News

नैनीताल: शहर से बाहर होंगी कबाड़ की दुकानें

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 3 सितंबर 2022। बीते दिनों रुद्रपुर में कबाड़ की दुकान से हुए गैस रिसाव की घटना के बाद मंडलायुक्त दीपक रावत ने शहर के अंदर स्थित कबाड़ की दुकानों का निरीक्षण किया और उन्होंने एसडीएम नैनीताल को कबाड़ की दुकानों को शहर से बाहर करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कबाड़ व्यवसाय करने वाले सरकारी जमीनों पर अवैध रूप से काबिज हैं लिहाजा इन्हें जल्द से जल्द शहर से बाहर किया जाए। इन दुकानों से रुद्रपुर में हुई जैसी घटना शहर में भी होने से इंकार नहीं किया जा सकता है।

इस दौरान आयुक्त ने सार्वजनिक स्थानों पर गंदगी के देखते हुए नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी को जमकर फटकार लगाई और गंदगी साफ करवाने के निर्देश दिए। इसके अलावा सड़कों के किनारे रखी गई निर्माण सामग्री पर भी आयुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए संबंधित लोगों के खिलाफ चालानी कार्यवाही के निर्देश दिए।

इस दौरान आयुक्त ने बीडी पांडे जिला चिकित्सालय का निरीक्षण भी किया। जहां आयुक्त को सभी स्थितियां सामान्य मिलीं। जिला चिकित्सालय के पीएमएस डॉ. वीके पुनेरा ने आयुक्त से अस्पताल के महिला प्राइवेट वार्ड के संचालन के लिए कर्मचारियों की नियुक्ति की मांग की।

इसके अलावा नैनीताल की बुनियाद कहे जाने वाले बलियानाला, का निरीक्षण करते हुए दीपक रावत ने बताया की सिचाई विभाग के द्वारा बलिया नाले के ट्रीटमेंट के लिए 202 करोड़ रुपए की डीपीआर बनाकर तैयार कर ली गई है। इसके आधार पर अब शासन के आदेशों के अनुरूप कार्य किया जाएगा। उन्होंने बलियानाला के भूस्खलन प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण भी किया जहां आयुक्त को कई लोग अभी भी भूस्खलन प्रभावित क्षेत्र में खतरे की जद में आए घरों में रहते मिले। इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए आयुक्त ने एसडीएम नैनीताल राहुल शाह को तत्काल सभी घर खाली करवाने और घरों को सील करने सहित घरों से विद्युत कनेक्शन काटने के निर्देश दिए हैं ताकि कोई क्षतिग्रस्त घरों में दोबारा ना आ सके।

विस्थापन की बात सुनकर क्षेत्रीय लोगों ने आपत्ति दर्ज की क्षेत्रीय निवासी कमल कुमार ने कहा कि प्रशासन द्वारा उन्हें शहर से बाहर 18 किलोमीटर दूर दुर्गापुर क्षेत्र में विस्थापित करने का फैसला किया है। दुर्गापुर क्षेत्र पहले से ही भूस्खलन की जद में है लिहाजा उन्हें वहा विस्थापन किया जाना गलत है। दुर्गापुर क्षेत्र शहर से दूर होने के चलते उन्हें ड्यूटी आने जाने और बच्चों को स्कूल लाने ले जाने दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। लिहाजा उन्हें दुर्गापुर विस्थापित ना कर शहर के समीप विस्थापित किया जाए। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : अब शिक्षकों-डॉक्टरों को वाट्सएप पर ग्रुप सेल्फी खींचकर देना होगा उपस्थिति का प्रमाण

-बायोमैट्रिक तरीके से भी हाजिरी लगेगी, मंडलायुक्त ने दिये आदेश
डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 3 सितंबर 2018। कुमाऊं मंडल के आयुक्त राजीव रौतेला ने शनिवार को भी मण्डलीय अधिकारियों के साथ खाद्य एवं रसद, श्रम, चिकित्सा स्वास्थ्य, खेलकूद, शिक्षा तथा सेवायोजन महकमों की बारीकी से विभागीय समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने अपर निदेशक शिक्षा डा. मुकुल सती को मंडल के दूरदराज पर्वतीय इलाकों में शत-प्रतिशत अध्यपकों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिये इलेक्ट्रानिक-बायोमैट्रिक सिस्टम प्रभावी करने के निर्देश दिए।

कहा कि हाजिरी के साथ ही विद्यालयों में अध्यापक मोबाइल से सेल्फी व गु्रप फोटो वाटसएप पर भेजें ताकि यह सिद्ध हो सके कि वाकई अध्यापक विद्यालय मंे मोैजूद हैं। इस बाबत आगामी 26 मई से 30 जून के बीच होने वाले ग्रीष्म अवकाश में शिक्षा महकमे के अधिकारी इस प्रकार की कार्ययोजना बनाने को कहा गया है। इसी तरह के निर्देश चिकित्सकों के लिए भी दिये गये। इसके अलावा उन्होंने सभी विद्यालयों में शत-प्रतिशत विद्यार्थियों के बैंक खाते खोलने व उन्हें आधार से जोड़ने को भी कहा।

वहीं खेल विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने खेल प्रेमियों एवं खेत प्रतिभाओं के लिये सर्वोच्च प्राथमिकता पर जिम विकसित करने तथा हर जिले में जिला खेल प्रोत्साहन समितियां गठित कर उन्हें सक्रिय करने को कहा। आगे उन्होंने शिक्षा महकमे की तरह डाक्टरों की उपस्थिति भी इलैक्ट्रानिक तरीके से जांचने व परखने, सभी जिला चिकित्सालयों में सीसीटीवी कैमरे लगाने, बायोमैट्रिक मशीन को अधिकारियों के मोबाइल से जोड़ने, सभी जिला चिकित्सालयों में आईसीयू स्थापना की कार्ययोजना बनाने को भी कहा।

इसके अलावा उन्होंने सम्भागीय खाद्य नियंत्रक ललित मोहन रयाल को विभिन्न क्रय एजेंसियों द्वारा की जा रही गेहूॅ खरीद में काश्तकारों को सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य मिलना सुनिश्चित करने को कहा। श्री रयाल ने बताया कि मंडल में 1.9 लाख मीट्रिक टन गेहूॅ खरीद का लक्ष्य और गेहूं का 1735 रूपये प्रति कुन्तल समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया है। अब तक 10 हजार मीट्रिक टन गेहूं की खरीद 133 खरीद केन्द्रों द्वारा की जा चुकी है। साथ ही बैठक में क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी यशवंत सिंह रावत नेे बताया कि मंडल में 3.97 लाख बेरोजगार पंजीकृत हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply