नैनीताल समाचार : नैनीताल में हुई वॉल पेंटिंग प्रतियोगिता के विजेताओं की हुई घोषणा, इन्हें मिलेंगे हजारों के पुरस्कार

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

नवीन समाचार, नैनीताल, 22 नवंबर 2019। विगत 9 नवम्बर को राज्य स्थापना वर्षगांठ के अवसर पर डीएम सविन बंसल की पहल पर विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों द्वारा ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ का संदेश देने के लिए जनपद में अनेक स्थानों पर ‘वॉल पेंटिंग’ कराई गई थी। डीएम के निर्देश पर इस आयोजन को बाल विकास विभाग के तत्वावधान में प्रतियोगात्मक वॉल पेंटिंग कार्यक्रम में बदल दिया गया है।

राज्य के सभी प्रमुख समाचार पोर्टलों में प्रकाशित आज-अभी तक के समाचार पढ़ने के लिए क्लिक करें इस लाइन को…

जानकारी देते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट ने बताया कि समूह प्रतियोगिता में एसएसजे कैम्पस अल्मोड़ा के लक्ष्य शाह, चांदनी देव, तरुण कुमार, पंकज जायसवाल, दिव्या रुबाली, उत्तम सरदार को प्रथम पुरस्कार के लिए तथा कुमाऊं विवि नैनीताल की कविता परिहार, अनिल बिष्ट, भावना आर्या, शिवानी कृष्णा को डीएम कार्यालय में पेंटिंग के लिए द्वितीय पुरस्कार तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ती नाजिया परवीन, शिवानी सिंह, हेमा को फ्लैट मैदान में पेंटिंग किये जाने पर तृतीय पुरस्कार के लिए चयनित किया गया तथा 10 ग्रुपों को सांत्वना पुरस्कार के लिए चयनित किया गया। वहीं व्यक्तिगत पेंटिंग प्रतियोगिता में एसएसजे परिसर अल्मोड़ा के चंदन आर्य को प्रथम पुरस्कार, बागेश्वर के भाष्कर भौर्याल को द्वितीय तथा बलविंदर कौर को तृतीय पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है। इसके अलावा विद्यालयों की वॉल पेंटिंग प्रतियोगिता में भारतीय शहीद सैनिक विद्यालय नैनीताल ने प्रथम, मोहन लाल साह बाल विद्या मंदिर ने द्वितीय तथा जीजीआईसी नैनीताल ने तृतीय स्थान जबकि मोहन लाल साह बाल विद्या मंदिर के ग्रुप-2 को सांत्वना पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है। उन्हांेने बताया कि प्रथम पुरस्कार के लिए 5000, द्वितीय स्थान के लिए 3000, तृतीय पुरस्कार के लिए 2000 एवं सांत्वना पुरस्कार में 1000 रुपये की नकद धनराशि जल्द ही आयोजित होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रम में दी जाएगी।

यह भी पढ़ें : मध्य रात्रि घरों में संदिग्धों के घुसने की खबर से रही दहशत, पुलिस ने एक दबोचा

नवीन समाचार, नैनीताल, 12 नवंबर 2019। मुख्यालय के सूखाताल के आवासीय क्षेत्र में मध्य रात्रि करीब 12 बजे दो संदिग्ध युवकों के घरों में घुसने की खबर से दहशत फैल गई। इस पर स्थानीय लोग एकत्र हो गए और पुलिस को सूचना दी। पता चला कि एक युवक जूते बाहर खोलकर एक घर में घुसा था। उसके जूते बाहर खुले हुए मिले। इससे पहले वह अन्य घर में भी गया था।
एएसआई सत्येंद्र गंगोला, एचसीपी दिनेश शर्मा व आरक्षी प्रेम प्रकाश आदि पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे और युवकों की तलाश की, इस पर एक युवक पुलिस के हत्थे चढ़ गया, जबकि दूसरे का कोई पता नहीं चल पाया। पुलिस कर्मी युवक को अपने साथ ले आए। पुलिस के अनुसार वह काफी नशे की हालत में था। पुलिस ने उसका मेडिकल परीक्षण कराया। मेडिकल में उसके शराब के नशे में होने की पुष्टि हुई। पुलिस ने उसका पुलिस एक्ट में चालान कर दिया है। पुलिस के अनुसार युवक की पहचान 21 वर्षीय हिमांशु कुमार पुत्र सुनील कुमार निवासी हेड पोस्ट ऑफिस रोड मल्लीताल के रूप में हुई है। बताया गया है कि युवक कहीं शादी में गया था और वहां से नशे में सूखाताल के घरों में घुस गया। उधर, स्थानीय लोगों में क्षेत्र में पुलिस गस्त न होने व सीसीटीवी कैमरे न लगे होने पर भी नाराजगी देखी गई।

यह भी पढ़ें : ट्रेवल्स संचालक भाइयों पर अपने कर्मचारी को बंधक बनाकर मारपीट करने का मुकदमा दर्ज

नवीन समाचार, नैनीताल, 23 सितम्बर 2019। मल्लीताल कोतवाली पुलिस ने तीन युवकों के खिलाफ एक युवक को कमरे में बंधक बनाकर मारपीट करने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार करीब पखवाड़े भर पहले नगर के मल्लीताल रिक्शा स्टेंड स्थित ट्रेवल्स कंपनी में कार्यरत मल्लीताल स्टाफ हाउस निवासी दीपक टम्टा की गत दिवस अपने मालिक से किसी बात पर कहासुनी हुई। मामला बढ़ने पर ट्रेवल्स संचालक भाइयों ने एक कमरे में बंद कर उसके साथ मारपीट की, और जान से मारने की धमकी दी। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने उसे बीडी पांडे जिला अस्पताल पहुंचाया। रविवार को दीपक की तहरीर पर पुलिस ने तरुण बिष्ट, हर्षित बिष्ट और बबलू सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 342 व 506 के तहत मामला दर्ज कर मामले की जांच एसआई जीआर कोहली को सौंपी गई। है। रविवार को पुलिस ने मुआयना कर सीसीटीवी फुटेज भी खंगाली। नगर कोतवाल अशोक कुमार सिंह ने बताया कि पीड़ित के प्रार्थना पत्र पर हुई जांच के बाद मामला पंजीकृत किया गया है।

यह भी पढ़ें : व्यवसायी महिला ने पेश की इमानदारी की मिसाल

चित्रा साही

नवीन समाचार, नैनीताल, 17 सितंबर 2019। नगर के मल्लीताल बड़ा बाजार स्थित प्रतिष्ठान आगरा मिष्ठान्न भंडार की स्वामिनी, चित्रा साही पत्नी अनूप साही ने इमानदारी की बड़ी मिसाल पेश की। चित्रा को मल्लीताल रिक्शा स्टेंड के पास एक जेंट्स पर्स सड़क पर गिरा हुआ मिला। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। पर्स में करीब साढ़े नौ लाख रुपए के चेक एवं 7000 से अधिक की नगदी, कई एटीएम कार्ड के साथ ही पर्स स्वामी के पूरे परिवार के सदस्य के आधार कार्ड सहित अन्य जरूरी कागजात थे। उन्होंने तत्काल इसकी सूचना रिक्शा स्टेंड चौकी पर मौजूद सीओ को दी। तभी पर्स स्वामी मल्लीताल कोतवाली में अपने पर्स की गुमशुदगी दर्ज कराने पर आये जिन्हें पुष्टि के उपरांत पर्स सोंप दिया गया। पर्स स्वामी सक्सेना का कहना था कि उन्होंने नंदा देवी मेले का ठेका लिया था। इसी से संबंधित चेक व अन्य कागजात पर्स में थे। मोटरसाइकिल में चलने के दौरान ये गिर गये थे। उन्होंने ईमानदारी की मिसाल पेश करने के लिए चित्रा साही की मुक्तकंठ से प्रशंसा की।

Leave a Reply

Loading...
loading...