नैनीताल के बाल वैज्ञानिक का राष्ट्रीय इंस्पायर अवार्ड के लिए चयन

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
राष्ट्रीय इंस्पायर अवार्ड्स प्रदर्शनी के लिए चयनित बाल वैज्ञानिक रोहित कुमार।

नैनीताल। गत 22 व 23 मई को देहरादून के राजीव गांधी नवोदय विद्यालय में आयोजित हुई राज्य स्तरीय इंस्पायर अवार्ड प्रदर्शनी में प्रतिभाग कर नैनीताल जनपद के एक बाल वैज्ञानिक का चयन राष्ट्रीय इंस्पायर अवार्ड्स प्रदर्शनी के लिए किया गया है। उल्लेखनीय है कि राज्य स्तरीय इंस्पायर अवार्ड प्रदर्शनी में राज्य भर के 97 एवं नैनीताल जनपद के 4 बाल वैज्ञानिकों ने जनपद के विज्ञान समन्वयक डा. बृजमोहन तिवारी के नेतृत्व में प्रतिभाग किया था।

राष्ट्रीय सहारा, 25 मई 2018

इनमें से डीएसबी आगर इंटर कॉलेज टांडी पोखराड़ के छात्र रोहित कुमार का चयन राज्य के कुल 10 बाल वैज्ञानिकों के साथ राष्ट्रीय इंस्पायर अवार्ड्स प्रदर्शनी के लिए हुआ है। जनपद के विज्ञान समन्वयक डा. तिवारी ने बताया कि रोहित ने ‘यातायात नियंत्रण हेतु स्वचालित प्रणाली’ का मॉडल प्रदर्शनी में प्रस्तुत किया, जिसे राज्य प्रदर्शनी में काफी सराहना मिली। रोहित की इस उपलब्धि पर जनपद के मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, जिला शिक्षा अधिकारी एचएल गौतम व समन्वयक डा. तिवारी ने प्रशंसा करते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की है।

यातायात नियंत्रण की स्वचालित प्रणाली विकसित की है रोहित ने

नैनीताल। जनपद के बाल वैज्ञानिक रोहित के जिस प्रोजेक्ट को राष्ट्रीय इंस्पायर अवार्ड्स प्रदर्शनी के लिए चयनित किया गया है, उसमें यातायात नियंत्रण की सेंसर युक्त स्वचालित प्रणाली विकसित की गयी। रोहित के प्रोजेक्ट के अनुसार ट्रेफिक सिग्नल लाल होने के साथ ही सड़क पर स्वचालित अवरोधक खड़े हो जाएंगे, जिसके बाद लोग चाहकर भी ट्रेफिक सिग्नल लाल होने के बाद आगे नहीं बढ़ पाएंगे। इससे दुर्घटनाएं रोकने में मदद मिलेगी। रोहित ने ऐसी ही प्रणाली स्कूलों की छुट्टी व अस्पतालों के लिए भी विकसित करने का विचार दिया है, जिसे राष्ट्रीय नवप्रवर्तन प्रतिष्ठान के द्वारा सराहा गया है।

यह भी पढ़ें : 12 दिवसीय डीएलएड प्रशिक्षण का समापन, अब 31 से परीक्षायें

This slideshow requires JavaScript.

नैनीताल। भीमताल स्थित एलपी राजकीय इंटर कॉलेज में बीती 13 मई से चल रहे 76 प्रतिभागियों के 12 दिवसीय डीएलएड प्रशिक्षण का बृहस्पतिवार को समापन हो गया। इस अवसर पर आखिरी दिन कक्षा शिक्षण के महत्वपूर्ण घटक-टीएलएम यानी शिक्षण अधिगम सामग्री की प्रदर्शनी लगाई गई।

राष्ट्रीय सहारा, 25 मई 2018

प्रदर्शनी में प्रतिभागियों ने मॉडलों, पोस्टरों व अन्य शिक्षण सहगामी क्रियाकलापों की एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां दीं।आगे 31 मई तथा 1 व 2 जून को परीक्षायें आयोजित की जाएंगी। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य डा. बृज मोहन तिवारी, राजेंद्र प्रसाद वर्मा एवं कार्तिक शर्मा आदि शिक्षक एवं लोकेश तिवारी, गीता पन्त, मंजू जीना, आँचल आर्य, तरुण कर्म्याल, बबीता चौधरी, पुष्पा बिष्ट, रश्मि आर्य, गीता सुयाल, रेनू बिष्ट, सुनीता, निधि राणा, सजनी आर्य, निवेदिता साह, विनोद, किरन, दीप्ति जोशी, कंचन जोशी, बीना पाठक, मनोज कुमार, दिव्या भगत, भानु आर्या, प्रीती ढैला, लता खाती, श्याम, अंकित कुमार, जानकी आर्य, सुचित्रा जोशी, कविता, निशि, एन मनराल, नीतू भाकुनी, बीना जोशी व भारती जोशी सहित अनेक प्रतिभागी शिक्षक-शिक्षिकाएं मौजूद रहे।

फोटो को बड़ा करने के लिए दो बार क्लिक करें :

Leave a Reply

Loading...
loading...
google.com, pub-5887776798906288, DIRECT, f08c47fec0942fa0

ads

यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 9411591448 पर संपर्क करें..