Business

नैनीताल: प्रशासन ने फिर की गेस्ट हाउसों-रिजॉर्टों में छापेमारी, 4 रिजॉर्ट सीज, दो अन्य पर भी कार्रवाई…

दान सिंह लोधियाल @ नवीन समाचार, धानाचूली, 30 सितंबर 2022। पौड़ी जिले में घटित अंकिता भंडारी हत्याकांड के बाद सबसे पहले नैनीताल जिले के धारी तहसील प्रशासन ने तुरंत हरकत में आते ही पाँच अवैध संचालित रिजॉर्ट सीज किये थे। जांच की इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए धारी तहसील प्रशासन ने एक बार पुनः शुक्रवार को चार और रिजॉर्ट सीज कर उन पर अर्थदंड लगाया है, जबकि एक पर कूड़ा फैलाने व फेंकने पर तथा एक अन्य पर खाद्य सामग्री के नमूने ले कर उन्हें परीक्षण के लिए विधि प्रयोगशाला भेज दिया है। स्थानीय तहसील प्रशासन की इस कार्यवाही पर एक बार फिर से स्थानीय होम स्टे व रिजॉर्ट मालिकों में हड़कंप मच गया है।


धारी तहसील के सलियाकोट में एसडीएम योगेश सिंह मेहरा रिजॉर्ट का निरीक्षण के साथ कार्यवाही करते।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार को एसडीएम धारी योगेश सिंह मेहरा के नेतृत्व में तहसील प्रशासन ने सीएम एवं डीएम के निर्देशों के क्रम में मुक्तेश्वर क्षेत्र में अवैध रूप से संचालित होम स्टे व रिजॉर्टों की छापेमारी की। श्री मेहरा ने बताया कि धारी तहसील के सलियाकोट स्थित द नेचर वाक टु विलाशिति के 7 कमरे, आनंद रिट्रीट के 5 कमरे, द फॉरेस्ट रेस्टोरेंट एंड कैफे में 5 कमरे व व्हिस्पर चैलेट एस्टेट का एक कमरा सीज कर जुर्माने की कार्यवाही की गई है।

वही द डिग्निटी हिमालयन स्पा रिसॉर्ट जोस्था पर खाद्य सामग्री के अनदेखी के दृष्टिगत खाद्य नमूने ले कर प्रयोगशाला भेजे। जबकि मोंटागन होम स्टे पर कूड़ा फैलाने के अभियोग में जुर्माने की कार्यवाही की गई। एसडीएम मेहरा ने बताया यह रिसोर्ट व होम स्टे बिना पंजीकरण के साथ एफएसएसएआई के मानकों के विपरीत किचन का संचालन कर रहे थे। साथ ही पयर्टक स्थलों पर राज्य सरकार को हो रही हानि व पड़ने वाले दुष्प्रभाव व किसी भी प्रकार की अप्रिय घटनाओ को रोकने के लिए यह कार्यवाही की गई। उन्होंने कहा कि भविष्य में भी ऐसी कार्रवाइयां जारी रहेंगी। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : रिजॉर्ट हैं या रसूखदारों की अय्याशी के अड्डे?

Tree of Life Vantara Resort, Udaipur-Udaipur Updated 2022 Room  Price-Reviews & Deals | Trip.comदिनेश शास्त्री @ नवीन समाचार, देहरादून, 25 सितंबर 2022। धर्म कर्म के लिए दुनियाभर में प्रसिद्ध देवभूमि उत्तराखंड को रिजॉर्ट के नाम पर शर्मसार किया जा रहा है। आप तीर्थाटन की पारंपरिक व्यवस्था पर नजर डालें तो पाएंगे कि अनादिकाल से इस देवभूमि में देश-विदेश से लोग पुण्य अर्जित करने आते रहे हैं, किंतु बदलते दौर में तीर्थाटन पर आधुनिक पर्यटन हावी हो गया है। राजाजी नेशनल पार्क क्षेत्र में वनन्तरा रिजॉर्ट मालिक द्वारा उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी की हत्या के बाद यह बात विमर्श के केंद्र में आ गई है कि क्या वन प्रांत या दूरस्थ क्षेत्रों में धड़ाधड़ बन रहे रिजॉर्ट आखिर किस उद्देश्य से स्थापित हो रहे हैं? यह भी पढ़ें : अंकिता के हत्यारे के पिता व भाई पर भी गिरी सरकार व पार्टी की गाज, अब राज्य के सभी रिजॉर्टों की जांच के भी आदेश

दिल्ली हाईकोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता एडवोकेट विवेकानंद सेमवाल चिंता जताते हुए कहते हैं कि देवभूमि में घृणित कार्य के अड्डे के रूप में ये रिजॉर्ट उभर रहे हैं और यह इस धरती के अनुकूल नहीं है। वे कहते हैं कि गरीब घर की एक बेटी अपने परिवार को आर्थिक संबल देने के उद्देश्य से रिजॉर्ट में नौकरी करती है तो उसे अवांछित कार्य के लिए विवश किया जाता है। श्री सेमवाल जोर देकर कहते हैं कि राज्य सरकार को राजस्व अर्जित करने की खातिर देवभूमि की सात्विकता को नजरंदाज नहीं करना चाहिए। यह भी पढ़ें : धामी सरकार ने भाजपा के ही पूर्व दायित्वधारी के पुत्र के रिजॉर्ट पर चलाया बुल्डोजर

आपको याद होगा, 2018 तक उत्तराखंड में गिनती के रिजॉर्ट थे, तो वे नियम कायदों से नियंत्रित भी किए जाते थे, किंतु 2018 में हुई इन्वेस्टर समिट के बाद प्रदेश के तमाम सुरम्य क्षेत्रों में जमीनों की जिस द्रुत गति से खरीद फरोख्त हुई और हर जगह रिजॉर्ट ही रिजॉर्ट नजर आने लगे। जल्दी से जल्दी मुनाफा कमाने और निवेश की गई रकम की प्रतिपूर्ति के लिए सारे वैध अवैध धंधे का पर्याय ये रिजॉर्ट बन गए। यह भी पढ़ें : 5 दिनों से गायब 19 वर्षीया रिसेप्सनिस्ट की कर दी गई हत्या, मुख्य आरोपित नेता पुत्र

उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी ने भी इस बात को खास तौर पर रेखांकित किया है। उपपा के पीसी तिवारी कहते हैं कि देवभूमि में बड़ी संख्या में खुले रिसोर्ट में धड़ल्ले से रेव पार्टी कल्चर, वेश्यावृति का चलन दुर्भाग्यपूर्ण है। इसकी रोकथाम बेहद जरूरी है। वे कहते हैं कि देवभूमि की बेटी अंकिता ने इसका प्रतिरोध किया तो उसे जान देकर उसकी कीमत चुकानी पड़ी। उसे अत्यंत बेरहमी से खामोश कर दिया गया। ऐसे ही आये दिन स्पा सेंटर में छापेमारी की खबरें आम हो गयी हैं, जहाँ खुलेआम सेक्स स्कैंडल चल रहे हैं जबकि सरकार इस घृणित प्रवृति से आंखें मूंदे हुए है। श्री तिवारी के मुताबिक पिछले 7-8 साल से प्रदेश में इतने सारे रिसोर्ट और होटल हमारी जमीनों पर खुल गए हैं, उनकी सघन जांच होनी चाहिए। सरकार अब कुछ हरकत में आई है किंतु बीते सात-आठ साल में प्रदेश का बहुत बड़ा नुकसान हो चुका है। यह भी पढ़ें : रिजॉर्ट की महिला रिसेप्सनिस्ट गायब, पूरा रिजॉर्ट सील, 4 कर्मी हिरासत में

इस बीच खबर आ रही है कि भाजपा के नेता के इसी रिजॉर्ट से अतीत में भी प्रियंका नाम की एक युवती गायब हो गई थी, कौन जानता है कि उसके साथ भी कुछ इसी तरह का हुआ होगा। रिजॉर्ट मालिकों ने तब उस पर चोरी का आरोप लगाया था। इस बार इसी रिजॉर्ट मालिक के बेटे ने खुद धूर्तता के साथ अंकिता की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई थी। सरकार ने अब एसआईटी जांच के आदेश दिए तो हैं किंतु प्रियंका के गायब होने की घटना का शायद ही खुलासा हो पाए क्योंकि जो रसूख आरोपितों का है, उसे देखते हुए बहुत ज्यादा उम्मीद करना बेमानी ही होगा। पूरे जिले की टॉपर थी अंकिता, परिजन अंतिम संस्कार न कराने पर अड़े, जानें क्या है वजह, क्यों है परिजनों को आशंकाएं…

शुक्रवार को देर रात नाक बचाने के लिए इस रिजॉर्ट पर बुलडोजर चला दिया गया, लेकिन खास कर नौकरियों की बंदरबांट में ठगे गए युवा पूछ रहे हैं कि धामी सरकार के बुलडोजर को हाकम सिंह के रिजॉर्ट का रास्ता क्यों नहीं मिल रहा है? नियम-कायदे तो वहां भी ताक पर रखे गए हैं। सत्ता के मिजाज को देखते हुए यही अंदाजा लग रहा है कि ज्यादा से ज्यादा मोरी का रिजॉर्ट कुछ दिन के लिए सील कर दिया जायेगा और जैसे ही लोग भूलने लगेंगे, हाकम को वापस चाबी सौंप दी जाएगी। हालांकि इस बीच सरोवर नगरी नैनीताल से कुछेक रिजॉर्ट को सील किया है। सवाल पूछा जा सकता है कि क्या यह कदम पर्याप्त है?

जानकार लोग बताते हैं कि ज्यादातर रिजॉर्ट ने सीवेज डिस्पोजल का मुक्कमल इंतजाम तक नहीं किया है जबकि सबने प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से एनओसी ले रखी है, यानी यह बोर्ड भी मौके पर जाने की जरूरत नहीं समझता। केवल फीस लेकर सर्टिफिकेट जारी कर देता है।

निष्कर्ष यह कि सरकार की नजर राजस्व अर्जित करने पर टिकी है और उत्तराखंड की संस्कृति तार-तार हो रही है। उत्तराखंड के दशक की क्या यही बानगी है? सवाल तो अपनी जगह पर कायम है। रिजॉर्ट शुकून के लिए होते हैं, उन्हें अय्याशी का अड्डा बनने की छूट तो नहीं दी जा सकती और न ही यह पर्यटन का स्वस्थ रूप ही है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : बिग ब्रेकिंग: अंकिता हत्याकांड की आंच नैनीताल तक: 5 होटल-रिजॉर्ट्स के खिलाफ कार्रवाई

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 सितंबर 2022। यमकेश्वर में 19 वर्षीय अंकिता भंडारी की अवैध रूप से संचालित वनंतरा रिजॉर्ट में गलत मांग करते हुए हत्या कर दी गई थी। इसके बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को ऐसे अवैध व नियमविरुद्ध तरीके से संचालित किए जा रहे रिजॉर्टों की जांच करने एवं होटलों के कार्मिकों से बात कर उनकी ओर से कोई समस्या आने पर उन पर जांच कर कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

इस आदेश के बाद नैनीताल जनपद में शनिवार को प्रशासन की ओर से अनेक रिजॉर्टों में धड़ाधड़ कार्रवाई की गई, और नियमों का अनुपालन न करने वाले 5 रिजॉर्टों को सील कर दिया है। डीएम धीराज गर्ब्याल ने बताया कि इस कड़ी में धानाचूली के आर्यम रिजॉर्ट एवं धानाचूली में ही स्थित अर्जुन विवेक दत्ता के एडमिरल्स विला 4 बीएचके विला को बिना पंजीकरण के चलते एवं किचन के एफएसएसआई के मानकों के विपरीत चलने पर सीज कर दिया गया है। साथ ही रिजॉर्ट का 10 हजार रुपए का चालान भी किया गया है।

इसी तरह चौखुटा स्थित संचालक प्रेम सिंह मेहरा पुत्र गोपाल सिंह के चौखुटा स्थित फॉरेस्ट एकर्स कैंप, यहीं स्थित दिनेश कुमार के ह्विसलिंग वुड्स कैंप एंड रिजॉर्ट तथा कार्तिक मेहरोत्रा के गजार स्थित ‘द फिग’ को भी सीज करने के साथ ही पुलिस सत्यापन किए बिना संचालित करने पर 10 हजार रुपए के अतिरिक्त अर्थदंड से दंडित किया गया है। डीएम गर्ब्याल ने जनपद के रिजॉर्ट, गेस्ट हाउस स्वामियों से नियमों का पालन करने, पंजीकरण करने, एफएसएसआई के मानकों का पालन करने एवं अपने कार्मिकों का सत्यापन सहित सभी नियमों का पालन करने को भी कहा है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल में होटल कर्मी तफरी में सैलानियों की गाड़ी को ले गए हल्द्वानी, लौटते हुए गिरे खाई में….

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 14 सितंबर 2022। होटल में ठहरे पर्यटकों की कार होटल की पार्किंग में पार्क करने के नाम पर होटल के कर्मचारी और गाइड कार ले गए, और हल्द्वानी घूम आए। आफत तब आ गई जब हल्द्वानी से लौटते हुए उनकी कार खाई में गिर गई। इससे कार तो क्षतिग्रस्त हो ही गई, कार में सवार पांच लोग भी घायल हो गए। पता चलने पर पर्यटकों ने 7 होटल कर्मचारियों व गाइडों के खिलाफ पुलिस में शिकायती पत्र दिया। इस पर पुलिस ने अभियोग दर्ज कर लिया है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार निशांतगंज लखनऊ निवासी अर्पित सिंह ने कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि सोमवार रात करीब दो बजे वह स्कॉर्पियो से अपने दोस्तों के साथ नैनीताल पहुंचे थे। मल्लीताल क्षेत्र में उन्हें एक गाइड मिला जो उन्हें यहीं के होटल नीलम राज में लेकर गया। यहां 2200 रुपये में उन्होंने दो कमरे किराये पर लिए। जब वह कमरे में जाने लगे तो रिसेप्शन पर मिले कर्मचारी ने उनसे गाड़ी पार्क करने की बात कहकर चाभी ले ली।

इधर, मंगलवार सुबह रिसेप्शन पर चाभी मांगने पर उन्हें चाभी नहीं दी गई। कुछ देर बाद उन्हें उनकी गाड़ी काठगोदाम में क्षतिग्रस्त होने की सूचना मिली। अर्पित सिंह ने बताया कि जब उन्होंने दोस्तों के साथ मौके पर जाकर देखा तो वाहन खाई में पूरी तरह से क्षतिग्रस्त मिला। इस दौरान होटल संचालक और कर्मचारियों ने क्षतिग्रस्त वाहन की भरपाई देते हुए समझौता कर लेने की बात कही। मगर बाद में वह वाहन ठीक कराने में आनाकानी करने लगे।

तहरीर के आधार पर कोतवाली मल्लीताल पुलिस ने होटल संचालक हल्द्वानी निवासी क्षितिज अग्रवाल, नैनीताल निवासी अय्यूब हुसैन, पदमपुरी निवासी दीपक सिंह, पंगोट निवासी ललित बिष्ट, रोहित सिंह, मनोज बिष्ट व अलीगंज लखनऊ निवासी सुनील सिंह के विरुद्ध संबंधित धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली है। आरोपितों को धारा 41 ए का नोटिस भी जारी किया गया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : बड़ा समाचारः 30 वर्ष के बाद नैनीताल होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष बदले

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 22 अगस्त 2022। जिला व मंडल मुख्यालय तथा पर्यटन नगरी-सरोवर नगरी में बड़े व प्रभावी संगठन-नैनीताल होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन में बड़ा एवं आमूलचूल बदलाव देखने को मिलने वाला है। 30 वर्षों के बहुत लंबे अंतराल के बाद एसोसिएशन के अध्यक्ष पद पर बदलाव हो गया है। 1992 से इस पद की जिम्मेदारी संभाल रहे दिनेश साह की जगह दिग्विजय बिष्ट अब इस बड़ी जिम्मेदारी पर होंगे। श्री बिष्ट नगर के युवा उद्यमी हैं। उन्होंने कहा है कि दो-तीन दिन में अपनी नई कार्यकारिणी का गठन कर अपनी भावी योजनाओं की जानकारी देंगे।

30 वर्षो बाद दिग्विजय सिंह बिष्ट बने नैनीताल होटल एवं रेस्टोरेन्ट एसोसिएशन  के नए प्रेसिडेंट - Naini Live
नैनीताल होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के नये अध्यक्ष दिग्विजय बिष्ट

बताया गया है कि नैनीताल होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के निवर्तमान अध्यक्ष दिनेश साह का वर्तमान कार्यकाल गत 31 जुलाई को पूरा हुआ था। इसके बाद उन्होंने स्वास्थ्य कारणों से आगे पद पर बने रहने में अनिच्छा जताई थी। इसके बाद हुई एसोसिएशन के पदाधिकारियों की बैठक में रेस्टोरेंट व्यवसायी विक्रम चौना ने अध्यक्ष पद के लिए दिग्विजय बिष्ट के नाम का प्रस्ताव रखा, और बिना कोई अन्य नाम आए उनके नाम पर ही सर्वानुमति बन गई है।

हालांकि श्री बिष्ट ने दो-तीन दिन में अपनी नई कार्यकारिणी का गठन करने की बात कही है, लेकिन एसोसिएशन से जुड़े विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार कार्यकारिणी के सभी पदाधिकारियों के नामो पर भी इसी बैठक में सर्वानुमति बन गई है। नई कार्यकारिणी में कुछ गिने-चुने पदाधिकारियों को छोड़कर अधिकांश पदाधिकारी नए एवं युवा हैं। इस प्रकार नई व युवा टीम से भविष्य में पर्यटन नगरी नैनीताल के पर्यटन में कुछ बड़ा, नया व बेहतर होने की उम्मीद की जा रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : मुक्तेश्वर होटल एसोसिएशन की नई कार्यकारिणी का हुआ गठन

Mukteshwar became the royal president of Hotel Association - मुक्तेश्वर  होटल एसोसिएशन के शाही अध्यक्ष बनेडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 1 मई 2022। रविवार को नैनीताल जनपद के सुप्रसिद्ध पर्यटन स्थल मुक्तेश्वर के होटल एसोसिएशन की नई कार्यकारिणी का गठन कर लिया गया। सुदर्शन शाही को मुक्तेश्वर होटल एसोसिएशन का नया अध्यक्ष और विक्रम बिष्ट को सचिव चुना गया है।

मुक्तेश्वर स्थित एक होटल में आयोजित एसोसिएशन के सदस्यों की बैठक में सर्वसम्मति से इनके अलावा राजेंद्र मेहरा को उपाध्यक्ष, नागेंद्र कुमार को कोषाध्यक्ष, दिलावर बिष्ट को उप सचिव, प्रवीण शर्मा को मुख्य सलाहकार, दिलीप गुप्ता को विशेष सलाहकार मनोनीत किया गया।

इसके बाद होटल एशोसिएशन के नए अध्यक्ष शाही ने कहा कि वह सभी को साथ लेकर होटल कारोबारियों की समस्याओं को लेकर हमेशा सरकार के समक्ष आवाज उठाएंगे। इसके अलावा सभी पदाधिकारियों ने जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल का मुक्तेश्वर क्षेत्र में किये जा निर्माण कार्यों के लिए आभार जताया और जलद अन्य समस्याओं के लिए जिलाधिकारी से मिलने की बात तय की। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल-उत्तराखंड आ रहे हैं अंशुल मलिक, उत्तराखंड को स्विट्जरलेंड से आगे ले जाने का किया दावा

‘आरा होटल्स ग्रुप’ के एमडी अंशुल मलिक

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 दिसंबर 2021। नगर के मनु महारानी होटल में महाप्रबंधक रहे अंशुल मलिक वर्तमान में देश के बड़े होटल समूह ‘आरा होटल्स ग्रुप’ के एमडी यानी प्रबंध निदेशक हैं। देश-दुनिया में आरा ग्रुप के होटलों की बड़ी श्रृंखला होने के बावजूद अपने प्रसार के क्रम में नैनीताल-उत्तराखंड से अंशुल का प्रेम एक बार फिर हिलोरें मार रहा है।

‘नवीन समाचार’ से बात करते हुए श्री मलिक ने बताया कि आरा होटल ग्रुप नैनीताल व जिम कॉर्बेट पार्क सहित उत्तराखंड में अपने होटलों की बड़ी श्रृंखला तैयार करने जा रहा है। तब मनु महारानी के साथ नैनीताल को एक ‘डेस्टिनेशन’ के रूप में स्थापित करने की बात करने वाले अंशुल ने दावा किया कि वह एक वर्ष के भीतर उत्तराखंड को स्विट्जरलेंड से आगे देखते हैं।

उन्होंने बताया कि यहां होटलो में प्रदेश के लोगों को ही रखा जाएगा। नैनीताल के होटल हेतु प्रह्लाद रावत को महाप्रबंधक बनाया गया है। यहां होटलों को अपने प्रबंधन से अपने बड़े ब्रांड की तरह से चलाएंगे। कहा, नगर में होटल एसोसिएशन के साथ मिलकर कार्य करेंगे। शीघ्र इस बारे में नगर में अपनी योजनाओं का खुलासा करेंगे।

जॉइंट मैनेजिंग डायरेक्टर निधि मलिक

सफलता के पीछे जॉइंट मैनेजर डायरेक्टर पत्नी निधि
नैनीताल। अंशुल मलिक ने होटल उद्योग में जो प्रगति की है, उसके पीछे उनकी पत्नी निधि मलिक हैं। निधि भी नैनीताल, उत्तराखंड में होटल उद्योग में लंबा अनुभव रखती हैं। एक वर्ष पूर्व दोनों ने विवाह किया है, और अब वह अंशुल मलिक के साथ आरा होटल्स ग्रुप की जॉइंट मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शेरवानी हिलटॉप में हुई क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 27 नवंबर 2021। सरोवरनगरी में पिछले वर्ष कोरोना की वजह से आए व्यवधान और इधर पिछले माह 17 से 19 अक्टूबर के बीच आई दैवीय आपदा के बाद पर्यटन को फिर से पटरी पर लौटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में शनिवार को नगर के शेरवानी हिल टॉप होटल में क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’ का आयोजन किया गया।

इस मौके पर होटल के महाप्रबंधक गोपाल दत्त ने बताया कि आज अनेकों प्रकार के मेवों एवं विभिन्न प्रकार की महंगी वाइन के साथ केक मिक्सिंग की गई। आगे इसे 30 दिन तक प्रतिदिन और वाइन मिलाकर मेरीनेट किया जाएगा और क्रिसमस से पहले इससे प्लम केक तैयार किया जाएगा, तथा इस केक को होटल में आने वाले गेस्ट्स को परोसा जाएगा। इस मौके पर होटल के शेफ गोपाल रावत, जीवन जलाल, दया जोशी, प्रवीण कुमार, राज कुमार, प्रवीण कुमार, विनोद पाठक, कालीदास, कमल सिंह, कमल सुयाल, नागी, योगिता व ऋतु आदि वरिष्ठ अधिकारी व कर्मी उपस्थित रहे। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनी रिट्रीट में भी हुई क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 20 नवंबर 2021। सरोवरनगरी में पिछले वर्ष कोरोना की वजह से आए व्यवधान और इधर पिछले माह 17 से 19 अक्टूबर के बीच आई दैवीय आपदा के बाद पर्यटन को फिर से पटरी पर लौटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में मनु महारानी के बाद शनिवार को नैनी रिट्रीट होटल में क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’ का आयोजन किया गया।

इस मौके पर होटल के महाप्रबंधक डीएस जीना ने बताया कि आज अनेकों प्रकार के मेवों एवं विभिन्न प्रकार की महंगी वाइन के साथ केक मिक्सिंग की गई। आगे इसे 30 दिन तक प्रतिदिन और वाइन मिलाकर मेरीनेट किया जाएगा और क्रिसमस से पहले इससे करीब 50 किलोग्राम प्लम केक तैयार किया जाएगा, तथा इस केक को होटल में आने वाले गेस्ट्स को परोसा जाएगा।

इससे पहले 2019 में तत्कालीन जीएम संजय बाधवा ने यहां केक मिक्सिंग सेरेमनी की थी, जबकि पिछले वर्ष 2020 में कोरोना की वजह से यह कार्रवाई नहीं की गई। इस मौके पर होटल के शेफ, सीएस परिहार, पूरन बिष्ट, उमेद सिंह राणा, धीरज उप्रेती ममता, बसंत, केदार, लेखराज, आदि वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सरोवरनगरी में दो वर्ष बाद हुई क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 नवंबर 2021। सरोवरनगरी में पिछले वर्ष कोरोना व इधर पिछले माह आई दैवीय आपदा की वजह से आए व्यवधान के बाद इस वर्ष कोरोना की पाबंदियां हटने के साथ न केवल पर्यटन पर लौटने लगा है, वरन क्रिसमस की तैयारियां भी प्रारंभ हो गई हैं। नगर के मनु महारानी होटल में दो वर्ष क्रिसमस की तैयारियों की कड़ी में ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’ का आयोजन किया गया।

इस दौरान अनेकों प्रकार के मेवों एवं महंगी वाइन के साथ केक मिक्सिंग सेरेमनी का आयोजन किया गया। बताया गया कि आगे इसे 30 दिन के लिए फरमेंटेशन के लिए रखा जाएगा और इससे क्रिसमस के मौके के लिए केक बनाया जाएगा और इस केक को होटल में आने वाले गेस्ट्स को परोसा जाएगा। इस मौके पर होटल के महाप्रबंधक नरेश गुप्ता सहित वरिष्ठ प्रबंधक प्रमोद बिष्ट, मुख्य शेफ एमएस अधिकारी, राजेंद्र रावत व विशाल सक्सेना आदि वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : भीकमपुर लॉज ने मनाया अपना बर्थडे

डॉ. नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 2 अक्टूबर 2021। नैनीताल स्थित भीकमपुर लॉज होटल ने शुक्रवार की बीती शाम अपनी पहली वर्षगांठ जन्मदिन की तरह केक काटकर मनायी।

उल्लेखनीय है कि कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीएसबी परिसर के पास राजभवन रोड पर स्थित भीकमपुर लॉज मूल रूप से 19 वीं शताब्दी के अंत में एक ब्रिटिश निवासी द्वारा बनाया गया था और बाद में भीकमपुर के नवाब रहमतुल्लाह खान शेरवानी द्वारा अधिग्रहीत किया गया था। गत वर्ष एक अक्टूबर 2020 से इसे देश के आगरा, देहरादून, हरिद्वार जोधपुर व मसूरी आदि शहरों में होटल उद्योग चला रहे ‘हॉवर्ड हॉस्पिटैलिटी एंड वेलनेस-एचएमवी’ समूह के द्वारा संचालित किया जा रहा है। इसलिए 1 अक्टूबर 2021 को भीकमपुर लॉज की पहली वर्षगांठ मनाई गई। इस दौरान केक काटा गया एवं देर रात्रि तक गीत-संगीत के कार्यक्रम हुए।

तत्कालीन नवाब का ग्रीष्मकालीन घर-भीकमपुर लॉज बीते शाही दौर की एक अनूठी आभा पेश करता है। रात्रि में सरोवरनगरी की रोशनियों को नैनी झील में दर्पण की तरह प्रस्तुत करता यह स्थान शांति व सुकून के साथ छुट्टियां बिताने का आनंद प्रदान करता है। अपने एमडी प्रणव मित्तल एवं वाइस प्रेजीडेंट कमलेश सिंह के नेतृत्व व निर्देशन तथा स्थानीय यूनिट मैनेजर राहुल पांडे की देखरेख में भीकमपुर लॉज को पिछले एक साल में ट्रिप एडवाइजर से कई ओटीए प्लेटफार्मों पर अपने अतिथियों से मिलीं अद्भुत टिप्पणियों के आधार पर उत्कृष्टता पुरस्कार का प्रमाण पत्र भी मिला है। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनी रिट्रीट होटल में नई ऊर्जा के साथ हुई खास (भूतों की) ‘हैलोवीन’ पार्टी

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 अक्टूबर 2019। नगर का नैनी रिट्रीट होटल बृहस्पतिवार को नये महाप्रबंधक संजय वाधवा के साथ नई ऊर्जा से सराबोर हो ‘हैलोवीन पाटी’ मनाता नजर आया। दीवाली के बाद नगर की जगमग रोशनियों के बीच होटल में रंगबिरंगी रोशनियों के बीच चेहरों पर भूतों के मास्क पहने युवा दिल सैलानी आधुनिक संगीत की स्वर लहरियों पर दिलकश अंदाज में थिरक रहे थे। बच्चे भी इस आयोजन का भरपूर आनंद उठा रहे थे। आयोजन में होटल कर्मी भी बढ़-चढ़कर योगदान दे रहे थे।

इसके साथ ही पूर्व में नगर के मनु महारानी होटल में महाप्रबंधक के रूप में कार्यरत रहे संजय वाधवा ने नगर के होटल उद्योग में अपनी रचनात्मकता की धमक पेश कर दी है, और बता दिया है कि आने वाले समय में नैनी रिट्रीट अन्य होटलों के लिए तगड़ी चुनौती पेश कर सकता है। उल्लेखनीय है कि संजय कुमाऊं विवि के पर्यटन विभाग से पीएचडी कर रहे हैं। इस बीच वे भावनगर सहित देश के कई शहरों में होटल एवं हॉस्पिटैलिटी उद्योग को अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाकर कर शहर में वापस लौटे हैं। उन्होंने बताया कि आगे क्रिसमस से पहले ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’ सहित कई आयोजन उनकी योजनाओं में हैं। उनकी कोशिश होगी कि नैनी रिट्रीट में आने वाले मेहमानों को बेहतर आदर-सत्कार एवं सुविधाएं प्रदान की जाएं तथा नैनीताल नगर को भी पर्यटन के क्षेत्र में बेहतर मुकाम दिया जा सके। हैलोवीन पार्टी के आयोजन में होटल के उमेद सिंह राणा, प्रेम मेहरा, रमेश जलाल, कृष्णा बोरा, भूपेंद्र बोरा, संतोष ध्यानी व धीरज उप्रेती आदि का भी उल्लेखनीय योगदान रहा।

क्या है हैलोवीन

हैलोवीन मुख्य रूप से पश्चिमी देशों का त्योहार है। वहां इसे धूमधाम से मनाया जाता है। हैलोवीन हर साल 31 अक्टूबर के दिन मनाया जाता है। इस दिन बच्चे घर-घर जाकर ‘हैप्पी हैलोवीन’ की विश देते हैं और चॉकलेट या कैंडी आदि मीठा लेते हैं। इस मौके पर घर के पूर्वजों की शांति के लिए प्रार्थना भी की जाती है। इस त्योहार को मनाने का तरीका अन्य त्योहारों से अलग है। दूसरे त्योहारों पर जहां सभी नए कपड़े पहन कर सज-संवर कर तैयार होते हैं, वहीं हैलोवीन पर लोग डरावना मेकअप करके डरावना रूप बना लेते हैं।

क्यों मनाया जाता है हैलोवीन, कैसे हुआ शुरू

इसके पीछे भी एक कहानी है कि हैलोवीन शुरू कैसे हुआ। असल में यूरोप में सैल्टिक नाम की जाति के लोगों से इस त्योहार का नाता है। इस जाति के लोगों का मानना है कि वर्ष में इस समय पूर्वजों की आत्माएं आती हैं। वे संसार में मौजूद लोगों से संवाद भी कर सकती हैं। सैल्टिक जाति के लोगों का मानना है कि पूर्वजों की आत्मा के आने से उनके काम आसान होंगे। पहले इसे ‘ऑल सेंट्स डे’ या ‘’ ऑल हैलोज-होली डे‘ व ‘हैलोज ईव’ भी कहा जाता था, जो समय के साथ साथ ‘हैलोवीन’ बन गया। इधर कुछ वर्षों से हैलोवीन भारत में भी मनाया जाने लगा है। लोग इस शाम को घर पर पार्टी रखते हैं, और डरावने मास्क पहनकर नृत्य करते हुए आनंद लेते हैं। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल-दून के होटल 50 फीसद क्षमता में ही यात्रियों को ठहराएंगे

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 11 जुलाई 2021। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून और पर्यटन राजधानी नैनीताल के होटलों में अब क्षमता के 50 फीसद कमरे ही भरे जाएंगे। राज्य सरकार ने यह निर्णय गत दिनों से नैनीताल और मसूरी में सैलानियों के भारी संख्या में उमड़ने और कोविड-19 प्रोटोकॉल्स का पालन नहीं करने के दृष्टिगत लिया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी।

इस आदेश के बाद नैनीताल में सैलानियों की संख्या में और कमी आने की उम्मीद है, क्योंकि यहां डीएम ने पहले ही एक अन्य आदेश जारी किया है जिसके अनुसार कोविड की निगेटिव जांच रिपोर्ट के साथ होटलों में बुकिंग कराकर आने वाले सैलानियों को ही नैनीताल आने दिया जाएगा। जबकि नैनीताल पुलिस उन्हीं वाहनों को शहर में आने दे रही है, जिनकी बुकिंग ऐसे होटलों में है, जिनके पास पार्किंग सुविधा उपलब्ध है। उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड उच्च न्यायालय पूर्व में होटलों को अपनी पार्किंग सुविधा उपलब्ध कराने के आदेश दे चुका है। यानी होटल उतनी ही क्षमता में यात्रियों को ठहरा सकते हैं, जितनी उनके पास पार्किंग की सुविधा उपलब्ध है।

वहीं नए आदेश पर नगर के मनु महारानी होटल के वरिष्ठ महाप्रबंधक नरेश गुप्ता ने कहा कि सरकार ने पहले ही होटल-रेस्टोरेंटों को 50 फीसद क्षमता में खोलने की इजाजत दी थी, लेकिन होटल-रेस्टोरेंट पूरी क्षमता में खुल रहे थे। उन्होंने बताया कि मनु महारानी पहले से ही आधी से कम क्षमता में खुला है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : कोरोना की रोकथाम हेतु जिला प्रशासन ने दो टीआरएच सहित तीन होटल किए अधिग्रहीत, बनेंगे कोविड केयर सेंटर

-रामगढ़, भवाली एवं भीमताल में स्थानीय रोगियों को घर के पास मिलेंगी कोरोना के उपचार की समस्त सुविधाएं

आईएएस अधिकारी प्रतीक जैन।

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 मई 2021। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन ने जनपद के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों-रामगढ़ व भीमताल तथा भवाली के होटल मिस्टी हाइट को उनके समस्त कर्मियों के साथ अधिग्रहीत कर लिया है। डीएम की ओर से आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 एवं महामारी अधिनियम 1897 में प्रदत्त शक्तियों से एसडीएम प्रतीक जैन ने कोरोना विषाणु के संक्रमण की रोकथाम के लिए भवाली, भीमताल व रामगढ़ में कोविड केयर सेंटर की व्यवस्था करने के लिए इस बारे में शनिवार को आदेश जारी कर दिए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस व्यवस्था से प्रशासन के पास कोरोना रोगियों के उपचार हेतु भवाली में 13, रामगढ़ में 9 एवं भीमताल में 9 कक्ष की व्यवस्था उपलब्ध हो जाएगी। अधिग्रहीत किए गए इन होटलों में रहने व खाने के बिलों का भुगतान शासनादेश के अनुसार प्रतिदिन 1100 रुपए किया जाएगा।

आईएएस अधिकारी श्री जैन ने बताया कि अधिग्रहीत किए गए तीनों स्थानों पर रविवार से स्थानीय सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के चिकित्सा कर्मियों के माध्यम से सप्ताह में सातों दिन एवं दिन के 24 घंटे कोरोना के दृष्टिगत चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। सभी केंद्रों में दो-दो ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। रविवार से इन क्षेत्रों के कोरोना के लक्षणों वाले अथवा घर पर उपचार की व्यवस्था न होने वाले रोगी यहां घर के पास उपचार एवं जरूरत होने पर ऑक्सीजन भी प्राप्त कर सकेंगे।

एसडीएम श्री जैन ने बताया कि इन सभी केंद्रों पर एंबुलेंस, पीपीई किट व पल्स ऑक्सीमीटर आदि की व्यवस्था भी कर दी गई है, ताकि स्वास्थ्य अधिक खराब होने पर रोगियों को एंबुलेंस से तत्काल हल्द्वानी भी भेजा जा सकेगा। उन्होंने बताया कि इसी तरह सीएचसी कोटाबाग में दो व पीएचसी ज्योलीकोट में एक ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर सहित एंबुलेंस की व्यवस्था भी कर दी गई है। उन्होंने कहा कि इस तरह सभी दूरस्थ क्षेत्रों में कोविड की चिकित्सा से संबंधित मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करा दी गई हैं। यदि रोगियों की संख्या अधिक बढ़ती है तो सुविधाओं को और बढ़ाया जाएगा। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : क्या आपको पता है-आज के दिन ही पिछले वर्ष कोरोना की वजह से नैनीताल में स्वेच्छा से बंद हुआ देश का पहला होटल

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 मार्च 2021। जी हां, बीते वर्ष को 22 मार्च 2020 कोरोना के दृष्टिगत जनता कर्फ्यू लगने के बाद 24 मार्च से लॉक डाउन लगना प्रारंभ हुआ था। लेकिन इससे पहले ही पर्यटन नगरी नैनीताल में प्रशांत होटल नाम का एक होटल कोरोना के प्रति सामाजिक जिम्मेदारी व जागरूकता के उद्देश्य से स्वेच्छा से बंद हो गया था। देश में लॉक डाउन लागू होने के बाद, बाद में तो पूरे करीब छह माह से भी अधिक समय के लिए देश भर के होटल बंद हुए, किंतु नैनीताल का प्रशांत होटल कोरोना के दृष्टिगत बंद होने वाला पहला होटल था। आपके प्रिय एवं भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ ने ही तब यह समाचार ब्रेक किया था।
इधर सोमवार को एक वर्ष पुरानी तिथि को याद करते हुए प्रशांत होटल के स्वामी अतुल साह ने कहा कि तब स्वेच्छा से होटल बंद करने पर उन्हें अन्य होटल कारोबारियों की आलोचना का शिकार भी होना पड़ा था, क्योंकि वे नहीं चाहते थे कि इस तरह होटल बंद कर कारोबार का नुकसान किया जाए। लेकिन उन्होंने कोरोना के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझते हुए व समाज-पर्यटकों को कोरोना से बचाने के लिए अपनी ओर से योगदान देने के लिए सहर्ष यह फैसला लिया था। इस पर उन्हें गर्व है। बाद में सभी होटलों को बंद होना पड़ा।

यह भी पढ़ें : कोरोना नियमों का उल्लंघन करने पर तीन होटल संचालकों का चालान..

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 दिसम्बर 2020। आगामी 25 दिसंबर यानी क्रिसमस और 31 दिसंबर को नव वर्ष के स्वागत के लिए नैनीताल में बड़ी संख्या में सैलानियों के जुटने से नगर में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ने की संभावना के दृष्टिगत प्रशासन सतर्क हो गया है। शनिवार को प्रशासनिक टीम ने एसडीएम विनोद कुमार की अगुवाई में नगर के होटलों में छापेमारी की एवं कोविद-19 की रोकथाम से संबंधित नियमों का पालन करने का जायजा लिया, एवं नियमों का उल्लंघन करने पर तीन होटलों-मालरोड स्थित डोमिनोज, सूर्या होटल एवं ए-वन के संचालकों का 10-10 हजार रुपए का चालान किया।
एसडीएम कुमार ने बताया कि कोविड नियमों के पालन के लिए निरीक्षण किया जा रहा है। यह भी बताया कि जिस क्षेत्र में अधिक कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं, उसे कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी की जा रही है। निरीक्षण में सीओ विजय थापा, कोतवाल अशोक कुमार सिंह, एसओ विजय मेहता, एसआई दीपक बिष्ट मौजूद शामिल रहे। बताया जा रहा है कि प्रशासन हाईकोर्ट आने वाले लोगों में कोरोना का अधिक संक्रमण पाये जाने से भी चिंतित है।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply