News

हल्द्वानी में नाबालिग ने भी दिया वोट ? मुकदमा दर्ज

समाचार को यहाँ क्लिक करके सुन भी सकते हैं
प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 26 फरवरी 2022। बीते 14 फरवरी को हुए उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव को 12 दिनों का समय बीतने के बाद गलत तरीके से हुए मतदान को लेकर एक मुकदमा दर्ज किया गया है। बताया गया है कि सोशल मीडिया पर दो दिन पूर्व यानी 24 फरवरी से एक ऐसा ही वायरल हो रहा है, जिसमें एक बच्चा ईवीएम में वोट डालता हुआ दिखाई दे रहा है।

वायरल वीडियो में एक व्यक्ति के कहने पर बच्चा ईवीएम मशीन में बटन दबाता दिखाई दे रहा है। इस मामले के सोशल मीडिया में सामने आने पर इसमें मुकदमा दर्ज हो गया है। यह वीडियो हल्द्वानी विधानसभा क्षेत्र का बताया जा रहा है।

इसलिए सहायक रिटर्निंग अधिकारी कमल जोशी ने सोशल मीडिया में वायरल हुए इस वीडियो को लेकर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम के तहत अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल : शहरी क्षेत्रों में पुरुषों तो ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं ने अधिक बरसाये वोट

number of female voters increase comparison to male voters in uttarakhand  poll - उत्तराखंड में महिलाओं ने पुरुषों से ज्यादा किया मतदानडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 16 फरवरी 2022। नैनीताल विधानसभा की आधे से अधिक मतदान केंद्रों पर महिलाएं पुरुषों से आगे रही हैं। जहां कुल मतदाओं के मामले में नैनीताल विधानसभा के 164 मतदान केंद्रों में मतदान हेतु 58 हजार 184 पुरुष व 51 हजार 786 महिला मतदाता पंजीकृत थे, यानी महिलाओं व पुरुषों का अंतर 6386 का था, किंतु मतदान करने में यह अंतर केवल 1877 का रह गया। यह भी देखा गया कि खासकर बेतालघाट के ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं पुरुषो की अपेक्षा और नैनीातल-भवाली के शहरी व शहरी क्षेत्रों के करीब के गांवों में पुरुष महिलाओं की अपेक्षा मतदान में आगे रहे। यह विष्लेशण इसलिए भी महत्वपूर्ण हो सकता है कि नैनीताल विधानसभा में एक महिला प्रत्याशी सरिता आर्य भाजपा से प्रत्याशी थीं।

उदाहरण के लिए शुरुआती 10 मतदान केंद्रों में से 8 मतदान केंद्रों पर महिलाएं पुरुषों के मुकाबले मतदान करने में आगे रहीं। विधानसभा के मतदान केंद्र संख्या 1 मल्ली सेठी बूथ पर 178 पुरुषों एवं 241 महिलाओं, मतदान केंद्र संख्या 2 तल्ली सेठी में 104 पुरुषों के सापेक्षा 127 महिलाओं, मतदान केंद्र संख्या 4 विसगुली में 93 महिलाओं के सापेक्ष 123 महिलाओं, मतदान केंद्र संख्या 5 बेतालघाट में 386 पुरुषों के सापेक्ष 388 महिलाओं, मतदान केंद्र संख्या 6 अमेल में 252 पुरुषों के सापेक्ष 353 महिलाओं, मतदान केंद्र संख्या 8 नौघर में 132 पुरुषों के सापेक्ष 157 महिलाओं, मतदान केंद्र संख्या 9 न्यूनी नवीन में 195 महिलाओं के सापेक्ष पुरुषों के सापेक्ष 218 महिलाओं व मतदान केंद्र संख्या 10 रीची नया भवन में 76 पुरुषों के सापेक्ष 85 महिलाओं ने मतदान किया।

यानी शुरुआती 10 मतदान केंद्रों में से केवल कांडा व तौराड़ में भी महिलाओं से अधिक पुरुष मतदाता रहे। यह स्थिति तब है जबकि इन सभी मतदान केंद्रों में महिलाओं से अधिक पुरुष मतदाता पंजीकृत थे। इनके अलावा भी अगले सभी 10 मतदान केंद्रों जितुवापीपल, ढोलगांव, कालाखेत, हल्दयानी, सोनाली, चंद्रकेाट, खैरानी, हल्सो कोरण, तल्ला बर्धो व घंघरेटी में महिला मतदाता पुरुष मतदाताओं से मतदान करने में आगे रहीं।

जबकि महिलाओं के मुकाबले पुरुषों के अधिक मतदान करने वाले बूथों की बात करें तो रिखोली, ओड़ावास्कोट, तिवारीगांव, हली, हरतपा, धुना, भवालीगांव, भवालीगांव तोक चक विशोड़, बुधलाकोट, बारगल, तल्ला निगलाट, खलाड़, खैरना, गरमपानी, मझेड़ा, तारीखेत, उलगौर, भद्यून, धूरा, ढौकाने, धुलीबाज, टिकुरी, श्यामखेत, ल्वेशाल, महरागांव के कक्ष 1 व 2, सोनगांव, तथा नैनीताल शहर के अयारपाटा के कक्ष 1 को छोड़कर नैनीताल व भवाली के सभी 48 बूथों पर, तिरछाखेत, गेठिया, भूमियाधार, रूसी, मनोरा, छीड़ा गांजा, ज्योलीकोट, पटवाडांगर, नाईसेला, खुर्पाताल, गहलना, मंगोली, नलनी, थापला, बजून, रौखड़, अधौड़ा, बगड़ मल्ला, महरोड़ा, पांडेगांव, बागजाला फतेहपुर, स्यात, डोला, सनरा तल्ला, बधानी, बांसी, सौड़, घुघुखान, डॉन, अमगढ़ी व अमतोली में यानी 164 में से करीब 110 बूथों पर पुरुषों ने महिलाओं से अधिक मतदान किया। जबकि बोहरागांव व थपलिया गांजा में बराबर महिलाओं व पुरुषों ने मतदान किया। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : मतदान के आधार पर किए जा रहे जीत के दावे, जानें किसके जीतने की हो रही कितनी चर्चा…

-भाजपा व कांग्रेस में से बताया जा रहा नैनीताल का विधायक
डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 15 फरवरी 2022। सोमवार को लोकतंत्र के महापर्व व ‘कौतिक’ कहे गए मतदान का दिन गुजर जाने के अगले दिन मंगलवार का दिन मतदाताओं एवं उनके समर्थकों के साथ ही गली, मोहल्लों व नुक्कड़ों आदि पर आम मतदाताओं में भी चुनाव को लेकर कयास लगाते देखे गए। यहां क्लिक कर देंखे नैनीताल विधानसभा के किस बूथ पर हुआ कितना मतदान:

भाजपा-कांग्रेस के प्रत्याशी भी आज पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ अपने बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं के साथ मतदान के आंकड़े जुटाते रहे। इसके साथ इतना तय दिखा कि मुकाबला भाजपा व कांग्रेस के प्रत्याशियों में रहा है। जबकि आम आदमी पार्टी सहित अन्य प्रत्याशी अनेकों बूथों से गायब दिखे। खासकर बसपा इस बार पूरी तरह से नदारद रही और उसका वोट कांग्रेस की ओर गया। उत्तराखंड क्रांति दल भी कुछ ही बूथों पर सिमटी रही और उनकी ओर से भी प्रयास बेहद सीमित रहे। आम आदमी पार्टी भी प्रबंधन की कमी से जनता की आंखों में नहीं चढ़ पाई।

वहीं भाजपा-कांग्रेस की बात की जाए तो अपने-अपने मजबूत गढ़ों में दोनों पार्टियों के प्रत्याशी मजबूत रहे। इन दोनों पार्टियों में किसी तरह का छुपा हुआ भितरघात नहीं रहा। इस तरह प्रत्याशियों को अपनों से नहीं, केवल विरोधियों से ही लड़ने और अपने किले मजबूत करने का समय मिला। इसलिए दोनों पक्षों के लिए जीत बताने वालों की कमी नहीं है। उन्हें भाजपा छोड़कर कांग्रेस में जाने के बाद वहां माहौल बनाने में अधिक समय मिला, और सरिता आर्य व हेम आर्य के कांग्रेस छोड़ जाने के बाद पार्टी में उनके खिलाफ किसी तरह का विरोध भी नहीं बचा।

जबकि कांग्रेस से भाजपा में आई सरिता आर्य चूंकि देर से भाजपा में आईं, उन्हें पार्टी में पूरी स्वीकार्यता भी मिली। दूसरे दावेदार भी देर-सबेर उनके पक्ष में प्रचार करने आए और सही मायनों में वह उनके खिलाफ किसी तरह का दुष्प्रचार करने की स्थिति में भी नहीं थे। फिर भी उन्हें भाजपा की रीति-नीति में समाहित होने के लिए अपेक्षित समय नहीं मिल पाया। संसाधनों की कमी भी उनके साथ रही। उनकी पार्टी चुनाव प्रचार के लिए अपने ही कार्यकर्ताओं के भरोसे रही और कार्यकर्ता हर मतदाता तक संपर्क नहीं कर पाए। संसाधनों की कमी की वजह से बाहरी प्रचार पार्टियां भाजपा की ओर से कहीं नहीं भेजी जा सकीं। फिर भी भाजपा के मजबूत संगठन की वजह से भाजपा कार्यकर्ता कमोबेश सभी बूथों पर चुनाव के आखिर तक अपने बस्तों के साथ जमे रहे। खुद सरिता के गृह बूथ भूमियाधार में तो पहली बार सबसे देर साढ़े सात बजे तक मतदान हुआ।

इन स्थितियों के बाद जहां कांग्रेस के नगर मंडल अध्यक्ष आनंद बिष्ट के अनुसार भाजपा को भरोसा है कि नैनीताल नगर में हमेशा से रही कमजोरी के बावजूद यदि पार्टी को यहां 1000 वोट कम भी मिलते हैं, तो भी पार्टी नैनीताल मंडल में डेढ़-दो हजार वोटों से आगे रहेगी। कोटाबाग के 12 बूथों में भाजपा करीब 1500 से जीतेगी। घटगढ़ से ऊपर खुर्पाताल के बूथों पर भी भाजपा 600 से 800 और रूसी मनोरा बल्दियाखान क्षेत्र में 700 वोटों से आगे रहेगी। पार्टी भवाली नगर में कुछ पीछे रह सकती है, परंतु कुल मिलाकर भवाली मंडल के साथ गरमपानी व रामगढ़ क्षेत्र में भी आगे रहेंगे। भाजपा बेतालघाट मंडल में भी पीछे रह सकती है, किन्तु इसके बावजूद भाजपा प्रत्याशी करीब पांच हजार वोटों के अंतर से चुनाव जीतेगी। वहीं भाजपा प्रत्याशी सरिता आर्य ने पांच से 10 हजार वोटों से अपनी जीत का भरोसा जताया।

वहीं कांग्रेस पार्टी की बात करें तो कांग्रेस प्रत्याशी संजीव आर्य के व्यक्तित्व व पिता यशपाल आर्य की विरासत व मतदाताओं में दोहरे प्रभाव को देखते हुए उनके पक्ष में जनमत दिख रहा है। प्रत्याशी संजीव आर्य ने कहा कि विधानसभा में कम मतदान होने के बावजूद यह उनके पक्ष में रहा कि वोट देने वाले जमीनी लोग उनके पक्ष में जमकर मतदान करने पहुंचे, जबकि सोशल मीडिया पर सक्रिय संपन्न इलाकों में मतदान का प्रतिशत काफी कम रहा। अनुसूचित एवं अल्पसंख्यक मतदाताओं के अधिसंख्य मत भी कांग्रेस की झोली में गए।

इस आधार पर संजीव ने दावा कि वह नैनीताल नगर से तीन हजार एवं शेष विधानसभा से सात हजार से और इस प्रकार पूरी विधानसभा में 10 हजार वोटों के अंतर से जीत दर्ज करेंगे। जबकि संजीव के चुनाव प्रबंधन से जुड़े एक कार्यकर्ता ने कहा कि संजीव की जीत का आंकड़ा कम-कम करके जोड़ने पर भी 6 हजार वोटों का निकल रहा है। इससे इतर आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी हेम आर्य ने दावा किया कि उनका मुकाबला भाजपा प्रत्याशी सरिता आर्य से रहा और वह करीब 23 हजार वोट प्राप्त कर दो से तीन हजार वोटों के अंतर से जीत दर्ज करेंगे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल में भाजपा प्रत्याशी के बूथ पर डेढ़ घंटे बाद तक हुआ मतदान, 54.92 फीसद हुआ कुल मतदान

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 14 फरवरी 2022। सोमवार को हुए विधानसभा चुनाव में नैनीताल के मतदाता पांच वर्ष में एक बार मिलने वाले मौके के तहत 5 प्रत्याशियों में से अगले पांच वर्ष के लिए अपने भाग्यविधाता का चुनाव करने के लिए मतदान हेतु निकले। यह भी खास रहा कि भाजपा प्रत्याशी के गृह बूथ भूमियाधार में शाम साढ़े सात बजे यानी निर्धारित समय से डेढ़ घंटे बाद तक मतदान हुआ।

रिटर्निंग ऑफीसर प्रतीक जैन ने बताया कि यहां मतदान के शाम छह बजे के निर्धारित समय पर मतदान बूथ पर मौजूद 127 मतदाताओं को पर्चियां दी गईं और उन्होंने साढ़े सात बजे तक मतदान किया। इसके साथ नैनीताल विधानसभा में मतदान का कुल प्रतिशत 54.92 फीसद रहा यानी 60396 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

इससे पूर्व नैनीताल विधानसभा में सुबह 9 बजे तक यानी शुरुआती एक घंटे में 9 फीसद तथा 11 बजे तक यानी अगले दो घंटों में मात्र 8 फीसद की बढ़ोत्तरी के साथ कुल 17 फीसद मतदान हुआ। इसके बाद भी अगले एक घंटे में यानी 12 बजे तक 7.83 फीसद यानी कुल मिलाकर 24.83 फीसद, इसके अगले दो घंटों में मात्र 6.64 फीसद के साथ कुल 31.47 फीसद मतदान हो सका। अलबत्ता इसके बाद मतदान ने गति पकड़ी और दो से तीन बजे के बीच एक घंटे में 16.15 फीसद के साथ 47.62 फीसद एवं पुनः अगले एक घंटे में यानी पांच बजे तक मात्र 5.58 फीसद के साथ कुल 53.2 फीसद मतदान हो गया। जबकि आखिर तक मतदान का प्रतिशत इससे मात्र 1.72 फीसद अधिक 54.92 फीसद रहा।

इस तरह हुआ मतदान
इस हेतु सुबह सबसे पहले साढ़े छह बजे से मतदान केंद्रों पर ईवीएम में मॉक पोल की प्रक्रिया हुई और इसके बाद सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ। कई बूथों पर मतदान शुरू होने से पहले ही मतदाता पहुंचने शुरू हो गए थे। मुख्यालय सहित शहरों में मतदान की गति धीमी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में अपेक्षाकृत तेज रही। शहर में भी पॉश इलाकों में कम मतदाता मतदान के लिए निकले एवं बस्तियों में रहने वाले तथा मध्यम व कमजोर वर्ग के मतदाताओं में मतदान के प्रति अधिक जोश दिखा। कई मतदाता बीएलओ से मतदान पर्चियां न मिलने के कारण मतदान न करने देने के भ्रम में भी मतदान को नहीं निकले। अपराह्न में मतदान प्रतिशत कम होता देख भाजपा के कार्यकर्ताओं ने मतदान न कर पाए मतदाताओं को मतदान करने हेतु प्रेरित करने के लिए प्रयास तेज किए।

पिछले चुनावों में इतना हुआ मतदान
नैनीताल। नैनीताल विधानसभा में वर्ष 2002 में हुए विधानसभा चुनाव में 40623, वर्ष 2007 में 50495, वर्ष 2012 में 51422 और 2017 में 61261 मतदाताओं ने मतदान किया था। 2017 व इस वर्ष मुख्य मुकाबले में तीन पुराने प्रत्याशी ही चुनाव मैदान में हैं, और तीनों ने ही अपने दल बदले हैं। 2017 में संजीव आर्य भाजपा के प्रत्याशी थे और उन्हें 30036 मत मिले थे, जबकि सरिता आर्य को कांग्रेस की प्रत्याशी के रूप में 22789 मत मिले थे। जबकि निर्दलीय हेम आर्य 5505 मत प्राप्त करने में सफल रहे थे। इस बार संजीव आर्य कांग्रेस व सरिता आर्य भाजपा से तथा हेम आर्य आम आदमी पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : चुनाव के दौरान मतदान कर्मी व मतदाता को आया हृदयाघात, एक की मौत

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 14 फरवरी 2022। मतदान के दौरान एक वृद्ध एक मतदान कर्मी को हृदयाघात आने की सूचना है। प्राप्त जानकारी के अनुसार किच्छा में मतदान करने गए एक 68 वर्षीय वृद्ध इसरार अली पुत्र सुक्कन अली निवासी वार्ड नंबर 8 किच्छा की लाइन में लगे होने के दौरान हृदयाघात से मौत हो गई। इससे वहां हड़कंप मच गया। बताया गया है कि इसरार अली सोमवार दोपहर अपने परिवार के साथ मतदान करने के लिए प्राथमिक विद्यालय स्थित मतदान केंद्र पर गए थे। लाइन के लगे होने के दौरान अचानक ही वह बेहोश होकर गिर गए, और उनकी मौत हो गई।

उधर, भीमताल में राजकीय प्राथमिक विद्यालय रीखाकोट बूथ में तैनात मतदान अधिकारी-3 नवीन चंद्र जोशी को भी हृदयाघात आने की सूचना है। बताया गया है कि रीखाकोट बूथ सड़क से बूथ 4 किमी की पैदल दूरी पर स्थित है। मौके को एम्बुलेंस भेजी जा रही है। तथा पीड़ित मतदान कर्मी को डोली से सड़क तक लाया जा रहा है प्रशासन उन्हें खनस्यूं तक डोली से लाकर वहां से एयरलिफ्ट करने के प्रबंध में जुटा है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

::::LIVE::::यहां देखें मतदान की पूरी अपडेट….

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 14 फरवरी 2022। उत्तराखंड में लोकतंत्र के महापर्व के लिए मतदान सुबह आठ बजे शुरू हो गया है। इस पेज पर हम मतदान से संबंधित यथासंभव अधिकाधिक जानकारियां साझा करेंगे। इसलिए ताजा जानकारियों के लिए इस लिंक को रिफ्रेश करते रहें। हमारे पाठक हमें 9412037779 नंबर पर अपने मतदान केंद्र की सूचनाएं, अपडेट, फोटो इत्यादि भी भेज सकते हैं।

ताजा जानकारी के अनुसार राज्य भर के मतदान केंद्रों में ईवीएम यानी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों को प्रत्याशियों के एजेंटों के समक्ष शून्य वोट प्रदर्शित करने का कार्य किया जा रहा है। दूसरी ओर सुबह आठ बजे ही मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए मतदान केंद्रों पर पहुंचने शुरू हो गए हैं। कुछ मतदान केंद्रों पर मतदाताओं के पूरे परिवार के साथ पहुंचने से दर्जन भर लोग भी लाइनों में खड़े नजर आ रहे हैं। कुछ केंद्रों पर मतदान शुरू भी हो गया है।

अन्य अपडेट नीचे :

  • नैनीताल विधानसभा में दो बजे तक हुआ 31.47 व 3 बजे तक 47.62 प्रतिशत मतदान
  • देहरादून में दूल्हा-दुल्हन ने शादी की रस्मों से पहले किया मतदान

    80 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों को डोली से लाया गया मतदान केंद्र

  • बनभूलपुरा में सपा और कांग्रेस समर्थकों के बीच झड़प। फोर्स को मतदान केंद्र के चारों तरफ से कवर के लिए कहा गया। पुलिस ने पहले लोगों को समझाया उसके बाद लाठियां भांजकर खदेड़ा। बूथ के आसपास सुरक्षा व्यवस्था और बढ़ा दी गई है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।

    हल्द्वानी ब्लॉक में 90 व 76 वर्षीय जेठानी-देवरानी ने भी डाला वोट।

    लालकुआँ के गौलापार स्थित खेड़ा स्थित मतदान केंद्र पर ईवीएम खराब होने से लगी मतदाताओं की लंबी लाइन।

  • सुल्तानपुर पट्टी के बालिका इंटर कालेज 120 वर्ष की महिला फूल वती ने  मतदान किया।
  • पूर्व मुख्यमंत्री और लालकुआं से कांग्रेस प्रत्याशी हरीश रावत देहरादून की मतदाता सूची में नाम होने के कारण अपनी विधानसभा में नहीं डाल सके वोट
  • गंगोलीहाट विधान सभा की हीपा बूथ पर मतदान बहिष्कार। अभी तक एक भी मतदाता मतदान करने बूथ पर नही पहुंचा। पूर्व से ही सड़क की मांग को लेकर बहिष्कार की चेतावनी दी थी।
  • काशीपुर में मानपुर नई बस्ती के 284 परिवारों ने मालिकाना हक नहीं मिलने के मुद्दे पर किया चुनाव बहिष्कार। बोले-तीन महीने बाद यदि नहीं मिला तो वापस पौड़ी कूच करेंगे
  • डीडीहाट के किरौली बूथ पर किरौली गाव निवासी दूल्हे गौरव कन्याल सहित बारातियों ने किया मतदान। मतदान के बाद बारात हल्द्वानी को रवाना हुई।
  • चंपावत विधानसभा के टनकपुर स्थित जीजीआईसी के बूथ नंबर 141 को चुनाव आयोग द्वारा आदर्श बूथ बनाया गया है। लेकिन इस बूथ पर सभी व्यवस्थाएं अन्य बूथों की तरह ही है।
  • उत्तराखंड में 11 बजे तक 18.97 फीसद मतदान हुआ ।

    Image
    विधानसभा क्षेत्र कपकोट स्थित मतदान केंद्र में वोट डालने के लिए पहुंचे 100 वर्षीय श्री नारायण सिंह को एसडीएम कपकोट ने शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया।
  • नैनीताल विधानसभा में सुबह 11 बजे तक 17% मतदान हुआ

  • ऋषिकेश के नाभा हाउस मतदान केंद्र पर बने बूथों में अंधेरे में किए जा रहे मतदान को लेकर भाजपा प्रत्याशी प्रेमचंद और सुरक्षाकर्मी में हुई झड़प
  • Image
    उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री श्री @tsrawatbjp जी ने अपने परिवार के साथ लोकतंत्र के महापर्व में अपने बहुमूल्य मत का प्रयोग किया।

    Image
    भाजपा के वरिष्ठ नेता सतपाल महाराज ने पौड़ी ज़िले के चौबट्टाखाल क्षेत्र में मतदान किया।
  • ऊधमसिंह नगर जिले में किच्छा,खटीमा और गदरपुर ब्लॉक के पांच से अधिक मतदान केंद्रों पर ईवीएम, वीवीपैट खराब होने से मतदान प्रभावित हुआ।
  • टनकपुर के नायकगोठ बूथ पर ईवीएम मशीन खराब होने के बाद उसे बदलकर मतदान शुरू कराया गया।
  • अल्मोड़ा जिले के द्वाराहाट विधानसभा के छतगुल्ला और सुरना बूथ की ईवीएम मशीनों में और चौखुटिया के गनाई बूथ पर भी मशीन में तकनीकी खराबी आने के कारण मतदान प्रभावित हुआ।
  • विधानसभा डीडीहाट के बूथ संख्या-138 में एक वोटर के खिलाफ मतदान की गोपनीयता भंग करने के मामले में एफआईआर दर्ज की गई है।
  • Image
    सहसपुर विधानसभा के अंतर्गत बूथ नं. 64 पर 100 वर्षीय श्री लाल बहादुर ने मतदान किया।

    Image
    सहसपुर विधानसभा के अंतर्गत 100 वर्षीय मो. यामीन ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।
  • सुबह 9 बजे तक उत्तराखंड में कुल मिलाकर 5.15 प्रतिशत, जबकि बागेश्वर जिले में सबसे कम 2.31, रुद्रप्रयाग 5, नैनीताल में 5, अल्मोड़ा में 4.19, देहरादून में 5.5, पिथौरागढ़ में 9, हरिद्वार में 6.5 प्रतिशत मतदान हुआ है।
  • https://twitter.com/sharmalokesh6/status/1493039525764820995
  • अल्मोड़ा विधानसभा में 5 ईवीएम में खराबी के कारण 20 मिनट देरी से मतदान शुरू हो पाया। सोमेश्वर विधानसभा में भी दो ईवीएम खराब मिलीं।
  • सुबह से ही नगर में भाजपा के नेता व पदाधिकारी अपने बूथों पर ‘मेरा बूथ-सबसे मजबूत’ नारे के साथ पन्ना प्रमुख की भूमिका में सक्रिय दिखे। नगर के सूखाताल, शेरवानी, वैभरली कंपांउंड, हंस निवास व नैनीताल क्लब बूथों पर पार्टी के काउंटरों पर काफी भीड़ दिख रही है। सीआरएसटी बूथ पर भाजपा के साथ कांग्रेस के काउंटर पर भी भीड़ दिखी।
  • CM पुष्कर धामी ने अपनी मां एवं पत्नी के साथ किया मतदान Image
Image
CM पुष्कर धामी ने अपनी मां एवं पत्नी के साथ किया मतदान

  • सुबह 9 बजे तक नैनीताल विधानसभा में 9 प्रतिशत मतदान हो चुका है।

आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply