उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 25 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 13.3 मिलियन यानी 1.33 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

May 20, 2024

सहकर्मी युवती से शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने और अनुसूचित जाति की होने की वजह से शादी न करने वाले को उम्र कैद

0
Pyar Dhokha

-अभियुक्त ने पीड़िता से कहा था-यह पीड़िता का सौभाग्य है कि वह ब्राह्मण जाति का होते हुए भी अनुसूचित जाति की पीड़िता के साथ शारीरिक संबंध बना रहा है, इसके लिये पीड़िता को उसका एहसानमंद होना चाहिए

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अप्रैल 2024 (Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act)। जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुबीर कुमार की अदालत ने अनुसूचित जाति की एक सहकर्मी युवती को शादी का झांसा देकर डेढ़ वर्ष तक शारीरिक संबंध बनाने किंतु शादी के लिये अनुसूचित जाति की होने की वजह से शादी से मना करने के मामले में आरोपित को अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के अंतर्गत आजीवन कारावास और 20 हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया है। यह जनपद में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के अंतर्गत अब तक दिया गया सबसे बड़ा दंड बताया गया है।

Policemen, High Court, Court Order, Encroachment not removed after High Court order, Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act,मामले में अभियोजन की ओर से पैरवी करते हुये जिला शासकीय अधिवक्ता सुशील कुमार शर्मा ने न्यायालय को बताया कि हल्द्वानी के निजी चिकित्सालय में कार्यरत पीड़िता ने उसी चिकित्सालय में वार्ड ब्वॉय के पद पर कार्यरत रोहित पलड़िया पुत्र धर्मानंद पलड़िया निवासी गौलापार काठगोदाम जिला नैनीताल, मूल निवासी ओखलकांडा जिला नैनीताल पर आरोप लगाया कि उसने उसे शादी का झांसा देकर लगभग एक-डेढ़ वर्ष तक शारीरिक संबंध बनाये।

घोड़ाखाल मंदिर ले जाकर वहां मांग में सिंदूर भरा (Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act)

बार-बार शादी करने का दबाव बनाने पर घोड़ाखाल मंदिर ले जाकर वहां मांग में सिंदूर भरा और घर वालों को समझाकर शीघ्र हिंदू रीति-रिवाज से शादी करने का वादा किया, लेकिन बाद में जाति सूचक शब्दों के प्रयोग से अपमानित कर शादी से इंकार कर दिया। साथ ही उसके साथ मारपीट भी की और जान से मारने की धमकी भी दी। पीड़िता के इन आरोपों पर थाना हल्द्वानी पुलिस ने 16 फरवरी 2022 को रोहित के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 376(2)(एन), 504 व 506 तथा अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 की धारा 3(2)(वी) के अंतर्गत अभियोग दर्ज किया गया।

पीड़िता का सौभाग्य है कि…. (Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act)

मामले में अभियोजन एवं बचाव पक्ष की बहस को सुनने के बाद व खासकर अभियोजन की इस दलील पर कि अभियुक्त रोहित ने पीड़िता से कहा था कि यह पीड़िता का सौभाग्य है कि वह ब्राह्मण जाति का होते हुए भी अनुसूचित जाति की पीड़िता के साथ शारीरिक संबंध बना रहा है, इसके लिये पीड़िता को उसका एहसानमंद होना चाहिए। (Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act)

अभियोजन के इस आरोप पर न्यायालय ने रोहित के अपराध को अत्यधिक गंभीर अपराध माना और आरोपित रोहित पलड़िया को आरोपित को अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के अंतर्गत आजीवन कारावास और 20 हजार रुपये के अर्थदंड एवं अर्थदंड न चुकाने पर 6 माह के अतिरिक्त कारावास की सजा से दंडित किया है। अर्थदंड की धनराशि में से पीड़िता को भी 15 हजार रुपये प्रतिकर के रूप में दिये जाएंगे। (Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act)

इसके अलावा अभियुक्त को संहिता के अंतर्गत 10 वर्ष के कठोर कारावास व 20 हजार रुपये के अर्थदंड और अर्थदंड न चुकाने पर 6 माह के अतिरिक्त कारावास व अर्थदंड में से 15 हजार रुपये पीड़िता को देने, धारा 504 के तहत 1 वर्ष के कठोर कारावास एवं धारा 506 के तहत 1 वर्ष के कठोर कारावास का दंड भी दिया है। सभी सजाएं साथ-साथ चलेंगी। (Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act)

इसके अलावा भी पीड़िता को दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 357ए के तहत उत्तराखंड अपराध से पीड़ित सहायता योजना 2013 व उत्तराखंड यौन अपराध एवं अन्य अपराधों से पीड़ित/उत्तरजीवी महिलाओं हेतु प्रतिकर योजना 2020 के तहत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल को क्षतिपूर्ति की धनराशि दिलाने के लिये संदर्भित करने को भी कहा है। (Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act)

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे‘नवीन समाचार’पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप चैनल से, फेसबुक ग्रुप से, गूगल न्यूज से, टेलीग्राम से, कू से, एक्स से, कुटुंब एप से और डेलीहंट से जुड़ें। अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..।(Court ordered Life imprisonment in SC-ST Act)

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

गर्मियों में करना हो सर्दियों का अहसास तो.. ये वादियाँ ये फिजायें बुला रही हैं तुम्हें… नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला