News

मल्लीताल व्यापार मंडल के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने निकाला विजय जुलूस, पहले ही तय हो गया किस दिन हो जाएंगे कार्यमुक्त..

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, नैनीताल, 21 दिसम्बर 2020। मल्लीताल व्यापार मंडल के लिए रविवार को हुए चुनाव के परिणाम देर रात्रि करीब सवा 11 बजे घोषित किए गए। घोषित परिणामों के अनुसार अध्यक्ष पद पर निवर्तमान एवं पिछले दो दशक से इस पद पर बरकरार किसन नेगी, महामंत्री पद पर चौंकाते हुए त्रिभुवन फर्त्याल, महिला उपाध्यक्ष के पद पर भारती कैड़ा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद पर राजेश वर्मा, कनिष्ठ उपाध्यक्ष पद पर मोहम्मद रईश खान, उपसचिव पद पर परीक्षित साह व कोषाध्यक्ष के पद पर सिद्धार्थ क्षेत्री विजय रहे। चुनाव परिणामों की घोषणा के उपरांत विजयी प्रत्याशियांे को चुनाव समितियों की ओर से प्रमाण पत्र भी वितरित कर दिए गए। सभी का फूल-मालाओं से भी अभिनंदन किया गया। इधर सोमवार को नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने विजय जुलूस निकाला। नयना देवी मंदिर, गुरुद्वारा आदि में शीष झुकाया और संगठन में हुए दोफाड़ पर उम्मीद जताई कि नाराज साथियों को मना लिया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि कल हुए चुनाव में अध्यक्ष पद पर किशन नेगी को 665, कुंदन बिष्ट को 246 व धीरेंद्र नेगी को मात्र 51, वरिष्ठ उपाध्यक्ष के पद पर राजेश वर्मा को 564 व दर्पण साह को 361, कनिष्ठ उपाध्यक्ष पद पर मोहम्मद रईस खान को 514, शैलेश बिष्ट को 208 व कनक प्रभात को 196, महिला उपाध्यक्ष पद पर भारती कैड़ा को 595 व आरती अग्रवाल को 317, महामंत्री के पद पर त्रिभुवन फर्त्याल को 666 व विवेक वर्मा को 259, उप सचिव के पद पर परीक्षित साह को 411, आशीष साह को 292 व रमन कुमार को 215 तथा कोषाध्यक्ष के पद पर सिद्धार्थ क्षेत्री को 411, संजय चौधरी को 379 व उमाशंकर मिश्रा को 119 मत मिले।
उल्लेखनीय है कि चुनाव में कुल 1074 मतदाताओं में से 963 यानी 89.66 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। शुरुआती चार घंटों में करीब 50 फीसद और आखिरी दो घंटों में करीब 40 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। उल्लेखनीय रहा कि अलग संगठन बना रहे व्यापारियों ने भी इस्तीफा देने से पहले गमतदान भी किया और अपने समर्थक सदस्यों को मताधिकार का प्रयोग करने से नहीं रोका। शाम चार बजे तक हुए मतदान के उपरांत शाम पांच बजे से मतगणना प्रारंभ हुई।

तीन वर्ष का होगा कार्यकाल, स्वतः ही हो जाएंगे कार्यमुक्त
नैनीताल। मल्लीताल व्यापार मंडल के चुनाव में विजयी प्रत्याशियों का कार्यकाल तीन वर्ष का होगा। उनका विदाई का दिन भी पहले से तय किया गया है। चुनाव संचालन समिति के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया कि इस बारे में सभी प्रत्याशियों ने नोटरी किए हुए शपथ पत्र दिए हैं, जिसमें घोषणा की गई है कि विजयी प्रत्याशी तय समय पर चुनाव न होने पर 19 दिसंबर 2023 को स्वतः ही कार्यमुक्त हो जाएंगे और कार्यकारिणी के अधिकार जिला कार्यकारिणी में निहित हो जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि चुनाव में कुल 1074 मतदाताओं में से 963 यानी 89.66 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। शुरुआती चार घंटों में करीब 50 फीसद और आखिरी दो घंटों में करीब 40 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। यहां कि अलग संगठन बना रहे व्यापारियों ने भी इस्तीफा देने से भी मतदान किया और अपने समर्थक सदस्यों को मताधिकार का प्रयोग करने से नहीं रोका। शाम चार बजे तक हुए मतदान के उपरांत शाम पांच बजे से मतगणना प्रारंभ हुई। रात्रि करीब आठ बजे तक हुई 6 राउंड की मतगणना हो पाई जबकि कुल 20 राउंड में मतगणना होनी है। फिर भी 6 राउंड की मतगणना में ही अधिकांश पदों पर साफ साफ स्थिति नजर आ रही है। चुनाव अधिकारी अमित गुप्ता ने भी माना कि कुछ पदों को छोड़कर अधिकांश पर यही ट्रेंड बना रह सकता है।

यह भी पढ़ें : दो तिहाई समय में आधा मतदान, नए संगठन की रणनीति पड़ सकती है भारी…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 दिसंबर 2020। मल्लीताल व्यापार मंडल के चुनाव के लिए सुबह 10 से मतदान शुरू हो गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अपराह्न करीब 2 बजे तक मतदान के 2 घंटे शेष रहते, करीब 50% मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया है। मतदान केंद्र पर मतदाताओं की लाइन भी लगी हुई हैं। उल्लेखनीय है कि चुनाव में अध्यक्ष सहित अधिकांश पदों पर 2 से 3 उम्मीदवारों सहित कुल 7 पदों के लिए 18 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं, और कुल 1074 मतदाता व्यवसायियों को अपने भावी पदाधिकारी चुनने हैं।
उधर दूसरी ओर, मल्लीताल व्यापार मंडल में दो फाड़ कर अलग व्यापारिक संगठन बनाने का ऐलान कर चुके युवा व्यापारी नेता पुनीत टंडन के प्रतिष्ठान पर उनके दर्जन भर प्रबल समर्थक जुटे हैं। उनके आह्वान पर कुछ व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान भी आज बंद नहीं किए हैं, जबकि मल्लीताल व्यापार मंडल चुनाव संचालन समिति की ओर से आज चुनाव के दिन कच्चे माल के कारोबार के अतिरिक्त अन्य सभी तरह के प्रतिष्ठान बंद करने की घोषणा की गई थी। गौरतलब है कि चुनाव से पूर्व करीब डेढ़ सौ व्यवसाई चुनाव प्रक्रिया पर सवाल उठा चुके हैं। दोफाड़ कर नए संगठन का भी ऐलान हो चुका है। ऐसे में यदि चुनाव में मतदान कम होता है तो इसे नए बनने जा रहे संगठन की सफलता माना जा सकता है। इसलिए चुनाव में कम या अधिक मतदान होने पर सभी की नजर है।

यह भी पढ़ें : वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रत्याशी के नाम वापसी-इस्तीफे के बाद चुनाव समिति ने की पहली पत्रकार वार्ता..

-दावा किया कि इस्तीफे से कोई फर्क नहीं, आपत्तियों का निस्तारण किया, चुनाव पूरी तरह से निश्पक्ष होंगे
नवीन समाचार, नैनीताल, 17 दिसम्बर 2020। नगर के मल्लीताल व्यापार मंडल के आगामी 20 दिसंबर को होने वाले चुनाव में वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद के प्रबल प्रत्याशी पुनीत टंडन के नाम वापस लेने के साथ ही संगठन से ही इस्तीफा देने के बाद चुनाव प्रबंधन समिति की ओर से चुनाव प्रक्रिया के दौरान पहली पत्रकार वार्ता की गई। इस दौरान दावा किया गया कि टंडन के इस्तीफे से चुनाव प्रक्रिया पर कोई प्रभाव पड़ने नहीं जा रहा है। कोई भी सदस्य चुनाव लड़ने-न लड़ने, नामांकन वापस लेने-न लेने या संगठन से जुड़ने या इस्तीफा देने के लिए स्वतंत्र है। जो आपत्तियां आई थी उनका समिति ने निस्तारण कर दिया गया है। मुख्य चुनाव अधिकारी अमित साह ने बताया कि चुनाव को निष्पक्ष व पारदर्शिता से सम्पन्न कराने के लिये जिले व प्रांत के करीब 10 पर्यवेक्षकों की निगरानी में चुनाव कराए जाएंगे। सभी मतदाता व्यापारियों उनकी फोटो युक्त सफेद पर्ची जारी की गई है। इसी पर्ची को दिखाकर मतदान किया जा सकेगा।
बताया गया कि चुनाव प्रबंधन समिति की ओर से चुनाव की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। निष्पक्ष चुनाव के लिए अपर्याप्त प्रपत्रों पंजीकरण कराने वाले 66 मतदाताओं के नाम हटाए गए हैं। इस प्रकार अंतिम मतदाता सूची में शेष बचे 1074 मतदाता चुनाव मैदान में खड़े 18 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। मतदान श्रीराम सेवक सभा के सभागार में 20 दिसंबर रविवार को सुबह 10 से 4 बजे तक होगी और 5 बजे से वोटों की गिनती होगी और इसी दिन देर रात तक परिणाम भी घोषित कर दिये जायेंगे। इस दौरान कच्चे माल से संबंधित विक्रेताओं को छोडकर अन्य प्रतिष्ठान पूरी तरह से बंद रहेंगे।

यह भी पढ़ें : मल्लीताल व्यापार मंडल में आर या पार से पहले ही दोफाड़…

नवीन समाचार, नैनीताल, 18 दिसंबर 2020। 10 साल बाद मल्लीताल व्यापार मंडल के नवगठन का ख्वाब बनने से पहले ही बिखर गया है। चुनाव से दो दिन पहले नामांकन वापसी के दिन व्यापार मंडल दोफाड़ हो गया है।
शुक्रवार को व्यापार मंडल के उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी पुनीत टंडन ने प्रेस वार्ता करते हुए जानकारी दी कि वह उपाध्यक्ष पद से अपना नामांकन वापस ले रहे हैं। साथ ही उन्होंने प्रांतीय व्यापार मंडल की मल्लीताल इकाई से त्याग पत्र देने की और शीघ्र ही माँ नयना देवी नैनीताल व्यापार मंडल नाम से नगर के व्यापारियों का नया संगठन बनाने की भी घोषणा की। उन्होंने दावा किया कि उनके साथ ही मल्लीताल व माल रोड के व्यापारी भी हो रहे चुनावों पर विरोध जता चुके हैं, और उनके साथ हैं।

पत्रकार वार्ता करते पुनीत टंडन।

नगर के एक होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता में श्री टंडन ने कहा कि प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के बायलॉज को नजर अंदाज कर चुनावी कार्य प्रणाली को अंजाम दिया जा रहा है जो कि सरासर गलत है। उन्होंने कहा कि चुनाव संचालन समिति पर अविश्वास होने की वजह से अपना नामांकन वापस ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि जल्द ही नगर के व्यापारियों का नया संगठन अस्तित्व में आ जायेगा, जो नैनीताल के वास्तविक व्यापारियों के लिये ठोस विकल्प के तौर पर काम करेगा। यह संगठन ना केवल व्यापारियों के हितों की रक्षा करेगा बल्कि समाज के प्रति अपनी नैतिक जिम्मेदारियों का भी निर्वहन करेगा। उन्होंने बताया कि व्यापार मंडल चुनाव में काफी गड़बड़ियों के चलते उनके द्वारा यह कदम उठाया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें : मल्लीताल व्यापार मंडल चुनाव : सात पदों के लिए 19 प्रत्याशियों ने कराया नामांकन, एक नहीं कर पाईं नामांकन

नवीन समाचार, नैनीताल, 17 दिसम्बर 2020। मल्लीताल व्यापार मंडल के चुनाव में बृहस्पतिवार को नामांकन की प्रक्रिया हुई। इस दौरान कुल 36 नामांकन पत्र खरीदे गए। खास बात यह रही कि इनमें से 13 नामांकन अकेले उपाध्यक्ष प्रत्याशी पुनीत टंडन ने खरीदे। आगे अध्यक्ष पद के लिए तीन प्रत्याशियों-कुंदन बिष्ट, धीरेंद्र नेगी व किशन नेगी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद के लिए दर्पण साह, राजेश साह व पुनीत टंडन, कनिष्ठ उपाध्यक्ष पद के लिए शैलेंद्र बिष्ट, कनक प्रभात व मो. रईश खान, महिला उपाध्यक्ष पद के लिए आरती अग्रवाल व भारती कैड़ा, महामंत्री पद के लिए त्रिभुवन फर्त्याल व विवेक वर्मा, उप सचिव पद के लिए आशीष साह, रमन कुमार व परीक्षित साह तथा कोषाध्यक्ष पद के लिए संजय चौधरी, सिद्धार्थ क्षेत्री व उमाशंकर मिश्रा ने नामांकन कराए। महिला उपाध्यक्ष पद के लिए सभासद गजाला कमाल भी नामांकन के लिए पहुंचीं, परंतु बताया गया कि निर्धारित समय पांच बजे के उपरांत साढ़े पांच बजे आने की वजह से उनका नामांकन नहीं हो पाया।

व्यापार मंडल मल्लीताल के चुनाव में नामांकन कराते प्रत्याशी।

आगे बताया गया कि शुक्रवार को 12 से दो बजे तक नाम वापसी एवं दो बजे से प्रत्याशियों की मुख्य चुनाव अधिकारी के साथ बैठक में चुनाव के कार्यक्रम पर चर्चा होगी। चुनाव में फोटो लगी रसीद दिखाकर ही 20 दिसंबर को व्यापारी सदस्य मतदान कर पाएंगे। मतदान के दिन मल्लीताल बाजार पूरी तरह से बंद रहेगा। केवल कच्चे माल की दुकानें भी खुल सकती हैं। नामांकन की प्रक्रिया में मुख्य चुनाव अधिकारी अमित साह, चुनाव अधिकारी अमित गुप्ता, गुरविंदर सिंह, प्रेम शर्मा, ललित साह, चंद्रशेखर जोशी, बहादुर बिष्ट व नितिन जाटव आदि सदस्य जुटे रहे।

यह भी पढ़ें : सही पाई गईं आपत्तियां, जांच में अब तक 62 पंजीकरण हुए निरस्त..

नवीन समाचार, नैनीताल, 16 दिसम्बर 2020। मल्लीताल व्यापार मंडल के चुनाव में प्रत्याशियों एवं व्यवसायियों की आपत्तियों का असर हुआ है। प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल की जिला इकाई बुधवार को आपत्तियों पर संज्ञान लेकर बुधवार को जिलाध्यक्ष विपिन गुप्ता, कार्यकारी अध्यक्ष रामपाल गंगोला, दिवेंद्र भसीन, रवैल सिंह आनंद, पंकज उप्रेती, हर्षवर्धन पांडे जिला इकाई के पर्यवेक्षक के रूप में मुख्यालय पहुंचे एवं चुनाव संचालन समिति से मिलकर आपत्तियों का निस्तारण करवाया। इसके बाद चुनाव संचालन समिति ने आपत्तियों के निस्तारण के लिए स्पॉट सर्वे किया तथा राम सेवक सभा में शिविर लगा कर मतदाता सूचि का सत्यापन कराया। इस कवायद में 62 लोगों द्वारा नियमविरुद्ध कराए गए पंजीकरणों को मतदान हेतु रद्द कर दिया गया।
आगे चुनाव संचालन समिति की ओर से चुनाव अधिकारी अमित गुप्ता ने बताया कि देर शाम तक अनंतिम सूची की जांच चल रही है। रात्रि में इसे अंतिम रूप देने के बाद बृहस्पतिवार सुबह 10 बजे जारी किया जाएगा। आपत्तिकर्ताओं की मांग के अनुरूप मतदाता सूची में सभी मतदाताओं के छाया चित्र भी लगाए जाएंगे। इसके बाद सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक नामांकन, 18 दिसंबर को दिन में 12 से दो बजे तक नाम वापसी वनामांकन पत्रों की जांच की जाएगी तथा 20 दिसंबर को निर्धारित तिथि पर ही सुबह 10 से चार बजे तक मतदान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : आरोपों के बीच मल्लीताल व्यापार मंडल की चुनाव संचालन समिति ने दिया इस्तीफा.., इस्तीफे पर आपत्ति व प्रशासनिक कार्रवाई भी…

-150 से अधिक व्यापारियों के हस्ताक्षर युक्त पत्र के बाद उठाया कदम, इस्तीफा निवर्तमान व्यापार मंडल अध्यक्ष को सोंपा
-पूर्व पदाधिकारियों ने इस्तीफा ठुकराया, कहा-आरोप लगते रहते हैं, चुनाव तय तिथि पर ही होंगे

इस्तीफा देते चुनाव संचालन समिति के सदस्य।

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 दिसम्बर 2020। करीब 10 वर्ष के बाद आगामी 20 दिसंबर को प्रस्तावित मल्लीताल व्यापार मंडल के चुनाव की प्रक्रिया के बीच खटाई में पड़ते-पड़ते रह गई हैं। अधिक सदस्यों के पंजीकरण के आरोपों एवं चुनाव को प्रस्तावित 20 दिसंबर की जगह 26 दिसंबर को न कराने के लिए व्यापारियों के प्रत्यावेदन के बाद मंगलवार अपराह्न अचानक मल्लीताल व्यापार मंडल की चुनाव संचालन समिति ने सामूहिक इस्तीफा देने का ऐलान करते हुए इस्तीफा निवर्तमान अध्यक्ष किशन नेगी को सोंप दिया। इसके बाद तत्काल मल्लीताल व्यापार मंडल की निवर्तमान कार्यकारिणी की आपात बैठक बुलाई और मुख्य चुनाव अधिकारी अमित साह के प्रतिष्ठान पर चुनाव संचालन समिति के इस्तीफे को अस्वीकार करने का ऐलान किया। निवर्तमान उपाध्यक्ष कमलेश ढोंढियाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि साथ ही चुनाव संचालन समिति से यह सुनिश्चित करने को भी कहा गया है कि चुनाव किसी नई तिथि को नहीं, बल्लि पूर्व घोषित 20 दिसंबर को ही होंगे। इस संबंध में लगने वाले आरोपों की परवाह न की जाए। आरोप लगते रहते हैं।
इससे पहले करीब 150 व्यापारियों के हस्ताक्षर युक्त एक पत्र चुनाव संचालन समिति एवं मीडिया को जारी हुआ, जिसमें चुनाव सोशल मीडिया पर चुनाव को 20 की जगह 26 दिसंबर को क्रिसमस के दौरान कराने पर नाराजगी जताई गई।

निवर्तमान अध्यक्ष को इस्तीफा देने पर भी जताई आपत्ति
नैनीताल। वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद के संभावित प्रत्याशी पुनीत टंडन ने चुनाव संचालन समिति द्वारा निवर्तमान अध्यक्ष को इस्तीफा देने पर भी कड़ा विरोध जताया है। उन्होंने कहा कि प्रांतीय कार्यकारिणी को इस्तीफा दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सात प्रत्याशियों-शैलेश बिष्ट, पुनीत टंडन, एस नेगी, कुंदन बिष्ट, आशीष साह व दर्पण साह आदि ने चुनाव की मतदाता सूची व्यापारियों के फोटो की अनिवार्यता, नाम हिंदी में भी प्रदर्शित करने, श्रीराम सेवक सभा की जगह डीएसए में चुनाव करवाने, चुनाव संचालन समिति की निश्पक्षता, व्यापारियों के स्पॉट वैरिफिकेशन, बिजली-पानी के वाणिज्यिक बिल, जीएसटी पंजीकरण, तीन वर्ष का नोटरी किया गया एग्रीमेंट की अनिवार्यता तथा मतदाता सूची में एवं चुनाव प्रक्रिया में निष्पक्षता की मांग की।

प्रशासन के अभियान पर भी आक्रोशित हुए व्यापारी
नैनीताल। चुनाव की तैयारियेां के बीच मंगलवार को प्रशासनिक टीम ने नगर के मल्लीताल बाजार में प्रशासनिक टीम के आने पर व्यापारियों व प्रत्याशियों में नाराजगी देखी गई। इस पर व्यापारियों व प्रत्याशियों ने विरोध भी जताया। हालांकि एसडीएम विनोद कुमार ने बताया कि यह अभियान नगर के मल्लीताल के साथ ही तल्लीताल व पंत पार्क आदि भीड़भाड़ वाले स्थानों पर कोरोना के दृष्टिगत सामाजिक दूरी बरतने व मास्क का प्रयोग सुनिश्चित करने के लिए चलाया गया। इस दौरान अतिक्रमण हटाने की योजना नहीं थी। व्यापारियों में इस पर गलतफहमी व नाराजगी थी, जिसे दूर कर लिया गया। उन्होंने कहा कि कोरोना के दृष्टिगत आगे भी सतर्कता बरती जाएगी।

यह भी पढ़ें : मल्लीताल व्यापार मंडल चुनाव के लिए मतदाताओं की अनंतिम सूची जारी, बड़े आरोप भी लगे, आरोपों पर 10 सदस्यीय समिति करेगी सदस्यों का सत्यापन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 14 दिसम्बर 2020। व्यापार मंडल मल्लीताल के आगामी 20 दिसंबर को होने वाले चुनाव के लिए चुनाव संचालन समिति ने सोमवार को तय कार्यक्रम के अनुसार मतदाता सूची जारी कर दी है। मीडिया को दी गई सूची के अनुसार मतदाता सूची के लिए 1100 व्यापारियों ने खुद को पंजीकृत करवाया है। प्रेस को जारी बयान में कहा गया है कि इस सूची पर 15 दिसंबर की शाम 6 बजे तक आपत्ति दर्ज कराई जा सकती है। चुनाव अधिकारी ने दावा किया कि किसी मतदाता के प्रतिष्ठान पर विवाद होने पर उसका स्पॉट सर्वे भी कराया गया है। फिर भी कोई गलती या सूची में वृद्धि होने पर इसका निस्तारण किया जाएगा। यह भी साफ किया है कि चुनाव 20 दिसंबर को ही करवाए जाएंगे।
इधर, सूची के जारी होते ही युवा व्यापारी एवं वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद के संभावित प्रत्याशी पुनीत टंडन ने जारी की गई सूची पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराते हुए नगर के व्यापारियों को अपना संदेश जारी किया है, और इसे प्रेस को भी उपलब्ध कराया है। उनका कहना है कि गत वर्ष 950 के बमुश्किल 10 वर्ष बाद हो रहे चुनाव पर सदस्यों के पंजीकरण को लेकर कुछ व्यापायिों द्वारा कल मीडिया में उठाए गए सवालों को नजरंदाज नहीं किया जा सकता। साथ ही आज आई मतदाता सूची में प्रथमदृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि नए पंजीकरण और नवीनीकरण में भारी खामियाँ हैं। व्यापारी के व्यापार से सम्बंधित दस्तावेजों का सही प्रकार से आँकलन किए बिना ही केवल आधार नंबर और मोबाइल नंबर के आधार पर मतदाता सूची को जारी कर दिया गया है। यह व्यापारी मतदाताओं के लोकतांत्रिक अधिकार का घोर अपमान है। उन्होंने कहा कि पारदर्शिता और ईमानदारी एक व्यापारी की मूल पहचान होनी चाहिए, लेकिन ईमानदारी पर सवाल नगर के व्यापारिक अस्तित्व पर बहुत ही बड़े सवाल खड़े करने वाले हैं। सवाल उठेगा कि यदि व्यापारी अपने व्यापारिक संगठन में पारदर्शिता नहीं रख सकते तो वे अपने व्यापार में कितनी पारदर्शिता रखते होंगे। लिहाजा नए सदस्यों की पंजीकरण सूची और पंजीकरण हेतु सम्बंधित दस्तावेजो की निष्पक्ष जाँच जिला स्तरीय प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल द्वारा करायी जानी चाहिए और जाँच और सम्बंधित दस्तावेजो की पूर्ति के बाद ही अंतिम मतदाता सूची जारी करनी चाहिए ताकि चुनावी प्रक्रिया में कोई शक या अवरोध बिना पारदर्शिता के साथ व्यापारियों का विश्वास कायम हो सके।
वहीं, इन सवालों पर पूछे जाने पर चुनाव अधिकारी ने बताया कि फर्मों के नाम के जीएसटी युक्त बिलों के आधार पर फर्मों के स्वामियों के मतदाता के रूप में पंजीकरण किये गए हैं। फिर भी आपत्तियों को देखते हुए और चुनाव में पारदर्शिता के लिए करीब 10 लोगों की एक समिति गठित की जा रही है जो पंजीकृत सदस्यों को सत्यापित करके कल 15 दिसंबर तक अपनी रिपोर्ट देगी। इसके बाद बुधवार 16 दिसंबर को अंतिम मतदाता सूची जारी की जाएगी और चुनाव 20 दिसंबर को अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही होंगे।

यह भी पढ़ें : मल्लीताल व्यापार मंडल चुनाव में सदस्यों के पंजीकरण पर उठे सवाल, उधर चुनाव की तैयारियों को दिया गया अंतिम रूप

नवीन समाचार, नैनीताल, 13 दिसम्बर 2020। मल्लीताल के कई व्यवसायियों ने मल्लीताल व्यापार मंडल के चुनाव में अधिक सदस्य बनने पर आपत्ति जताई है। रविवार को मुख्य चुनाव अधिकारी को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि कई बंद हो चुके व्यवसायों का भी पंजीकरण हो चुका है। इस प्रकार अब तक ही 1100 से अधिक पंजीकरण हो चुके हैं। क्योंकि व्यवसाय के सबूत के रूप में खरीद का बिल मांगा गया है, जिसे लगाना किसी के लिए भी आसान है। इसलिए हर व्यवसाय का भौतिक सत्यापन करने की मांग की गई है ताकि सही लोग ही मतदान की प्रक्रिया में भाग ले सकें। पत्र में गुडलक, स्टूडेंट शू स्टोर, हरि प्रिया, मल्होत्रा पीसीओ, सरस्वती मैचिंग, गिफ्ट वर्ल्ड के सिद्धार्थ क्षेत्री, नेगी रेस्टोरेंट, नैनीताल वूल वाले, नैनी गिफ्ट,, नानक सुपर मार्केट, शिवा रेस्टोरेंट, एम ताहिर एंड ब्रोस, कामरान फुटवियर, मुमताज, संजय नागपाल सहित अन्य प्रतिष्ठानों के हस्ताक्षर हैं। अध्यक्ष सहित अन्य कई पदों के प्रत्याशियों को भी अधिक पंजीकरण पर आपत्ति बताई गई है। उधर चुनाव संचालन समिति के सदस्य नितिन जाटव ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा कि कई लोगों के भौतिक सत्यापन किए गए, जो कि सही निकले हैं। आपत्ति के लिए दिन निश्चित है। आपत्तियां आती हैं, तो उन पर कार्रवाई की जाएगी।

चुनाव की तैयारियों को दिया गया अंतिम रूप
नैनीताल। इधर रविवार को बोट हाउस क्लब में हुई चुनाव संचालन समिति की जिला स्तरीय समिति की बैठक में चुनाव की तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया। बताया गया कि मतदाता सूची का अनंतिम प्रकाश शाम चार बजे तक, मतदाता सूची पर आपत्ति 15 दिसंबर की शाम छः बजे तक तथा अंतिम सूची का प्रकाशन 16 दिसंबर को शाम 6 बजे किया जाएगा। इसी सूची के आधार पर मतदान किया जाएगा। नामांकन 17 दिसंबर को सुबह 10 से दिन में 2 बजे तक श्रीराम सेवक सभा में, उसके बाद नामांकन पत्रों की जांच तथा मतदान 20 दिसंबर को सुबह 10 से शाम चार बजे तक होंगे। शाम पांच बजे से मतगणना के बाद उसी दिन परिणामों की घोषणा की जाएगी और विजेताओं को प्रमाण पत्र वितरित किए जाएंगे। बैठक में मुख्य चुनाव अधिकारी अमित साह, सदस्य बहादुर बिष्ट, अमित गुप्ता, डा. अखिलेश भट्ट, सैयद नदीम मून, गुरविंदर सिंह, गिरीश जोशी एवं जिला निर्वाचन अधिकारी रवैल सिंह आदि मौजूद रहे।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply

loading...