Business

नैनीताल-दून के होटल 50 फीसद क्षमता में ही यात्रियों को ठहराएंगे

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 11 जुलाई 2021। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून और पर्यटन राजधानी नैनीताल के होटलों में अब क्षमता के 50 फीसद कमरे ही भरे जाएंगे। राज्य सरकार ने यह निर्णय गत दिनों से नैनीताल और मसूरी में सैलानियों के भारी संख्या में उमड़ने और कोविड-19 प्रोटोकॉल्स का पालन नहीं करने के दृष्टिगत लिया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी। इस आदेश के बाद नैनीताल में सैलानियों की संख्या में और कमी आने की उम्मीद है, क्योंकि यहां डीएम ने पहले ही एक अन्य आदेश जारी किया है जिसके अनुसार कोविड की निगेटिव जांच रिपोर्ट के साथ होटलों में बुकिंग कराकर आने वाले सैलानियों को ही नैनीताल आने दिया जाएगा। जबकि नैनीताल पुलिस उन्हीं वाहनों को शहर में आने दे रही है, जिनकी बुकिंग ऐसे होटलों में है, जिनके पास पार्किंग सुविधा उपलब्ध है। उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड उच्च न्यायालय पूर्व में होटलों को अपनी पार्किंग सुविधा उपलब्ध कराने के आदेश दे चुका है। यानी होटल उतनी ही क्षमता में यात्रियों को ठहरा सकते हैं, जितनी उनके पास पार्किंग की सुविधा उपलब्ध है।

वहीं नए आदेश पर नगर के मनु महारानी होटल के वरिष्ठ महाप्रबंधक नरेश गुप्ता ने कहा कि सरकार ने पहले ही होटल-रेस्टोरेंटों को 50 फीसद क्षमता में खोलने की इजाजत दी थी, लेकिन होटल-रेस्टोरेंट पूरी क्षमता में खुल रहे थे। उन्होंने बताया कि मनु महारानी पहले से ही आधी से कम क्षमता में खुला है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : कोरोना की रोकथाम हेतु जिला प्रशासन ने दो टीआरएच सहित तीन होटल किए अधिग्रहीत, बनेंगे कोविड केयर सेंटर

-रामगढ़, भवाली एवं भीमताल में स्थानीय रोगियों को घर के पास मिलेंगी कोरोना के उपचार की समस्त सुविधाएं

आईएएस अधिकारी प्रतीक जैन।

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 मई 2021। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन ने जनपद के दो टीआरएच यानी पर्यटक आवास गृहों-रामगढ़ व भीमताल तथा भवाली के होटल मिस्टी हाइट को उनके समस्त कर्मियों के साथ अधिग्रहीत कर लिया है। डीएम की ओर से आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 एवं महामारी अधिनियम 1897 में प्रदत्त शक्तियों से एसडीएम प्रतीक जैन ने कोरोना विषाणु के संक्रमण की रोकथाम के लिए भवाली, भीमताल व रामगढ़ में कोविड केयर सेंटर की व्यवस्था करने के लिए इस बारे में शनिवार को आदेश जारी कर दिए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस व्यवस्था से प्रशासन के पास कोरोना रोगियों के उपचार हेतु भवाली में 13, रामगढ़ में 9 एवं भीमताल में 9 कक्ष की व्यवस्था उपलब्ध हो जाएगी। अधिग्रहीत किए गए इन होटलों में रहने व खाने के बिलों का भुगतान शासनादेश के अनुसार प्रतिदिन 1100 रुपए किया जाएगा।
आईएएस अधिकारी श्री जैन ने बताया कि अधिग्रहीत किए गए तीनों स्थानों पर रविवार से स्थानीय सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के चिकित्सा कर्मियों के माध्यम से सप्ताह में सातों दिन एवं दिन के 24 घंटे कोरोना के दृष्टिगत चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। सभी केंद्रों में दो-दो ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। रविवार से इन क्षेत्रों के कोरोना के लक्षणों वाले अथवा घर पर उपचार की व्यवस्था न होने वाले रोगी यहां घर के पास उपचार एवं जरूरत होने पर ऑक्सीजन भी प्राप्त कर सकेंगे। एसडीएम श्री जैन ने बताया कि इन सभी केंद्रों पर एंबुलेंस, पीपीई किट व पल्स ऑक्सीमीटर आदि की व्यवस्था भी कर दी गई है, ताकि स्वास्थ्य अधिक खराब होने पर रोगियों को एंबुलेंस से तत्काल हल्द्वानी भी भेजा जा सकेगा। उन्होंने बताया कि इसी तरह सीएचसी कोटाबाग में दो व पीएचसी ज्योलीकोट में एक ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर सहित एंबुलेंस की व्यवस्था भी कर दी गई है। उन्होंने कहा कि इस तरह सभी दूरस्थ क्षेत्रों में कोविड की चिकित्सा से संबंधित मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करा दी गई हैं। यदि रोगियों की संख्या अधिक बढ़ती है तो सुविधाओं को और बढ़ाया जाएगा।

यह भी पढ़ें : क्या आपको पता है-आज के दिन ही पिछले वर्ष कोरोना की वजह से नैनीताल में स्वेच्छा से बंद हुआ देश का पहला होटल

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 मार्च 2021। जी हां, बीते वर्ष को 22 मार्च 2020 कोरोना के दृष्टिगत जनता कर्फ्यू लगने के बाद 24 मार्च से लॉक डाउन लगना प्रारंभ हुआ था। लेकिन इससे पहले ही पर्यटन नगरी नैनीताल में प्रशांत होटल नाम का एक होटल कोरोना के प्रति सामाजिक जिम्मेदारी व जागरूकता के उद्देश्य से स्वेच्छा से बंद हो गया था। देश में लॉक डाउन लागू होने के बाद, बाद में तो पूरे करीब छह माह से भी अधिक समय के लिए देश भर के होटल बंद हुए, किंतु नैनीताल का प्रशांत होटल कोरोना के दृष्टिगत बंद होने वाला पहला होटल था। आपके प्रिय एवं भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ ने ही तब यह समाचार ब्रेक किया था।
इधर सोमवार को एक वर्ष पुरानी तिथि को याद करते हुए प्रशांत होटल के स्वामी अतुल साह ने कहा कि तब स्वेच्छा से होटल बंद करने पर उन्हें अन्य होटल कारोबारियों की आलोचना का शिकार भी होना पड़ा था, क्योंकि वे नहीं चाहते थे कि इस तरह होटल बंद कर कारोबार का नुकसान किया जाए। लेकिन उन्होंने कोरोना के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझते हुए व समाज-पर्यटकों को कोरोना से बचाने के लिए अपनी ओर से योगदान देने के लिए सहर्ष यह फैसला लिया था। इस पर उन्हें गर्व है। बाद में सभी होटलों को बंद होना पड़ा।

यह भी पढ़ें : कोरोना नियमों का उल्लंघन करने पर तीन होटल संचालकों का चालान..

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 दिसम्बर 2020। आगामी 25 दिसंबर यानी क्रिसमस और 31 दिसंबर को नव वर्ष के स्वागत के लिए नैनीताल में बड़ी संख्या में सैलानियों के जुटने से नगर में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ने की संभावना के दृष्टिगत प्रशासन सतर्क हो गया है। शनिवार को प्रशासनिक टीम ने एसडीएम विनोद कुमार की अगुवाई में नगर के होटलों में छापेमारी की एवं कोविद-19 की रोकथाम से संबंधित नियमों का पालन करने का जायजा लिया, एवं नियमों का उल्लंघन करने पर तीन होटलों-मालरोड स्थित डोमिनोज, सूर्या होटल एवं ए-वन के संचालकों का 10-10 हजार रुपए का चालान किया।
एसडीएम कुमार ने बताया कि कोविड नियमों के पालन के लिए निरीक्षण किया जा रहा है। यह भी बताया कि जिस क्षेत्र में अधिक कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं, उसे कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी की जा रही है। निरीक्षण में सीओ विजय थापा, कोतवाल अशोक कुमार सिंह, एसओ विजय मेहता, एसआई दीपक बिष्ट मौजूद शामिल रहे। बताया जा रहा है कि प्रशासन हाईकोर्ट आने वाले लोगों में कोरोना का अधिक संक्रमण पाये जाने से भी चिंतित है।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply