विज्ञापन सड़क किनारे होर्डिंग पर लगाते हैं, और समाचार समाचार माध्यमों में निःशुल्क छपवाते हैं। समाचार माध्यम कैसे चलेंगे....? कभी सोचा है ? उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 30 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 13.7 मिलियन यानी 1.37 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

July 25, 2024

हृदयविदारक ! कमरे में मिले तीन दिन पुराने पति-पत्नी के सड़े-गले शव, साथ में पड़ा मिला तीन दिन से भूखा-प्यासा मात्र 5 दिन का नवजात बच्चा (Pati-Patni ne Sath Di Jaan)

0

Pati-Patni ne Sath Di Jaan: Emotionally Sad News of a Doctor Couple Vowing to Live and Die Together”, In a heart-wrenching and emotionally sad news, a doctor couple has taken a solemn oath to live and die together. This act of unwavering commitment and love has touched the hearts of many. The bond between the pati-patni (husband and wife) is truly extraordinary as they have pledged to be there for each other through thick and thin, in sickness and in health. This news showcases the depth of their love and the strength of their relationship. It is a testament to the power of true companionship and the vows they have taken to stay united until the end.

A Cloth Wrapped around the Neck of a Child, Unfortunate, Woman Suicide Dehradun, Hotel men, Maut, Disaster, Youth committed suicide, Youth, Suicide, Aatmhatya, Atmhatya, Yuva ne ki Aatmhatya, Yuvak ne ki Aatmhatya, Yuvti ne ki Aatmhatya, Drowned their Friend in Water,

नवीन समाचार, देहरादून, 13 जून 2023। (Pati-Patni ne Sath Di Jaan) राजधानी में एक घर में पति-पत्नी के शव मिलने से हड़कंप मच गया। हृदयविदारक व मर्मांतक बात यह भी रही कि पति-पत्नी की मौत तीन दिन पहले हुई बताई जा रही है, और तब से यानी तीन दिनों से एक 5 दिन की उम्र का नवजात बच्चा उसी कमरे में बंद था। इसे ईश्वर का चमत्कार ही कहा जाएगा कि बच्चा तीन दिन भूखा-प्यासा रहने के बावजूद जीवित बचा हुआ है।

Pati-Patni ne Sath Di Jaanपुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार क्लेमनटाउन के टर्नर रोड स्थित एक घर में पति-पत्नी के करीब तीन दिन पुराने शव मिले हैं। शवों के बीच में दंपति का 5 दिन का नवजात बच्चा जिंदा मिला है, उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस प्रथम दृष्टया इसे आत्महत्या मान रही है। पुलिस के अनुसार, यूपी के नागल सहारनपुर निवासी जेसीबी चालक 25 वर्षीय कासिफ देहरादून में टर्नर रोड पर किराए के मकान में अपनी पत्नी 20 वर्षीय अनम के साथ रहता था।

दोनों की करीम एक साल पहले दूसरी शादी हुई थी। पहली पत्नी गांव में रहती है। अनम देहरादून के एक निजी अस्पताल में 5 दिन पूर्व बेटे को जन्म देने के बाद आठ जून को कमरे पर लौटी थी। कासिफ पहली पत्नी से रोजाना बात करता था, लेकिन 10 जून के बाद उसने कॉल नहीं की।

चिंता होने पर मंगलवार को दूसरी पत्नी देहरादून पहुंची। दरवाजा अंदर से बंद था, कमरे से दुर्गंध आ रही थी। अनहोनी की आशंका पर महिला ने एक रिश्तेदार को मौके पर बुलाया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने कमरे के बाहर से लगा ताला तोड़कर शवों को बरामद करदरवाजा तोड़कर देखा तो दंपति की सड़ी गली लाश जमीन पर पड़ी हुई मिली। दोनों शवों के बीच पांच दिन का नवजात भी बेसुध पड़ा था। लेकिन उसकी सांस चल रही थी। पुलिस ने एंबुलेंस से बच्चे को तत्काल दून अस्पताल पहुंचाया।

जबकि दंपति को शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए कोरोनेशन अस्पताल स्थित मोर्चरी में भिजवा दिया। क्लेमनटाउन थानाध्यक्ष शिशुपाल सिंह राणा ने बताया कि शव करीब तीन पुराने हैं। प्रथम दृष्टया मौत का कारण आत्महत्या लग रही है। मृतक ने 3-4 महीने पहले ही टर्नर रोड पर किराए पर मकान लिया था। दंपति ने बेटे के जन्म लेने के बाद उसकी चिंता किए बिना मौत क्यों गले लगाया, इसकी असल वजह पोस्टमार्टम के बाद पता चल पाएगी।

मौत का कारण जानने के लिए पुलिस दोनों मृतक पति-पत्नी के मोबाइलों को भी खंगाल रही है। पुलिस ने कासिफ और उसकी मृत पत्नी का फोन कब्जे में ले लिया है। कॉल रिकार्डिंग के साथ ही उनके संपर्क में जो लोग थे, उनसे भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस के अनुसार कासिफ की दूसरी शादी से उसके परिवार वाले नाराज थे ।

यह भी पढ़ें : भावुक कर देने वाला दुःखद समाचार: चिकित्सक दंपति ने साथ जान देकर निभाई साथ जीने-मरने की कसम (Pati-Patni ne Sath Di Jaan)

नवीन समाचार, काशीपुर, 31 मई 2023। शहर में बुधवार को एक घर में पति-पत्नी के शव पड़े मिलने की सूचना से सनसनी फैल गई। घटना तब और बड़ी हो गयी, जब पता चला कि मृतक शहर के एक निजी चिकित्सालय के चिकित्सक व उनकी पत्नी हैं। कमरे में नशे के इंजेक्शन और सुसाइट नोट मिले हैं। यह भी पढ़ें : सैलानियों के आवागमन के बीच नैनीताल-हल्द्वानी रोड पर ताकुला में दिखा दुनियां का सबसे लंबा विषधर ‘हिमालयन किंग कोबरा’ 

आशंका जताई जा रही है नशीले इंजेक्शन लगाने से मौत हुई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। शवों को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। सुसाइड नोट में हालातों की जानकारी देते हुए किसी को भी जिम्मेदार नहीं बताया गया है। बताया जा रहा है पत्नी की असाध्य बीमारी के कारण चिकित्सक दंपति ने साथ जीने-मरने की कसम इस तरह जान देकर निभाई है। यह भी पढ़ें : नाबालिग किशोरी को भगाने के प्रयासों से लोग हुए आक्रोशित, आक्रोश देख दूसरे समुदाय के 42 व्यापारी गायब !

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार को आईटीआई थाना पुलिस को डायल 112 पर सूचना मिली कि सैनिक कॉलोनी में एक घर में पति-पत्नी की मृत्यु हो गयी है। मौके पर पहुंचने पर डा. इन्द्रेश शर्मा पुत्र पुत्र रामनाथ शर्मा व उनकी पत्नी वर्षा शर्मा बिस्तर पर मृत पाये गए। पता चला कि डा. इन्द्रेश शर्मा देहरादून के मूल निवासी थे और वर्तमान में कृष्णा हॉस्पिटल काशीपुर में कार्यरत थे। उनकी पत्नी के काफी समय से कैंसर की बीमारी से पीड़ित होने की जानकारी भी सामने आ रही है। यह भी पढ़ें : उत्तराखंड: कैबिनेट बैठक में लिए 7000 पदों पर भर्ती व दर्जनों नए पदों, नई तहसील आदि के 52 बड़े निर्णय 

बताया गया है कि डॉ. शर्मा इस घर में अपनी पत्नी व बेटे के साथ रहते थे। उनकी बेटी का विवाह हो चुका है। उनकी पत्नी को लंबे समय से कैंसर की असाध्य बीमारी थी। दूसरी ओर कारोना काल में उनकी आर्थिक स्थिति खराब हो गई थी। इस कारण वह बेटे को स्कूल भी नहीं भेज पा रहे थे। यह भी पढ़ें : अल्मोड़ा में बारात के लिए आए 16 साल के नाबालिग की नदी में डूबने से मौत, हल्द्वानी में युवक का शव मिलने से सनसनी 

इधर बुधवार सुबह उनका बेटा उठा तो काफी देर तक माता-पिता के नहीं उठने पर उसने कमरे में जाकर देखा, तोदोनों मृत अवस्था में पड़े मिले। इस पर उसने पड़ोसियों को रोते हुए जानकारी दी। मामले की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में 26 साल की शिक्षिका की संदिग्ध मौत, मौत से पहले दी जानकारी 

एसपी काशीपुर अभय सिंह के मुताबिक, घटनास्थल पर सिरिंज और सुसाइड नोट मिला है। नोट में डॉक्टर ने अपनी स्वेच्छा से सुसाइड किए जाने का जिक्र किया है। इसके लिए किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराया गया है। प्रथम दृष्ट्या मामला आत्महत्या का लग रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस दंपत्ति की मौत पर हर एक बिंदु पर बारीकी से जांच कर रही है। माता-पिता की मौत की जानकारी पाकर उनकी बेटी भी काशीपुर पहुंच गई है। (Pati-Patni ne Sath Di Jaan) (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :