Business

शेरवानी हिलटॉप में हुई क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’

समाचार को यहाँ क्लिक करके सुन भी सकते हैं
शेरवानी हिल टॉप होटल में केक मिक्सिंग सेरेमनी में शामिल हुए वरिष्ठ अधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 27 नवंबर 2021। सरोवरनगरी में पिछले वर्ष कोरोना की वजह से आए व्यवधान और इधर पिछले माह 17 से 19 अक्टूबर के बीच आई दैवीय आपदा के बाद पर्यटन को फिर से पटरी पर लौटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में शनिवार को नगर के शेरवानी हिल टॉप होटल में क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’ का आयोजन किया गया।

इस मौके पर होटल के महाप्रबंधक गोपाल दत्त ने बताया कि आज अनेकों प्रकार के मेवों एवं विभिन्न प्रकार की महंगी वाइन के साथ केक मिक्सिंग की गई। आगे इसे 30 दिन तक प्रतिदिन और वाइन मिलाकर मेरीनेट किया जाएगा और क्रिसमस से पहले इससे प्लम केक तैयार किया जाएगा, तथा इस केक को होटल में आने वाले गेस्ट्स को परोसा जाएगा। इस मौके पर होटल के शेफ गोपाल रावत, जीवन जलाल, दया जोशी, प्रवीण कुमार, राज कुमार, प्रवीण कुमार, विनोद पाठक, कालीदास, कमल सिंह, कमल सुयाल, नागी, योगिता व ऋतु आदि वरिष्ठ अधिकारी व कर्मी उपस्थित रहे। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनी रिट्रीट में भी हुई क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 20 नवंबर 2021। सरोवरनगरी में पिछले वर्ष कोरोना की वजह से आए व्यवधान और इधर पिछले माह 17 से 19 अक्टूबर के बीच आई दैवीय आपदा के बाद पर्यटन को फिर से पटरी पर लौटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में मनु महारानी के बाद शनिवार को नैनी रिट्रीट होटल में क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’ का आयोजन किया गया।

नैनी रिट्रीट होटल में केक मिक्सिंग सेरेमनी में शामिल हुए वरिष्ठ अधिकारी।

इस मौके पर होटल के महाप्रबंधक डीएस जीना ने बताया कि आज अनेकों प्रकार के मेवों एवं विभिन्न प्रकार की महंगी वाइन के साथ केक मिक्सिंग की गई। आगे इसे 30 दिन तक प्रतिदिन और वाइन मिलाकर मेरीनेट किया जाएगा और क्रिसमस से पहले इससे करीब 50 किलोग्राम प्लम केक तैयार किया जाएगा, तथा इस केक को होटल में आने वाले गेस्ट्स को परोसा जाएगा।

इससे पहले 2019 में तत्कालीन जीएम संजय बाधवा ने यहां केक मिक्सिंग सेरेमनी की थी, जबकि पिछले वर्ष 2020 में कोरोना की वजह से यह कार्रवाई नहीं की गई। इस मौके पर होटल के शेफ, सीएस परिहार, पूरन बिष्ट, उमेद सिंह राणा, धीरज उप्रेती ममता, बसंत, केदार, लेखराज, आदि वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सरोवरनगरी में दो वर्ष बाद हुई क्रिसमस के लिए ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’

मनु महारानी होटल में केक मिक्सिंग सेरेमनी में शामिल हुए वरिष्ठ अधिकारी।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 नवंबर 2021। सरोवरनगरी में पिछले वर्ष कोरोना व इधर पिछले माह आई दैवीय आपदा की वजह से आए व्यवधान के बाद इस वर्ष कोरोना की पाबंदियां हटने के साथ न केवल पर्यटन पर लौटने लगा है, वरन क्रिसमस की तैयारियां भी प्रारंभ हो गई हैं। नगर के मनु महारानी होटल में दो वर्ष क्रिसमस की तैयारियों की कड़ी में ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’ का आयोजन किया गया।

इस दौरान अनेकों प्रकार के मेवों एवं महंगी वाइन के साथ केक मिक्सिंग सेरेमनी का आयोजन किया गया। बताया गया कि आगे इसे 30 दिन के लिए फरमेंटेशन के लिए रखा जाएगा और इससे क्रिसमस के मौके के लिए केक बनाया जाएगा और इस केक को होटल में आने वाले गेस्ट्स को परोसा जाएगा। इस मौके पर होटल के महाप्रबंधक नरेश गुप्ता सहित वरिष्ठ प्रबंधक प्रमोद बिष्ट, मुख्य शेफ एमएस अधिकारी, राजेंद्र रावत व विशाल सक्सेना आदि वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : भीकमपुर लॉज ने मनाया अपना बर्थडे

डॉ. नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 2 अक्टूबर 2021। नैनीताल स्थित भीकमपुर लॉज होटल ने शुक्रवार की बीती शाम अपनी पहली वर्षगांठ जन्मदिन की तरह केक काटकर मनायी।

उल्लेखनीय है कि कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीएसबी परिसर के पास राजभवन रोड पर स्थित भीकमपुर लॉज मूल रूप से 19 वीं शताब्दी के अंत में एक ब्रिटिश निवासी द्वारा बनाया गया था और बाद में भीकमपुर के नवाब रहमतुल्लाह खान शेरवानी द्वारा अधिग्रहीत किया गया था। गत वर्ष एक अक्टूबर 2020 से इसे देश के आगरा, देहरादून, हरिद्वार जोधपुर व मसूरी आदि शहरों में होटल उद्योग चला रहे ‘हॉवर्ड हॉस्पिटैलिटी एंड वेलनेस-एचएमवी’ समूह के द्वारा संचालित किया जा रहा है। इसलिए 1 अक्टूबर 2021 को भीकमपुर लॉज की पहली वर्षगांठ मनाई गई। इस दौरान केक काटा गया एवं देर रात्रि तक गीत-संगीत के कार्यक्रम हुए।

तत्कालीन नवाब का ग्रीष्मकालीन घर-भीकमपुर लॉज बीते शाही दौर की एक अनूठी आभा पेश करता है। रात्रि में सरोवरनगरी की रोशनियों को नैनी झील में दर्पण की तरह प्रस्तुत करता यह स्थान शांति व सुकून के साथ छुट्टियां बिताने का आनंद प्रदान करता है। अपने एमडी प्रणव मित्तल एवं वाइस प्रेजीडेंट कमलेश सिंह के नेतृत्व व निर्देशन तथा स्थानीय यूनिट मैनेजर राहुल पांडे की देखरेख में भीकमपुर लॉज को पिछले एक साल में ट्रिप एडवाइजर से कई ओटीए प्लेटफार्मों पर अपने अतिथियों से मिलीं अद्भुत टिप्पणियों के आधार पर उत्कृष्टता पुरस्कार का प्रमाण पत्र भी मिला है। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनी रिट्रीट होटल में नई ऊर्जा के साथ हुई खास (भूतों की) ‘हैलोवीन’ पार्टी

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 अक्टूबर 2019। नगर का नैनी रिट्रीट होटल बृहस्पतिवार को नये महाप्रबंधक संजय वाधवा के साथ नई ऊर्जा से सराबोर हो ‘हैलोवीन पाटी’ मनाता नजर आया। दीवाली के बाद नगर की जगमग रोशनियों के बीच होटल में रंगबिरंगी रोशनियों के बीच चेहरों पर भूतों के मास्क पहने युवा दिल सैलानी आधुनिक संगीत की स्वर लहरियों पर दिलकश अंदाज में थिरक रहे थे। बच्चे भी इस आयोजन का भरपूर आनंद उठा रहे थे। आयोजन में होटल कर्मी भी बढ़-चढ़कर योगदान दे रहे थे।

इसके साथ ही पूर्व में नगर के मनु महारानी होटल में महाप्रबंधक के रूप में कार्यरत रहे संजय वाधवा ने नगर के होटल उद्योग में अपनी रचनात्मकता की धमक पेश कर दी है, और बता दिया है कि आने वाले समय में नैनी रिट्रीट अन्य होटलों के लिए तगड़ी चुनौती पेश कर सकता है। उल्लेखनीय है कि संजय कुमाऊं विवि के पर्यटन विभाग से पीएचडी कर रहे हैं। इस बीच वे भावनगर सहित देश के कई शहरों में होटल एवं हॉस्पिटैलिटी उद्योग को अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाकर कर शहर में वापस लौटे हैं। उन्होंने बताया कि आगे क्रिसमस से पहले ‘केक मिक्सिंग सेरेमनी’ सहित कई आयोजन उनकी योजनाओं में हैं। उनकी कोशिश होगी कि नैनी रिट्रीट में आने वाले मेहमानों को बेहतर आदर-सत्कार एवं सुविधाएं प्रदान की जाएं तथा नैनीताल नगर को भी पर्यटन के क्षेत्र में बेहतर मुकाम दिया जा सके। हैलोवीन पार्टी के आयोजन में होटल के उमेद सिंह राणा, प्रेम मेहरा, रमेश जलाल, कृष्णा बोरा, भूपेंद्र बोरा, संतोष ध्यानी व धीरज उप्रेती आदि का भी उल्लेखनीय योगदान रहा।

क्या है हैलोवीन

हैलोवीन मुख्य रूप से पश्चिमी देशों का त्योहार है। वहां इसे धूमधाम से मनाया जाता है। हैलोवीन हर साल 31 अक्टूबर के दिन मनाया जाता है। इस दिन बच्चे घर-घर जाकर ‘हैप्पी हैलोवीन’ की विश देते हैं और चॉकलेट या कैंडी आदि मीठा लेते हैं। इस मौके पर घर के पूर्वजों की शांति के लिए प्रार्थना भी की जाती है। इस त्योहार को मनाने का तरीका अन्य त्योहारों से अलग है। दूसरे त्योहारों पर जहां सभी नए कपड़े पहन कर सज-संवर कर तैयार होते हैं, वहीं हैलोवीन पर लोग डरावना मेकअप करके डरावना रूप बना लेते हैं।

क्यों मनाया जाता है हैलोवीन, कैसे हुआ शुरू

इसके पीछे भी एक कहानी है कि हैलोवीन शुरू कैसे हुआ। असल में यूरोप में सैल्टिक नाम की जाति के लोगों से इस त्योहार का नाता है। इस जाति के लोगों का मानना है कि वर्ष में इस समय पूर्वजों की आत्माएं आती हैं। वे संसार में मौजूद लोगों से संवाद भी कर सकती हैं। सैल्टिक जाति के लोगों का मानना है कि पूर्वजों की आत्मा के आने से उनके काम आसान होंगे। पहले इसे ‘ऑल सेंट्स डे’ या ‘’ ऑल हैलोज-होली डे‘ व ‘हैलोज ईव’ भी कहा जाता था, जो समय के साथ साथ ‘हैलोवीन’ बन गया। इधर कुछ वर्षों से हैलोवीन भारत में भी मनाया जाने लगा है। लोग इस शाम को घर पर पार्टी रखते हैं, और डरावने मास्क पहनकर नृत्य करते हुए आनंद लेते हैं। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल-दून के होटल 50 फीसद क्षमता में ही यात्रियों को ठहराएंगे

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 11 जुलाई 2021। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून और पर्यटन राजधानी नैनीताल के होटलों में अब क्षमता के 50 फीसद कमरे ही भरे जाएंगे। राज्य सरकार ने यह निर्णय गत दिनों से नैनीताल और मसूरी में सैलानियों के भारी संख्या में उमड़ने और कोविड-19 प्रोटोकॉल्स का पालन नहीं करने के दृष्टिगत लिया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी।

इस आदेश के बाद नैनीताल में सैलानियों की संख्या में और कमी आने की उम्मीद है, क्योंकि यहां डीएम ने पहले ही एक अन्य आदेश जारी किया है जिसके अनुसार कोविड की निगेटिव जांच रिपोर्ट के साथ होटलों में बुकिंग कराकर आने वाले सैलानियों को ही नैनीताल आने दिया जाएगा। जबकि नैनीताल पुलिस उन्हीं वाहनों को शहर में आने दे रही है, जिनकी बुकिंग ऐसे होटलों में है, जिनके पास पार्किंग सुविधा उपलब्ध है। उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड उच्च न्यायालय पूर्व में होटलों को अपनी पार्किंग सुविधा उपलब्ध कराने के आदेश दे चुका है। यानी होटल उतनी ही क्षमता में यात्रियों को ठहरा सकते हैं, जितनी उनके पास पार्किंग की सुविधा उपलब्ध है।

वहीं नए आदेश पर नगर के मनु महारानी होटल के वरिष्ठ महाप्रबंधक नरेश गुप्ता ने कहा कि सरकार ने पहले ही होटल-रेस्टोरेंटों को 50 फीसद क्षमता में खोलने की इजाजत दी थी, लेकिन होटल-रेस्टोरेंट पूरी क्षमता में खुल रहे थे। उन्होंने बताया कि मनु महारानी पहले से ही आधी से कम क्षमता में खुला है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : कोरोना की रोकथाम हेतु जिला प्रशासन ने दो टीआरएच सहित तीन होटल किए अधिग्रहीत, बनेंगे कोविड केयर सेंटर

-रामगढ़, भवाली एवं भीमताल में स्थानीय रोगियों को घर के पास मिलेंगी कोरोना के उपचार की समस्त सुविधाएं

आईएएस अधिकारी प्रतीक जैन।

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 मई 2021। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन ने जनपद के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों-रामगढ़ व भीमताल तथा भवाली के होटल मिस्टी हाइट को उनके समस्त कर्मियों के साथ अधिग्रहीत कर लिया है। डीएम की ओर से आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 एवं महामारी अधिनियम 1897 में प्रदत्त शक्तियों से एसडीएम प्रतीक जैन ने कोरोना विषाणु के संक्रमण की रोकथाम के लिए भवाली, भीमताल व रामगढ़ में कोविड केयर सेंटर की व्यवस्था करने के लिए इस बारे में शनिवार को आदेश जारी कर दिए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस व्यवस्था से प्रशासन के पास कोरोना रोगियों के उपचार हेतु भवाली में 13, रामगढ़ में 9 एवं भीमताल में 9 कक्ष की व्यवस्था उपलब्ध हो जाएगी। अधिग्रहीत किए गए इन होटलों में रहने व खाने के बिलों का भुगतान शासनादेश के अनुसार प्रतिदिन 1100 रुपए किया जाएगा।

आईएएस अधिकारी श्री जैन ने बताया कि अधिग्रहीत किए गए तीनों स्थानों पर रविवार से स्थानीय सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के चिकित्सा कर्मियों के माध्यम से सप्ताह में सातों दिन एवं दिन के 24 घंटे कोरोना के दृष्टिगत चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। सभी केंद्रों में दो-दो ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। रविवार से इन क्षेत्रों के कोरोना के लक्षणों वाले अथवा घर पर उपचार की व्यवस्था न होने वाले रोगी यहां घर के पास उपचार एवं जरूरत होने पर ऑक्सीजन भी प्राप्त कर सकेंगे।

एसडीएम श्री जैन ने बताया कि इन सभी केंद्रों पर एंबुलेंस, पीपीई किट व पल्स ऑक्सीमीटर आदि की व्यवस्था भी कर दी गई है, ताकि स्वास्थ्य अधिक खराब होने पर रोगियों को एंबुलेंस से तत्काल हल्द्वानी भी भेजा जा सकेगा। उन्होंने बताया कि इसी तरह सीएचसी कोटाबाग में दो व पीएचसी ज्योलीकोट में एक ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर सहित एंबुलेंस की व्यवस्था भी कर दी गई है। उन्होंने कहा कि इस तरह सभी दूरस्थ क्षेत्रों में कोविड की चिकित्सा से संबंधित मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करा दी गई हैं। यदि रोगियों की संख्या अधिक बढ़ती है तो सुविधाओं को और बढ़ाया जाएगा। अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिये यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : क्या आपको पता है-आज के दिन ही पिछले वर्ष कोरोना की वजह से नैनीताल में स्वेच्छा से बंद हुआ देश का पहला होटल

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 मार्च 2021। जी हां, बीते वर्ष को 22 मार्च 2020 कोरोना के दृष्टिगत जनता कर्फ्यू लगने के बाद 24 मार्च से लॉक डाउन लगना प्रारंभ हुआ था। लेकिन इससे पहले ही पर्यटन नगरी नैनीताल में प्रशांत होटल नाम का एक होटल कोरोना के प्रति सामाजिक जिम्मेदारी व जागरूकता के उद्देश्य से स्वेच्छा से बंद हो गया था। देश में लॉक डाउन लागू होने के बाद, बाद में तो पूरे करीब छह माह से भी अधिक समय के लिए देश भर के होटल बंद हुए, किंतु नैनीताल का प्रशांत होटल कोरोना के दृष्टिगत बंद होने वाला पहला होटल था। आपके प्रिय एवं भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ ने ही तब यह समाचार ब्रेक किया था।
इधर सोमवार को एक वर्ष पुरानी तिथि को याद करते हुए प्रशांत होटल के स्वामी अतुल साह ने कहा कि तब स्वेच्छा से होटल बंद करने पर उन्हें अन्य होटल कारोबारियों की आलोचना का शिकार भी होना पड़ा था, क्योंकि वे नहीं चाहते थे कि इस तरह होटल बंद कर कारोबार का नुकसान किया जाए। लेकिन उन्होंने कोरोना के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझते हुए व समाज-पर्यटकों को कोरोना से बचाने के लिए अपनी ओर से योगदान देने के लिए सहर्ष यह फैसला लिया था। इस पर उन्हें गर्व है। बाद में सभी होटलों को बंद होना पड़ा।

यह भी पढ़ें : कोरोना नियमों का उल्लंघन करने पर तीन होटल संचालकों का चालान..

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 दिसम्बर 2020। आगामी 25 दिसंबर यानी क्रिसमस और 31 दिसंबर को नव वर्ष के स्वागत के लिए नैनीताल में बड़ी संख्या में सैलानियों के जुटने से नगर में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ने की संभावना के दृष्टिगत प्रशासन सतर्क हो गया है। शनिवार को प्रशासनिक टीम ने एसडीएम विनोद कुमार की अगुवाई में नगर के होटलों में छापेमारी की एवं कोविद-19 की रोकथाम से संबंधित नियमों का पालन करने का जायजा लिया, एवं नियमों का उल्लंघन करने पर तीन होटलों-मालरोड स्थित डोमिनोज, सूर्या होटल एवं ए-वन के संचालकों का 10-10 हजार रुपए का चालान किया।
एसडीएम कुमार ने बताया कि कोविड नियमों के पालन के लिए निरीक्षण किया जा रहा है। यह भी बताया कि जिस क्षेत्र में अधिक कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं, उसे कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी की जा रही है। निरीक्षण में सीओ विजय थापा, कोतवाल अशोक कुमार सिंह, एसओ विजय मेहता, एसआई दीपक बिष्ट मौजूद शामिल रहे। बताया जा रहा है कि प्रशासन हाईकोर्ट आने वाले लोगों में कोरोना का अधिक संक्रमण पाये जाने से भी चिंतित है।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply