यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 8077566792 पर संपर्क करें..

नैनीताल : ट्रेवल्स संचालक भाइयों पर अपने कर्मचारी को बंधक बनाकर मारपीट करने का मुकदमा दर्ज

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, नैनीताल, 23 सितम्बर 2019। मल्लीताल कोतवाली पुलिस ने तीन युवकों के खिलाफ एक युवक को कमरे में बंधक बनाकर मारपीट करने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार करीब पखवाड़े भर पहले नगर के मल्लीताल रिक्शा स्टेंड स्थित ट्रेवल्स कंपनी में कार्यरत मल्लीताल स्टाफ हाउस निवासी दीपक टम्टा की गत दिवस अपने मालिक से किसी बात पर कहासुनी हुई। मामला बढ़ने पर ट्रेवल्स संचालक भाइयों ने एक कमरे में बंद कर उसके साथ मारपीट की, और जान से मारने की धमकी दी। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने उसे बीडी पांडे जिला अस्पताल पहुंचाया। रविवार को दीपक की तहरीर पर पुलिस ने तरुण बिष्ट, हर्षित बिष्ट और बबलू सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 342 व 506 के तहत मामला दर्ज कर मामले की जांच एसआई जीआर कोहली को सौंपी गई। है। रविवार को पुलिस ने मुआयना कर सीसीटीवी फुटेज भी खंगाली। नगर कोतवाल अशोक कुमार सिंह ने बताया कि पीड़ित के प्रार्थना पत्र पर हुई जांच के बाद मामला पंजीकृत किया गया है।

यह भी पढ़ें : व्यवसायी महिला ने पेश की इमानदारी की मिसाल

चित्रा साही

नवीन समाचार, नैनीताल, 17 सितंबर 2019। नगर के मल्लीताल बड़ा बाजार स्थित प्रतिष्ठान आगरा मिष्ठान्न भंडार की स्वामिनी, चित्रा साही पत्नी अनूप साही ने इमानदारी की बड़ी मिसाल पेश की। चित्रा को मल्लीताल रिक्शा स्टेंड के पास एक जेंट्स पर्स सड़क पर गिरा हुआ मिला। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। पर्स में करीब साढ़े नौ लाख रुपए के चेक एवं 7000 से अधिक की नगदी, कई एटीएम कार्ड के साथ ही पर्स स्वामी के पूरे परिवार के सदस्य के आधार कार्ड सहित अन्य जरूरी कागजात थे। उन्होंने तत्काल इसकी सूचना रिक्शा स्टेंड चौकी पर मौजूद सीओ को दी। तभी पर्स स्वामी मल्लीताल कोतवाली में अपने पर्स की गुमशुदगी दर्ज कराने पर आये जिन्हें पुष्टि के उपरांत पर्स सोंप दिया गया। पर्स स्वामी सक्सेना का कहना था कि उन्होंने नंदा देवी मेले का ठेका लिया था। इसी से संबंधित चेक व अन्य कागजात पर्स में थे। मोटरसाइकिल में चलने के दौरान ये गिर गये थे। उन्होंने ईमानदारी की मिसाल पेश करने के लिए चित्रा साही की मुक्तकंठ से प्रशंसा की।

Leave a Reply

Loading...
loading...