Corona

तराई क्षेत्रों में तेजी से बढ़ रहा कोरोना, बेटी के बाद पिता व भाई भी संक्रमित…

प्रतीकात्मक चित्र

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 5 मई 2022। उत्तराखंड में बुधवार को कोरोना के 23 नए मरीज मिले और 19 इलाज के बाद ठीक हुए। इसके बाद अब राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 115 हो गई और संक्रमण की दर 2 प्रतिशत के करीब पहुंच गई। अकेले देहरादून जिले में 14, हरिद्वार में तीन, नैनीताल में एक, पौड़ी में दो, टिहरी में एक और यूएस नगर जिले में दो नए मरीज मिले। यानी इनमें अधिकांश मामले मैदानी यानी तराई क्षेत्रों में हैं।

उधर काशीपुर में दो दिन पहले आईआईएम के निदेशक की पुत्री बेंग्लुरू से लोटने के बाद कोरोना संक्रमित पाई गई थी। इसके बाद अब उसके पिता व भाई यानी आईआईएम के निदेशक भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। तीनों-पिता, पुत्र व पुत्री को होम आईसोलेट कर दिया गया है। इधर रुद्रपुर के भदईपुरा निवासी 26 वर्षीय युवक को भी कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद होम आइसोलेट किया गया है। परिवार के दूसरे सदस्यों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : फिर बढ़ रहा कोरोना : उत्तराखंड : एक विद्यालय की 6 सहित सात छात्राएं मिलीं कोरोना संक्रमित, स्वास्थ्य विभाग भौंचक व सतर्क

नवीन समाचार, देहरादून/काशीपुर, 4 मई 2022। प्रदेश में कोरोना के पुनः सिर उठाने के बीच 7 छात्राओं के कोरोना संक्रमित पाई गई हैं। इससे चिंता बढ़ गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश की राजधानी देहरादून के नामचीन वेल्हम गर्ल्स हाईस्कूल की छह छात्राओं में कोरोना संक्रमण पाया गया है। एक ही स्कूल में छह छात्राओं के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद स्कूल प्रबंधन के साथ स्वास्थ्य महकमा भी भौंचक है और सतर्क होते हुए हरकत में आ गया है।

यह भी बताया गया है कि स्कूल की जिन छह छात्राओं में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है, उनकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है। ऐसे में छात्राएं कहां और कैसे कोरोना संक्रमित हो गईं, इसकी जांच की जा रही है। इसके बाद वेल्हम गर्ल्स हाईस्कूल व आसपास के इलाकों को मिनी कंटेनमेंट जोन बनाने की भी स्वास्थ्य विभाग तैयारी में है।

दूसरी ओर काशीपुर आइआइएम की काशीपुर निवासीएक छात्रा भी कोरोना संक्रमित मिली है। वह ग्रीष्मावकाश के कारण अपने काशीपुर में थी। उसे गले में जुकाम के साथ तकलीफ थी। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि मंगलवार को आई जांच रिपोर्ट के बाद विभागीय टीम ने उसके घर टीम जाकर उसके माता-पिता व छोटे भाई के सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दो स्कूली बच्चे, आईएएस अधिकारी व चिकित्सक आए कोरोना संक्रमित

नवीन समाचार, देहरादून 28 अप्रैल 2022। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में कोरोना का संक्रमण फिर से अपने पांव पसार रहा है कोविड के जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. राजीव दीक्षित ने बताया कि देहरादून में एक बड़े स्कूल के दो छात्र एवं सचिवालय के एक आईएएस अधिकारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

इसके अलावा कोरोना ने स्वास्थ्य महकमे में भी घुसपैठ की है। जिले के सीएमओ कार्यालय के एक चिकित्सक की जांच रिपोर्ट भी कोविड पॉजिटिव आई है। इन सभी को आइसोलेट कर उपचार किया जा रहा है। बताया गया है कि इन कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से कुछ को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती किया गया है। कुछ को घर पर ही आइसोलेट कर एहतियात बरती जा रही है। ऐसे में कोरोना के प्रति फिर से अत्यधिक सतर्कता की जरूरत है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड कोरोना ब्रेकिंग : फिर तीन मौतों के साथ डरावनी तस्वीर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 फरवरी 2022। उत्तराखंड में कोरोना के नए मामले सोमवार को लगातार दूसरे दिन 100 से नीचे यानी नियंत्रण में रहे, किंतु करीब दो सप्ताह के बाद 24 घंटों में तीन संक्रमितों की मौत से फिर भयावह तस्वीर दिखाई दी।

राज्य में आज 7 हजार 82 लोगों की ही जांच हुई, वहीं तीसरी लहर में पहली बार संक्रमण दर 1 फीसद से नीचे 0.87 फीसद रहते हुए 61 नए मामले और 120 संक्रमित स्वस्थ हुए। इसके साथ राज्य में उपचाराधीन संक्रमितों की संख्या 919 रह गई है, जबकि मौतों की संख्या 265 पर पहुंच गई है।

राज्य के ताजा स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार देहरादून जिले में सर्वाधिक 21 व अल्मोड़ा जिले में 12 तथा चमोली, नैनीताल व रुद्रप्रयाग जिलों में शून्य नए मामले आए। इन्हें छोड़कर शेष आठ जिलों में नए मामले इकाई में रहे। चंपावत व पिथौरागढ़ में 6-6, पौड़ी में 5, उधमसिंह व उत्तरकाशी में 3-3, हरिद्वार व टिहरी में 2-2 तथा बागेश्वर में एक नए मामले आए। जबकि दून के महंत इदिरेश अस्पताल में 2 तथा हरिद्वार के विनय विशाल हेल्थ केयर रुड़की में 1 संक्रमित की मौत हुई। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

ANI on Twitter: "Uttarakhand reports 20 new #COVID19 cases till 2:30 pm  today, taking the total number of cases to 2642: State Control Room COVID-19  https://t.co/pG9MX4E3DA" / Twitterयह भी पढ़ें : उत्तराखंड से लौट केजरीवाल कोरोना संक्रमित, बताया गया ‘पाप’, प्रियंका ने भी किया खुद को आइसोलेट, उत्तराखंड चुनाव पर संशय ?

प्रियंका को केजरीवाल की नसीहत, कहा- दिल्ली में प्रचार कर न करें अपना समय  खराब - kejriwal-has-given-advice-to-priyanka-gandhiडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 जनवरी 2022। मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मंगलवार को कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। केजरीवाल सोमवार को अपने छठे दौरे पर देहरादून में थे और यहां परेड ग्राउंड में बड़ी जनसभा कर गए थे। इससे उत्तराखंड में भी उनसे आप कार्यकर्ताओं में कोरोना संक्रमण का खतरा पैदा हो गया है।

उनके अलावा कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी ने भी अपने पारिवारिक सदस्य और स्टाफ के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद मंगलवार को खुद को आइसोलेट कर लिया है। जल्द ही उत्तराखंड आना था। अब यह दौरा भी टलता नजर आ रहा है। साथ कोरोना के इस कदर तेज गति से बढ़ने के दृष्टिगत उत्तराखंड सहित पांच राज्यों में होने वाले चुनाव पर भी असमंजस का कुहासा छा गया है।

इधर केजरीवाल ने कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद उन सभी लोगों से जांच कराने और दूसरों से खुद को अलग करने की अपील की है, जो पिछले कुछ दिनों में उनके सम्पर्क में आए हैं। जबकि उनके कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेता व आम आदमी पार्टी के पूर्व सदस्य कपिल मिश्रा ने केजरीवाल को ‘सुपर स्प्रेडर’ बताया है। कपिल मिश्रा ने कहा कि आप के राष्ट्रीय संयोजक ने कोविड-19 फैलाने का पाप किया है क्योंकि केजरीवाल चुनावी राज्यों में रैलियां कर रहे हैं।

कपिल मिश्रा ने ट्वीट किया, ‘पटियाला, लखनऊ और गोवा में कोविड-19 फैलाने के आपके पाप के लिए कौन जिम्मेदार है? आप सचमुच सुपर स्प्रेडर हैं।’ आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

67-year-old Corona Victim Missing From Hospital ICUयह भी पढ़ें : नैनीताल में 15 वर्षीय छात्र सहित चार कोरोना संक्रमित गायब !

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 3 जनवरी 2022। लोग एक शहर से दूसरे शहर जाने पर कोरोना की जांच कराते हैं और रिपोर्ट आए बिना ही दूसरे शहर चले जाते हैं। दूसरी ओर कोरोना की गति कई गुनी बढ़ने के बावजूद सख्ती इतनी नहीं है कि पुलिस हर किसी की रिपोर्ट को ठीक से चेक करे। उधर, जब तक रिपोर्ट आती है, तब तक जांच कराने वाला व्यक्ति कहीं का कहीं निकल जाता है, और कोरोना को फैलाता है। नैनीताल जैसे पर्यटन से जुड़े शहरों में यह बड़ी समस्या बनने वाली है। इधर नगर में तीन और इससे पहले एक यानी कुल चार कोरोना संक्रमितों के गायब होने की खबर है, और पुलिस या प्रशासन को किसी की खबर नहीं है।

ताजा मामलों के अनुसार मुरादाबाद के सिविल लाइंस क्षेत्र निवासी नैनीताल में पढ़ने वाला 15 वर्षीय छात्र इधर छुट्टी में घर गया था। वापस नैनीताल लौटने के लिए उसने 31 दिसंबर को कोविड की रैपिड एंटीजन और आरटीपीसीआर दोनों जांच कराई थीं। लेकिन रिपोर्ट आए बिना ही उसे उसके पिता ने नैनीताल भेज दिया। रविवार को आरटीपीसीआर की रिपोर्ट आई तो वह पॉजिटिव निकला। रिपोर्ट के आधार पर आरआरटी ने उससे संपर्क किया तो पिता ने बताया वह नैनीताल में है।

दूसरी ओर महाराष्ट्र से नैनीताल घूमने आए दो पर्यटक 31 दिसंबर को नैनीताल घूमने पहुंचे थे। इसी दिन उन्होंने बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में अपनी कोविड जांच करवाई। रविवार को उनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई तो चिकित्सालय प्रबंधन ने उनसे संपर्क करने का प्रयास किया, तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया। इसकी सूचना अस्पताल प्रबंधन द्वारा पुलिस को दी गई है।

इससे पूर्व अहमदाबाद का एक सैलानी नैनीताल जिला चिकित्सालय में कोविड पॉजिटिव पाए जाने के बाद से गायब है। पुलिस को सूचना दी गई है। लेकिन पुलिस उसका पता नहीं लगा पाई है। ऐसे में वह जहां भी होंगे कोविड फैला रहे होंगे, क्योंकि इस बार कोविड के लक्षण भी पहले की तरह नहीं आ रहे हैं। ऐसे में जरूरत है कि फिर से पूर्व की तरह लोगों की कोविड रिपोर्ट ठीक से जांची जाएं, और रिपोर्ट आने तक कहीं आने-जाने की इजाजत न हो। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

https://navinsamachar.com/corona-3/

नैनीताल : महिला सहित तीन लोग पाए गए संक्रमित

यह भी पढ़ें : काशीपुर के बाद देहरादून की शादी भी बनी आफत, दूल्हे के बाद अब दुल्हन सहित 14 बाराती कोरोना पॉजिटिव, इलाका कंटेनमेंट जोन बना

नवीन समाचार, देहरादून, 13 जुलाई 2020। प्रदेश के काशीपुर में एक शादी की वजह से दर्जनों लोगों को कोरोना होने के बाद पूरे नगर निगम क्षेत्र में लॉक डाउन लगाना पड़ा है। वहीं इसी तरह देहरादून के निरंजनपुरी मंडी की एक आढ़त में काम करने वाले इंद्रेश नगर, कांवली रोड निवासी युवक की गत 29 जून को सीमाद्वार निवासी युवती से हुई शादी भी आफत बन गई हैं इस मामले में 9 जुलाई को दूल्हा कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इसके बाद 16 बारातियों को ग्राफिक एरा स्थित क्वारंटाइन सेंटर भेजा गया था। वहीं उनके सैंपल भी लिए गए थे। इधर रविवार को दुल्हन सहित 14 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पाजीटिव आ गई है। इससे हड़कंप मच गया है और दूल्हे के निवास स्थान इंद्रेश नगर, कांवली रोड क्षेत्र को प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है।

उल्लेखनीय है कि दूल्हा जिस निरंजनपुर सब्जी मंडी में एक आढ़ती के पास काम करता है। वहां पहले ही 50 से अधिक लोगों को कोरोना संक्रमण हो चुका है और कुछ संक्रमितों की मौत भी हो चुकी है। दूल्हे के कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है कि नगर निगम देहरादून क्षेत्रान्तर्गत स्थित 107 इन्द्रेश नगर थाना कोतवाली एवं तहसील विकासनगर क्षेत्रान्तर्गत स्थित हरिपुर सेलाकुई में कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति पाये जाने के फलस्वरूप जनहित में आवश्यक सुरक्षात्मक उपायों को अपनाते हुए उक्त क्षेंत्रों को लाकडाउन किया गया है। जानकारी के अनुसार दूल्हे का पिता नगर निगम देहरादून में सुपरवाइजर है। जिससे नगर निगम के कर्मचारियों में भी दहशत का माहौल है।

यह भी पढ़ें : शादी के तत्काल बाद दूल्हा निकला कोरोना पॉजिटिव, दुल्हन पक्ष के 16 लोगों पर भी छाया संक्रमण का खतरा..

नवीन समाचार, देहरादून, 9 जुलाई 2020। देहरादून में शादी के तत्काल बाद दूल्हे के कोरोना पॉजिटिव निकलने से हड़कंप मच गया है। खासकर उसके कोरोना पॉजिटिव निकलने से शादी में शामिल रहे एवं वधु पक्ष के 16 लोगांे पर कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा उत्पन्न हो गया है। लिहाजा उन्हें क्वारन्टाइन किया जा रहा है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार दूल्हा निरंजनपुरी मंडी की एक आढ़त में काम करता है, जहां हाल में 50 से अधिक लोग कोरोना ग्रस्त हो चुके हैं और इस कारण मंडी को भी कई बार बंद करना पड़ा है। इधर उसकी शादी बीती 29 जून को सीमाद्वार निवासी युवती से हुई थी। इसके बाद वे अपने गृहस्थ कर्म में लगने ही वाले थे कि दूल्हे में कोरोना के कुछ लक्षण दिखने लगे। प्राइवेट लैब में जांच कराई तो उसे कोरोना की पुष्टि हो गई।

यह भी पढ़ें : आज ऊधमसिंह नगर जिले में 43 और नैनीताल के स्वास्थ्य कर्मी सहित कई को बिना किसी यात्रा इतिहास के भी हो गया कोरोना

नवीन समाचार, नैनीताल, 10 जुलाई 2020। शुक्रवार को भी कोरोना की रफ्तार थमी नहीं है। आज राज्य में 68 नये मामले आये हैं, जबकि इसके आधे यानी 34 को ही स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी मिल पाई है। अलबत्ता आज 1993 की रिपोर्ट निगेटिव भी आई है। जबकि आज 2114 लोगों के नये नमूने लिये गये हैं। इसके साथ राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 3373, स्वस्थ हुए संक्रमितों की संख्या 2706 एवं प्रभावी संक्रमितों की संख्या एक बार फिर बढ़ती हुई 592 यानी 600 के करीब पहुंच गई है।
सबसे बड़ी बात आज राज्य के मेडिकल बुलेटिन के अनुसार ऊधमसिंह नगर जिले में 41 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। खास बात यह है कि इनमें से 25 लोगों का कोई यात्रा इतिहास भी नहीं है, जबकि 12 लोग पुराने लोगों के संपर्क में आये हैं, जबकि दिल्ली से आये दो तथा शेरकोट यूपी व कुवैत से आये एक-एक व्यक्ति में भी कोरोना की पुष्टि हुई है। इनके अलावा भी बिना किसी यात्रा इतिहास वाले चंपावत के दो व देहरादून के 11, हरिद्वार के हैदराबाद से आये एक एवं पुराने संक्रमितों के संपर्क में आये 6, पौड़ी के गाजियाबाद, टिहरी के सउदी अरब व उत्तरकाशी के बिहार से आये एक-एक व्यक्ति को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं नैनीताल जिले के दिल्ली से आये एक, एक स्वास्थ्य कर्मी तथा पुराने के संपर्क में आये एक-एक व्यक्तियों के साथ ही दिल्ली से आये एक व्यक्ति में एन्टेनेटल जांच के दौरान भी कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें हल्द्वानी के एक 26 वर्षीय युवक, 24 वर्षीया युवती व 40 वर्षीया महिला शामिल हैं।

यह भी पढ़ें : अब नैनीताल जिले में कोरोना ब्लास्ट ! जिले में दो गर्भवती महिलाओं एवं 12 बिना यात्रा इतिहास वालों सहित 28 एवं प्रदेश में 49 नये मामले

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 जून 2020। बुधवार की शाम उत्तराखंड के नैनीताल जिले में कोरोना के ब्लास्ट जैसी स्थिति नजर आई है। जनपद के धारी तहसील में 5 मामलों का समाचार तो ‘नवीन समाचार’ पहले ही दे चुका है। अब जिले में इनके अलावा भी 23 अन्य सहित कुल 28 मामलों की पुष्टि हुई है। इनमें से 14 लोग दिल्ली-एनसीआर से आये हुए, 12 बिना किसी यात्रा इतिहास वाले एवं दो गर्भवती महिलाओं में एएनसी जांच के दौरान कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हो गई है। इसके अलावा अल्मोड़ा में दिल्ली से आए एक एवं एक बिना यात्रा इतिहास वाले सहित दो, देहरादून जिलें में बिना किसी यात्रा इतिहास वाले चार, हरिद्वार जिले में दिल्ली से आये तीन, मुंबई से आये दो एवं गुरुग्राम, फरीदाबाद व जम्मू से आये एक-एक सहित कुल आठ एवं बागेश्वर जिले में बिना यात्रा इतिहास वाले 6 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीँ चम्पावत जिले में मां के साथ गृह एकांतवास में रह रही एक तीन माह की बच्ची और उत्तरकाशी जिले में एक कोरोना संक्रमित की मौत हो गई हैं।

इसके साथ राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2691 और मृतकों की संख्या 36 हो गई है। वहीं आज अल्मोड़ा के 13 तथा उत्तरकाशी के तीन कोरोना संक्रमित स्वस्थ भी हो गए हैं।

Leave a Reply