यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 8077566792 पर संपर्क करें..

नाबालिग बच्ची ने लिखा-यह दुनिया अच्छी नहीं लगती और चलती ट्रेन के आगे कूद गई…

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, पंतनगर, 19 नवंबर 2019। मंगलवार अपराह्न निकटवर्ती नगला बाइपास के पास एक किशोरी काठगोदाम-लखनऊ एक्सप्रेस ट्रेन के आगे कूद गई। इससे उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। किशोरी की पहचान 16 वर्षीया आरती पुत्री जीसुख निवासी ग्राम गिरधरपुर बिल्सा, शीशगढ़ जनपद बरेली उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। युवती के पास से उसके आधार कार्ड के साथ सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। जिसमें उसने अपने पिता के मोबाइल नंबर के साथ लिखा है। उसे दुनिया अच्छी नहीं लगती है। इसलिए वह जान दे रही है। उसकी मौत के लिए किसी को दोषी न ठहराया जाए।

यह भी पढ़ें : आखिर हो गई भूमियाधार में मिले सड़े-गले शव की शिनाख्त…हावड़ा कोलकाता का निकला शव

नवीन समाचार, नैनीताल, 14 नवंबर 2019। बुधवार को निकटवर्ती भूमियाधार में वन विभाग की नर्सरी के पास पेड़ पर लटके हुए सड़ी गली अवस्था में मिले शव की शिनाख्त हो गई है। शव की जेब से मिले एक नंबर के आधार पर पुलिस की पड़ताल में सामने आया कि हावड़ा कोलकाता पश्चिम बंगाल निवासी 25 वर्षीय युवक रोनित कुमार सिंह पुत्र देवेंद्र सिंह पुणे महाराष्ट्र से गायब हुआ है। उसकी गुमशुदगी पुणे में दर्ज है। इस पर पुलिस ने रोनित के परिजनों तक किसी तरह से संपर्क किया। उसके परिजन मुख्यालय पहुंच गए हैं। अब शुक्रवार को पुलिस शव का पोस्टमार्टम कराएगी, जिसके बाद उसकी मृत्यु की तिथि एवं कारणों पर स्थिति साफ हो सकती है।
उल्लेखनीय है कि बुधवार देर शाम मुख्यालय से करीब 10 किमी दूर भूमियाधार स्थित वन विभाग की नर्सरी के पास, हल्द्वानी-भवाली रोड से करीब 15-20 मीटर नीचे पेड़ पर लटका एक पूरी तरह से सड़ा-गला शव बरामद हुआ था। इस आधार पर माना जा रहा है कि शव 10 दिन से अधिक पुराना हो सकता है, और पुलिस के अनुसार मृत्यु का कारण प्रथम दृष्टया आत्महत्या करना प्रतीत हो रहा है। तल्लीताल थाना पुलिस ने शव को पेड़ से उतार कर उसकी शिनाख्त के प्रयास शुरू किये थे, जिस पर अब सफलता मिलती दिख रही है। मृत्यु के पीछे के कारणों के बारे में पूरी पुष्टि होने पर ही सही पता लगने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग अभी-अभी : भूमियाधार में मिला युवक का सड़ा-गला शव

नवीन समाचार, नैनीताल, 13 नवंबर 2019। मुख्यालय से करीब 10 किमी दूर भूमियाधार स्थित वन विभाग की नर्सरी के पास पेड़ पर लटका एक शव बरामद हुआ है। शव पूरी तरह से सड़-गल गया है। इस आधार पर माना जा रहा है कि शव 10 दिन से अधिक पुराना हो सकता है, और पुलिस के अनुसार मृत्यु का कारण प्रथम दृष्टया आत्महत्या करना प्रतीत हो रहा है। बताया गया है कि घटनास्थल हल्द्वानी-भवाली रोड से करीब 15-20 मीटर नीचे है। इसलिए इतने दिनों में इस पर किसी की नजर नहीं पड़ी। इधर बुधवार देर शाम घास लेकर लौटती महिलाओं को किसी तरह से शव दिखाई दे गया। इसके बाद भवाली एवं तल्लीताल थाना पुलिस मौके पर पहुंची एवं शव को पेड़ से उतार कर उसकी शिनाख्त के प्रयास शुरू किये, किंतु कोई सफलता नहीं मिली। सीओ नैनीताल विजय थापा ने बताया कि मृतक की उम्र करीब 25-30 के बीच हो सकती है। उसकी शिनाख्त के प्रयास किये जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : नैनीताल के होटल मैनेजर की कथित आत्महत्या के मामले में पत्नी ने लगाया हत्या का आरोप

नवीन समाचार, नैनीताल, 8 नवंबर 2019। गत 23 अक्टूबर को तल्लीताल थाना पुलिस ने नगर के ठंडी सड़क स्थित पाषाण देवी मंदिर के पास नैनी झील से नगर के आशीष होटल के मैनेजर विनोद कुमार पुत्र गंगा प्रसाद निवासी तल्ला कृष्णापुर का शव बरामद किया था। पुलिस ने तब मृत्यु का प्रथम दृष्टया कारण आत्महत्या बताया था। किंतु इस मामले में मृतक की पत्नी गीता टम्टा ने अपने पति की हत्या किये जाने का शक जताते हुए तल्लीताल थाना पुलिस में एवं एसएसपी को पत्र देकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। बताया है कि घटना के दिन उसके पति होटल के कार्य से मल्लीताल गए थे और कार्य के बाद रात्रि 10.46 बजे उनके मोबाइल से मिस्ड कॉल आई थी, किंतु कॉल बैक करने पर फोन बंद आया। लिहाजा मुकदमा दर्ज किया जाए। मामले में पूछे जाने पर थाना अध्यक्ष राहुल राठी ने बताया कि अभी मृतक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई है। रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें : नैनी झील में मिला होटल मैनेजर का शव

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अक्तूबर 2019। बृहस्पतिवार सुबह-सुबह नगर की नैनी झील में एक युवक का शव उतराता देखा गया। मृतक की पहचान नगर के तल्लीताल बाजार स्थित आशीष होटल के मैनेजर तल्ला कृष्णापुर निवासी 43 वर्षीय विनोद कुमार पुत्र स्वर्गीय गंगा प्रसाद के रूप में हुई। पुलिस प्रथमदृष्टया मौत का कारण आत्महत्या मान रही है। शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। तभी मृत्यु के कारणों का वास्तविक खुलासा होगा।
पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार बृहस्पतिवार सुबह स्थानीय लोगों ने ठंडी सड़क स्थित पाषाण देवी मंदिर के पास शव को झील में उतराते हुए देखा और पुलिस को सूचना दी। इस पर पहुंची पुलिस ने शव को झील से बाहर निकाला। उसकी जेब में पड़े प्रपत्रों, पैन कार्ड आदि से उसकी पहचान हुई। पुलिस के अनुसार शव में किसी तरह के चोट के निशान नहीं मिले हैं। कुछ लोगों ने उसे बीती शाम देखे जाने की बात भी कही है। लिहाजा माना जा रहा है कि उसने रात्रि में आत्महत्या की होगी। मृतक के एक पुत्र व पुत्री हैं। वह बुधवार को उन्हें स्कूल छोड़ने भी गया था। होटल इन दिनों बंद बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : बर्दाश्त नहीं हुई कम नम्बर आने पर पिता की डांट, मां के दुपट्टे से फंदे पर लटक गया 11वीं का छात्र

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 16 अक्तूबर 2019। बच्चों को अब पिता की डांट भी बर्दाश्त नहीं हो रही। पिता की डांट से क्षुब्ध होकर 11वीं का छात्र घर में पंखे के कुंडे से लटक गया। परिजन उसे बचाने की कोशिश में उपचार के लिए सुशीला तिवारी अस्पताल ले गये, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची मेडिकल चौकी पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और उसका पंचनामा भर पोस्टमार्टम करा कर उसके परिजनों को सौंप दिया।

मेडिकल चौकी प्रभारी कैलाश नेगी के अनुसार सोन बिहार कुसुमखेड़ा निवासी एसएच परिहार का 17 वर्षीय पुत्र करन परिहार नगर के एक निजी स्कूल में कक्षा 11वीं में पढ़ता था। परीक्षा में कम नम्बर लाने पर उसे उसके पिता ने फटकार लगा दी, जिससे वह काफी गुमसुम रहने लगा। बीती रात करन खाना खाकर अपने कमरे में चला गया और दुपट्टे को पंखे के कुंडे में बांधकर वह उससे लटक गया। कुछ देर के बाद जब उसकी मां किसी काम से उसके कमरे में गयी तो उसके पैरों के नीचे से धरती खिसक गयी। पुत्र को लटका देख उसने शोरगुल मचा दिया। इतने में परिवार के अन्य लोग करन के कमरे में पहुंचे और उन्होंने करन को नीचे उतारा और उसे उपचार के लिए सुशीला तिवारी अस्पताल ले गये। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मामले की सूचना अस्पताल प्रशासन ने पुलिस को दी। सूचना पर मौके पर पहुंची मेडिकल चौकी पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और बुधवार की प्रात: उसका पंचनामा भर उसके शव को उसके परिजनों को सौंप दिया है। इस घटना से परिजनों में कोहराम मचा है।

यह भी पढ़ें : शादी के छह माह बाद ही फंदे पर लटक गया युवक, परिजनों ने हत्या की जताई आशंका

-घर के पास ही आम के पेड़ पर लटका मिला

प्रतीकात्मक चित्र

नवीन समाचार, नैनीताल, 2 नवंबर 2019। जनपद के बेतालघाट तहसील मुख्यालय के निकटवर्ती ग्राम रानीबाग नौघर में एक 26 वर्षीय युवक संजू गोस्वामी पुत्र रमेश पुरी का शव आम के पेड़ में लटका हुआ मिला। परिजनों ने उसकी हत्या कर शव पेड़ पर लटकाने का अंदेशा जता कर राजस्व पुलिस को सूचना दी। राजस्व पुलिस ने शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पोस्टमार्टम में युवक के फंदे पर लटकने से ही मौत होने की पुष्टि हुई है। इसके बाद माना जा रहा है कि भावावेश में उसने आत्महत्या कर ली होगी। युवक का 6 माह पूर्व ही विवाह हुआ है। बताया जा रहा है कि विवाह के बाद पति-पत्नी में संबंध बेहतर नहीं थे। मृतक गुड़गांव में प्राइवेट नौकरी करता था और इधर पंचायत चुनाव व दीपावली के लिए घर आया हुआ था। राजस्व उप निरीक्षक भुवन जोशी ने बताया कि पोस्टमार्टम में युवक की मृत्यु का कारण फांसी पर लटकने से होने की बात प्रकाश में आई है।

यह भी पढ़ें : वाहन दुर्घटना में मौत के लिए खुद को जिम्मदार मान मार ली अपनी कनपटी पर गोली, मौत

नवीन समाचार, किच्छा, 10 अक्तूबर 2019। उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जनपद के किच्छा में बृहस्पतिवार की सुबह करीब साढ़े 10 बजे एक 35 वर्षीय युवक की खुद को गोली मारकर आत्महत्या करने की खबर से हर कोई स्तब्ध रह गया। बताया गया कि आदित्य चौके के पास रहने वाले मुकेश चंद्र के वाहन की कुछ दिन पहले एक टुकटुक वाहन चालक से टक्कर हो गई थी। दुर्घटना में टुकटुक चालक की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद से वह परेशान था, और इधर दो दिन पहले मुकेश को उस दुर्घटना के लिए नोटिस मिला था। जिसके बाद से वह और भी अधिक अवसाद में चला गया था। माना जा रहा है कि इसी कारण उसने खुद को तमंचे से गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। प्रभारी निरीक्षक उमेश मलिक ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव को पंचायतनामे के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

यह भी पढ़ें : कर्ज के बोझ तले दबे ठेकेदार ने जहर गटक कर मौत को लगाया गले!

-आर्थिक तंगी को माना जा रहा है लोनिवि व एनएच के प्रतिष्ठित ठेकेदार की आत्महत्या का कारण
-भारी कर्ज के तले दबे थे मृतक पांडे, 6 माह से रुद्रपुर रह रहे थे, घर भी किया था बिकाऊ
नैनीताल। मुख्यालय के निकटवर्ती तल्ला गेठिया निवासी एक प्रतिष्ठित ठेकेदार अम्बा दत्त पांडे (50) बुधवार को बेचैनी में उल्टी करते हुए मिले। उनके मुंह से झाग भी निकल रहा था। गंभीर हालात में परिजन उन्हें इलाज के लिए हल्द्वानी ले गए हैं। जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। ज्योलीकोट पुलिस को मृतक के कब्जे से एक सुसाइड नोट मिला है। पुलिस ने सुसाइड नोट में लिखे तथ्यों का खुलासा तो नहीं किया है, अलबत्ता माना जा रहा है कि आर्थिक तंगी के कारण पांडे ने मौत को गले लगाया होगा। साथ ही पुलिस ने मृतक की कार भी कब्जे में ली है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार अपराह्न करीब साढ़े तीन-चार बजे लोनिवि व एनएच के प्रतिष्ठित ठेकेदार अम्बा पांडे अपनी कार से ज्योलीकोट की ओर आ रहे थे। बीरभट्टी से पहले पायलट बाबा आश्रम के पास वे बेचैनी होने पर कार से उतरकर उल्टी करने लगे। उनकी हालत भी लगातार बिगड़ रही थी। इस पर आसपास के लोगों ने 108 आपातकालीन सेवा एवं ज्योलीकोट चौकी पुलिस को भी इसकी सूचना दी। तत्काल ही पास ही स्थित घर से उनके भतीजे व परिजन मौके पर पहुंचकर उन्हें हल्द्वानी उपचार के लिए ले गये। जहां बताया गया है सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। प्रथम दृष्टया माना जा रहा है कि उन्होंने जहर गटक कर आत्महत्या की होगी, हालांकि ज्योलीकोट चौकी प्रभारी दिनेश जोशी ने इसकी पुष्टि नहीं की है। उन्होंने उनकी कार में भी किसी तरह का जहरीला पदार्थ मिलने से इंकार किया है।
इधर सूत्रों पर यकीन करें तो लोनिवि व एनएच के प्रतिष्ठित ठेकेदार रहे अम्बा पांडे बीते कुछ समय से जबर्दस्त आर्थिक तंगी से गुजर रहे थे। वे बीते करीब 6 माह से अपने घर के बजाय रुद्रपुर में रह रहे थे, तथा उन्होंने अपना तल्ला गेठिया स्थित घर भी बिकाऊ कर रखा था। स्वर्गीय पांडे अपने पीछे दो पुत्रियों एवं एक पुत्र तथा पत्नी सहित भरा-पूरा परिवार छोड़ गये हैं।

Leave a Reply

Loading...
loading...