News

खबरदार जो मॉल में कथित भूत की फोटो-वीडियो वायरल की तो, आ सकते है कानून की जद में, रुद्रपुर में दर्ज हो गया है मुकदमा

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप से इस लिंक https://chat.whatsapp.com/ECouFBsgQEl5z5oH7FVYCO पर क्लिक करके जुड़ें।

मॉल में कथित भूत का एडिटेड फ़ोटो

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 29 जनवरी 2020। सोशल मीडिया में रुद्रपुर के मेट्रोपोलिस मॉल के पार्किंग में भूत-प्रेत होने की अफवाह इन दिनों शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है। एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें लोहे की रखी हुई सीढ़ी स्‍वत: चल रही है। इस मामले में मॉल के मैनेजर ने पुलिस को तहरीर सौंपकर कुछ लोगों पर वीडियो और फोटो एडिट कर लोगों में भय का माहौल पैदा करने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। पुलिस जांच में जुट गई है। जल्‍द ही आरोपितों को पकड़कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बुधवार सुबह अचानक कुछ व्हाटसएप ग्रुप में वीडियो और फोटो वायरल हुई। जिसमें शहर के मेट्रोपोलिस मॉल की पार्किंग में भूत-प्रेत होने की बात कही गई। वीडियो में लोहे की एक सीढ़ी खुद चलते हुई दिखाई दे रही है, वहीं कुछ अलग-अलग फोटो में भूतप्रेत की फोटो भी नजर आ रही है। देखते ही देखते वीडियो और फोटो व्हाटसएप और फेसबुक के माध्यम से वायरल हो गया। लोग इस संबंध में जानकारी लेने के लिए एक दूसरे के फोन घनघनाने लगे। मामला जब मॉल प्रबंधक तक पहुंचा तो उन्होंने इसे साजिश करार दिया। मॉल के प्रबंधक ने पुलिस को शिकायती पत्र सौंपा। जिसमें मॉल प्रबंधक देवी लाल का कहना था कि कुछ लोग सोशल मीडिया में फोटो और वीडियो वायरल कर मॉल में भूत प्रेत होने की अफवाह फैलाई जा रही है। जिससे लोगों में भय का माहौल पैदा हो सके। उन्होंने फोटो और वीडियो एडिट कर सोशल मीडिया में डालने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसपी सिटी देवेंद्र पिंचा ने बताया कि वीडियो और फोटो एडिट किए जाने की जांच की जाएगी। इसके लिए सिडकुल पुलिस को निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें : वन विभाग के वायरल ऑडियो कांड में एक और कार्रवाई

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 1 जनवरी 2019। हल्द्वानी में वन विभाग के वायरल ऑडियो में कार्रवाई का सिलसिला बुधवार को भी जारी रहा। डीएफओ नीतीश मणि त्रिपाठी ने गौला राजि के एक अन्य वन दरोगा शक्ति कुमार कांडे का तबादला तत्काल प्रभाव से सुरई रेंज में कर दिया है। तबादले का कारण ‘प्रशासनिक’ बताया गया है। बताया जा रहा है कि ऑडियो में पांडे का नाम सुनाई दिया था। माना जा रहा है कि इसी कारण उनका तबादला किया गया है।

यह भी पढ़ें : वन विभाग के वायरल ऑडियो कांड में 20 लाख का नया मोड़…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 31 दिसंबर 2019। हल्द्वानी में मंगलवार को वन विभाग में आये वायरल ऑडियो कांड में 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगने का एक नया मोड़ आ गया है। मामले में कथित तौर पर आवाज होने के आरोप में डीएफओ द्वारा निलंबित किये गए वन दरोगा कैलाश चंद्र कपिल ने आवाज खुद की न होने का दावा करते हुए आरोप लगाया है कि बिंदूखत्ता के कुरिया खत्ता निवासी दान सिंह कोरंगा नाम के युवक ने उनसे मिलती-जुलती आवाज बनाकर यह ऑडियो वायरल किया है। दावा किया कि उन्होंने काठगोदाम के परवेज बेग नाम के व्यक्ति के कई अवैध खनन करते वाहनों को पकड़ा था। इधर अगले माह ही वह 40 वर्ष की सेवा के बाद सेवानिवृत्त हो रहे हैं, और इतनी लंबी सरकारी नौकरी में आज तक उन पर कोई दाग नहीं है। आरोपितों की नजर उनकी सेवानिवृत्ति पर मिलने वाले फंड की धनराशि पर है। 20 लाख रुपए देने से इंकार करने पर उन्हें फंसाया गया है। उन्होंने हल्द्वानी कोतवाली में इस संबंध में कुछ ऑडियो-वीडियो के साथ तहरीर दी है। पुलिस का कहना है कि मामले की प्रारंभिक जांच करने के बाद ही रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।

यह भी पढ़ें : शिक्षा के बाद अब वन विभाग में घूसकांड का ऑडियो वायरल, हुई कार्रवाई..

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 31 दिसंबर 2019। जनपद के एक स्कूल की मान्यता के मामले में प्रकाश में आये एक ऑडियो के अगले ही दिन जनपद में वन विभाग का ऑडियो तेजी से वायरल हो रहा है। मामले में प्रभागीय वनाधिकारी नीतीश मणि त्रिपाठी ने त्वरित कार्रवाई कर आरोपित वन कर्मियों पर कार्रवाई कर दी है। ऑडियो में सुनाई दे रहे गौला रेंज के वन दरोगा कैलाश चंद्र कपिल को निलंबित कर दिया है तथा मामले में उप प्रभागीय वनाधिकारी सितारगंज शिवराज चंद्र को जांच अधिकारी नामित कर जांच के आदेश दे दिये गऐ हैं तथा जांच में दोष सिद्ध होने पर दरोगा को वृहद दंड से दंडित करने का इरादा भी जाहिर किया गया है। निलंबन काल में कपिल का मुख्यालय वन क्षेत्राधिकारी कार्यालय खटीमा रहेगा। साथ ही गौला राजि के वन क्षेत्राधिकारी गणेश चंद्र त्रिपाठी को उनके पद से हटाकर प्रभागीय कार्यालय से संबद्ध कर दिया है तथा उनकी जगह रनसाली राजि के वन क्षेत्राधिकारी राजेंद्र प्रसाद जोशी का गौला राजि में स्थानांतरण कर दिया है। जोशी के पास रनसाली राजि का भी अतिरिक्त कार्यभार रहेगा।

बताया गया है कि साल के आखिरी दिन 31 दिसंबर को सोशल मीडिया पर दूरभाष पर दो पक्षों के बीच हुई वार्ता वायरल हो रही है। इस ऑडियो रिकॉर्डिंग की गौला रेंज के कर्मचारियों व वन क्षेत्राधिकारी गौला रेंज ने भी पुष्टि की है कि एक आवाज वन दरोगा कैलाश कपिल की है। ऑडिया में वन दरोगा रिश्वत की मांग करता सुनाई दे रहा है। इसे उत्तराखंड कर्मचारी आचरण नियमावली-2002 का उल्लंघन माना गया है।

यह भी पढ़ें : हाई प्रोफाइल कार शोरूम मालिक चाचा-भतीजा पर बलात्कार व उत्पीड़न के आरोप बिना किसी कार्रवाई के रफा-दफा !

नवीन समाचार, काशीपुर, 24 दिसंबर 2019। बीत रहे वर्ष 2019 में ऊधमसिंह नगर के काशीपुर में एक कार शोरूम मालिक व उसके चाचा पर वायरल, ऑडियो-वीडियो व टेक्स्ट संदेशों के जरिये यौन उत्पीड़न और दुष्कर्म के आरोप खासे चर्चा में रहे थे। मामले में पहले तो पुलिस कोई कार्रवाई करने से बचती रही, लेकिन जब बात डीआईजी कुमाऊं परिक्षेत्र अजय जोशी के संज्ञान तक पहुंच गई तो उन्होंने जांच के आदेश दिये। जुलाई 2019 में डीआईजी के आदेश पर ऊधमसिंह नगर के एसएसपी ने काशीपुर के सीओ मनोज ठाकुर को जांच सौपी। लेकिन अब पता चला है कि मामला बिना किसी कार्रवाई के रफा-दफा हो गया। सीओ मनोज ठाकुर ने बताया कि मामले में आरोपों की पुष्टि नहीं हुई। इसके बाद मामले की फाइल बंद कर दी गई है। सवाल उठता है कि शहर के एक प्रतिष्ठित संस्थान के मालिकान पर लगे इतने बड़े आरोपों वाले मामले को क्या दबा दिया गया ? यदि युवती द्वारा लगाए गए आरोप बेबुनियाद व झूठे थे तो पुलिस ने उसके खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की।
उल्लेखनीय है पीड़िता ने आरोप लगाते हुए कहा था वह कार शोरूम में नौकरी करती थी। शोरूम मालिक के भतीजे द्वारा कभी ट्रेनिंग के नाम पर और कभी मीटिंग के नाम पर पीड़िता को रुद्रपुर और रामनगर के आलीशान होटलों में ले जाया गया जहाँ कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर उसके साथ बलात्कार किया और उसकी अश्लील विडियो भी बनायी, तथा बाद में अश्लील विडियो को वायरल कर देने की धमकी देकर शोरूम मालिक द्वारा कई दिनों तक व कई बार उसके साथ रेप किया। यहां तक कि उसकी छोटी छोटी नाबालिग बहन से भी अश्लील व्यवहार किया। युवती के अनुसार कार शोरूम में कार्य करने वाली अन्य युवतियां भी यौन शोषण का शिकार होती रहती है और कुछ के साथ मालिक ने रेप भी किया गया है। उसने सोशल मीडिया पर न्याय के लिए मदद मांगी थी। इस मामले की कुछ मीडिया और पुलिस कर्मियों की भूमिका भी सवालों के घेरे में बताई गई थी।

देखें पीड़िता का वायरल टेक्स्ट संदेश : 

SEX RACKET IN AXXXXXX AUTOMOBILES RUDRAPUR AND KASHIPUR 
 
Plzzz read carefully 
 
My name is SXXXXXX
D/O AXXXX, From kashipur U.S.N
 
I want to justice pls help me,
sabse pehle june 2018 m maine AXXXXXX automobiles m as a admin join kia.
3 july 2018 ko AXXXXXX AUTOMOBILES RUDRAPUR PVT. LTD ke C.E.O Mr. PXXXXT AXXXXXX ne office ki meeting ke bahane mujhe rudurpur bulakar hotel raddison blue m le jakar coldrink mai nashili dawa milakar mujhe behosh kia aur ardh behoshi ki halat m mera rape kiya uske baad mera ashleel video banaya, aur  kisi ko bhi batane par jaan se marne ki dhamki di. aur phir car se VXXXXX GXXX (jo ki AXXXXXX automobiles RUDRAPUR sales dept. m TEAM LEADER h) ke dwara mujhe kashipur chhudwaya.
 
uske baad August 2018 m O.P. MXXXXX jo PXXXXT AXXXXXX ka chacha aur AXXXXXX AUTOMOBILE RUDRAPUR PVT. LTD. ka M.D ( MANAGING DIRECTOR) h AXXXXXX Kashipur ki branch m aaya aur mera ashleel video jo puneet agarwal ne banaya tha mujhe dikhakar bola ki tumhara ye video mere paas h agar tumne mera kehna nahi mana to m ye ashleel video viral kr dunga us din se m bahut jyada dar gai ki akhir ye log mere sath kr kya rahe hain, kuch din baad hi Rudrapur se mere paas O.P. MXXXXX ka phone aaya ki tumhari SXXXX HOTEL RUDRAPUR m training h apni I.D. Lekar ana agle din m uniform m training ke liye SXXXX HOTEL RUDRAPUR pahunchi, aur jab m waha pahunchi waha par sirf O.P. MXXXXX the aur mere puchne par bole ki baki ka staff abhi aa raha h wait karo, phir inhone mere liye coldrink mangai jise pine ke baad m behosh ho gai aur phir O.P. MXXXXX ne bhi mera Rape kia aur  mera ashleel video banaya aur mujhe dhamki di ki agar ye baat tune kisi ko bhi batai to m tera ye video viral kr dunga aur tujhe aur tere pariwar ko jaan se marwa dunga  aur uske baad O.P. MXXXXX ne mere video ke aadhar par mujhe blackmail kiya aur 1 baar phir SXXXX HOTEL aur 3 baar RAMNAGAR ke RESORT m le jakar mera Rape kia aur esa nhi krne pr mujhe mera video viral krne aur job se nikalne ki dhamki deta aur kisi ko batane pr mujhe aur mere pariwar ko jaan se marne ki dhamki deta.
In sab se tang akar maine AXXXXXX se job chhor di, magar uske baad bhi o.p. MXXXXX mujhe continue call aur sms kar raha h aur mujhe hotel m aane ke liye bol raha h aur us video ko viral krne ki dhamki de raha h.
 
Ek ladki ke liye uski izzat hi uska sab kuch hoti h jaisa inhone mere aur other ladkiyon ke sath kiya h bhagwan kare waise inki dono ki bahen (SISTER), betiyon (DAUGHTER), biwi (WIFE) ke sath bhi aisa hi ho aur agar inki bahen, betiyon, biwi ko bhi agar kisi ne apni rakhel bana rakha hoga to koi badi baat nahi hai.aur agar inki ghar Ki ladies m thodi si bhi sharm aur haya aur thoda sa bhi jameer bacha hoga to ye aaj hi in dono kutto ko ghar se nikal dengi aur inse apna relation khatam kar lengi aur agar wo bhi rxxxx hongi to unhe koi fark nahi padega.
 
isi tarah O.P. MITTAL aur PXXXXT AXXXXXX ne AXXXXXX AUTOMOBILES PVT.LTD. m job krne wali jyadater ladkiyon ke sath Rape kia h ye baat mujhe khud O.P. MXXXXX ne batai. PXXXXT aur O.P. MXXXXX dono ne milkar meri zindagi barbad kr di ab m kahi ki nahi rahi.
Aur jab maine inka pardafash kiya to O.P.MXXXXX AXXXXXX Kashipur ke Branch Manager DXXXXXX ke sath mere ghar maafi mangne aya, kyun ki mehman bhagwan ka roop hote hain to m ise bedroom m bithakar pani lene gai to is HARAMI KI AULAD o.p. MXXXXX ne meri small sister jiski age 13 years h uska sexual harassment kia aur use pakadkar jabardasti uske lips per kiss krne laga itne mai m waha pani lekar aa gai to maine apni behen ko is harami se khud ko chhudate hue dekha uske baad maine o.p.MXXXXX aur DXXXXXX ko ghar se bhaga diya.
 
Mere pas PXXXXT AXXXXXX OR O.P. MXXXXX ke khilaf mere rape ke aur meri nabalig sister ke sexual harassment ke PROOF h jo m COURT m pesh krungi.
 mujhe justice chahiye aur m iske liye kisi bhi had tak jaungi aur agar is ladai m mere aur mere pariwar ke sath kisi bhi tarah ka koi hadsa hota h to uske zimmedar PXXXXT AXXXXXX aur O.P. MXXXXX dono honge.
is sach ki ladai m mujhe ap sab ka sath chahiye kyun ki m bahut kamjor family se hu aur ye dono bahut takatwar h. 
BHAGWAN MUJHE SHAKTI DE
 
O.P. MXXXXX ki vaahiyat or gande message jo wo mujhe krta tha aap khud dekhiye neeche

यह भी पढ़ें : वायरल : ऊधमसिंह नगर जिला भाजपा में ‘जयचंद’ ! अपने ही विधायक को बदनाम करने की कर रहे साजिश

एक नेत्री को पद दिलाने के नाम पर कर रहे उत्पीड़न
नवीन समाचार, रुद्रपुर, 4 दिसंबर 2019। सोशल मीडिया पर एक ऑडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इस ऑडियो में दो व्यक्ति फोन पर बात कर रहे हैं। इनमें से एक व्यक्ति दूसरे को कहता है, एक बड़ा धमाका हुआ है, अपने एक नेता ने महिलाओं के साथ मारपीट की है। उसका वीडियो आ गया है। उसे टीवी चैनल एवं सोशल मीडिया पर वायरल किया जाए। वायरल ऑडियो के साथ बताया जा रहा है कि निर्देश दे रहे व्यक्ति भाजपा के ऊधमसिंह नगर जनपद के जिलाध्यक्ष एवं दूसरे व्यक्ति नगर अध्यक्ष हैं, तथा बात रुद्रपुर के विधायक राजकुमार ठुकराल के बारे में हो रही है।

सुनें ऑडियो :

इसके अलावा सोशल मीडिया पर व्हाट्सएप चैटिंग के कुछ स्क्रीनशॉट्स भी वायरल हो रहे हैं, जिसमें एक महिला 94120 88879 मोबाइल नंबर के व्यक्ति से बात करते हुए कह रही है कि उससे उससे (इस नंबर वाले व्यक्ति ने) कहा गया था कि यदि वह उसकी बात माने तो वह उसे जिले में कोई पद दिलाएंगे। साथ में वह इस व्यक्ति से मिन्नत भी कर रही है कि वह उसकी वीडियो और चित्रों को वायरल न करें, डिलीट कर दें। यह नंबर भी कथित तौर पर भाजपा जिलाध्यक्ष का बताया जा रहा है। स्क्रीन शॉर्ट के साथ महिला ने यह भी लिखा है कि, इस इंसान ने उसकी जिंदगी बर्बाद कर दी है। वह भाजपा से ही है। उसे मरवाना चाहता है उसे कोई बचाए।

हम वायरल हो रहे ऑडियो अथवा व्हाट्सएप चैटिंग के स्क्रीन शॉट की किसी तरह की पुष्टि नहीं करते हैं,  इसकी सच्चाई तो जांच के बाद ही पता चल सकती है। लेकिन यदि यह सही है तो यह सत्तारूढ़ दल के लिए शुभ संकेत नहीं है। इसे जल्द होने जा रहे भाजपा जिला अध्यक्ष पद के चुनाव एवं आगामी विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत नेताओं की आपसी प्रतिद्वन्द्विता के तौर पर भी देखा जा रहा है। कारण जिलाध्यक्ष भी विधानसभा के लिए दावेदारी करने की जुगत में बताए जा रहे हैं।

नवीन समाचार
मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है। ’ यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….। मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड
https://navinsamachar.com

Leave a Reply

loading...