News

9 माह की गोद ली बेटी ने दो दिन के भीतर कोरोना से माता-पिता को खोया, अधिकार जमाने आए अनजाने रिश्तेदार वापस भेजने पर तुले…

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

-मदद को आगे आया विधिक सेवा प्राधिकरण

डॉ.नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 मई 2021। नैनीताल जनपद के बच्चीधर्मा हल्दूचौड़ निवासी 20 वर्षीय ममता डंगवाल जब नौ माह की थी, तब उसे पूर्व सैनिक कमल डंगवाल व उनकी पत्नी पार्वती डंगवाल ने गोद लिया था। तब से वह उन्हीं के साथ बेटी की तरह रह रही है। इधर 14 मई को उसकी मां पार्वती देवी एवं 16 मई को पिता कमल डंगवाल की कोरोना की वजह से मौत हो गई,। इससे ममता अनाथ हो गई। लेकिन इस बीच उसके माता-पिता के कुछ अनजाने रिश्तेदार आकर उनकी संपत्ति पर हक जताने और ममता को उसके मूल माता-पिता के पास जाने को कहने लगे।
इधर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल ममता की मदद के लिए आगे आया है। प्राधिकरण के सचिव सिविल जज-सीनियर डिवीजन इमरान मौहम्मद खान ने बताया कि पीएलवी उमा भंडारी के माध्यम से ममता की जानकारी प्राप्त की गयी। जानकारी मिली है कि जालन्धर निवासी दलीप सिंह रौतेला नामक व्यक्ति ममता को घर से निकालने व जान से मारने की धमकी दे रहा है। ममता डंगवाल की ओर से प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्र पर कार्यवाही करते हुए प्राधिकरण ने नैनीताल के डीएम व एसएसपी को कार्यवाही करने के लिए अनुरोध किया है, तथा ममता को दीवानी न्यायालय हल्द्वानी में उत्तराधिकार प्रमाण पत्र जारी कराने हेतु प्रार्थना पत्र प्रस्तुत करने के लिए निःशुल्क अधिवक्ता नियुक्त किया गया है। उन्होंने आम जनमानस से अपने दोनों माता-पिता खोने वाले बच्चों की जानकारी प्राधिकरण को नैनीताल में स्थापित हेल्पलाईन नंबर 8941807428 पर उपलब्ध कराने का अनुरोध भी किया है।

यह भी पढ़ें : अग्नाशय के रोग से पीड़ित दो छोटे बच्चों के पिता के लिए मदद की गुहार….

नवीन समाचार, नैनीताल, 21 मई 2021। नैनीताल जनपद के दूरस्थ गांव सेलालेख पहाड़पानी तहसील धारी के निवासी 38 वर्षीय अखिलेश जोशी पुत्र स्व. तारा दत जोशी पिछले 2 महीने से अग्न्याशय के ‘एक्यूट पैनक्रियाटिटिस’ रोग से पीड़ित हैं। अखिलेश के परिवार में आजीविका का भी कोई नियत स्रोत नहीं है। उनके परिवार में पत्नी व 4-5 वर्ष के दो बच्चे हैं। उनके भाई ललित मोहन जोशी अपनी नौकरी पर न जाने के कारण वेतन न पाते हुए उनका उपचार करा रहे हैं। हल्द्वानी के साईं अस्पताल में पिछले 15 दिन उपचार कराने के बावजूद स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं होने पर गत 20 अप्रैल को अखिलेश को भोजीपुरा-बरेली के श्रीराम मूर्ति अस्पताल रेफर कर दिया गया, जहां अभी उनका उपचार चल रहा है। बताया गया है कि अब तक अखिलेश के उपचार में दूसरों से उधार आदि लेकर करीब 1.97 लाख रुपये का खर्च हो गया है और अब आपरेशन के लिए अस्पताल ने दवाइयों के बिना 3 लाख रुपए का अनुमानित खर्च और बताया है। बताया गया है कि उत्तराखंड सरकार का आयुश्मान कार्ड इस चिकित्सालय में नहीं चल रहा है। इसलिए उनके साथियों ने उनके लिए आर्थिक सहायता एकत्र करने की मुहिम चलाई है। आपका प्रिय एवं भरोसेमंद समाचार पोर्टल ‘नवीन समाचार’ भी बीमार अखिलेश की मदद के अभियान में साथ है।
अखिलेश को इस बैंक खाते में मदद की जा सकती है : NAME AKALESH JOSHI, A/c No. 091201000656, IFSC CODE ICIC0000912

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड सरकार की पहलः एक क्लिक में जानें राज्य के सभी जिलों में सामान्य, आईसीयू व ऑक्सीजन सुविधा युक्त खाली बेडों की जानकारी:

नैनीताल। उत्तराखंड सरकार की ओर से इस बीच एक बड़ी पहल सामने रहा है। राज्य सरकार द्वारा ‘कोविड पोर्टल’ नाम के एक नए पोर्टल की व्यवस्था की गई है, जिसमें राज्य के किसी भी जिले के कोविड अस्पताल में खाली, ऑक्सीजन व आईसीयू सुविधायुक्त बेड की जानकारी एक क्लिक पर देखी जा सकती है। इसे अधिकाधिक लोगों तक शेयर कर आप भी चाहें तो इस मुसीबत की घड़ी में सममय सही जानकारी देकर जरूरतमंद लोगों की जिंदगी बचा सकते है.. इस कोविड पोर्टल का लिंक यहां से चेक कर सकते हैं: https://covid19.uk.gov.in/bedssummary.aspx

इधर, हल्द्वानी के उत्साही व सेवार्थी युवकों ने एक ऐसा ग्रुप बनाया है जो कोरोना के जरूरतमंद लोगों को निःस्वार्थ तौर पर अपना प्लाज्मा डोनेट करने की पेशकश कर रहे हैं, या ऐसे लोगों की मदद उपलब्ध कराने का प्रयास कर रहे हैं। आप भी उनके समूह को अधिक जानकारी उनके नेक इरादे को आगे बढ़ाने में मदद कर सकते हैं:

1.Srikanth O+ ,9700655144.
2.Mani O+ ,7401535415
3.Sriram B+ ,8056051072
4.Ramesh B+ , 9884727286
5.Suresh B+,  8148916988
6.Murali  A+. 7299399392
7.PRABHU. O+ 9884641396
8.Vijay. AB-ve. 9790954376
9.Jai. B-    99623610622
10.Raja A1+ 978986531
11.Sundar O+ 9941418736
12.KALIDASS A+ 13.9943948951
14.Abbas A1- 9551414146
15.Rajalingam B+ 9626696882
16.Yuvaraj AB+ 8124291412
17.Jagir B+. ,9042670928
18.Suresh Kumar O+. 9840939939 
19. Aravind O+, 9176980878.
20.Manikandan A+ 9566420317.
21.Senthilkumar B+,9962688252.
22.praveen kumar B +9094314313
23.mohanraj B positive  9444464789
24.manikandan O+  9791097653
25.C.prathap O +ve  9940521093
26. Isaianand o+. 7845548466
27. S THILAK O+ ve , 861810723.   
28. Anbumani O+ (9566001676)
29.Syed A+  9551457239
30.M.jagadeesanvb A➕(7845662500)
31.Karthikeyan o+(9884400371)
32.Daniel  B+ (9003148805)
33.Sridhar o+ (9500119761)
34.V.Mohan 0+ (9940639557)                       
35, jawahar b+ve 9600162581
36.v.karthick A1+ (9578828854) 
37.C.Rajkumar B+ve 9790844373
38. Ashok Kumar B+ 9791142469
39.M.KARUKKUVEL Raj B positve -9087425095
40.NARENDRAN A1B+(9500148984)
41.edwin. O- 9791150119 42. Selvaganesh A+ (9940187708)
43.siddiq O+. 9094666918
44.a.inba kumar o+ ve  9840301747
45.vignesh B+ 9884556995
46.vogneshgiri B+ 9043677660
47.anbarasan O+ 9840862846
48.M.Vimal kumar o+ 9677279760
49.Jeeva AB- (ph-8056292339)
50.sarath A+ 9551113240  
51.vazir o+(8754034986)
52.Dinesh A1+(8122288878)
53. Balakrish  O+ (9047904837)                         
54.Madhan AB+(9940391891,9498142021)55. P.P.PRADHEESH O+ve +91-8903612888)
56. SHAKKUR B+ve+971552177084)
57. Venkat B-ve 9666661705
58. Roshan A+ve 9100954327
59.Vinod 9985003839
60. Joshua B-ve 9704972553 
61.Arun B+ve 9951997775
62. Dr.v.rajnikanth O+  9032807745
63.Devender b+ 9716366570.  
64. AB+. Ajay. 9810384028 
65 Yash B+ 9588701574
66. A+ Manjeet Bhoria

इधर, जिला मुख्यालय नैनीताल में भी हालिया स्थापित मां नयना देवी व्यापार मंडल के संस्थापक अध्यक्ष पुनीत टंडन की पहल पर लोगों को शहर एवं व्यापारिक क्षेत्र से बाहर जाकर भी कोरोना काल में दवाइयों की किट उपलब्ध कराने सहित बढ़चढ़कर अन्य मदद पहुंचाई जा रही है।

यह भी पढ़ें : गरीब परिवार के युवक के उपचार के लिए मदद की गुहार..

अस्पताल में भर्ती घायल हिमांशु आर्या।

नवीन समाचार, नैनीताल, 13 मार्च 2021। बीती बुधवार यानी 10 मार्च की रात्रि नैनीताल बाइपास पर हुई कार के करीब 200 मीटर गहरी खाई में गिर जाने से तीन युवक बुरी तरह से घायल हो गये थे। इनमें नगर के मल्लीताल निवासी एक गरीब परिवार का 25 वर्षीय युवक हिमांशु आर्या पुत्र मोती राम भी शामिल है। चिकित्सकों के अनुसार उसकी रीढ़ की सी5-सी6 व डी8 हड्डियों का उपचार होना है। इस हेतु उसे हल्द्वानी के एक निजी चिकित्सालय के सीसीयू में रखा गया है। उसके उपचार में करीब चार लाख रुपए खर्च होने का अनुमान है। चिकित्सालय के चिकित्सक डा. अंशुमन रॉय ने भी इसकी पुष्टि की है। इधर नगर में हिमांशु के उपचार में मदद के लिए कई युवा आगे आए हैं। उन्होंने इस मामले में घायल युवक हिमांशु की मदद के लिए आर्थिक मदद करने की गुहार लगाई है। हिमांशु को मदद के लिए धनराशि उनके पिता मोती राम के भारतीय स्टेट बैंक के खाता संख्या 10860904321 आईएफएससी कोड SBIN0000687 में अथवा मनीषा आर्या के गूगल पे नंबर 7351114772 पर जमा की जा सकती है।

यह भी पढ़ें : 1984 के भोपाल गैस कांड के मृतकों-प्रभावितों की जानकारी मांगने वाले को मिल रहीं जान से मारने की धमकियां

नवीन समाचार, नैनीताल, 5 फरवरी 2021। नगर के मेट्रोपोल कंपाउंड मल्लीताल निवासी व फड़ लगाने वाले एक व्यक्ति-नफीस अहमद पुत्र कदीर अहमद ने जनपद के डीएम एवं एसएसपी को पत्र लिखकर आरोप लगाया है कि निकट ही स्थित बेकरी कंपाउंड निवासी शकील अहमद पुत्र अमीर दुला से खतरा बताया है। नफीस का कहना है कि उसने 1984 में हुए भोपाल गैस कांड में शकील व उसके परिवार के किसी व्यक्ति को मृत घोषित करने के बारे में सूचना के अधिकार के तहत सूचना मांगी है। यह सूचना अभी प्राप्त नहीं हुई है। इसे लेकर ही शकील, उसका बेटा मंसूर व बहनोई इशरार आए दिन उससे अभद्र व्यवहार करते हैं और जान से मारने की धमकी देते हैं। यह भी बताया है कि इशरार के विरुद्ध बीते जनवरी माह में लालकुआं में आपराधिक मामला दर्ज हुआ है। लिहाजा वह कभी भी उसके साथ कोई अप्रिय घटना कर सकते हैं। इसलिए आरोपितों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की गुहार लगाई गई है।
उल्लेखनीय है कि शकील ने सूचना के अधिकार के तहत भोपाल, मध्य प्रदेश के डीएम से पूछा है कि एकता नगर, छोला रोड, हजूर, भोपाल निवासी फरीदा बेगम पुत्री अजगर अली पत्नी मोहम्मद शकील अहमद पुत्र अमीरदुला भोपाल गैस कांड में प्रभावितों या मृतकों में शामिल है अथवा नहीं। इस तरह उसे शक है आरोपितों में से कोई भोपाल गैस कांड के मृतकों या प्रभावितों में शामिल हैं, और नैनीताल में रह रहे हैं।

यह भी पढ़ें : ‘नवीन समाचार’ के बाद बुजुर्ग दंपत्ति की मदद को आगे आया प्रशासन, अधिकारी एवं लोग

खबर का असर : नैनीताल में बना माइक्रो कंटेनमेंट जोन, कुमाऊं विश्वविद्यालय के केनफील्ड छात्रावास में भी आए करीब एक दर्जन छात्र कोरोना पॉजिटिव

बुजुर्ग दंपत्ति व उनके घर की छत की दयनीय स्थिति।

नवीन समाचार, नैनीताल, 07 जून 2020। ‘नवीन समाचार’ में गत दिवस निकटवर्ती ग्राम पंचायत ज्योलीकोट में एक बुजुर्ग दम्पति-68 वर्षीय राधेश्याम आर्य और उनकी पत्नी देवकी का जीर्ण शीर्ण घर गिरने की स्थिति में आने का समाचार प्रकाशित किया था। इस समाचार का व्यापक असर हुआ है। रविवार को इस समाचार पर डीएम सविन बंसल ने संज्ञान लेते हुए एसडीएम के माध्यम से राजस्व विभाग की टीम को मौके पर मुआयना करने के लिए भेजा।
एसडीएम विनोद कुमार ने बताया कि आज ग्राम पंचायत अधिकारी, राजस्व निरीक्षक अमित साह और कानूनगो राजेंद्र सनवाल बुजुर्ग दंपत्ति के घर मौका मुआयना करने पहुंचे। बुजुर्ग का घर पहले भी 20 वर्ष पूर्व आवासीय योजना के तहत बना है और इसकी मरम्मत पहले भी आपदा मद से मिले 5200 रुपये से की गयी है। पुनः आपदा मद से उसकी मरम्मत करने का प्रयास किया जाएगा। साथ ही मुख्यमंत्री राहत कोष से भी बुजुर्ग दंपत्ति की मदद करने का प्रयास किया जाएगा। इधर एक आईएएस अधिकारी एवं कुछ सामाजिक संगठनों ने भी ‘राष्ट्रीय सहारा’ से बुजुर्ग दंपत्ति की मदद करने की इच्छा जताई है।

यह भी पढ़ें : सिर छुपाने को बुजुर्ग दंपत्ति को मदद की दरकार

कैलाश जोशी @ नवीन समाचार, ज्योलीकोट, नैनीताल, 6 जून 2020। निकटवर्ती ग्राम पंचायत ज्योलीकोट में एक बुजुर्ग दम्पति-68 वर्षीय राधेश्याम आर्य और उनकी पत्नी देवकी का जीर्ण शीर्ण घर गिरने की स्थिति में आ गया है। राधेश्याम ने बताया कि उन्होंने लगभग बीस वर्ष पूर्व आवासीय योजना के तहत मिले 18 हजार रुपये से यह मकान बनाया था। अब समय बीतने के साथ घर पूरी तरह से जीर्ण शीर्ण हो गया है। बीते वर्ष सितम्बर माह में आंधी तूफान में उनके घर की छत उड़ गई और दीवार क्षतिग्रस्त हो गई। इस पर आपदा मद से 5200 रुपये की सहायता राशि मिली। उससे बमुश्किल दीवारों के एक हिस्से की मरम्मत ही हो पाई। अब हालात ऐसे हैं कि छत कभी भी भरभरा कर गिर सकती है। छत में पालीथीन डाली है, फिर भी बरसात में पानी घर के भीतर आता है और राशन-बिस्तर सब आकर बर्बाद हो जाता है। रात्रि में गुलदार और अन्य जानवरों का भय भी बना रहता है। बताया कि राधेश्याम खुद पेट की बीमारी से ग्रसित है। एकमात्र बेटा दो वर्ष पूर्व से गायब है। वह अपनी व्यथा ग्रामसभा की बैठकों में कई बार बता चुके है लेकिन कोई सुनता नहीं है। इस सम्बंध में ग्राम विकास अधिकारी राजदीप वर्मा ने बताया कि निर्धारित प्रक्रिया और मानकों में आवेदन प्राप्त होता है तो अतिशीघ्र कारवाही कर बुजुर्ग दंपत्ति को मदद पहुंचाई जाएगी।

यह भी पढ़ें : मुंबई में फंसे उत्तराखंड के 60 लोग, लगा रहे मदद की गुहार

नवीन समाचार, नैनीताल, 29 अप्रैल 2020। यूं बाजार आधारित अर्थव्यवस्था के प्रभाव में देश-दुनिया भर में उत्तराखंड के लोग और उत्तराखंड में भी देश-दुनिया के लोग कोरोना की महामारी और लॉक डाउन के दौरान एक महीने से भी अधिक लंबी अवधि से फंसे पड़े हैं। लेकिन इनमें संभवतया सर्वाधिक परेशान देश के सबसे बड़े हॉट स्पॉट महाराष्ट्र के मुंबई में फंसे उत्तराखंड ख्ंाड के सैकड़ों लोग हैं, जो वहां छोटी-मोटी नौकरी-रोजगार करते थे, और कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण चॉल-झुग्गियों आदि में रहने और बीएमसी की सार्वजनिक शौचालय व पेयजल जैसी सुविधाओं पर निर्भर हैं। इनमें से करीब 60 लोग तो अकेले बागेश्वर जनपद के हैं। इनमें करीब 20 छोटे अबोध दुधमुंहे बच्चे भी शामिल हैं। वे वहां दाने-दाने को मोहताज हो चले हैं। उन्हें किसी तरह की मदद भी नहीं मिल रही है। लिहाजा वे किसी तरह उत्तराखंड लाये जाने के लिए अपने विधायक, मुख्यमंत्री के साथ ही महाराष्ट्र के राज्यपाल पद पर आसीन उत्तराखंड के अपने पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी से तक मदद की गुहार लगा रहे हैं, किंतु कहीं से कोई मदद नहीं मिल रही है।
मुंबई से ‘नवीन समाचार’ के पाठक बागेश्वर जनपद के ग्राम रैखोली निवासी नवीन रावत ने बताया कि उनमें से अधिकांश लोग होटलों में कार्य करने वाले हैं। इधर लॉक डाउन के बाद होटल बंद होने से उन्हें वेतन भी नहीं मिला है। तब से वे घरों में ही कैद हैं। कोरोना का संक्रमण न हो, इसलिए भोजन के रूप में खिचड़ी आदि की मिल रही मदद लेने के लिए लग रही भीड़ को देख कर मदद लेने भी नहीं जा पा रहे हैं। उन्होंने कहा, किसी तरह सुरक्षित तरीके से अपने प्रदेश आ जायें तो यहां 14 दिन के क्वारन्टाइन में रहने से भी उन्हें कोई समस्या नहीं है। बस किसी तरह उन्हें उनके प्रदेश पहुंचा
दिया जाये।

विधायक संजीव आर्य ने उठाया प्रवासियों को वापस लाने का मुद्दा
नैनीताल। विधायक संजीव आर्य ने बुधवार को पार्टी के महामंत्री संगठन की विधायकों से हुई बैठक में प्रवासियों को वापस लाने का मुद्दा उठाया। वहीं इधर जनपद में परगना स्तर पर पास जारी करने के लिए संबंधित एसडीएम तथा राज्य से बाहर के पास हेतु अपर पुलिस अधीक्षक राजीव मोहन को अधिकृत किया गया है। उनसे उनके मोबाइल नंबर 8958311000 पर संपर्क किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : शादी के एक माह बाद ही नवविवाहिता नाबालिग ननद के साथ गायब, ढूँढ-खोज में मदद की गुहार..

नवीन समाचार, नैनीताल, 10 जनवरी 2020। जनपद के दूरस्थ ओखलकांडा विकास खंड के ग्राम सभा गलनी से एक नव विवाहिता सुनीता देवी (19) के शादी के 1 माह बाद ही अपनी नाबालिग ननद सुनीता आर्या के साथ अचानक घर से गायब होने का समाचार हैं। काफी ढूंढखोज करने के बाद भी-3 दिन बाद भी दोनों का कोई सुराग नहीं लग पाया है। वह मोबाइल भी घर पर ही छोड़ गई है। इस पर नव विवाहिता के पति गोपाल चंद्र ने राजस्व पुलिस चौगढ़ में पत्नी  व नाबालिक बहन की गुमशुदगी दर्ज की है। साथ ही दोनों के लापता होने की सूचना तहसीलदार धारी तथा थाना मुक्तेश्वर, भीमताल, भवाली और काठगोदाम पुलिस को भी दी है।
गोपाल के अनुसार बीती आठ जनवरी को सुबह उनकी पत्नी सुनीता देवी और बहन सुनीता बिना बताये घर से चले गए जो शुक्रवार की सायं तक घर नहीं लौटे हैं। बताया कि दोनों की गांव सहित आसपास के क्षेत्रों में रिश्तेदारों के वहां भी ढूंढखोज की गई लेकिन उनका कहीं कोई सुराग नहीं लगा है। उन्होंने राजस्व और रेगुलर पुलिस से उनकी पत्नी व बहन की ढूंढखोज करने की गुहार लगाई है। बताया कि उनकी पिछले माह चार दिसंबर को शादी हुई। राजस्व उप निरीक्षक मो. शकील अहमद ने बताया कि पति की सूचना पर गुमशुदगी दर्ज कर ढूंढखोज शुरू कर दी गई है। 

यह भी पढ़ें : 13 वर्षीय बालक पांच दिन से घर से गायब

नवीन समाचार, नैनीताल, 16 दिसंबर 2019।

मुख्यालय के निकटवर्ती ग्राम बगड़ मेहरोड़ा निवासी एक 13 वर्षीय बालक पंकज त्रिपाठी पिछले पांच दिनों से घर से गायब है। पंकज के पिता भोला दत्त त्रिपाठी ने बताया कि पंकज राइंका बगड़ में नौवीं कक्षा का छात्र है। गत 12 दिसंबर की सुबह वह जंगल घास काटने गए थे। तभी सुबह करीब साढ़े सात बजे पंकज बिना बताये कहीं चला गया। वह गुलाबी राइंका बगड़ गुलाबी रंग की टी शर्ट, जीन्स पैंट व सफेद जूता पहने हुआ था। उन्होंने सेामवार केा मल्लीताल कोतवाली में उसकी गुमशुदगी दर्ज करा दी है। इस बीच किसी ने उसे नगर के करीब हांडी-बांडी पर देखने की बात कही, लेकिन सभी जगह तलाशने के बावजूद अब तक उसका कोई पता नहीं चल पाया है। बच्चे का कोई पता चलने पर उसके पिता भोला दत्त को 9927007477 पर जानकारी दी जा सकती है।

यह भी पढ़ें : 12 साल की दो बच्चियां हुई थीं गायब, एक मिली 

नवीन समाचार, नैनीताल/हल्द्वानी, 21 नवंबर 2019। बीते 24 घंटे में जनपद से दो 12 वर्षीया बच्चियों के गायब होने के समाचार मिले। एक बच्ची जनपद मुख्यालय के निकट ग्राम भेवा मंगोली निवासी पायल कंडारी पुत्री चंदन सिंह कंडारी 20 नवंबर की शाम साढ़े पांच बजे से घर से लापता हो गई थी। उसके पिता ने मंगोली पुलिस चौकी में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराते हुए बताया कि बच्ची गुलाबी रंग की फ्रॉक पहने हुए थी। उसके माथे और बांये हाथ के अंगूठे में चोट का निशान है। इधर समाचार प्रकाशित होने के बाद मल्लीताल कोतवाली पुलिस से बताया गया है कि पायल मिल गई है।
वहीं दूसरी बच्ची हल्द्वानी के राजेंद्र नगर राजपुरा निवासी शीतल राज पुत्री अर्जुन सिंह है। वह बृहस्पतिवार सुबह 6 बजे घर से स्कूल की यूनिफॉर्म पहनकर स्कूल के लिए निकली थी, किंतु स्कूल पहंुची नहीं। उसके परिजनों ने हल्द्वानी कोतवाली में पहुंचकर उसी तलाश करने की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल-उत्तराखंड की इस महिला व उसके गांव को कोई जानता हो तो उसे उसके परिजनों तक पहुंचाने में मदद करें

नवीन समाचार, नैनीताल, 18 नवंबर 2019। नई दिल्ली की एक संस्था के मालवीय नगर थाना पुलिस ने एक महिला के बारे में नैनीताल पुलिस से उसे उसके घर पहुंचाने में मददद मांगी है। बताया है कि 26 वर्षीय महिला अपना नाम भावना, अपने पिता का नाम देवधर, पति का नाम देव किशोर, बहन का नाम खीमा, एवं भाई का नाम वासुदेव एवं खुद को उत्तराखंड के नैनीताल जनपद के ग्राम तलगांव का निवासी बता रही है। वर्तमान में वह दिल्ली में एक संस्था के पास है। उसे उसके घर तक पहुँचाने में मदद की अपील की जा रही है।

यह भी पढ़ें : जंगल गई तीन बच्चियों की मां का 20 दिनों से कोई सुराग नहीं, मदद की गुहार

नवीन समाचार, नैनीताल, 5 अक्तूबर 2019। जनपद के धारी तहसील के ग्राम सुरंग पट्टी बिश्ज्यूला निवासी 30 वर्षीया महिला पुष्पा देवी 20 दिनों से गायब है। उसकी गुमशुदगी 15 सितंबर को ग्राम सुरंग पट्टी बिश्ज्यूला में राजस्व पुलिस में उसके पति पूरन पुरी पुत्र तेज पुरी गोस्वामी के द्वारा दर्ज कराई गई थी। साथ ही 16 सितंबर को तहसीलदार धारी से भी उसे तलाशने की गुहार लगाई गई थी। बावजूद तब से राजस्व पुलिस भी उसका कोई सुराग नहीं लगा पाई है। उसका मोबाइल भी तब से बंद पड़ा है। उसके गायब होने से उसकी ढाई, पांच व सात साल की तीन बच्चियों का रो-रोकर बुरा हाल है। उसके पति ने बताया कि वह दिन में चरने गई गायों को ढूंढने जंगल गई थी, लेकिन जंगल सहित हर कहीं उसकी तलाश कर चुके हैं, किंतु उसका कोई पता नहीं चल पा रहा है। महिला के पति पूरन पुरी ने पत्नी की कोई सूचना मिलने पर 8920642975 पर सूचित करने की अपील की है। 

यह भी पढ़ें : ट्रेकिंग को आया विदेशी सैलानी गायब

नवीन समाचार, नैनीताल, 30 सितंबर 2019। उत्तराखंड के चमोली जिले में त्रिशुल-1 पर्वत की ट्रेकिंग के लिए गए जर्मनी के ट्रेकर दल के एक सदस्य के  लापता होने की सूचना है। इंडियन माउंटेनरिंग फाउंडेशन द्वारा सोमवार को जिला आपदा कन्ट्रोल रूम को दी गई जानकारी के अनुसार पर्यटकों का यह 6 सदस्यीय दल 13 सितंबर से 8 अक्टूबर तक हिमालय की त्रिशूल-1 की ट्रैकिंग पर निकला था। इसमें से हंगरी निवासी विदेशी पर्यटक पीटर वीटेक रास्ते से लापता हो गया है। इस घटना की जानकारी के बाद एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, स्थानीय प्रशासन, आपदा प्रबंधन एवं वन विभाग के कार्मिकों की टीमें रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए भेजी गई हैं। रेस्क्यू दल ने सुतोल बेस कैम्प से आगे लापता पर्यटक की खोजबीन शुरू कर दी है।

हिमस्खलन के कारण बिछड़ा साथी

बताया जा रहा है कि चमोली जिले में पिछले दो दिनों से निचले क्षेत्रों में बारिश और ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी के कारण ट्रेकरों का यह दल हिमस्खलन होने के कारण एक दूसरे से बिछड़ गया है। वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार इन विदेशी ट्रेकरों की ओर से त्रिशूल ट्रेक पर जाने के लिए वन विभाग से कोई अनुमति नहीं ली गई थी। कंट्रोल रूम की ओर से बदरीनाथ वन प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारी को सूचना दिए जाने के बाद वन विभाग ने ट्रेकरों के बारे में जानकारी जुटाई तो यह जानकारी सामने आई। बदरीनाथ वन प्रभाग के डीएफओ के अनुसार त्रिशूल पर्वत पर गए छह ट्रेकरों के दल में शामिल ट्रेकर निकोलस ची ने फोन से अंतरराष्ट्रीय आपातकालीन प्रतिक्रिया समन्वय केंद्र को सूचना दी कि उनका साथी पीटर विट्टेक हिमस्खलन होने से उनसे बिछड़ गया है। इसी सूचना के चलते ट्रेकर की खोज के लिए एनडीआरएफ की 10 सदस्यीय टीम त्रिशूल पर्वत की ओर रवाना हो गई है।

यह भी पढ़ें : हॉस्टल से मध्य रात्रि में गायब होकर दिल्ली पहुंचा 9वीं कक्षा का छात्र

गुमशुदा छात्र अंकित कांडपाल।

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 अगस्त 2019। नगर के एक विद्यालय के नौवीं कक्षा के छात्र ने सोमवार को विद्यालय, पुलिस एवं परिजनों के अलावा अन्य लोगों को भी सांसत में डाले रखा। छात्र अंकित कांडपाल पुत्र ईश्वरी दत्त कांडपाल निवासी कैंची रविवार मध्य रात्रि करीब 12 से 1 बजे के बीच छात्रावास से अचानक गायब हो गया है। विद्यालय प्रबंधन की ओर से मल्लीताल कोतवाली में उसकी गुमशुदगी की सूचना देते हुए बताया गया कि वह विद्यालय के छात्रावास में रहता है, और यहां से बिन बताये कहीं चला गया है। इस पर कोतवाली पुलिस भी उसकी तलाश में जुटी। इस बीच विद्यालय प्रबंधन की ओर से बताया गया है कि गुमशुदा छात्र अंकित के अपराह्न एक बजे दिल्ली में अपने चाचा के पास पहुंचने की खबर है। इस सूचना के बाद सभी ने राहत की सांस ली।

यह भी पढ़ें : दिमागी बुखार से पीड़ित नैनीताल की बेटी को मदद की दरकार…

बरेली के अस्पताल में भर्ती रेखा।

नवीन समाचार, नैनीताल, 17 जुलाई 2019। नैनीताल नगर के कृष्णापुर नगर की एक 14 वर्षीया बेटी रेखा पिछले कुछ दिनों से दिमागी बुखार से पीड़ित हो गयी है। उसके पिता शीशपाल नगर में एक ट्रेवल एजेंसी में ड्राइवर तथा भाई पंकज महावीर एक एजेंसी में मात्र 5 हजार रुपए महीने में कार्यरत है। रेखा नगर के जीजीआईसी में नौवीं कक्षा की छात्रा है। इधर पिछले चार दिनों से उसका उपचार बरेली के लीलावती अस्पताल मंे किया जा रहा है, जहां हर रोज 12 हजार रुपए से अधिक का खर्चा आ रहा है। रेखा के भाई महावीर ने बताया कि परिवार की आर्थिक स्थिति बेहद खराब है। चार दिन के खर्च का भी आधा ही अस्पताल में जमा करा पाए हैं। उन्होंने बहन की जिंदगी बचाने के लिए मदद की गुहार लगाई है। मदद महावीर के भारतीय स्टेट बैंक की तल्लीताल शाखा के खाता संख्या 32537021581, आईएफएससी कोड SBIN0003140 में जमा कराई जा सकती है। अधिक जानकारी पंकज महावीर के मोबाइल नंबर 7579499745 से भी ली जा सकती है।

यह भी पढ़ें : कैंसर पीढ़ित को मदद की दरकार, कृपया सहयोग करें…

नवीन समाचार, नैनीताल, 12 जुलाई 2019। चित्र में दिख रहे आनंद सिंह बिष्ट, निवासी जज फार्म, हल्द्वानी नैनीताल के हैं। आनंद को अभी कुछ माह पूर्व से गले का कैंसर है। उनके परिवार में पत्नी तथा 2 बच्चे हैं। पत्नी एक विद्यालय में छोटी-मोटी नौकरी करती है। आनंद ही अपने परिवार की आजीविका का साधन थे लेकिन अपनी बीमारी के चलते बिस्तर पर पड़े हैं। उनका इलाज सुशीला तिवारी चिकित्सालय हल्द्वानी से चल रहा है जिसमें वे अपनी पूरी जमा पूंजी लगा चुके हैं, और अब पारिवारिक स्थिति बड़ी दयनीय है। किराए का मकान, पढ़ने वाले बच्चे, घर का खर्चा, इलाज का खर्चा इस सब की व्यवस्था अकेली उनकी पत्नी को करनी पड़ रही है। अभी उनको कीमोथेरेपी व अन्य इलाज के लिए ही डेढ़ से 2 लाख रुपए की जरूरत है। यह सब खर्चा उनकी पत्नी के उठाना बहुत मुश्किल हो रहा है अतः उनके द्वारा ’हल्द्वानी ऑनलाइन संस्था (सहायता समूह)’ से मदद हेतु अपील की गयी है। संस्था की ओर सबसे विनम्र निवेदन किया गया है कि इस परिवार की मदद हेतु हमेशा की तरह हाथ आगे बढ़ाएं और मिल-जुलकर उनको इस विपत्ति से बाहर निकालें। ’आनंद जी की बैंक डिटेल’ व संस्था का मोबाइल नंबर नीचे दिया गया है। आप किसी भी रूप में उनके लिए अपनी आर्थिक मदद कर सकते हैं।

Bank- Bank Of Baroda
Name- Anand singh
Ac no.-47040100003109
IFSC-BARB0RAMHAL
Branch-Rampur Road,Haldwani
Paytm- 9719101865
Mobile-8958957944(wife)

यह भी पढ़ें : 2 दिन से घर नहीं लौटा प्रतिष्ठित होटल का होटल कर्मी, कहीं मिलने पर सहयोग करें…

गुमशुदा होटल कर्मी कैलाश चंद्र।

नवीन समाचार, नैनीताल, 11 जुलाई 2019। नगर के प्रतिष्ठित आरिफ कैसल्स होटल में पिछले तीन वर्ष से कार्यरत बताया जा रहा मूलतः सल्ट अल्मोड़ा निवासी व नगर में सात नंबर क्षेत्र में रहने वाला कैलाश चंद्र (26) पुत्र भवानी राम घर नहीं लौटा। बृहस्पतिवार को उसकी मां शांति देवी व छोटा भाई शोबन राम मल्लीताल कोतवाली पहुंचे व प्रभारी कोतवाल अशोक कुमार सिंह को रोते हुए बताया कि वह बुधवार शाम करीब सात बजे होटल से घर जाने के लिए निकला था किंतु घर नहीं पहुंचा। तभी से परिजन उसे हर जगह तलाश रहे हैं, किंतु उसका कोई पता नहीं लग पाया है। बताया कि वह शराब का सेवन भी करता है। उसकी सूचना मल्लीताल कोतवाली में दी जा सकती है। 

यह भी पढ़ें : दिल्ली की एनजीओ ‘सुधारने’ लाई थी, दूसरी बार गुमा दिया बच्चा, हड़कंप, पुलिस करेगी कार्रवाई -संस्था की बड़ी लापरवाही उजागर

<

p style=”text-align: justify;”>नवीन समाचार, नैनीताल, 1 जुलाई 2019। दिल्ली की एक स्वयं सेवी संस्था-सलाम बालक ट्रस्ट के साथ नैनीताल घूमने आए दल में शामिल एक किशोर लापता हो गया है। ट्रस्ट की ओर से मल्लीताल कोतवाली में किशोर की गुमशुदगी दी गई है। पुलिस ने बच्चे की खोजबीन शुरू कर दी है, लेकिन फिलहाल उसका पता नहीं चल सका है। सूत्रों के अनुसार इसी संस्था का एक किशोर नैनीताल भ्रमण के दौरान सात साल पहले 2012 में भी लापता हो गया था, जोकि अब तक नहीं मिला है।
नगर कोतवाल अशोक कुमार ने बताया कि ट्रस्ट के साथ करीब 70 बच्चों समेत 67 लोगों का दल नैनीताल घूमने आया है। रविवार 30 जून को बच्चों का दल नैनीताल घूमने आया था। इस दौरान ही एक बच्चा ट्रस्ट मल्लीताल नयना देवी मंदिर में राहुल (14) पुत्र श्रीपाल ग्रुप से एकाएक गायब हो गया। इसके बाद ट्रस्ट की ओर से पहुंचे प्रमोद कुमार सिंह समेत अन्य ने बच्चे की खोजबीन शुरू की। देर रात तक राहुल का पता नहीं चल सका। इधर सोमवार को उन्होंने मल्लीताल कोतवाली में तहरीर दी है। पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने सातताल पहुंचकर अन्य साथी बच्चों से पूछताछ की। कोतवाल अशोक कुमार सिंह ने पूछे जाने पर बताया कि इस संस्था को सीडब्लूसी यानी बाल कल्याण समिति के माध्यम से घर से भागे, खोये-पाये व अपराधी किस्म के बच्चे संरक्षण एवं सुधार के लिए दिये जाते हैं। संस्था एक बड़े व्यक्ति की देखरेख में 20 बच्चों को लेकर आई थी। पूर्व में भी संस्थ का एक बच्चा राजू (12) वर्ष 2012 में भी नैनीताल से लापता हो गया था, जोकि आज तक नहीं मिल सका। बच्चे के कहीं भाग जाने की संभावना है। इसमें संस्था की गलती है। संस्था के खिलाफ कार्रवाई एवं सीडब्लूसी को लिखा जाएगा।

यह भी पढ़ें : स्कूल से दो दिन बाद भी घर नहीं लौटी नौवीं की छात्रा

<

p style=”text-align: justify;”>नवीन समाचार, नैनीताल, 22 मई 2019। नैनीताल के एक स्कूल में कक्षा 9 की छात्रा स्कूल से छुट्टी के बाद घर को चली थी, किंतु दो दिन के बाद भी घर नहीं पहुंची है। परिजनों ने मल्लीताल कोतवाली में उसकी गुमशुदगी दर्ज करने को प्रार्थना पत्र दिया, जिस पर पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के मल्लीताल निवासी 15 वर्षीय इकरा परवीन सिद्दकी पुत्री आबिद अली मंगलवार की सुबह रोज की तरह अपने स्कूल मोहन लाल साह बालिका विद्या मंदिर गई थी, लेकिन शाम को घर नहीं लौटी। पता चला कि वह स्कूल से छुट्टी के बाद घर के लिए निकली तो थी, लेकिन घर नहीं पहुंची। इस पर परिजनों ने मल्लीताल कोतवाली में उसकी गुमशुदा होने की सूचना दी। पुलिस ने परिजनों के प्रार्थना पत्र के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मामले में जांच कर रही एसआई भावना बिष्ट ने बताया कि फिलहाल किशोरी के बारे में पता नहीं चल सका है। विश्वास जताया कि जल्द उसकी तलाश कर ली जाएगी।

यह भी पढ़ें : ‘दूसरी बार’ 5 दिन से गायब हल्द्वानी के प्रतिष्ठित व्यवसायी भीमताल में मिले, पुलिस ने किया परिजनों के सुपुर्द

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 19 मई 2019। 5 दिन पूर्व 15 मई की सुबह से लापता हुए हल्द्वानी के प्रतिष्ठित स्टेशनरी प्रतिष्ठान ‘पूरन एंड संस’ के स्वामी 49 वर्षीय संजीव कुमार अग्रवाल को आखिरकार पुलिस ने ढूंढ निकाला है। इसके बाद उन्हें परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है। वे भीमताल के एक होटल में मिले। उन्होंने कहा कि वे घर में हुई अनबन के कारण यहां आ गए थे। उल्लेखनीय है उन्होंने ऐसा पहली नहीं बल्कि दूसरी बार किया है।

बता दें कि मुनगली गार्डन रामपुर रोड निवासी संजीव बीती 15 मई को बिना बताये घर से कहीं चला गया था। देर शाम तक घर न लौटने पर परिजनों को उसकी चिंता सताने लगी। इस पर परिजनों ने उसके मोबाइल फोन पर संपर्क साधने का प्रयास किया तो वह स्विच ऑफ मिला। इसके बाद परिजनों ने पुलिस की शरण ली। पुलिस व्यापारी की तलाश में जुट गई। कोतवाल विक्रम राठौर ने बताया कि रविवार को भीमताल के पास एक बिना नंबर की स्कूटी दिखने की सूचना उन्हें मिली। जिस पर एसआई विनय मित्तल के नेतृत्व में एक टीम भीमताल भेजी गई जहां व्यापारी संजीव कुमार को एक होटल से सकुशल बरामद कर लिया। उसे यहां कोतवाली लाने के साथ ही इसकी सूचना उसके परिजनों को दी गई। उसने पुलिस को बताया कि घर में अनबन होने के चलते वह भीमताल चला गया था। कोतवाली पहुंचे परिजनों को व्यापारी को सौंप दिया गया। पुलिस के अनुसार व्यापारी एक बार पूर्व में भी इसी तरह घर से बिना बताये जा चुका है।

यह भी पढ़ें : सुबह तड़के बिन बताये गायब हुए घर के मुखिया

नवीन समाचार, नैनीताल, 6 अप्रैल 2019। जनपद के ओखलकांडा विकासखंड अंतर्गत ग्राम अधौड़ा में घर के मुखिया का अचानक सुबह मुंह अंधेरे गायब होने का मामला प्रकाश में आया है। गांव के दीप प्रकाश महरा ने पट्टी पदमपुरी के राजस्व उपनिरीक्षक कार्यालय में गुमशुदगी दर्ज कराते हुए कहा है कि उसके पिता दीवान सिंह महरा पुत्र स्वर्गी उमेद सिंह महरा 5 अप्रैल की सुबह तड़के करीब साढ़े चार बजे परिवार के अन्य सदस्यों के उठने से पहले से लापता हो गये हैं। तब से उनका कोई पता नहीं चल पा रहा है। सोशल मीडिया पर भी उन्हें तलाशने की गुहार लगाई जा रही है।

यह भी पढ़ें : ICU में भर्ती 5वीं कक्षा के घायल बच्चे पंकज को मदद की अपील

घायल बच्चे की फाइल फोटो।

नवीन समाचार, नैनीताल, 23 मार्च 2019। बीती 18 मार्च को देर शाम करीब सात बजे नगर के स्टाफ हाउस क्षेत्र का रहने वाला 12 वर्षीय बालक पंकज चंद पुत्र कुंदन चंद्र घर के पास के नाले में गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया था। उसकी पसलियां टूट गयी थीं, तथा मस्तिष्क में भी चोट आई थी। मुख्यालय स्थित बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में उपचार के बाद उसे उच्च केंद्र के लिए संदर्भित कर दिया गया था। तब से हल्द्वानी के विवेकानंद अस्पताल के आईसीयू में उसका उपचार किया जा रहा है, और परिजनों के अनुसार उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। पंकज नगर के भारतीय शहीद सैनिक विद्यालय में पांचवी कक्षा का छात्र है। उसके पिता नगर के शेरवानी होटल में कार्यरत हैं और उनका परिवार किराये के घर में रहता है। उसके परिचितों और परिजनों ने उसकी मदद के लिए आम लोगों से गुहार लगाई है। मोबाइल नंबर 7830447858 पर संपर्क करके तथा किशन चंद के एचडीएफसी बैंक के खाता संख्या 08101050001973 आईएफएससी कोड HDFC0000810 पर धनराशि जमा करके मदद की जा सकती है।

यह भी पढ़ें : श्री रामसेवक सभा के सदस्य तीन दिन से गायब, मोबाइल भी बंद

गुमशुदा नवीन जोशी

नवीन समाचार, नैनीताल, 18 मार्च 2019। नगर के मल्लीताल पंप हाउस क्षेत्र निवासी 35 वर्षीय नवीन जोशी उर्फ़ नब्बू पुत्र केशव दत्त जोशी पिछले तीन दिन से गायब है। नवीन नगर की सबसे प्राचीन व प्रतिष्ठित धार्मिक-सांस्कृतिक संस्था श्रीराम सेवक सभा के भी सक्रिय सदस्य हैं। उनका मोबाइल नंबर भी बंद आ रहा है। नवीन के भाई कमल जोशी ने मल्लीताल कोतवाली में उसकी गुमशुदगी हेतु तहरीर दी है। तहरीर में कहा है कि नवीन 16 मार्च को हल्द्वानी जाने की बात कहकर घर से निकले थे। तब से उनका कोई पता नहीं चल रहा है। मल्लीताल कोतवाली के एचसीपी सत्येंद्र गंगोला को मामले की जांच सोंपी गयी है। सभा के पूर्व अध्यक्ष मुकेश जोशी ‘मंटू’ ने कहा कि नवीन के अचानक इस तरह गायब होने से गहरी चिंता है। उनके परिजनों ने उनके शीघ्र सकुशल घर वापस लौटने की उम्मीद जताई है। ‘नवीन समाचार’ भी अपने पाठकों से कहीं उनके दिखाई देने पर उनके सकुशल घर लौटने में सहयोग करने की अपील करता है।

यह भी पढ़ें : तीन बच्चों के मात्र 39 वर्षीय पिता की दोनों किडनी खराब, मदद की गुहार

सुरेंद्र की फोटो तीन माह पूर्व व अब

नवीन समाचार, नैनीताल, 13 मार्च 2019। उत्तराखंड प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं एवं स्वास्थ्य जागरूकता की कमी की वजह से लोगों को अपनी बीमारियों का पता ही बहुत देर से लग पाता है। प्रदेश के पौड़ी गढ़वाल जनपद के दूरस्थ ग्राम थापला, जसपुर खाल निवासी सुरेंद्र सिंह (उम्र 39, जन्म तिथि 20 मार्च 1980) पुत्र सुल्तान सिंह को तीन माह पूर्व अचानक पता चला कि उसकी दोनों किडनी खराब हो चुकी हैं। अब चिकित्सकों का कहना है कि वह कहीं से किडनी डोनर लाये और करीब साढ़े छह लाख रुपये खर्च करे तो वह 80 वर्ष तक जी सकता है, अन्यथा उसका जीवन अब गिने-चुने दिन ही शेष है।

सुरेन्द्र की मदद की गुहार

<

p style=”text-align: justify;”>अब तक बिजली का काम करके अपने माता-पिता, पत्नी तथा 8 व 5 साल के पुत्री-पुत्र के परिवार का अकेले पालन-पोषण कर रहे सुरेंद्र के आगे इन परिस्थितियों में अंधेरा ही अंधेरा नजर आ रहा है। ऐसे में उसने किडनी व आर्थिक मदद देने के इच्छुक समाजसेवियों से मदद की गुहार लगाई है।
सुरेंद्र ने बताया कि तीन माह पूर्व पैर में दर्द होने की शिकायत पर वह रामनगर के अस्पताल में खुद को दिखाने आया, तब अचानक उसे पता चला कि उसकी दोनों किडनी केवल 14 फीसद ही बची हैं। तब से वह देहरादून के अस्पतालों में इलाज-हर दूसरे-तीसरे दिन डायलिसिस करवा रहा है। और इस पर करीब एक लाख रुपये खर्च भी हो चुके हैं। आयुष्मान कार्ड से जरूर कुछ मदद मिल रही है, परंतु बिना किडनी प्रत्यावर्तण के उसका सही होना असंभव है। इधर उसके शरीर में हीमोग्लोबिन शून्य प्रतिशत पर पहुंच गया है और दिन प्रति दिन पूरे शरीर में सूजन बढ़ती जा रही है। इच्छुक व्यक्ति उसके निम्न बैंक खाते में मदद कर सकते हैं।

<

p style=”text-align: justify;”>बैंक खाता संख्या: 4203046059, आईएसएससी कोड: SBIN0RRUTGB बैजरो पौड़ी गढ़वाल।
सुरेंद्र व उसकी पत्नी के मोबाइल नंबर: 7302016031, 6939000824
(नवीन समाचार भी अपने पाठकों से सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत सुरेंद्र की मदद की गुहार लगाता है। हम स्वयं भी ऐसे जरूरतमंदों के लिए हमेशा समाचार प्रकाशित कर उनकी बात आगे बढ़ाने सहित हर संभव मदद के लिए हमेशा तत्पर हैं।)

यह भी पढ़ें : नैनीताल के लोकगायक को हृदयाघात, मदद की अपील

नवीन समाचार, 27 दिसंबर 2018। नैनीताल के एक होटल में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करने वाले लोकगायक श्री ठाकुर राम हृदयाघात के शिकार हुए हैं। उनकी आर्थिक स्थिति कमज़ोर है और वो अपने परिवार के एकमात्र कमाने वाले सदस्य हैं। उनकी पत्नी बच्चे गाँव में रहते हैं। नगर के समाजसेवियों की ओर से हल्द्वानी के बृज लाल अस्पताल में भर्ती लोकगायक श्री ठाकुर राम की मदद की अपील की गयी है। श्री ठाकुरजी की सहायता के लिए स्थानीय बैंक ऑफ बड़ौदा मल्लीताल की शाखा में एक खाता खोला गया है जिसका नंबर 06090100008775 और IFSC कोड BARB0NAINIT है। आपसे निवेदन है कि यथाशक्ति इस खाते में मदद की राशि भेजने का प्रयास करें।

नैनीताल की बेटी किरन को इलाज के लिए मदद की दरकार

नैनीताल, 26 सितंबर 2018। मुख्यालय स्थित जीजीआईसी में नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली 16 वर्ष की मेधावी छात्रा किरन के इलाज के लिए उसके पिता कृष्ण पांडे ने आम लोगों से मदद की गुहार लगायी है। बताया गया है कि किरन को पिछले सात वर्षों से रीढ़ की हड्डी में अपनी तरह की अलग बीमारी है। जिसके कारण उसकी रीढ़ की हड्डी मुड़ी हुई है, और इस कारण उसका बांया हिस्सा प्रभावित है। चिकित्सा के क्षेत्र में इस बीमारी को ‘किफोस्कोलोटिक डिफॉरमिटी ऑफ द डॉर्सल स्पाइन विद द बैक एक विद रेडिकुलोपैथी टु राइट अपर लिम्ब’ बताया गया है। इधर उसका उपचार उत्तराखंड उच्च न्यायालय के कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति राजीव शर्मा के प्रयासों से पीजीआई चंडीगढ़ में चल रहा है, और उनके प्रयासों से ही आगे 30 अक्टूबर को कई भारतीय और विदेशी चिकित्सकों द्वारा मिलकर उसकी रीढ़ की हड्डी का ऑपरेशन किया जाना तय हुआ है। इस ऑपरेशन में बड़ी धनराशि खर्च होनी है। किरन के पिता नगर के एक स्कूल की गाड़ी चलाते हैं। लिहाजा उन्होंने मदद के लिए गुहार लगायी है। धनराशि उनके यश बैंक के खाता संख्या 8080811049045, IFSC कोड YESBOCMSNOC में जमा करायी जा सकती है।

विस्तृत विवरण एवं मदद के लिए यहां क्लिक करें। 

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply