Crime

पिछले माह हल्द्वानी में नाबालिग ने दिया था बच्चे को जन्म, अब उससे दुराचार करने का आरोपी युवक गिरफ्तार..

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, चंपावत, 18 जनवरी 2021। पिछले दिसंबर माह में हल्द्वानी के डॉ. सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज में एक 16 वर्षीय नाबालिग लड़की ने एक बच्चे को जन्म दिया था। अब चंपावत पुलिस ने इस मामले में नाबालिग से दुष्कर्म कर उसे गर्भवती बनाने के आरोपी युवक ग्राम सुई पऊ निवासी रोहित कुमार 25 पुत्र शिवराज राम को गिरफ्तार कर लिया है। आरोप है कि रोहित ने नाबालिग लड़की को बहला-फुसला कर शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया था। दिसंबर माह में नाबालिग पीड़िता द्वारा बच्चे को जन्म देने पर चाइल्ड हेल्प लाइन नैनीताल ने चाइल्ड हेप्पलाइन चम्पावत को और चाइल्ड हेल्प लाइन की जिला समन्वयक सन्तोषी ने थाना लोहाघाट में सूचना दी थी। इस पर थाना लोहाघाट में आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376 व 5/6 पॉक्सो अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज की थी। आज विवेचक महिला उप निरीक्षक मन्दाकिनी राणा की अगुवाई में एसआई देवेंद्र मेहता व कांस्टेबल नवल किशोर ने आरोपी को दिल्ली जाते हुए पुल्ला तिराहा से गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें : नाबालिग से दुष्कर्म के आरोप में बुजुर्ग सहित तीन गिरफ्तार, जेल भेजे

नवीन समाचार, नैनीताल, 14 जनवरी 2021। हवस मनुष्य को अंधा बना देती है, और कहीं का नहीं छोड़ती। बागेश्वर जनपद की कपकोट पुलिस ने बृहस्पतिवार को नाबालिग लड़की का यौन शोषण करने के आरोप में एक बुजुर्ग सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पकड़े गए आरोपितों में से एक 60 साल का बुजुर्ग भी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार को कपकोट पुलिस को पीड़ित नाबालिग लड़की के परिजनों की ओर से तीन नामजद आरोपियों के खिलाफ यौन शोषण के आरोप में लिखित तहरीर दी गयी। आरोप लगाया गया कि बीते माह 16 दिसंबर को उनकी नाबालिग लड़की का तीन लोगों ने यौन शोषण किया। तीनों आरोपी नाबालिग को बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गये। इनमें से दो आरोपितों-राजेन्द्र जोशी और प्रकाश जोशी ने नाबालिग लड़की के साथ छेड़खानी की, जबकि तीसरे आरोपी कैलाश बिष्ट ने उसके साथ दुराचार किया। इस शिकायत पर कपकोट पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ यौन शोषण संरक्षण अधिनियम (पोक्सो) एवं भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 354, 363 व 366ए व 376(2)एन के तहत मामला दर्ज कर पहले जांच की और जांच में आरोप सही पाए जाने पर आज कार्रवाई की। तीनों आरोपितों को 24 घंटे के अंदर आज कपकोट पुल से गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें : सनसनीखेज मामला : 12 साल की बच्ची ने दिया बच्ची को जन्म, पुलिस उसके साथ दुष्कर्म करने वाले की तलाश में जुटी

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 10 जनवरी 2021। जिस 12 वर्ष की उम्र में बच्चियां गुड्डे-गुड़ियों से खेलती हैं, उस उम्र की एक बच्ची द्वारा एक बच्ची को जन्म देकर के मां बनने का खुलासा हुआ है। शहर के ट्रांजिट कैम्प क्षेत्र में ऐसा ही एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार जन्म के तुरंत बाद ही नवजात बच्ची की मौत हो गयी है। घटना की जानकारी लगने के बाद पुलिस मामले की पड़ताल में जुट गई है। वहीं मामले में पीड़िता की मां की ओर से पुलिस को तहरीर देने की तैयारी की जा रही है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि बच्ची के साथ किसने दुष्कर्म करके ऐसी हैवानियत को अंजाम दिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार यूपी के मुरादाबाद निवासी एक परिवार ट्रांजिट कैम्प क्षेत्र में किराये के मकान में रहता है। बताया गया है कि बीती रात परिवार की 12 साल की लड़की के पेट में अचानक दर्द उठने लगा। इस पर परिजन उसे जिला अस्पताल ले गये, जहां चिकित्सकों को जांच में पता चला कि लड़की गर्भवती है। यह बात परिजनों को बताई तो वे सकते में आ गए। प्रसव पीड़ा बढ़ने पर रात को ही लड़की ने एक बच्ची को जन्म दिया, अलबत्ता तत्काल बाद ही नवजात बच्ची की मौत हो गयी। सूचना पर महिला एसआई राखी ने पीड़िता और उसके परिजनों के बयान लिये और ट्रांजिट कैम्प थाना अध्यक्ष केजी मठपाल ने भी परिजनों से पूछताछ की। फिलहाल लड़की कुछ कहने की स्थिति में नहीं है। उसका अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। पुलिस ने नवजात बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। समाचार लिखने तक पीड़िता की मां मामले में तहरीर देने की तैयारी कर रही थी।

यह भी पढ़ें : सहपाठी छात्र ने आपत्तिजनक फोटो वायरल करने की धमकी दी तो छात्रा ने खा लिया जहर

नवीन समाचार, काशीपुर, 06 जनवरी 2020। शहर की दसवीं की एक नाबालिग छात्रा ने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक फोटो वायरल करने की धमकी मिलने पर जहर खाकर जान देने की कोशिश की है। उसे गंभीर हालत में एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामले में छात्रा के ही एक नाबालिग सहपाठी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस के अनुसार आईटीआई थाना क्षेत्र के एक गांव के एक किशोर व किशोरी कक्षा-10 में एक ही स्कूल में पढ़ते है। दोनों सोशल मीडिया पर आपस में चैटिंग भी करते थे। कुछ दिन पहले छात्रा ने अपनी एक फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट की। इस पर छात्र ने आपत्तिजनक कमेंट कर दिया। जानकारी मिलने पर छात्रा के पिता ने पुलिस से शिकायत की। दो जनवरी को मामले पर गांव में पंचायत भी हुयी जिसमे छात्रा को भी बुलाया गया। यहां दोनों पक्षों में इस बात पर समझौता हुआ कि छात्र आगे ऐसी हरकत नहीं करेगा। लेकिन इधर बीती देर रात्रि छात्रा ने जहर खा लिया। हालत बिगड़ने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद छात्रा के पिता ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि समझौते के बाद भी आरोपी ने फिर उनकी बेटी को मैसेज भेजे और आपत्तिजनक फोटो बनाकर वायरल करने की धमकी दी। इससे तनाव में आई उनकी बेटी ने जहर खा लिया। उन्होंने कहा कि आरोपी ने ही उसकी बेटी को आत्महत्या करने के लिये मजबूर किया है। पुलिस ने तहरीर के आधार पर आरोपी छात्र के खिलाफ धारा 509 और 11/12 पॉक्सो अधिनियम के मुकदमा दर्ज कर आरोपी नाबालिग छात्र को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल : नाबालिग को आत्महत्या के लिए उकसाने की आरोपित पड़ोसी महिला को मिली अग्रिम जमानत

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 दिसम्बर 2020। नाले में मिली नवजात बच्ची व बाद में लड़के के आत्महत्या मामले में आरोपित महिला को अग्रिम जमानत मिल गई है। विदित हो कि गत नगर के सात नंबर वार्ड में नाले में नवजात बच्ची मिली थी। इस मामले में बच्ची के पिता के तौर पर नाबालिग लड़के का नाम सामने आया। लड़का बाल सुधार गृह भी भेजा गया और वहां से घर लौटने पर उसने अप्रैल 2020 में आत्महत्या कर ली थी। बाद में बच्ची की डीएनए जांच में उसका डीएनए बच्ची की माँ के जीजा से मिला। इस पर लड़के के पिता ने आत्महत्या के लिये उकसाने के मामले में पड़ोस में रहने वाली महिला कोमल सहित अन्य पांच लोगों के खिलाफ मल्लीताल थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 306 के तहत मुकदमा दर्ज कराया था।
मामले में कोमल को आज जिला न्यायलय से अग्रिम जमानत मिल गयी। मामले में महिला के अधिवक्ता सुभाष जोशी व शारीक अली खान ने पैरवी करते हुए न्यायालय को बताया कि महिला का लड़के की आत्महत्या से कोई संबंध नही है। उसके खिलाफ आत्महत्या के चार माह के बाद पुलिस में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। वह केवल पड़ोसी है। उसके द्वारा नवजात बच्ची की मां को खोजने में पड़ोसी व जिम्मेदार नागरिक होने के कारण मदद की गयी। उसके अधिवक्ताओं ने बताया कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजीव कुमार खुल्बे की अदालत ने दोनों पक्षो को सुनने के बाद कोमल के अग्रिम जमानत प्रार्थना पत्र को स्वीकार कर लिया।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply

loading...