ट्रिपल मर्डर से दहला पिथौरागढ, मृतकों के गुप्तांग भी काट गए हत्यारे

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, पिथौरागढ़, 27 अक्तूबर 2019। ठीक दीपावली के दिन उत्तराखंड के पिथौरागढ़ से एक तिहरे हत्याकांड की सनसनीखेज व दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। जिला मुख्यालय से लगे मढ़धुरा नाम के गांव से गांव के एक घर से तीन लोगों की खून से लथपथ लाशें बरामद हुई हैं। शवों को चाकू से बुरी तरह से गोदा गया है। इसमें भी बड़ी व उल्लेखनीय बात यह है कि तीनों शवों के गुप्तांग भी काटे गए हैं। शव नेपाली मूल के मजदूरों के बताये गए हैं। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शवों को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है, साथ ही मौका मुआयना कर हत्याकांड के कारणों की जांच भी प्रारंभ कर दी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह एक महिला अपनी कुंद हुई दराती में धार लगाने के लिए पास के एक घर पहुंची। उसने गृह स्वामियों को आवाज लगाई तो कोई आवाज नहीं आई। इस पर उसने घर के भीतर झांकने का प्रयास किया तो घर का दरवाजा स्वयं खुल गया और अंदर एक के बाद एक खून से लथपथ तीन शव बरामद हुए। उसके शोर मचाने पर अन्य लोग और बाद में पुलिस के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। जांच में पता चला कि तीनों को चाकू से गोंदा गया है। शवों के गुप्तांग भी काटे गए हैं। ऐसे में मामला यौन हिंसा से जुड़ा होने का अंदेशा हो रहा है। संभावना है कि हत्या एक-दो दिन पूर्व की होगी।

यह भी पढ़ें : मात्र 18 हजार के लिए हत्या करने वाले सीपीयू पुलिस कर्मी की जमानत अर्जी खारिज

रामनगर में तीन भाइयों को मारी गोली, एक की मौत, दो गंभीर NAINITAL NEWSनवीन समाचार, नैनीताल, 18 अक्तूबर 2019। इस वर्ष 6 जुलाई को रामनगर के मालधनचौड़ में अपने महज 18 हजार रुपये के लेनदेन के विवाद में अपने दोस्त की हत्या में शामिल पुलिस की सीपीयू यानी सिटी पेट्रोल यूनिट में कार्यरत पुलिस कर्मी की जमानत अर्जी जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजीव कुमार खुल्बे की अदालत ने शुक्रवार को खारिज कर दी। इस प्रकार आरोपित को घटना के तीन माह बाद भी जेल में ही रहना पड़ेगा। उल्लेखनीय है कि इस मामले में 10 से अधिक युवकों ने टैक्सी चालक की गोली मारकर हत्या कर दी थी। साथ ही उसके दो भाइयों को भी गोली मारकर घायल कर दिया था।
मामले में शुक्रवार को आरोपित ऊधम सिंह नगर की सीपीयू में तैनात पुलिस के सिपाही कपिल कुमार की जमानत अर्जी पर हुई सुनवाई का विरोध करते हुए जिला शासकीय अधिवक्ता सुशील कुमार शर्मा ने बताया कि मृतक संतपाल ने कपिल के 18 हजार रुपए देने थे। वह तीन दिन पूर्व ही छुट्टी पर घर आया था। उसने दूसरे आरोपितों के साथ मिलकर रुपए न लौटाने पर अपने मित्र की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसलिए इस जघन्य कांड के लिए आरोपित को जमानत नहीं दी जा सकती।

यह भी पढ़ें : मात्र 25 हजार के लिए दोस्त ने ली दोस्त की जान, भाइयों पर भी फायर झोंके पुलिस पहुंची हत्यारे हमलावरों तक

नवीन समाचार, नैनीताल, 7 जुलाई 2019। रामनगर के मालधनचौड़ में बीती शाम महज 25 हजार रुपये के लेनदेन के विवाद में कार सवार 10 से अधिक युवकों ने टैक्सी चालक की गोली मारकर हत्या कर दी थी। साथ ही उसके दो भाइयों को भी गोली मारकर घायल कर दिया था। मामले में आरोपितों में से एक पुलिस की गिरफ्त में आ गया है, जबकि अन्य के भी जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में पहुंचने की संभावना है। एसपी-अपराध एवं यातायात रचिता जुयाल ने बताया कि मामले में आरोपित नामजद हैं, और पुलिस की जद में हैं। उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बताया गया है कि पुलिस ने चार-पांच लोगों को मामले में हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है।
बताया गया है कि मृतक संतपाल व काशीपुर निवासी अंकित आपस मे अच्छे दोस्त थे। दोनों एक साथ ही घूमते थे। संतपाल ने अंकित से बाइक खरीदने के लिए 25 हजार रुपये उधार लिए थे, और जल्द पैसे लौटाने की बात कही थी। दोस्ती की वजह से अंकित ने उसे पैसे दे भी दिए। लेकिन अंकित ने अपने पैसे मांगे तो संतपाल आज-कल में देने की बात कहता रहा। पैसों को लेकर दोनों कर बीच अनबन होने लगी। उधार लिये 25 हजार रुपए वापस न मिलने पर दोस्त ने ही दोस्त की जान ले ली।
उल्लेखनीय है कि काशीपुर में टैक्सी चलाने वाले मालधनचौड़ नंबर आठ गोपालनगर निवासी संतपाल (29) पुत्र राम सिंह पर शनिवार शाम करीब छह बजे मालधनचौड़ में रामनगर आने वाली रोड पर दो कारों से आए 10 से अधिक युवकों ने घेरकर पहले मारपीट की। सूचना पर रामनगर में राजमिस्त्री का काम करने वाला उसका भाई बलवंत (25) और बाद में दूसरा भाई जोगेंद्र भी मौके पर पहुंचे और भाई को बचाने का प्रयास करने लगे, तब कार सवार युवकों ने उन पर भी फायरिंग कर दी। दो गोली संतपाल के सीने में लगी और एक गोली बलवंत की जांघ में लगी। जबकि जोगेंद्र को जेब में मोबाइल होने की वजह से गोली छूते हुए निकल गई उसकी जांघ में छर्रे लगे। घटना के बाद कार सवार भाग गए। पुलिस ने भी कार सवारों का पीछा किया, लेकिन कार सवार नहीं मिले। गंभीर रूप से घायल संतपाल को पुलिस ने काशीपुर अस्पताल पहुंचाया, जहां उसकी मौत हो गई। वहीं बलवंत को उसका साथी दिनेश बाइक से रामनगर अस्पताल लाया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे रेफर कर दिया गया। तीसरे भाई जोगेंद्र ने भी मेडिकल कराया है। इसी विवाद में यह गोलीकांड व हत्याकांड हुआ है। सीओ ने मौके पर ही पुलिस की दो टीमें बनाकर हमलावरों की तलाश शुरू कर दी है।

अज्ञात हत्याओं से सम्बंधित पुराने समाचारों के लिए इस लाइन को क्लिक करें ….

राज्य के सभी प्रमुख समाचार पोर्टलों में प्रकाशित आज-अभी तक के समाचार पढ़ने के लिए क्लिक करें इस लाइन को…

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप से इस लिंक https://chat.whatsapp.com/ECouFBsgQEl5z5oH7FVYCO पर क्लिक करके जुड़ें।

Leave a Reply

Loading...
loading...