Education Good Work

प्रो. अतुल जोशी ने कुछ ऐसा किया कि हमेशा याद रहेंगी प्रो. महिमा जोशी..

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
समाचार को सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें

-भूगोल विषय में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थी को मिलेगा प्रो. महिमा जोशी स्मृति विद्याभूषण पुरस्कार

पुरस्कार हेतु कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति को दो लाख रुपए का चेक सोंपते प्रो. अतुल जोशी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 01 जनवरी 2020। कुमाऊं विश्वविद्यालय के भूगोल विषय में सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाले विद्यार्थी को प्रो. महिमा जोशी स्मृति विद्याभूषण पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। शुक्रवार को कुमाऊं विश्वविद्यालय के नैनीताल के संकायाध्यक्ष एवं वाणिज्य विभागाध्यक्ष प्रो. अतुल जोशी ने अपनी धर्मपत्नी स्वर्गीय प्रो. महिमा जोशी की स्मृति में कुमाऊं विश्वविद्यालय के एमए भूगोल व एमएससी भूगोल के छात्र-छात्राओं को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से वर्ष 2021 से प्रो. महिमा जोशी स्मृति विद्याभूषण पुरुस्कार देने की घोषणा की। इसके अंतर्गत हर वर्ष विश्वविद्यालय स्तर परएमए भूगोल व एमएससी भूगोल के सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्रा को 11,000 रुपए के नकद पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। पुरस्कार के लिए प्रो अतुल जोशी द्वारा कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल में एक निधि की स्थापना करने के उद्देश्य से दो लाख रुपए का एक चेक शुक्रवार को कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके जोशी को सौंपा।
इस अवसर पर कुलपति प्रो. जोशी ने उम्मीद जताई कि यह पुरस्कार भूगोल विषय के छात्र-छात्राओं को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित करेगा, वहीं समाज एवं छात्र हित के प्रति अपने सामाजिक उत्तरदायित्वों का निर्वहन करने की सोच रखने वाले प्रबुद्ध जनों के लिए भी प्रेरणास्प्रद होगा। उल्लेखनीय है कि एमबीपीजी कालेज हल्द्वानी के भूगोल विभाग की आचार्य तथा कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल की कार्य परिषद की सदस्य प्रो. महिमा जोशी का देहावसान गत नौ नवंबर को हुआ था। वह वर्ष 1982 में हेमवती नंदन बहुगुणा विश्वविद्यालय की एमए भूगोल परीक्षा की टॉपर भी रहीं। उनकी दो पुस्तकें ‘भारत में आधुनिक पर्यटन’ एवं ‘ईको टूरिज्म-एक परिचय’ भी प्रकाशित हुई हैं। उन्हें मारीशस में वर्ष 2013 में ‘हिन्दी गौरव सम्मान’ से भी सम्मानित किया गया था। इस अवसर पर प्रो. पीएस बिष्ट, कुलसचिव केआर भट्ट, वित्त नियंत्रक एलआर आर्या, उप कुलसचिव दुर्गेश डिमरी, विधान चौधरी, केके पांडे व डा. विनोद जोशी आदि भी उपस्थिति रहे।

Leave a Reply