विज्ञापन सड़क किनारे होर्डिंग पर लगाते हैं, और समाचार समाचार माध्यमों में निःशुल्क छपवाते हैं। समाचार माध्यम कैसे चलेंगे....? कभी सोचा है ? उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 30 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 13.7 मिलियन यानी 1.37 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

July 25, 2024

केंद्रीय मंत्री के बाद मुख्यमंत्री से मिले कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री, कांग्रेस नेता भी मनाने में जुटे, चर्चाओं का बाजार गर्म…

0

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 15 अप्रैल 2023। (After the Union Minister, the Congress leader met the Chief Minister, the former minister, the Congress leader also engaged in persuasion, the market of discussions is hot) लोकसभा चुनाव-2024 से पहले क्या उत्तराखंड की राजनीति में कोई बड़ा उलटफेर होगा। अपनी इस अलग तरह की कार्यशैली के लिए पहचानी जाने लगी भाजपा उत्तराखंड में कांग्रेस को पस्त करने के लिए कोई बड़ा दांव चलेगी। यह भी पढ़ें : मुलाकातों से नेतृत्व पर सवाल उठाने वाले कांग्रेस विधायक की भाजपा में घर वापसी की चर्चाएं हुईं तेज…

Imageक्या नैनीताल सीट पर भाजपा अपने सांसद प्रत्याशी के लिए मौजूदा केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट के नाम पर कोई समझौता कर सकती है ? यह सवाल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, पूर्व काबीना मंत्री तिलक राज बेहड़ की पहले स्वयं अजय भट्ट और अब मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात के बाद तेजी से उठ रहे हैं। यह भी पढ़ें : नैनीताल बड़ी दुर्घटना: बिजली की 11 हजार वोल्ट की हाईटेंसन लाइन पर करंट लगने से लाइनमैन की मौत…

Imageबताया जा रहा है कि एक दौर में कांग्रेस शासनकाल में स्वयं को उपमुख्यमंत्री बताने वाले पूर्व मंत्री व 5 बार के विधायक तथा पंजाबी समुदाय के नेता के रूप में पहचाने जाने वाले बेहड़ इन दिनों हताशा के दौर में हैं। वह रुद्रपुर के कांग्रेस नगर अध्यक्ष को हटाने और उनकी बात अनसुनी करने को लेकर पार्टी नेतृत्व से नाराज हैं। यह भी पढ़ें : चर्चित सामिया लेक सिटी के निदेशक गिरफ्तार, मालिक के खिलाफ लुक आउट नोटिस…

Imageचर्चा यह भी है कि काफी समय से स्वास्थ्य कारणों से परेशान चल रहे बेहड़ अपने बेटों को अपनी जगह राजनीति में प्रतिस्थापित करना चाहते हैं। जबकि स्वयं वह पिछले एक वर्ष में कुछ नहीं कर पाए हैं। पहले भी दलबदल कर चुके बेहड़ को अब कांग्रेस में कोई भविष्य नजर नहीं आ रहा है। यह भी पढ़ें : फैजल ने राहुल बनकर युवती के साथ दोस्ती का जाल फेंककर की उसकी फोटो वायरल, फिर लड़की ने जो किया….

बेहड़ का कहना है कि उन्हें बीमार बताकर पार्टी ने उन्हें जिम्मेदारियों से वंचित रखा, लेकिन उन्हें बीमारी में देखने भी कोई कांग्रेसी नहीं आया। यहां तक कि प्रदेश अध्यक्ष रुद्रपुर आने के बाद भी उनसे मिलने नहीं आए। जबकि भाजपा नेता लगातार उनका हालचाल लेते रहे। यह भी पढ़ें : बड़ा समाचार: उत्तराखंड उच्च न्यायालय के चार लोग बनेंगे न्यायाधीश…

ऐसी आम चर्चाएं भी हैं कि इन स्थितियों में बेहड़़ खुद भाजपा में जाना चाहते हैं। सूत्र यह भी कह रहे हैं कि बेहड़ इस कारण अपने चहेतों से स्वयं भाजपा में जाने की खबरें उड़ा रहे हैं, ताकि भाजपा उन्हें ले ले, या कांग्रेस में उनकी पूछ हो। उन्होंने स्वयं केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट व मुख्यमंत्री धामी से मुलाकातों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर डालीं। उधर, शहर में एक अन्य पूर्व विधायक के भी धुर विरोधी विचारधारा वाली दूसरी पार्टी में जाने की चर्चाएं हैं। यह भी पढ़ें : शोक समाचार: अनेकों पहचानों वाले केसी पंत नहीं रहे..

यह भी प्रचारित किया जा रहा है कि वह भाजपा से खुद के लिए सांसद एवं बेटे के लिए विधायक का टिकट चाहते हैं, जबकि भाजपा द्वारा खासकर सांसद का टिकट उन्हें दिए जाने की संभावना शून्य के बराबर ही है। अलबत्ता, भाजपा भी तोल रही है कि उनसे पार्टी को कितना लाभ मिलेगा। यह भी पढ़ें : पत्रकारिता विभाग के तीन विद्यार्थियों सहित कई ने उत्तीर्ण की नेट परीक्षा, कांग्रेसियों ने दी बाबा साहेब को श्रद्धांजलि

बेहड़ ने इधर दो दिन पूर्व बेहड़ ने दो दिन पूर्व यानी 13 अप्रैल को पंतनगर एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री धामी से मुलाकात की है। बेहड़ ने इस मुलाकात पर कहा, उन्होंने अपनी विधानसभा किच्छा की कई योजनाओं की स्वीकृति दिए जाने के दृष्टिगत पन्तनगर एयरपोर्ट पर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री पुष्कर धामी जी से भेंट की और उन्हें जनसरोकार से जुड़े कई बिन्दुओं पर पत्र भी सौंपा’। यह भी पढ़ें : बाबा नीब करौरी, जिन्होंने नैनीताल की फल पट्टी के सेब को चख कर बना दिया दुनिया का ‘एप्पल’, बाबा व उनके कैंची धाम के बारे में पूरी जानकारी

इनके अलावा हालिया दिनों में बेहड़ से कांग्रेस नेता व पूर्व सीएम हरीश रावत व कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने भी मुलाकात की है। जबकि इससे पहले बेहड़ के अपनी पार्टी के प्रति सुरों में तल्खी देखी गई थी। यह भी पढ़ें : इस लंबे सप्ताहांत नैनीताल-कैंची आना हो तो जरूर देखें प्रशासन का नया ट्रैफिक प्लान…

जबकि राजनीतिक हल्कों में एक बार फिर अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। मुख्यमंत्री धामी के साथ बेहड़ की मुलाकात कई राजनीतिक मायने भी निकल कर सामने आ रहे हैं। चर्चा है कि खराब स्वास्थ्य से गुजर रहे बेहड़ भाजपा में घर वापसी कर सकते हैं। यह भी पढ़ें : युवती को दूसरे धर्म के युवक द्वारा भगाने के बाद गांव में तनाव का माहौल, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात….

उल्लेखनीय है कि बेहड़ कांग्रेस और भाजपा में संगठन और सत्ता के ऊंचे पदों पर रह चुके हैं। पूर्व में रुद्रपुर विधानसभा से वह वर्ष 1993 और 1996 में दो बार भाजपा के टिकट पर चुनाव जीते थे। हालांकि, 1991 के चुनाव में उन्हें इसी सीट पर कांग्रेस के दिग्गज नेता नारायण दत्त तिवारी के सामने हार का मुंह देखना पड़ा था। यह भी पढ़ें : कबाड़ी ने विधवा महिला के साथ ही उसके चार नाबालिग बच्चों का भी धर्मांतरण करा दिया…

बाद में बेहड़ कांग्रेस में शामिल हो गए थे। इसके पश्चात वर्ष 2002 और 2007 का विधानसभा चुनाव उन्होंने रुद्रपुर सीट से कांग्रेस के टिकट पर लड़ा और दोनों में जीत भी हासिल की। वर्ष 2012 और 2017 में रुद्रपुर विधानसभा सीट पर बेहड़ हारे तो वर्ष 2022 में हुए विधानसभा चुनाव में वह कांग्रेस के ही टिकट पर किच्छा सीट से विजयी हुए। आगे देखने वाली बात यह होगी कि पूर्व से ही दल बदलने का इतिहास रखने वाले बेहड़ का राजनीतिक ऊंट आगामी लोक सभा चुनाव तक किस करवट बैठेगा। यह भी पढ़ें : धनी बनना चाहते हैं तो जानें बाबा नीब करौरी द्वारा बताए धनी बनने के तीन उपाय

(डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :