उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 16 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 12.6 मिलियन यानी 1.26 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

March 3, 2024

नैनीताल में इतिहास बन जाएंगे पैडल रिक्शे, 50 ई-रिक्शे चलाने सहित हाईकोर्ट ने दिए अनेक बड़े निर्देश (Nainital Traffice Problem)

0

Nainital Traffice Problem, Paddle rickshaws will become history in Nainital, including running 50 e-rickshaws, the High Court gave many big instructions. New News, Nainital, June 8, 2023. A division bench of Uttarakhand High Court Chief Justice Justice Vipin Sanghi and Justice Rakesh Thapliyal has issued major orders to solve the problem of traffic jam in Nainital during the tourist season.
According to the order issued to the government, all the pedal rickshaws plying on the mall road of the city should be removed within two weeks and replaced by increasing the number of e-rickshaws from the present 11 to at least 50 and allocating them if there are more candidates to take them. It has been asked to do through lottery. After this order, the pedal rickshaws which used to run till their ‘coin’ and were considered a separate identity of Nainital will become history. The next hearing of the case will be in August.

Uttarakhand High Court, High Court Bar Association Election, PACS elections, Lokayukta, Jhoothe Arop,

नवीन समाचार, नैनीताल, 8 जून 2023। (Nainital Traffice Problem) उत्तराखंड उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति विपिन सांघी व न्यायमूर्ति राकेश थपलियाल की खंडपीठ ने नैनीताल में पर्यटन सीजन के दौरान हो रही यातायात के जाम होने की समस्या के समाधान के लिए बड़े आदेश जारी किए हैं।

Story Of Rickshaw In Nainital. उत्तराखंड: नैनीताल में खत्म हो जाएगा सदियों  पुराना इतिहास, 1846 में अंग्रेजों ने की थी शुरुआत. Nainital Rickshaw. Rickshaw  Nainital- राज्य ...सरकार को जारी आदेश के अनुसार नगर की मॉल रोड पर चलने वाले सभी पैडल रिक्शों को दो सप्ताह के भीतर हटाने और इसकी जगह वर्तमान 11 ई-रिक्शों की संख्या को बढ़ाकर कम से कम 50 करने और इन्हें लेने के लिए अधिक उम्मीदवार होने पर उनका आवंटन लॉटरी के माध्यम से करने को कहा गया है। इस आदेश के बाद कभी अपने ‘सिक्के’ तक चलाने वाले व नैनीताल की एक अलग पहचान माने जाने वाले पैडल रिक्शे इतिहास बन जाएंगे। मामले की अगली सुनवाई अगस्त में होगी।

माल रोड पर सवारियां लेकर दौड़े ई रिक्शा, नैनीताल में नगर पालिका ने ई रिक्शा  ट्रायल कराया - E-rickshaw Rushes On Mall Road With Riders, Municipality  Conducted E-rickshaw Trial In ...उल्लेखनीय है कि अधिवक्ता प्रभा नैथानी ने अपने पत्र में पर्यटन नगरी नैनीताल में वाहनों के जाम की समस्या को लेकर शिकायत करते हुए कहा था कि सीजन के दौरान यहां हजारों पर्यटक अपने वाहनों और टैक्सी से आते हैं। लेकिन नगर में पार्किंग की उचित व्यवस्था न होने के कारण नगर में यातायात अव्यवस्था बनी हुई है। आरोप लगाया है कि होटल व्यवसायी पर्यटकों के वाहनों को सड़क पर पार्क करवा रहे है। इस कारण कई बार मरीजों को ले जा रहीं एम्बुलेंस भी जाम में फंस रहे हैं।

आरोप लगाया कि उच्च न्यायालय की ओर से समय-समय पर जिलाधिकारी और पुलिस प्रशासन को यातायात व्यवस्था सुधारने के लिए निर्देश जारी हुए हैं, लेकिन समस्या का हल आज तक नहीं निकला है। यह भी कहा है कि यातायात पुलिस यातायात को सुगमता से चलाने में नाकाम साबित हुई है।

इस कारण स्कूली बच्चों, कर्मचारियों और अधिवक्ताओं को समय पर पहुंचने में काफी दिक्कत हो रही है। साथ ही कालाढूंगी, भवाली और हल्द्वानी से आने जाने वाले वाहनों की जांच नही हो रही है। पुलिस इन स्थितियों में मूकदर्शक बनी रहती है। पत्र में इंडिया होटल के पास से चलने वाली जू शटल सेवा को भी जाम का कारण बताते हुए इसे आगे शिफ्ट करने की मांग की गई है।

बुधवार को खंडपीठ ने इस याचिका पर स्वतः संज्ञान लेते हुए सुनवाई शुरू की थी और गुरुवार को भी सुनवाई जारी रखी। इस दौरान खंडपीठ ने माना कि नगर की मॉल रोड पर चलने वाले पैडल रिक्शे माल रोड में यातायात बाधित होने का एक बड़ा कारण है। लिहाजा खंडपीठ ने दो सप्ताह के भीतर इन रिक्शों के स्थान पर ई-रिक्शे चलाने के निर्देश दिए। नगर पालिका की ओर से खंडपीठ को बताया गया कि माल रोड में पूर्व में 82 पैडल रिक्शे चलते थे। इनमें से 22 रिक्शों की जगह 11 ई-रिक्शे और शेष 60 पैडल रिक्शे चलाए जा रहे हैं।

इसके अलावा खंडपीठ ने पुलिस से नगर में ‘नो पार्किंग जोन’ चिन्हित करने व ‘नो पार्क जोन’ में पार्क होने वाले वाहनों को क्रेन से उठाकर चिन्हित स्थान पर भेजने, पुलिस की रिकवरी वैन-क्रेनों की संख्या बढ़ाने, पब्लिक स्कूलों के खुलने व बंद होने का समय निर्धारित करने, स्कूल वाहनों में स्टीकर लगाने और स्कूल, न्यायालय और कार्यालयों के समय पर यातायात जाम न लगना सुनिश्चित करने व इस दौरान यातायात को सुव्यवस्थित रखने, माल रोड से अतिक्रमण हटाने, यातायात व्यवस्था को सुबह आठ बजे से शाम आठ बजे तक लगातार मॉनिटर करने, पर्यटक वाहनों को हल्द्वानी व कालाढूंगी में पार्किंग और बस अड्डा बनाकर वहां रोकने और वहां से छोटी लक्जरी बस सेवा शुरू करने, पार्किंग स्थलों पर क्षमता व पार्किंग होने का बोर्ड लगाने तथा पर्यटकों को नैनीताल में उनके होटल तक टैक्सी और ई-रिक्शा से पहुंचाने, नगर में पार्किंग और नो पार्किंग के बोर्ड बढ़ाने, नगर के ‘बॉटल नैक’ जैसे क्षेत्रों में नो पार्किंग जोन नगर के रूसी बाइपास व मुक्तेश्वर में जल्द हेलीपैड का निर्माण करने आदि के निर्देश दिए हैं। साथ ही खंडपीठ ने नैनीताल आने और जाने के लिए हेली सेवा और नैनी झील में आवागमन के लिए फेरी बोट चलाकर यातायात को सुचारू करने का सुझाव भी दिया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल की यातायात व्यवस्था पर हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान (Nainital Traffice Problem) 

-नगर के लिए हेलीकॉप्टर सेवा शुरू करने, इलेक्ट्रिक फेरी या केबिल कार चलाने व शटल सेवा बढ़ाने के दिए निर्देश, पुलिस भी हुई सक्रिय

नवीन समाचार, नैनीताल, 7 जून 2023। (Nainital Traffice Problem) उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने पर्यटन नगरी नैनीताल में पर्यटन सीजन के दौरान यातायात जाम की समस्या पर उच्च न्यायालय की अधिवक्ता प्रभा नैथानी द्वारा मुख्य न्यायाधीश को लिखे पत्र पर स्वतः संज्ञान लेते हुए जनहित याचिका के रूप में बुधवार को सूचीबद्ध करते हुए सुनवाई की।

मामले में उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति विपिन सांघी व न्यायमूर्ति राकेश थपलियाल की खंडपीठ ने सुनवाई करते हुए नैनीताल में पार्किंग की समस्या को देखते हुए नगर के लिए हेलीकॉप्टर सेवा शुरू करने, तल्लीताल-मल्लीताल के बीच इलेक्ट्रिक फेरी या केबिल कार चलाने व शटल सेवा बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। खंडपीठ गुरुवार को भी इस मामले में सुनवाई कर सकती है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल की यातायात व्यवस्था पर हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान (Nainital Traffice Problem)

हाईकोर्ट के आदेश के बाद पुलिस हुई सक्रिय

नैनीताल। उच्च न्यायालय के कड़े रुख के बाद नगर में नैनीताल पुलिस सक्रिय दिखी और इसका असर भी दिखा। पुलिस ने आवश्यक स्थलों पर ड्यूटी लगाते हुए नगर में नो पार्किंग जोन में खड़े वाहनों व वाहन स्वामियों के विरुद्ध एमवी एक्ट के तहत 45 चालान किये। साथ ही मल्लीताल, रुसी बाईपास व मस्जिद तिराहा भवाली आदि स्थानों पर सघन चेकिंग अभियान चलाकर बिना पार्किंग के होटलो में बुकिंग वाले पर्यटको को शटल सेवा के माध्यम से तथा पार्किंग युक्त होटलों में बुकिंग वाले पर्यटको को ही नगर में उनके वाहनों से भेजा। इससे नगर की यातायात व्यवस्था बुधवार को दुरुस्त नजर आई। बताया गया कि पर्यटन सीजन की समाप्ति तक नगर में यही व्यवस्था प्रभावी रहेगी। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला नैनीताल : दिल के सबसे करीब, सचमुच धरती पर प्रकृति का स्वर्ग