विज्ञापन सड़क किनारे होर्डिंग पर लगाते हैं, और समाचार समाचार माध्यमों में निःशुल्क छपवाते हैं। समाचार माध्यम कैसे चलेंगे....? कभी सोचा है ? उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 30 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 13.7 मिलियन यानी 1.37 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

July 25, 2024

Bacchi se dushkarm : घर के बाहर खेल रही 5 वर्ष की मासूम बच्ची को बहला-फुसलाकर उठा ले गया दरिंदा और….

0

Bacchi se dushkarm

Bacchi se dushkarm ke bad hatya, Rishte kalankit

नवीन समाचार, देहरादून, 28 अक्टूबर 2023। राजधानी देहरादून में घर के बाहर खेल रही एक 5 वर्षीय बच्ची को एक दरिंदा बहला-फुसला कर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म (Bacchi se dushkarm) की शर्मनाक घटना कर दी।

Nabalig se chhedchhad, Bacchi se dushkarm,इस मामले में पीड़िता के पिता की शिकायत पर पुलिस ने पहले पॉक्सो अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज किया। बाद में पीड़िता के मेडिकल के आधार पर दुष्कर्म (Bacchi se dushkarm) की धारा भी जोड़ी गयी। साथ ही घटना के बाद फरार हुये बच्ची को हवस का शिकार बनाने वाले आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार गत 26 अक्टूबर को कोतवाली पटेल नगर क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति ने पटेल नगर कोतवाली में शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी 5 वर्षीय नाबालिग बेटी खेल रही थी, तभी वहां पर एक युवक नीले रंग की स्कूटी पर आया और उनकी बेटी को बहला-फुसला ले गया। उसके बाद शाम को बेटी मिली तो वह बहुत डरी सहमी थी।

परिजनों को शक हुआ कि उसके साथ कुछ गलत हुआ है। उन्होंने बच्ची से पूछा तो बच्ची ने पूरी घटना परिजनों को बतायी तो परिजन स्तब्ध रह गये। इसके बाद परिजन सीधे पुलिस के पास पहुंचे और शिकायत दर्ज कराकर मामले में सख्त कार्रवाई की मांग की।

कोतवाली पटेलनगर के प्रभारी सूर्य भूषण नेगी ने बताया कि पुलिस ने तत्काल अभियोग पंजीकृत कर मामले की जांच शुरू की। इस दौरान बच्ची की मां का बयान लिया गया और बच्ची का मेडिकल कराया गया।

मां के बयान और मेडिकल परीक्षण कराए जाने के बाद आरोपित के खिलाफ 376 धारा भी लगाई गई। उसके बाद पुलिस टीम ने आरोपित को भुत्तोवाला आर्मी ग्राउंड से गिरफ्तार कर लिया है।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंयदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो यहां क्लिक कर हमें सहयोग करें..यहां क्लिक कर हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से, यहां क्लिक कर हमारे टेलीग्राम पेज से और यहां क्लिक कर हमारे फेसबुक ग्रुप में जुड़ें। हमारे माध्यम से अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : मां के साथ उसकी 18 महीने की दुधमुही बच्ची के साथ भी किया दुष्कर्म (Bacchi se dushkarm), बच्ची की हो गई मौत-मिली उम्र कैद के साथ 20 व 2 वर्ष की सजा… 

नवीन समाचार, बागेश्वर, 17 जून 2023। (Bacchi se dushkarm) उत्तराखंड के बागेश्वर में गत वर्ष 18 जून को एक बहुत ही शर्मनाक मामला सामने आया था। यहाँ मां के साथ कई बार दुष्कर्म (Bacchi se dushkarm) करने के बाद महिला की 18 माह की बच्ची के साथ भी हैवानियत की सारी हदें पार की गई थीं। इससे बच्ची की मौत हो गई थी।

(Bacchi se dushkarm) इस मामले में जिला सत्र न्यायाधीश आरके खुल्बे की अदालत ने मासूम की हत्या व महिला से दुराचार के आरोपी को दोषी ठहराते हुए आजीवन कारावास तथा दो अन्य मामलों में 20 व दो वर्ष की सजा सुनाई है। तीनों सजाएं साथ-साथ चलेंगी।

(Bacchi se dushkarm) प्राप्त जानकारी के अनुसार बागेश्वर कोतवाली के गांव सातरतबे में गांव के धीरज तिवारी व मकान मालिक के पुत्र ने गांव में मजदूरी करने आए एक नेपाली के कमरे में घुसकर उसकी पत्नी से 18 जून 2022 को दुराचार किया। हथियार दिखाकर किसी को न बताने के लिए धमकाया।

(Bacchi se dushkarm) दोबारा दुराचार की कोशिश करने पर पीड़िता भाग गई। इस दौरान अभियुक्तों के हाथ बगल के कमरे में मौजूद महिला की सोई हुई 18 माह की बच्ची हाथ लग गई। उन्होंने हैवानियत करते हुए बच्ची के साथ भी दुराचार किया इससे उसकी मौत हो गई। 19 जून को जिला चिकित्सालय में बच्ची के पोस्टमार्टम में दुष्कर्म (Bacchi se dushkarm) की पुष्टि हुई। उसका गला दबाकर हत्या करने की बात भी सामने आई।

25 जून को महिला ने बयान दिया और बाद में कोतवाली में प्राथमिकी दर्ज कराई। विशेष लोक अभियोजन खड़क सिंह कार्की ने मामले में 21 गवाह परीक्षित कराए। जिला सत्र न्यायाधीश ने धारा 302 में आजीवन कारावास, 25 हजार जुर्माना व पॉक्सो अधिनियम की धारा 55/6 के तहत 20 साल की सजा व 25 हजार रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :