यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 8077566792 पर संपर्क करें..
 

क्या इसी लिये चाही थी बराबरी ! अपने नाबालिग शिष्य व मकान मालिक के पुत्र को लेकर फरार हुईं युवतियां…

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये

(प्रतीकात्मक चित्र)

नवीन समाचार, बागेश्वर/रुद्रपुर, 22 जुलाई 2019। क्या इसी लिए महिलाओं व पुरुषों में बराबरी अपेक्षित थी। क्या इसी लिये प्यार के लिए कहा गया था, न उम्र की सीमा हो-न जाति का हो बंधन। अब तक जो आरोप पुरुषों पर लगते थे वे अब दो युवतियों पर लगे हैं। दोनों मामले कुमाऊं मंडल से संबंधित हैं। एक मामले में यहां की लड़की राजस्थान से अपने नाबालिग शिष्य को भगा लायी है तो दूसरे मामले में यूपी की लड़की यहां के अपने नाबालिग मकान मालिक को भगा ले गयी है। यानी न यूपी की लड़कियां कम हैं न उत्तराखंड की। दोनों मामले प्यार के बताये जा रहे हैं, और युवतियां स्वीकार कर रही हैं कि वे भगाये गये नाबालिगों से प्यार करती हैं, और शादी करना चाहती हैं।
पहली घटना बागेश्वर जिले के कांडा की है। यहां की एक 25 वर्षीय युवती राजस्थान की राजधानी जयपुर में एक निजी विद्यालय में शिक्षिका के पद पर कार्यरत है। उसके विरुद्ध राजस्थान के परागपुर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करायी गयी है कि वह अपने नाबालिग छात्र को भगा ले गयी है। राजस्थान पुलिस ने सर्विलांस की मदद से उसकी लोकेशन तलाशी तो वह कांडा बागेश्वर की आई। इस पर पुलिस ने शिक्षिका व नाबालिग छात्र को कांडा से बरामद कर लिया और अपने साथ ले गये।
वहीं दूसरी घटना में रुद्रपुर के ट्रांजिट कैंप क्षेत्र से एक नाबालिग बालक गायब हो गया है। बालक के माता पिता ने ने उनके घर में किराये पर रहकर एक फैक्टरी में काम करने वाली यूपी के कुशीनगर जिले की 22 वर्षीय युवती इंद्रावती उर्फ इंदु पर अपने नाबालिग बेटे को भगाने का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि इंद्रावती नाबालिग बेटे से प्यार होने और उससे शादी करने का खुलेआम ऐलान कर चुकी है, और इस बात को लेकर पूर्व में विवाद भी हो चुका है। उन्होंने पुलिस में इंद्रावती के खिलाफ अपने नाबालिग पुत्र का अपहरण करने के आरोप में मुकदमा भी दर्ज करा दिया है। पुलिस लड़की और नाबालिग को तलाश रही है।

'
'

नवीन समाचार

मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है। ’ यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….। मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड

Leave a Reply

Next Post

दुत्कानेधार के समीप खाई में गिरी स्कूटी, सामाजिक कार्यकर्ता की मौत

Tue Jul 23 , 2019
यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये दान सिंह लोधियाल @ नवीन समाचार, धानाचूली, 8 अगस्त 2019। जनपद के रामगढ़ ब्लॉक के दुत्कानेधार समर फोर्ड के समीप एक स्कूटी दुर्घनाग्रस्त होने से स्कूटी सवार सामाजिक कार्यकर्ता को मौत हो गयी। मृतक का शव पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर […]

You May Like

Loading...

Breaking News

ads (1)

सहयोग : श्रीमती रेनू सिंह