News

पहाड़ के विद्यालय में मैदानी शिक्षक पर बच्चों के यौन उत्पीड़न का आरोप, बर्खास्तगी-गिरफ्तारी की मांग पर अड़े अभिभावक

समाचार को यहाँ क्लिक करके सुन भी सकते हैं

कोचिंग जा रहे बच्चे को अपने घर ले जाकर की घटना, शोर मचाने पर फरार |  Bareilly...the home guard tried to misbehave with the child: The incident  of taking the child going

नवीन समाचार, रानीखेत, 12 मई 2022। शिक्षा के मंदिर में भी कुछ दानव छिपे हुए मिल जाएं तो भावी पीढ़ियों का भविष्य कैसा होगा ? अल्मोड़ा जिले के ताड़ीखेत ब्लाक के राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय स्यालीखेत में छात्रों से एक शिक्षक द्वारा यौन उत्पीड़न किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस मामले में आक्रोशित ग्रामीणों व अभिभावकों ने विद्यालय पहुंच कर मैदानी क्षेत्र के निवासी आरोपित शिक्षक एरवन कुमार गंगवार को बर्खास्त करने और उसकी गिरफ्तारी की मांग उठा कर हंगामा किया।

jagranबताया गया है कि मामला खुलते ही आरोपित शिक्षक अवकाश पर चला गया है। अलबत्ता विभागीय स्तर पर जांच बैठा दी गई है। संयुक्त मजिस्ट्रेट ने भी प्रशासनिक टीम भेज कर विद्यालय प्रबंध समिति से रिपोर्ट देने को कहा है। मामले की गंभारता को देखते हुए बाल उत्पीड़न समिति भी हरकत में आ गई है।

आरोपों के अनुसार नैनीताल जनपद के बेतालघाट विकासखंड से लगे राउमावि स्यालीखेत में कार्यरत एक कलयुगी शिक्षक घंटों छात्रों को कक्ष में बंद रखता हैं और गंदी हरकतें करता है। घर पर शिकायत करने पर बच्चों को फेल करने व जान से मारने की धमकी दी जाती है। इस मामले में गुरुवार को बच्चों के अभिभावकों व ग्रामीणो ने विद्यालय पहुंचकर आरोपित शिक्षक पर कार्रवाई की मांग की। साथ ही दो टूक चेतावनी दी कि जल्द कार्रवाई न हुई तो आंदोलन करेंगे। पता लगने पर खंड शिक्षाधिकारी श्याम सिंह बिष्ट विद्यालय पहुंचे, और प्रशासन को भी सूचना दी।

हंगामा व कार्रवाई की मांग करने वालों में अभिभावक संघ के अध्यक्ष दीवान सिंह रौतेला, ग्राम प्रधान मोहित गोस्वामी, पूर्व प्रधान पूरन सिंह, मान सिंह करायत, हीरा सिंह, श्याम सिंह, आनंद सिंह, सुनील मेहरा, आनंद सिंह मेहरा, प्रताप सिंह मेहरा, चंदन राम, कौशल्या देवी, माया देवी, बसंती देवी, पुष्पा देवी, उमा देवी, रेखा देवी आदि शामिल रहे। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 11 वर्षीय बच्चे को ले गया बाबा, उसके साथ जो किया-उससे बाबाओं से विश्वास उठ जाएगा…

नवीन समाचार, बाजपुर, 11 मई 2022। बाबा पहले से ही बच्चों को डराने की चीज हैं। बच्चों को अक्सर माता-पिता कोई गलत कार्य करने पर बाबा के ले जाने के भय से डराते हैं। लेकिन निकटवर्ती बरहैनी में एक बाबा के झांसे में आकर माता-पिता ने अपने 11 वर्षीय बच्चे को बाबा को सोंप दिया, और बाबा ने उसके साथ जो किया, उससे कोई भी बाबाओ पर विश्वास करना छोड़ देगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बरहैनी पुलिस चौकी क्षेत्र के एक गांव निवासी मेहनत-मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करने वाले व्यक्ति के घर माह भर पहले एक बाबा आया और बच्चे की शिक्षा-दीक्षा कराने की बात कहते हुए उसके 11 वर्षीय बालक को मांग लिया। बाबा की बातों में आकर परिजनों ने चैत्र नवरात्र के अगले दिन धार्मिक भावना के साथ बालक को बाबा के साथ भेज दिया।

लेकिन इधर सप्ताह भर पहले किसी तरह बाबा के चंगुल से भाग कर घर लौटे बच्चे ने बताया कि बाबा ने न केवल उससे अपनी कुटिया में खूब काम करवाया। बल्कि उस के साथ कुकर्म भी किया। बच्चे की आपबीती सुनकर आक्रोशित पिता की तहरीर पर पुलिस ने बाबा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

बुधवार को कोतवाल प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि आरोपित मूलतः नैनीताल जनपद के हैड़ाखान मल्ला निवासी व कालाढुंगी के पाटकोट कुटिया मंदिर में रहने वाले बाबा गणेशानंद पुत्र खीमानंद को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है। जहां कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने आरोपित को जेल भेज दिया गया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शिक्षिका की मार से पहली कक्षा की मासूम बच्ची की आंख की रोशनी गई, मुकदमा दर्ज

नवीन समाचार, काशीपुर, 6 मई 2022। काशीपुर में एक सरकारी स्कूल की शिक्षिका पर कक्षा एक में पढ़ने वाली मासूम छात्रा की आंख फोड़ने का मामला सामने आया है। आरोप है कि शिक्षिका आभा शर्मा की मारपीट के बाद 7 वर्षीय मासूम की दायीं आंख की रोशनी चली गई है।

आरोप है कि पुलिस ने पीड़ित पक्ष की शिकायत पर शिक्षिका के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत नहीं किया। इस कारण उनके द्वारा न्यायालय की शरण ली गई। अब न्यायालय के आदेश पर आरोपित शिक्षिका के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पूरे मामले से शिक्षा विभाग के अधिकारी हैरान हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आईटीआई थाना क्षेत्र के ग्राम गुलड़िया निवासी इरफान पुत्र मोहम्मद जान ने न्यायिक मजिस्ट्रेट काशीपुर के समक्ष प्रार्थना पत्र देकर कहा कि उसकी सात वर्षीय बेटी आलिया राजकीय प्राथमिक विद्यालय गुलड़िया में कक्षा एक की छात्रा है।

पिछले साल 18 नवंबर को करीब 11 बजे कक्षाध्यापिका आभा शर्मा ने आलिया के मुंह पर प्लास्टिक के पंजे से काफी जोर से मारा। इस कारण बच्ची की आंख में चोट लगी, और चिकित्सकों को दिखाने के बाद अब आंख की रोशनी चली गई है। इससे उसका भविष्य अंधकारमय हो गया है। वह रोजमर्रा के काम भी ठीक से नहीं कर पाती है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply