News

पुलिस कोतवाली से फरार हुआ लूट का आरोपित

0 0

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Read Time:11 Minute, 55 Second

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 15 नवंबर 2020। दीपावली के दिन लूट का एक आरोपी काठगोदाम पुलिस कोतवाली के हवालात से शौच के बहाने पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। आरोपित को पकडने के लिए पुलिस ने बरेली तक दबिश दे दी है। आसपास के जंगल और गौला नदी के इलाके को छान मारा है, लेकिन उसका कोई पता नहीं चल पाया है। अब मामले में कुछ पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की तलवार भी लटक रही है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपित टेंपो चालक गोलू शर्मा निवासी बरेली को शुक्रवार रात पुलिस ने पकड़ा था। उस पर आरोप था कि उसने चार दिन पूर्व दामोदार सती नाम के व्यक्ति से नैनीताल रोड पर हाइडिल गेट के पास से टेंपो में सवारी करने के दौरान उनका पर्स लूट लिया था। इधर शनिवार सुबह शौचालय जाने के बहाने गोलू थाने से फरार हो गया। इसके बाद पुलिसकर्मियों में भी हड़कंप मच गया और हैड़ाखान रोड के जंगल व गौला नदी सहित पूरे आसपास के क्षेत्र में सघन तलाशी अभियान चलाने के बाद उसके मूल रूप से बरेली निवासी होने के कारण पुलिस की एक टीम बरेली जाकर उसके घर व दोस्तों से भी पूछताछ कर चुकी है, लेकिन उसका कुछ भी पता नहीं चल सका है। बताया गया है हालिया दिनों में क्षेत्र में ऐसी ही तीन लूट की घटनाएं हो चुकी हैं।

यह भी पढ़ें : दूसरे दिन भी हाथ नहीं आ पाया हल्द्वानी से नैनीताल लाते पुलिस अभिरक्षा से फरार हुआ कैदी

नवीन समाचार, नैनीताल, 8 जुलाई 2020। मंगलवार शाम नाबालिग से दुष्कर्म करने का एक आरोपी ठाकुरद्वारा मुरादाबाद यूपी निवासी भावेश कुमार पुत्र राजपाल सिंह नाम का एक कैदी पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया था। नैनीताल पुलिस ने भारी बारिश के बावजूद पूरी रात्रि और इधर बुधवार को भी उसकी तलाश में खतरनाक खाई में कॉंबिंग अभियान चलाया, बावजूद उसका कोई पता नहीं चल सका।
प्राप्त जानकारी के अनुसार काशीपुर के पुलिस कर्मी उसे हल्द्वानी के पॉस्को न्यायालय में पेश कर नैनीताल जिला कारागार में ले जा रहे थे। तभी वह जिला मुख्यालय से करीब 25 किमी दूर, दोगांव से आगे भेड़िया पखांण के पास खतरनाक खाई की ओर कूद कर फरार हो गया। ज्योलीकोट चौकी प्रभारी दिलीप कुमार ने बताया कि उसके चलती कार का दरवाजा खोलकर खाई की ओर भागने पर पुलिस कर्मी ने भी उसके साथ खाई में कूद मार दी थी। उसके पैर आदि में काफी चोट भी लगी है। इधर मंगलवार पूरी रात्रि भारी बारिश के बावजूद उसकी तलाश में खाई में उतरकर कॉबिंग की गई। वहीं तल्लीताल थाना प्रभारी विजय मेहता ने अपराह्न में बताया कि अभी भी उसके बारे में कोई जानकारी हाथ नहीं लग पाई है। बताया गया है कि आरोपित पर नाबालिग से दुष्कर्म, छेड़छाड़ के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 366, 16/17 व पास्को के तहत मुकदमा दर्ज है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले 24 जून को तल्लीताल थाना क्षेत्र में हल्द्वानी रोड पर नगर से करीब पांच किमी पहले एरीज मोड़ के पास से तथा उसके बाद 4 जुलाई को हल्द्वानी के सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज से फरार हो गया था। इस प्रकार एक पखवाड़े के भीतर ही जनपद से तीसरे कैदी के भागने की घटना सामने आई है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल बिग ब्रेकिंग ‘नवीन समाचार’ एक्सक्लूसिव : अभी-अभी हल्द्वानी से नैनीताल ले जाते कैदी पुलिस अभिरक्षा से फरार, इस पखवाड़े की तीसरी घटना

नवीन समाचार, नैनीताल, 7 जुलाई 2020। एक पखवाड़े के भीतर नैनीताल पुलिस के हाथों तीसरे कैदी के भागने की घटना सामने आई है। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार ठाकुरद्वारा मुरादाबाद यूपी निवासी भावेश पुत्र राजपाल सिंह नाम के कैदी को एक पुलिस कर्मी व एक होमगार्ड हल्द्वानी में पोस्को न्यायालय में पेश कर जिला कारागार नैनीताल ले जा रहे थे। तभी वह जिला मुख्यालय से करीब 25 किमी दूर, दोगांव से आगे भेड़िया पखांण के पास चलती गाड़ी से खतरनाक खाई की ओर कूद कर फरार हो गया। बताया गया है कि भागे हुए कैदी पर नाबालिग से दुष्कर्म, छेड़छाड़ के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 366, 16/17 व पास्को के तहत मुकदमा दर्ज है। पुलिस क्षेत्राधिकारी नैनीताल विजय थापा ने घटना की सूचना आने की पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें : 11 दिन के भीतर एक और कैदी पुलिस की अभिरक्षा से फरार, उत्तराखंड पुलिस की कैदियों की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 4 जुलाई 2020। हल्द्वानी के कोविद समर्पित सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज के बी वार्ड से शनिवार सुबह अपने ही मौसेरे भाई का एक हत्यारोपित सुरक्षा में तैनात चार पुलिस कर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया। हल्द्वानी पुलिस की मदद से सितारगंज पुलिस हत्यारोपी की तलाश में जुट गई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार फरार आरोपी विप्लव सरकार उर्फ रवि पुत्र भवानी ने 26 जून को शक्तिफार्म रुद्रपुर जेल कैम्प गांव में बहने वाली सूखी नदी में पूर्व वर्धमान थाना अम्बिका कालना पश्चिम बंगाल निवासी सुशांत सरकार की पत्थर से कुचलकर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद आरोपी विप्लव सुशांत का मोबाइल, एटीएम लेकर फरार हो गया था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपी को जेल ले जाने से पहले कोरोना जांच के लिए हल्द्वानी के सुशीला तिवारी अस्पताल में लाई थी। लेकिन चार सिपाहियों की तैनाती के बावजूद आरोपी भागने मे सफल हो गया। इससे कैदियों की सुरक्षा व्यवस्था पर एक बार पुनः सवालिया निशान खड़े हो गए हैं। उल्लेखनीय है कि बीती 23 जून की रात्रि को नैनीताल जिला कारागार लाते हुए भी एक कैदी पुलिस कर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया था। कोतवाल संजय कुमार ने बताया पुलिस की पूरी टीम आरोपी की तलाश में जुटी है, सीसीटीवी कैमरे में आरोपी गेट से बाहर को जाते हुए दिखाई दे रहा है।

यह भी पढ़ें : जेल ले जाया जा रहा आरोपित हुआ फरार, बाद में पकड़ कर जेल भेजा…

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 जून 2020। मंगलवार देर रात्रि जिला व मंडल मुख्यालय नैनीताल में पुलिस की अभिरक्षा में जिला कारागार नैनीताल ले जाया जा रहा एक बंदी पुलिसकर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया। हालांकि उसे बाद में करीब साढ़े पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के साथ क्षेत्र में सर्च अभियान चलाकर पकड़ लिया गया। बुधवार को उसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया।
मुख्यालय के तल्लीताल के थाना प्रभारी विजय मेहता ने बताया कि मूलतः यूपी के अमरोहा जनपद के ग्राम तेहरी तहसील हसनपुर का और वर्तमान में गाजियाबाद के छीपीयाला लालकुआं में सूर्या हाइट्स में रहने वाले मनोत्तम त्यागी उर्फ मनु त्यागी पुत्र सुबोध त्यागी को वहीं के निवासी अंकुर त्यागी पुत्र मनोज कुमार त्यागी के साथ जसपुर पुलिस के आरक्षी प्रदीप कुमार व ज्ञानेंद्र कुमार मुतैना धोखाधड़ी व मारपीट आदि से संबंधित मामले में न्यायालय में पेश कर वैगनआर कार से जिला कारागार लेकर आ रहे थे। तभी रात्रि करीब साढ़े आठ बजे वह एरीज मोड़ के पास से कार का दरवाजा खोलकर फरार हुआ। इस पर जसपुर पुलिस के कर्मियों ने तल्लीताल थाने को इसकी सूचना दी। यहां दरोगा दीपक बिष्ट के नेतृत्व में जसपुर पुलिस के साथ ही तल्लीताल थाने के उपेंद्र राठी ने क्षेत्र में सर्च अभियान चलाया। फलस्वरूप रात्रि 2 बजकर 25 मिनट पर उसे रूसी बाईपास के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। उसके खिलाफ पुलिस की अभिरक्षा से भागने का नया मुकदमा भी दर्ज किया गया और बुधवार को उसे मुख्यालय में न्यायालय में पेश कर न्यायाध्ीलय के आदेश पर जेल भेज दिया।
उसके खिलाफ थाना तल्लीताल में फरारी का मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। इसके बाद उसे आज पुनः न्यायालय में पेश कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। बताया गया है कि जसपुर पुलिस के जवान पहले उसे हलद्वानी जेल ले गए थे, लेकिन वहां मना करने पर राज्य में उसे नैनीताल जिला कारागार लाया जा रहा था तभी यह घटना घटित हुई।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

loading...