उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 16 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 12.6 मिलियन यानी 1.26 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

March 3, 2024

प्रधानमंत्री मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ के आह्वान के बीच दो बच्चों की मां ने अपनी समस्याओं के बीच आत्मनिर्भर होने का ढूंढा ऐसा रास्ता कि बन गई ‘डिलीवरी गर्ल’ (Atmnirbhar Bharat)

0

Atmanirbhar Bharat, Mother’s Inspiring Journey: From Homemaker to ‘Delivery Girl’ in Self-Reliant India | Naveen Samachar, Rudrapur, 20 June 2023

Atmanirbhar Bharat

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 20 जून 2023। (Atmnirbhar Bharat) प्रधानमंत्री मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ के आह्वान के बीच जनपद के ऊधमसिंह नगर के आज के दौर की महिलाओं के लिए एक प्रेरणादायी समाचार है। यहां दो बच्चों की मां ने ‘डिलीवरी गर्ल’ के तौर पर अपनी पहचान बनाकर शादीशुदा महिलाओं के लिए ईमानदारी व मेहनत से कोई भी क्षेत्र त्याज्य न होने का बड़ा संदेश दिया है।

Atmanirbhar BharatAtmnirbhar Bharat

मनीषा ने बताया कि वह कुछ समय से अपनी दो छोटी बेटियों के साथ मायके में रह रही थी। उनके भरण पोषण के लिए उन्होंने नौकरी करने का फैसला लिया। दो माह पूर्व मनीषा चंपावत के नायक गोट गांव से नौकरी की तलाश में रुद्रपुर पहुंची। इस दौरान फैक्ट्रियों में नौकरी ढूंढी लेकिन फैक्टरियों में जरूरत पर छुट्टी ना मिलने और बच्चों को समय ना दे पाने के डर से उन्होंने फूड डिलीवरी करने का मन बनाया।

अब इस काम में वह एक तरीके से अपनी मालकिन खुद भी है। वह सुबह 7 बजे से रात 12 बजे तक खाने की होम डिलीवरी करती है, और जब अपने और बेटियों के लिए जरूरत पड़ती है, अपना मोबाइल आईडी को बंद कर देती है, और काम पर लौटती हैं तो आईडी तो चालू कर लेती हैं।

एक महिला को इस तरह होम डिलीवरी करते देख लोग, खास कर महिलाएं उसे इस रूप में काफी पसंद भी कर रही हैं। कई महिलाओं ने उसकी वीडियो भी बनाई जो ‘होम डिलीवरी गर्ल’ के रूप में सोशल मीडिया पर वायरल हो गई और उसकी अलग पहचान भी बन गई है। मनीषा ने बताया कि वह अब तक वह रुद्रपुर, गदरपुर, किच्छा, दिनेशपुर, पंतनगर तक लोगों को खाना डिलीवर कर चुकी हैं।

उन्होंने महिलाओं को संदेश दिया कि कोई भी काम छोटा-बड़ा नहीं होता है। हमें हमेशा आत्मनिर्भर रहना चाहिए। इस काम से वह अपनी अलग पहचान बनाने के साथ अपनी बेटियों को पालने के साथ आत्मनिर्भर भी बन रही है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..

Atmanirbhar Bharat : In the midst of Prime Minister Modi’s call for ‘self-reliant India’, the mother of two children found a way to be self-sufficient amidst her problems, becoming a ‘delivery girl’

Naveen Samachar, Rudrapur, 20 June 2023. In the midst of Prime Minister Modi’s call for ‘self-reliant India’, there is an inspiring news for the women of today’s era of Udham Singh Nagar of the district. Here, the mother of two children has given a big message to married women by identifying herself as a ‘delivery girl’, not to leave any field with honesty and hard work.

Manisha told that she had been living with her two younger daughters in her maiden for some time. For his maintenance, he decided to do a job. Two months ago, Manisha reached Rudrapur in search of a job from Nayakgot village of Champawat. During this, he found a job in factories, but due to the fear of not getting leave on need basis in factories and not being able to give time to the children, he made up his mind to do food delivery.

Now in this work she is also her own mistress in a way. She does home delivery of food from 7 am to 12 midnight, and turns off her mobile ID when needed for herself and daughters, and returns to work.

Seeing a woman doing home delivery like this, people, especially women, are also liking her a lot in this form. Many women also made her video which went viral on social media as ‘home delivery girl’ and has also become a different identity. Manisha told that till now she has delivered food to people till Rudrapur, Gadarpur, Kichha, Dineshpur, Pantnagar.

She gave a message to women that no work is big or small. We should always be self-reliant. With this work, she is making her own identity apart from raising her daughters and becoming self-sufficient.

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला नैनीताल : दिल के सबसे करीब, सचमुच धरती पर प्रकृति का स्वर्ग