News

पूरे किराये पर भी दो टुकड़ों में बांट दी नैनी झील, फिर भी महंगा हो सकता है नैनी झील में नौकायन

समाचार को यहाँ क्लिक करके सुन भी सकते हैं

-नाविकों ने की किराया बढ़ाने की मांग
डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 नवंबर 2021। नैनी झील में नौकायन महंगा हो सकता है। नैनी झील में चलने वाली 222 चप्पू और 90 पैडल यानी कुल 312 नौकाओं के नाविकों की नाव चालक एवं मालिक समिति ने नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी को ज्ञापन सौंप कर नौकायन के किराये में बढ़ोतरी करने की मांग की है। उनका कहना है कि आठ वर्षों से किराये में बढ़ोतरी नहीं की गई है। इससे बढ़ती महंगाई में परिवार चलाना मुश्किल हो रहा है।

सोमवार को नाव चालक व मालिक समिति के अध्यक्ष राम सिंह के नेतृत्व में अन्य पदाधिकारियों ने अधिशासी अधिकारी अशोक कुमार वर्मा के समक्ष ज्ञापन सौंप कर नौकायन की दरों में बढ़ोतरी करने की मांग की।

नाविकों ने दो हिस्सों में बांट दी है नैनी झील, पूरे चक्कर के नाम पर भी लगाते हैं आधा चक्कर
नैनीताल। वर्तमान में नैनी झील में नौकायन के पूरे चक्कर के लिए 210 रुपए और आधे चक्कर के लिए 160 रुपये की दरें निर्धारित हैं, लेकिन नगर के नाविकों ने नैनी झील को तल्ली व मल्ली के दो हिस्सों में बांट दिया है। पूरे चक्कर का पूरा शुल्क देने के बावजूद नाविक सैलानियों को आधी झील तक ही सीधे-सीधे यानी बिना किनारे-किनारे से चक्कर लगाते हुए ले जाते हैं। इस पर कहे जाने पर वह होटलियर्स व अन्य की दरों का उल्लेख कर उनके द्वारा सैलानियों का लूटने का आरोप लगाते हुए अपनी लूट को छोटी बताने की कोशिश करते हैं। यदि दरें बढ़ाई जाती हैं तो यह सुनिश्चित किए जाने की भी आवश्यकता है कि वह पूरा किराया लेकर सैलानियों को वास्तविक तौर पर पूरा चक्कर ही लगवाए। अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनी झील में सीमित संख्या में उपलब्ध नौकाओं से पांच माह बाद शुरू हुआ नौकायन

-पानी में पड़े-पड़े व न चलने तथा देखरेख न होने से खराब हो चुकी हैं अधिकांश नौकाएं
नवीन समाचार, नैनीताल, 1 सितंबर 2020। लगभग पांच माह के इंतजार के बाद मंगलवार को एक सितंबर की तय तिथि से विश्व प्रसिद्ध नैनी झील में बिना किसी औपचारिकता के नौकायन शुरू हो गया। अलबत्ता बाद में नगर पालिका अध्यक्ष सचिन नेगी एवं पालिका के अन्य लोग भी मल्लीताल बोट स्टेंड पर पहुंचे और नियमों का पालन करते हुए एवं नौकायन किया जाना सुनिश्चित किया।

नौकायन शुरू होने से नौका मालिकों व चालकों में काफी खुशी का माहौल देखा गया। नौकायन के लिए नगर पालिका ने बोट स्टेंडों पर नौकायन के उपरांत नौकाओं और सैलानियों द्वारा पहनी गई लाइफ जैकेटों को सैनिटाइज कराने की व्यवस्था कराई गई है। अलबत्ता पहले दिन नौकायन के लिए उपलब्ध कराई गई नौकाओं की व्यवस्था

उल्लेखनीय है कि नैनी झील में 222 चप्पू वाली, 100 से अधिक पैडल वाली एवं करीब एक दर्जन पाल वाली नौकाओं का संचालन होता है। किंतु बताया गया है कि अधिकांश नौकाएं 22 मार्च को लॉक डाउन होने के बाद से नहीं चलने, इनके संचालकों के लॉकडाउन में अपने गांव लौट जाने के कारण खराब हो गई हैं। अधिकांश नौकाओं में छेद हो गए हैं, जबकि कई की पतवारें भी गल गई हैं।

अभी करीब 30-40 लोग ही आ पाए हैं और 25-30 स्थानीय लोगों की नौकाएं ही नैनी झील में चलने योग्य स्थिति में लायी जा सकी हैं। बताया गया है कि अभी नौकाओं की मरम्मत करने वाले कारीगर भी नहीं पहुंच पाए हैं, इसलिए अन्य नौकाएं मरम्मत के उपरांत ही चल पाएंगी।

यह भी पढ़ें : नैनी झील में नौकायन शुरू करने के लिए तय हो गई तिथि, पर हर बार नौकायन से पहले पूरी करनी होगी एक शर्त..

-एक सितंबर से शुरू होगा नौकायन, हर बार करना पड़ेगा लाइफ जैकेट को सैनिटाइज
नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अगस्त 2020। कोरोना के चलते मार्च माह से नैनीझील में थमा नौकायन आगामी एक सितंबर से शुरू हो जाएगा। इसके लिए नौका चालकों को हर बार सैलानियों को नौकायन कराने से पहले नौकाओं के साथ ही लाइफ जैकेटों को भी सैनिटाइज करना होगा। पूर्व में भी नगर पालिका ने नौका मालिकों-चालकों को ऐसा प्रस्ताव दिया था, तब नौका मालिक व चालक इस पर अधिक सहमत नहीं थे, परंतु अब वे कोविद-19 के संक्रमण से स्वयं एवं यात्रियों को बचाने के लिए सामाजिक दूरी एवं सुरक्षा के मापदंडों का पालन कर नौकायन शुरू करने पर सहमत हो गए हैं। माना जा रहा है कि नौकायन शुरू होना नगर में पर्यटन के पुरानी धुरी पर लौटने का एक पहला व बड़ा कदम साबित होगा।

पालिका प्रशासन व नाव चालकों के बीच सोमवार को पालिकाध्यक्ष सचिन नेगी की अध्यक्षता में पालिका कार्यालय में हुई वार्ता में नौकाओं के एक सितंबर से चलने पर सहमति बनी है। बैठक में नौका चालकों ने पिछले मार्च यानी लगभग पांच माह से नावों का संचालन नहीं होने से उनके समक्ष उत्पन्न रोजी-रोटी के संकट से पालिकाध्यक्ष को अवगत कराया। इसके बाद तय हुआ चप्पू व पैडल वाली नावें तीन बोट स्टेंडों से चल सकेंगी। एक नाव में एक परिवार के दो बड़े व एक बच्चे बैठ पाएंगे। हर बार नाव को सैनिटाइज करना होगा। बैठक में पालिका के अधिशासी अधिकारी अशोक कुमार वर्मा, नाव चालक समिति के अध्यक्ष राम सिंह बिष्ट, उपाध्यक्ष यूसुफ अहमद, सचिव नैन सिंह, कोषाध्यक्ष पूरन बोरा आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : विश्व प्रसिद्ध नैनी झील

यदि आपको कोई फोटो अच्छी लगती हैं, और उन्हें बिना “वाटर मार्क” के और बड़े उपलब्ध आकार में चाहते हैं तो मुझे यहाँ क्लिक कर “संपर्क” कर सकते हैं।

PayPal Acceptance Mark

रात्रि में दमकती सरोवर नगरी

नैनी झील में भी इस वर्ष दिखाई दी ‘शांति शिला’!

Naini lake’s Night Beauty-चांदनी रात में नैनी झील में नौकायन:

Night Beauty with Fog

अल सुबह हो या शाम, धरती से अम्बर तक सुन्दर नैनीताल

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply