, मोहान, कौसानी, काठगोदाम व परिचय टीआरएच में 23.5 करोड़ रुपयों की लागत से 100 कक्ष बढ़ाने के साथ ही निगम के 50 फीसद टीआरएच में 3स्टार की सुविधा व क्षमता विकास के साथ सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे।

पत्रकार वार्ता करते निगम के एमडी, अध्यक्ष व अन्य।

इस तरह निगम में 370 कक्षों की क्षमता हो जाएगी। इससे निगम की आय में हर वर्ष 4.5 से 5 करोड़ की वृद्धि होगी। साथ ही संविदा कर्मचारियों के मानदेय में मार्च से 1000 एवं इस वर्ष में कुल 3000 रुपए की वृद्धि की जाएगी। यह भी बताया कि निगम में 2 वर्ष की अवधि के लिए 21 लाख रुपए प्रतिवर्ष के मानदेय पर 5 स्टार सुविधाओं के टूरिज्म कंसल्टेंट एवं 30 हजार रुपए वेतन पर महाप्रबंधक सहित अन्य तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति कर निगम के कर्मियों को प्रशिक्षण देकर उनके कौशल वृद्धि का प्रबंध भी किया जाएगा। साथ ही एमडी रोहित मीणा ने 5 की जगह 18 खनन पट्टों के जरिये प्रति वर्ष 10 करोड़ एवं एक की जगह भवाली, ताड़ीखेत, कपकोट, काशीपुर व रुद्रपुर सहित करीब 10 नए पेट्रोल पंप स्थापित करने, निगम की सूखाताल स्थित पार्किंग की छत को हुनर हाट की तर्ज पर विकसित करने व यहां स्थानीय प्रतिभाओं को भी मंच उपलब्ध कराने, स्नोव्यू में डायनासोर थीम पार्क विकसित करने, केव गार्डन में लाइट, साउंड फाउंटेन शुरू करने व नए वित्तीय वर्ष में निगम के पुराने मुख्यालय भवन में मुख्यालय को पुर्नस्थापित करने की बात भी कही। वहीं अध्यक्ष कैलाश जोशी ने आदि कैलाश यात्रा को विकसित करने का इरादा भी जताया, और केएमवीएन व जीएमवीएन के एकीकरण के बावजूद दोनों निगमों का स्वतंत्र अस्तित्व बने रहने की बात भी कही।

यह भी पढ़ें : 11वें दिन भी जारी रहा केएमवीएन कर्मचारी महासंघ का अनूठा गांधीवादी आंदोलन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 27 अगस्त 2020। कुमाऊँ मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ कर्मचारियों का आंदोलन बृहस्पतिवार को 11वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान कर्मचारियों ने अपराह्न एक से दो बजे तक लंच की अवधि में काला फीता बांधकर कार्य बहिष्कार किया। साथ ही ‘एक पौधा धरती मां के नाम’ अभियान के तहत पौधारोपण व स्वच्छता कार्यक्रम चलाया। इस मौके पर महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने कहा कि ने जब तक मांगें पूरी नहीं होती हैं तब तक महासंघ गांधीवादी तरीके से उत्तराखंड में कर्मचारी संगठनों की ओर से किया जाने वाला अनोखा आंदोलन करता रहेगा। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन कर्मचारियों के प्रकरण पर संवेदनशील नहीं है। इतनी लंबी अवधि बीतने के बाद भी अधिकारियों द्वारा विभागीय पदोन्नतियां व नियमितीकरण सहित अन्य मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि निगम के आवास गृहों से क्वारंटाइन केंद्र हटाए जाएं एवं उनके रखरखाव के लिए धनराशि आवंटित की जाए। साथ ही निगम को आर्थिक पैकेज दिया जाए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंजुल सनवाल, रमेश प्रसाद, अशोक पांडे, दिनेश सांगुडी, गुमान सिंह कुमटिया, रवि साह व कैलाश बिष्ट प्रमुख रूप से शामिल रहे।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप https://chat.whatsapp.com/BXdT59sVppXJRoqYQQLlAp से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग: कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष ने लगाए निगम में भ्रष्टाचार के आरोप

केएमवीएन की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 फरवरी 2020। कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी ने निगम में अनियमितताओं का आरोप लगाया है। मंगलवार को प्रेस को जारी बयान में श्रीमती अधिकारी ने कहा कि बीते कुछ महीनो से उन्हें निगम के कार्यों में अनिमियताएं नजर आ रही हैं, जिन्हें वे उजागर करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री ने निगम में उपाध्यक्ष का दायित्व दिया है, जिसे उन्होंने पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से निभाने का संकल्प लिया है। कहा कि निगम की बंद फैक्टरियों में स्क्रैप के सामान की नीलामी में बड़ी धांधली का पता चला है।

बताया कि निगम की ओर से शीशमहल स्थित बंद पड़ी प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप की 14-15 लाख रुपए में बेचे जाने की निविदा निकाली गई थी, जबकि सामग्री वास्तव में 30-32 लाख की थी, लेकिन इसे बिना पुरानी कमेटी को भंग किए नई कमेटी गठित करके मात्र 8-8.5 लाख रुपए में ही बेच दिया गया। यही नहीं इच्छुक निविदादाताओं को स्क्रैप की पूरी सामग्री भी नहीं दिखाई गई। पुरानी समिति को भंग किये बिना नई समिति से बिक्री कराई गई और नई समिति ने पुरानी समिति से भी बात नहीं की। कहा कि निगम के कुछ अधिकारियों की अनियमितताओं के कारण निगम को आर्थिक क्षति झेलनी पड़ रही है। इस संबंध में निगम के एमडी से मामले की तत्काल जांच कर एक सप्ताह के भीतर आख्या देने को कहा गया है। कहा कि जांच पूरी होने के उपरान्त इस मामले को प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी अवगत करायेंगी। इस बारे में निगम के एमडी रोहित मीणा ने बात करने का प्रयास किया गया किंतु संपर्क नहीं हो पाया। अलबत्ता निगम के जीएम अशोक जोशी ने बताया कि स्क्रैप की पहली बार हुई नीलामी में कोई भी बोलीदाता कोई नहीं आया। दूसरी बार की नीलामी में किलो के रेट मांगकर तोलकर बेचा गया। बताया कि सामग्री तोलकर बेची गई है, और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी की गई है।

केएमवीएन के नये एमडी के रूप में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अध्यक्ष एवं जीएम के साथ पत्रकारों से बात करते आईएएस रोहित मीणा (File Photo)।

इस पर केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा ने कहा कि तीन-चार वर्ष पूर्व हल्द्वानी के स्थानीय स्क्रैप विक्रेताओं ने प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप का मूल्यांकन 32 से 35 लाख का किया था। इस दर पर दो बार निविदा आमंत्रित की गई, किंतु दोनों बार कोई निविदा प्राप्त नहीं हुई। इस पर प्रति किग्रा की दर से निविदा आमंत्रित की गई और केवल लोहे की स्क्रैप यानी कबाड़ सामग्री फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी कराकर पूरी पारदर्शिता एवं पूरी प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है। उन्होंने बताया कि इस बार निगम को पहली बार खनन में ऐतिहासिक तौर पर सर्वाधिक लाभ होने जा रहा है। वहीं गैस के लिए सभी एजेंसियों से संबंधित अनियमितताओं के लिए नंबर जारी किया गया, लेकिन एक भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन कर्मचारी महासंघ ने किया निगम के जीएमवीएन से एकीकरण का विरोध

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जून 2019। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के कर्मचारी महासंघ ने केएमवीएन के जीएमवीएन के साथ एकीकरण करने के निगम के निदेशक मंडल के निर्णय का पुरजोर विरोध करने का ऐलान किया है। महासंघ अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बुधवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिये कहा कि निगम प्रशासन ने कर्मचारी संगठनों को विश्वास में लिये बिना यह प्रस्ताव पारित किया है। बताया कि पूर्व में दो बार संगठन की पर्यटन सचिव से देहरादून में एकीकरण के संबंध में बैठक में महासंघ ने शासन को दोनों निगमों के एकीकरण का पुरजोर विरोध किया था, तथा कहा था कि सरकार की मंशा यदि सही है तो सरकार दोनों निगमों को उत्तराखंड पर्यटन परिषद में समायोजित करे। उन्होंने निगम प्रशासन व शासन से मांग की कि एकीकरण से पूर्व दोनों निगमों में कार्यरत संविदा कर्मियों को नियमितीकरण एवं वेतन विसंगतियां दूर करे तथा कर्मचारियों के लंबित देयकों का भुगतान करे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही दोनों निगमों के कर्मचारी संगठनों की देहरादून में बैठक आहूत कर भावी रणनीति के तहत आंदोलन किया जाएगा। निगमों में किसी भी आवास गृह को निजी क्षेत्र में देने का भी पुरजोर विरोध किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को हुई केएमवीएन की निदेशक मंडल की बैठक में केएमवीएन के जीएमवीएन में एकीकरण के साथ ही कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने, पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेने और काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी तथा लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन बोर्ड ने किया बड़ा फैसला : करेंगे जीएमवीएन के साथ एकीकरण

केएमवीएन बोर्ड बैठक में एककीकरण के प्रस्ताव को दी मंजूरी  नवीन समाचार, नैनीताल, 25 जून 2019। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने प्रदेश के दूसरे गढ़वाल मंडल विकास निगम के साथ एकीकरण के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। निगम के टीआरसी सूखाताल में मंगलवार को हुई बोर्ड बैठक में इस प्रस्ताव को औपचारिक मंजूरी दे दी गई है। बैठक में निगम के कर्मचारियों के डीए में तीन प्रतिशत वृद्धि को भी मंजूर कर लिया गया। अब कर्मचारियों को 12 प्रतिशत डीए मिलेगा। निगम में एक हजार एक सौ से अधिक कर्मचारी हैं। इनमें 566 रेगुलर हैं। निगम के अध्यक्ष केदार दत्त जोशी अध्यक्षता में हुई बैठक में एकीकरण की कवायद पर चर्चा की गई। इसमें गढ़वाल व कुमाऊं मंडल विकास निगम को एक निगम के अधीन करने का प्रस्ताव है। बोर्ड ने सरकार के इस प्रस्ताव को दीर्घकालिक हित में उचित बताते हुए मंजूर कर लिया। कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने को भी मंजूरी दी गई, जो जनवरी 2019 से देय होगा। इससे निगम पर करीब पांच लाख रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए तय किया गया कि चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेकर इनकी हालत सुधारी जाएगी। बैठक में निगम के काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी को भी मंजूरी और लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई। बैठक का संचालन प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने किया। बैठक में निगम उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी, सदस्य तारा दत्त पांडे कुंदन बिष्ट, जीएम अशोक जोशी, दया सागर,  वित्त अधिकारी दिनेश राणा, गैस प्रभारी आरएस बिष्ट आदि लोग मौजूद रहे। 

महासंघ की निगम मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन की धमकी

नैनीताल। कुमाऊं मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष दिनेश चंद्र गुरुरानी ने निगम प्रशासन से 30 जून तक कर्मचारियों की वरियता सूची व संविदा कर्मियों को नियमितीकरण सहमति के तहत कर्मचारियों के व्यक्तिगत प्रकरणों पर कार्रवाई करने की मांग की है। कहा कि पर्यटन कक्ष के कर्मचारियों को दो माह से बिना किसी वजह से वेतन नहीं दिया जा रहा है जो श्रम नियमावली का खुला उल्लंघन है। कहा कि यदि कर्मियों को जल्द वेतन नहीं दिया जाता है तो महासंघ जुलाई के पहले सप्ताह से निगम मुख्यालय में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होगा। गुरुरानी ने कहा कि किसी भी कर्मचारी का उत्पीडन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कहा कि जल्द ही महासंघ की कार्यकारिणी का विस्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : रेनू अधिकारी ने उपाध्यक्ष व कुंदन ने निदेशक पद का पदभार संभाला, बदला निगम के एमडी का प्रभार भी…

केएमवीएन के मुख्यालय पहुंचने पर निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी का पुष्पगुच्छ से स्वागत करते निगम के जीएम अशोक जोशी व अन्य।

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 मई 2019। लोक सभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले ही केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष पद पर नामित हल्द्वानी की पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष रेनू अधिकारी एवं निदेशक पद पर नामित भाजपा ने नगर मंडल महामंत्री कुंदन बिष्ट ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया है। इस अवसर पर श्रीमती अधिकारी ने कहा कि निगम की स्थितियों को सुधारने के लिए निगम के कर्मचारियों को साथ लेकर और सबके अनुभवों का लाभ लेकर कार्य करेंगी। खासकर कर्मचारियों की सरकार के स्तर पर लंबित समस्याओं का समाधान करने के लिए पुल के रूप में कार्य करेंगी। निगम में उनका फोकस पर्यटन के क्षेत्र पर रहेगा। इसके लिए सभी पर्यटक आवास गृहों का स्वयं जाकर निरीक्षण कर बेहतरी के उपाय तलाशेंगी। केएमवीएन एवं जीएमवीएन के एकीकरण पर ‘नवीन समाचार’ द्वारा पूछे गये प्रश्न पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री की जो भी मंशा होगी, उसी अनुरूप कार्य किया जाएगा।
इससे पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर टीआरएच सूखाताल में निगम के जीएम अशोक जोशी तथा विधायक संजीव आर्य एवं निगम के कर्मचारी नेताओं ने श्रीमती अधिकारी एवं कुंदन बिष्ट का पुष्पगुच्छ भेेंटकर स्वागत किया। जीएम अशोक जोशी ने खुलासा किया कि केएमवीएन का वार्षिक टर्नओवर 320 करोड़ रुपये का है, किंतु बीते वर्ष में निगम ने केवल 15 लाख रुपये का शुद्ध लाभ प्राप्त किया है। विधायक आर्य ने उम्मीद जताई कि रेनू के हल्द्वानी नगर पालिका अध्यक्ष पद के कार्यभार का अनुभव निगम को लाभ दिलाएगा। मंचासीन भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितिन कार्की ने पर्यटन के क्षेत्र में स्वरोजगार करने के इच्छुक युवाओं को विभिन्न लाइसेंस लेने के लिए निगम के अंतर्गत ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ स्थापित किये जाने का विचार दिया। संचालन नगर अध्यक्ष मनोज जोशी ने किया। इस मौके पर रेनू अधिकारी के पति महेंद्र अधिकारी, गोपाल रावत, मोहित रौतेला, मोहित साह, अशोक तिवाड़ी, विमल चौधरी, दीपक जोशी एवं कांग्रेस पार्टी के पूर्व नगर मंडल अध्यक्ष मारुति नंदन साह सहित अन्य भाजपा नेता एवं निगम के कर्मचारी मौजूद रहे।

नैनीताल के डीएम को मिला केएमवीएन के एमडी का अतिरिक्त प्रभार

नैनीताल। केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा के 15 दिन की लंबी छुट्टी पर जाने के कारण शासन ने नैनीताल के डीएम विनोद कुमार सुमन को केएमवीएन के एमडी के पद का अतिरिक्त कार्यभार सोंप दिया है। बताया गया है कि श्री मीणा की आईएएस पत्नी का लंबे समय से स्वास्थ्य काफी दिनों से चिंताजनक बना हुआ है। निगम के जीएम अशोक जोशी ने इसकी पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन के गेस्ट हाउस पिछले 5 वर्षों से भारी घाटे में, बने हैं सरकार पर बोझ

-सुरेंद्र सिंह जीना के सवाल के जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा

नवीन समाचार, देहरादून, 13 फ़रवरी 2019। दुनियाभर में होटल व्यवसाय फायदे के चलते निरंतर विकास कर रहा है, लेकिन उत्तराखंड की हालत बहुत पतली है। खासकर सरकारी गेस्ट हाउस तो सरकार के लिए एक तरह से बोझ बन गये हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले छह साल से लगातार घाटे में चल रहे हैं। हालांकि गढ़वाल में यह स्थिति सुधरी है और अब गेस्ट हाउस कमाने लगे हैं। विधानसभा में सुरेन्द्र सिंह जीना के सवाल के लिखित जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा कि कुमाऊं मंडल के पर्यटन आवास गृहों का रिकार्ड बहुत ही खराब है। 2013-14 के बाद आय व्यय का ब्योरा बता रहा है कि केएमवीएन के आवास गृह अब तक सरकार को करोड़ों का चूना लगा चुके हैं। 2013-14 में यहां 2.50 करोड़ का नुकसान हुआ, जबकि इसके अगले वर्षो में क्रमश: 45 लाख, 2.98 करोड़, 2.24 करोड़, 1.80 करोड़ और चालू वित्त वर्ष में भी दिसंबर तक 1.52 करोड़ का घाटा हो चुका है। इसके विपरीत गढ़वाल मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले दो साल से फायदे में हैं। 2017-18 में यहां 1.29 करोड़ का लाभ हुआ जबकि चालू वित्त वर्ष में दिसंबर तक 7.88 करोड़ का लाभ हो चुका है। उसके पूर्व के वर्षो में गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउस भी घाटे में चल रहे थे। वर्तमान में जीएमवीएन ने घाटे में चल रहे 8 पर्यटक आवास गृहों को लीज पर दिया हुआ है। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने भी छह आवास गृहों को लीज पर निजी संचालकों को दिया है। पर्यटन मंत्री ने बताया कि दोनों निगमों के सभी पर्यटक आवास गृहों का संचालन किया जा रहा है।

महाप्रबंधक विनीत तोमर

केएमवीएन ने अपने कार्मिकों को दिया एक और तोहफा
-छठे वेतनमान की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया
नवीन समाचार, नैनीताल, 11 नवंबर 2022। कुमाऊं मण्डल विकास निगम लिमिटेड वर्ष 2006 से अक्टूबर, 2022 तक सेवानिवृत्त हुए अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान करने जा रही है। बताया गया है कि इससे निगम पर 55 लाख रुपए का अतिरिक्त व्यय भार पड़ रहा है।
निगम के प्रबन्ध निदेशक विनीत तोमर ने बताया कि निगम के द्वारा अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय कुल 6.75 करोड़ की धनराशि के सापेक्ष 2.95 करोड़ की धनराशि दी जा चुकी है। निगम प्रबंधन द्वारा अपने आय के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार हेतु निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं, साथ ही कार्मिकों की देयताओं एवं हित लाभों के लिए भी लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इन्ही प्रयासों के तहत कार्मिकों का मनोबल बना रहे तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ प्राप्त हो सके, इस उद्देश्य से कर्मचारियों को एक और अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया जा रहा है। आगे भी निगम की आर्थिक स्थिति अनुकूल होने पर शेष धनराशि का भी भुगतान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : दीपावली पर कार्मिकों को 4000 रुपए अतिरिक्त मानदेय देगा केएमवीएन…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अक्तूबर 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम वित्तीय वर्ष 2021-2022 मे निगम में कार्यरत कार्मिकों को दीपावली पर अपने 4800 रुपए ग्रेड पे तक के सभी नियमित एवं संविदा कार्मिकों को चार हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय देने का निर्णय लिया है। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से दीपावली पर अपने प्रियजनों को शुभकामना संदेश दें मात्र 500 रुपए में… संपर्क करें 8077566792, 9412037779 पर, अपना संदेश भेजें saharanavinjoshi@gmail.com पर… यह भी पढ़ें : अधिवक्ताओं की कारें असामाजिक तत्वों के निशाने पर ! सप्ताह भर में ही एक और….

बताया गया है कि यह अतिरिक्त मानदेय एक तरह से बोनस की तरह है। वास्तव में निगम में अनुमन्य बोनस की दर काफी कम है। पिछले वर्ष निगम ने दीपावली पर प्रत्येक कार्मिक को दो हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय दिया था, जबकि इस वर्ष इस लिहाज से दोगुना अतिरिक्त मानदेय दिया गया है। यह भी पढ़ें : नवविवाहिता बहु से 65 वर्षीय ससुर ने किया दुष्कर्म….

निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर के हवाले से महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि करीब एक हजार कार्मिकों को इस अतिरिक्त मानदेय का लाभ मिलेगा। इससे निगम पर अतिरिक्त रूप से 40 लाख रुपए का व्यय भार पड़ेगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 8.26 करोड के लाभ से प्रफुल्लित केएमवीएन इस माह से कर्मियों को 3 फीसद अतिरिक्त डीए देगा..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 अगस्त 2022। पूर्व में लगातार घाटे में चलने के लिए अभिशप्त केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड ने इस वर्ष 826.72 लाख रुपए का लाभ अर्जित किया है। निगम ने इस वर्ष कई वर्षों के बाद अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों को लक्ष्य दिए और इस वर्ष अच्छा पर्यटक सीजन चलने के साथ तीन माह में ही 44 फीसद से अधिक लक्ष्य पूरे भी कर लिए हैं। इससे प्रफुल्लित निगम प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों को 1 जुलाई 2022 यानी पिछले माह यानी इस अगस्त माह के वेतन में 31 की जगह 34 यानी 3 फीसद अधिक डीए यानी महंगाई भत्ता देने की घोषणा की है। इससे निगम पर 42 लाख रुपए का अतिरिक्त वार्षिक भार पड़ेगा। यह भी पढ़ें : बड़ा शातिर निकला छोटा खान, 5 साल से शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध एक से बनाए, शादी दूसरी से कर ली….

निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेई ने महाप्रबंधक विनीत तोमर के हवाले से बताया कि करीब एक दशक के बाद निगम ने अपने टीआरएच को इस वित्तीय वर्ष के लिए करीब 20 करोड़ का लक्ष्य दिया था, इसके सापेक्ष ए श्रेणी के 14 टीआरएच ने 44.53, बी श्रेणी के 16 टीआरएच ने 38.52 एवं सी श्रेणी के 14 टीआरएच ने 27.53 करोड़ के लक्ष्य प्राप्त कर लिए हैं। इस प्रकार पर्यटन के क्षेत्र में निगम ने 372.03 लाख, गैस, जड़ी-बूटी आदि के विपणन से 341.34 लाख, खनन से 114.93 लाख, निर्माण से 27.82 लाख, रज्जु मार्ग से 86.3 लाख सहित कुल 826.72 लाख का लाभ अर्जित किया है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

यह भी बताया कि निगम ने पिछले वित्तीय वर्ष के अंतर्गत जनवरी 2022 में अपने कार्मिकों को 74 लाख रुपए छठे वेतन आयोग के व 11 फीसद महंगाई भत्ता, मार्च 2022 में 60 लाख ग्रेज्युटी के, अप्रैल 2022 में 3 फीसद महंगाई भत्ता व संविदा कर्मियों के वेतन में 800 से 1200 रुपए की वृद्धि, जून 2022 में ग्रेज्युटी के 2085 करोड़ व छठे वेतन आयोग के एरियर के 63 लाख रुपए दिए गए हैं, जबकि इधर अगस्त माह में ग्रेज्युटी के 1.2 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि इस पर निगम के कर्मचारी व उनके संगठन भी खुश होंगे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कार्मिकों पर मेहरबान केएमवीएन, अभी दिए करीब सवा करोड़, इस साल दे चुके 5.25 करोड़

-इस वर्ष पांच माह में करीब सवा पांच करोड़ का भुगतान किया गया है

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मई 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने पिछले दो वर्ष कोरोना की विषय परिस्थितियों को झेलने के बावजूद इस माह सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में 62 लाख रुपए की धनराशि की एक किश्त जारी की है। साथ ही ग्रेज्युटी के रूप में एक करोड़ 25 लाख रुपए का भुगतान किया है और अवकाश नगदीकरण में भी 40 लाख रुपए के अतिरिक्त भुगतान का निर्णय लिया है। इस प्रकार निगम सेवानिवृत्त कार्मिकों को करीब सवा करोड़ रुपए की धनराशि दी जानी है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी ने बताया कि इस प्रकार जनवरी माह से अब तक यानी 5 माह में निगम प्रबंधन ने सेवानिवृत्त कार्मिकों के ग्रेज्युटी मद में 285 लाख व छठे वेतनमान के एरियर के रूप में दो किस्तों में 145 लाख तथा अवकाश नगदीकरण के रूप में 90 लाख यानी कुल लगभग सवा 5 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। यह भी बताया कि निगम के द्वारा अप्रैल 2022 में सेवानिवृत्त कार्मिकों के डीए में 3 फीसद की वृद्धि की है, तथा अप्रैल 2022 से ही संविदा कार्मिकों के मानदेय में तृतीय श्रेणी में 1,200 और चतुर्थ श्रेणी में 800 रुपए प्रतिमाह की बढ़ोत्तरी की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन में नए एमडी तोमर ने संभाला कार्यभार

Vineet Tomar IAS posted as DM- Champawat, Uttarakhand | Indian Bureaucracy  is an Exclusive News Portalडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 अप्रैल 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास के नए एमडी यानी प्रबंधन निदेशक के पद पर 2014 बैच के आईएएस अधिकारी विनीत तोमर ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस अवसर पर श्री तोमर ने निगम की आय बढ़ाने के लिए हर संभव उपाय करने की बात कहीं।

उल्लेखनीय है कि मैकेनिकल इंजीनियर भी रही श्री तोमर इससे पूर्व चंपावत के डीएम रहे हैं। गत 22 अप्रैल को उनकी जगह केएमवीएम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी को चंपावत का नया डीएम बनाया गया तो उन्हें परिवहन निगम का एमडी बनाया गया था। किंतु पांच दिन बाद ही उनके स्थानांतरण आदेश को संशोधित कर उन्हें केएमवीएन का नया एमडी बनाया गया है। इस प्रकार श्री भंडारी एवं श्री तोमर ने एक-दूसरे को प्रतिस्थापित किया है। यह भी पढ़ें : हंगामे की भेंट चढ़ी उच्च न्यायालय के स्थानांतरण के मुद्दे पर आयोजित बार की बैठक, समर्थन में आए पूर्व में रहे विरोधी….

कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर श्री तोमर को निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इस मौके पर श्री तोमर ने आदि कैलाश यात्रा, गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप की यूनिटों में बेहतर कार्य करने की बात कही। कहा कि आदि कैलाश यात्रा में इस वर्ष 2000 लोगों को ले जाने का लक्ष्य रहेगा।

गरमपानी व सुनकिया में नए पेट्रोल पंप लगाने का कार्य गतिमान है। ताड़ीखेत, राइआगर पिथौरागढ़, नैनीताल में एरीज के पास एवं सिडकुल रुद्रपुर में पेट्रोल पंप खोलने की योजना है। घरेलू गैस की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने काठगोदाम व चंपावत में निगम की बंद पड़ी फैक्टरियों की भूमि का सदुपयोग करने की बात भी कही। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सैलानियों के लिए रोपवे और केव गार्डन का समय बढ़ा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 अप्रैल 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम द्वारा संचालित रोपवे केबल कार और केव गार्डन के खुलने का समय बढ़ा दिया गया है। नगर में सैलानियों के लिए यह दोनों बड़े आकर्षण अब तक सुबह साढ़े 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुलते थे, जबकि अब सैलानी सुबह आठ बजे से शाम 6 बजे तक केव गार्डन और रोपवे का सुबह आठ से साढ़े 6 बजे तक आनंद उठा सकेंगे।

के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी के हवाले से जीएम एपी बाजपेई ने बताया कि पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने की शुरू की पहल, आम्रपाली से मिलाया हाथ

एमओयू पर हस्ताक्षर करने के अवसर पर केएमवीएन एवं आम्रपाली के उच्चाधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मार्च 2022। पेशेवर राह पर आगे बढ़ने और समय से कदमताल करने की पहल के साथ केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम अपने पर्यटन से जुड़े कार्मिकों को सेवा के दौरान प्रशिक्षण देने की नई शुरुआत करने जा रहा है। इस हेतु निगम ने अगले दो वर्षों के लिए हल्द्वानी के आम्रपाली समूह से हाथ मिलाए हैं।

बुधवार को निगम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी, जीएम एपी वाजपेयी तथा पर्यटन विकास अधिकारी बच्ची राम आर्य की मौजूदगी में आम्रपाली समूह के निदेशक शैलेंद्र कुमार सिंह एवं आम्रपाली होटल मैनेजमेंट संस्थान के डीन प्रो. प्रशांत की मौजूदगी में एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। बताया गया कि प्रथम चरण में आसन्न ग्रीष्मकालीन पर्यटन सत्र शुरू होने से पूर्व निगम में कार्यरत प्रबंधकों, फ्रंट ऑफिस कार्मिकों, वेटर, रूम अटैंडेंट, हाउस कीपिंग स्टाफ तथा कुक आदि 150 कर्मियों को 5 बैचों में आम्रपाली संस्थान से 6 दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा।

निगम के एमडी श्री भंडारी ने इस अवसर पर कहा कि निगम वर्तमान में 46 पर्यटक आवास गृहों के साथ कैलाश मानसरोवर एवं आदि कैलाश यात्रा का संचालन करता है। पर्यटकों के सम्मुख निगम तथा राज्य सरकार की छवि आवास गृहों में कार्यरत कार्मिकों के आचरण एवं व्यवहार की कार्य कुशलता पर निर्भर करती है। इसलिए कार्मिकों को पर्यटन के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों तथा अन्य विधाओं से अवगत कराने तथा जानकारी को अद्यतन करने के लिए उन्हें सेवाकालीन प्रशिक्षण देकर उनका कौशल विकास करने का निर्णय लिया गया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन प्रबंधन ने कर्मचारियों को किया एरियर का भुगतान

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 नवंबर 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम प्रबंधन ने कर्मचारियों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय 6.75 करोड़ रुपए की धनराशि के सापेक्ष वर्ष 2019 तक के दो करोउ़ 19 लाख रुपए की धनराशि का भुगतान कर दिया है। साथ ही निगम प्रबंधन ने निगम की आय बढ़ाने के लिए किए गए विभिन्न प्रयासों के फलस्वरूप वर्ष 2006 से दिसंबर 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कार्मिकों को एक अतिरिक्त किस्त के रूप में 83 लाख रुपए का भुगतान भी कर दिया है।

निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि निगम प्रबंधन द्वारा अपनी आय के स्रोतों की वृद्धि हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार तथा कार्मिकों के देयों एवं हित लाभों के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि कार्मिकों का मनोबल बना रहे और सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ मिल सके। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : निगम महासंघ का 13 दिनों से चल रहा आंदोलन स्थगित

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 दिसंबर 2021। कुमाऊं गढ़वाल मंडल विकास निगम के संयुक्त कर्मचारी महासंघ ने शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद अपने आंदोलन को स्थगित कर दिया है। महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुरु रानी ने कहा कि देहरादून में प्रमुख सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर से हुई वार्ता में महासंघ के 12 सूत्रीय मांग पत्र पर चर्चा की गई।

इन मांगों पर पूर्व में शासन में 7 अक्टूबर को वार्ता हुई थी। जिसमें लिखित समझौता भी हुआ था उसे पूरा न करने पर महासंघ द्वारा 23 नवंबर से अनिश्चितकालीन आंदोलन प्रारंभ कर दिया गया था। आज शासन की ओर से नियमितीकरण की कार्यवाही शीघ्र शुरू करने, खनन के पट्टे निगम को देने, निगम के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करने संबंधी मांगों पर शीघ्र कार्रवाई के साथ ही पर्यटन सचिव द्वारा दोनों निगमों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिए गए कि वे निगम स्तर की समस्याओं का अविलंब समाधान हेतु महासंघ से वार्ता करें। इस पर आंदोलन स्थगित कर दिया गया है।

अलबत्ता गुरूरानी ने कहा कि दोनों निगमों में वेतन विसंगति है। गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा जहां कर्मचारियों का 11 फीसद महंगाई भत्ता दे दिया गया है वहीं कुमाऊं मंडल विकास में उनके प्रबंधन द्वारा अभी तक महंगाई भत्ता तक नहीं दिया। यदि किसी कर्मचारी का आंदोलन में शामिल होने पर उत्पीड़न किया गया तो महासंघ पुनः आंदोलन करेगा। आंदोलन स्थगित करने का निर्णय लेने में महामंत्री आशीष उनियाल गुमान सिंह कुमटिया, दिनेश सांगुडी, राजेश रमोला, जोगिंदर लाल, किशन पवार, विनोद तिवारी, रमेश कपकोटी, गौतम कुमार, कैलाश आर्यर्, दिव्यांशु रावत, नीता आर्य, कमला धानिक, जानकी आर्य, संदीप सहाय व ललित सहाय सहित अन्य निगम कर्मी शामिल रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने तैयार की मार्चूला को साहसिक खेलों का हब बनाने की डीपीआर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अगस्त 2021। साहसिक खेल गतिविधियों के माध्यम से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से नए पर्यटन स्थलों की तलाश करने के साथ उन्हें विकसित करने पर तेजी से काम किया जा रहा है। इसके तहत अल्मोड़ा के मार्चुला में एंगलिंग, पैराग्लाइडिंग, ट्रेल रन, माउंटेन बाइकिंग, रिवर, क्रॉसिंग, वॉटर रोलिंग, ऑफ-रोडिंग, हाइकिंग, सफारी जैसे साहसिक खेलों को विकसित करने के लिए उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) के अधिकारियों ने सोमवार को स्थलीय निरीक्षण किया गया है।

यूटीडीबी के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी-साहसिक पर्यटन कर्नल अश्विन पुंडीर ने बताया कि मार्चुला से भिकियासैंण तक होने वाले विकास कार्यों के लिए केएमवीएन की ओर से डीपीआर तैयार की गई है। क्षेत्र में पर्यटकों को बेहतर सुविधा देने के लिए विभाग की ओर से कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। मार्चुला में पर्यटकों को आवास और स्वादिष्ट भोजन के साथ अन्य सभी सुविधाएं दी जाएगी। इस मौके पर केएमवीएन के सहायक अभियंता मनोज महर्षिवाल, यूटीडटी के सुरेंद्र सिंह बोहरा और एंगलिंग विशेषज्ञ संजीव मौजूद रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन-जीएमवीएन कर्मचारी महासंघ के सिल्वर जुबली वर्ष में वार्षिक अधिवेशन का ऐलान

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2021। केएमवीएन-जीएमवीएन के संयुक्त कर्मचारी महासंघ का वार्षिक अधिवेशन आगामी 4 अगस्त को ऋषिकेश में होगा। जिसमें नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बताया कि महासंघ का गठन 30 अप्रैल 1995 को ग्वालदम स्थित पर्यटक आवास गृह में हुआ था। इस वर्ष महासंघ अपने 25 साल पूरे होने पर सिल्वर जुबली के अवसर पर पूर्व के पदाधिकारियों को सम्मानित करेगा। साथ ही नई रणनीति के तहत कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए मांग पत्र के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री से भी मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दोनों निगमों में लंबे समय से संविदा में कार्यरत कर्मचारियों का नियमितीकरण नहीं हुआ है। इसके साथ ही विभागीय पदोन्नतियों व अन्य प्रकरणों पर भी कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि अधिवेशन में कुमाऊं मंडल के पदाधिकारियों के साथ गढ़वाल मंडल के समस्त जनपदों के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को दोनों निगमों के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करते हुए अतिरिक्त मानदेय दिया जाना चाहिए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कर्मचारी नेता आशीष उनियाल, राजेश रमोला, मनमोहन चौधरी, सत्यपाल बिष्ट, किशन पवार आदि जुटे हुए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नए एमडी के साथ 50-60 करोड़ से बदलेगा केएमएवीएन के टीआरएच का कलेवर

-निगम की पेट्रोल पंप सैक्टर में भी आगे बढ़ने की योजना

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जुलाई 2021। कुमाऊं मंडल विकास निगम शीघ्र ही नए प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी की पहल पर अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों का सौंदर्यीकरण करने जा रहा है। श्री भंडारी ने इस तथा अपनी अन्य भावी योजनाओं के बारे में ‘नवीन समाचार’ को एक विशेष भेंट में बताया कि टीआरएच में सौंदर्यीकरण के कार्यों पर 50 से 60 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है।

उन्होंने बताया कि निगम के अच्छे, अधिक सैलानियों की पहुंच वाले सूखाताल, भीमताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, मुक्तेश्वर, काठगोदाम, रानीखेत, बिन्सर, पिथौरागढ़, रामगढ़ व कौसानी आदि के टीआरएच का जीर्णोद्धार व विस्तार करेगा। इसके अलावा दूसरे चरण में जागेश्वर, डीनापानी, अल्मोड़ा, मुन्स्यारी, मोहान व चौकोड़ी के पर्यटक आवास गृहों का भी सौंदर्यीकरण करने की योजना है। योजना के तहत सभी पर्यटक आवास गृहों का प्रवेश द्वार एवं बाह्य आवरण एकरूप एवं बेहतर करना है। साथ ही किचन एवं बाथरूम को बेहतर फिटिंग्स एवं फर्नीचर से युक्त करना है। इसके अलावा अब तक जहां निगम के टीआरएच उनके शहर के नाम के आधार पर जाने जाते हैं, वहीं अब टीआरएच को उनके अपने विशिष्ट नाम देने तथा आसपास के कुछ टीआरएच को एक चेन या श्रृंखला में लाने की भी योजना है। जैसे ‘परिचय’ नाम की श्रृंखला में नैनीताल, भीमताल, मुक्तेश्वर व नौकुचियाताल आदि टीआरएच शामिल होंगे।

श्री भंडारी ने बताया कि सभी टीआरएच के प्रवेश द्वारों को आकर्षक बनाया जाएगा। साथ ही जहां संभव होगा, वहां नए कक्षों का निर्माण करना एवं संभव न होने पर सुविधाओं को बेहतर करने की योजना है। ताकि अधिक संख्या में सैलानी यहां ठहर सकें। उन्हें कक्ष न मिल पाने की असुविधा न हो। इसके अलावा निगम अपने पर्यटक आवास गृहों में पर्यटकों की पहुंच बढ़ाने के लिए ‘मेक माइ ट्रिप’ एवं ‘गो आईबीबो’ सरीखी ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों के साथ भी अनुबंध करने जा रहा है। निगम की कोशिश है कि उसके आवास गृहों के कक्ष खाली न रहें। अधिक यात्री उन तक पहुंचें। इसके अलावा निगम पेट्रोल पंप सैक्टर में भी अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने जा रहा है। श्री भंडारी ने बताया कि सूखाताल पेट्रोल पंप के बेहतर अनुभव को देखते हुए निगम की अल्मोड़ा जनपद के ताड़ीखेत व नैनीताल जनपद के सुनकिया-मुक्तेश्वर में भी पेट्रोल पंप खोलने की कोशिश चल रही है। बताया कि ताड़ीखेत में पेट्रोल पंप लगना प्रारंभ हो गया है, जबकि सुनकिया के लिए आईओसी से बात चल रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन की निर्माण एजेंसी के रूप में पहचान बनाएंगे नए एमडी…

-निगम के नए एमडी नरेंद्र भंडारी ने कार्यभार संभालने के बाद जताया इरादा, पर्यटन क्षेत्र में बेहतर सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का जताया इरारा

केएमवीएन के नए एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जून 2021। नैनीताल जनपद में मुख्य विकास अधिकारी के रूप में यादगार कार्यकाल के बाद आईएएस अधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने शनिवार को केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक पद का कार्यभार संभाल लिया है। इस अवसर पर मूलतः इंजीनियर भी रहे भंडारी ने निगम को निर्माण एजेंसी के रूप में स्थापित करने एवं विशेषज्ञता हासिल करने का इरादा जताया। उन्होंने कहा कि राज्य में गुणवत्तायुक्त निर्माण एजेंसियों की कमी है। निगम चाहे तो 10, 20, 50 से 100 करोड़ रुपए तक के भी कार्य कर सकता है। वहीं पर्यटन के क्षेत्र में उन्होंने बेहतर सेवा-सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का इरादा जताया। कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों में ग्रामीणों को रात्रि में सैलानियों को खुले आकाश में सितारों के दर्शन कराने के लिए दूरबीनें उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके अलावा उन्होंने गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप आदि क्षेत्रों में भी कार्य करने की बात कही।

संदीप तिवारी ने संभाला सीडीओ पद का कार्यभार
नैनीताल। टिहरी से स्थानान्तरित होकर आये आईएएस संदीप तिवारी ने शनिवार पूर्वाह्न विकास भवन भीमताल में पूर्व मुख्य विकास अधिकारी नरेंद्र सिह भंडारी से कार्यभार ग्रहण किया। इस दौरान श्री तिवारी ने अधिकारियों से औपचारिक भेंट की तथा विकास भवन परिसर के कार्यालय का निरीक्षण भी किया, तथा कोविड की दृष्टि से विभागों द्वारा संचालित कार्यक्रमों एवं विभागीय योजनाओं की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : दो टीआरएच से निकला केएमवीएन की सभी समस्याओं का समाधान, निगम की भविष्य की योजनाओं की अध्यक्ष व एमडी ने दी जानकारी

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 फरवरी 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के अध्यक्ष केदार जोशी व प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि निगम के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृह-मोहान व परिचय नौकुचियाताल को 2.25 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष की दर पर 15 वर्ष के लिए लीज पर देकर 15 करोड़ रुपए का ऋण लिया जाएगा। लीज से मिलने वाली धनराशि से ऋण की किस्त चुकाई जाएंगी, साथ ही सूखाताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, भीमताल, मुक्तेश्वर, अल्मोड़ा, बिन्सर, डीनापानी रानीखेत, जागेश्वर, चौकोड़ी, रामगढ़, मोहान, कौसानी, काठगोदाम व परिचय टीआरएच में 23.5 करोड़ रुपयों की लागत से 100 कक्ष बढ़ाने के साथ ही निगम के 50 फीसद टीआरएच में 3स्टार की सुविधा व क्षमता विकास के साथ सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे।

पत्रकार वार्ता करते निगम के एमडी, अध्यक्ष व अन्य।

इस तरह निगम में 370 कक्षों की क्षमता हो जाएगी। इससे निगम की आय में हर वर्ष 4.5 से 5 करोड़ की वृद्धि होगी। साथ ही संविदा कर्मचारियों के मानदेय में मार्च से 1000 एवं इस वर्ष में कुल 3000 रुपए की वृद्धि की जाएगी। यह भी बताया कि निगम में 2 वर्ष की अवधि के लिए 21 लाख रुपए प्रतिवर्ष के मानदेय पर 5 स्टार सुविधाओं के टूरिज्म कंसल्टेंट एवं 30 हजार रुपए वेतन पर महाप्रबंधक सहित अन्य तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति कर निगम के कर्मियों को प्रशिक्षण देकर उनके कौशल वृद्धि का प्रबंध भी किया जाएगा। साथ ही एमडी रोहित मीणा ने 5 की जगह 18 खनन पट्टों के जरिये प्रति वर्ष 10 करोड़ एवं एक की जगह भवाली, ताड़ीखेत, कपकोट, काशीपुर व रुद्रपुर सहित करीब 10 नए पेट्रोल पंप स्थापित करने, निगम की सूखाताल स्थित पार्किंग की छत को हुनर हाट की तर्ज पर विकसित करने व यहां स्थानीय प्रतिभाओं को भी मंच उपलब्ध कराने, स्नोव्यू में डायनासोर थीम पार्क विकसित करने, केव गार्डन में लाइट, साउंड फाउंटेन शुरू करने व नए वित्तीय वर्ष में निगम के पुराने मुख्यालय भवन में मुख्यालय को पुर्नस्थापित करने की बात भी कही। वहीं अध्यक्ष कैलाश जोशी ने आदि कैलाश यात्रा को विकसित करने का इरादा भी जताया, और केएमवीएन व जीएमवीएन के एकीकरण के बावजूद दोनों निगमों का स्वतंत्र अस्तित्व बने रहने की बात भी कही।

यह भी पढ़ें : 11वें दिन भी जारी रहा केएमवीएन कर्मचारी महासंघ का अनूठा गांधीवादी आंदोलन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 27 अगस्त 2020। कुमाऊँ मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ कर्मचारियों का आंदोलन बृहस्पतिवार को 11वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान कर्मचारियों ने अपराह्न एक से दो बजे तक लंच की अवधि में काला फीता बांधकर कार्य बहिष्कार किया। साथ ही ‘एक पौधा धरती मां के नाम’ अभियान के तहत पौधारोपण व स्वच्छता कार्यक्रम चलाया। इस मौके पर महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने कहा कि ने जब तक मांगें पूरी नहीं होती हैं तब तक महासंघ गांधीवादी तरीके से उत्तराखंड में कर्मचारी संगठनों की ओर से किया जाने वाला अनोखा आंदोलन करता रहेगा। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन कर्मचारियों के प्रकरण पर संवेदनशील नहीं है। इतनी लंबी अवधि बीतने के बाद भी अधिकारियों द्वारा विभागीय पदोन्नतियां व नियमितीकरण सहित अन्य मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि निगम के आवास गृहों से क्वारंटाइन केंद्र हटाए जाएं एवं उनके रखरखाव के लिए धनराशि आवंटित की जाए। साथ ही निगम को आर्थिक पैकेज दिया जाए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंजुल सनवाल, रमेश प्रसाद, अशोक पांडे, दिनेश सांगुडी, गुमान सिंह कुमटिया, रवि साह व कैलाश बिष्ट प्रमुख रूप से शामिल रहे।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप https://chat.whatsapp.com/BXdT59sVppXJRoqYQQLlAp से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग: कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष ने लगाए निगम में भ्रष्टाचार के आरोप

केएमवीएन की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 फरवरी 2020। कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी ने निगम में अनियमितताओं का आरोप लगाया है। मंगलवार को प्रेस को जारी बयान में श्रीमती अधिकारी ने कहा कि बीते कुछ महीनो से उन्हें निगम के कार्यों में अनिमियताएं नजर आ रही हैं, जिन्हें वे उजागर करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री ने निगम में उपाध्यक्ष का दायित्व दिया है, जिसे उन्होंने पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से निभाने का संकल्प लिया है। कहा कि निगम की बंद फैक्टरियों में स्क्रैप के सामान की नीलामी में बड़ी धांधली का पता चला है।

बताया कि निगम की ओर से शीशमहल स्थित बंद पड़ी प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप की 14-15 लाख रुपए में बेचे जाने की निविदा निकाली गई थी, जबकि सामग्री वास्तव में 30-32 लाख की थी, लेकिन इसे बिना पुरानी कमेटी को भंग किए नई कमेटी गठित करके मात्र 8-8.5 लाख रुपए में ही बेच दिया गया। यही नहीं इच्छुक निविदादाताओं को स्क्रैप की पूरी सामग्री भी नहीं दिखाई गई। पुरानी समिति को भंग किये बिना नई समिति से बिक्री कराई गई और नई समिति ने पुरानी समिति से भी बात नहीं की। कहा कि निगम के कुछ अधिकारियों की अनियमितताओं के कारण निगम को आर्थिक क्षति झेलनी पड़ रही है। इस संबंध में निगम के एमडी से मामले की तत्काल जांच कर एक सप्ताह के भीतर आख्या देने को कहा गया है। कहा कि जांच पूरी होने के उपरान्त इस मामले को प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी अवगत करायेंगी। इस बारे में निगम के एमडी रोहित मीणा ने बात करने का प्रयास किया गया किंतु संपर्क नहीं हो पाया। अलबत्ता निगम के जीएम अशोक जोशी ने बताया कि स्क्रैप की पहली बार हुई नीलामी में कोई भी बोलीदाता कोई नहीं आया। दूसरी बार की नीलामी में किलो के रेट मांगकर तोलकर बेचा गया। बताया कि सामग्री तोलकर बेची गई है, और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी की गई है।

केएमवीएन के नये एमडी के रूप में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अध्यक्ष एवं जीएम के साथ पत्रकारों से बात करते आईएएस रोहित मीणा (File Photo)।

इस पर केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा ने कहा कि तीन-चार वर्ष पूर्व हल्द्वानी के स्थानीय स्क्रैप विक्रेताओं ने प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप का मूल्यांकन 32 से 35 लाख का किया था। इस दर पर दो बार निविदा आमंत्रित की गई, किंतु दोनों बार कोई निविदा प्राप्त नहीं हुई। इस पर प्रति किग्रा की दर से निविदा आमंत्रित की गई और केवल लोहे की स्क्रैप यानी कबाड़ सामग्री फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी कराकर पूरी पारदर्शिता एवं पूरी प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है। उन्होंने बताया कि इस बार निगम को पहली बार खनन में ऐतिहासिक तौर पर सर्वाधिक लाभ होने जा रहा है। वहीं गैस के लिए सभी एजेंसियों से संबंधित अनियमितताओं के लिए नंबर जारी किया गया, लेकिन एक भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन कर्मचारी महासंघ ने किया निगम के जीएमवीएन से एकीकरण का विरोध

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जून 2019। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के कर्मचारी महासंघ ने केएमवीएन के जीएमवीएन के साथ एकीकरण करने के निगम के निदेशक मंडल के निर्णय का पुरजोर विरोध करने का ऐलान किया है। महासंघ अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बुधवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिये कहा कि निगम प्रशासन ने कर्मचारी संगठनों को विश्वास में लिये बिना यह प्रस्ताव पारित किया है। बताया कि पूर्व में दो बार संगठन की पर्यटन सचिव से देहरादून में एकीकरण के संबंध में बैठक में महासंघ ने शासन को दोनों निगमों के एकीकरण का पुरजोर विरोध किया था, तथा कहा था कि सरकार की मंशा यदि सही है तो सरकार दोनों निगमों को उत्तराखंड पर्यटन परिषद में समायोजित करे। उन्होंने निगम प्रशासन व शासन से मांग की कि एकीकरण से पूर्व दोनों निगमों में कार्यरत संविदा कर्मियों को नियमितीकरण एवं वेतन विसंगतियां दूर करे तथा कर्मचारियों के लंबित देयकों का भुगतान करे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही दोनों निगमों के कर्मचारी संगठनों की देहरादून में बैठक आहूत कर भावी रणनीति के तहत आंदोलन किया जाएगा। निगमों में किसी भी आवास गृह को निजी क्षेत्र में देने का भी पुरजोर विरोध किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को हुई केएमवीएन की निदेशक मंडल की बैठक में केएमवीएन के जीएमवीएन में एकीकरण के साथ ही कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने, पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेने और काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी तथा लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन बोर्ड ने किया बड़ा फैसला : करेंगे जीएमवीएन के साथ एकीकरण

केएमवीएन बोर्ड बैठक में एककीकरण के प्रस्ताव को दी मंजूरी  नवीन समाचार, नैनीताल, 25 जून 2019। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने प्रदेश के दूसरे गढ़वाल मंडल विकास निगम के साथ एकीकरण के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। निगम के टीआरसी सूखाताल में मंगलवार को हुई बोर्ड बैठक में इस प्रस्ताव को औपचारिक मंजूरी दे दी गई है। बैठक में निगम के कर्मचारियों के डीए में तीन प्रतिशत वृद्धि को भी मंजूर कर लिया गया। अब कर्मचारियों को 12 प्रतिशत डीए मिलेगा। निगम में एक हजार एक सौ से अधिक कर्मचारी हैं। इनमें 566 रेगुलर हैं। निगम के अध्यक्ष केदार दत्त जोशी अध्यक्षता में हुई बैठक में एकीकरण की कवायद पर चर्चा की गई। इसमें गढ़वाल व कुमाऊं मंडल विकास निगम को एक निगम के अधीन करने का प्रस्ताव है। बोर्ड ने सरकार के इस प्रस्ताव को दीर्घकालिक हित में उचित बताते हुए मंजूर कर लिया। कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने को भी मंजूरी दी गई, जो जनवरी 2019 से देय होगा। इससे निगम पर करीब पांच लाख रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए तय किया गया कि चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेकर इनकी हालत सुधारी जाएगी। बैठक में निगम के काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी को भी मंजूरी और लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई। बैठक का संचालन प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने किया। बैठक में निगम उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी, सदस्य तारा दत्त पांडे कुंदन बिष्ट, जीएम अशोक जोशी, दया सागर,  वित्त अधिकारी दिनेश राणा, गैस प्रभारी आरएस बिष्ट आदि लोग मौजूद रहे। 

महासंघ की निगम मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन की धमकी

नैनीताल। कुमाऊं मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष दिनेश चंद्र गुरुरानी ने निगम प्रशासन से 30 जून तक कर्मचारियों की वरियता सूची व संविदा कर्मियों को नियमितीकरण सहमति के तहत कर्मचारियों के व्यक्तिगत प्रकरणों पर कार्रवाई करने की मांग की है। कहा कि पर्यटन कक्ष के कर्मचारियों को दो माह से बिना किसी वजह से वेतन नहीं दिया जा रहा है जो श्रम नियमावली का खुला उल्लंघन है। कहा कि यदि कर्मियों को जल्द वेतन नहीं दिया जाता है तो महासंघ जुलाई के पहले सप्ताह से निगम मुख्यालय में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होगा। गुरुरानी ने कहा कि किसी भी कर्मचारी का उत्पीडन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कहा कि जल्द ही महासंघ की कार्यकारिणी का विस्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : रेनू अधिकारी ने उपाध्यक्ष व कुंदन ने निदेशक पद का पदभार संभाला, बदला निगम के एमडी का प्रभार भी…

केएमवीएन के मुख्यालय पहुंचने पर निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी का पुष्पगुच्छ से स्वागत करते निगम के जीएम अशोक जोशी व अन्य।

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 मई 2019। लोक सभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले ही केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष पद पर नामित हल्द्वानी की पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष रेनू अधिकारी एवं निदेशक पद पर नामित भाजपा ने नगर मंडल महामंत्री कुंदन बिष्ट ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया है। इस अवसर पर श्रीमती अधिकारी ने कहा कि निगम की स्थितियों को सुधारने के लिए निगम के कर्मचारियों को साथ लेकर और सबके अनुभवों का लाभ लेकर कार्य करेंगी। खासकर कर्मचारियों की सरकार के स्तर पर लंबित समस्याओं का समाधान करने के लिए पुल के रूप में कार्य करेंगी। निगम में उनका फोकस पर्यटन के क्षेत्र पर रहेगा। इसके लिए सभी पर्यटक आवास गृहों का स्वयं जाकर निरीक्षण कर बेहतरी के उपाय तलाशेंगी। केएमवीएन एवं जीएमवीएन के एकीकरण पर ‘नवीन समाचार’ द्वारा पूछे गये प्रश्न पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री की जो भी मंशा होगी, उसी अनुरूप कार्य किया जाएगा।
इससे पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर टीआरएच सूखाताल में निगम के जीएम अशोक जोशी तथा विधायक संजीव आर्य एवं निगम के कर्मचारी नेताओं ने श्रीमती अधिकारी एवं कुंदन बिष्ट का पुष्पगुच्छ भेेंटकर स्वागत किया। जीएम अशोक जोशी ने खुलासा किया कि केएमवीएन का वार्षिक टर्नओवर 320 करोड़ रुपये का है, किंतु बीते वर्ष में निगम ने केवल 15 लाख रुपये का शुद्ध लाभ प्राप्त किया है। विधायक आर्य ने उम्मीद जताई कि रेनू के हल्द्वानी नगर पालिका अध्यक्ष पद के कार्यभार का अनुभव निगम को लाभ दिलाएगा। मंचासीन भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितिन कार्की ने पर्यटन के क्षेत्र में स्वरोजगार करने के इच्छुक युवाओं को विभिन्न लाइसेंस लेने के लिए निगम के अंतर्गत ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ स्थापित किये जाने का विचार दिया। संचालन नगर अध्यक्ष मनोज जोशी ने किया। इस मौके पर रेनू अधिकारी के पति महेंद्र अधिकारी, गोपाल रावत, मोहित रौतेला, मोहित साह, अशोक तिवाड़ी, विमल चौधरी, दीपक जोशी एवं कांग्रेस पार्टी के पूर्व नगर मंडल अध्यक्ष मारुति नंदन साह सहित अन्य भाजपा नेता एवं निगम के कर्मचारी मौजूद रहे।

नैनीताल के डीएम को मिला केएमवीएन के एमडी का अतिरिक्त प्रभार

नैनीताल। केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा के 15 दिन की लंबी छुट्टी पर जाने के कारण शासन ने नैनीताल के डीएम विनोद कुमार सुमन को केएमवीएन के एमडी के पद का अतिरिक्त कार्यभार सोंप दिया है। बताया गया है कि श्री मीणा की आईएएस पत्नी का लंबे समय से स्वास्थ्य काफी दिनों से चिंताजनक बना हुआ है। निगम के जीएम अशोक जोशी ने इसकी पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन के गेस्ट हाउस पिछले 5 वर्षों से भारी घाटे में, बने हैं सरकार पर बोझ

-सुरेंद्र सिंह जीना के सवाल के जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा

नवीन समाचार, देहरादून, 13 फ़रवरी 2019। दुनियाभर में होटल व्यवसाय फायदे के चलते निरंतर विकास कर रहा है, लेकिन उत्तराखंड की हालत बहुत पतली है। खासकर सरकारी गेस्ट हाउस तो सरकार के लिए एक तरह से बोझ बन गये हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले छह साल से लगातार घाटे में चल रहे हैं। हालांकि गढ़वाल में यह स्थिति सुधरी है और अब गेस्ट हाउस कमाने लगे हैं। विधानसभा में सुरेन्द्र सिंह जीना के सवाल के लिखित जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा कि कुमाऊं मंडल के पर्यटन आवास गृहों का रिकार्ड बहुत ही खराब है। 2013-14 के बाद आय व्यय का ब्योरा बता रहा है कि केएमवीएन के आवास गृह अब तक सरकार को करोड़ों का चूना लगा चुके हैं। 2013-14 में यहां 2.50 करोड़ का नुकसान हुआ, जबकि इसके अगले वर्षो में क्रमश: 45 लाख, 2.98 करोड़, 2.24 करोड़, 1.80 करोड़ और चालू वित्त वर्ष में भी दिसंबर तक 1.52 करोड़ का घाटा हो चुका है। इसके विपरीत गढ़वाल मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले दो साल से फायदे में हैं। 2017-18 में यहां 1.29 करोड़ का लाभ हुआ जबकि चालू वित्त वर्ष में दिसंबर तक 7.88 करोड़ का लाभ हो चुका है। उसके पूर्व के वर्षो में गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउस भी घाटे में चल रहे थे। वर्तमान में जीएमवीएन ने घाटे में चल रहे 8 पर्यटक आवास गृहों को लीज पर दिया हुआ है। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने भी छह आवास गृहों को लीज पर निजी संचालकों को दिया है। पर्यटन मंत्री ने बताया कि दोनों निगमों के सभी पर्यटक आवास गृहों का संचालन किया जा रहा है।

महाप्रबंधक विनीत तोमर

केएमवीएन ने अपने कार्मिकों को दिया एक और तोहफा
-छठे वेतनमान की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया
नवीन समाचार, नैनीताल, 11 नवंबर 2022। कुमाऊं मण्डल विकास निगम लिमिटेड वर्ष 2006 से अक्टूबर, 2022 तक सेवानिवृत्त हुए अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान करने जा रही है। बताया गया है कि इससे निगम पर 55 लाख रुपए का अतिरिक्त व्यय भार पड़ रहा है।
निगम के प्रबन्ध निदेशक विनीत तोमर ने बताया कि निगम के द्वारा अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय कुल 6.75 करोड़ की धनराशि के सापेक्ष 2.95 करोड़ की धनराशि दी जा चुकी है। निगम प्रबंधन द्वारा अपने आय के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार हेतु निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं, साथ ही कार्मिकों की देयताओं एवं हित लाभों के लिए भी लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इन्ही प्रयासों के तहत कार्मिकों का मनोबल बना रहे तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ प्राप्त हो सके, इस उद्देश्य से कर्मचारियों को एक और अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया जा रहा है। आगे भी निगम की आर्थिक स्थिति अनुकूल होने पर शेष धनराशि का भी भुगतान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : दीपावली पर कार्मिकों को 4000 रुपए अतिरिक्त मानदेय देगा केएमवीएन…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अक्तूबर 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम वित्तीय वर्ष 2021-2022 मे निगम में कार्यरत कार्मिकों को दीपावली पर अपने 4800 रुपए ग्रेड पे तक के सभी नियमित एवं संविदा कार्मिकों को चार हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय देने का निर्णय लिया है। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से दीपावली पर अपने प्रियजनों को शुभकामना संदेश दें मात्र 500 रुपए में… संपर्क करें 8077566792, 9412037779 पर, अपना संदेश भेजें saharanavinjoshi@gmail.com पर… यह भी पढ़ें : अधिवक्ताओं की कारें असामाजिक तत्वों के निशाने पर ! सप्ताह भर में ही एक और….

बताया गया है कि यह अतिरिक्त मानदेय एक तरह से बोनस की तरह है। वास्तव में निगम में अनुमन्य बोनस की दर काफी कम है। पिछले वर्ष निगम ने दीपावली पर प्रत्येक कार्मिक को दो हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय दिया था, जबकि इस वर्ष इस लिहाज से दोगुना अतिरिक्त मानदेय दिया गया है। यह भी पढ़ें : नवविवाहिता बहु से 65 वर्षीय ससुर ने किया दुष्कर्म….

निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर के हवाले से महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि करीब एक हजार कार्मिकों को इस अतिरिक्त मानदेय का लाभ मिलेगा। इससे निगम पर अतिरिक्त रूप से 40 लाख रुपए का व्यय भार पड़ेगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 8.26 करोड के लाभ से प्रफुल्लित केएमवीएन इस माह से कर्मियों को 3 फीसद अतिरिक्त डीए देगा..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 अगस्त 2022। पूर्व में लगातार घाटे में चलने के लिए अभिशप्त केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड ने इस वर्ष 826.72 लाख रुपए का लाभ अर्जित किया है। निगम ने इस वर्ष कई वर्षों के बाद अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों को लक्ष्य दिए और इस वर्ष अच्छा पर्यटक सीजन चलने के साथ तीन माह में ही 44 फीसद से अधिक लक्ष्य पूरे भी कर लिए हैं। इससे प्रफुल्लित निगम प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों को 1 जुलाई 2022 यानी पिछले माह यानी इस अगस्त माह के वेतन में 31 की जगह 34 यानी 3 फीसद अधिक डीए यानी महंगाई भत्ता देने की घोषणा की है। इससे निगम पर 42 लाख रुपए का अतिरिक्त वार्षिक भार पड़ेगा। यह भी पढ़ें : बड़ा शातिर निकला छोटा खान, 5 साल से शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध एक से बनाए, शादी दूसरी से कर ली….

निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेई ने महाप्रबंधक विनीत तोमर के हवाले से बताया कि करीब एक दशक के बाद निगम ने अपने टीआरएच को इस वित्तीय वर्ष के लिए करीब 20 करोड़ का लक्ष्य दिया था, इसके सापेक्ष ए श्रेणी के 14 टीआरएच ने 44.53, बी श्रेणी के 16 टीआरएच ने 38.52 एवं सी श्रेणी के 14 टीआरएच ने 27.53 करोड़ के लक्ष्य प्राप्त कर लिए हैं। इस प्रकार पर्यटन के क्षेत्र में निगम ने 372.03 लाख, गैस, जड़ी-बूटी आदि के विपणन से 341.34 लाख, खनन से 114.93 लाख, निर्माण से 27.82 लाख, रज्जु मार्ग से 86.3 लाख सहित कुल 826.72 लाख का लाभ अर्जित किया है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

यह भी बताया कि निगम ने पिछले वित्तीय वर्ष के अंतर्गत जनवरी 2022 में अपने कार्मिकों को 74 लाख रुपए छठे वेतन आयोग के व 11 फीसद महंगाई भत्ता, मार्च 2022 में 60 लाख ग्रेज्युटी के, अप्रैल 2022 में 3 फीसद महंगाई भत्ता व संविदा कर्मियों के वेतन में 800 से 1200 रुपए की वृद्धि, जून 2022 में ग्रेज्युटी के 2085 करोड़ व छठे वेतन आयोग के एरियर के 63 लाख रुपए दिए गए हैं, जबकि इधर अगस्त माह में ग्रेज्युटी के 1.2 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि इस पर निगम के कर्मचारी व उनके संगठन भी खुश होंगे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कार्मिकों पर मेहरबान केएमवीएन, अभी दिए करीब सवा करोड़, इस साल दे चुके 5.25 करोड़

-इस वर्ष पांच माह में करीब सवा पांच करोड़ का भुगतान किया गया है

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मई 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने पिछले दो वर्ष कोरोना की विषय परिस्थितियों को झेलने के बावजूद इस माह सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में 62 लाख रुपए की धनराशि की एक किश्त जारी की है। साथ ही ग्रेज्युटी के रूप में एक करोड़ 25 लाख रुपए का भुगतान किया है और अवकाश नगदीकरण में भी 40 लाख रुपए के अतिरिक्त भुगतान का निर्णय लिया है। इस प्रकार निगम सेवानिवृत्त कार्मिकों को करीब सवा करोड़ रुपए की धनराशि दी जानी है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी ने बताया कि इस प्रकार जनवरी माह से अब तक यानी 5 माह में निगम प्रबंधन ने सेवानिवृत्त कार्मिकों के ग्रेज्युटी मद में 285 लाख व छठे वेतनमान के एरियर के रूप में दो किस्तों में 145 लाख तथा अवकाश नगदीकरण के रूप में 90 लाख यानी कुल लगभग सवा 5 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। यह भी बताया कि निगम के द्वारा अप्रैल 2022 में सेवानिवृत्त कार्मिकों के डीए में 3 फीसद की वृद्धि की है, तथा अप्रैल 2022 से ही संविदा कार्मिकों के मानदेय में तृतीय श्रेणी में 1,200 और चतुर्थ श्रेणी में 800 रुपए प्रतिमाह की बढ़ोत्तरी की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन में नए एमडी तोमर ने संभाला कार्यभार

Vineet Tomar IAS posted as DM- Champawat, Uttarakhand | Indian Bureaucracy  is an Exclusive News Portalडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 अप्रैल 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास के नए एमडी यानी प्रबंधन निदेशक के पद पर 2014 बैच के आईएएस अधिकारी विनीत तोमर ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस अवसर पर श्री तोमर ने निगम की आय बढ़ाने के लिए हर संभव उपाय करने की बात कहीं।

उल्लेखनीय है कि मैकेनिकल इंजीनियर भी रही श्री तोमर इससे पूर्व चंपावत के डीएम रहे हैं। गत 22 अप्रैल को उनकी जगह केएमवीएम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी को चंपावत का नया डीएम बनाया गया तो उन्हें परिवहन निगम का एमडी बनाया गया था। किंतु पांच दिन बाद ही उनके स्थानांतरण आदेश को संशोधित कर उन्हें केएमवीएन का नया एमडी बनाया गया है। इस प्रकार श्री भंडारी एवं श्री तोमर ने एक-दूसरे को प्रतिस्थापित किया है। यह भी पढ़ें : हंगामे की भेंट चढ़ी उच्च न्यायालय के स्थानांतरण के मुद्दे पर आयोजित बार की बैठक, समर्थन में आए पूर्व में रहे विरोधी….

कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर श्री तोमर को निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इस मौके पर श्री तोमर ने आदि कैलाश यात्रा, गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप की यूनिटों में बेहतर कार्य करने की बात कही। कहा कि आदि कैलाश यात्रा में इस वर्ष 2000 लोगों को ले जाने का लक्ष्य रहेगा।

गरमपानी व सुनकिया में नए पेट्रोल पंप लगाने का कार्य गतिमान है। ताड़ीखेत, राइआगर पिथौरागढ़, नैनीताल में एरीज के पास एवं सिडकुल रुद्रपुर में पेट्रोल पंप खोलने की योजना है। घरेलू गैस की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने काठगोदाम व चंपावत में निगम की बंद पड़ी फैक्टरियों की भूमि का सदुपयोग करने की बात भी कही। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सैलानियों के लिए रोपवे और केव गार्डन का समय बढ़ा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 अप्रैल 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम द्वारा संचालित रोपवे केबल कार और केव गार्डन के खुलने का समय बढ़ा दिया गया है। नगर में सैलानियों के लिए यह दोनों बड़े आकर्षण अब तक सुबह साढ़े 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुलते थे, जबकि अब सैलानी सुबह आठ बजे से शाम 6 बजे तक केव गार्डन और रोपवे का सुबह आठ से साढ़े 6 बजे तक आनंद उठा सकेंगे।

के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी के हवाले से जीएम एपी बाजपेई ने बताया कि पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने की शुरू की पहल, आम्रपाली से मिलाया हाथ

एमओयू पर हस्ताक्षर करने के अवसर पर केएमवीएन एवं आम्रपाली के उच्चाधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मार्च 2022। पेशेवर राह पर आगे बढ़ने और समय से कदमताल करने की पहल के साथ केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम अपने पर्यटन से जुड़े कार्मिकों को सेवा के दौरान प्रशिक्षण देने की नई शुरुआत करने जा रहा है। इस हेतु निगम ने अगले दो वर्षों के लिए हल्द्वानी के आम्रपाली समूह से हाथ मिलाए हैं।

बुधवार को निगम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी, जीएम एपी वाजपेयी तथा पर्यटन विकास अधिकारी बच्ची राम आर्य की मौजूदगी में आम्रपाली समूह के निदेशक शैलेंद्र कुमार सिंह एवं आम्रपाली होटल मैनेजमेंट संस्थान के डीन प्रो. प्रशांत की मौजूदगी में एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। बताया गया कि प्रथम चरण में आसन्न ग्रीष्मकालीन पर्यटन सत्र शुरू होने से पूर्व निगम में कार्यरत प्रबंधकों, फ्रंट ऑफिस कार्मिकों, वेटर, रूम अटैंडेंट, हाउस कीपिंग स्टाफ तथा कुक आदि 150 कर्मियों को 5 बैचों में आम्रपाली संस्थान से 6 दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा।

निगम के एमडी श्री भंडारी ने इस अवसर पर कहा कि निगम वर्तमान में 46 पर्यटक आवास गृहों के साथ कैलाश मानसरोवर एवं आदि कैलाश यात्रा का संचालन करता है। पर्यटकों के सम्मुख निगम तथा राज्य सरकार की छवि आवास गृहों में कार्यरत कार्मिकों के आचरण एवं व्यवहार की कार्य कुशलता पर निर्भर करती है। इसलिए कार्मिकों को पर्यटन के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों तथा अन्य विधाओं से अवगत कराने तथा जानकारी को अद्यतन करने के लिए उन्हें सेवाकालीन प्रशिक्षण देकर उनका कौशल विकास करने का निर्णय लिया गया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन प्रबंधन ने कर्मचारियों को किया एरियर का भुगतान

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 नवंबर 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम प्रबंधन ने कर्मचारियों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय 6.75 करोड़ रुपए की धनराशि के सापेक्ष वर्ष 2019 तक के दो करोउ़ 19 लाख रुपए की धनराशि का भुगतान कर दिया है। साथ ही निगम प्रबंधन ने निगम की आय बढ़ाने के लिए किए गए विभिन्न प्रयासों के फलस्वरूप वर्ष 2006 से दिसंबर 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कार्मिकों को एक अतिरिक्त किस्त के रूप में 83 लाख रुपए का भुगतान भी कर दिया है।

निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि निगम प्रबंधन द्वारा अपनी आय के स्रोतों की वृद्धि हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार तथा कार्मिकों के देयों एवं हित लाभों के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि कार्मिकों का मनोबल बना रहे और सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ मिल सके। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : निगम महासंघ का 13 दिनों से चल रहा आंदोलन स्थगित

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 दिसंबर 2021। कुमाऊं गढ़वाल मंडल विकास निगम के संयुक्त कर्मचारी महासंघ ने शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद अपने आंदोलन को स्थगित कर दिया है। महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुरु रानी ने कहा कि देहरादून में प्रमुख सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर से हुई वार्ता में महासंघ के 12 सूत्रीय मांग पत्र पर चर्चा की गई।

इन मांगों पर पूर्व में शासन में 7 अक्टूबर को वार्ता हुई थी। जिसमें लिखित समझौता भी हुआ था उसे पूरा न करने पर महासंघ द्वारा 23 नवंबर से अनिश्चितकालीन आंदोलन प्रारंभ कर दिया गया था। आज शासन की ओर से नियमितीकरण की कार्यवाही शीघ्र शुरू करने, खनन के पट्टे निगम को देने, निगम के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करने संबंधी मांगों पर शीघ्र कार्रवाई के साथ ही पर्यटन सचिव द्वारा दोनों निगमों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिए गए कि वे निगम स्तर की समस्याओं का अविलंब समाधान हेतु महासंघ से वार्ता करें। इस पर आंदोलन स्थगित कर दिया गया है।

अलबत्ता गुरूरानी ने कहा कि दोनों निगमों में वेतन विसंगति है। गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा जहां कर्मचारियों का 11 फीसद महंगाई भत्ता दे दिया गया है वहीं कुमाऊं मंडल विकास में उनके प्रबंधन द्वारा अभी तक महंगाई भत्ता तक नहीं दिया। यदि किसी कर्मचारी का आंदोलन में शामिल होने पर उत्पीड़न किया गया तो महासंघ पुनः आंदोलन करेगा। आंदोलन स्थगित करने का निर्णय लेने में महामंत्री आशीष उनियाल गुमान सिंह कुमटिया, दिनेश सांगुडी, राजेश रमोला, जोगिंदर लाल, किशन पवार, विनोद तिवारी, रमेश कपकोटी, गौतम कुमार, कैलाश आर्यर्, दिव्यांशु रावत, नीता आर्य, कमला धानिक, जानकी आर्य, संदीप सहाय व ललित सहाय सहित अन्य निगम कर्मी शामिल रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने तैयार की मार्चूला को साहसिक खेलों का हब बनाने की डीपीआर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अगस्त 2021। साहसिक खेल गतिविधियों के माध्यम से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से नए पर्यटन स्थलों की तलाश करने के साथ उन्हें विकसित करने पर तेजी से काम किया जा रहा है। इसके तहत अल्मोड़ा के मार्चुला में एंगलिंग, पैराग्लाइडिंग, ट्रेल रन, माउंटेन बाइकिंग, रिवर, क्रॉसिंग, वॉटर रोलिंग, ऑफ-रोडिंग, हाइकिंग, सफारी जैसे साहसिक खेलों को विकसित करने के लिए उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) के अधिकारियों ने सोमवार को स्थलीय निरीक्षण किया गया है।

यूटीडीबी के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी-साहसिक पर्यटन कर्नल अश्विन पुंडीर ने बताया कि मार्चुला से भिकियासैंण तक होने वाले विकास कार्यों के लिए केएमवीएन की ओर से डीपीआर तैयार की गई है। क्षेत्र में पर्यटकों को बेहतर सुविधा देने के लिए विभाग की ओर से कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। मार्चुला में पर्यटकों को आवास और स्वादिष्ट भोजन के साथ अन्य सभी सुविधाएं दी जाएगी। इस मौके पर केएमवीएन के सहायक अभियंता मनोज महर्षिवाल, यूटीडटी के सुरेंद्र सिंह बोहरा और एंगलिंग विशेषज्ञ संजीव मौजूद रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन-जीएमवीएन कर्मचारी महासंघ के सिल्वर जुबली वर्ष में वार्षिक अधिवेशन का ऐलान

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2021। केएमवीएन-जीएमवीएन के संयुक्त कर्मचारी महासंघ का वार्षिक अधिवेशन आगामी 4 अगस्त को ऋषिकेश में होगा। जिसमें नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बताया कि महासंघ का गठन 30 अप्रैल 1995 को ग्वालदम स्थित पर्यटक आवास गृह में हुआ था। इस वर्ष महासंघ अपने 25 साल पूरे होने पर सिल्वर जुबली के अवसर पर पूर्व के पदाधिकारियों को सम्मानित करेगा। साथ ही नई रणनीति के तहत कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए मांग पत्र के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री से भी मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दोनों निगमों में लंबे समय से संविदा में कार्यरत कर्मचारियों का नियमितीकरण नहीं हुआ है। इसके साथ ही विभागीय पदोन्नतियों व अन्य प्रकरणों पर भी कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि अधिवेशन में कुमाऊं मंडल के पदाधिकारियों के साथ गढ़वाल मंडल के समस्त जनपदों के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को दोनों निगमों के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करते हुए अतिरिक्त मानदेय दिया जाना चाहिए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कर्मचारी नेता आशीष उनियाल, राजेश रमोला, मनमोहन चौधरी, सत्यपाल बिष्ट, किशन पवार आदि जुटे हुए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नए एमडी के साथ 50-60 करोड़ से बदलेगा केएमएवीएन के टीआरएच का कलेवर

-निगम की पेट्रोल पंप सैक्टर में भी आगे बढ़ने की योजना

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जुलाई 2021। कुमाऊं मंडल विकास निगम शीघ्र ही नए प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी की पहल पर अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों का सौंदर्यीकरण करने जा रहा है। श्री भंडारी ने इस तथा अपनी अन्य भावी योजनाओं के बारे में ‘नवीन समाचार’ को एक विशेष भेंट में बताया कि टीआरएच में सौंदर्यीकरण के कार्यों पर 50 से 60 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है।

उन्होंने बताया कि निगम के अच्छे, अधिक सैलानियों की पहुंच वाले सूखाताल, भीमताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, मुक्तेश्वर, काठगोदाम, रानीखेत, बिन्सर, पिथौरागढ़, रामगढ़ व कौसानी आदि के टीआरएच का जीर्णोद्धार व विस्तार करेगा। इसके अलावा दूसरे चरण में जागेश्वर, डीनापानी, अल्मोड़ा, मुन्स्यारी, मोहान व चौकोड़ी के पर्यटक आवास गृहों का भी सौंदर्यीकरण करने की योजना है। योजना के तहत सभी पर्यटक आवास गृहों का प्रवेश द्वार एवं बाह्य आवरण एकरूप एवं बेहतर करना है। साथ ही किचन एवं बाथरूम को बेहतर फिटिंग्स एवं फर्नीचर से युक्त करना है। इसके अलावा अब तक जहां निगम के टीआरएच उनके शहर के नाम के आधार पर जाने जाते हैं, वहीं अब टीआरएच को उनके अपने विशिष्ट नाम देने तथा आसपास के कुछ टीआरएच को एक चेन या श्रृंखला में लाने की भी योजना है। जैसे ‘परिचय’ नाम की श्रृंखला में नैनीताल, भीमताल, मुक्तेश्वर व नौकुचियाताल आदि टीआरएच शामिल होंगे।

श्री भंडारी ने बताया कि सभी टीआरएच के प्रवेश द्वारों को आकर्षक बनाया जाएगा। साथ ही जहां संभव होगा, वहां नए कक्षों का निर्माण करना एवं संभव न होने पर सुविधाओं को बेहतर करने की योजना है। ताकि अधिक संख्या में सैलानी यहां ठहर सकें। उन्हें कक्ष न मिल पाने की असुविधा न हो। इसके अलावा निगम अपने पर्यटक आवास गृहों में पर्यटकों की पहुंच बढ़ाने के लिए ‘मेक माइ ट्रिप’ एवं ‘गो आईबीबो’ सरीखी ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों के साथ भी अनुबंध करने जा रहा है। निगम की कोशिश है कि उसके आवास गृहों के कक्ष खाली न रहें। अधिक यात्री उन तक पहुंचें। इसके अलावा निगम पेट्रोल पंप सैक्टर में भी अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने जा रहा है। श्री भंडारी ने बताया कि सूखाताल पेट्रोल पंप के बेहतर अनुभव को देखते हुए निगम की अल्मोड़ा जनपद के ताड़ीखेत व नैनीताल जनपद के सुनकिया-मुक्तेश्वर में भी पेट्रोल पंप खोलने की कोशिश चल रही है। बताया कि ताड़ीखेत में पेट्रोल पंप लगना प्रारंभ हो गया है, जबकि सुनकिया के लिए आईओसी से बात चल रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन की निर्माण एजेंसी के रूप में पहचान बनाएंगे नए एमडी…

-निगम के नए एमडी नरेंद्र भंडारी ने कार्यभार संभालने के बाद जताया इरादा, पर्यटन क्षेत्र में बेहतर सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का जताया इरारा

केएमवीएन के नए एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जून 2021। नैनीताल जनपद में मुख्य विकास अधिकारी के रूप में यादगार कार्यकाल के बाद आईएएस अधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने शनिवार को केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक पद का कार्यभार संभाल लिया है। इस अवसर पर मूलतः इंजीनियर भी रहे भंडारी ने निगम को निर्माण एजेंसी के रूप में स्थापित करने एवं विशेषज्ञता हासिल करने का इरादा जताया। उन्होंने कहा कि राज्य में गुणवत्तायुक्त निर्माण एजेंसियों की कमी है। निगम चाहे तो 10, 20, 50 से 100 करोड़ रुपए तक के भी कार्य कर सकता है। वहीं पर्यटन के क्षेत्र में उन्होंने बेहतर सेवा-सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का इरादा जताया। कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों में ग्रामीणों को रात्रि में सैलानियों को खुले आकाश में सितारों के दर्शन कराने के लिए दूरबीनें उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके अलावा उन्होंने गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप आदि क्षेत्रों में भी कार्य करने की बात कही।

संदीप तिवारी ने संभाला सीडीओ पद का कार्यभार
नैनीताल। टिहरी से स्थानान्तरित होकर आये आईएएस संदीप तिवारी ने शनिवार पूर्वाह्न विकास भवन भीमताल में पूर्व मुख्य विकास अधिकारी नरेंद्र सिह भंडारी से कार्यभार ग्रहण किया। इस दौरान श्री तिवारी ने अधिकारियों से औपचारिक भेंट की तथा विकास भवन परिसर के कार्यालय का निरीक्षण भी किया, तथा कोविड की दृष्टि से विभागों द्वारा संचालित कार्यक्रमों एवं विभागीय योजनाओं की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : दो टीआरएच से निकला केएमवीएन की सभी समस्याओं का समाधान, निगम की भविष्य की योजनाओं की अध्यक्ष व एमडी ने दी जानकारी

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 फरवरी 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के अध्यक्ष केदार जोशी व प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि निगम के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृह-मोहान व परिचय नौकुचियाताल को 2.25 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष की दर पर 15 वर्ष के लिए लीज पर देकर 15 करोड़ रुपए का ऋण लिया जाएगा। लीज से मिलने वाली धनराशि से ऋण की किस्त चुकाई जाएंगी, साथ ही सूखाताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, भीमताल, मुक्तेश्वर, अल्मोड़ा, बिन्सर, डीनापानी रानीखेत, जागेश्वर, चौकोड़ी, रामगढ़, मोहान, कौसानी, काठगोदाम व परिचय टीआरएच में 23.5 करोड़ रुपयों की लागत से 100 कक्ष बढ़ाने के साथ ही निगम के 50 फीसद टीआरएच में 3स्टार की सुविधा व क्षमता विकास के साथ सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे।

पत्रकार वार्ता करते निगम के एमडी, अध्यक्ष व अन्य।

इस तरह निगम में 370 कक्षों की क्षमता हो जाएगी। इससे निगम की आय में हर वर्ष 4.5 से 5 करोड़ की वृद्धि होगी। साथ ही संविदा कर्मचारियों के मानदेय में मार्च से 1000 एवं इस वर्ष में कुल 3000 रुपए की वृद्धि की जाएगी। यह भी बताया कि निगम में 2 वर्ष की अवधि के लिए 21 लाख रुपए प्रतिवर्ष के मानदेय पर 5 स्टार सुविधाओं के टूरिज्म कंसल्टेंट एवं 30 हजार रुपए वेतन पर महाप्रबंधक सहित अन्य तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति कर निगम के कर्मियों को प्रशिक्षण देकर उनके कौशल वृद्धि का प्रबंध भी किया जाएगा। साथ ही एमडी रोहित मीणा ने 5 की जगह 18 खनन पट्टों के जरिये प्रति वर्ष 10 करोड़ एवं एक की जगह भवाली, ताड़ीखेत, कपकोट, काशीपुर व रुद्रपुर सहित करीब 10 नए पेट्रोल पंप स्थापित करने, निगम की सूखाताल स्थित पार्किंग की छत को हुनर हाट की तर्ज पर विकसित करने व यहां स्थानीय प्रतिभाओं को भी मंच उपलब्ध कराने, स्नोव्यू में डायनासोर थीम पार्क विकसित करने, केव गार्डन में लाइट, साउंड फाउंटेन शुरू करने व नए वित्तीय वर्ष में निगम के पुराने मुख्यालय भवन में मुख्यालय को पुर्नस्थापित करने की बात भी कही। वहीं अध्यक्ष कैलाश जोशी ने आदि कैलाश यात्रा को विकसित करने का इरादा भी जताया, और केएमवीएन व जीएमवीएन के एकीकरण के बावजूद दोनों निगमों का स्वतंत्र अस्तित्व बने रहने की बात भी कही।

यह भी पढ़ें : 11वें दिन भी जारी रहा केएमवीएन कर्मचारी महासंघ का अनूठा गांधीवादी आंदोलन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 27 अगस्त 2020। कुमाऊँ मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ कर्मचारियों का आंदोलन बृहस्पतिवार को 11वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान कर्मचारियों ने अपराह्न एक से दो बजे तक लंच की अवधि में काला फीता बांधकर कार्य बहिष्कार किया। साथ ही ‘एक पौधा धरती मां के नाम’ अभियान के तहत पौधारोपण व स्वच्छता कार्यक्रम चलाया। इस मौके पर महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने कहा कि ने जब तक मांगें पूरी नहीं होती हैं तब तक महासंघ गांधीवादी तरीके से उत्तराखंड में कर्मचारी संगठनों की ओर से किया जाने वाला अनोखा आंदोलन करता रहेगा। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन कर्मचारियों के प्रकरण पर संवेदनशील नहीं है। इतनी लंबी अवधि बीतने के बाद भी अधिकारियों द्वारा विभागीय पदोन्नतियां व नियमितीकरण सहित अन्य मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि निगम के आवास गृहों से क्वारंटाइन केंद्र हटाए जाएं एवं उनके रखरखाव के लिए धनराशि आवंटित की जाए। साथ ही निगम को आर्थिक पैकेज दिया जाए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंजुल सनवाल, रमेश प्रसाद, अशोक पांडे, दिनेश सांगुडी, गुमान सिंह कुमटिया, रवि साह व कैलाश बिष्ट प्रमुख रूप से शामिल रहे।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप https://chat.whatsapp.com/BXdT59sVppXJRoqYQQLlAp से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग: कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष ने लगाए निगम में भ्रष्टाचार के आरोप

केएमवीएन की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 फरवरी 2020। कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी ने निगम में अनियमितताओं का आरोप लगाया है। मंगलवार को प्रेस को जारी बयान में श्रीमती अधिकारी ने कहा कि बीते कुछ महीनो से उन्हें निगम के कार्यों में अनिमियताएं नजर आ रही हैं, जिन्हें वे उजागर करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री ने निगम में उपाध्यक्ष का दायित्व दिया है, जिसे उन्होंने पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से निभाने का संकल्प लिया है। कहा कि निगम की बंद फैक्टरियों में स्क्रैप के सामान की नीलामी में बड़ी धांधली का पता चला है।

बताया कि निगम की ओर से शीशमहल स्थित बंद पड़ी प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप की 14-15 लाख रुपए में बेचे जाने की निविदा निकाली गई थी, जबकि सामग्री वास्तव में 30-32 लाख की थी, लेकिन इसे बिना पुरानी कमेटी को भंग किए नई कमेटी गठित करके मात्र 8-8.5 लाख रुपए में ही बेच दिया गया। यही नहीं इच्छुक निविदादाताओं को स्क्रैप की पूरी सामग्री भी नहीं दिखाई गई। पुरानी समिति को भंग किये बिना नई समिति से बिक्री कराई गई और नई समिति ने पुरानी समिति से भी बात नहीं की। कहा कि निगम के कुछ अधिकारियों की अनियमितताओं के कारण निगम को आर्थिक क्षति झेलनी पड़ रही है। इस संबंध में निगम के एमडी से मामले की तत्काल जांच कर एक सप्ताह के भीतर आख्या देने को कहा गया है। कहा कि जांच पूरी होने के उपरान्त इस मामले को प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी अवगत करायेंगी। इस बारे में निगम के एमडी रोहित मीणा ने बात करने का प्रयास किया गया किंतु संपर्क नहीं हो पाया। अलबत्ता निगम के जीएम अशोक जोशी ने बताया कि स्क्रैप की पहली बार हुई नीलामी में कोई भी बोलीदाता कोई नहीं आया। दूसरी बार की नीलामी में किलो के रेट मांगकर तोलकर बेचा गया। बताया कि सामग्री तोलकर बेची गई है, और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी की गई है।

केएमवीएन के नये एमडी के रूप में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अध्यक्ष एवं जीएम के साथ पत्रकारों से बात करते आईएएस रोहित मीणा (File Photo)।

इस पर केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा ने कहा कि तीन-चार वर्ष पूर्व हल्द्वानी के स्थानीय स्क्रैप विक्रेताओं ने प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप का मूल्यांकन 32 से 35 लाख का किया था। इस दर पर दो बार निविदा आमंत्रित की गई, किंतु दोनों बार कोई निविदा प्राप्त नहीं हुई। इस पर प्रति किग्रा की दर से निविदा आमंत्रित की गई और केवल लोहे की स्क्रैप यानी कबाड़ सामग्री फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी कराकर पूरी पारदर्शिता एवं पूरी प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है। उन्होंने बताया कि इस बार निगम को पहली बार खनन में ऐतिहासिक तौर पर सर्वाधिक लाभ होने जा रहा है। वहीं गैस के लिए सभी एजेंसियों से संबंधित अनियमितताओं के लिए नंबर जारी किया गया, लेकिन एक भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन कर्मचारी महासंघ ने किया निगम के जीएमवीएन से एकीकरण का विरोध

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जून 2019। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के कर्मचारी महासंघ ने केएमवीएन के जीएमवीएन के साथ एकीकरण करने के निगम के निदेशक मंडल के निर्णय का पुरजोर विरोध करने का ऐलान किया है। महासंघ अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बुधवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिये कहा कि निगम प्रशासन ने कर्मचारी संगठनों को विश्वास में लिये बिना यह प्रस्ताव पारित किया है। बताया कि पूर्व में दो बार संगठन की पर्यटन सचिव से देहरादून में एकीकरण के संबंध में बैठक में महासंघ ने शासन को दोनों निगमों के एकीकरण का पुरजोर विरोध किया था, तथा कहा था कि सरकार की मंशा यदि सही है तो सरकार दोनों निगमों को उत्तराखंड पर्यटन परिषद में समायोजित करे। उन्होंने निगम प्रशासन व शासन से मांग की कि एकीकरण से पूर्व दोनों निगमों में कार्यरत संविदा कर्मियों को नियमितीकरण एवं वेतन विसंगतियां दूर करे तथा कर्मचारियों के लंबित देयकों का भुगतान करे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही दोनों निगमों के कर्मचारी संगठनों की देहरादून में बैठक आहूत कर भावी रणनीति के तहत आंदोलन किया जाएगा। निगमों में किसी भी आवास गृह को निजी क्षेत्र में देने का भी पुरजोर विरोध किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को हुई केएमवीएन की निदेशक मंडल की बैठक में केएमवीएन के जीएमवीएन में एकीकरण के साथ ही कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने, पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेने और काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी तथा लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन बोर्ड ने किया बड़ा फैसला : करेंगे जीएमवीएन के साथ एकीकरण

केएमवीएन बोर्ड बैठक में एककीकरण के प्रस्ताव को दी मंजूरी  नवीन समाचार, नैनीताल, 25 जून 2019। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने प्रदेश के दूसरे गढ़वाल मंडल विकास निगम के साथ एकीकरण के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। निगम के टीआरसी सूखाताल में मंगलवार को हुई बोर्ड बैठक में इस प्रस्ताव को औपचारिक मंजूरी दे दी गई है। बैठक में निगम के कर्मचारियों के डीए में तीन प्रतिशत वृद्धि को भी मंजूर कर लिया गया। अब कर्मचारियों को 12 प्रतिशत डीए मिलेगा। निगम में एक हजार एक सौ से अधिक कर्मचारी हैं। इनमें 566 रेगुलर हैं। निगम के अध्यक्ष केदार दत्त जोशी अध्यक्षता में हुई बैठक में एकीकरण की कवायद पर चर्चा की गई। इसमें गढ़वाल व कुमाऊं मंडल विकास निगम को एक निगम के अधीन करने का प्रस्ताव है। बोर्ड ने सरकार के इस प्रस्ताव को दीर्घकालिक हित में उचित बताते हुए मंजूर कर लिया। कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने को भी मंजूरी दी गई, जो जनवरी 2019 से देय होगा। इससे निगम पर करीब पांच लाख रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए तय किया गया कि चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेकर इनकी हालत सुधारी जाएगी। बैठक में निगम के काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी को भी मंजूरी और लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई। बैठक का संचालन प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने किया। बैठक में निगम उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी, सदस्य तारा दत्त पांडे कुंदन बिष्ट, जीएम अशोक जोशी, दया सागर,  वित्त अधिकारी दिनेश राणा, गैस प्रभारी आरएस बिष्ट आदि लोग मौजूद रहे। 

महासंघ की निगम मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन की धमकी

नैनीताल। कुमाऊं मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष दिनेश चंद्र गुरुरानी ने निगम प्रशासन से 30 जून तक कर्मचारियों की वरियता सूची व संविदा कर्मियों को नियमितीकरण सहमति के तहत कर्मचारियों के व्यक्तिगत प्रकरणों पर कार्रवाई करने की मांग की है। कहा कि पर्यटन कक्ष के कर्मचारियों को दो माह से बिना किसी वजह से वेतन नहीं दिया जा रहा है जो श्रम नियमावली का खुला उल्लंघन है। कहा कि यदि कर्मियों को जल्द वेतन नहीं दिया जाता है तो महासंघ जुलाई के पहले सप्ताह से निगम मुख्यालय में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होगा। गुरुरानी ने कहा कि किसी भी कर्मचारी का उत्पीडन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कहा कि जल्द ही महासंघ की कार्यकारिणी का विस्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : रेनू अधिकारी ने उपाध्यक्ष व कुंदन ने निदेशक पद का पदभार संभाला, बदला निगम के एमडी का प्रभार भी…

केएमवीएन के मुख्यालय पहुंचने पर निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी का पुष्पगुच्छ से स्वागत करते निगम के जीएम अशोक जोशी व अन्य।

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 मई 2019। लोक सभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले ही केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष पद पर नामित हल्द्वानी की पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष रेनू अधिकारी एवं निदेशक पद पर नामित भाजपा ने नगर मंडल महामंत्री कुंदन बिष्ट ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया है। इस अवसर पर श्रीमती अधिकारी ने कहा कि निगम की स्थितियों को सुधारने के लिए निगम के कर्मचारियों को साथ लेकर और सबके अनुभवों का लाभ लेकर कार्य करेंगी। खासकर कर्मचारियों की सरकार के स्तर पर लंबित समस्याओं का समाधान करने के लिए पुल के रूप में कार्य करेंगी। निगम में उनका फोकस पर्यटन के क्षेत्र पर रहेगा। इसके लिए सभी पर्यटक आवास गृहों का स्वयं जाकर निरीक्षण कर बेहतरी के उपाय तलाशेंगी। केएमवीएन एवं जीएमवीएन के एकीकरण पर ‘नवीन समाचार’ द्वारा पूछे गये प्रश्न पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री की जो भी मंशा होगी, उसी अनुरूप कार्य किया जाएगा।
इससे पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर टीआरएच सूखाताल में निगम के जीएम अशोक जोशी तथा विधायक संजीव आर्य एवं निगम के कर्मचारी नेताओं ने श्रीमती अधिकारी एवं कुंदन बिष्ट का पुष्पगुच्छ भेेंटकर स्वागत किया। जीएम अशोक जोशी ने खुलासा किया कि केएमवीएन का वार्षिक टर्नओवर 320 करोड़ रुपये का है, किंतु बीते वर्ष में निगम ने केवल 15 लाख रुपये का शुद्ध लाभ प्राप्त किया है। विधायक आर्य ने उम्मीद जताई कि रेनू के हल्द्वानी नगर पालिका अध्यक्ष पद के कार्यभार का अनुभव निगम को लाभ दिलाएगा। मंचासीन भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितिन कार्की ने पर्यटन के क्षेत्र में स्वरोजगार करने के इच्छुक युवाओं को विभिन्न लाइसेंस लेने के लिए निगम के अंतर्गत ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ स्थापित किये जाने का विचार दिया। संचालन नगर अध्यक्ष मनोज जोशी ने किया। इस मौके पर रेनू अधिकारी के पति महेंद्र अधिकारी, गोपाल रावत, मोहित रौतेला, मोहित साह, अशोक तिवाड़ी, विमल चौधरी, दीपक जोशी एवं कांग्रेस पार्टी के पूर्व नगर मंडल अध्यक्ष मारुति नंदन साह सहित अन्य भाजपा नेता एवं निगम के कर्मचारी मौजूद रहे।

नैनीताल के डीएम को मिला केएमवीएन के एमडी का अतिरिक्त प्रभार

नैनीताल। केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा के 15 दिन की लंबी छुट्टी पर जाने के कारण शासन ने नैनीताल के डीएम विनोद कुमार सुमन को केएमवीएन के एमडी के पद का अतिरिक्त कार्यभार सोंप दिया है। बताया गया है कि श्री मीणा की आईएएस पत्नी का लंबे समय से स्वास्थ्य काफी दिनों से चिंताजनक बना हुआ है। निगम के जीएम अशोक जोशी ने इसकी पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन के गेस्ट हाउस पिछले 5 वर्षों से भारी घाटे में, बने हैं सरकार पर बोझ

-सुरेंद्र सिंह जीना के सवाल के जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा

नवीन समाचार, देहरादून, 13 फ़रवरी 2019। दुनियाभर में होटल व्यवसाय फायदे के चलते निरंतर विकास कर रहा है, लेकिन उत्तराखंड की हालत बहुत पतली है। खासकर सरकारी गेस्ट हाउस तो सरकार के लिए एक तरह से बोझ बन गये हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले छह साल से लगातार घाटे में चल रहे हैं। हालांकि गढ़वाल में यह स्थिति सुधरी है और अब गेस्ट हाउस कमाने लगे हैं। विधानसभा में सुरेन्द्र सिंह जीना के सवाल के लिखित जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा कि कुमाऊं मंडल के पर्यटन आवास गृहों का रिकार्ड बहुत ही खराब है। 2013-14 के बाद आय व्यय का ब्योरा बता रहा है कि केएमवीएन के आवास गृह अब तक सरकार को करोड़ों का चूना लगा चुके हैं। 2013-14 में यहां 2.50 करोड़ का नुकसान हुआ, जबकि इसके अगले वर्षो में क्रमश: 45 लाख, 2.98 करोड़, 2.24 करोड़, 1.80 करोड़ और चालू वित्त वर्ष में भी दिसंबर तक 1.52 करोड़ का घाटा हो चुका है। इसके विपरीत गढ़वाल मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले दो साल से फायदे में हैं। 2017-18 में यहां 1.29 करोड़ का लाभ हुआ जबकि चालू वित्त वर्ष में दिसंबर तक 7.88 करोड़ का लाभ हो चुका है। उसके पूर्व के वर्षो में गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउस भी घाटे में चल रहे थे। वर्तमान में जीएमवीएन ने घाटे में चल रहे 8 पर्यटक आवास गृहों को लीज पर दिया हुआ है। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने भी छह आवास गृहों को लीज पर निजी संचालकों को दिया है। पर्यटन मंत्री ने बताया कि दोनों निगमों के सभी पर्यटक आवास गृहों का संचालन किया जा रहा है।

महाप्रबंधक विनीत तोमर

केएमवीएन ने अपने कार्मिकों को दिया एक और तोहफा
-छठे वेतनमान की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया
नवीन समाचार, नैनीताल, 11 नवंबर 2022। कुमाऊं मण्डल विकास निगम लिमिटेड वर्ष 2006 से अक्टूबर, 2022 तक सेवानिवृत्त हुए अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान करने जा रही है। बताया गया है कि इससे निगम पर 55 लाख रुपए का अतिरिक्त व्यय भार पड़ रहा है।
निगम के प्रबन्ध निदेशक विनीत तोमर ने बताया कि निगम के द्वारा अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय कुल 6.75 करोड़ की धनराशि के सापेक्ष 2.95 करोड़ की धनराशि दी जा चुकी है। निगम प्रबंधन द्वारा अपने आय के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार हेतु निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं, साथ ही कार्मिकों की देयताओं एवं हित लाभों के लिए भी लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इन्ही प्रयासों के तहत कार्मिकों का मनोबल बना रहे तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ प्राप्त हो सके, इस उद्देश्य से कर्मचारियों को एक और अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया जा रहा है। आगे भी निगम की आर्थिक स्थिति अनुकूल होने पर शेष धनराशि का भी भुगतान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : दीपावली पर कार्मिकों को 4000 रुपए अतिरिक्त मानदेय देगा केएमवीएन…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अक्तूबर 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम वित्तीय वर्ष 2021-2022 मे निगम में कार्यरत कार्मिकों को दीपावली पर अपने 4800 रुपए ग्रेड पे तक के सभी नियमित एवं संविदा कार्मिकों को चार हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय देने का निर्णय लिया है। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से दीपावली पर अपने प्रियजनों को शुभकामना संदेश दें मात्र 500 रुपए में… संपर्क करें 8077566792, 9412037779 पर, अपना संदेश भेजें saharanavinjoshi@gmail.com पर… यह भी पढ़ें : अधिवक्ताओं की कारें असामाजिक तत्वों के निशाने पर ! सप्ताह भर में ही एक और….

बताया गया है कि यह अतिरिक्त मानदेय एक तरह से बोनस की तरह है। वास्तव में निगम में अनुमन्य बोनस की दर काफी कम है। पिछले वर्ष निगम ने दीपावली पर प्रत्येक कार्मिक को दो हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय दिया था, जबकि इस वर्ष इस लिहाज से दोगुना अतिरिक्त मानदेय दिया गया है। यह भी पढ़ें : नवविवाहिता बहु से 65 वर्षीय ससुर ने किया दुष्कर्म….

निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर के हवाले से महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि करीब एक हजार कार्मिकों को इस अतिरिक्त मानदेय का लाभ मिलेगा। इससे निगम पर अतिरिक्त रूप से 40 लाख रुपए का व्यय भार पड़ेगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 8.26 करोड के लाभ से प्रफुल्लित केएमवीएन इस माह से कर्मियों को 3 फीसद अतिरिक्त डीए देगा..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 अगस्त 2022। पूर्व में लगातार घाटे में चलने के लिए अभिशप्त केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड ने इस वर्ष 826.72 लाख रुपए का लाभ अर्जित किया है। निगम ने इस वर्ष कई वर्षों के बाद अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों को लक्ष्य दिए और इस वर्ष अच्छा पर्यटक सीजन चलने के साथ तीन माह में ही 44 फीसद से अधिक लक्ष्य पूरे भी कर लिए हैं। इससे प्रफुल्लित निगम प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों को 1 जुलाई 2022 यानी पिछले माह यानी इस अगस्त माह के वेतन में 31 की जगह 34 यानी 3 फीसद अधिक डीए यानी महंगाई भत्ता देने की घोषणा की है। इससे निगम पर 42 लाख रुपए का अतिरिक्त वार्षिक भार पड़ेगा। यह भी पढ़ें : बड़ा शातिर निकला छोटा खान, 5 साल से शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध एक से बनाए, शादी दूसरी से कर ली….

निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेई ने महाप्रबंधक विनीत तोमर के हवाले से बताया कि करीब एक दशक के बाद निगम ने अपने टीआरएच को इस वित्तीय वर्ष के लिए करीब 20 करोड़ का लक्ष्य दिया था, इसके सापेक्ष ए श्रेणी के 14 टीआरएच ने 44.53, बी श्रेणी के 16 टीआरएच ने 38.52 एवं सी श्रेणी के 14 टीआरएच ने 27.53 करोड़ के लक्ष्य प्राप्त कर लिए हैं। इस प्रकार पर्यटन के क्षेत्र में निगम ने 372.03 लाख, गैस, जड़ी-बूटी आदि के विपणन से 341.34 लाख, खनन से 114.93 लाख, निर्माण से 27.82 लाख, रज्जु मार्ग से 86.3 लाख सहित कुल 826.72 लाख का लाभ अर्जित किया है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

यह भी बताया कि निगम ने पिछले वित्तीय वर्ष के अंतर्गत जनवरी 2022 में अपने कार्मिकों को 74 लाख रुपए छठे वेतन आयोग के व 11 फीसद महंगाई भत्ता, मार्च 2022 में 60 लाख ग्रेज्युटी के, अप्रैल 2022 में 3 फीसद महंगाई भत्ता व संविदा कर्मियों के वेतन में 800 से 1200 रुपए की वृद्धि, जून 2022 में ग्रेज्युटी के 2085 करोड़ व छठे वेतन आयोग के एरियर के 63 लाख रुपए दिए गए हैं, जबकि इधर अगस्त माह में ग्रेज्युटी के 1.2 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि इस पर निगम के कर्मचारी व उनके संगठन भी खुश होंगे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कार्मिकों पर मेहरबान केएमवीएन, अभी दिए करीब सवा करोड़, इस साल दे चुके 5.25 करोड़

-इस वर्ष पांच माह में करीब सवा पांच करोड़ का भुगतान किया गया है

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मई 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने पिछले दो वर्ष कोरोना की विषय परिस्थितियों को झेलने के बावजूद इस माह सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में 62 लाख रुपए की धनराशि की एक किश्त जारी की है। साथ ही ग्रेज्युटी के रूप में एक करोड़ 25 लाख रुपए का भुगतान किया है और अवकाश नगदीकरण में भी 40 लाख रुपए के अतिरिक्त भुगतान का निर्णय लिया है। इस प्रकार निगम सेवानिवृत्त कार्मिकों को करीब सवा करोड़ रुपए की धनराशि दी जानी है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी ने बताया कि इस प्रकार जनवरी माह से अब तक यानी 5 माह में निगम प्रबंधन ने सेवानिवृत्त कार्मिकों के ग्रेज्युटी मद में 285 लाख व छठे वेतनमान के एरियर के रूप में दो किस्तों में 145 लाख तथा अवकाश नगदीकरण के रूप में 90 लाख यानी कुल लगभग सवा 5 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। यह भी बताया कि निगम के द्वारा अप्रैल 2022 में सेवानिवृत्त कार्मिकों के डीए में 3 फीसद की वृद्धि की है, तथा अप्रैल 2022 से ही संविदा कार्मिकों के मानदेय में तृतीय श्रेणी में 1,200 और चतुर्थ श्रेणी में 800 रुपए प्रतिमाह की बढ़ोत्तरी की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन में नए एमडी तोमर ने संभाला कार्यभार

Vineet Tomar IAS posted as DM- Champawat, Uttarakhand | Indian Bureaucracy  is an Exclusive News Portalडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 अप्रैल 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास के नए एमडी यानी प्रबंधन निदेशक के पद पर 2014 बैच के आईएएस अधिकारी विनीत तोमर ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस अवसर पर श्री तोमर ने निगम की आय बढ़ाने के लिए हर संभव उपाय करने की बात कहीं।

उल्लेखनीय है कि मैकेनिकल इंजीनियर भी रही श्री तोमर इससे पूर्व चंपावत के डीएम रहे हैं। गत 22 अप्रैल को उनकी जगह केएमवीएम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी को चंपावत का नया डीएम बनाया गया तो उन्हें परिवहन निगम का एमडी बनाया गया था। किंतु पांच दिन बाद ही उनके स्थानांतरण आदेश को संशोधित कर उन्हें केएमवीएन का नया एमडी बनाया गया है। इस प्रकार श्री भंडारी एवं श्री तोमर ने एक-दूसरे को प्रतिस्थापित किया है। यह भी पढ़ें : हंगामे की भेंट चढ़ी उच्च न्यायालय के स्थानांतरण के मुद्दे पर आयोजित बार की बैठक, समर्थन में आए पूर्व में रहे विरोधी….

कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर श्री तोमर को निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इस मौके पर श्री तोमर ने आदि कैलाश यात्रा, गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप की यूनिटों में बेहतर कार्य करने की बात कही। कहा कि आदि कैलाश यात्रा में इस वर्ष 2000 लोगों को ले जाने का लक्ष्य रहेगा।

गरमपानी व सुनकिया में नए पेट्रोल पंप लगाने का कार्य गतिमान है। ताड़ीखेत, राइआगर पिथौरागढ़, नैनीताल में एरीज के पास एवं सिडकुल रुद्रपुर में पेट्रोल पंप खोलने की योजना है। घरेलू गैस की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने काठगोदाम व चंपावत में निगम की बंद पड़ी फैक्टरियों की भूमि का सदुपयोग करने की बात भी कही। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सैलानियों के लिए रोपवे और केव गार्डन का समय बढ़ा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 अप्रैल 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम द्वारा संचालित रोपवे केबल कार और केव गार्डन के खुलने का समय बढ़ा दिया गया है। नगर में सैलानियों के लिए यह दोनों बड़े आकर्षण अब तक सुबह साढ़े 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुलते थे, जबकि अब सैलानी सुबह आठ बजे से शाम 6 बजे तक केव गार्डन और रोपवे का सुबह आठ से साढ़े 6 बजे तक आनंद उठा सकेंगे।

के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी के हवाले से जीएम एपी बाजपेई ने बताया कि पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने की शुरू की पहल, आम्रपाली से मिलाया हाथ

एमओयू पर हस्ताक्षर करने के अवसर पर केएमवीएन एवं आम्रपाली के उच्चाधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मार्च 2022। पेशेवर राह पर आगे बढ़ने और समय से कदमताल करने की पहल के साथ केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम अपने पर्यटन से जुड़े कार्मिकों को सेवा के दौरान प्रशिक्षण देने की नई शुरुआत करने जा रहा है। इस हेतु निगम ने अगले दो वर्षों के लिए हल्द्वानी के आम्रपाली समूह से हाथ मिलाए हैं।

बुधवार को निगम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी, जीएम एपी वाजपेयी तथा पर्यटन विकास अधिकारी बच्ची राम आर्य की मौजूदगी में आम्रपाली समूह के निदेशक शैलेंद्र कुमार सिंह एवं आम्रपाली होटल मैनेजमेंट संस्थान के डीन प्रो. प्रशांत की मौजूदगी में एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। बताया गया कि प्रथम चरण में आसन्न ग्रीष्मकालीन पर्यटन सत्र शुरू होने से पूर्व निगम में कार्यरत प्रबंधकों, फ्रंट ऑफिस कार्मिकों, वेटर, रूम अटैंडेंट, हाउस कीपिंग स्टाफ तथा कुक आदि 150 कर्मियों को 5 बैचों में आम्रपाली संस्थान से 6 दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा।

निगम के एमडी श्री भंडारी ने इस अवसर पर कहा कि निगम वर्तमान में 46 पर्यटक आवास गृहों के साथ कैलाश मानसरोवर एवं आदि कैलाश यात्रा का संचालन करता है। पर्यटकों के सम्मुख निगम तथा राज्य सरकार की छवि आवास गृहों में कार्यरत कार्मिकों के आचरण एवं व्यवहार की कार्य कुशलता पर निर्भर करती है। इसलिए कार्मिकों को पर्यटन के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों तथा अन्य विधाओं से अवगत कराने तथा जानकारी को अद्यतन करने के लिए उन्हें सेवाकालीन प्रशिक्षण देकर उनका कौशल विकास करने का निर्णय लिया गया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन प्रबंधन ने कर्मचारियों को किया एरियर का भुगतान

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 नवंबर 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम प्रबंधन ने कर्मचारियों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय 6.75 करोड़ रुपए की धनराशि के सापेक्ष वर्ष 2019 तक के दो करोउ़ 19 लाख रुपए की धनराशि का भुगतान कर दिया है। साथ ही निगम प्रबंधन ने निगम की आय बढ़ाने के लिए किए गए विभिन्न प्रयासों के फलस्वरूप वर्ष 2006 से दिसंबर 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कार्मिकों को एक अतिरिक्त किस्त के रूप में 83 लाख रुपए का भुगतान भी कर दिया है।

निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि निगम प्रबंधन द्वारा अपनी आय के स्रोतों की वृद्धि हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार तथा कार्मिकों के देयों एवं हित लाभों के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि कार्मिकों का मनोबल बना रहे और सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ मिल सके। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : निगम महासंघ का 13 दिनों से चल रहा आंदोलन स्थगित

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 दिसंबर 2021। कुमाऊं गढ़वाल मंडल विकास निगम के संयुक्त कर्मचारी महासंघ ने शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद अपने आंदोलन को स्थगित कर दिया है। महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुरु रानी ने कहा कि देहरादून में प्रमुख सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर से हुई वार्ता में महासंघ के 12 सूत्रीय मांग पत्र पर चर्चा की गई।

इन मांगों पर पूर्व में शासन में 7 अक्टूबर को वार्ता हुई थी। जिसमें लिखित समझौता भी हुआ था उसे पूरा न करने पर महासंघ द्वारा 23 नवंबर से अनिश्चितकालीन आंदोलन प्रारंभ कर दिया गया था। आज शासन की ओर से नियमितीकरण की कार्यवाही शीघ्र शुरू करने, खनन के पट्टे निगम को देने, निगम के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करने संबंधी मांगों पर शीघ्र कार्रवाई के साथ ही पर्यटन सचिव द्वारा दोनों निगमों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिए गए कि वे निगम स्तर की समस्याओं का अविलंब समाधान हेतु महासंघ से वार्ता करें। इस पर आंदोलन स्थगित कर दिया गया है।

अलबत्ता गुरूरानी ने कहा कि दोनों निगमों में वेतन विसंगति है। गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा जहां कर्मचारियों का 11 फीसद महंगाई भत्ता दे दिया गया है वहीं कुमाऊं मंडल विकास में उनके प्रबंधन द्वारा अभी तक महंगाई भत्ता तक नहीं दिया। यदि किसी कर्मचारी का आंदोलन में शामिल होने पर उत्पीड़न किया गया तो महासंघ पुनः आंदोलन करेगा। आंदोलन स्थगित करने का निर्णय लेने में महामंत्री आशीष उनियाल गुमान सिंह कुमटिया, दिनेश सांगुडी, राजेश रमोला, जोगिंदर लाल, किशन पवार, विनोद तिवारी, रमेश कपकोटी, गौतम कुमार, कैलाश आर्यर्, दिव्यांशु रावत, नीता आर्य, कमला धानिक, जानकी आर्य, संदीप सहाय व ललित सहाय सहित अन्य निगम कर्मी शामिल रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने तैयार की मार्चूला को साहसिक खेलों का हब बनाने की डीपीआर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अगस्त 2021। साहसिक खेल गतिविधियों के माध्यम से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से नए पर्यटन स्थलों की तलाश करने के साथ उन्हें विकसित करने पर तेजी से काम किया जा रहा है। इसके तहत अल्मोड़ा के मार्चुला में एंगलिंग, पैराग्लाइडिंग, ट्रेल रन, माउंटेन बाइकिंग, रिवर, क्रॉसिंग, वॉटर रोलिंग, ऑफ-रोडिंग, हाइकिंग, सफारी जैसे साहसिक खेलों को विकसित करने के लिए उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) के अधिकारियों ने सोमवार को स्थलीय निरीक्षण किया गया है।

यूटीडीबी के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी-साहसिक पर्यटन कर्नल अश्विन पुंडीर ने बताया कि मार्चुला से भिकियासैंण तक होने वाले विकास कार्यों के लिए केएमवीएन की ओर से डीपीआर तैयार की गई है। क्षेत्र में पर्यटकों को बेहतर सुविधा देने के लिए विभाग की ओर से कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। मार्चुला में पर्यटकों को आवास और स्वादिष्ट भोजन के साथ अन्य सभी सुविधाएं दी जाएगी। इस मौके पर केएमवीएन के सहायक अभियंता मनोज महर्षिवाल, यूटीडटी के सुरेंद्र सिंह बोहरा और एंगलिंग विशेषज्ञ संजीव मौजूद रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन-जीएमवीएन कर्मचारी महासंघ के सिल्वर जुबली वर्ष में वार्षिक अधिवेशन का ऐलान

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2021। केएमवीएन-जीएमवीएन के संयुक्त कर्मचारी महासंघ का वार्षिक अधिवेशन आगामी 4 अगस्त को ऋषिकेश में होगा। जिसमें नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बताया कि महासंघ का गठन 30 अप्रैल 1995 को ग्वालदम स्थित पर्यटक आवास गृह में हुआ था। इस वर्ष महासंघ अपने 25 साल पूरे होने पर सिल्वर जुबली के अवसर पर पूर्व के पदाधिकारियों को सम्मानित करेगा। साथ ही नई रणनीति के तहत कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए मांग पत्र के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री से भी मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दोनों निगमों में लंबे समय से संविदा में कार्यरत कर्मचारियों का नियमितीकरण नहीं हुआ है। इसके साथ ही विभागीय पदोन्नतियों व अन्य प्रकरणों पर भी कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि अधिवेशन में कुमाऊं मंडल के पदाधिकारियों के साथ गढ़वाल मंडल के समस्त जनपदों के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को दोनों निगमों के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करते हुए अतिरिक्त मानदेय दिया जाना चाहिए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कर्मचारी नेता आशीष उनियाल, राजेश रमोला, मनमोहन चौधरी, सत्यपाल बिष्ट, किशन पवार आदि जुटे हुए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नए एमडी के साथ 50-60 करोड़ से बदलेगा केएमएवीएन के टीआरएच का कलेवर

-निगम की पेट्रोल पंप सैक्टर में भी आगे बढ़ने की योजना

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जुलाई 2021। कुमाऊं मंडल विकास निगम शीघ्र ही नए प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी की पहल पर अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों का सौंदर्यीकरण करने जा रहा है। श्री भंडारी ने इस तथा अपनी अन्य भावी योजनाओं के बारे में ‘नवीन समाचार’ को एक विशेष भेंट में बताया कि टीआरएच में सौंदर्यीकरण के कार्यों पर 50 से 60 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है।

उन्होंने बताया कि निगम के अच्छे, अधिक सैलानियों की पहुंच वाले सूखाताल, भीमताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, मुक्तेश्वर, काठगोदाम, रानीखेत, बिन्सर, पिथौरागढ़, रामगढ़ व कौसानी आदि के टीआरएच का जीर्णोद्धार व विस्तार करेगा। इसके अलावा दूसरे चरण में जागेश्वर, डीनापानी, अल्मोड़ा, मुन्स्यारी, मोहान व चौकोड़ी के पर्यटक आवास गृहों का भी सौंदर्यीकरण करने की योजना है। योजना के तहत सभी पर्यटक आवास गृहों का प्रवेश द्वार एवं बाह्य आवरण एकरूप एवं बेहतर करना है। साथ ही किचन एवं बाथरूम को बेहतर फिटिंग्स एवं फर्नीचर से युक्त करना है। इसके अलावा अब तक जहां निगम के टीआरएच उनके शहर के नाम के आधार पर जाने जाते हैं, वहीं अब टीआरएच को उनके अपने विशिष्ट नाम देने तथा आसपास के कुछ टीआरएच को एक चेन या श्रृंखला में लाने की भी योजना है। जैसे ‘परिचय’ नाम की श्रृंखला में नैनीताल, भीमताल, मुक्तेश्वर व नौकुचियाताल आदि टीआरएच शामिल होंगे।

श्री भंडारी ने बताया कि सभी टीआरएच के प्रवेश द्वारों को आकर्षक बनाया जाएगा। साथ ही जहां संभव होगा, वहां नए कक्षों का निर्माण करना एवं संभव न होने पर सुविधाओं को बेहतर करने की योजना है। ताकि अधिक संख्या में सैलानी यहां ठहर सकें। उन्हें कक्ष न मिल पाने की असुविधा न हो। इसके अलावा निगम अपने पर्यटक आवास गृहों में पर्यटकों की पहुंच बढ़ाने के लिए ‘मेक माइ ट्रिप’ एवं ‘गो आईबीबो’ सरीखी ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों के साथ भी अनुबंध करने जा रहा है। निगम की कोशिश है कि उसके आवास गृहों के कक्ष खाली न रहें। अधिक यात्री उन तक पहुंचें। इसके अलावा निगम पेट्रोल पंप सैक्टर में भी अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने जा रहा है। श्री भंडारी ने बताया कि सूखाताल पेट्रोल पंप के बेहतर अनुभव को देखते हुए निगम की अल्मोड़ा जनपद के ताड़ीखेत व नैनीताल जनपद के सुनकिया-मुक्तेश्वर में भी पेट्रोल पंप खोलने की कोशिश चल रही है। बताया कि ताड़ीखेत में पेट्रोल पंप लगना प्रारंभ हो गया है, जबकि सुनकिया के लिए आईओसी से बात चल रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन की निर्माण एजेंसी के रूप में पहचान बनाएंगे नए एमडी…

-निगम के नए एमडी नरेंद्र भंडारी ने कार्यभार संभालने के बाद जताया इरादा, पर्यटन क्षेत्र में बेहतर सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का जताया इरारा

केएमवीएन के नए एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जून 2021। नैनीताल जनपद में मुख्य विकास अधिकारी के रूप में यादगार कार्यकाल के बाद आईएएस अधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने शनिवार को केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक पद का कार्यभार संभाल लिया है। इस अवसर पर मूलतः इंजीनियर भी रहे भंडारी ने निगम को निर्माण एजेंसी के रूप में स्थापित करने एवं विशेषज्ञता हासिल करने का इरादा जताया। उन्होंने कहा कि राज्य में गुणवत्तायुक्त निर्माण एजेंसियों की कमी है। निगम चाहे तो 10, 20, 50 से 100 करोड़ रुपए तक के भी कार्य कर सकता है। वहीं पर्यटन के क्षेत्र में उन्होंने बेहतर सेवा-सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का इरादा जताया। कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों में ग्रामीणों को रात्रि में सैलानियों को खुले आकाश में सितारों के दर्शन कराने के लिए दूरबीनें उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके अलावा उन्होंने गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप आदि क्षेत्रों में भी कार्य करने की बात कही।

संदीप तिवारी ने संभाला सीडीओ पद का कार्यभार
नैनीताल। टिहरी से स्थानान्तरित होकर आये आईएएस संदीप तिवारी ने शनिवार पूर्वाह्न विकास भवन भीमताल में पूर्व मुख्य विकास अधिकारी नरेंद्र सिह भंडारी से कार्यभार ग्रहण किया। इस दौरान श्री तिवारी ने अधिकारियों से औपचारिक भेंट की तथा विकास भवन परिसर के कार्यालय का निरीक्षण भी किया, तथा कोविड की दृष्टि से विभागों द्वारा संचालित कार्यक्रमों एवं विभागीय योजनाओं की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : दो टीआरएच से निकला केएमवीएन की सभी समस्याओं का समाधान, निगम की भविष्य की योजनाओं की अध्यक्ष व एमडी ने दी जानकारी

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 फरवरी 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के अध्यक्ष केदार जोशी व प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि निगम के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृह-मोहान व परिचय नौकुचियाताल को 2.25 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष की दर पर 15 वर्ष के लिए लीज पर देकर 15 करोड़ रुपए का ऋण लिया जाएगा। लीज से मिलने वाली धनराशि से ऋण की किस्त चुकाई जाएंगी, साथ ही सूखाताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, भीमताल, मुक्तेश्वर, अल्मोड़ा, बिन्सर, डीनापानी रानीखेत, जागेश्वर, चौकोड़ी, रामगढ़, मोहान, कौसानी, काठगोदाम व परिचय टीआरएच में 23.5 करोड़ रुपयों की लागत से 100 कक्ष बढ़ाने के साथ ही निगम के 50 फीसद टीआरएच में 3स्टार की सुविधा व क्षमता विकास के साथ सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे।

पत्रकार वार्ता करते निगम के एमडी, अध्यक्ष व अन्य।

इस तरह निगम में 370 कक्षों की क्षमता हो जाएगी। इससे निगम की आय में हर वर्ष 4.5 से 5 करोड़ की वृद्धि होगी। साथ ही संविदा कर्मचारियों के मानदेय में मार्च से 1000 एवं इस वर्ष में कुल 3000 रुपए की वृद्धि की जाएगी। यह भी बताया कि निगम में 2 वर्ष की अवधि के लिए 21 लाख रुपए प्रतिवर्ष के मानदेय पर 5 स्टार सुविधाओं के टूरिज्म कंसल्टेंट एवं 30 हजार रुपए वेतन पर महाप्रबंधक सहित अन्य तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति कर निगम के कर्मियों को प्रशिक्षण देकर उनके कौशल वृद्धि का प्रबंध भी किया जाएगा। साथ ही एमडी रोहित मीणा ने 5 की जगह 18 खनन पट्टों के जरिये प्रति वर्ष 10 करोड़ एवं एक की जगह भवाली, ताड़ीखेत, कपकोट, काशीपुर व रुद्रपुर सहित करीब 10 नए पेट्रोल पंप स्थापित करने, निगम की सूखाताल स्थित पार्किंग की छत को हुनर हाट की तर्ज पर विकसित करने व यहां स्थानीय प्रतिभाओं को भी मंच उपलब्ध कराने, स्नोव्यू में डायनासोर थीम पार्क विकसित करने, केव गार्डन में लाइट, साउंड फाउंटेन शुरू करने व नए वित्तीय वर्ष में निगम के पुराने मुख्यालय भवन में मुख्यालय को पुर्नस्थापित करने की बात भी कही। वहीं अध्यक्ष कैलाश जोशी ने आदि कैलाश यात्रा को विकसित करने का इरादा भी जताया, और केएमवीएन व जीएमवीएन के एकीकरण के बावजूद दोनों निगमों का स्वतंत्र अस्तित्व बने रहने की बात भी कही।

यह भी पढ़ें : 11वें दिन भी जारी रहा केएमवीएन कर्मचारी महासंघ का अनूठा गांधीवादी आंदोलन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 27 अगस्त 2020। कुमाऊँ मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ कर्मचारियों का आंदोलन बृहस्पतिवार को 11वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान कर्मचारियों ने अपराह्न एक से दो बजे तक लंच की अवधि में काला फीता बांधकर कार्य बहिष्कार किया। साथ ही ‘एक पौधा धरती मां के नाम’ अभियान के तहत पौधारोपण व स्वच्छता कार्यक्रम चलाया। इस मौके पर महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने कहा कि ने जब तक मांगें पूरी नहीं होती हैं तब तक महासंघ गांधीवादी तरीके से उत्तराखंड में कर्मचारी संगठनों की ओर से किया जाने वाला अनोखा आंदोलन करता रहेगा। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन कर्मचारियों के प्रकरण पर संवेदनशील नहीं है। इतनी लंबी अवधि बीतने के बाद भी अधिकारियों द्वारा विभागीय पदोन्नतियां व नियमितीकरण सहित अन्य मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि निगम के आवास गृहों से क्वारंटाइन केंद्र हटाए जाएं एवं उनके रखरखाव के लिए धनराशि आवंटित की जाए। साथ ही निगम को आर्थिक पैकेज दिया जाए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंजुल सनवाल, रमेश प्रसाद, अशोक पांडे, दिनेश सांगुडी, गुमान सिंह कुमटिया, रवि साह व कैलाश बिष्ट प्रमुख रूप से शामिल रहे।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप https://chat.whatsapp.com/BXdT59sVppXJRoqYQQLlAp से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग: कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष ने लगाए निगम में भ्रष्टाचार के आरोप

केएमवीएन की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 फरवरी 2020। कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी ने निगम में अनियमितताओं का आरोप लगाया है। मंगलवार को प्रेस को जारी बयान में श्रीमती अधिकारी ने कहा कि बीते कुछ महीनो से उन्हें निगम के कार्यों में अनिमियताएं नजर आ रही हैं, जिन्हें वे उजागर करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री ने निगम में उपाध्यक्ष का दायित्व दिया है, जिसे उन्होंने पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से निभाने का संकल्प लिया है। कहा कि निगम की बंद फैक्टरियों में स्क्रैप के सामान की नीलामी में बड़ी धांधली का पता चला है।

बताया कि निगम की ओर से शीशमहल स्थित बंद पड़ी प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप की 14-15 लाख रुपए में बेचे जाने की निविदा निकाली गई थी, जबकि सामग्री वास्तव में 30-32 लाख की थी, लेकिन इसे बिना पुरानी कमेटी को भंग किए नई कमेटी गठित करके मात्र 8-8.5 लाख रुपए में ही बेच दिया गया। यही नहीं इच्छुक निविदादाताओं को स्क्रैप की पूरी सामग्री भी नहीं दिखाई गई। पुरानी समिति को भंग किये बिना नई समिति से बिक्री कराई गई और नई समिति ने पुरानी समिति से भी बात नहीं की। कहा कि निगम के कुछ अधिकारियों की अनियमितताओं के कारण निगम को आर्थिक क्षति झेलनी पड़ रही है। इस संबंध में निगम के एमडी से मामले की तत्काल जांच कर एक सप्ताह के भीतर आख्या देने को कहा गया है। कहा कि जांच पूरी होने के उपरान्त इस मामले को प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी अवगत करायेंगी। इस बारे में निगम के एमडी रोहित मीणा ने बात करने का प्रयास किया गया किंतु संपर्क नहीं हो पाया। अलबत्ता निगम के जीएम अशोक जोशी ने बताया कि स्क्रैप की पहली बार हुई नीलामी में कोई भी बोलीदाता कोई नहीं आया। दूसरी बार की नीलामी में किलो के रेट मांगकर तोलकर बेचा गया। बताया कि सामग्री तोलकर बेची गई है, और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी की गई है।

केएमवीएन के नये एमडी के रूप में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अध्यक्ष एवं जीएम के साथ पत्रकारों से बात करते आईएएस रोहित मीणा (File Photo)।

इस पर केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा ने कहा कि तीन-चार वर्ष पूर्व हल्द्वानी के स्थानीय स्क्रैप विक्रेताओं ने प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप का मूल्यांकन 32 से 35 लाख का किया था। इस दर पर दो बार निविदा आमंत्रित की गई, किंतु दोनों बार कोई निविदा प्राप्त नहीं हुई। इस पर प्रति किग्रा की दर से निविदा आमंत्रित की गई और केवल लोहे की स्क्रैप यानी कबाड़ सामग्री फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी कराकर पूरी पारदर्शिता एवं पूरी प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है। उन्होंने बताया कि इस बार निगम को पहली बार खनन में ऐतिहासिक तौर पर सर्वाधिक लाभ होने जा रहा है। वहीं गैस के लिए सभी एजेंसियों से संबंधित अनियमितताओं के लिए नंबर जारी किया गया, लेकिन एक भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन कर्मचारी महासंघ ने किया निगम के जीएमवीएन से एकीकरण का विरोध

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जून 2019। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के कर्मचारी महासंघ ने केएमवीएन के जीएमवीएन के साथ एकीकरण करने के निगम के निदेशक मंडल के निर्णय का पुरजोर विरोध करने का ऐलान किया है। महासंघ अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बुधवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिये कहा कि निगम प्रशासन ने कर्मचारी संगठनों को विश्वास में लिये बिना यह प्रस्ताव पारित किया है। बताया कि पूर्व में दो बार संगठन की पर्यटन सचिव से देहरादून में एकीकरण के संबंध में बैठक में महासंघ ने शासन को दोनों निगमों के एकीकरण का पुरजोर विरोध किया था, तथा कहा था कि सरकार की मंशा यदि सही है तो सरकार दोनों निगमों को उत्तराखंड पर्यटन परिषद में समायोजित करे। उन्होंने निगम प्रशासन व शासन से मांग की कि एकीकरण से पूर्व दोनों निगमों में कार्यरत संविदा कर्मियों को नियमितीकरण एवं वेतन विसंगतियां दूर करे तथा कर्मचारियों के लंबित देयकों का भुगतान करे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही दोनों निगमों के कर्मचारी संगठनों की देहरादून में बैठक आहूत कर भावी रणनीति के तहत आंदोलन किया जाएगा। निगमों में किसी भी आवास गृह को निजी क्षेत्र में देने का भी पुरजोर विरोध किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को हुई केएमवीएन की निदेशक मंडल की बैठक में केएमवीएन के जीएमवीएन में एकीकरण के साथ ही कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने, पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेने और काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी तथा लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन बोर्ड ने किया बड़ा फैसला : करेंगे जीएमवीएन के साथ एकीकरण

केएमवीएन बोर्ड बैठक में एककीकरण के प्रस्ताव को दी मंजूरी  नवीन समाचार, नैनीताल, 25 जून 2019। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने प्रदेश के दूसरे गढ़वाल मंडल विकास निगम के साथ एकीकरण के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। निगम के टीआरसी सूखाताल में मंगलवार को हुई बोर्ड बैठक में इस प्रस्ताव को औपचारिक मंजूरी दे दी गई है। बैठक में निगम के कर्मचारियों के डीए में तीन प्रतिशत वृद्धि को भी मंजूर कर लिया गया। अब कर्मचारियों को 12 प्रतिशत डीए मिलेगा। निगम में एक हजार एक सौ से अधिक कर्मचारी हैं। इनमें 566 रेगुलर हैं। निगम के अध्यक्ष केदार दत्त जोशी अध्यक्षता में हुई बैठक में एकीकरण की कवायद पर चर्चा की गई। इसमें गढ़वाल व कुमाऊं मंडल विकास निगम को एक निगम के अधीन करने का प्रस्ताव है। बोर्ड ने सरकार के इस प्रस्ताव को दीर्घकालिक हित में उचित बताते हुए मंजूर कर लिया। कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने को भी मंजूरी दी गई, जो जनवरी 2019 से देय होगा। इससे निगम पर करीब पांच लाख रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए तय किया गया कि चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेकर इनकी हालत सुधारी जाएगी। बैठक में निगम के काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी को भी मंजूरी और लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई। बैठक का संचालन प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने किया। बैठक में निगम उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी, सदस्य तारा दत्त पांडे कुंदन बिष्ट, जीएम अशोक जोशी, दया सागर,  वित्त अधिकारी दिनेश राणा, गैस प्रभारी आरएस बिष्ट आदि लोग मौजूद रहे। 

महासंघ की निगम मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन की धमकी

नैनीताल। कुमाऊं मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष दिनेश चंद्र गुरुरानी ने निगम प्रशासन से 30 जून तक कर्मचारियों की वरियता सूची व संविदा कर्मियों को नियमितीकरण सहमति के तहत कर्मचारियों के व्यक्तिगत प्रकरणों पर कार्रवाई करने की मांग की है। कहा कि पर्यटन कक्ष के कर्मचारियों को दो माह से बिना किसी वजह से वेतन नहीं दिया जा रहा है जो श्रम नियमावली का खुला उल्लंघन है। कहा कि यदि कर्मियों को जल्द वेतन नहीं दिया जाता है तो महासंघ जुलाई के पहले सप्ताह से निगम मुख्यालय में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होगा। गुरुरानी ने कहा कि किसी भी कर्मचारी का उत्पीडन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कहा कि जल्द ही महासंघ की कार्यकारिणी का विस्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : रेनू अधिकारी ने उपाध्यक्ष व कुंदन ने निदेशक पद का पदभार संभाला, बदला निगम के एमडी का प्रभार भी…

केएमवीएन के मुख्यालय पहुंचने पर निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी का पुष्पगुच्छ से स्वागत करते निगम के जीएम अशोक जोशी व अन्य।

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 मई 2019। लोक सभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले ही केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष पद पर नामित हल्द्वानी की पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष रेनू अधिकारी एवं निदेशक पद पर नामित भाजपा ने नगर मंडल महामंत्री कुंदन बिष्ट ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया है। इस अवसर पर श्रीमती अधिकारी ने कहा कि निगम की स्थितियों को सुधारने के लिए निगम के कर्मचारियों को साथ लेकर और सबके अनुभवों का लाभ लेकर कार्य करेंगी। खासकर कर्मचारियों की सरकार के स्तर पर लंबित समस्याओं का समाधान करने के लिए पुल के रूप में कार्य करेंगी। निगम में उनका फोकस पर्यटन के क्षेत्र पर रहेगा। इसके लिए सभी पर्यटक आवास गृहों का स्वयं जाकर निरीक्षण कर बेहतरी के उपाय तलाशेंगी। केएमवीएन एवं जीएमवीएन के एकीकरण पर ‘नवीन समाचार’ द्वारा पूछे गये प्रश्न पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री की जो भी मंशा होगी, उसी अनुरूप कार्य किया जाएगा।
इससे पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर टीआरएच सूखाताल में निगम के जीएम अशोक जोशी तथा विधायक संजीव आर्य एवं निगम के कर्मचारी नेताओं ने श्रीमती अधिकारी एवं कुंदन बिष्ट का पुष्पगुच्छ भेेंटकर स्वागत किया। जीएम अशोक जोशी ने खुलासा किया कि केएमवीएन का वार्षिक टर्नओवर 320 करोड़ रुपये का है, किंतु बीते वर्ष में निगम ने केवल 15 लाख रुपये का शुद्ध लाभ प्राप्त किया है। विधायक आर्य ने उम्मीद जताई कि रेनू के हल्द्वानी नगर पालिका अध्यक्ष पद के कार्यभार का अनुभव निगम को लाभ दिलाएगा। मंचासीन भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितिन कार्की ने पर्यटन के क्षेत्र में स्वरोजगार करने के इच्छुक युवाओं को विभिन्न लाइसेंस लेने के लिए निगम के अंतर्गत ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ स्थापित किये जाने का विचार दिया। संचालन नगर अध्यक्ष मनोज जोशी ने किया। इस मौके पर रेनू अधिकारी के पति महेंद्र अधिकारी, गोपाल रावत, मोहित रौतेला, मोहित साह, अशोक तिवाड़ी, विमल चौधरी, दीपक जोशी एवं कांग्रेस पार्टी के पूर्व नगर मंडल अध्यक्ष मारुति नंदन साह सहित अन्य भाजपा नेता एवं निगम के कर्मचारी मौजूद रहे।

नैनीताल के डीएम को मिला केएमवीएन के एमडी का अतिरिक्त प्रभार

नैनीताल। केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा के 15 दिन की लंबी छुट्टी पर जाने के कारण शासन ने नैनीताल के डीएम विनोद कुमार सुमन को केएमवीएन के एमडी के पद का अतिरिक्त कार्यभार सोंप दिया है। बताया गया है कि श्री मीणा की आईएएस पत्नी का लंबे समय से स्वास्थ्य काफी दिनों से चिंताजनक बना हुआ है। निगम के जीएम अशोक जोशी ने इसकी पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन के गेस्ट हाउस पिछले 5 वर्षों से भारी घाटे में, बने हैं सरकार पर बोझ

-सुरेंद्र सिंह जीना के सवाल के जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा

नवीन समाचार, देहरादून, 13 फ़रवरी 2019। दुनियाभर में होटल व्यवसाय फायदे के चलते निरंतर विकास कर रहा है, लेकिन उत्तराखंड की हालत बहुत पतली है। खासकर सरकारी गेस्ट हाउस तो सरकार के लिए एक तरह से बोझ बन गये हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले छह साल से लगातार घाटे में चल रहे हैं। हालांकि गढ़वाल में यह स्थिति सुधरी है और अब गेस्ट हाउस कमाने लगे हैं। विधानसभा में सुरेन्द्र सिंह जीना के सवाल के लिखित जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा कि कुमाऊं मंडल के पर्यटन आवास गृहों का रिकार्ड बहुत ही खराब है। 2013-14 के बाद आय व्यय का ब्योरा बता रहा है कि केएमवीएन के आवास गृह अब तक सरकार को करोड़ों का चूना लगा चुके हैं। 2013-14 में यहां 2.50 करोड़ का नुकसान हुआ, जबकि इसके अगले वर्षो में क्रमश: 45 लाख, 2.98 करोड़, 2.24 करोड़, 1.80 करोड़ और चालू वित्त वर्ष में भी दिसंबर तक 1.52 करोड़ का घाटा हो चुका है। इसके विपरीत गढ़वाल मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले दो साल से फायदे में हैं। 2017-18 में यहां 1.29 करोड़ का लाभ हुआ जबकि चालू वित्त वर्ष में दिसंबर तक 7.88 करोड़ का लाभ हो चुका है। उसके पूर्व के वर्षो में गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउस भी घाटे में चल रहे थे। वर्तमान में जीएमवीएन ने घाटे में चल रहे 8 पर्यटक आवास गृहों को लीज पर दिया हुआ है। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने भी छह आवास गृहों को लीज पर निजी संचालकों को दिया है। पर्यटन मंत्री ने बताया कि दोनों निगमों के सभी पर्यटक आवास गृहों का संचालन किया जा रहा है।

महाप्रबंधक विनीत तोमर

केएमवीएन ने अपने कार्मिकों को दिया एक और तोहफा
-छठे वेतनमान की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया
नवीन समाचार, नैनीताल, 11 नवंबर 2022। कुमाऊं मण्डल विकास निगम लिमिटेड वर्ष 2006 से अक्टूबर, 2022 तक सेवानिवृत्त हुए अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान करने जा रही है। बताया गया है कि इससे निगम पर 55 लाख रुपए का अतिरिक्त व्यय भार पड़ रहा है।
निगम के प्रबन्ध निदेशक विनीत तोमर ने बताया कि निगम के द्वारा अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय कुल 6.75 करोड़ की धनराशि के सापेक्ष 2.95 करोड़ की धनराशि दी जा चुकी है। निगम प्रबंधन द्वारा अपने आय के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार हेतु निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं, साथ ही कार्मिकों की देयताओं एवं हित लाभों के लिए भी लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इन्ही प्रयासों के तहत कार्मिकों का मनोबल बना रहे तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ प्राप्त हो सके, इस उद्देश्य से कर्मचारियों को एक और अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया जा रहा है। आगे भी निगम की आर्थिक स्थिति अनुकूल होने पर शेष धनराशि का भी भुगतान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : दीपावली पर कार्मिकों को 4000 रुपए अतिरिक्त मानदेय देगा केएमवीएन…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अक्तूबर 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम वित्तीय वर्ष 2021-2022 मे निगम में कार्यरत कार्मिकों को दीपावली पर अपने 4800 रुपए ग्रेड पे तक के सभी नियमित एवं संविदा कार्मिकों को चार हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय देने का निर्णय लिया है। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से दीपावली पर अपने प्रियजनों को शुभकामना संदेश दें मात्र 500 रुपए में… संपर्क करें 8077566792, 9412037779 पर, अपना संदेश भेजें saharanavinjoshi@gmail.com पर… यह भी पढ़ें : अधिवक्ताओं की कारें असामाजिक तत्वों के निशाने पर ! सप्ताह भर में ही एक और….

बताया गया है कि यह अतिरिक्त मानदेय एक तरह से बोनस की तरह है। वास्तव में निगम में अनुमन्य बोनस की दर काफी कम है। पिछले वर्ष निगम ने दीपावली पर प्रत्येक कार्मिक को दो हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय दिया था, जबकि इस वर्ष इस लिहाज से दोगुना अतिरिक्त मानदेय दिया गया है। यह भी पढ़ें : नवविवाहिता बहु से 65 वर्षीय ससुर ने किया दुष्कर्म….

निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर के हवाले से महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि करीब एक हजार कार्मिकों को इस अतिरिक्त मानदेय का लाभ मिलेगा। इससे निगम पर अतिरिक्त रूप से 40 लाख रुपए का व्यय भार पड़ेगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 8.26 करोड के लाभ से प्रफुल्लित केएमवीएन इस माह से कर्मियों को 3 फीसद अतिरिक्त डीए देगा..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 अगस्त 2022। पूर्व में लगातार घाटे में चलने के लिए अभिशप्त केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड ने इस वर्ष 826.72 लाख रुपए का लाभ अर्जित किया है। निगम ने इस वर्ष कई वर्षों के बाद अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों को लक्ष्य दिए और इस वर्ष अच्छा पर्यटक सीजन चलने के साथ तीन माह में ही 44 फीसद से अधिक लक्ष्य पूरे भी कर लिए हैं। इससे प्रफुल्लित निगम प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों को 1 जुलाई 2022 यानी पिछले माह यानी इस अगस्त माह के वेतन में 31 की जगह 34 यानी 3 फीसद अधिक डीए यानी महंगाई भत्ता देने की घोषणा की है। इससे निगम पर 42 लाख रुपए का अतिरिक्त वार्षिक भार पड़ेगा। यह भी पढ़ें : बड़ा शातिर निकला छोटा खान, 5 साल से शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध एक से बनाए, शादी दूसरी से कर ली….

निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेई ने महाप्रबंधक विनीत तोमर के हवाले से बताया कि करीब एक दशक के बाद निगम ने अपने टीआरएच को इस वित्तीय वर्ष के लिए करीब 20 करोड़ का लक्ष्य दिया था, इसके सापेक्ष ए श्रेणी के 14 टीआरएच ने 44.53, बी श्रेणी के 16 टीआरएच ने 38.52 एवं सी श्रेणी के 14 टीआरएच ने 27.53 करोड़ के लक्ष्य प्राप्त कर लिए हैं। इस प्रकार पर्यटन के क्षेत्र में निगम ने 372.03 लाख, गैस, जड़ी-बूटी आदि के विपणन से 341.34 लाख, खनन से 114.93 लाख, निर्माण से 27.82 लाख, रज्जु मार्ग से 86.3 लाख सहित कुल 826.72 लाख का लाभ अर्जित किया है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

यह भी बताया कि निगम ने पिछले वित्तीय वर्ष के अंतर्गत जनवरी 2022 में अपने कार्मिकों को 74 लाख रुपए छठे वेतन आयोग के व 11 फीसद महंगाई भत्ता, मार्च 2022 में 60 लाख ग्रेज्युटी के, अप्रैल 2022 में 3 फीसद महंगाई भत्ता व संविदा कर्मियों के वेतन में 800 से 1200 रुपए की वृद्धि, जून 2022 में ग्रेज्युटी के 2085 करोड़ व छठे वेतन आयोग के एरियर के 63 लाख रुपए दिए गए हैं, जबकि इधर अगस्त माह में ग्रेज्युटी के 1.2 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि इस पर निगम के कर्मचारी व उनके संगठन भी खुश होंगे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कार्मिकों पर मेहरबान केएमवीएन, अभी दिए करीब सवा करोड़, इस साल दे चुके 5.25 करोड़

-इस वर्ष पांच माह में करीब सवा पांच करोड़ का भुगतान किया गया है

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मई 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने पिछले दो वर्ष कोरोना की विषय परिस्थितियों को झेलने के बावजूद इस माह सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में 62 लाख रुपए की धनराशि की एक किश्त जारी की है। साथ ही ग्रेज्युटी के रूप में एक करोड़ 25 लाख रुपए का भुगतान किया है और अवकाश नगदीकरण में भी 40 लाख रुपए के अतिरिक्त भुगतान का निर्णय लिया है। इस प्रकार निगम सेवानिवृत्त कार्मिकों को करीब सवा करोड़ रुपए की धनराशि दी जानी है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी ने बताया कि इस प्रकार जनवरी माह से अब तक यानी 5 माह में निगम प्रबंधन ने सेवानिवृत्त कार्मिकों के ग्रेज्युटी मद में 285 लाख व छठे वेतनमान के एरियर के रूप में दो किस्तों में 145 लाख तथा अवकाश नगदीकरण के रूप में 90 लाख यानी कुल लगभग सवा 5 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। यह भी बताया कि निगम के द्वारा अप्रैल 2022 में सेवानिवृत्त कार्मिकों के डीए में 3 फीसद की वृद्धि की है, तथा अप्रैल 2022 से ही संविदा कार्मिकों के मानदेय में तृतीय श्रेणी में 1,200 और चतुर्थ श्रेणी में 800 रुपए प्रतिमाह की बढ़ोत्तरी की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन में नए एमडी तोमर ने संभाला कार्यभार

Vineet Tomar IAS posted as DM- Champawat, Uttarakhand | Indian Bureaucracy  is an Exclusive News Portalडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 अप्रैल 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास के नए एमडी यानी प्रबंधन निदेशक के पद पर 2014 बैच के आईएएस अधिकारी विनीत तोमर ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस अवसर पर श्री तोमर ने निगम की आय बढ़ाने के लिए हर संभव उपाय करने की बात कहीं।

उल्लेखनीय है कि मैकेनिकल इंजीनियर भी रही श्री तोमर इससे पूर्व चंपावत के डीएम रहे हैं। गत 22 अप्रैल को उनकी जगह केएमवीएम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी को चंपावत का नया डीएम बनाया गया तो उन्हें परिवहन निगम का एमडी बनाया गया था। किंतु पांच दिन बाद ही उनके स्थानांतरण आदेश को संशोधित कर उन्हें केएमवीएन का नया एमडी बनाया गया है। इस प्रकार श्री भंडारी एवं श्री तोमर ने एक-दूसरे को प्रतिस्थापित किया है। यह भी पढ़ें : हंगामे की भेंट चढ़ी उच्च न्यायालय के स्थानांतरण के मुद्दे पर आयोजित बार की बैठक, समर्थन में आए पूर्व में रहे विरोधी….

कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर श्री तोमर को निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इस मौके पर श्री तोमर ने आदि कैलाश यात्रा, गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप की यूनिटों में बेहतर कार्य करने की बात कही। कहा कि आदि कैलाश यात्रा में इस वर्ष 2000 लोगों को ले जाने का लक्ष्य रहेगा।

गरमपानी व सुनकिया में नए पेट्रोल पंप लगाने का कार्य गतिमान है। ताड़ीखेत, राइआगर पिथौरागढ़, नैनीताल में एरीज के पास एवं सिडकुल रुद्रपुर में पेट्रोल पंप खोलने की योजना है। घरेलू गैस की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने काठगोदाम व चंपावत में निगम की बंद पड़ी फैक्टरियों की भूमि का सदुपयोग करने की बात भी कही। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सैलानियों के लिए रोपवे और केव गार्डन का समय बढ़ा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 अप्रैल 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम द्वारा संचालित रोपवे केबल कार और केव गार्डन के खुलने का समय बढ़ा दिया गया है। नगर में सैलानियों के लिए यह दोनों बड़े आकर्षण अब तक सुबह साढ़े 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुलते थे, जबकि अब सैलानी सुबह आठ बजे से शाम 6 बजे तक केव गार्डन और रोपवे का सुबह आठ से साढ़े 6 बजे तक आनंद उठा सकेंगे।

के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी के हवाले से जीएम एपी बाजपेई ने बताया कि पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने की शुरू की पहल, आम्रपाली से मिलाया हाथ

एमओयू पर हस्ताक्षर करने के अवसर पर केएमवीएन एवं आम्रपाली के उच्चाधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मार्च 2022। पेशेवर राह पर आगे बढ़ने और समय से कदमताल करने की पहल के साथ केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम अपने पर्यटन से जुड़े कार्मिकों को सेवा के दौरान प्रशिक्षण देने की नई शुरुआत करने जा रहा है। इस हेतु निगम ने अगले दो वर्षों के लिए हल्द्वानी के आम्रपाली समूह से हाथ मिलाए हैं।

बुधवार को निगम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी, जीएम एपी वाजपेयी तथा पर्यटन विकास अधिकारी बच्ची राम आर्य की मौजूदगी में आम्रपाली समूह के निदेशक शैलेंद्र कुमार सिंह एवं आम्रपाली होटल मैनेजमेंट संस्थान के डीन प्रो. प्रशांत की मौजूदगी में एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। बताया गया कि प्रथम चरण में आसन्न ग्रीष्मकालीन पर्यटन सत्र शुरू होने से पूर्व निगम में कार्यरत प्रबंधकों, फ्रंट ऑफिस कार्मिकों, वेटर, रूम अटैंडेंट, हाउस कीपिंग स्टाफ तथा कुक आदि 150 कर्मियों को 5 बैचों में आम्रपाली संस्थान से 6 दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा।

निगम के एमडी श्री भंडारी ने इस अवसर पर कहा कि निगम वर्तमान में 46 पर्यटक आवास गृहों के साथ कैलाश मानसरोवर एवं आदि कैलाश यात्रा का संचालन करता है। पर्यटकों के सम्मुख निगम तथा राज्य सरकार की छवि आवास गृहों में कार्यरत कार्मिकों के आचरण एवं व्यवहार की कार्य कुशलता पर निर्भर करती है। इसलिए कार्मिकों को पर्यटन के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों तथा अन्य विधाओं से अवगत कराने तथा जानकारी को अद्यतन करने के लिए उन्हें सेवाकालीन प्रशिक्षण देकर उनका कौशल विकास करने का निर्णय लिया गया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन प्रबंधन ने कर्मचारियों को किया एरियर का भुगतान

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 नवंबर 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम प्रबंधन ने कर्मचारियों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय 6.75 करोड़ रुपए की धनराशि के सापेक्ष वर्ष 2019 तक के दो करोउ़ 19 लाख रुपए की धनराशि का भुगतान कर दिया है। साथ ही निगम प्रबंधन ने निगम की आय बढ़ाने के लिए किए गए विभिन्न प्रयासों के फलस्वरूप वर्ष 2006 से दिसंबर 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कार्मिकों को एक अतिरिक्त किस्त के रूप में 83 लाख रुपए का भुगतान भी कर दिया है।

निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि निगम प्रबंधन द्वारा अपनी आय के स्रोतों की वृद्धि हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार तथा कार्मिकों के देयों एवं हित लाभों के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि कार्मिकों का मनोबल बना रहे और सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ मिल सके। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : निगम महासंघ का 13 दिनों से चल रहा आंदोलन स्थगित

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 दिसंबर 2021। कुमाऊं गढ़वाल मंडल विकास निगम के संयुक्त कर्मचारी महासंघ ने शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद अपने आंदोलन को स्थगित कर दिया है। महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुरु रानी ने कहा कि देहरादून में प्रमुख सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर से हुई वार्ता में महासंघ के 12 सूत्रीय मांग पत्र पर चर्चा की गई।

इन मांगों पर पूर्व में शासन में 7 अक्टूबर को वार्ता हुई थी। जिसमें लिखित समझौता भी हुआ था उसे पूरा न करने पर महासंघ द्वारा 23 नवंबर से अनिश्चितकालीन आंदोलन प्रारंभ कर दिया गया था। आज शासन की ओर से नियमितीकरण की कार्यवाही शीघ्र शुरू करने, खनन के पट्टे निगम को देने, निगम के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करने संबंधी मांगों पर शीघ्र कार्रवाई के साथ ही पर्यटन सचिव द्वारा दोनों निगमों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिए गए कि वे निगम स्तर की समस्याओं का अविलंब समाधान हेतु महासंघ से वार्ता करें। इस पर आंदोलन स्थगित कर दिया गया है।

अलबत्ता गुरूरानी ने कहा कि दोनों निगमों में वेतन विसंगति है। गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा जहां कर्मचारियों का 11 फीसद महंगाई भत्ता दे दिया गया है वहीं कुमाऊं मंडल विकास में उनके प्रबंधन द्वारा अभी तक महंगाई भत्ता तक नहीं दिया। यदि किसी कर्मचारी का आंदोलन में शामिल होने पर उत्पीड़न किया गया तो महासंघ पुनः आंदोलन करेगा। आंदोलन स्थगित करने का निर्णय लेने में महामंत्री आशीष उनियाल गुमान सिंह कुमटिया, दिनेश सांगुडी, राजेश रमोला, जोगिंदर लाल, किशन पवार, विनोद तिवारी, रमेश कपकोटी, गौतम कुमार, कैलाश आर्यर्, दिव्यांशु रावत, नीता आर्य, कमला धानिक, जानकी आर्य, संदीप सहाय व ललित सहाय सहित अन्य निगम कर्मी शामिल रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने तैयार की मार्चूला को साहसिक खेलों का हब बनाने की डीपीआर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अगस्त 2021। साहसिक खेल गतिविधियों के माध्यम से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से नए पर्यटन स्थलों की तलाश करने के साथ उन्हें विकसित करने पर तेजी से काम किया जा रहा है। इसके तहत अल्मोड़ा के मार्चुला में एंगलिंग, पैराग्लाइडिंग, ट्रेल रन, माउंटेन बाइकिंग, रिवर, क्रॉसिंग, वॉटर रोलिंग, ऑफ-रोडिंग, हाइकिंग, सफारी जैसे साहसिक खेलों को विकसित करने के लिए उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) के अधिकारियों ने सोमवार को स्थलीय निरीक्षण किया गया है।

यूटीडीबी के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी-साहसिक पर्यटन कर्नल अश्विन पुंडीर ने बताया कि मार्चुला से भिकियासैंण तक होने वाले विकास कार्यों के लिए केएमवीएन की ओर से डीपीआर तैयार की गई है। क्षेत्र में पर्यटकों को बेहतर सुविधा देने के लिए विभाग की ओर से कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। मार्चुला में पर्यटकों को आवास और स्वादिष्ट भोजन के साथ अन्य सभी सुविधाएं दी जाएगी। इस मौके पर केएमवीएन के सहायक अभियंता मनोज महर्षिवाल, यूटीडटी के सुरेंद्र सिंह बोहरा और एंगलिंग विशेषज्ञ संजीव मौजूद रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन-जीएमवीएन कर्मचारी महासंघ के सिल्वर जुबली वर्ष में वार्षिक अधिवेशन का ऐलान

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2021। केएमवीएन-जीएमवीएन के संयुक्त कर्मचारी महासंघ का वार्षिक अधिवेशन आगामी 4 अगस्त को ऋषिकेश में होगा। जिसमें नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बताया कि महासंघ का गठन 30 अप्रैल 1995 को ग्वालदम स्थित पर्यटक आवास गृह में हुआ था। इस वर्ष महासंघ अपने 25 साल पूरे होने पर सिल्वर जुबली के अवसर पर पूर्व के पदाधिकारियों को सम्मानित करेगा। साथ ही नई रणनीति के तहत कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए मांग पत्र के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री से भी मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दोनों निगमों में लंबे समय से संविदा में कार्यरत कर्मचारियों का नियमितीकरण नहीं हुआ है। इसके साथ ही विभागीय पदोन्नतियों व अन्य प्रकरणों पर भी कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि अधिवेशन में कुमाऊं मंडल के पदाधिकारियों के साथ गढ़वाल मंडल के समस्त जनपदों के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को दोनों निगमों के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करते हुए अतिरिक्त मानदेय दिया जाना चाहिए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कर्मचारी नेता आशीष उनियाल, राजेश रमोला, मनमोहन चौधरी, सत्यपाल बिष्ट, किशन पवार आदि जुटे हुए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नए एमडी के साथ 50-60 करोड़ से बदलेगा केएमएवीएन के टीआरएच का कलेवर

-निगम की पेट्रोल पंप सैक्टर में भी आगे बढ़ने की योजना

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जुलाई 2021। कुमाऊं मंडल विकास निगम शीघ्र ही नए प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी की पहल पर अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों का सौंदर्यीकरण करने जा रहा है। श्री भंडारी ने इस तथा अपनी अन्य भावी योजनाओं के बारे में ‘नवीन समाचार’ को एक विशेष भेंट में बताया कि टीआरएच में सौंदर्यीकरण के कार्यों पर 50 से 60 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है।

उन्होंने बताया कि निगम के अच्छे, अधिक सैलानियों की पहुंच वाले सूखाताल, भीमताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, मुक्तेश्वर, काठगोदाम, रानीखेत, बिन्सर, पिथौरागढ़, रामगढ़ व कौसानी आदि के टीआरएच का जीर्णोद्धार व विस्तार करेगा। इसके अलावा दूसरे चरण में जागेश्वर, डीनापानी, अल्मोड़ा, मुन्स्यारी, मोहान व चौकोड़ी के पर्यटक आवास गृहों का भी सौंदर्यीकरण करने की योजना है। योजना के तहत सभी पर्यटक आवास गृहों का प्रवेश द्वार एवं बाह्य आवरण एकरूप एवं बेहतर करना है। साथ ही किचन एवं बाथरूम को बेहतर फिटिंग्स एवं फर्नीचर से युक्त करना है। इसके अलावा अब तक जहां निगम के टीआरएच उनके शहर के नाम के आधार पर जाने जाते हैं, वहीं अब टीआरएच को उनके अपने विशिष्ट नाम देने तथा आसपास के कुछ टीआरएच को एक चेन या श्रृंखला में लाने की भी योजना है। जैसे ‘परिचय’ नाम की श्रृंखला में नैनीताल, भीमताल, मुक्तेश्वर व नौकुचियाताल आदि टीआरएच शामिल होंगे।

श्री भंडारी ने बताया कि सभी टीआरएच के प्रवेश द्वारों को आकर्षक बनाया जाएगा। साथ ही जहां संभव होगा, वहां नए कक्षों का निर्माण करना एवं संभव न होने पर सुविधाओं को बेहतर करने की योजना है। ताकि अधिक संख्या में सैलानी यहां ठहर सकें। उन्हें कक्ष न मिल पाने की असुविधा न हो। इसके अलावा निगम अपने पर्यटक आवास गृहों में पर्यटकों की पहुंच बढ़ाने के लिए ‘मेक माइ ट्रिप’ एवं ‘गो आईबीबो’ सरीखी ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों के साथ भी अनुबंध करने जा रहा है। निगम की कोशिश है कि उसके आवास गृहों के कक्ष खाली न रहें। अधिक यात्री उन तक पहुंचें। इसके अलावा निगम पेट्रोल पंप सैक्टर में भी अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने जा रहा है। श्री भंडारी ने बताया कि सूखाताल पेट्रोल पंप के बेहतर अनुभव को देखते हुए निगम की अल्मोड़ा जनपद के ताड़ीखेत व नैनीताल जनपद के सुनकिया-मुक्तेश्वर में भी पेट्रोल पंप खोलने की कोशिश चल रही है। बताया कि ताड़ीखेत में पेट्रोल पंप लगना प्रारंभ हो गया है, जबकि सुनकिया के लिए आईओसी से बात चल रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन की निर्माण एजेंसी के रूप में पहचान बनाएंगे नए एमडी…

-निगम के नए एमडी नरेंद्र भंडारी ने कार्यभार संभालने के बाद जताया इरादा, पर्यटन क्षेत्र में बेहतर सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का जताया इरारा

केएमवीएन के नए एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जून 2021। नैनीताल जनपद में मुख्य विकास अधिकारी के रूप में यादगार कार्यकाल के बाद आईएएस अधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने शनिवार को केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक पद का कार्यभार संभाल लिया है। इस अवसर पर मूलतः इंजीनियर भी रहे भंडारी ने निगम को निर्माण एजेंसी के रूप में स्थापित करने एवं विशेषज्ञता हासिल करने का इरादा जताया। उन्होंने कहा कि राज्य में गुणवत्तायुक्त निर्माण एजेंसियों की कमी है। निगम चाहे तो 10, 20, 50 से 100 करोड़ रुपए तक के भी कार्य कर सकता है। वहीं पर्यटन के क्षेत्र में उन्होंने बेहतर सेवा-सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का इरादा जताया। कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों में ग्रामीणों को रात्रि में सैलानियों को खुले आकाश में सितारों के दर्शन कराने के लिए दूरबीनें उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके अलावा उन्होंने गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप आदि क्षेत्रों में भी कार्य करने की बात कही।

संदीप तिवारी ने संभाला सीडीओ पद का कार्यभार
नैनीताल। टिहरी से स्थानान्तरित होकर आये आईएएस संदीप तिवारी ने शनिवार पूर्वाह्न विकास भवन भीमताल में पूर्व मुख्य विकास अधिकारी नरेंद्र सिह भंडारी से कार्यभार ग्रहण किया। इस दौरान श्री तिवारी ने अधिकारियों से औपचारिक भेंट की तथा विकास भवन परिसर के कार्यालय का निरीक्षण भी किया, तथा कोविड की दृष्टि से विभागों द्वारा संचालित कार्यक्रमों एवं विभागीय योजनाओं की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : दो टीआरएच से निकला केएमवीएन की सभी समस्याओं का समाधान, निगम की भविष्य की योजनाओं की अध्यक्ष व एमडी ने दी जानकारी

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 फरवरी 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के अध्यक्ष केदार जोशी व प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि निगम के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृह-मोहान व परिचय नौकुचियाताल को 2.25 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष की दर पर 15 वर्ष के लिए लीज पर देकर 15 करोड़ रुपए का ऋण लिया जाएगा। लीज से मिलने वाली धनराशि से ऋण की किस्त चुकाई जाएंगी, साथ ही सूखाताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, भीमताल, मुक्तेश्वर, अल्मोड़ा, बिन्सर, डीनापानी रानीखेत, जागेश्वर, चौकोड़ी, रामगढ़, मोहान, कौसानी, काठगोदाम व परिचय टीआरएच में 23.5 करोड़ रुपयों की लागत से 100 कक्ष बढ़ाने के साथ ही निगम के 50 फीसद टीआरएच में 3स्टार की सुविधा व क्षमता विकास के साथ सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे।

पत्रकार वार्ता करते निगम के एमडी, अध्यक्ष व अन्य।

इस तरह निगम में 370 कक्षों की क्षमता हो जाएगी। इससे निगम की आय में हर वर्ष 4.5 से 5 करोड़ की वृद्धि होगी। साथ ही संविदा कर्मचारियों के मानदेय में मार्च से 1000 एवं इस वर्ष में कुल 3000 रुपए की वृद्धि की जाएगी। यह भी बताया कि निगम में 2 वर्ष की अवधि के लिए 21 लाख रुपए प्रतिवर्ष के मानदेय पर 5 स्टार सुविधाओं के टूरिज्म कंसल्टेंट एवं 30 हजार रुपए वेतन पर महाप्रबंधक सहित अन्य तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति कर निगम के कर्मियों को प्रशिक्षण देकर उनके कौशल वृद्धि का प्रबंध भी किया जाएगा। साथ ही एमडी रोहित मीणा ने 5 की जगह 18 खनन पट्टों के जरिये प्रति वर्ष 10 करोड़ एवं एक की जगह भवाली, ताड़ीखेत, कपकोट, काशीपुर व रुद्रपुर सहित करीब 10 नए पेट्रोल पंप स्थापित करने, निगम की सूखाताल स्थित पार्किंग की छत को हुनर हाट की तर्ज पर विकसित करने व यहां स्थानीय प्रतिभाओं को भी मंच उपलब्ध कराने, स्नोव्यू में डायनासोर थीम पार्क विकसित करने, केव गार्डन में लाइट, साउंड फाउंटेन शुरू करने व नए वित्तीय वर्ष में निगम के पुराने मुख्यालय भवन में मुख्यालय को पुर्नस्थापित करने की बात भी कही। वहीं अध्यक्ष कैलाश जोशी ने आदि कैलाश यात्रा को विकसित करने का इरादा भी जताया, और केएमवीएन व जीएमवीएन के एकीकरण के बावजूद दोनों निगमों का स्वतंत्र अस्तित्व बने रहने की बात भी कही।

यह भी पढ़ें : 11वें दिन भी जारी रहा केएमवीएन कर्मचारी महासंघ का अनूठा गांधीवादी आंदोलन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 27 अगस्त 2020। कुमाऊँ मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ कर्मचारियों का आंदोलन बृहस्पतिवार को 11वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान कर्मचारियों ने अपराह्न एक से दो बजे तक लंच की अवधि में काला फीता बांधकर कार्य बहिष्कार किया। साथ ही ‘एक पौधा धरती मां के नाम’ अभियान के तहत पौधारोपण व स्वच्छता कार्यक्रम चलाया। इस मौके पर महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने कहा कि ने जब तक मांगें पूरी नहीं होती हैं तब तक महासंघ गांधीवादी तरीके से उत्तराखंड में कर्मचारी संगठनों की ओर से किया जाने वाला अनोखा आंदोलन करता रहेगा। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन कर्मचारियों के प्रकरण पर संवेदनशील नहीं है। इतनी लंबी अवधि बीतने के बाद भी अधिकारियों द्वारा विभागीय पदोन्नतियां व नियमितीकरण सहित अन्य मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि निगम के आवास गृहों से क्वारंटाइन केंद्र हटाए जाएं एवं उनके रखरखाव के लिए धनराशि आवंटित की जाए। साथ ही निगम को आर्थिक पैकेज दिया जाए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंजुल सनवाल, रमेश प्रसाद, अशोक पांडे, दिनेश सांगुडी, गुमान सिंह कुमटिया, रवि साह व कैलाश बिष्ट प्रमुख रूप से शामिल रहे।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप https://chat.whatsapp.com/BXdT59sVppXJRoqYQQLlAp से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग: कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष ने लगाए निगम में भ्रष्टाचार के आरोप

केएमवीएन की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 फरवरी 2020। कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी ने निगम में अनियमितताओं का आरोप लगाया है। मंगलवार को प्रेस को जारी बयान में श्रीमती अधिकारी ने कहा कि बीते कुछ महीनो से उन्हें निगम के कार्यों में अनिमियताएं नजर आ रही हैं, जिन्हें वे उजागर करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री ने निगम में उपाध्यक्ष का दायित्व दिया है, जिसे उन्होंने पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से निभाने का संकल्प लिया है। कहा कि निगम की बंद फैक्टरियों में स्क्रैप के सामान की नीलामी में बड़ी धांधली का पता चला है।

बताया कि निगम की ओर से शीशमहल स्थित बंद पड़ी प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप की 14-15 लाख रुपए में बेचे जाने की निविदा निकाली गई थी, जबकि सामग्री वास्तव में 30-32 लाख की थी, लेकिन इसे बिना पुरानी कमेटी को भंग किए नई कमेटी गठित करके मात्र 8-8.5 लाख रुपए में ही बेच दिया गया। यही नहीं इच्छुक निविदादाताओं को स्क्रैप की पूरी सामग्री भी नहीं दिखाई गई। पुरानी समिति को भंग किये बिना नई समिति से बिक्री कराई गई और नई समिति ने पुरानी समिति से भी बात नहीं की। कहा कि निगम के कुछ अधिकारियों की अनियमितताओं के कारण निगम को आर्थिक क्षति झेलनी पड़ रही है। इस संबंध में निगम के एमडी से मामले की तत्काल जांच कर एक सप्ताह के भीतर आख्या देने को कहा गया है। कहा कि जांच पूरी होने के उपरान्त इस मामले को प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी अवगत करायेंगी। इस बारे में निगम के एमडी रोहित मीणा ने बात करने का प्रयास किया गया किंतु संपर्क नहीं हो पाया। अलबत्ता निगम के जीएम अशोक जोशी ने बताया कि स्क्रैप की पहली बार हुई नीलामी में कोई भी बोलीदाता कोई नहीं आया। दूसरी बार की नीलामी में किलो के रेट मांगकर तोलकर बेचा गया। बताया कि सामग्री तोलकर बेची गई है, और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी की गई है।

केएमवीएन के नये एमडी के रूप में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अध्यक्ष एवं जीएम के साथ पत्रकारों से बात करते आईएएस रोहित मीणा (File Photo)।

इस पर केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा ने कहा कि तीन-चार वर्ष पूर्व हल्द्वानी के स्थानीय स्क्रैप विक्रेताओं ने प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप का मूल्यांकन 32 से 35 लाख का किया था। इस दर पर दो बार निविदा आमंत्रित की गई, किंतु दोनों बार कोई निविदा प्राप्त नहीं हुई। इस पर प्रति किग्रा की दर से निविदा आमंत्रित की गई और केवल लोहे की स्क्रैप यानी कबाड़ सामग्री फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी कराकर पूरी पारदर्शिता एवं पूरी प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है। उन्होंने बताया कि इस बार निगम को पहली बार खनन में ऐतिहासिक तौर पर सर्वाधिक लाभ होने जा रहा है। वहीं गैस के लिए सभी एजेंसियों से संबंधित अनियमितताओं के लिए नंबर जारी किया गया, लेकिन एक भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन कर्मचारी महासंघ ने किया निगम के जीएमवीएन से एकीकरण का विरोध

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जून 2019। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के कर्मचारी महासंघ ने केएमवीएन के जीएमवीएन के साथ एकीकरण करने के निगम के निदेशक मंडल के निर्णय का पुरजोर विरोध करने का ऐलान किया है। महासंघ अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बुधवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिये कहा कि निगम प्रशासन ने कर्मचारी संगठनों को विश्वास में लिये बिना यह प्रस्ताव पारित किया है। बताया कि पूर्व में दो बार संगठन की पर्यटन सचिव से देहरादून में एकीकरण के संबंध में बैठक में महासंघ ने शासन को दोनों निगमों के एकीकरण का पुरजोर विरोध किया था, तथा कहा था कि सरकार की मंशा यदि सही है तो सरकार दोनों निगमों को उत्तराखंड पर्यटन परिषद में समायोजित करे। उन्होंने निगम प्रशासन व शासन से मांग की कि एकीकरण से पूर्व दोनों निगमों में कार्यरत संविदा कर्मियों को नियमितीकरण एवं वेतन विसंगतियां दूर करे तथा कर्मचारियों के लंबित देयकों का भुगतान करे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही दोनों निगमों के कर्मचारी संगठनों की देहरादून में बैठक आहूत कर भावी रणनीति के तहत आंदोलन किया जाएगा। निगमों में किसी भी आवास गृह को निजी क्षेत्र में देने का भी पुरजोर विरोध किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को हुई केएमवीएन की निदेशक मंडल की बैठक में केएमवीएन के जीएमवीएन में एकीकरण के साथ ही कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने, पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेने और काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी तथा लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन बोर्ड ने किया बड़ा फैसला : करेंगे जीएमवीएन के साथ एकीकरण

केएमवीएन बोर्ड बैठक में एककीकरण के प्रस्ताव को दी मंजूरी  नवीन समाचार, नैनीताल, 25 जून 2019। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने प्रदेश के दूसरे गढ़वाल मंडल विकास निगम के साथ एकीकरण के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। निगम के टीआरसी सूखाताल में मंगलवार को हुई बोर्ड बैठक में इस प्रस्ताव को औपचारिक मंजूरी दे दी गई है। बैठक में निगम के कर्मचारियों के डीए में तीन प्रतिशत वृद्धि को भी मंजूर कर लिया गया। अब कर्मचारियों को 12 प्रतिशत डीए मिलेगा। निगम में एक हजार एक सौ से अधिक कर्मचारी हैं। इनमें 566 रेगुलर हैं। निगम के अध्यक्ष केदार दत्त जोशी अध्यक्षता में हुई बैठक में एकीकरण की कवायद पर चर्चा की गई। इसमें गढ़वाल व कुमाऊं मंडल विकास निगम को एक निगम के अधीन करने का प्रस्ताव है। बोर्ड ने सरकार के इस प्रस्ताव को दीर्घकालिक हित में उचित बताते हुए मंजूर कर लिया। कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने को भी मंजूरी दी गई, जो जनवरी 2019 से देय होगा। इससे निगम पर करीब पांच लाख रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए तय किया गया कि चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेकर इनकी हालत सुधारी जाएगी। बैठक में निगम के काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी को भी मंजूरी और लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई। बैठक का संचालन प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने किया। बैठक में निगम उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी, सदस्य तारा दत्त पांडे कुंदन बिष्ट, जीएम अशोक जोशी, दया सागर,  वित्त अधिकारी दिनेश राणा, गैस प्रभारी आरएस बिष्ट आदि लोग मौजूद रहे। 

महासंघ की निगम मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन की धमकी

नैनीताल। कुमाऊं मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष दिनेश चंद्र गुरुरानी ने निगम प्रशासन से 30 जून तक कर्मचारियों की वरियता सूची व संविदा कर्मियों को नियमितीकरण सहमति के तहत कर्मचारियों के व्यक्तिगत प्रकरणों पर कार्रवाई करने की मांग की है। कहा कि पर्यटन कक्ष के कर्मचारियों को दो माह से बिना किसी वजह से वेतन नहीं दिया जा रहा है जो श्रम नियमावली का खुला उल्लंघन है। कहा कि यदि कर्मियों को जल्द वेतन नहीं दिया जाता है तो महासंघ जुलाई के पहले सप्ताह से निगम मुख्यालय में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होगा। गुरुरानी ने कहा कि किसी भी कर्मचारी का उत्पीडन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कहा कि जल्द ही महासंघ की कार्यकारिणी का विस्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : रेनू अधिकारी ने उपाध्यक्ष व कुंदन ने निदेशक पद का पदभार संभाला, बदला निगम के एमडी का प्रभार भी…

केएमवीएन के मुख्यालय पहुंचने पर निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी का पुष्पगुच्छ से स्वागत करते निगम के जीएम अशोक जोशी व अन्य।

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 मई 2019। लोक सभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले ही केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष पद पर नामित हल्द्वानी की पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष रेनू अधिकारी एवं निदेशक पद पर नामित भाजपा ने नगर मंडल महामंत्री कुंदन बिष्ट ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया है। इस अवसर पर श्रीमती अधिकारी ने कहा कि निगम की स्थितियों को सुधारने के लिए निगम के कर्मचारियों को साथ लेकर और सबके अनुभवों का लाभ लेकर कार्य करेंगी। खासकर कर्मचारियों की सरकार के स्तर पर लंबित समस्याओं का समाधान करने के लिए पुल के रूप में कार्य करेंगी। निगम में उनका फोकस पर्यटन के क्षेत्र पर रहेगा। इसके लिए सभी पर्यटक आवास गृहों का स्वयं जाकर निरीक्षण कर बेहतरी के उपाय तलाशेंगी। केएमवीएन एवं जीएमवीएन के एकीकरण पर ‘नवीन समाचार’ द्वारा पूछे गये प्रश्न पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री की जो भी मंशा होगी, उसी अनुरूप कार्य किया जाएगा।
इससे पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर टीआरएच सूखाताल में निगम के जीएम अशोक जोशी तथा विधायक संजीव आर्य एवं निगम के कर्मचारी नेताओं ने श्रीमती अधिकारी एवं कुंदन बिष्ट का पुष्पगुच्छ भेेंटकर स्वागत किया। जीएम अशोक जोशी ने खुलासा किया कि केएमवीएन का वार्षिक टर्नओवर 320 करोड़ रुपये का है, किंतु बीते वर्ष में निगम ने केवल 15 लाख रुपये का शुद्ध लाभ प्राप्त किया है। विधायक आर्य ने उम्मीद जताई कि रेनू के हल्द्वानी नगर पालिका अध्यक्ष पद के कार्यभार का अनुभव निगम को लाभ दिलाएगा। मंचासीन भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितिन कार्की ने पर्यटन के क्षेत्र में स्वरोजगार करने के इच्छुक युवाओं को विभिन्न लाइसेंस लेने के लिए निगम के अंतर्गत ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ स्थापित किये जाने का विचार दिया। संचालन नगर अध्यक्ष मनोज जोशी ने किया। इस मौके पर रेनू अधिकारी के पति महेंद्र अधिकारी, गोपाल रावत, मोहित रौतेला, मोहित साह, अशोक तिवाड़ी, विमल चौधरी, दीपक जोशी एवं कांग्रेस पार्टी के पूर्व नगर मंडल अध्यक्ष मारुति नंदन साह सहित अन्य भाजपा नेता एवं निगम के कर्मचारी मौजूद रहे।

नैनीताल के डीएम को मिला केएमवीएन के एमडी का अतिरिक्त प्रभार

नैनीताल। केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा के 15 दिन की लंबी छुट्टी पर जाने के कारण शासन ने नैनीताल के डीएम विनोद कुमार सुमन को केएमवीएन के एमडी के पद का अतिरिक्त कार्यभार सोंप दिया है। बताया गया है कि श्री मीणा की आईएएस पत्नी का लंबे समय से स्वास्थ्य काफी दिनों से चिंताजनक बना हुआ है। निगम के जीएम अशोक जोशी ने इसकी पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन के गेस्ट हाउस पिछले 5 वर्षों से भारी घाटे में, बने हैं सरकार पर बोझ

-सुरेंद्र सिंह जीना के सवाल के जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा

नवीन समाचार, देहरादून, 13 फ़रवरी 2019। दुनियाभर में होटल व्यवसाय फायदे के चलते निरंतर विकास कर रहा है, लेकिन उत्तराखंड की हालत बहुत पतली है। खासकर सरकारी गेस्ट हाउस तो सरकार के लिए एक तरह से बोझ बन गये हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले छह साल से लगातार घाटे में चल रहे हैं। हालांकि गढ़वाल में यह स्थिति सुधरी है और अब गेस्ट हाउस कमाने लगे हैं। विधानसभा में सुरेन्द्र सिंह जीना के सवाल के लिखित जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा कि कुमाऊं मंडल के पर्यटन आवास गृहों का रिकार्ड बहुत ही खराब है। 2013-14 के बाद आय व्यय का ब्योरा बता रहा है कि केएमवीएन के आवास गृह अब तक सरकार को करोड़ों का चूना लगा चुके हैं। 2013-14 में यहां 2.50 करोड़ का नुकसान हुआ, जबकि इसके अगले वर्षो में क्रमश: 45 लाख, 2.98 करोड़, 2.24 करोड़, 1.80 करोड़ और चालू वित्त वर्ष में भी दिसंबर तक 1.52 करोड़ का घाटा हो चुका है। इसके विपरीत गढ़वाल मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले दो साल से फायदे में हैं। 2017-18 में यहां 1.29 करोड़ का लाभ हुआ जबकि चालू वित्त वर्ष में दिसंबर तक 7.88 करोड़ का लाभ हो चुका है। उसके पूर्व के वर्षो में गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउस भी घाटे में चल रहे थे। वर्तमान में जीएमवीएन ने घाटे में चल रहे 8 पर्यटक आवास गृहों को लीज पर दिया हुआ है। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने भी छह आवास गृहों को लीज पर निजी संचालकों को दिया है। पर्यटन मंत्री ने बताया कि दोनों निगमों के सभी पर्यटक आवास गृहों का संचालन किया जा रहा है।

महाप्रबंधक विनीत तोमर

केएमवीएन ने अपने कार्मिकों को दिया एक और तोहफा
-छठे वेतनमान की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया
नवीन समाचार, नैनीताल, 11 नवंबर 2022। कुमाऊं मण्डल विकास निगम लिमिटेड वर्ष 2006 से अक्टूबर, 2022 तक सेवानिवृत्त हुए अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान करने जा रही है। बताया गया है कि इससे निगम पर 55 लाख रुपए का अतिरिक्त व्यय भार पड़ रहा है।
निगम के प्रबन्ध निदेशक विनीत तोमर ने बताया कि निगम के द्वारा अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय कुल 6.75 करोड़ की धनराशि के सापेक्ष 2.95 करोड़ की धनराशि दी जा चुकी है। निगम प्रबंधन द्वारा अपने आय के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार हेतु निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं, साथ ही कार्मिकों की देयताओं एवं हित लाभों के लिए भी लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इन्ही प्रयासों के तहत कार्मिकों का मनोबल बना रहे तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ प्राप्त हो सके, इस उद्देश्य से कर्मचारियों को एक और अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया जा रहा है। आगे भी निगम की आर्थिक स्थिति अनुकूल होने पर शेष धनराशि का भी भुगतान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : दीपावली पर कार्मिकों को 4000 रुपए अतिरिक्त मानदेय देगा केएमवीएन…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अक्तूबर 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम वित्तीय वर्ष 2021-2022 मे निगम में कार्यरत कार्मिकों को दीपावली पर अपने 4800 रुपए ग्रेड पे तक के सभी नियमित एवं संविदा कार्मिकों को चार हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय देने का निर्णय लिया है। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से दीपावली पर अपने प्रियजनों को शुभकामना संदेश दें मात्र 500 रुपए में… संपर्क करें 8077566792, 9412037779 पर, अपना संदेश भेजें saharanavinjoshi@gmail.com पर… यह भी पढ़ें : अधिवक्ताओं की कारें असामाजिक तत्वों के निशाने पर ! सप्ताह भर में ही एक और….

बताया गया है कि यह अतिरिक्त मानदेय एक तरह से बोनस की तरह है। वास्तव में निगम में अनुमन्य बोनस की दर काफी कम है। पिछले वर्ष निगम ने दीपावली पर प्रत्येक कार्मिक को दो हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय दिया था, जबकि इस वर्ष इस लिहाज से दोगुना अतिरिक्त मानदेय दिया गया है। यह भी पढ़ें : नवविवाहिता बहु से 65 वर्षीय ससुर ने किया दुष्कर्म….

निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर के हवाले से महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि करीब एक हजार कार्मिकों को इस अतिरिक्त मानदेय का लाभ मिलेगा। इससे निगम पर अतिरिक्त रूप से 40 लाख रुपए का व्यय भार पड़ेगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 8.26 करोड के लाभ से प्रफुल्लित केएमवीएन इस माह से कर्मियों को 3 फीसद अतिरिक्त डीए देगा..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 अगस्त 2022। पूर्व में लगातार घाटे में चलने के लिए अभिशप्त केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड ने इस वर्ष 826.72 लाख रुपए का लाभ अर्जित किया है। निगम ने इस वर्ष कई वर्षों के बाद अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों को लक्ष्य दिए और इस वर्ष अच्छा पर्यटक सीजन चलने के साथ तीन माह में ही 44 फीसद से अधिक लक्ष्य पूरे भी कर लिए हैं। इससे प्रफुल्लित निगम प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों को 1 जुलाई 2022 यानी पिछले माह यानी इस अगस्त माह के वेतन में 31 की जगह 34 यानी 3 फीसद अधिक डीए यानी महंगाई भत्ता देने की घोषणा की है। इससे निगम पर 42 लाख रुपए का अतिरिक्त वार्षिक भार पड़ेगा। यह भी पढ़ें : बड़ा शातिर निकला छोटा खान, 5 साल से शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध एक से बनाए, शादी दूसरी से कर ली….

निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेई ने महाप्रबंधक विनीत तोमर के हवाले से बताया कि करीब एक दशक के बाद निगम ने अपने टीआरएच को इस वित्तीय वर्ष के लिए करीब 20 करोड़ का लक्ष्य दिया था, इसके सापेक्ष ए श्रेणी के 14 टीआरएच ने 44.53, बी श्रेणी के 16 टीआरएच ने 38.52 एवं सी श्रेणी के 14 टीआरएच ने 27.53 करोड़ के लक्ष्य प्राप्त कर लिए हैं। इस प्रकार पर्यटन के क्षेत्र में निगम ने 372.03 लाख, गैस, जड़ी-बूटी आदि के विपणन से 341.34 लाख, खनन से 114.93 लाख, निर्माण से 27.82 लाख, रज्जु मार्ग से 86.3 लाख सहित कुल 826.72 लाख का लाभ अर्जित किया है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

यह भी बताया कि निगम ने पिछले वित्तीय वर्ष के अंतर्गत जनवरी 2022 में अपने कार्मिकों को 74 लाख रुपए छठे वेतन आयोग के व 11 फीसद महंगाई भत्ता, मार्च 2022 में 60 लाख ग्रेज्युटी के, अप्रैल 2022 में 3 फीसद महंगाई भत्ता व संविदा कर्मियों के वेतन में 800 से 1200 रुपए की वृद्धि, जून 2022 में ग्रेज्युटी के 2085 करोड़ व छठे वेतन आयोग के एरियर के 63 लाख रुपए दिए गए हैं, जबकि इधर अगस्त माह में ग्रेज्युटी के 1.2 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि इस पर निगम के कर्मचारी व उनके संगठन भी खुश होंगे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कार्मिकों पर मेहरबान केएमवीएन, अभी दिए करीब सवा करोड़, इस साल दे चुके 5.25 करोड़

-इस वर्ष पांच माह में करीब सवा पांच करोड़ का भुगतान किया गया है

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मई 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने पिछले दो वर्ष कोरोना की विषय परिस्थितियों को झेलने के बावजूद इस माह सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में 62 लाख रुपए की धनराशि की एक किश्त जारी की है। साथ ही ग्रेज्युटी के रूप में एक करोड़ 25 लाख रुपए का भुगतान किया है और अवकाश नगदीकरण में भी 40 लाख रुपए के अतिरिक्त भुगतान का निर्णय लिया है। इस प्रकार निगम सेवानिवृत्त कार्मिकों को करीब सवा करोड़ रुपए की धनराशि दी जानी है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी ने बताया कि इस प्रकार जनवरी माह से अब तक यानी 5 माह में निगम प्रबंधन ने सेवानिवृत्त कार्मिकों के ग्रेज्युटी मद में 285 लाख व छठे वेतनमान के एरियर के रूप में दो किस्तों में 145 लाख तथा अवकाश नगदीकरण के रूप में 90 लाख यानी कुल लगभग सवा 5 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। यह भी बताया कि निगम के द्वारा अप्रैल 2022 में सेवानिवृत्त कार्मिकों के डीए में 3 फीसद की वृद्धि की है, तथा अप्रैल 2022 से ही संविदा कार्मिकों के मानदेय में तृतीय श्रेणी में 1,200 और चतुर्थ श्रेणी में 800 रुपए प्रतिमाह की बढ़ोत्तरी की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन में नए एमडी तोमर ने संभाला कार्यभार

Vineet Tomar IAS posted as DM- Champawat, Uttarakhand | Indian Bureaucracy  is an Exclusive News Portalडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 अप्रैल 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास के नए एमडी यानी प्रबंधन निदेशक के पद पर 2014 बैच के आईएएस अधिकारी विनीत तोमर ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस अवसर पर श्री तोमर ने निगम की आय बढ़ाने के लिए हर संभव उपाय करने की बात कहीं।

उल्लेखनीय है कि मैकेनिकल इंजीनियर भी रही श्री तोमर इससे पूर्व चंपावत के डीएम रहे हैं। गत 22 अप्रैल को उनकी जगह केएमवीएम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी को चंपावत का नया डीएम बनाया गया तो उन्हें परिवहन निगम का एमडी बनाया गया था। किंतु पांच दिन बाद ही उनके स्थानांतरण आदेश को संशोधित कर उन्हें केएमवीएन का नया एमडी बनाया गया है। इस प्रकार श्री भंडारी एवं श्री तोमर ने एक-दूसरे को प्रतिस्थापित किया है। यह भी पढ़ें : हंगामे की भेंट चढ़ी उच्च न्यायालय के स्थानांतरण के मुद्दे पर आयोजित बार की बैठक, समर्थन में आए पूर्व में रहे विरोधी….

कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर श्री तोमर को निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इस मौके पर श्री तोमर ने आदि कैलाश यात्रा, गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप की यूनिटों में बेहतर कार्य करने की बात कही। कहा कि आदि कैलाश यात्रा में इस वर्ष 2000 लोगों को ले जाने का लक्ष्य रहेगा।

गरमपानी व सुनकिया में नए पेट्रोल पंप लगाने का कार्य गतिमान है। ताड़ीखेत, राइआगर पिथौरागढ़, नैनीताल में एरीज के पास एवं सिडकुल रुद्रपुर में पेट्रोल पंप खोलने की योजना है। घरेलू गैस की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने काठगोदाम व चंपावत में निगम की बंद पड़ी फैक्टरियों की भूमि का सदुपयोग करने की बात भी कही। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सैलानियों के लिए रोपवे और केव गार्डन का समय बढ़ा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 अप्रैल 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम द्वारा संचालित रोपवे केबल कार और केव गार्डन के खुलने का समय बढ़ा दिया गया है। नगर में सैलानियों के लिए यह दोनों बड़े आकर्षण अब तक सुबह साढ़े 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुलते थे, जबकि अब सैलानी सुबह आठ बजे से शाम 6 बजे तक केव गार्डन और रोपवे का सुबह आठ से साढ़े 6 बजे तक आनंद उठा सकेंगे।

के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी के हवाले से जीएम एपी बाजपेई ने बताया कि पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने की शुरू की पहल, आम्रपाली से मिलाया हाथ

एमओयू पर हस्ताक्षर करने के अवसर पर केएमवीएन एवं आम्रपाली के उच्चाधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मार्च 2022। पेशेवर राह पर आगे बढ़ने और समय से कदमताल करने की पहल के साथ केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम अपने पर्यटन से जुड़े कार्मिकों को सेवा के दौरान प्रशिक्षण देने की नई शुरुआत करने जा रहा है। इस हेतु निगम ने अगले दो वर्षों के लिए हल्द्वानी के आम्रपाली समूह से हाथ मिलाए हैं।

बुधवार को निगम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी, जीएम एपी वाजपेयी तथा पर्यटन विकास अधिकारी बच्ची राम आर्य की मौजूदगी में आम्रपाली समूह के निदेशक शैलेंद्र कुमार सिंह एवं आम्रपाली होटल मैनेजमेंट संस्थान के डीन प्रो. प्रशांत की मौजूदगी में एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। बताया गया कि प्रथम चरण में आसन्न ग्रीष्मकालीन पर्यटन सत्र शुरू होने से पूर्व निगम में कार्यरत प्रबंधकों, फ्रंट ऑफिस कार्मिकों, वेटर, रूम अटैंडेंट, हाउस कीपिंग स्टाफ तथा कुक आदि 150 कर्मियों को 5 बैचों में आम्रपाली संस्थान से 6 दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा।

निगम के एमडी श्री भंडारी ने इस अवसर पर कहा कि निगम वर्तमान में 46 पर्यटक आवास गृहों के साथ कैलाश मानसरोवर एवं आदि कैलाश यात्रा का संचालन करता है। पर्यटकों के सम्मुख निगम तथा राज्य सरकार की छवि आवास गृहों में कार्यरत कार्मिकों के आचरण एवं व्यवहार की कार्य कुशलता पर निर्भर करती है। इसलिए कार्मिकों को पर्यटन के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों तथा अन्य विधाओं से अवगत कराने तथा जानकारी को अद्यतन करने के लिए उन्हें सेवाकालीन प्रशिक्षण देकर उनका कौशल विकास करने का निर्णय लिया गया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन प्रबंधन ने कर्मचारियों को किया एरियर का भुगतान

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 नवंबर 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम प्रबंधन ने कर्मचारियों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय 6.75 करोड़ रुपए की धनराशि के सापेक्ष वर्ष 2019 तक के दो करोउ़ 19 लाख रुपए की धनराशि का भुगतान कर दिया है। साथ ही निगम प्रबंधन ने निगम की आय बढ़ाने के लिए किए गए विभिन्न प्रयासों के फलस्वरूप वर्ष 2006 से दिसंबर 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कार्मिकों को एक अतिरिक्त किस्त के रूप में 83 लाख रुपए का भुगतान भी कर दिया है।

निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि निगम प्रबंधन द्वारा अपनी आय के स्रोतों की वृद्धि हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार तथा कार्मिकों के देयों एवं हित लाभों के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि कार्मिकों का मनोबल बना रहे और सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ मिल सके। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : निगम महासंघ का 13 दिनों से चल रहा आंदोलन स्थगित

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 दिसंबर 2021। कुमाऊं गढ़वाल मंडल विकास निगम के संयुक्त कर्मचारी महासंघ ने शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद अपने आंदोलन को स्थगित कर दिया है। महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुरु रानी ने कहा कि देहरादून में प्रमुख सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर से हुई वार्ता में महासंघ के 12 सूत्रीय मांग पत्र पर चर्चा की गई।

इन मांगों पर पूर्व में शासन में 7 अक्टूबर को वार्ता हुई थी। जिसमें लिखित समझौता भी हुआ था उसे पूरा न करने पर महासंघ द्वारा 23 नवंबर से अनिश्चितकालीन आंदोलन प्रारंभ कर दिया गया था। आज शासन की ओर से नियमितीकरण की कार्यवाही शीघ्र शुरू करने, खनन के पट्टे निगम को देने, निगम के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करने संबंधी मांगों पर शीघ्र कार्रवाई के साथ ही पर्यटन सचिव द्वारा दोनों निगमों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिए गए कि वे निगम स्तर की समस्याओं का अविलंब समाधान हेतु महासंघ से वार्ता करें। इस पर आंदोलन स्थगित कर दिया गया है।

अलबत्ता गुरूरानी ने कहा कि दोनों निगमों में वेतन विसंगति है। गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा जहां कर्मचारियों का 11 फीसद महंगाई भत्ता दे दिया गया है वहीं कुमाऊं मंडल विकास में उनके प्रबंधन द्वारा अभी तक महंगाई भत्ता तक नहीं दिया। यदि किसी कर्मचारी का आंदोलन में शामिल होने पर उत्पीड़न किया गया तो महासंघ पुनः आंदोलन करेगा। आंदोलन स्थगित करने का निर्णय लेने में महामंत्री आशीष उनियाल गुमान सिंह कुमटिया, दिनेश सांगुडी, राजेश रमोला, जोगिंदर लाल, किशन पवार, विनोद तिवारी, रमेश कपकोटी, गौतम कुमार, कैलाश आर्यर्, दिव्यांशु रावत, नीता आर्य, कमला धानिक, जानकी आर्य, संदीप सहाय व ललित सहाय सहित अन्य निगम कर्मी शामिल रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने तैयार की मार्चूला को साहसिक खेलों का हब बनाने की डीपीआर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अगस्त 2021। साहसिक खेल गतिविधियों के माध्यम से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से नए पर्यटन स्थलों की तलाश करने के साथ उन्हें विकसित करने पर तेजी से काम किया जा रहा है। इसके तहत अल्मोड़ा के मार्चुला में एंगलिंग, पैराग्लाइडिंग, ट्रेल रन, माउंटेन बाइकिंग, रिवर, क्रॉसिंग, वॉटर रोलिंग, ऑफ-रोडिंग, हाइकिंग, सफारी जैसे साहसिक खेलों को विकसित करने के लिए उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) के अधिकारियों ने सोमवार को स्थलीय निरीक्षण किया गया है।

यूटीडीबी के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी-साहसिक पर्यटन कर्नल अश्विन पुंडीर ने बताया कि मार्चुला से भिकियासैंण तक होने वाले विकास कार्यों के लिए केएमवीएन की ओर से डीपीआर तैयार की गई है। क्षेत्र में पर्यटकों को बेहतर सुविधा देने के लिए विभाग की ओर से कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। मार्चुला में पर्यटकों को आवास और स्वादिष्ट भोजन के साथ अन्य सभी सुविधाएं दी जाएगी। इस मौके पर केएमवीएन के सहायक अभियंता मनोज महर्षिवाल, यूटीडटी के सुरेंद्र सिंह बोहरा और एंगलिंग विशेषज्ञ संजीव मौजूद रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन-जीएमवीएन कर्मचारी महासंघ के सिल्वर जुबली वर्ष में वार्षिक अधिवेशन का ऐलान

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2021। केएमवीएन-जीएमवीएन के संयुक्त कर्मचारी महासंघ का वार्षिक अधिवेशन आगामी 4 अगस्त को ऋषिकेश में होगा। जिसमें नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बताया कि महासंघ का गठन 30 अप्रैल 1995 को ग्वालदम स्थित पर्यटक आवास गृह में हुआ था। इस वर्ष महासंघ अपने 25 साल पूरे होने पर सिल्वर जुबली के अवसर पर पूर्व के पदाधिकारियों को सम्मानित करेगा। साथ ही नई रणनीति के तहत कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए मांग पत्र के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री से भी मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दोनों निगमों में लंबे समय से संविदा में कार्यरत कर्मचारियों का नियमितीकरण नहीं हुआ है। इसके साथ ही विभागीय पदोन्नतियों व अन्य प्रकरणों पर भी कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि अधिवेशन में कुमाऊं मंडल के पदाधिकारियों के साथ गढ़वाल मंडल के समस्त जनपदों के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को दोनों निगमों के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करते हुए अतिरिक्त मानदेय दिया जाना चाहिए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कर्मचारी नेता आशीष उनियाल, राजेश रमोला, मनमोहन चौधरी, सत्यपाल बिष्ट, किशन पवार आदि जुटे हुए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नए एमडी के साथ 50-60 करोड़ से बदलेगा केएमएवीएन के टीआरएच का कलेवर

-निगम की पेट्रोल पंप सैक्टर में भी आगे बढ़ने की योजना

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जुलाई 2021। कुमाऊं मंडल विकास निगम शीघ्र ही नए प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी की पहल पर अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों का सौंदर्यीकरण करने जा रहा है। श्री भंडारी ने इस तथा अपनी अन्य भावी योजनाओं के बारे में ‘नवीन समाचार’ को एक विशेष भेंट में बताया कि टीआरएच में सौंदर्यीकरण के कार्यों पर 50 से 60 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है।

उन्होंने बताया कि निगम के अच्छे, अधिक सैलानियों की पहुंच वाले सूखाताल, भीमताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, मुक्तेश्वर, काठगोदाम, रानीखेत, बिन्सर, पिथौरागढ़, रामगढ़ व कौसानी आदि के टीआरएच का जीर्णोद्धार व विस्तार करेगा। इसके अलावा दूसरे चरण में जागेश्वर, डीनापानी, अल्मोड़ा, मुन्स्यारी, मोहान व चौकोड़ी के पर्यटक आवास गृहों का भी सौंदर्यीकरण करने की योजना है। योजना के तहत सभी पर्यटक आवास गृहों का प्रवेश द्वार एवं बाह्य आवरण एकरूप एवं बेहतर करना है। साथ ही किचन एवं बाथरूम को बेहतर फिटिंग्स एवं फर्नीचर से युक्त करना है। इसके अलावा अब तक जहां निगम के टीआरएच उनके शहर के नाम के आधार पर जाने जाते हैं, वहीं अब टीआरएच को उनके अपने विशिष्ट नाम देने तथा आसपास के कुछ टीआरएच को एक चेन या श्रृंखला में लाने की भी योजना है। जैसे ‘परिचय’ नाम की श्रृंखला में नैनीताल, भीमताल, मुक्तेश्वर व नौकुचियाताल आदि टीआरएच शामिल होंगे।

श्री भंडारी ने बताया कि सभी टीआरएच के प्रवेश द्वारों को आकर्षक बनाया जाएगा। साथ ही जहां संभव होगा, वहां नए कक्षों का निर्माण करना एवं संभव न होने पर सुविधाओं को बेहतर करने की योजना है। ताकि अधिक संख्या में सैलानी यहां ठहर सकें। उन्हें कक्ष न मिल पाने की असुविधा न हो। इसके अलावा निगम अपने पर्यटक आवास गृहों में पर्यटकों की पहुंच बढ़ाने के लिए ‘मेक माइ ट्रिप’ एवं ‘गो आईबीबो’ सरीखी ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों के साथ भी अनुबंध करने जा रहा है। निगम की कोशिश है कि उसके आवास गृहों के कक्ष खाली न रहें। अधिक यात्री उन तक पहुंचें। इसके अलावा निगम पेट्रोल पंप सैक्टर में भी अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने जा रहा है। श्री भंडारी ने बताया कि सूखाताल पेट्रोल पंप के बेहतर अनुभव को देखते हुए निगम की अल्मोड़ा जनपद के ताड़ीखेत व नैनीताल जनपद के सुनकिया-मुक्तेश्वर में भी पेट्रोल पंप खोलने की कोशिश चल रही है। बताया कि ताड़ीखेत में पेट्रोल पंप लगना प्रारंभ हो गया है, जबकि सुनकिया के लिए आईओसी से बात चल रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन की निर्माण एजेंसी के रूप में पहचान बनाएंगे नए एमडी…

-निगम के नए एमडी नरेंद्र भंडारी ने कार्यभार संभालने के बाद जताया इरादा, पर्यटन क्षेत्र में बेहतर सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का जताया इरारा

केएमवीएन के नए एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जून 2021। नैनीताल जनपद में मुख्य विकास अधिकारी के रूप में यादगार कार्यकाल के बाद आईएएस अधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने शनिवार को केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक पद का कार्यभार संभाल लिया है। इस अवसर पर मूलतः इंजीनियर भी रहे भंडारी ने निगम को निर्माण एजेंसी के रूप में स्थापित करने एवं विशेषज्ञता हासिल करने का इरादा जताया। उन्होंने कहा कि राज्य में गुणवत्तायुक्त निर्माण एजेंसियों की कमी है। निगम चाहे तो 10, 20, 50 से 100 करोड़ रुपए तक के भी कार्य कर सकता है। वहीं पर्यटन के क्षेत्र में उन्होंने बेहतर सेवा-सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का इरादा जताया। कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों में ग्रामीणों को रात्रि में सैलानियों को खुले आकाश में सितारों के दर्शन कराने के लिए दूरबीनें उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके अलावा उन्होंने गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप आदि क्षेत्रों में भी कार्य करने की बात कही।

संदीप तिवारी ने संभाला सीडीओ पद का कार्यभार
नैनीताल। टिहरी से स्थानान्तरित होकर आये आईएएस संदीप तिवारी ने शनिवार पूर्वाह्न विकास भवन भीमताल में पूर्व मुख्य विकास अधिकारी नरेंद्र सिह भंडारी से कार्यभार ग्रहण किया। इस दौरान श्री तिवारी ने अधिकारियों से औपचारिक भेंट की तथा विकास भवन परिसर के कार्यालय का निरीक्षण भी किया, तथा कोविड की दृष्टि से विभागों द्वारा संचालित कार्यक्रमों एवं विभागीय योजनाओं की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : दो टीआरएच से निकला केएमवीएन की सभी समस्याओं का समाधान, निगम की भविष्य की योजनाओं की अध्यक्ष व एमडी ने दी जानकारी

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 फरवरी 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के अध्यक्ष केदार जोशी व प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि निगम के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृह-मोहान व परिचय नौकुचियाताल को 2.25 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष की दर पर 15 वर्ष के लिए लीज पर देकर 15 करोड़ रुपए का ऋण लिया जाएगा। लीज से मिलने वाली धनराशि से ऋण की किस्त चुकाई जाएंगी, साथ ही सूखाताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, भीमताल, मुक्तेश्वर, अल्मोड़ा, बिन्सर, डीनापानी रानीखेत, जागेश्वर, चौकोड़ी, रामगढ़, मोहान, कौसानी, काठगोदाम व परिचय टीआरएच में 23.5 करोड़ रुपयों की लागत से 100 कक्ष बढ़ाने के साथ ही निगम के 50 फीसद टीआरएच में 3स्टार की सुविधा व क्षमता विकास के साथ सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे।

पत्रकार वार्ता करते निगम के एमडी, अध्यक्ष व अन्य।

इस तरह निगम में 370 कक्षों की क्षमता हो जाएगी। इससे निगम की आय में हर वर्ष 4.5 से 5 करोड़ की वृद्धि होगी। साथ ही संविदा कर्मचारियों के मानदेय में मार्च से 1000 एवं इस वर्ष में कुल 3000 रुपए की वृद्धि की जाएगी। यह भी बताया कि निगम में 2 वर्ष की अवधि के लिए 21 लाख रुपए प्रतिवर्ष के मानदेय पर 5 स्टार सुविधाओं के टूरिज्म कंसल्टेंट एवं 30 हजार रुपए वेतन पर महाप्रबंधक सहित अन्य तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति कर निगम के कर्मियों को प्रशिक्षण देकर उनके कौशल वृद्धि का प्रबंध भी किया जाएगा। साथ ही एमडी रोहित मीणा ने 5 की जगह 18 खनन पट्टों के जरिये प्रति वर्ष 10 करोड़ एवं एक की जगह भवाली, ताड़ीखेत, कपकोट, काशीपुर व रुद्रपुर सहित करीब 10 नए पेट्रोल पंप स्थापित करने, निगम की सूखाताल स्थित पार्किंग की छत को हुनर हाट की तर्ज पर विकसित करने व यहां स्थानीय प्रतिभाओं को भी मंच उपलब्ध कराने, स्नोव्यू में डायनासोर थीम पार्क विकसित करने, केव गार्डन में लाइट, साउंड फाउंटेन शुरू करने व नए वित्तीय वर्ष में निगम के पुराने मुख्यालय भवन में मुख्यालय को पुर्नस्थापित करने की बात भी कही। वहीं अध्यक्ष कैलाश जोशी ने आदि कैलाश यात्रा को विकसित करने का इरादा भी जताया, और केएमवीएन व जीएमवीएन के एकीकरण के बावजूद दोनों निगमों का स्वतंत्र अस्तित्व बने रहने की बात भी कही।

यह भी पढ़ें : 11वें दिन भी जारी रहा केएमवीएन कर्मचारी महासंघ का अनूठा गांधीवादी आंदोलन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 27 अगस्त 2020। कुमाऊँ मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ कर्मचारियों का आंदोलन बृहस्पतिवार को 11वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान कर्मचारियों ने अपराह्न एक से दो बजे तक लंच की अवधि में काला फीता बांधकर कार्य बहिष्कार किया। साथ ही ‘एक पौधा धरती मां के नाम’ अभियान के तहत पौधारोपण व स्वच्छता कार्यक्रम चलाया। इस मौके पर महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने कहा कि ने जब तक मांगें पूरी नहीं होती हैं तब तक महासंघ गांधीवादी तरीके से उत्तराखंड में कर्मचारी संगठनों की ओर से किया जाने वाला अनोखा आंदोलन करता रहेगा। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन कर्मचारियों के प्रकरण पर संवेदनशील नहीं है। इतनी लंबी अवधि बीतने के बाद भी अधिकारियों द्वारा विभागीय पदोन्नतियां व नियमितीकरण सहित अन्य मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि निगम के आवास गृहों से क्वारंटाइन केंद्र हटाए जाएं एवं उनके रखरखाव के लिए धनराशि आवंटित की जाए। साथ ही निगम को आर्थिक पैकेज दिया जाए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंजुल सनवाल, रमेश प्रसाद, अशोक पांडे, दिनेश सांगुडी, गुमान सिंह कुमटिया, रवि साह व कैलाश बिष्ट प्रमुख रूप से शामिल रहे।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप https://chat.whatsapp.com/BXdT59sVppXJRoqYQQLlAp से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग: कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष ने लगाए निगम में भ्रष्टाचार के आरोप

केएमवीएन की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 फरवरी 2020। कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी ने निगम में अनियमितताओं का आरोप लगाया है। मंगलवार को प्रेस को जारी बयान में श्रीमती अधिकारी ने कहा कि बीते कुछ महीनो से उन्हें निगम के कार्यों में अनिमियताएं नजर आ रही हैं, जिन्हें वे उजागर करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री ने निगम में उपाध्यक्ष का दायित्व दिया है, जिसे उन्होंने पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से निभाने का संकल्प लिया है। कहा कि निगम की बंद फैक्टरियों में स्क्रैप के सामान की नीलामी में बड़ी धांधली का पता चला है।

बताया कि निगम की ओर से शीशमहल स्थित बंद पड़ी प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप की 14-15 लाख रुपए में बेचे जाने की निविदा निकाली गई थी, जबकि सामग्री वास्तव में 30-32 लाख की थी, लेकिन इसे बिना पुरानी कमेटी को भंग किए नई कमेटी गठित करके मात्र 8-8.5 लाख रुपए में ही बेच दिया गया। यही नहीं इच्छुक निविदादाताओं को स्क्रैप की पूरी सामग्री भी नहीं दिखाई गई। पुरानी समिति को भंग किये बिना नई समिति से बिक्री कराई गई और नई समिति ने पुरानी समिति से भी बात नहीं की। कहा कि निगम के कुछ अधिकारियों की अनियमितताओं के कारण निगम को आर्थिक क्षति झेलनी पड़ रही है। इस संबंध में निगम के एमडी से मामले की तत्काल जांच कर एक सप्ताह के भीतर आख्या देने को कहा गया है। कहा कि जांच पूरी होने के उपरान्त इस मामले को प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी अवगत करायेंगी। इस बारे में निगम के एमडी रोहित मीणा ने बात करने का प्रयास किया गया किंतु संपर्क नहीं हो पाया। अलबत्ता निगम के जीएम अशोक जोशी ने बताया कि स्क्रैप की पहली बार हुई नीलामी में कोई भी बोलीदाता कोई नहीं आया। दूसरी बार की नीलामी में किलो के रेट मांगकर तोलकर बेचा गया। बताया कि सामग्री तोलकर बेची गई है, और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी की गई है।

केएमवीएन के नये एमडी के रूप में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अध्यक्ष एवं जीएम के साथ पत्रकारों से बात करते आईएएस रोहित मीणा (File Photo)।

इस पर केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा ने कहा कि तीन-चार वर्ष पूर्व हल्द्वानी के स्थानीय स्क्रैप विक्रेताओं ने प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप का मूल्यांकन 32 से 35 लाख का किया था। इस दर पर दो बार निविदा आमंत्रित की गई, किंतु दोनों बार कोई निविदा प्राप्त नहीं हुई। इस पर प्रति किग्रा की दर से निविदा आमंत्रित की गई और केवल लोहे की स्क्रैप यानी कबाड़ सामग्री फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी कराकर पूरी पारदर्शिता एवं पूरी प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है। उन्होंने बताया कि इस बार निगम को पहली बार खनन में ऐतिहासिक तौर पर सर्वाधिक लाभ होने जा रहा है। वहीं गैस के लिए सभी एजेंसियों से संबंधित अनियमितताओं के लिए नंबर जारी किया गया, लेकिन एक भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन कर्मचारी महासंघ ने किया निगम के जीएमवीएन से एकीकरण का विरोध

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जून 2019। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के कर्मचारी महासंघ ने केएमवीएन के जीएमवीएन के साथ एकीकरण करने के निगम के निदेशक मंडल के निर्णय का पुरजोर विरोध करने का ऐलान किया है। महासंघ अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बुधवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिये कहा कि निगम प्रशासन ने कर्मचारी संगठनों को विश्वास में लिये बिना यह प्रस्ताव पारित किया है। बताया कि पूर्व में दो बार संगठन की पर्यटन सचिव से देहरादून में एकीकरण के संबंध में बैठक में महासंघ ने शासन को दोनों निगमों के एकीकरण का पुरजोर विरोध किया था, तथा कहा था कि सरकार की मंशा यदि सही है तो सरकार दोनों निगमों को उत्तराखंड पर्यटन परिषद में समायोजित करे। उन्होंने निगम प्रशासन व शासन से मांग की कि एकीकरण से पूर्व दोनों निगमों में कार्यरत संविदा कर्मियों को नियमितीकरण एवं वेतन विसंगतियां दूर करे तथा कर्मचारियों के लंबित देयकों का भुगतान करे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही दोनों निगमों के कर्मचारी संगठनों की देहरादून में बैठक आहूत कर भावी रणनीति के तहत आंदोलन किया जाएगा। निगमों में किसी भी आवास गृह को निजी क्षेत्र में देने का भी पुरजोर विरोध किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को हुई केएमवीएन की निदेशक मंडल की बैठक में केएमवीएन के जीएमवीएन में एकीकरण के साथ ही कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने, पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेने और काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी तथा लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन बोर्ड ने किया बड़ा फैसला : करेंगे जीएमवीएन के साथ एकीकरण

केएमवीएन बोर्ड बैठक में एककीकरण के प्रस्ताव को दी मंजूरी  नवीन समाचार, नैनीताल, 25 जून 2019। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने प्रदेश के दूसरे गढ़वाल मंडल विकास निगम के साथ एकीकरण के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। निगम के टीआरसी सूखाताल में मंगलवार को हुई बोर्ड बैठक में इस प्रस्ताव को औपचारिक मंजूरी दे दी गई है। बैठक में निगम के कर्मचारियों के डीए में तीन प्रतिशत वृद्धि को भी मंजूर कर लिया गया। अब कर्मचारियों को 12 प्रतिशत डीए मिलेगा। निगम में एक हजार एक सौ से अधिक कर्मचारी हैं। इनमें 566 रेगुलर हैं। निगम के अध्यक्ष केदार दत्त जोशी अध्यक्षता में हुई बैठक में एकीकरण की कवायद पर चर्चा की गई। इसमें गढ़वाल व कुमाऊं मंडल विकास निगम को एक निगम के अधीन करने का प्रस्ताव है। बोर्ड ने सरकार के इस प्रस्ताव को दीर्घकालिक हित में उचित बताते हुए मंजूर कर लिया। कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने को भी मंजूरी दी गई, जो जनवरी 2019 से देय होगा। इससे निगम पर करीब पांच लाख रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए तय किया गया कि चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेकर इनकी हालत सुधारी जाएगी। बैठक में निगम के काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी को भी मंजूरी और लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई। बैठक का संचालन प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने किया। बैठक में निगम उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी, सदस्य तारा दत्त पांडे कुंदन बिष्ट, जीएम अशोक जोशी, दया सागर,  वित्त अधिकारी दिनेश राणा, गैस प्रभारी आरएस बिष्ट आदि लोग मौजूद रहे। 

महासंघ की निगम मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन की धमकी

नैनीताल। कुमाऊं मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष दिनेश चंद्र गुरुरानी ने निगम प्रशासन से 30 जून तक कर्मचारियों की वरियता सूची व संविदा कर्मियों को नियमितीकरण सहमति के तहत कर्मचारियों के व्यक्तिगत प्रकरणों पर कार्रवाई करने की मांग की है। कहा कि पर्यटन कक्ष के कर्मचारियों को दो माह से बिना किसी वजह से वेतन नहीं दिया जा रहा है जो श्रम नियमावली का खुला उल्लंघन है। कहा कि यदि कर्मियों को जल्द वेतन नहीं दिया जाता है तो महासंघ जुलाई के पहले सप्ताह से निगम मुख्यालय में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होगा। गुरुरानी ने कहा कि किसी भी कर्मचारी का उत्पीडन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कहा कि जल्द ही महासंघ की कार्यकारिणी का विस्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : रेनू अधिकारी ने उपाध्यक्ष व कुंदन ने निदेशक पद का पदभार संभाला, बदला निगम के एमडी का प्रभार भी…

केएमवीएन के मुख्यालय पहुंचने पर निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी का पुष्पगुच्छ से स्वागत करते निगम के जीएम अशोक जोशी व अन्य।

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 मई 2019। लोक सभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले ही केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष पद पर नामित हल्द्वानी की पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष रेनू अधिकारी एवं निदेशक पद पर नामित भाजपा ने नगर मंडल महामंत्री कुंदन बिष्ट ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया है। इस अवसर पर श्रीमती अधिकारी ने कहा कि निगम की स्थितियों को सुधारने के लिए निगम के कर्मचारियों को साथ लेकर और सबके अनुभवों का लाभ लेकर कार्य करेंगी। खासकर कर्मचारियों की सरकार के स्तर पर लंबित समस्याओं का समाधान करने के लिए पुल के रूप में कार्य करेंगी। निगम में उनका फोकस पर्यटन के क्षेत्र पर रहेगा। इसके लिए सभी पर्यटक आवास गृहों का स्वयं जाकर निरीक्षण कर बेहतरी के उपाय तलाशेंगी। केएमवीएन एवं जीएमवीएन के एकीकरण पर ‘नवीन समाचार’ द्वारा पूछे गये प्रश्न पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री की जो भी मंशा होगी, उसी अनुरूप कार्य किया जाएगा।
इससे पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर टीआरएच सूखाताल में निगम के जीएम अशोक जोशी तथा विधायक संजीव आर्य एवं निगम के कर्मचारी नेताओं ने श्रीमती अधिकारी एवं कुंदन बिष्ट का पुष्पगुच्छ भेेंटकर स्वागत किया। जीएम अशोक जोशी ने खुलासा किया कि केएमवीएन का वार्षिक टर्नओवर 320 करोड़ रुपये का है, किंतु बीते वर्ष में निगम ने केवल 15 लाख रुपये का शुद्ध लाभ प्राप्त किया है। विधायक आर्य ने उम्मीद जताई कि रेनू के हल्द्वानी नगर पालिका अध्यक्ष पद के कार्यभार का अनुभव निगम को लाभ दिलाएगा। मंचासीन भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितिन कार्की ने पर्यटन के क्षेत्र में स्वरोजगार करने के इच्छुक युवाओं को विभिन्न लाइसेंस लेने के लिए निगम के अंतर्गत ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ स्थापित किये जाने का विचार दिया। संचालन नगर अध्यक्ष मनोज जोशी ने किया। इस मौके पर रेनू अधिकारी के पति महेंद्र अधिकारी, गोपाल रावत, मोहित रौतेला, मोहित साह, अशोक तिवाड़ी, विमल चौधरी, दीपक जोशी एवं कांग्रेस पार्टी के पूर्व नगर मंडल अध्यक्ष मारुति नंदन साह सहित अन्य भाजपा नेता एवं निगम के कर्मचारी मौजूद रहे।

नैनीताल के डीएम को मिला केएमवीएन के एमडी का अतिरिक्त प्रभार

नैनीताल। केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा के 15 दिन की लंबी छुट्टी पर जाने के कारण शासन ने नैनीताल के डीएम विनोद कुमार सुमन को केएमवीएन के एमडी के पद का अतिरिक्त कार्यभार सोंप दिया है। बताया गया है कि श्री मीणा की आईएएस पत्नी का लंबे समय से स्वास्थ्य काफी दिनों से चिंताजनक बना हुआ है। निगम के जीएम अशोक जोशी ने इसकी पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन के गेस्ट हाउस पिछले 5 वर्षों से भारी घाटे में, बने हैं सरकार पर बोझ

-सुरेंद्र सिंह जीना के सवाल के जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा

नवीन समाचार, देहरादून, 13 फ़रवरी 2019। दुनियाभर में होटल व्यवसाय फायदे के चलते निरंतर विकास कर रहा है, लेकिन उत्तराखंड की हालत बहुत पतली है। खासकर सरकारी गेस्ट हाउस तो सरकार के लिए एक तरह से बोझ बन गये हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले छह साल से लगातार घाटे में चल रहे हैं। हालांकि गढ़वाल में यह स्थिति सुधरी है और अब गेस्ट हाउस कमाने लगे हैं। विधानसभा में सुरेन्द्र सिंह जीना के सवाल के लिखित जवाब में पर्यटन मंत्री ने कहा कि कुमाऊं मंडल के पर्यटन आवास गृहों का रिकार्ड बहुत ही खराब है। 2013-14 के बाद आय व्यय का ब्योरा बता रहा है कि केएमवीएन के आवास गृह अब तक सरकार को करोड़ों का चूना लगा चुके हैं। 2013-14 में यहां 2.50 करोड़ का नुकसान हुआ, जबकि इसके अगले वर्षो में क्रमश: 45 लाख, 2.98 करोड़, 2.24 करोड़, 1.80 करोड़ और चालू वित्त वर्ष में भी दिसंबर तक 1.52 करोड़ का घाटा हो चुका है। इसके विपरीत गढ़वाल मंडल विकास निगम के पर्यटक आवास गृह पिछले दो साल से फायदे में हैं। 2017-18 में यहां 1.29 करोड़ का लाभ हुआ जबकि चालू वित्त वर्ष में दिसंबर तक 7.88 करोड़ का लाभ हो चुका है। उसके पूर्व के वर्षो में गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउस भी घाटे में चल रहे थे। वर्तमान में जीएमवीएन ने घाटे में चल रहे 8 पर्यटक आवास गृहों को लीज पर दिया हुआ है। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने भी छह आवास गृहों को लीज पर निजी संचालकों को दिया है। पर्यटन मंत्री ने बताया कि दोनों निगमों के सभी पर्यटक आवास गृहों का संचालन किया जा रहा है।

केएमवीएन के नये एमडी के रूप में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अध्यक्ष एवं जीएम के साथ पत्रकारों से बात करते आईएएस रोहित मीणा।

महाप्रबंधक विनीत तोमर

केएमवीएन ने अपने कार्मिकों को दिया एक और तोहफा
-छठे वेतनमान की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया
नवीन समाचार, नैनीताल, 11 नवंबर 2022। कुमाऊं मण्डल विकास निगम लिमिटेड वर्ष 2006 से अक्टूबर, 2022 तक सेवानिवृत्त हुए अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर की एक अतिरिक्त किश्त का भुगतान करने जा रही है। बताया गया है कि इससे निगम पर 55 लाख रुपए का अतिरिक्त व्यय भार पड़ रहा है।
निगम के प्रबन्ध निदेशक विनीत तोमर ने बताया कि निगम के द्वारा अपने कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय कुल 6.75 करोड़ की धनराशि के सापेक्ष 2.95 करोड़ की धनराशि दी जा चुकी है। निगम प्रबंधन द्वारा अपने आय के स्रोत बढ़ाये जाने हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार हेतु निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं, साथ ही कार्मिकों की देयताओं एवं हित लाभों के लिए भी लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इन्ही प्रयासों के तहत कार्मिकों का मनोबल बना रहे तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ प्राप्त हो सके, इस उद्देश्य से कर्मचारियों को एक और अतिरिक्त किश्त का भुगतान किया जा रहा है। आगे भी निगम की आर्थिक स्थिति अनुकूल होने पर शेष धनराशि का भी भुगतान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : दीपावली पर कार्मिकों को 4000 रुपए अतिरिक्त मानदेय देगा केएमवीएन…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अक्तूबर 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम वित्तीय वर्ष 2021-2022 मे निगम में कार्यरत कार्मिकों को दीपावली पर अपने 4800 रुपए ग्रेड पे तक के सभी नियमित एवं संविदा कार्मिकों को चार हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय देने का निर्णय लिया है। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से दीपावली पर अपने प्रियजनों को शुभकामना संदेश दें मात्र 500 रुपए में… संपर्क करें 8077566792, 9412037779 पर, अपना संदेश भेजें saharanavinjoshi@gmail.com पर… यह भी पढ़ें : अधिवक्ताओं की कारें असामाजिक तत्वों के निशाने पर ! सप्ताह भर में ही एक और….

बताया गया है कि यह अतिरिक्त मानदेय एक तरह से बोनस की तरह है। वास्तव में निगम में अनुमन्य बोनस की दर काफी कम है। पिछले वर्ष निगम ने दीपावली पर प्रत्येक कार्मिक को दो हजार रुपए अतिरिक्त मानदेय दिया था, जबकि इस वर्ष इस लिहाज से दोगुना अतिरिक्त मानदेय दिया गया है। यह भी पढ़ें : नवविवाहिता बहु से 65 वर्षीय ससुर ने किया दुष्कर्म….

निगम के प्रबंध निदेशक विनीत तोमर के हवाले से महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने बताया कि करीब एक हजार कार्मिकों को इस अतिरिक्त मानदेय का लाभ मिलेगा। इससे निगम पर अतिरिक्त रूप से 40 लाख रुपए का व्यय भार पड़ेगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 8.26 करोड के लाभ से प्रफुल्लित केएमवीएन इस माह से कर्मियों को 3 फीसद अतिरिक्त डीए देगा..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 अगस्त 2022। पूर्व में लगातार घाटे में चलने के लिए अभिशप्त केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड ने इस वर्ष 826.72 लाख रुपए का लाभ अर्जित किया है। निगम ने इस वर्ष कई वर्षों के बाद अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों को लक्ष्य दिए और इस वर्ष अच्छा पर्यटक सीजन चलने के साथ तीन माह में ही 44 फीसद से अधिक लक्ष्य पूरे भी कर लिए हैं। इससे प्रफुल्लित निगम प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों को 1 जुलाई 2022 यानी पिछले माह यानी इस अगस्त माह के वेतन में 31 की जगह 34 यानी 3 फीसद अधिक डीए यानी महंगाई भत्ता देने की घोषणा की है। इससे निगम पर 42 लाख रुपए का अतिरिक्त वार्षिक भार पड़ेगा। यह भी पढ़ें : बड़ा शातिर निकला छोटा खान, 5 साल से शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध एक से बनाए, शादी दूसरी से कर ली….

निगम के महाप्रबंधक एपी बाजपेई ने महाप्रबंधक विनीत तोमर के हवाले से बताया कि करीब एक दशक के बाद निगम ने अपने टीआरएच को इस वित्तीय वर्ष के लिए करीब 20 करोड़ का लक्ष्य दिया था, इसके सापेक्ष ए श्रेणी के 14 टीआरएच ने 44.53, बी श्रेणी के 16 टीआरएच ने 38.52 एवं सी श्रेणी के 14 टीआरएच ने 27.53 करोड़ के लक्ष्य प्राप्त कर लिए हैं। इस प्रकार पर्यटन के क्षेत्र में निगम ने 372.03 लाख, गैस, जड़ी-बूटी आदि के विपणन से 341.34 लाख, खनन से 114.93 लाख, निर्माण से 27.82 लाख, रज्जु मार्ग से 86.3 लाख सहित कुल 826.72 लाख का लाभ अर्जित किया है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

यह भी बताया कि निगम ने पिछले वित्तीय वर्ष के अंतर्गत जनवरी 2022 में अपने कार्मिकों को 74 लाख रुपए छठे वेतन आयोग के व 11 फीसद महंगाई भत्ता, मार्च 2022 में 60 लाख ग्रेज्युटी के, अप्रैल 2022 में 3 फीसद महंगाई भत्ता व संविदा कर्मियों के वेतन में 800 से 1200 रुपए की वृद्धि, जून 2022 में ग्रेज्युटी के 2085 करोड़ व छठे वेतन आयोग के एरियर के 63 लाख रुपए दिए गए हैं, जबकि इधर अगस्त माह में ग्रेज्युटी के 1.2 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि इस पर निगम के कर्मचारी व उनके संगठन भी खुश होंगे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कार्मिकों पर मेहरबान केएमवीएन, अभी दिए करीब सवा करोड़, इस साल दे चुके 5.25 करोड़

-इस वर्ष पांच माह में करीब सवा पांच करोड़ का भुगतान किया गया है

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मई 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम ने पिछले दो वर्ष कोरोना की विषय परिस्थितियों को झेलने के बावजूद इस माह सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिकों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में 62 लाख रुपए की धनराशि की एक किश्त जारी की है। साथ ही ग्रेज्युटी के रूप में एक करोड़ 25 लाख रुपए का भुगतान किया है और अवकाश नगदीकरण में भी 40 लाख रुपए के अतिरिक्त भुगतान का निर्णय लिया है। इस प्रकार निगम सेवानिवृत्त कार्मिकों को करीब सवा करोड़ रुपए की धनराशि दी जानी है। यह भी पढ़ें : दो अधिकारियों के खिलाफ विजीलेंस जांच के आदेश

निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी ने बताया कि इस प्रकार जनवरी माह से अब तक यानी 5 माह में निगम प्रबंधन ने सेवानिवृत्त कार्मिकों के ग्रेज्युटी मद में 285 लाख व छठे वेतनमान के एरियर के रूप में दो किस्तों में 145 लाख तथा अवकाश नगदीकरण के रूप में 90 लाख यानी कुल लगभग सवा 5 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। यह भी बताया कि निगम के द्वारा अप्रैल 2022 में सेवानिवृत्त कार्मिकों के डीए में 3 फीसद की वृद्धि की है, तथा अप्रैल 2022 से ही संविदा कार्मिकों के मानदेय में तृतीय श्रेणी में 1,200 और चतुर्थ श्रेणी में 800 रुपए प्रतिमाह की बढ़ोत्तरी की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन में नए एमडी तोमर ने संभाला कार्यभार

Vineet Tomar IAS posted as DM- Champawat, Uttarakhand | Indian Bureaucracy  is an Exclusive News Portalडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 अप्रैल 2022। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास के नए एमडी यानी प्रबंधन निदेशक के पद पर 2014 बैच के आईएएस अधिकारी विनीत तोमर ने शुक्रवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस अवसर पर श्री तोमर ने निगम की आय बढ़ाने के लिए हर संभव उपाय करने की बात कहीं।

उल्लेखनीय है कि मैकेनिकल इंजीनियर भी रही श्री तोमर इससे पूर्व चंपावत के डीएम रहे हैं। गत 22 अप्रैल को उनकी जगह केएमवीएम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी को चंपावत का नया डीएम बनाया गया तो उन्हें परिवहन निगम का एमडी बनाया गया था। किंतु पांच दिन बाद ही उनके स्थानांतरण आदेश को संशोधित कर उन्हें केएमवीएन का नया एमडी बनाया गया है। इस प्रकार श्री भंडारी एवं श्री तोमर ने एक-दूसरे को प्रतिस्थापित किया है। यह भी पढ़ें : हंगामे की भेंट चढ़ी उच्च न्यायालय के स्थानांतरण के मुद्दे पर आयोजित बार की बैठक, समर्थन में आए पूर्व में रहे विरोधी….

कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व निगम मुख्यालय पहुंचने पर श्री तोमर को निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेयी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इस मौके पर श्री तोमर ने आदि कैलाश यात्रा, गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप की यूनिटों में बेहतर कार्य करने की बात कही। कहा कि आदि कैलाश यात्रा में इस वर्ष 2000 लोगों को ले जाने का लक्ष्य रहेगा।

गरमपानी व सुनकिया में नए पेट्रोल पंप लगाने का कार्य गतिमान है। ताड़ीखेत, राइआगर पिथौरागढ़, नैनीताल में एरीज के पास एवं सिडकुल रुद्रपुर में पेट्रोल पंप खोलने की योजना है। घरेलू गैस की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने काठगोदाम व चंपावत में निगम की बंद पड़ी फैक्टरियों की भूमि का सदुपयोग करने की बात भी कही। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सैलानियों के लिए रोपवे और केव गार्डन का समय बढ़ा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 अप्रैल 2022। कुमाऊं मंडल विकास निगम द्वारा संचालित रोपवे केबल कार और केव गार्डन के खुलने का समय बढ़ा दिया गया है। नगर में सैलानियों के लिए यह दोनों बड़े आकर्षण अब तक सुबह साढ़े 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुलते थे, जबकि अब सैलानी सुबह आठ बजे से शाम 6 बजे तक केव गार्डन और रोपवे का सुबह आठ से साढ़े 6 बजे तक आनंद उठा सकेंगे।

के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी के हवाले से जीएम एपी बाजपेई ने बताया कि पर्यटन सीजन को ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने की शुरू की पहल, आम्रपाली से मिलाया हाथ

एमओयू पर हस्ताक्षर करने के अवसर पर केएमवीएन एवं आम्रपाली के उच्चाधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 30 मार्च 2022। पेशेवर राह पर आगे बढ़ने और समय से कदमताल करने की पहल के साथ केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम अपने पर्यटन से जुड़े कार्मिकों को सेवा के दौरान प्रशिक्षण देने की नई शुरुआत करने जा रहा है। इस हेतु निगम ने अगले दो वर्षों के लिए हल्द्वानी के आम्रपाली समूह से हाथ मिलाए हैं।

बुधवार को निगम के एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी, जीएम एपी वाजपेयी तथा पर्यटन विकास अधिकारी बच्ची राम आर्य की मौजूदगी में आम्रपाली समूह के निदेशक शैलेंद्र कुमार सिंह एवं आम्रपाली होटल मैनेजमेंट संस्थान के डीन प्रो. प्रशांत की मौजूदगी में एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। बताया गया कि प्रथम चरण में आसन्न ग्रीष्मकालीन पर्यटन सत्र शुरू होने से पूर्व निगम में कार्यरत प्रबंधकों, फ्रंट ऑफिस कार्मिकों, वेटर, रूम अटैंडेंट, हाउस कीपिंग स्टाफ तथा कुक आदि 150 कर्मियों को 5 बैचों में आम्रपाली संस्थान से 6 दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा।

निगम के एमडी श्री भंडारी ने इस अवसर पर कहा कि निगम वर्तमान में 46 पर्यटक आवास गृहों के साथ कैलाश मानसरोवर एवं आदि कैलाश यात्रा का संचालन करता है। पर्यटकों के सम्मुख निगम तथा राज्य सरकार की छवि आवास गृहों में कार्यरत कार्मिकों के आचरण एवं व्यवहार की कार्य कुशलता पर निर्भर करती है। इसलिए कार्मिकों को पर्यटन के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों तथा अन्य विधाओं से अवगत कराने तथा जानकारी को अद्यतन करने के लिए उन्हें सेवाकालीन प्रशिक्षण देकर उनका कौशल विकास करने का निर्णय लिया गया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन प्रबंधन ने कर्मचारियों को किया एरियर का भुगतान

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 नवंबर 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम प्रबंधन ने कर्मचारियों को छठे वेतनमान के एरियर के रूप में देय 6.75 करोड़ रुपए की धनराशि के सापेक्ष वर्ष 2019 तक के दो करोउ़ 19 लाख रुपए की धनराशि का भुगतान कर दिया है। साथ ही निगम प्रबंधन ने निगम की आय बढ़ाने के लिए किए गए विभिन्न प्रयासों के फलस्वरूप वर्ष 2006 से दिसंबर 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कार्मिकों को एक अतिरिक्त किस्त के रूप में 83 लाख रुपए का भुगतान भी कर दिया है।

निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि निगम प्रबंधन द्वारा अपनी आय के स्रोतों की वृद्धि हेतु कार्यक्षेत्र के विस्तार तथा कार्मिकों के देयों एवं हित लाभों के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि कार्मिकों का मनोबल बना रहे और सेवानिवृत्त कार्मिकों को भी लाभ मिल सके। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : निगम महासंघ का 13 दिनों से चल रहा आंदोलन स्थगित

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 दिसंबर 2021। कुमाऊं गढ़वाल मंडल विकास निगम के संयुक्त कर्मचारी महासंघ ने शासन स्तर पर हुई वार्ता के बाद अपने आंदोलन को स्थगित कर दिया है। महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुरु रानी ने कहा कि देहरादून में प्रमुख सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर से हुई वार्ता में महासंघ के 12 सूत्रीय मांग पत्र पर चर्चा की गई।

इन मांगों पर पूर्व में शासन में 7 अक्टूबर को वार्ता हुई थी। जिसमें लिखित समझौता भी हुआ था उसे पूरा न करने पर महासंघ द्वारा 23 नवंबर से अनिश्चितकालीन आंदोलन प्रारंभ कर दिया गया था। आज शासन की ओर से नियमितीकरण की कार्यवाही शीघ्र शुरू करने, खनन के पट्टे निगम को देने, निगम के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करने संबंधी मांगों पर शीघ्र कार्रवाई के साथ ही पर्यटन सचिव द्वारा दोनों निगमों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिए गए कि वे निगम स्तर की समस्याओं का अविलंब समाधान हेतु महासंघ से वार्ता करें। इस पर आंदोलन स्थगित कर दिया गया है।

अलबत्ता गुरूरानी ने कहा कि दोनों निगमों में वेतन विसंगति है। गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा जहां कर्मचारियों का 11 फीसद महंगाई भत्ता दे दिया गया है वहीं कुमाऊं मंडल विकास में उनके प्रबंधन द्वारा अभी तक महंगाई भत्ता तक नहीं दिया। यदि किसी कर्मचारी का आंदोलन में शामिल होने पर उत्पीड़न किया गया तो महासंघ पुनः आंदोलन करेगा। आंदोलन स्थगित करने का निर्णय लेने में महामंत्री आशीष उनियाल गुमान सिंह कुमटिया, दिनेश सांगुडी, राजेश रमोला, जोगिंदर लाल, किशन पवार, विनोद तिवारी, रमेश कपकोटी, गौतम कुमार, कैलाश आर्यर्, दिव्यांशु रावत, नीता आर्य, कमला धानिक, जानकी आर्य, संदीप सहाय व ललित सहाय सहित अन्य निगम कर्मी शामिल रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन ने तैयार की मार्चूला को साहसिक खेलों का हब बनाने की डीपीआर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अगस्त 2021। साहसिक खेल गतिविधियों के माध्यम से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से नए पर्यटन स्थलों की तलाश करने के साथ उन्हें विकसित करने पर तेजी से काम किया जा रहा है। इसके तहत अल्मोड़ा के मार्चुला में एंगलिंग, पैराग्लाइडिंग, ट्रेल रन, माउंटेन बाइकिंग, रिवर, क्रॉसिंग, वॉटर रोलिंग, ऑफ-रोडिंग, हाइकिंग, सफारी जैसे साहसिक खेलों को विकसित करने के लिए उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) के अधिकारियों ने सोमवार को स्थलीय निरीक्षण किया गया है।

यूटीडीबी के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी-साहसिक पर्यटन कर्नल अश्विन पुंडीर ने बताया कि मार्चुला से भिकियासैंण तक होने वाले विकास कार्यों के लिए केएमवीएन की ओर से डीपीआर तैयार की गई है। क्षेत्र में पर्यटकों को बेहतर सुविधा देने के लिए विभाग की ओर से कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। मार्चुला में पर्यटकों को आवास और स्वादिष्ट भोजन के साथ अन्य सभी सुविधाएं दी जाएगी। इस मौके पर केएमवीएन के सहायक अभियंता मनोज महर्षिवाल, यूटीडटी के सुरेंद्र सिंह बोहरा और एंगलिंग विशेषज्ञ संजीव मौजूद रहे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन-जीएमवीएन कर्मचारी महासंघ के सिल्वर जुबली वर्ष में वार्षिक अधिवेशन का ऐलान

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2021। केएमवीएन-जीएमवीएन के संयुक्त कर्मचारी महासंघ का वार्षिक अधिवेशन आगामी 4 अगस्त को ऋषिकेश में होगा। जिसमें नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बताया कि महासंघ का गठन 30 अप्रैल 1995 को ग्वालदम स्थित पर्यटक आवास गृह में हुआ था। इस वर्ष महासंघ अपने 25 साल पूरे होने पर सिल्वर जुबली के अवसर पर पूर्व के पदाधिकारियों को सम्मानित करेगा। साथ ही नई रणनीति के तहत कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए मांग पत्र के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री से भी मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दोनों निगमों में लंबे समय से संविदा में कार्यरत कर्मचारियों का नियमितीकरण नहीं हुआ है। इसके साथ ही विभागीय पदोन्नतियों व अन्य प्रकरणों पर भी कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि अधिवेशन में कुमाऊं मंडल के पदाधिकारियों के साथ गढ़वाल मंडल के समस्त जनपदों के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को दोनों निगमों के कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित करते हुए अतिरिक्त मानदेय दिया जाना चाहिए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कर्मचारी नेता आशीष उनियाल, राजेश रमोला, मनमोहन चौधरी, सत्यपाल बिष्ट, किशन पवार आदि जुटे हुए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नए एमडी के साथ 50-60 करोड़ से बदलेगा केएमएवीएन के टीआरएच का कलेवर

-निगम की पेट्रोल पंप सैक्टर में भी आगे बढ़ने की योजना

कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जुलाई 2021। कुमाऊं मंडल विकास निगम शीघ्र ही नए प्रबंध निदेशक नरेंद्र सिंह भंडारी की पहल पर अपने टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों का सौंदर्यीकरण करने जा रहा है। श्री भंडारी ने इस तथा अपनी अन्य भावी योजनाओं के बारे में ‘नवीन समाचार’ को एक विशेष भेंट में बताया कि टीआरएच में सौंदर्यीकरण के कार्यों पर 50 से 60 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है।

उन्होंने बताया कि निगम के अच्छे, अधिक सैलानियों की पहुंच वाले सूखाताल, भीमताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, मुक्तेश्वर, काठगोदाम, रानीखेत, बिन्सर, पिथौरागढ़, रामगढ़ व कौसानी आदि के टीआरएच का जीर्णोद्धार व विस्तार करेगा। इसके अलावा दूसरे चरण में जागेश्वर, डीनापानी, अल्मोड़ा, मुन्स्यारी, मोहान व चौकोड़ी के पर्यटक आवास गृहों का भी सौंदर्यीकरण करने की योजना है। योजना के तहत सभी पर्यटक आवास गृहों का प्रवेश द्वार एवं बाह्य आवरण एकरूप एवं बेहतर करना है। साथ ही किचन एवं बाथरूम को बेहतर फिटिंग्स एवं फर्नीचर से युक्त करना है। इसके अलावा अब तक जहां निगम के टीआरएच उनके शहर के नाम के आधार पर जाने जाते हैं, वहीं अब टीआरएच को उनके अपने विशिष्ट नाम देने तथा आसपास के कुछ टीआरएच को एक चेन या श्रृंखला में लाने की भी योजना है। जैसे ‘परिचय’ नाम की श्रृंखला में नैनीताल, भीमताल, मुक्तेश्वर व नौकुचियाताल आदि टीआरएच शामिल होंगे।

श्री भंडारी ने बताया कि सभी टीआरएच के प्रवेश द्वारों को आकर्षक बनाया जाएगा। साथ ही जहां संभव होगा, वहां नए कक्षों का निर्माण करना एवं संभव न होने पर सुविधाओं को बेहतर करने की योजना है। ताकि अधिक संख्या में सैलानी यहां ठहर सकें। उन्हें कक्ष न मिल पाने की असुविधा न हो। इसके अलावा निगम अपने पर्यटक आवास गृहों में पर्यटकों की पहुंच बढ़ाने के लिए ‘मेक माइ ट्रिप’ एवं ‘गो आईबीबो’ सरीखी ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों के साथ भी अनुबंध करने जा रहा है। निगम की कोशिश है कि उसके आवास गृहों के कक्ष खाली न रहें। अधिक यात्री उन तक पहुंचें। इसके अलावा निगम पेट्रोल पंप सैक्टर में भी अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने जा रहा है। श्री भंडारी ने बताया कि सूखाताल पेट्रोल पंप के बेहतर अनुभव को देखते हुए निगम की अल्मोड़ा जनपद के ताड़ीखेत व नैनीताल जनपद के सुनकिया-मुक्तेश्वर में भी पेट्रोल पंप खोलने की कोशिश चल रही है। बताया कि ताड़ीखेत में पेट्रोल पंप लगना प्रारंभ हो गया है, जबकि सुनकिया के लिए आईओसी से बात चल रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन की निर्माण एजेंसी के रूप में पहचान बनाएंगे नए एमडी…

-निगम के नए एमडी नरेंद्र भंडारी ने कार्यभार संभालने के बाद जताया इरादा, पर्यटन क्षेत्र में बेहतर सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का जताया इरारा

केएमवीएन के नए एमडी नरेंद्र सिंह भंडारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जून 2021। नैनीताल जनपद में मुख्य विकास अधिकारी के रूप में यादगार कार्यकाल के बाद आईएएस अधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने शनिवार को केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक पद का कार्यभार संभाल लिया है। इस अवसर पर मूलतः इंजीनियर भी रहे भंडारी ने निगम को निर्माण एजेंसी के रूप में स्थापित करने एवं विशेषज्ञता हासिल करने का इरादा जताया। उन्होंने कहा कि राज्य में गुणवत्तायुक्त निर्माण एजेंसियों की कमी है। निगम चाहे तो 10, 20, 50 से 100 करोड़ रुपए तक के भी कार्य कर सकता है। वहीं पर्यटन के क्षेत्र में उन्होंने बेहतर सेवा-सुविधाओं के साथ खगोल पर्यटन को बढ़ावा देने का इरादा जताया। कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों में ग्रामीणों को रात्रि में सैलानियों को खुले आकाश में सितारों के दर्शन कराने के लिए दूरबीनें उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके अलावा उन्होंने गैस, खनन एवं पेट्रोल पंप आदि क्षेत्रों में भी कार्य करने की बात कही।

संदीप तिवारी ने संभाला सीडीओ पद का कार्यभार
नैनीताल। टिहरी से स्थानान्तरित होकर आये आईएएस संदीप तिवारी ने शनिवार पूर्वाह्न विकास भवन भीमताल में पूर्व मुख्य विकास अधिकारी नरेंद्र सिह भंडारी से कार्यभार ग्रहण किया। इस दौरान श्री तिवारी ने अधिकारियों से औपचारिक भेंट की तथा विकास भवन परिसर के कार्यालय का निरीक्षण भी किया, तथा कोविड की दृष्टि से विभागों द्वारा संचालित कार्यक्रमों एवं विभागीय योजनाओं की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : दो टीआरएच से निकला केएमवीएन की सभी समस्याओं का समाधान, निगम की भविष्य की योजनाओं की अध्यक्ष व एमडी ने दी जानकारी

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 फरवरी 2021। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम लिमिटेड के अध्यक्ष केदार जोशी व प्रबंध निदेशक रोहित मीणा ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि निगम के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृह-मोहान व परिचय नौकुचियाताल को 2.25 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष की दर पर 15 वर्ष के लिए लीज पर देकर 15 करोड़ रुपए का ऋण लिया जाएगा। लीज से मिलने वाली धनराशि से ऋण की किस्त चुकाई जाएंगी, साथ ही सूखाताल, तल्लीताल, नौकुचियाताल, भीमताल, मुक्तेश्वर, अल्मोड़ा, बिन्सर, डीनापानी रानीखेत, जागेश्वर, चौकोड़ी, रामगढ़, मोहान, कौसानी, काठगोदाम व परिचय टीआरएच में 23.5 करोड़ रुपयों की लागत से 100 कक्ष बढ़ाने के साथ ही निगम के 50 फीसद टीआरएच में 3स्टार की सुविधा व क्षमता विकास के साथ सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे।

पत्रकार वार्ता करते निगम के एमडी, अध्यक्ष व अन्य।

इस तरह निगम में 370 कक्षों की क्षमता हो जाएगी। इससे निगम की आय में हर वर्ष 4.5 से 5 करोड़ की वृद्धि होगी। साथ ही संविदा कर्मचारियों के मानदेय में मार्च से 1000 एवं इस वर्ष में कुल 3000 रुपए की वृद्धि की जाएगी। यह भी बताया कि निगम में 2 वर्ष की अवधि के लिए 21 लाख रुपए प्रतिवर्ष के मानदेय पर 5 स्टार सुविधाओं के टूरिज्म कंसल्टेंट एवं 30 हजार रुपए वेतन पर महाप्रबंधक सहित अन्य तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति कर निगम के कर्मियों को प्रशिक्षण देकर उनके कौशल वृद्धि का प्रबंध भी किया जाएगा। साथ ही एमडी रोहित मीणा ने 5 की जगह 18 खनन पट्टों के जरिये प्रति वर्ष 10 करोड़ एवं एक की जगह भवाली, ताड़ीखेत, कपकोट, काशीपुर व रुद्रपुर सहित करीब 10 नए पेट्रोल पंप स्थापित करने, निगम की सूखाताल स्थित पार्किंग की छत को हुनर हाट की तर्ज पर विकसित करने व यहां स्थानीय प्रतिभाओं को भी मंच उपलब्ध कराने, स्नोव्यू में डायनासोर थीम पार्क विकसित करने, केव गार्डन में लाइट, साउंड फाउंटेन शुरू करने व नए वित्तीय वर्ष में निगम के पुराने मुख्यालय भवन में मुख्यालय को पुर्नस्थापित करने की बात भी कही। वहीं अध्यक्ष कैलाश जोशी ने आदि कैलाश यात्रा को विकसित करने का इरादा भी जताया, और केएमवीएन व जीएमवीएन के एकीकरण के बावजूद दोनों निगमों का स्वतंत्र अस्तित्व बने रहने की बात भी कही।

यह भी पढ़ें : 11वें दिन भी जारी रहा केएमवीएन कर्मचारी महासंघ का अनूठा गांधीवादी आंदोलन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 27 अगस्त 2020। कुमाऊँ मंडल विकास निगम कर्मचारी महासंघ कर्मचारियों का आंदोलन बृहस्पतिवार को 11वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान कर्मचारियों ने अपराह्न एक से दो बजे तक लंच की अवधि में काला फीता बांधकर कार्य बहिष्कार किया। साथ ही ‘एक पौधा धरती मां के नाम’ अभियान के तहत पौधारोपण व स्वच्छता कार्यक्रम चलाया। इस मौके पर महासंघ के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने कहा कि ने जब तक मांगें पूरी नहीं होती हैं तब तक महासंघ गांधीवादी तरीके से उत्तराखंड में कर्मचारी संगठनों की ओर से किया जाने वाला अनोखा आंदोलन करता रहेगा। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन कर्मचारियों के प्रकरण पर संवेदनशील नहीं है। इतनी लंबी अवधि बीतने के बाद भी अधिकारियों द्वारा विभागीय पदोन्नतियां व नियमितीकरण सहित अन्य मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि निगम के आवास गृहों से क्वारंटाइन केंद्र हटाए जाएं एवं उनके रखरखाव के लिए धनराशि आवंटित की जाए। साथ ही निगम को आर्थिक पैकेज दिया जाए। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंजुल सनवाल, रमेश प्रसाद, अशोक पांडे, दिनेश सांगुडी, गुमान सिंह कुमटिया, रवि साह व कैलाश बिष्ट प्रमुख रूप से शामिल रहे।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप https://chat.whatsapp.com/BXdT59sVppXJRoqYQQLlAp से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग: कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष ने लगाए निगम में भ्रष्टाचार के आरोप

केएमवीएन की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 फरवरी 2020। कुमाऊं मंडल विकास निगम की उपाध्यक्ष रेनू अधिकारी ने निगम में अनियमितताओं का आरोप लगाया है। मंगलवार को प्रेस को जारी बयान में श्रीमती अधिकारी ने कहा कि बीते कुछ महीनो से उन्हें निगम के कार्यों में अनिमियताएं नजर आ रही हैं, जिन्हें वे उजागर करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री ने निगम में उपाध्यक्ष का दायित्व दिया है, जिसे उन्होंने पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से निभाने का संकल्प लिया है। कहा कि निगम की बंद फैक्टरियों में स्क्रैप के सामान की नीलामी में बड़ी धांधली का पता चला है।

बताया कि निगम की ओर से शीशमहल स्थित बंद पड़ी प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप की 14-15 लाख रुपए में बेचे जाने की निविदा निकाली गई थी, जबकि सामग्री वास्तव में 30-32 लाख की थी, लेकिन इसे बिना पुरानी कमेटी को भंग किए नई कमेटी गठित करके मात्र 8-8.5 लाख रुपए में ही बेच दिया गया। यही नहीं इच्छुक निविदादाताओं को स्क्रैप की पूरी सामग्री भी नहीं दिखाई गई। पुरानी समिति को भंग किये बिना नई समिति से बिक्री कराई गई और नई समिति ने पुरानी समिति से भी बात नहीं की। कहा कि निगम के कुछ अधिकारियों की अनियमितताओं के कारण निगम को आर्थिक क्षति झेलनी पड़ रही है। इस संबंध में निगम के एमडी से मामले की तत्काल जांच कर एक सप्ताह के भीतर आख्या देने को कहा गया है। कहा कि जांच पूरी होने के उपरान्त इस मामले को प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी अवगत करायेंगी। इस बारे में निगम के एमडी रोहित मीणा ने बात करने का प्रयास किया गया किंतु संपर्क नहीं हो पाया। अलबत्ता निगम के जीएम अशोक जोशी ने बताया कि स्क्रैप की पहली बार हुई नीलामी में कोई भी बोलीदाता कोई नहीं आया। दूसरी बार की नीलामी में किलो के रेट मांगकर तोलकर बेचा गया। बताया कि सामग्री तोलकर बेची गई है, और पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी की गई है।

केएमवीएन के नये एमडी के रूप में कार्यभार ग्रहण करने के बाद अध्यक्ष एवं जीएम के साथ पत्रकारों से बात करते आईएएस रोहित मीणा (File Photo)।

इस पर केएमवीएन के एमडी रोहित मीणा ने कहा कि तीन-चार वर्ष पूर्व हल्द्वानी के स्थानीय स्क्रैप विक्रेताओं ने प्लास्टिक फैक्टरी के स्क्रैप का मूल्यांकन 32 से 35 लाख का किया था। इस दर पर दो बार निविदा आमंत्रित की गई, किंतु दोनों बार कोई निविदा प्राप्त नहीं हुई। इस पर प्रति किग्रा की दर से निविदा आमंत्रित की गई और केवल लोहे की स्क्रैप यानी कबाड़ सामग्री फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी कराकर पूरी पारदर्शिता एवं पूरी प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है। उन्होंने बताया कि इस बार निगम को पहली बार खनन में ऐतिहासिक तौर पर सर्वाधिक लाभ होने जा रहा है। वहीं गैस के लिए सभी एजेंसियों से संबंधित अनियमितताओं के लिए नंबर जारी किया गया, लेकिन एक भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन कर्मचारी महासंघ ने किया निगम के जीएमवीएन से एकीकरण का विरोध

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जून 2019। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम के कर्मचारी महासंघ ने केएमवीएन के जीएमवीएन के साथ एकीकरण करने के निगम के निदेशक मंडल के निर्णय का पुरजोर विरोध करने का ऐलान किया है। महासंघ अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी ने बुधवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिये कहा कि निगम प्रशासन ने कर्मचारी संगठनों को विश्वास में लिये बिना यह प्रस्ताव पारित किया है। बताया कि पूर्व में दो बार संगठन की पर्यटन सचिव से देहरादून में एकीकरण के संबंध में बैठक में महासंघ ने शासन को दोनों निगमों के एकीकरण का पुरजोर विरोध किया था, तथा कहा था कि सरकार की मंशा यदि सही है तो सरकार दोनों निगमों को उत्तराखंड पर्यटन परिषद में समायोजित करे। उन्होंने निगम प्रशासन व शासन से मांग की कि एकीकरण से पूर्व दोनों निगमों में कार्यरत संविदा कर्मियों को नियमितीकरण एवं वेतन विसंगतियां दूर करे तथा कर्मचारियों के लंबित देयकों का भुगतान करे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही दोनों निगमों के कर्मचारी संगठनों की देहरादून में बैठक आहूत कर भावी रणनीति के तहत आंदोलन किया जाएगा। निगमों में किसी भी आवास गृह को निजी क्षेत्र में देने का भी पुरजोर विरोध किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को हुई केएमवीएन की निदेशक मंडल की बैठक में केएमवीएन के जीएमवीएन में एकीकरण के साथ ही कर्मचारियों के डीए को 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने, पर्यटक आवास गृहों में सुधार के लिए चम्पावत में लीसा फैक्ट्री की 162 नाली जमीन के एवज में ऋण लेने और काठगोदाम में बंद वायर फैक्ट्री की करीब 35 लाख रुपये की निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी तथा लखनऊ के फ्लैट की बिक्री को भी मंजूरी दी गई है।

यह भी पढ़ें : केएमवीएन बोर्ड ने किया बड़ा फैसला : करेंगे जीएमवीएन के साथ एकीकरण