Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

याद आयी ‘बत्ती गुल मीटर चालू’, जब आया कैफे का 1 महीने का 20 करोड़ रुपये का बिजली का बिल

Spread the love

20 करोड़ का आया बिजली का बिल, देखकर उड़ गए उपभोक्‍ता के होशऋषिकेश, 30 नवंबर 2018। उत्तराखंड में हाल ही में फिल्माई गई ‘बत्ती गुल मीटर चालू’ राज्य के ऋषिकेश के एक साइबर कैफे संचालक को रह-रहकर याद आ रही होगी।  बड़े से बड़े उद्योगपति का भी यदि महीने का बीस करोड़ रुपये का बिजली का बिल आये तो उसे देखकर उसके भी होश उड़ जाएं। मगर, यह बिल यदि किसी छोटे से कैफे के संचालक के नाम कटा हो तो उपभोक्ता की हालत क्या होगी समझा जा सकता है। ऊर्जा निगम की ऐसी ही एक लापरवाही ने एक कैफे संचालक के होश उड़ा दिए। हालांकि विभागीय अधिकारी इसे सॉफ्टवेयर की त्रुटि मान रहे हैं। 

जानकारी के मुताबिक गीता नगर आइडीपीएल निवासी राकेश कुमार तपोवन में एक छोटी सी दुकान पर फोटो स्टेट और साइबर कैफे का संचालन करते हैं। इस दुकान पर लगा बिजली का कनेक्शन उनके भाई देव प्रकाश के नाम पर है। शुक्रवार की सुबह राकेश कुमार के मोबाइल पर ऊर्जा निगम की ओर से एक मैसेज आया, जिसमें उनकी दुकान का एक माह का बिजली का बिल 19 करोड़ 84 लाख 59 हजार 959 रुपये बताया गया। राकेश कुमार ने कंप्यूटर खोलकर जब ऑनलाइन बिल देखा तो वास्तव में उनके नाम पर करीब 19.84 करोड़ रुपये का बिल जारी हुआ था। बिजली के बिल की इतनी भारी-भरकम राशि देखकर राकेश के होश उड़ गए। उन्होंने बताया कि वह कई वर्षों से इसी दुकान का बिजली का बिल एक हजार से पंद्रह सौ रुपये चुकाते आ रहा हैं। राकेश ने दुकान पहुंचने के बाद मीटर की रीडिंग चेक की तो बिल में दर्ज रीडिंग भी सही थी। उन्होंने ऊर्जा निगम के मुनिकीरेती स्थित उपखंड कार्यालय में जब इस बिल के संबंध में पता किया तो अधिकारियों ने उन्हें प्रिटिंग में गड़बड़ी की बात बताई। कुछ देर बाद फिर से राकेश कुमार के मोबाइल पर 1690 रुपये का बिजली के बिल का मैसेज आया। जिसके बाद उन्होंने राहत की सांस ली। इस संबंध में उपखंड अधिकारी मुनिकीरेती वैभव चमोली ने बताया कि हाल में ही विद्युत बिल मशीन के सॉफ्टवेयर में कुछ बदलाव हुआ है, जिस वजह से बिजली के बिलों में इस तरह की त्रुटियां आ रही हैं। उन्होंने बताया कि इस तरह के बिलों को दुरुस्त किया जा रहा है। बहरहाल, ऊर्जा निगम की ओर से जारी यह बिल सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

प्रतियोगिता के विजेता इंटरनेशनल मास्टर हिमल गुसाई को तीसरी नैनीताल ओपन फिडे रेटिंग चेस टूर्नामेंट की ट्रॉफी भेंट करते मुख्य एवं विशिष्ट अतिथि।

इंटरनेशनल मास्टर रहे ढाई लाख ईनामी तीसरी नैनीताल ओपन फिडे रेटिंग चेस टूर्नामेंट के विजेता-उपविजेता

नैनीताल, 3 नवंबर 2018। नगर के जूम लेंड में खेली गयी ढाई लाख के कुल ईनाम वाला तीसरी नैनीताल ओपन फिडे रेटिंग चेस टूर्नामेंट पश्चिमी रेलवे के विजेता एवं उपविजेता दोनों इंटरनेशनल मास्टर हिमल गुसाईं व डीके शर्मा रहे। हिमल 9 राउंड के इस पूरे टूर्नामेंट में अजेय रहे। उन्होंने 8 मैच जीते व एक ड्रा खेला और टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया। वहीं साढ़े सात अंकों के साथ एलआईसी के इंटरनेशनल मास्टर डीके शर्मा दूसरे स्थान पर रहे। वहीं तीसरे स्थान पर सात अंकों के साथ बिहार के आशुतोष कुमार तथा सात अंकों के साथ दिल्ली के ऋषभ जैन, पश्चिम बंगाल के सर्बजीत पॉल, कर्नाटक के ए बालकिशन व नेपाल के तेजेंद्र राज पाठक प्रोग्रेसिव पद्धति के जरिये समान अंक होने के बावजूद क्रमशः चौथे से सातवें स्थान पर रहे। प्रतियोगिता में विभिन्न वर्गों में कुल 45 प्रतिभागियों को ढाई लाख रुपये के नगद पुरस्कार वितरित किये गये।

तीसरी स्थान के लिये भिड़ते उत्तराखंड के सार्थक रावत (सफेद जैकेट में)

इनके अलावा राजस्थान के कांतिलाल, नेपाल के बसंत रावत, उत्तराखंड के तपन रॉय साढ़ें छह अंकों के साथ आठवें से दसवें, महाराष्ट्र के अवधेश प्रताप सिंह, एलआईसी के अविनाश श्रीवास्तव, यूपी के गौरव शर्मा व राजेश कुमार शर्मा, उत्तराखंड के राजेंद्र राणा, बिहार के जीतेंद्र कुमार जवाहर, हरियाणा के राज प्रखर 6 अंक बनाकर 11वें से 20वें स्थान पर रहे। वहीं प्रतियोगिता के प्रदर्शन के आधार पर हरियाणा के विभान साढ़े छह अंकों के साथ 1600 से कम रेटिंग अंकों में पहले, अभवेश प्रताप व मेदांस सक्सेना 6 अंकों के साथ दूसरे व तीसरे तथा अश्विनी सैनी व अभय नारायण 5 अंकों के साथ चौथे व पांचवें स्थान पर, 1400 से कम रेटिंग के वर्ग में बरेली के नीरज रावत साढ़े 6 अंकों के साथ, 1200 से कम रेटिंग के वर्ग में बरेली के ही सरबजीत भारद्वाज साढ़े पांच अंकों के साथ, सर्वश्रेष्ठ अनरेटेड वर्ग में यूपी के मनीश कुमार 5 अंक बनाकर अपने वर्गों में प्रथम रहे। वहीं पौड़ी के सार्थक रावत 6 अं प्राप्त कर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुने गये। इसी तरह महिलाओं में दिल्ली की महक जैन, बुजुर्गों में राजस्थान के केके कुलहरी, अंडर-115 में मुरादाबाद के उत्कर्ष रौथ 6 अंक बनाकर प्रथम रहे, वहीं सर्वेश्रेष्ठ स्कूल टीम का खिताब मुरादाबाद के गांधीनगर पब्लिक स्कूल को 17.5 अंकों के साथ मिला। पुरस्कार वितरण अल्मोड़ा अधिवक्ता संघ के पूर्व जिलाध्यक्ष शेखर लखचौरा, हाईकोर्ट के पूर्व अपर मुख्य स्थाई अधिवक्ता अनिल कुमार जोशी, एनएस पुंडीर ने किया। इस अवसर पर आयोजक संस्था के संरक्षक डीके जोशी, अध्यक्ष संजीव चौधरी, सचिव ईश्वरी दत्त तिवाड़ी, विश्वकेतु वैद्य, कौशल भट्ट, हिमांश बहुगुणा, नवीन जोशी, रोहित गुप्ता, अरुण कुमार साह, विमला तिवाड़ी, मानवेंद्र भाकुनी, दिनेश चंद्रा, चेहराज बिष्ट, समीर कुमार, राजू, विकास मरदान, दिव्यांशु तिवाड़ी, तोषित तिवाड़ी व अनिल कुमार आदि मौजूद रहे।
चित्र परिचयः 03एनटीएल-4ः नैनीताल। प्रतियोगिता के विजेता इंटरनेशनल मास्टर हिमल गुसाई को तीसरी नैनीताल ओपन फिडे रेटिंग चेस टूर्नामेंट की ट्रॉफी भेंट करते मुख्य एवं विशिष्ट अतिथि।

जानें नैनीताल दुग्ध संघ के चुनावों में कौन जीते-कौन हारे

नैनीताल, 2 नवंबर 2018। नैनीताल दुग्ध संघ के चुनावों में कालाढुंगी से भगत सिंह कुमटिया, भीमताल से हेमा देवी, कोटाबाग से शेखर चंद्र और रामगढ़ से मदन सिंह जीना, लालकुआ अनुसूचित सीट से राजेद्र प्रसाद, हल्दूचौड़ की महिला आरक्षित सीट से रश्मि गरजोला व हल्द्वानी की महिला सीट से गीता दुम्का चुनाव जीत गये हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार कालाढुंगी से भगत सिंह कुमटिया को 75 व नीरज देउपा को 33, भीमताल से हेमा देवी को 45 तथा देवेंद्र जीना को 7 व गिरीश चंद्र को 4, कोटाबाग से शेखर जोशी को 50, नवीन सिंह को 44 व कर्णवीर सिंह को 19, लालकुआ से राजेंद्र प्रसाद को 71, प्रकाश चंद्र को 36 व प्रकाश राम को 29, हल्दूचौड़ से रश्मि गरजोला को 59 व दीपा कार्की को 25, हल्द्वानी से गीता दुम्का को 43, बीना नौला को 33 व राधा बेलवाल को 23 तथा रामगढ़ से जीना को 48 व किशन सिंह को 40 वोट मिले।

आपूर्ति विभाग ने नैनीताल के किन व्यवसायिक प्रतिष्ठानों से जब्त किये घरेलू गैस सिलेंडर

खाद्य एवं आपूर्ति विभागों ने इन दिनों त्योहारों के मद्देनजर व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में घरेलू गैस सिलेंडरों के प्रयोग के खिलाफ अभियान छेड़ा हुआ है। जिला पूर्ति अधिकारी तेजबल सिंह ने बताया कि इसी कड़ी में शुक्रवार को मुख्यालय में की गयी छापेमारी में तल्लीताल के पंजाबी ढाबा से दो तथा खाना खजाना व सुनील कुमार के प्रतिष्ठान से एक-एक एवं मल्लीताल के मामू स्वीट्स से दो तथा नैनी रेस्टोरेंट व पंकज ढैला के प्रतिष्ठान से एक-एक यानी कुल 8 घरेलू सिलेंडर बरामद किये हैं।

प्रशांत मिस्टर उत्तराखंड, नितिन मिस्टर कुमाऊं व विनोद मिस्टर नैनीताल चुने गये

मिस्टर उत्तराखंड को पुरस्कृत करते मुख्य अतिथि।

-नैनीताल बाड़ी बिल्डिंग एण्ड फिटनैस एशोसिएशन के तत्वावधान में हुआ आयोजन
नैनीताल, 1 नवंबर 2018। नैनीताल बाड़ी बिल्डिंग एंड फिटनैस एशोसिएशन के तत्वावधान में नगर के शैले हाल में देवी लाल साह मेमोरियल उत्तराखंड क्लासिक बाडी बिल्डिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।
प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले 24 खिलाडियों में से विनोद गोस्वामी मिस्टर नैनीताल चुने गये, वहीं मुन्ना बुधानी द्वितीय तथा दीपक सिंह बधेरा तृतीय स्थान पर रहे। वहीं 25 प्रतिभागियों में से नितिन राठौर मिस्टर कुमाऊं, शुभम मेहरा द्वितीय तथा गौरव भट्ट तृतीय स्थान पर तथा उत्तराखंड मेन्स फिज़ीक प्रतियोगिता में 55 खिलाडियों में आशुतोष सिंह प्रथम, सुरेंद्र असवाल द्वितीय तथा समीर मौर्या तृतीय चयनित हुए। वहीं मिस्टर उत्तराखण्ड प्रतियोगिता 3 प्रतिभागियों में प्रशांत लामा मिस्टर उत्तराखण्ड बने। जबकि दीवान सिंह खोलिया द्वितीय तथा इंदर कुमार तृतीय स्थान पर रहे। इससे पूर्व कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि आयोजक संस्था के अध्यक्ष रमेश शर्मा तथा पूर्व ओलेम्पियन राजेद्र सिंह रावत ने संयुक्त रूप से किया। संचालन संस्था के संरक्षक सुरेश गुरूरानी तथा सचिव मुकेश पाल ने संयुक्त रूप से किया। पूर्व मिस्टर इंडिया मुकेश ठाकुर, अमित छेत्री, डा. मोहित सनवाल तथा हिमाचल के जग्गी सिंह ने निर्णायक की भूमिका निभाई। कार्यक्रम में पूर्व मिस्टर कुमाऊं प्रो. डीसी पांडेय व बहादुर पाल, पूर्व मिस्टर बरेली एएन सिंह, पूर्व मिस्टर कुमाऊ एनके खोलिया को खेल में उनके योगदान के लिये सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के प्रायोजक एलफिस्टन होटल परिवार की ओर से हरीश साह, ब्रज साह, दीप साह, विक्रम साह द्वारा अतिथियों का स्वागत किया गया। सचिव मुकेश जोशी ने संस्था के उद्देश्य तथा कार्यक्रमों की जानकारी दी, तथा अध्यक्ष गिरीश जोशी ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

प्रशासन को सिर्फ ‘लौह पुरुष’ याद आये, भाजपा-कांग्रेसियों ने तो भुला दिया दोनों ‘लौह पुरुष-लौह महिला’ को

जिला कलक्ट्रेट में कर्मचारियों को ‘राष्ट्रीय एकता दिवस’ की शपथ दिलाते डीएम।

नैनीताल, 31 अक्तूबर 2018। बुधवार 31 अक्तूबर को ‘लौह पुरुष’ सरदार पटेल की जयंती के साथ ही पाकिस्तान के दो टुकड़े कर देने वाली तथा देश की चार कार्यकालों में व एकमात्र महिला प्रधानमंत्री रहीं ‘लौह महिला’ इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि भी थी। किंतु बदले राजनीतिक हालातों में जिला व मंडल मुख्यालय में लौह पुरुष तो कई जगह याद किये गये, किंतु लौह महिला को कहीं भी सार्वजनिक तौर पर याद किये जाने की सूचना नहीं है। अलबत्ता, निकाय चुनावों में लगे भाजपा कार्यकर्ताओं को भी पिछले वर्षों की तरह ‘राष्ट्रीय एकता दिवस क्रॉस कंट्री दौड़’ और कांग्रेसियों को इंदिरा गांधी को याद करने की फुरसत नहीं दिखाई दी।
लौह पुरुष की जयंती ‘एकता दिवस’ के अवसर पर कमिश्नरी मुख्यायल पर अपर आयुक्त संजय खेतवाल तथा जिला कलेक्ट्रेट मे डीएम विनोद कुमार सुमन ने कर्मचारियों को राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलायी। इस अवसर पर अधिकारियों व कर्मचारियों को संबोधित करते हुये डीएम श्री सुमन ने कहा कि सरदार बल्लभ पटेल का विशाल व्यक्तित्व तथा उनके द्वारा देश की एकता व अखंडता के लिए किये गये कार्यो को सदा ही याद किया जायेगा। आजादी के बाद देश के गृहमंत्री के पद पर आसीन रहते हुये उन्होने रियासतों को देश में एकता के सूत्र मे पिरोते हुये सभी रियासतों का विलय किया। जिससे समग्र भारत उभरकर दुनिया के सामने आया। वहीं अपर आयुक्त श्री खेतवाल ने अपने संबोधन मे कहा स्व. पटेल के आदर्शो एवं उनकी शिक्षाओं को अपनाते हुये हमें राष्ट्र निर्माण में भागेदारी तय करनी होगी। इधर मल्लीताल कोतवाली व तल्लीताल पुलिस थाने में भी इस मौके पर पुलिस कर्मियों ने एकता की शपथ ली। वहीं नैनीताल जिमखाना एवं जिला क्रीड़ा संघ के तत्वावधान में सुबह ‘राष्ट्रीय एकता दिवस क्रॉस कंट्री दौड़’ का आयोजन हुआ, जिसमें विजय सिंह प्रथम, अमन कुमार द्वितीय व सौरभ बधानी तृतीय रहे।

नैनीताल में पिछली बार हुई थी 49वीं, इस बार हुई 47वीं प्रतियोगिता, जानें क्यों ?

-पहली बार फ्लैट्स मैदान में आयोजित हुई शारदा संघ की बाल चित्रकला प्रतियोगिता में दो हजार बच्चों ने भरे कल्पनाओं में रंग

बाल चित्रकला प्रतियोगिता के दौरान शास्त्रीय नृत्य की सुंदर प्रस्तुति देती बालिकाएं।
बाल चित्रकला प्रतियोगिता में अपनी कल्पनाओं में रंग भरते बच्चे।

नैनीताल, 28 अगस्त 2018। नगर की प्राचीन धार्मिक-सामाजिक संस्था शारदा संघ के तत्वावधान में रविवार को 50वीं बाल चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित हुई। सर्दियों की खिली धूप के बीच नैनी झील के पार्श्व में पहली बार फ्लैट्स मैदान में आयोजित हुई प्रतियोगिता में करीब दो हजार बच्चों ने विभिन्न वर्गों में प्रतिभाग किया। इस बार सभी वर्ग के बच्चों को इंद्रधनुष, गुलदस्ता, मेरा परिवार, छोटा भीम, बगीचा, पशु, त्योहार, प्रदूषण, जल संरक्षण, स्वच्छ भारत, सर्कस, दुर्गापूजा, गांव, नैनीताल के ऐतिहासिक भवन, नैनी झील, रामलीला तथा 10 वर्ष बाद का नैनीताल कैसा होगा आदि विषय दिये गये।
इससे पूर्व प्रतियोगिता का शुभारंभ कूर्मांचल नगर सहकारी बैंक के अध्यक्ष विनय साह व नैनीताल बैंक के अध्यक्ष व सीईओ मुकेश शर्मा ने बतौर मुख्य अतिथि रंग-बिरंगे गुब्बारे उड़ाकर किया। इस दौरान शारदा संघ स्थित पं. चंद्रशेखर पंत संगीत विद्यालय की छात्राओं ने शास्त्रीय एवं लोक सांस्कृतिक नृत्यों की शानदार प्रस्तुतियां भी दीं। आगे बताया गया कि 29 व 30 अक्टूबर को प्रतियोगिता की प्रविष्टियों की शारदा संघ के सभागार में प्रदर्शनी लगेगी, तथा 31 अक्तूबर को विजेताओं को पुरस्कृत किया जाएगा। इस अवसर पर संस्था के घनश्याम लाल साह, प्रो. डीएस बिष्ट, डा. मनोज बिष्ट, डा. जीएल साह, केएस ह्यांकी, आलोक साह, डीएल साह व जेके शर्मा सहित संस्था के अनेक सदस्य मौजूद रहे। अपने बचपन में प्रतियोगिता के विजेता रहे नगर कोतवाल विपिन चंद्र पंत ने आयोजन के लिए 10 हजार रुपए देने की घोषणा करने के साथ शहीदों, महापुरुषों के चित्र भी विषय के रूप में देने की अपील की। संचालन हेमंत बिष्ट ने किया।

पिछले वर्ष 49वीं इस बार 47वीं हुई प्रतियोगिता

नैनीताल। गत वर्ष 2018 में आयोजित हुई बाल चित्रकला प्रतियोगिता को 49वीं प्रतियोगिता बताया गया था। इस हिसाब से इस वर्ष की प्रतियोगिता 50वीं होनी थी। लेकिन इस बार 50वीं स्वर्ण जयंती प्रतियोगिता नहीं हुई, बल्कि बीच में हुए विवाद व भ्रमपूर्ण स्थिति के कारण बताया ही नहीं गया कि इस वर्ष कौन सी वीं प्रतियोगिता हुई। पूछे जाने पर संस्था के पूर्व अध्यक्ष घनश्याम लाल साह ने बताया कि पहली बार यह प्रतियोगिता 1971 में आयोजित हुई थी। बीच में कुछ वर्षों में व्यवधान भी रहा। पूर्व में नगर में होने वाले शरदोत्सव के आयोजन की धनराशि से इसका भी आयोजन होता था। इसलिए भ्रम की स्थिति रही है। उल्लेखनीय है कि गत वर्ष के आयोजन के मुख्य अतिथि नगर कांग्रेस अध्यक्ष मारुति नंदन साह ने अगले वर्ष स्वर्ण जयंती वर्ष पर होने वाली प्रतियोगिता को अपने नाना स्वर्गीय हीरा लाल साह के नाम पर कराने के लिए 50 हजार रुपए की राशि संस्था को देने की घोषणा भी की थी। आज श्री साह ने कहा कि जब भी 50वीं यानी स्वर्ण जयंती वर्ष की प्रतियोगिता होगी, इसे वे प्रायोजित करेंगे। बताया गया कि शारदा संघ की स्थापना 1938 में हुई थी एवं 1943 में शारदा संघ नाम दिया गया था।

Loading...

Leave a Reply