News

नैनीताल: डीएसबी के तीन को शोध में मिलेगा पुरस्कार

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डॉ. नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 2 सितंबर 2021। कुमाऊँ विश्वविद्यालय नैनीताल के रसायन विज्ञान विभाग की एशोसियेट प्रोफेसर डा. गीता तिवारी को टीचर ऑफ द इयर, रसायन विज्ञान विभाग के प्रोफेसर नंद गोपाल साहू को एक्सीलेंस इन रिसर्च अवार्ड और रसायन विभाग के अंतर्गत संचालित नैनो साइंस सेंटर के शोध छात्र गौरव ततराड़ी को रिसर्चर ऑफ द इयर अवार्ड दिया जाएगा। शिक्षक दिवस 5 सितम्बर को देहरादून में मुख्यमत्री पुष्कर सिंह धामी दिव्य हिमगिरी पत्रिका, उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय, यूकोस्ट देहरादून द्वारा आयोजित कार्यक्रम में यह पुरस्कार प्रदान करेंगे।

इस उपलब्धि पर कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके जोशी, निदेशक प्रोफेसर एलएम जोशी, परीक्षा नियत्रंक प्रोफेसर एचसीएस बिष्ट, विभागाध्यक्ष प्रोफेसर एबी मेलकानी सहित संकायाध्यक्ष प्रोफेसर एससी सती, निदेशक डीआईसी प्रोफेसर संजय पतं एवं कुमाऊँ विश्वविद्यालय शिक्षक संक्ष कूटा के कोषाध्यक्ष डॉ. विजय कुमार सहित अन्य पदाधिकारियों ने बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : कुमाऊं विश्वविद्यालय की शिक्षिका वीना पांडे को मिलेगा ‘एक्सीलेंस रिसर्चर ऑफ द इयर’ पुरस्कार

प्रो. वीना पांडे

डॉ. नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 1 सितंबर 2021। कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल के सर जेसी बोस तकनीकी परिसर भीमताल में जैव प्रौद्योगिकी विभाग की अध्यक्ष प्रो. वीना पांडे को आगामी 5 सितंबर शिक्षाक दिवस के अवसर पर ‘एक्सीलेंस रिसर्चर ऑफ द इयर’ के पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। देहरादून स्थित उत्तराखंड तकनीकी विवि में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी साप्ताहिक पत्रिका दिव्य हिमगिरि की ओर से प्रदत्त यह पुरस्कार प्रदान करेंगें।

उन्हें यह पुरस्कार मिलने की घोषणा होने पर कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके जोशी, भीमताल परिसर के निदेशक प्रो. पीसी कविदयाल, विज्ञान संकायाध्यक्ष प्रो. एससी सनी व कुलसचिव दिनेश चंद्रा सहित अनेक लोगों ने बधाई दी है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : पोलेंड में शिष्य ने स्वर्ण पदक जीत कर रचा इतिहास तो नैनीताल में कोच हुए सम्मानित

डॉ. नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 28 अगस्त 2021। नगर के दुर्गापुर स्थित पार्वती प्रेमा जगाती सरस्वती विहार के तीरंदाजी कोच विक्रांत चौधरी के ग्राम खतौला उत्तर प्रदेश निवासी शिष्य साहिल चौधरी ने पोलैंड में आयोजित तीरंदाजी की वर्ल्ड यूथ आर्चरी यानी तीरंदाजी की चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर देश का नाम रोशन किया है।

इस उपलब्धि पर विद्यालय के प्रधानाचार्य नरेंद्र सिंह और प्रबंध समि

शनिवार को तीरंदाजी कोच को सम्मानित करते प्रधानाचार्य नरेंद्र सिंह।

ति के अध्यक्ष कामेश्वर प्रसाद काला ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए विद्यालय में अपने तीरंदाजी कोच विक्रांत चौधरी को सम्मानित किया। विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री सिंह ने कहा कि विद्यालय के कोच के शिष्य ने तीरंदाजी की विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा है यह विद्यालय के लिए प्रसन्नता का विषय है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : तीलू रौतेली सम्मान के बाद देश की 51 प्रेरित करने वाले भारतीयों की सूची में शामिल हुई उत्तराखंड की बेटी

-दून की डॉ .कंचन नेगी को भाजपा सांसद मनोज तिवारी से मिला ‘इनफ्लूएनशियल इंडियंस 2021’ पुरस्कार
नवीन समाचार, देहरादून, 19 अगस्त 2021। तीलू रौतेली सम्मान के बाद दून की डॉ. कंचन नेगी को भाजपा सांसद मनोज तिवारी के हाथों, दिल्ली मेट्रो के डीसीपी की उपस्थिति में ‘इनफ्लूएनशियल इंडियंस 2021’ पुरस्कार दिया गया है। उनका नाम अंतराष्ट्रीय प्रशिक्षण, अनुसंधान एवं विकास की श्रेणी में दर्ज किया गया है।

दिल्ली के होटल रेडिसन ब्लू में आयोजित इनफ्लूएनशियल इंडियंस 2021 कार्यक्रम में डॉ.कंचन नेगी को यह पुरस्कार दिया गया। बताया गया हैं कि डॉ .कंचन नेगी एक अंतराष्ट्रीय शिक्षाविद् भी हैं। वह देश के ही नहीं बल्कि विदेशों के विद्यालयों एवम विश्वविद्यालयों में प्रशिक्षण देती हैं, और भारत सरकार और राज्य के सरकारी विभागों के बीच समन्वय स्थापित कर उनकी नीतियों, योजनाओं को जनता तक पहुंचाने तथा ग्रामीण महिलाओं, और बच्चों के उत्थान के लिए अपने प्रशिक्षण के माध्यम से कार्य करती हैं।

उन्हें इससे पहले तीलू रौतेली पुरस्कार, मातृ शक्ति सम्मान, महिला शक्ति सम्मान, मोस्ट इंस्पिरेशनल वूमेन अवार्ड, बेस्ट इंटरनेशनल ट्रेनर अवार्ड, राष्ट्रीय गौरव अवॉर्ड, इंडिया प्राइम अवार्ड, एशिया एक्सेप्शनल वूमेन ऑफ एकसीलेस अवॉर्ड, एशिया पैसेफिक वूमेन ऑफ एक्सीलेंस अवार्ड, रीयल सुपर वूमेन अवार्ड, आउटस्टैंडिंग ग्लोबल ट्रेनिंग प्रोफेशनल अवॉर्ड इत्यादि कई अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय पुरुस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है।

उल्लेखनीय है कि डॉ. कंचन नेगी देहरादून के विद्या विहार फेज 2 में रहती हैं और ‘आपका बिजनेस सॉल्यूशंस’ संस्था और राष्ट्रीय स्तरीय स्वयं सेवी संस्था सैंगुइन वी केयर वेलफेयर सोसाइटी की संस्थापक तथा उत्तराखंड हेरिटेज मीडिया की एडीटर इन चीफ हैं। एक प्रेरक के रूप में उनका कहना है, ‘हमारे राज्य में प्रतिभावान लोगों की नहीं बल्कि उनमें आत्मविश्वास, सही मार्गदर्शन व स्वप्रेरण की कमी है।’ उनका मंत्र है, ‘तकलीफों व बुरे वक्त से ना घबराएं। सूर्य और चंद्रमा दोनों ही चमकते हैं पर अपने अपने समय पर। परंतु सिर्फ मेहनत, खुद पर विश्वास और अधिक से अधिक संघर्ष ही सफलता और बड़ा इतिहास रचने का मार्ग प्रशस्त करता है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 33 कोरोना योद्धा सम्मानित

नवीन समाचार, नैनीताल, 01 अप्रैल 2021। दिव्य हिमगिरी एवं उत्तराखंड मानव अधिकार संरक्षण केंद्र द्वारा बृहस्पतिवार को नैनीताल क्लब के सभागार में कोरोना योद्धाओं के लिए सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। आयोजन में कोविड-19 की महामारी के दौरान अपने क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले नैनीताल जनपद के 33 लोगों को मुख्य अतिथि जनपद के मुख्य कृषि अधिकारी एवं नोडल ऑफिसर कोविड कंट्रोल रूम धनपत कुमार एवं विशिष्ट अतिथि पूर्व विधायक सरिता आर्या व पूर्व विधायक डॉ. नारायण सिंह जंतवाल के हाथों सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन देहरादून से आए दिव्य हिमगिरी के संपादक एवं उत्तराखंड मानव अधिकार संरक्षण केंद्र के महासचिव कुंवर राज अस्थाना ने किया।

इस अवसर पर स्वयं लोगों को सम्मानित कर रहीं पूर्व विधायक सरिता आर्या, मल्लीताल कोतवाल अशोक कुमार सिंह, मुन्नी तिवारी, सभासद मनोज साह जगाती, कैलाश अधिकारी, आशा शर्मा, हिमांशु पांडे, अनुपम कबडवाल, प्रदीप दुम्का, अरविंद पडियार, कमलेश तिवारी, डॉ. सरस्वती खेतवाल प्रो. ललित तिवारी, आनंद बिष्ट, डॉ. मोनिका कांडपाल, डॉ. एमएस दुग्ताल, दिव्या साह, डॉ. कृष्णा साह, मीनू बुधलाकोटी, हेम आर्य, धर्मेंद्र शर्मा, ब्रदर हैक्टर पिंटो, खष्टी बिष्ट, गौरव पंत, डॉ. अनिरुद्ध गंगोला, शशि पांडे, मदन मेहरा, गुंजन पंत, संदीप कुमार, रघुवर दत्त जोशी व डॉ. महेश कुमार आदि को सम्मानित किया गया। आयोजन में दिव्य हिमगिरि के नैनीताल प्रभारी शीतल तिवारी, रजत चौधरी व सुभाष चंद्र का भी योगदान रहा।

यह भी पढ़ें : पंजाबी महासभा ने किया नैनीताल की हस्तियों का सम्मान

बृहस्पतिवार को नगर के वरिष्ठ समाजसेवी व व्यवसायी मंजीत सिंह को सम्मानित करते पंजाबी महासभा के पदाधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 18 मार्च 2021। नगर के पंजाबी समुदाय के लोगों की संस्था पंजाबी महासभा नैनीताल की ओर से बृहस्पतिवार को नगर की अपने क्षेत्र की हस्तियों को स्मृति चिन्ह भेंटकर एवं शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। साथ ही उनकी शान में कसीदे भी पढ़े गए। बताया गया कि वंचित वर्ग के बच्चों की मदद के लिए सेना में बड़े ओहदे को छोड़कर काम करने वाली डॉ. मीना पाल, नगर के प्रतिष्ठित व्यवसायी एवं समाजसेवी व सभा के संरक्षक मंजीत सिंह, इस वर्ष नगर में निस्वार्थ चिकित्सा सेवा के 50 वर्ष पूरे कर रहे डॉ. डीपी गंगोला, नगर के बच्चों को स्मैक के नशे, बालिकाओं को मनचलों के भय तथा नगर की सड़कों को जाम से मुक्त कराने में योगदान देने के लिए एएसपी देवेंद्र पिंचा, युगमंच के अध्यक्ष रंगकर्मी जहूर आलम एवं नगर के सेंट जोसफ कॉलेज की कायापलट करने वाले प्रधानाचार्य ब्रदर हैक्टर पिंटो को सम्मानित किया गया। इस मौके पर सभा के महासचिव जेके शर्मा, प्रीतपाल सिंह आहूजा, प्रवीण शर्मा, अमनदीप सिंह ‘सनी’, राजीव गुप्ता, ओम प्रकाश मैद व सुमित खन्ना सहित बड़ी संख्या में सभा के पदाधिकारी मौजूद रहे। संचालन विक्रम स्याल ने किया।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड के 2 पुलिस अधिकारियों को कल मिलेगा ‘राष्ट्रपति का पुलिस पदक’ व 5 को सराहनीय सेवाओं के लिए ‘पुलिस पदक’

नवीन समाचार, देहरादून, 25 जनवरी 2021। राष्ट्रपति द्वारा गणतंत्र दिवस के अवसर पर उत्तराखंड के 2 पुलिस अधिकारियों को विशिष्ट सेवाओं के लिए “राष्ट्रपति का पुलिस पदक” एवं 5 पुलिस कार्मिकों को सराहनीय सेवाओं के लिए “पुलिस पदक” से सम्मानित किये जाने की घोषणा की गई है।

विशिष्ट सेवा के लिए “राष्ट्रपति का पुलिस पदक” से सम्मानित होने वाले अधिकारियों में अपर पुलिस महानिदेशक, सीआईडी/पीएसी पीवीके प्रसाद और पुलिस महानिरीक्षक (वर्तमान में आईटीबीपी में प्रतिनियुक्ति पर आईजी वेस्ट एफटीआर मुख्यालय लेह-लद्दाख) दीपम सेठ हैं। सराहनीय सेवा के लिए “पुलिस पदक” से सम्मानित होने वाले अधिकारियों एवं कार्मिकों में पिथौरागढ़ के पुलिस अधीक्षक सुखबीर सिंह, पुलिस अधीक्षक एवं एआईजी मुकेश कुमार, एएसपी (संचार) उमेश चन्द्र जोशी, हल्द्वानी सेक्टर के डीएसपी (सतर्कता) पंकज कुमार उप्रेती और राज्य पुलिस मुख्यालय में तैनात उप निरीक्षक देवेन्द्र सिंह हैं। राज्य के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने समस्त पदक विजेताओं को शुभकामनाएं दी हैं।

यह भी पढ़ें : मुंबई में राज्यपाल कोश्यारी ने किया वरिष्ठ पत्रकार तिवारी व हिमानी सहित 9 उत्तराखंडी हस्तियों का सम्मान

नवीन समाचार, नैनीताल, 7 नवम्बर 2020। महाराष्ट्र के मालाबार हिल्स मुंबई स्थित राजभवन में शनिवार को उत्तराखंड के आगामी 9 नवंबर को आयोजित राज्य स्थापना दिवस को ‘उत्तराखंड दिवस’ के रूप में मनाते हुए पूर्व राज्यमंत्री व भाजपा नेता अमरजीत मिश्र की अगुवाई में मुंबई की सामाजिक सांस्कृतिक संस्था ’अभियान’ द्वारा आयोजित एक समारोह में पहाड़ की कई हस्तियों को सम्मानित किया गया।

2018 में उत्तराखण्ड की ‘प्रतिनिधि संस्था’ गढ़वाल भ्रातृ मण्डल के ‘गढ़रत्न पुरस्कार’ से सम्मानित होते फिल्म पत्रिका ‘माधुरी’ के पूर्व संपादक व फिल्म पत्रकार विनोद तिवारी (फाइल फोटो)।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस समारोह में राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी के हाथों कई दशकों तक माधुरी पत्रिका के संपादक रहे मूलतः नैनीताल निवासी वरिष्ठ पत्रकार विनोद तिवारी, बॉलीवुड अभिनेत्री हिमानी शिवपुरी व पत्रकार केशरसिंह बिष्ट सहित विभिन्न क्षेत्रों की कुल 9 विशिष्ट हस्तियों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर अभियान संस्था की ओर से सभी सम्मानित हस्तियों को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की प्रतिमा भेंट करते हुए कहा गया कि लंबे आंदोलन के बाद 9 नवम्बर 2000 को तत्कालीन प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी ने उत्तराखंड प्रदेश का गठन किया था। उल्लेखनीय है कि सम्मानित हुए वरिष्ठ पत्रकार विनोद तिवारी, भाजपा मंडल नैनीताल के मीडिया प्रभारी अशोक तिवारी एवं नगर के वरिष्ठ पत्रकार डा. गिरीश रंजन तिवारी के बड़ भाई हैं।

यह भी पढ़ें : इटली के ‘ऑर्डर ऑफ स्टार अवार्ड’ से सम्मानित होंगे नैनीताल के अनुपम

-भारत में कला एवं संस्कृति के संरक्षण के साथ ही देश-विदेश में तकनीक के आदान-प्रदान के लिये कला संरक्षकों को मिलेगी अमेरिकी भारतीय फेलोशिप

नवीन जोशी, नैनीताल। नैनीताल की कला एवं संस्कृति तथा प्राचीन पांडुलिपियों के संरक्षण के लिए समर्पित संस्था हिमालयन सोसायटी फॉर हेरिटेज एंड आर्ट कंजरवेशन (हिमसा) के प्रमुख अनुपम साह को अगले माह इटली में वहां के राष्ट्रपति सर्जियो मटरेल्ला के हाथों प्रतिष्ठित ‘ऑर्डर ऑफ द स्टार ऑफ इटली’ अवार्ड प्रदान किया जाएगा।जानकारी के अनुसार 2011 तक ‘ऑर्डर ऑफ द स्टार ऑफ इटेलियन सोलिडेरिटी’ अवार्ड कहा जाने वाला यह पुरस्कार इससे पूर्व केवल एक भारतीय, मशहूर शेफ एवं रेस्टोरेंटों की श्रृंखला की मालिक रितु डालमिया को वर्ष 2011 में प्राप्त हुआ था। इस प्रकार अनुपम यह पुरस्कार प्राप्त करने वाले दूसरे भारतीय होंगे।  

Med-placca.jpg
आर्डर ऑफ़ स्टार ऑफ़ इटली अवार्ड

अनुपम साह
अनुपम साह

एक भेंट में साह ने बताया कि उन्हें यह सम्मान कला एवं संस्कृति के क्षेत्र में वर्षो कार्य करने एवं उत्कृष्टता हासिल करने के साथ ही देश-विदेश में इस तकनीक के आदान-प्रदान तथा कला व संस्कृतियों के संरक्षण के साथ ही सामाजिक-आर्थिक व नगरीय विकास जैसे अन्य क्षेत्रों में भी कार्य करने के लिए घोषित किया गया है। उल्लेखनीय है कि जनपद के रानीबाग निवासी साह ने कला एवं संस्कृतियों के संरक्षण की विकास यात्रा रानीबाग के ही शीतला माता मंदिर से की। उन्होंने यहां सीमेंट-कंक्रीट से नये आधुनिक स्वरूप में बदले गये मंदिर को चूने एवं उड़द की दाल के परंपरागत लेप से दीवारों को चिनकर तथा मूर्तियों को भी उनके प्राचीन स्वरूप में लौटाने से शुरुआत की। वहीं 2002 में एनडीए सरकार के दौरान तत्कालीन केंद्रीय पर्यटन मंत्री जगमोहन के दौर में उन्होंने उड़ीसा के पुरी जिले के लोककला शिल्पियों के अपनी कला को खो रहे एक गांव-रघुराजपुर को ऐसे अपने पुराने स्वरूप में लौटाया कि इसे ‘‘हेरिटेज विलेज’ घोषित किया गया और केंद्र सरकार ने इसकी तरह ही देश के सभी राज्यों में दो-दो मिलाकर कुल 60 गांवों को विकसित करने की ‘रूरल टूरिज्म’ योजना शुरू की।इसके अलावा वह उड़ीसा के भुवनेश्वर व अरुणाचल प्रदेश के चीन के सीमावर्ती 11 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित तवांग स्थित बौद्ध मंदिर-गोम्फा के परंपरागत पूजा संबंधी हस्तशिल्प को संरक्षित करने के कायरे में तथा यहां नैनीताल की ठंडी सड़क एवं अग्निकांड से बर्बाद हुए ऐतिहासिक जिला कलक्ट्रेट भवन को उसके प्राचीन परंपरागत स्वरूप में लौटाने में भी अपना योगदान दे चुके हैं। इसके अलावा वे विश्व धरोहर स्थल एलोरा एवं हंफी की दो हजार वर्ष पुरानी मूर्तियों व भित्ति चित्रों के संरक्षण के लिए भी प्रस्ताव तैयार कर चुके हैं।

40 कला संरक्षकों को मिलेगी अमेरिकी भारतीय फेलोशिप

नैनीताल। भारत सरकार तथा अमेरिका की एंडूमैलन फाउंडेशन के द्वारा अगले पांच वर्षो तक हर वर्ष कला एवं संस्कृति संरक्षण में कार्यरत आठ भारतीयों को फेलोशिप प्रदान करेगी। फाउंडेशन से जुड़े अनुपम साह ने बताया कि फेलोशिप के तहत चयनित कला प्रेमियों को अमेरिका, बेल्जियम एवं नीदरलैंड में कला के संरक्षण का अनुभव प्रदान करने का अवसर मिलेगा।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply