उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 30 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 13.6 मिलियन यानी 1.36 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

June 25, 2024

Hospital Atikraman : जिला चिकित्सालय की भूमि पर ध्वस्तीकरण के लिये जेसीबी पहुंचीं, पूरे क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति प्रभावित, इंटरनेट ब्रॉडब्रेंड सेवा ठप

0

Hospital Atikraman

Hospital Atikraman Dhwastikaran JCB

बीडी पांडे जिला चिकित्सालय की भूमि पर चिन्हित भवनों को ध्वस्त करते मजदूर और क्षेत्र में पहुंची जेसीबी लाल घेरे में।

नवीन समाचार, नैनीताल, 17 सितंबर 2023 (Hospital Atikraman)। बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में पिछले 3 दिनों से लोग स्वयं अपने आशियानों को तोड़ रहे थे, लेकिन रविवार को चौथे दिन प्रशासन का ध्वस्तीकरण अभियान पूरे जोर से शुरू हो गया है। क्षेत्र में प्रशासन के मजदूरों के साथ छोटी स्टोन कटर मशीनों के बाद तीन जेसीबी मशीनें भी क्षेत्र में पहुंच गयी हैं। वहीं ध्वस्तीकरण अभियान व जेसीबी की वजह से क्षेत्र की बिजली के साथ ही इंटरनेट की सेवायें भी ठप हो गयी हैं। देखें वीडिओ :

Hospital Atikraman Dhwastikaran JCB
बीडी पांडे जिला चिकित्सालय की भूमि पर चिन्हित भवनों को ध्वस्त करते मजदूर और क्षेत्र में पहुंची जेसीबी लाल घेरे में।

इससे पूर्व सुबह बारिश के बीच कुछ देरी से प्रशासनिक अभियान शुरू हो पाया। बाद में एडीएम शिवचरण द्विवेदी की अगुवाई में एसडीएम प्रमोद कुमार तथा झील विकास प्राधिकरण के सचिव पंकज उपाध्याय के निर्देशन में प्रशासनिक अमला स्टोन कटर मशीनों पर भारी संख्या में लोनिवि व अन्य विभागों के मजदूरों के साथ क्षेत्र में डटा और भवनों पर घन बरसाकर दीवारों, छतों व कॉलम-बीम आदि को तेजी से ध्वस्त करना शुरू कर दिया।

अपराह्न में करीब 4 बजे जिला चिकित्सालय के आवासों की ओर नाला नंबर 20 की शाखा का पाटकर तीन जेसीबी मशीनें भी क्षेत्र में पहुंच गयीं। इसके बाद अभियान के और जोर पकड़ने की संभावना है। जेसीबी मशीनों तथा अभियान की सक्रियता के बीच क्षेत्र में बाहरी लोगों का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया है। क्षेत्र में रोज दिन में सुबह 10 से अभियान की समाप्ति तक बिजली की आपूर्ति काटी जा रही है, जबकि रविवार को क्षेत्र की इंटरनेट ब्रॉडबेंड की लाइनें भी अभियान की चपेट में आकर कट गयी हैं।

कुल 57 भवन ध्वस्तीकरण के लिये चिन्हित
नैनीताल। क्षेत्र में पहले प्रशासन ने 36 घरों को जिला चिकित्सालय की भूमि पर चिन्हित किया था और उन्हें तोड़ने के आदेश दिये थे। इसके बाद आधे, आढ़े-तिरछे या हिस्सों में चिन्हित हुये घरों को भी पूरी तरह खाली कर तोड़ने के आदेश दिये गये, जबकि इसके बाद 15 और भवनों को भी ध्वस्तीकरण के लिये चिन्हित किया गया है। एसडीएम प्रमोद कुमार ने बताया कि यह सभी भवन पहले से ही जिला चिकित्सालय की भूमि पर अतिक्रमण के रूप में चिन्हित हैं। इधर क्षेत्र वासियों का आरोप है कि प्रशासन लगातार चिन्हित भवनों की संख्या बढ़ा रहा है।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..यहां क्लिक कर हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें। यहां क्लिक कर यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से, हमारे टेलीग्राम पेज से और यहां क्लिक कर हमारे फेसबुक ग्रुप में जुड़ें। हमारे माध्यम से अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : Hospital Atikraman : चिकित्सालय की भूमि पर आज से औपचारिक तौर पर चलेगा ध्वस्तीकरण अभियान, आशंकाओं-अफवाहों के बीच लोग आक्रोशित भी…

नवीन समाचार, नैनीताल, 17 सितंबर 2023 (Hospital Atikraman)। बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में पिछले 3 दिनों से लोग स्वयं अपने आशियानों को बिना किसी विरोध के तोड़ रहे थे, लेकिन अब लोग तमाम आशंकाओं और अफवाहों के बीच आक्रोशित होने लगे हैं। यह तब है, जबकि आज, एक दिन विलंब से औपचारिक तौर पर यहां प्रशासन की ओर से ध्वस्तीकरण अभियान शुरू होने की बात कही जा रही है। अलबत्ता लगातार दूसरे दिन रविवार को भी नगर में सुबह से बारिश हो रही है।

क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि पहले प्रशासन ने 36 घरों को जिला चिकित्सालय की भूमि पर चिन्हित किया और उन्हें तोड़ने के आदेश दिये। यह घर बिना विरोध के स्वयं तोड़े जा रहे हैं। जबकि शनिवार सुबह आधे, आढ़े-तिरछे चिन्हित घरों को भी खाली कर तोड़ने की बात कही। बाद में प्रशासन की ओर से बताया गया कि 36 की जगह 6 अन्य भवन भी चिन्हित हुये हैं, यानी कुल 42 भवन ध्वस्त होने हैं।

लेकिन शाम तक स्थानीय लोगों में यह आशंका फैली कि प्रशासन की क्षेत्र के सैकड़ों घरों को ध्वस्त करने की तैयारी है। आशंकाओं की शुरुआत शनिवार शाम से हुई, जब स्थानीय लोगों के अनुसार कथित तौर पर किसी प्रशासनिक अधिकारी ने पूर्व से चिन्हित घरों से इतर अन्य 15 घरों को भी खाली करने की बात कही। इसके बाद लोग आक्रोशित होने शुरू हो गये और देर रात्रि तक इस बारे में चर्चा-परिचर्चा करते रहे कि सैकड़ों घर प्रशासनिक कार्रवाई की जद में आ सकते हैं।

वहीं प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार प्रशासनिक कार्रवाई केवल जिला चिकित्सालय के पूर्व में चिन्हित भवनों तक ही सीमित रहने वाली है। अलबत्ता इस बारे में औपचारिक प्रशासनिक पक्ष न प्राप्त होने के कारण आशंकाएं, अनेकों अफवाहों के रूप में फैलने लगी हैं। अफवाहें न फैलें, इस हेतु प्रशासन की ओर से स्थिति स्पष्ट-साफ किये जाने की उम्मीद की जा रही है।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..यहां क्लिक कर हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें। यहां क्लिक कर यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से, हमारे टेलीग्राम पेज से और यहां क्लिक कर हमारे फेसबुक ग्रुप में जुड़ें। हमारे माध्यम से अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें।

Views: 0

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

Discover more from नवीन समाचार : समाचार नवीन दृष्टिकोण से...

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

गर्मियों में करना हो सर्दियों का अहसास तो.. ये वादियाँ ये फिजायें बुला रही हैं तुम्हें… नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला