उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 16 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 12.6 मिलियन यानी 1.26 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

उत्तराखंड बोर्ड की बोर्ड परीक्षाओं (Exam)का कार्यक्रम जारी…

0

Exam

Bharti Pariksha Exam

नवीन समाचार, रामनगर, 29 दिसंबर 2023। उत्तराखंड बोर्ड ने 10वीं और 12वीं कक्षाओं की बोर्ड परीक्षाओं (Exam) का कार्यक्रम जारी कर दिया है। जारी कार्यक्रम के अनुसार उत्तराखंड बोर्ड परीक्षाएं (Exam) 27 फरवरी से शुरू होकर 16 मार्च तक आयोजित की जाएंगी। जबकि प्रायोगिक परीक्षायें (Exam) 16 जनवरी 2024 से शुरू होंगी और 15 फरवरी तक चलेंगी।

माध्यमिक शिक्षा निदेशालय उत्तराखंड के सभागार में उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद रामनगर की सभापति सीमा जौनसारी की अध्यक्षता में वर्ष 2024 के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के परीक्षा (Exam) कार्यक्रम के निर्धारण के लिए परीक्षा (Exam) समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक में परिषद की सचिव डॉ. नीता तिवारी, अपर निदेशक (माध्यमिक शिक्षा) महावीर सिंह बिष्ट और परीक्षा (Exam) समिति के सदस्य उपस्थित रहे।

उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद के संयुक्त सचिव शिव पूजन सिंह ने बताया कि 10वीं में 1,13,281 संस्थागत और 2325 व्यक्तिगत मिलाकर कुल 1,15,606 तथा 12वीं की परीक्षा (Exam) में 90351 संस्थागत और 4397 व्यक्तिगत मिलाकर कुल 94,748 परीक्षार्थी (Exam) शामिल होंगे। बताया कि पिछले वर्ष 2022-23 में 10वीं और 12वीं में कुल 259340 परीक्षार्थी (Exam) शामिल थे।

जबकि इस बार 210354 परीक्षार्थी (Exam) शामिल होंगे यानी इस बार पिछले साल के मुकाबले 48,986 परीक्षार्थी (Exam) कम हैं। बोर्ड परीक्षाओं (Exam) के लिये इस बार प्रदेशभर में कुल 1288 परीक्षा (Exam) केंद्र बनाए गए हैं। इनमें से 159 परीक्षा (Exam) केंद्र संवेदनशील और 6 अति संवेदनशील है। हरिद्वार में पांच और पिथौरागढ़ में एक अति संवेदनशील परीक्षा (Exam) केंद्र हैं।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..यहां क्लिक कर हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें। यहां क्लिक कर यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से, हमारे टेलीग्राम पेज से और यहां क्लिक कर हमारे फेसबुक ग्रुप में जुड़ें। हमारे माध्यम से अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें।

यहाँ क्लिक कर सीधे संबंधित को पढ़ें

यह भी पढ़ें : यूसेट परीक्षा (Exam) पर बड़ी अपडेट, आवेदन शुल्क जमा करने व आवेदन पत्र भरने की अंतिम तिथियां बढ़ीं…

Uttrakhand State Eligibility Test USET: उत्तराखंड के युवाओं का एसोसिएट  प्रोफेसर बनी का सपना जल्दी ही होने वाला सच , राज्य सरकार कराने जा रही है USET  परीक्षा - E ...नवीन समाचार, नैनीताल, 21 दिसंबर 2023। कुमाऊं विवि ने आगामी 7 जनवरी 2024 को आयोजित होने जा रही यूसेट यानी उत्तराखंड राज्य पात्रता परीक्षा (Exam) के लिये आवेदन शुल्क जमा करने की अंतिम तिथि 23 दिसंबर तक एवं परीक्षा (Exam) आवेदन पत्र ऑनलाइन माध्यम से जमा कराने की तिथि को 24 दिसंबर तक बढ़ा दिया है। यूसेट के सदस्य सचिव की ओर से यह जानकारी दी गयी है। अन्य जानकारियां पूर्ववत् हैं।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंयदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो यहां क्लिक कर हमें सहयोग करें..यहां क्लिक कर हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से, यहां क्लिक कर हमारे टेलीग्राम पेज से और यहां क्लिक कर हमारे फेसबुक ग्रुप में जुड़ें। हमारे माध्यम से अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : समीक्षा अधिकारी व सहायक समीक्षा अधिकारी भर्ती परीक्षा (Exam) : धारा 144 लागू, बायोमैटिक जांच के उपरांत ही परीक्षा दे सकेंगे

नवीन समाचार, नैनीताल, 16 दिसंबर 2023। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग हरिद्वार द्वारा रविवार 17 दिसम्बर को समीक्षा अधिकारी व सहायक समीक्षा अधिकारी की भर्ती परीक्षा (Exam) नैनीताल के मोहन लाल साह बालिका विद्या मंदिर सहित हल्द्वानी के 38 परीक्षा (Exam) केंद्रों में आयोजित की जाएगी।

DHARA 144 in Jharkhand: CM Hemant Soren Ordered Section-144 Imposed in west  singhbhum- Chaibasa with Prohibition Order till April 30परीक्षा (Exam) की तैयारियों के लिये आज एडीएम फिंचा राम चौहान की अध्यक्षता में हल्द्वानी के निगम सभागार में बैठक हुई, जिसमें परीक्षार्थियों की बायोमैटिक जांच कराने और वीडियोग्राफी कराने सहित अन्य दिखा निर्देश दिये गये। यानी परीक्षार्थी बायोमैटिक जांच के उपरांत ही परीक्षा (Exam) दे सकेंगे।

uttarakhand public service commission revised preliminary examination  results - UKPSC: उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने किया गलत जवाब को सही, 452  अभ्यर्थियों को मिला इसका फायदापरगना मजिस्ट्रेट प्रमोद कुमार ने बताया कि परीक्षा (Exam) में किसी भी प्रकार से व्यवधान या अवरोध होने की सम्भावनाओं के दृष्टिगत शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए और परीक्षा (Exam) के सफल संचालन हेतु परीक्षा (Exam) केंद्र और परिसर के 200 मीटर की परिधि में धारा 144 लागू कर दी गयी है। इस दौरान इस परिधि में सार्वजनिक स्थान में 5 से अधिक व्यक्ति समूह एकत्रित नहीं होंगे।

परीक्षा (Exam) के दौरान कोई भी परीक्षार्थी कोई भी शस्त्र परिसर या 200 मीटर की परिधि में नहीं लाएगा और फोटो स्टेट, फैक्स मशीन नहीं लगाएगा। परीक्षा (Exam) केंद्र के आस पास ध्वनि विस्तारक यन्त्र का प्रयोग भी नहीं किया जाएगा। परीक्षार्थी परीक्षा (Exam) केंद्र के भीतर पाठ्य सामग्री और उपकरण नहीं ले जा पाएंगे। साथ ही कोई भी व्यक्ति किसी प्रकार की अफवाह किसी भी प्रकार पर्ची का वितरण नहीं करेगा।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंयदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो यहां क्लिक कर हमें सहयोग करें..यहां क्लिक कर हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से, यहां क्लिक कर हमारे टेलीग्राम पेज से और यहां क्लिक कर हमारे फेसबुक ग्रुप में जुड़ें। हमारे माध्यम से अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सुबह का सुखद समाचार: सभी परीक्षाओं (Exam) में नहीं, केवल इन परीक्षाओं में लागू होगा नकल विरोधी कानून…

Anti copying law will not apply in Uttarakhand board exams Chief Minister  Pushkar Singh Dhami made this plan - उत्तराखंड बोर्ड परीक्षाओं मे लागू नहीं  होगा नकल विरोधी कानून, मुख्यमंत्री ...नवीन समाचार, देहरादून, 14 फरवरी 2023। उत्तराखंड में नकल विरोधी कानून लागू होने के बाद असमंजस्य स्थिति बनी गई थी। कहा जा रहा था कि स्कूल-कॉलेज की परीक्षाओं (Exam) में भी नकल विरोधी कानून लागू होगा तो बच्चों की नासमझी में छोटी सी गलती भी उनका जीवन बर्बाद कर देगी। लेकिन अब साफ हो चुका है कि नकल विरोधी कानून 10वीं, 12वीं और विश्वविद्यालय की परीक्षाओं में लागू नहीं होगा। विधि विभाग ने जरूर यह सिफारिश की थी। लेकिन इसे सरकार ने मानने से इन्कार कर दिया है। यह भी पढ़ें : कई आईएएस, पीसीएस व सचिवालय सेवा के अधिकारियों के तबादले

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बताया कि उत्तराखंड प्रतियोगी परीक्षा (Exam) (भर्ती में अनुचित साधनों की रोकथाम व निवारण के उपाय) अधिनियम 2023 कानून केवल उत्तराखंड लोक सेवा आयोग, उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, उत्तराखंड चिकित्सा सेवा चयन बोर्ड की ओर से होने वाली सरकारी भर्ती परीक्षाओं (Exam) पर लागू होगा। यह भी पढ़ें : सुप्रसिद्ध सिने अभिनेता नसीरुद्दीन शाह पत्नी सहित पहुंचे नैनीताल

सीएम ने बताया कि विधि विभाग ने जो सिफारिश की थी वह सरकार ने नहीं मानी हैं। बोर्ड और विश्वविद्यालयों की परीक्षाओं (Exam) पर यह कानून लागू नहीं होगा। इन परीक्षाओं (Exam) में पहले से मौजूद नियम ही लागू रहेंगे। सीएम धामी ने साफ कहा कि कानून के दायरे को लेकर कुछ लोग अफवाह फैला रहे हैं जबकि अध्यादेश की अधिसूचना में ही यह स्पष्ट किया गया है कि यह कानून किन परीक्षाओं (Exam) पर लागू होगा। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दूसरी बार आयोजित हुई पटवारी भर्ती परीक्षा (Exam) , जानें कितनों ने दी-कितनों ने छोड़ी और क्या हैं संभावनाएं…

Patwari direct recruitment exam will held on 23 and 24 October | 23 और 24  अक्टूबर को आयोजित होगी पटवारी सीधी भर्ती परीक्षा, 15 लाख से ज्यादा  परीक्षार्थी पंजीकृत | Hindi News ...नवीन समाचार, नैनीताल, 12 फरवरी 2023। प्रदेश भर के साथ रविवार को नैनीताल जनपद के 66 परीक्षा (Exam) केंद्रों में भी राजस्व उप निरीक्षक यानी लेखपाल-पटवारी के पदों के लिए दूसरी बार भर्ती परीक्षा (Exam) कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच आयोजित हुई। परीक्षा में आवेदन करने वाले कुल 23,841 परीक्षार्थियों में से 16 हजार परीक्षार्थी उपस्थित व 7,841 यानी 32.88 फीसद परीक्षार्थी (Exam) अनुपस्थित रहे। यह भी पढ़ें : महाराष्ट्र सहित 13 राज्यों के राज्यपाल बदले, भगत सिंह कोश्यारी ने दिया इस्तीफा, यह क्या, इस्तीफे पर खुशी भी जता दी गई….

बताया जा रहा है कि परीक्षा (Exam) का बहिष्कार करने की भी युवाओं की ओर से मुहिम चल रही थी। कम परीक्षार्थियों के परीक्षा (Exam) देने को इससे जोड़कर देखा जा रहा है। वहीं परीक्षा (Exam) का प्रश्न पत्र पहली बार के मुकाबले थोड़ा कठिन बताया गया है।

कम परीक्षार्थियों ने परीक्षा (Exam) दी है, ऐसे में ‘कट ऑफ’ पिछली बार के 75 के मुकाबले कम आने की उम्मीद की जा रही है। यह भी उम्मीद की जा रही है कि अब परीक्षा (Exam) में किसी तरह की धांधली की शिकायत नहीं आएगी। यह भी पढ़ें : 15 वर्षीय नाबालिग से अपने ही सगे पिता व भाई ने की थी हैवानियत, मिली ऐसी सजा…

परीक्षा (Exam) के नोडल अधिकारी एडीएम शिवचरण द्विवेदी ने बताया कि जनपद में राजस्व उप निरीक्षक परीक्षा (Exam) के सफल आयोजन हेतु 4 जोनल व 66 नोडल अधिकारी नामित किये गए थे। साथ ही निर्विरोध, शांतिपूर्वक व पारदर्शी परीक्षा (Exam) हेतु विभिन्न परीक्षा (Exam) केंद्र व अन्य स्थलों में 2 अपर पुलिस अधीक्षक, 5 सीओ, 5 एसओ, 4 निरीक्षक, 66 उपनिरीक्षक, 132 आरक्षी, 50 यातायात व अन्य सहित कुल 480 पुलिस कर्मी तैनात रहे। यह भी पढ़ें : धनी बनना चाहते हैं तो जानें बाबा नीब करौरी द्वारा बताए धनी बनने के तीन उपाय

बताया गया है कि कि युवाओं ने भर्ती परीक्षाओं (Exam) के बहिष्कार का ऐलान किया है। उनका कहना है कि जब तक उनकी तीन मांगें पूरी नहीं होती, तब तक वह आंदोलन पर डटे रहेंगे। उनकी पहली मांग सभी 13 बेरोजगारों को रिहा करने, दूसरी भर्ती परीक्षाओं (Exam) की सीबीआई जांच कराने एवं तीसरी ‘पहले जांच फिर परीक्षा’ (Exam) की है। यानी उनका कहना है कि जब तक जांच पूरी नहीं होती तब तक कोई भी भर्ती परीक्षा (Exam) न कराई जाए। यह भी पढ़ें : उत्तराखंड: उद्योगपति के घर में ‘स्पेशल-26’ स्टाइल में फर्जी इन्कम टैक्स की रेड में 20 लाख की लूट…

परीक्षा (Exam) हेतु उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों में अभ्यर्थियो को किरायों में शत-प्रतिशत की छूट दी गई। बताया कि पंजाब, जालन्धर, चंडीगढ़, गुडगांव, दिल्ली के साथ ही प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों से लगभग कुल 3500 परीक्षार्थियों ने निशुल्क यात्रा सेवा का लाभ उठाया। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : परीक्षा (Exam) में मोबाइल फोन, ब्लूटूथ, ईयरफोन व स्मार्टवॉच व लिखित पर्चों से नकल करते पकड़े गए छात्र

dsssb exam, ब्लूटूथ से दे रहा था DSSSB एग्जाम, धरा गया - exam through  bluetooth, caught red handedly - Navbharat Timesनवीन समाचार, देहरादून, 28 जनवरी 2023। उत्तराखंड तकनीकी विश्वविद्यालय में चल रही परीक्षा (Exam) में कई छात्र ब्लू टूथ से नकल करते हुए पकड़े गये हैं। बताया गया है कि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. ओमकार सिंह ने विश्वविद्यालय से संबद्ध विभिन्न कॉलेजों में नकलविहीन परीक्षा सुनिश्चित करने के लिए छापेमारी की, इस दौरान 8 छात्र मोबाइल फोन, ब्लूटूथ, ईयरफोन व स्मार्टवॉच के साथ ही लिखित पर्चों से नकल करते हुए पकड़े गए। यह भी पढ़ें : युवक को जंगल में दबोचकर ले गया बाघ, वन कर्मियों के पहुंचने के बावजूद तीन घंटे तक शव को नोंचता रहा, 14 राउंड फायर कर बमुश्किल छुड़ाया शव…

उनसे पकड़ी गई सामग्री एवं संबंधितों की कॉपियों को कब्जे में लेकर कार्रवाई की गई। साथ ही कुलपति ने विश्वविद्यालय के परीक्षा (Exam) नियंत्रक को तत्काल संबंधित संस्थानों से परीक्षा (Exam) संचालित किये जाने की वीडियों रिकॉर्डिंग की रिपोर्ट तलब करने के निर्देश भी दिए हैं। यह भी पढ़ें : मिठाई बनाने में प्रयोग हो रहे थे मुर्गी दाना, फिटकरी का घोल, नकली रिफाइंड, रंग और केवड़े की खुशबू ! रुद्रपुर, हल्द्वानी, सितारगंज, अल्मोड़ा की नामी दुकानों में हो रही थी आपूर्ति

कुलपति ओमकार सिंह ने बताया कि इस तरह नकल कर रहे छात्रों के खिलाफ ‘यूज ऑफ अनफेयर मीन एक्ट’ के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि शैक्षिक गुणवत्ता में किसी भी तरह का हीलाहवाली स्वीकार्य नहीं की जाएगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : UKPSC ने जारी किया 32 भर्ती परीक्षाओं (Exam) का कैलेंडर

नवीन समाचार, देहरादून, 27 दिसंबर 2023। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग हरिद्वार ने परीक्षा (Exam) कैलेंडर में संशोधित करते हुए 32 भर्ती परीक्षाओं (Exam) को लेकर कैलेंडर जारी कर दिया गया है, इस संबंध में आयोग के सचिव गिरधारी सिंह रावत ने आदेश जारी किया है।

यह भी पढ़ें : पटवारी भर्ती परीक्षा का प्रश्न पत्र लीक होने के बाद आयोग का कड़ा फैसला, निरस्त की परीक्षा, जानें अब कब होगी ?

नवीन समाचार, देहरादून, 12 जनवरी 2023। उत्तराखंड में राजस्व उप निरीक्षक यानी पटवारी-लेखपाल परीक्षा का प्रश्न पत्र लीक होने के बाद यह भर्ती परीक्षा निरस्त कर दी गई है। अब यह परीक्षा दोबारा से 12 फरवरी को आयोजित होगी। यह जानकारी उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने दी है। यह भी पढ़ें : पटवारी-लेखपाल भर्ती परीक्षा में प्रश्न पत्र लीक होने के आरोप में आयोग के अधिकारी सहित चार गिरफ्तार…!

आयोग से मिली जानकारी के अनुसार इसके अलावा 12 फरवरी 2023 को पूर्व निर्धारित सहायक लेखाकार-लेखा परीक्षक परीक्षा अब 19 फरवरी को आयोजित की जाएगी। इसके अलावा बाकी सभी परीक्षाएं एवं साक्षात्कार आयोग की ओर से पूर्व में जारी परीक्षा कैलेंडर के अनुसार आयोजित की जाएंगी।

उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग प्रेस नोट दिनांक 12 जनवरी, 2023

उत्तराखण्ड पुलिस विभाग द्वारा उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग को दिनांक 08 जनवरी, 2023 को आयोग द्वारा आयोजित राजस्व उप निरीक्षक (पटवारी / लेखपाल) परीक्षा- 2022 के प्रश्न-पत्र के कुछ प्रश्न लीक होने की सूचना प्रदान की गयी है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एस०टी०एफ० से वार्ता के दौरान उनके द्वारा अवगत कराया गया है कि आरोपी संजीव प्रकाश चतुर्वेदी, अनुभाग अधिकारी द्वारा अपनी अभिरक्षा में रखे गये लगभग 380 प्रश्नों को अवैध रूप से अन्य आरोपियों को उपलब्ध कराया गया है।

प्रश्नगत परीक्षा के प्रश्न पत्र में 100 प्रश्न सम्मिलित थे, जिनमें से कुछ प्रश्न आरोपियों को उपलब्ध कराये गये प्रश्नों में सम्मिलित थे। इससे यह विदित होता है कि सम्पूर्ण प्रश्न-पत्र लीक नहीं हुआ है। पुलिस द्वारा प्रश्नगत प्रकरण में आरोपियों के विरूद्ध संगत धाराओं में एफआईआर दर्ज की गयी है। इसी क्रम में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गये आयोग के कार्मिक संजीव प्रकाश चतुर्वेदी, अनुभाग अधिकारी, अतिगोपन-3 को आयोग द्वारा तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है।

प्रकरण की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए आयोग द्वारा दिनांक 08 जनवरी, 2023 को आयोजित राजस्व उप निरीक्षक (पटवारी / लेखपाल) परीक्षा-2022 निरस्त कर दी गयी है अब उक्त परीक्षा पुनः दिनांक 12 फरवरी, 2023 को आयोजित की जायेगी।

दिनांक 12 फरवरी, 2023 को पूर्व निर्धारित सहायक लेखाकार / लेखा परीक्षक परीक्षा-2022 अब दिनांक 19 फरवरी, 2023 को आयोजित की जायेगी। उक्त के अतिरिक्त अन्य समस्त परीक्षायें एवं साक्षात्कार आयोग द्वारा पूर्व में जारी परीक्षा कैलेण्डर के अनुसार आयोजित की जायेगी।

यह भी उल्लेखनीय है कि आयोग समस्त परीक्षाओं को उत्कृष्टता, निष्पक्षता एवं पारदर्शिता के साथ सम्पादित कराने हेतु पूर्णतः सजग एवं संवेदनशील रहा है और इसके दृष्टिगत आयोग द्वारा माह अगस्त, 2022 में राज्य के पुलिस महानिदेशक को गोपनीय ढंग से सतर्कता एवं स्थानीय अभिसूचना इकाई को आयोग में तैनात किये जाने एवं परीक्षा केन्द्रों पर पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात किये जाने हेतु पत्र प्रेषित किया गया था।

(Exam) साथ परीक्षा प्रक्रिया को अभेद्य बनाये जाने के दृष्टिगत अपर पुलिस महानिदेशक (सतर्कता) की उपस्थिति में आयोग के अधिकारियों के साथ बैठक कर सुझाव प्राप्त किये गये थे, जिन्हें आयोग द्वारा लागू किया गया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : यूकेएसएसएससी की 23 परीक्षाएं यूकेपीएससी को सोंपने का शासनादेश जारी, आयोग परीक्षाओं की तैयारियों में भी जुटा…

नवीन समाचार, देहरादून, 15 सितंबर 2022। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परिधि में शामिल रही 23 परीक्षाएं उत्तराखंड लोक सेवा आयोग द्वारा कराई जायेगी। इस सम्बन्ध में आज सचिव कार्मिक एवं सतर्कता शैलेश बगौली की ओर से शासनादेश जारी कर दिया गया है। शासनादेश में बताया गया है कि उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग की परिधि में संशोधन करते हुए समूह ‘ग की 23 परीक्षाओं की जिम्मेदारी उत्तराखंड लोक सेवा आयोग को दे दी गई है।

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की विभिन्न परीक्षाओं में पेपर लीक प्रकरण का खुलासा होने के बाद से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की ओर से लगातार युवाओं के हित में ठोस कदम उठाए जा रहे हैं। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की गतिमान परीक्षाओं को मंत्रिमंडल ने उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग से कराने का फैसला लिया था। अब इसी क्रम में उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग की परीधि में बदलाव करते हुए 23 परीक्षाओ का जिम्मा भी उत्तराखंड लोक सेवा आयोग को दिया गया है।

इन परीक्षाओं में राजस्व उपनिरीक्षक, लेखपाल, बंदी रक्षक, पर्यावरण पर्यवेक्षक, प्रयोगशाला सहायक(समस्त विभाग), राज्य सरकार द्वारा स्थापित या नियंत्रित निगम, निकाय संस्थान, मानचित्रकार, सर्वेयर (समस्त विभाग, राज्य सरकार द्वारा स्थापित या नियंत्रित निगम, निकाय, संस्थान, वन आरक्षी, अवर अभियंता, अनवेक्षक कम संगणक, पुलिस आरक्षी-पीएससी, आईआरबी, अग्निशामक, उपनिरीक्षक पुलिस,

अग्निशमन द्वितीय अधिकारी, कृषि, पशुपालन, उद्यान (स्नातक), सहकारिता पर्यवेक्षक, गन्ना पर्यवेक्षक, दुग्ध पर्यवेक्षक, सहायक लेखाकार, लेखा निरीक्षक, कनिष्ठ सहायक, वैयक्तिक सहायक, सहायक लेखाकार, व्यवस्थापक, व्यावस्थाधिकारी, पुलिस रैंकर्स, वाहन चालक, अनुदेशक, मत्स्य निरीक्षक, मुख्य आरक्षी, दूरसंचार पुलिस, स्केलर (वन विभाग) शामिल हैं।

सरकार द्वारा सौंपी गई समूह ‘ग की परीक्षाओं के लिये उत्तराखण्ड राज्य लोक सेवा आयोग तैयारियों में जुटा
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग को सौंपी गई विभिन्न समूह ‘ग की परीक्षाओं का आयोजन पूरी पारदर्शिता और समयबद्ध तरीके से जल्द से जल्द कराने के लिए उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष डॉ. राकेश कुमार द्वारा महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये हैं।

(Exam) डॉ. कुमार ने बताया कि आयोग को उपलब्ध कराई गई रिक्तियों के सापेक्ष पहले चरण में चयन प्रक्रिया प्रारम्भ करते हुए पुलिस आरक्षी, राजस्व उप निरीक्षक, लेखपाल, वन आरक्षी एवं सहायक लेखाकार, लेखा परीक्षक आदि विभिन्न पदों के लिये विस्तृत रिक्ति विज्ञापन माह अक्टूबर 2022 में साप्ताहिक आधार पर जारी किया जाना प्रस्तावित हैं।

परीक्षाओं का आयोजन माह दिसम्बर 2022, जनवरी फरवरी तथा मार्च, 2023 में प्रस्तावित
अभ्यर्थियों के हित को ध्यान में रखते हुए उनको परीक्षाओं की तैयारी के लिए पर्याप्त समय मिले, इसके लिए इन पदों हेतु परीक्षा का आयोजन माह दिसम्बर 2022 तथा जनवरी फरवरी तथा मार्च 2023 में किया जा सकता है। इसकी सूचना यथासमय प्रतिष्ठित समाचार-पत्रों में अलग से विज्ञप्ति जारी कर दी जाएगी।

परीक्षाओं के सुचारू संचालन के लिए अलग अनुभाग का गठन, कार्मिकों की तैनाती
डॉ. राकेश कुमार ने बताया कि समूह ग के इन पदों की चयन प्रक्रिया को जल्द से जल्द सुचारू ढंग से संचालित किये जाने के लिए एक अलग अनुभाग का गठन करते हुए 6 कार्मिकों की तैनाती की गयी है।

आयोग में अभ्यर्थी पृच्छा निवारण प्रकोष्ठ की स्थापना

आयोग में अभ्यर्थी पृच्छा निवारण प्रकोष्ठ स्थापित कर दिया गया है। अभ्यर्थियों को किसी प्रकार की जानकारी लेनी हो तो यहाँ से ऑफलाईन अथवा ऑनलाईन जानकारी ली जा सकती है। इसके लिये आयोग में स्थापित टोल फ्री नम्बर 07060002410 या दूरभाष 01334-244143 आयोग की email ID ukpschelpline@gmail.com, Website link psc.uk.gov.in/

commission/suggestions अथवा Twitter Handle @ukpscofficial का उपयोग किया जा सकेगा। विस्तृत विवरण आयोग की वेबसाईट psc.uk.gov.in पर देखा जा सकता है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : रानीखेत में होने वाली अग्निवीर भर्ती परीक्षा का कार्यक्रम जारी….

अग्निपथ योजना के तहत अग्निवीर के 46 हजार पदों पर निकली भर्ती, देखें पूरी  जानकारीडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 16 अगस्त 2022। भारतीय थल सेना की भर्ती कार्यालय अल्मोड़ा के द्वारा सोमनाथ मैदान रानीखेत में अग्निवीर जीडी, अग्निवीर तकनीकी, अग्निवीर क्लर्क, स्टोर कीपर और अग्निवीर ट्रेडमैन के पदों हेतु आठवीं और दसवीं पास अभ्यर्थियों की भर्ती का आयोजन 20 अगस्त से 31 अगस्त 2022 तक किया जाएगा। सेना की ओर से बताया गया है कि भर्ती हेतु अभ्यर्थियों को अपने प्रवेश पत्र में दिए गए दिन और समय पर भर्ती स्थल पर पहुंचना है।

बिना प्रवेश पत्र के भर्ती स्थल पर प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी एवं नियमों का उल्लंघन करने पर अभ्यर्थी के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। भर्ती प्रक्रिया को ट्रेड, तहसील व जिला के अनुसार विभाजित किया गया है। 20 को अल्मोड़ा, बागेश्वर, नैनीताल व ऊधमसिंह नगर जनपदों के अग्निवीर ट्रेड्समैन, 21 को अग्निवीर तकनीकी, क्लर्क एवं स्टोर कीपर पद के अभ्यर्थियों की भर्ती होगी।

आगे अग्निवीर जीडी पद के लिए 22 को बागेश्वर जनपद, 23 को नैनीताल की रामनगर, हल्द्वानी, कालाढुंगी व लालकुआं तहसील, 24 को धारी, कोश्यांकुटौली, बेतालघाट व नैनीताल, 25 को अल्मोड़ा के भिकियासेंण, चॉखुटिया, द्वाराहाट व सल्ट, 26 को अल्मोड़ा, रानीखेत व लमगड़ा, 27 को जैंती, सोमेश्वर, स्याल्दे व भनोली तहसील, 29 को उधमसिंह नगर की बाजपुर, काशीपुर, जसपुर व किच्छा तहसील, 30 को गदरपुर, सितारगंज व खटीमा तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती होगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : हद हो गई, कुमाऊं विवि ने परीक्षा में पूछे अधूरे प्रश्न, परीक्षार्थियों की आपत्ति के बाद परीक्षा के बीच बदला गया प्रश्न पत्र

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 13 मई 2022। हल्द्वानी के एमबीपीजी महाविद्यालय में परीक्षा के दौरान अजीबोगरीक स्थिति उत्पन्न हो गई। बताया गया कि यहां एमएससी के प्रथम सेमेस्टर के विद्यार्थियों की गणित की परीक्षा में परीक्षार्थियों ने प्रश्नपत्र पर ही सवाल खड़े कर दिए। उनका आरोप था कि प्रश्नपत्र में अधूरे प्रश्न पूछे गए हैं।

इस पर महाविद्यालय प्रशासन भौंचक रह गया। प्रश्नपत्र की जांच की गई और शिकायत सही लगने पर कुमाऊं विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग को सूचित किया गया। इसके बाद प्रश्न पत्र बदला गया। इस अव्यवस्था के कारण परीक्षा आधे घंटे से अधिक देरी से शुरू हुई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार को सुबह 11 बजे से दोपहर एक बजे तक एमएससी प्रथम सेमेस्टर के गणित की परीक्षा होनी थी। परीक्षा के लिए पंजीकृत 80 परीक्षार्थियों में से उपस्थित परीक्षार्थियों ने जब प्रश्नपत्र मिलने पर पढ़ना शुरू किया तो उनका कहना था कि 15 में से 12 प्रश्न अधूरे और गलत थे, और किताब से पूरी तरह से हटकर थे।

उन्होंने इसकी जानकारी महाविद्यालय प्रशासन को दी तो प्रश्नपत्र की जांच की। शिकायत सही पाई जाने पर दूसरा प्रश्न पत्र आया। हालांकि परीक्षार्थियों के अनुसार इस प्रश्न पत्र में भी दो-तीन प्रश्न गलत थे। हालांकि इसकी शिकायत उन्होंने नहीं की। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य ताज़ा नवीन समाचार पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : अज़ब-गज़ब : परीक्षा देने पहुंचा छात्र लेकिन विषय का प्रश्न पत्र ही नहीं छपा…

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 27 अप्रैल 2022। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने मंगलवार को एसएसजे परिसर अल्मोड़ा में प्रस्तावित एलएलबी व बीएएलएलबी के एक छात्र ने परीक्षा का समय पूरा होने के बाद परीक्षा के निरस्त होने की सूचना देने का आरोप लगाया है। बताया गया कि छात्र जिस विषय की परीक्षा देने पहुंचा था, उस विषय का प्रश्न पत्र ही नहीं छपा था।

छात्र प्रकाश ने बताया कि एलएलबी के पांचवे सेमेस्टर में इंटरनेशनल इंवॉरमेंट लॉ व प्रॉपर्टी राइट्स विषयों के दो विकल्प थे। इनमें से उन्होंने इंटरनेशनल इंवॉरमेंट लॉ विषय लिया। इस विषय में वह इकलौते छात्र थे। हालांकि वह प्रश्नपत्र बदलने को भी तैयार थे, इसके लिए भी बात हुई लेकिन उनका प्रश्न पत्र नहीं बदला गया और जब वह प्रश्न पत्र देने पहुंचे तो वहां बताया गया कि इस विषय का प्रश्न पत्र ही नहीं छपा।

प्रकाश ने बताया कि विश्वविद्यालय के पोर्टल पर विषय उपलब्ध था, इसलिए उन्होंने भरा। बाद में विश्वविद्यालय की ओर से अपनी गलती छुपाने की कोशिश करते प्रेस को जारी विज्ञप्ति छात्र को प्रश्न पत्र का समय निकलने के बाद दिखाई, जबकि यह विज्ञप्ति प्रेस को वास्तव में प्राप्त ही नहीं हुई। वहीं इस बारे में पूछे जाने पर विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग के अधिकारियों ने फोन ही नहीं उठाया। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

259 ने दी प्री पीएचडी परीक्षा
नैनीताल। डीएसबी परिसर कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल में प्री पीएचडी कोर्स वर्क की परीक्षा 11 व 12 सितंबर को आयोजित हुई। कोविड-19 के नियमों को पालन करते हुए आयोजित हुई प्रथम व द्वितीय प्रश्न पत्र की परीक्षा डीएसबी परिसर में वरिष्ठ केंद्राध्यक्ष एवं परिसर निदेशक प्रो. एलएम जोशी, केंद्राध्यक्ष डॉ. आशीष तिवारी, पर्यवेक्षक प्रोफेसर संजय पंत एवं शोध एवं प्रसार निदेशक प्रो. ललित तिवारी की देखरेख में आयोजित हुई। 263 शोधार्थियों में से 259 ने यह परीक्षा दी।

वाणिज्य, जंतुविज्ञान एवम भूविज्ञान के शोधार्थियों की द्वितीय प्रश्न पत्र की परीक्षा 16सितंबर को होगी तथा वाणिज्य विषय के शोधार्थियों की प्रथम प्रश्न पत्र की परीक्षा 17 सितंबर को होगी। परीक्षा को संपन्न करवाने में डॉ. विजय कुमार, डॉ. हरिप्रिया पाठक, डॉ. रीना साह, डॉ. नीता आर्या, डॉ. नंदन मेहरा, डॉ. प्रसाष्ठि जोशी, डॉ. निधि वर्मा, हरीश चौधरी, रमेश पंत आदि ने सहयोग किया। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें (Exam) : हाईकोर्ट के पीसीएस परीक्षा में आयु में छूट देने के आदेश

डॉ. नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 1 सितंबर 2021 (Exam)। उत्तराखंड हाईकोर्ट ने पीसीएस परीक्षा में आयु सीमा में छूट दिए जाने को लेकर याचिका पर सुनवाई की। कोर्ट ने अभ्यथियों को राहत देते हुए राज्य के सचिव कार्मिक को निर्देश दिया है कि पीसीएस परीक्षा में अभ्यर्थियों की आयु सीमा बढ़ाने व फार्म भरने की अंतिम तिथि को बढ़ाने को लेकर निर्णय लें। मामले की सुनवाई वरिष्ठ न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी व न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा की खण्डपीठ में हुई।

(Exam) मामले के अनुसार आशुतोष भट्ट, अमित बाटला, गुलफाम व हरेंद्र रावत ने याचिका दाखिल कर कहा कि उनकी आयु 45 साल हो गयी है जबकि इस परीक्षा के लिए आयु सीमा 42 साल है। याचिका में कहा गया है कि 10 अगस्त 2021 को परीक्षा का विज्ञापन जारी किया गया था जिसकी परीक्षा 10 अक्टूबर को होनी तय है।

(Exam) याचिका में कहा गया है कि राज्य बनने के बाद पीसीएस की 6 बार ही परीक्षा हुई है और 2016 के बाद कोई परीक्षा नहीं हुई है जिस कारण वह इस परीक्षा से वंचित हो गए हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें (Exam) : फिर एक परीक्षा में धांधली ? 10 के 100 में 100, एक ही शहर के 15 के चयनित होने की चर्चाएं…

नवीन समाचार, नैनीताल, 1 मार्च 2020 (Exam) उत्तराखंड में विवादों में आई वन आरक्षी भर्ती परीक्षा के बाद फिर एक परीक्षा में बड़ी धांधली की चर्चाएं हैं। सोशल मीडिया पर रविवार को तेजी से हो रही चर्चाओं के अनुसार एक दिन पूर्व यानी 29 फरवरी को घोषित उत्तराखंड प्राविधिक शिक्षा परिषद द्वारा उच्च न्यायालय उत्तराखंड नैनीताल में समूह घ की भर्ती परीक्षा-2019 के अंतर्गत लिखित परीक्षा के उपरांत अभिलेख सत्यापन हेतु जारी विज्ञप्ति के साथ दावा किया जा रहा है कि इस परीक्षा में 10 अभ्यर्थियों के 100 में से 100 अंक आए हैं।

(Exam) यही नहीं, चयनित होने अभ्यर्थियों में से 10 अभ्यर्थी एक ही शहर रुड़की से हैं। वायरल संदेश के साथ व्यंग्यपूर्वक लिखा गया है-‘हमारा उत्तराखंड बहुत आगे बढ़ रहा है…’ हम इन दावों की पुष्टि नहीं कर रहे, क्योंकि उत्तराखंड प्राविधिक शिक्षा परिषद की वेबसाइट से सभी अभ्यर्थियों को प्राप्त अंकों की जानकारी नहीं ली जा सकती है, बल्कि अभ्यर्थी अपने अनुक्रमांक, नाम-पिता का नाम आदि डालकर ही अपना परीक्षाफल जान सकते हैं।

(Exam) इधर उत्तराखंड प्राविधिक शिक्षा परिषद की विज्ञप्ति में अभिलेख सत्यापन की तिथि 20 मार्च के आगे 37 अभ्यर्थियों के अनुक्रमांक लिखे गए हैं, परंतु उन्हें प्राप्त अंकों के बारे में जानकारी नहीं दी गई है। अलबत्ता एससी वर्ग के अलग-अलग वर्गों के लिए कट ऑफ 97, एसटी के लिए 85 व 84, ओबीसी के लिए 98, 97 व 94, 9 व 89 आदि बताई गई है। इससे भी शंका उत्पन्न होती है। इसलिए उत्तराखंड प्राविधिक शिक्षा परिषद के जिम्मेदार अधिकारियों से शंका समाधान किए जाने की अपेक्षा की जा रही है।

यह भी पढ़ें : UKSSC : तब कामयाबी की कहानी में चला था पापा के नाम का जादू, अबकी कोचिंग सेंटर का, लगी नियुक्तियों पर रोक

-इस परीक्षा की मैरिट लिस्ट में एक ही कोचिंग सेंटर के 66 प्रतिभागियो का नाम आ गया था

-पहले 2016 में ही ग्राम पंचायत विकास अधिकारी पद की मैरिट सूची में भी किया था ऐसा ही कारनामा 

नैनीताल(Exam) । UKSSC यानी उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने फिर ग्राम पंचायत विकास अधिकारी पद जैसा ही कारनामा कर डाला है। तब एक ही पिता के पुत्रों को मैरिट लिस्ट में शामिल करने का कारनामा किया था, अबकी एक ही कोचिंग सेंटर से 66 प्रतिभागियों को मैरिट लिस्ट में डाल दिया है। अलबत्ता, उच्च न्यायालय ने पिटकुल और उत्तराखण्ड़ पावर कारपोरेशन की हालिया विवादित जूनियर इंजीनियर की परीक्षा के जरिये नियुक्तियों पर रोक लगा दी है। 

(Exam) साथ ही न्यायालय ने कहा है कि पूरे मामले में जो भी जांचें चल रही है उसकी रिपोर्ट को उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग समय-समय पर उच्च न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत करे। उल्लेखनीय है कि इस परीक्षा की मैरिट लिस्ट में एक ही कोचिंग सेंटर के 66 प्रतिभागियो का नाम आ गया था।

(Exam) विदित हो कि उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने 515 जूनियर इंजीनियरों की भर्ती के लिये 21 सितम्बर 2016 को विज्ञप्ति निकाली थी, जिसमें ऑनलाइन आवेदन करने की आखिरी तिथि 31 अक्टूबर 2016 तय थी। इसके बाद आयोग ने 5 नवंबर 2017 को परीक्षा कर 6 फरवरी 2018 को मैरिट लिस्ट जारी की। आगे पता चला कि रुड़की के एक ही कोचिंग सेंटर-जीनियस कोचिंग सेंटर से 66 बच्चों का चयन हुआ।

(Exam) इसके बाद जगदीश प्रसाद सहित अन्य चार लोगों ने उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल करते हुये कहा कि 66 छात्रों का चयन एक ही कोचिंग सेंटर से होना असंभव है। इसमें कोचिंग सेंटर और बोर्ड की मिलीभगत है। इसके साथ ही याचिका में कहा गया कि मैरिट लिस्ट ग्रेड़ के हिसाब से बनायी जानी चाहिये ना कि संयुक्त रुप से।

(Exam) याचिका में मैरिट लिस्ट को निरस्त कर दुबारा मैरिट लिस्ट बनाने की मांग भी की गयी। पूरे मामले पर नैनीताल उच्च न्यायालय की न्यायमूर्ति लोकपाल सिंह की अदालत ने नियुक्ति प्रक्रिया पर रोक लगाते हुये जांच रिपोर्ट को भी न्यायालय में प्रस्तुत करने के आदेश दिये हैं।

UKSSC का एक और कारनामा भी पढ़ें : ग्राम पंचायत विकास अधिकारी पद की मेरिट में सफल कई परीक्षार्थियों के पिता के नाम थे समान

  • समूह ग की परीक्षा का परिणाम 23 दिन में ही आ गया
  • भाग्यशाली साबित हुए संग्राम, लियाकत, विनोद, विजयपाल नाम वालों के बच्चे

नवीन जोशी, नैनीताल। (Exam) यों सभी के “पापा कहते हैं बेटा बड़ा नाम करेगा”, और यदि पिता बड़े नाम के हों, तो भी उनके नाम का लाभ उनके बच्चों को मिलता है। लेकिन शायद ऐसा इत्तफाक कम ही हुआ हो कि एक नाम के पिताओं के बेटे ही दो जगह से किसी परीक्षा में ‘टॉप’ करें। 

(Exam) उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के तहत समूह ग के ग्राम पंचायत विकास अधिकारी पदों के लिए हुई परीक्षा में ऐसा इत्तफ़ाक या कहें कि कमाल देखने को मिला है। वह भी एक नहीं कई पिता नामों के साथ, और दो नहीं तीन-तीन परीक्षा प्रतिभागियों के साथ, जिनके पिता के नाम समान हैं ।

उत्तराखंड अधीनस्थ चयन आयोग द्वारा घोषित ग्राम पंचायत विकास अधिकारी की मैरिट सूची के कुछ उदहारण : 

सौरब नेगी s/o संग्राम सिंह नेगी (टॉपर टिहरी)
गौरब नेगी s/o संग्राम सिंह नेगी (टॉपर रुद्रप्रयाग)

शेर अली s/o लियाकत अली
हमीद अली s/o लियाकत अली (दोनों पौड़ी जिले से चयनित)

प्रदीप कुमार s/o विनोद कुमार (पौड़ी से चयनित)
अमन कुमार s/o विनोद कुमार (पिथौरागढ़ से चयनित)

दिनेश कुमार पुत्र विरेन्द्र कुमार (पौड़ी से चयनित)
विकास कुमार पुत्र विरेन्द्र कुमार (पिथौरागढ़ से चयनित)

अमन कुमार पुत्र विनोद कुमार (रुद्रप्रयाग)
प्रदीप कुमार पुत्र विनोद कुमार (पौड़ी)

इशु पुत्री नीरज चौहान (टिहरी) जन्मतिथि 10-02-97
महज 20 साल की उम्र में 98 में से प्राप्तांक 92

पिथौरागढ़ टॉपर नवीन सिंह मेहरा 98 में से 96.5 प्राप्तांक
(Exam) (एक प्रश्न के लिए एक अंक, गलत अंक पर 1/4 अंक की कटौती, और एक प्रश्न छोड़ने पर 0 अंक मिलने के बाद 98 में से 96.5 नम्बर कैसे आ सकते हैं किसी की reasoning knowledge अच्छी हो तो हमें भी बताना- नवीन सिंह मेहरा को भी अगर ये सवाल मिले तो वो भी जवाब दे सकते हैं)

(Exam) (Exam) उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परीक्षा देने वाले परीक्षार्थी पहले इस मायने में खुशकिस्मत रहे कि उन्हें परीक्षा परिणाम के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ा। उनकी परीक्षा बीती छह मार्च को हुई और 23 दिन में ही रिजल्ट आ गया। सबसे अहम यह कि इस परीक्षा में कामयाब कई परीक्षार्थियों के पिताओं के नाम समान होने का अजब इत्तेफाक रहा। ऐसा किसी एक परीक्षार्थी के साथ नहीं बल्कि कई के साथ हुआ है।

(Exam) यह संयोग हो सकता है कि इन नाम के पिताओं के पुत्र-पुत्रियों ने इस परीक्षा को न केवल उत्तीर्ण किया है वरन जिलों में टॉप भी किया है। खास बात यह है कि ऐसे संयोग दूरस्थ पर्वतीय जिलों में ही हुए हैं। इससे परीक्षा की निष्पक्षता पर सवाल भी उठ रहे हैं। इन इत्तेफाकों को शंका की दृष्टि से देखा जा रहा है। यह संयोग केवल पिता के नाम तक ही सीमित है या उनकी माताओं के नाम भी समान हैं। कहीं वे एक ही माता-पिता के पुत्र तो नहीं। इसकी जांच की जा सकती है।

ग्राम पंचायत विकास अधिकारी परीक्षा परिणाम (Result) जानने हेतु यहाँ क्लिक करें।

(Exam) रुद्रप्रयाग जनपद में 93.75 प्रतिशत अंकों के साथ टॉप करने वाले गौरव नेगी के पिता का नाम संग्राम सिंह नेगी है। टिहरी जिले में 94.75 फीसद अंकों के साथ टॉप करने वाले सौरभ नेगी के पिता का नाम भी संग्राम सिंह नेगी है। रुद्रप्रयाग जिले की सूची में ही छठे स्थान पर कृष्णपाल के पिता का नाम विजयपाल हैं तो पिथौरागढ़ जिले की सूची में छठे स्थान पर रहे शुभम चौधरी और पौड़ी जिले में 44वें स्थान पर रहे महिपाल सिंह के पिता के नाम भी विजयपाल सिंह ही हैं।

(Exam) विमल कुमार पुत्र विनोद कुमार नैनीताल जिले में टॉप-3 में हैं तो अमन कुमार पुत्र विनोद 92 फीसद अंकों के साथ रुद्रप्रयाग जिले में चौथे स्थान पर हैं। वहीं प्रदीप कुमार पुत्र विनोद कुमार पौड़ी जिले में 93 फीसद अंकों के साथ 13वें स्थान पर हैं। पौड़ी जिले में 93.75 फीसद अंकों के साथ छठे स्थान पर शेर अली और 16वें स्थान पर 92.5 फीसद अंकों के साथ हामिल अली हैं। दोनों के पिताओं के नाम लियाकत अली यानी एक समान हैं।

(Exam) वहीं दिनेश कुमार पुत्र वीरेंद्र कुमार 93.25 फीसद अंकों के साथ पौड़ी जिले में नौवें स्थान पर हैं तो विकास पुत्र वीरेंद्र कुमार 93 फीसद अंकों के साथ पिथौरागढ़ जिले में शीर्ष 10वें स्थान पर हैं। इसी तरह गौरव चौहान पुत्र यशपाल सिंह 93.5 फीसद अंकों के साथ अल्मोड़ा जिले में शीर्ष चार में हैं तो चंद्रपाल सिंह पुत्र यशपाल सिंह 92.5 फीसद अंकों के साथ अल्मोड़ा जिले में 12वें स्थान पर हैं।

(Exam) ओमप्रकाश नाम भी खुशकिस्मत साबित हुआ है। रुद्रप्रयाग जिले में 92 फीसद अंकों के साथ तीसरे स्थान पर सुधीर कुमार पुत्र ओमप्रकाश सिंह हैं तो पौड़ी जिले में 42वें स्थान पर रहीं मंजू के पिता का नाम भी ओमप्रकाश ही है।

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला नैनीताल : दिल के सबसे करीब, सचमुच धरती पर प्रकृति का स्वर्ग