News

जिला अस्पताल के शौचालय के फ्लश टैैंक में मिला तीन से चार दिन पुराना नवजात का शव

Kerala: 17-year-old girl gives birth with help of YouTube videos | 17 साल  की लड़की ने यूट्यूब देखकर घर पर ही दिया बच्‍चे को जन्‍म, पैरेंट्स को भी पता  नहीं चला |

नवीन समाचार, देहरादून, 1 अक्तूबर 2022। देहरादून के जिला चिकित्सालय-कोरोनेशन अस्पताल में मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है जिससे इलाके में सनसनी फैल गई। अस्पताल के शौचालय के फ्लश टैैंक में एक नवजात का शव मिला है। शव तीन से चार दिन पुराना लग रहा है। शव को शिनाख्त के लिए शव गृह में रखा गया है। पुलिस नवजात किसकी संतान था, इसकी जांच कर रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कोरोना अस्पताल के कर्मचारियों को शौचालय में बदबू आई तो किसी गड़बड़ी की आशंका पर उन्होंने शौचालय में देखा। शौचालय के फ्लश टैैंक में एक नवजात का शव पड़ा हुआ मिला। डालनवाली कोतवाली के एसएसआइ महादेव उनियाल के अनुसार कुछ दिन पहले भर्ती हुई गर्भवती महिलाओं का रिकार्ड चेक किया जा रहा है। इसके अलावा सीसीटीवी कैमरों से भी फुटेज निकाली जा रही है। सभी पहलुओं से मामले की छानबीन की जा रही है।

डिलीवरी का रिकार्ड भी विस्तार से देखा जा रहा है। जरूरत पडने पर शव का पोस्टमार्टम भी कराया जाएगा। प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा. शिखा जंगपांगी ने बताया कि पुलिस को जरूरी जानकारी दे दी गई है। अस्पताल में प्रसव के लिए भर्ती हुई गर्भवती और डिलीवरी के बारे में भी रिकार्ड दिया गया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में सिर व एक हाथ रहित नवजात का शव मिलने से हड़कंप…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 9 सितंबर 2022। शहर में शुक्रवार को गौला नदी क्षेत्र में एक नवजात का शव मिलने से हड़कंप मच गया है। सूचना पर पहुंची पुलिस को एक नवजात का सिर और एक हाथ रहित शव मिला है। पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवा दिया है। उसकी शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। माना जा रहा है कि नवजात का शव कहीं ऊपर की ओर से बहकर आया हो।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह दस बजे करीब राजपुरा पुलिस को सूचना मिली कि गौला नदी में एक नवजात का शव पड़ा हुआ है। इसके बाद राजपुरा चौकी प्रभारी दिनेश जोशी मौके पर पहुंचे, और एक नवजात का सिर व एक हाथ विहीन शव बरामद किया। इसे लेकर क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाएं भी शुरू हो गईं।

कोतवाल हरेंद्र चौधरी ने बताया कि पुलिस सीसीटीवी चेक करने से लेकर अस्पतालों में हाल में पैदा हुए बच्चों को लेकर भी डाटा जुटाकर शव की शिनाख्त करने के प्रयास में है। शव को मोर्चरी में रख दिया गया है। नवजात की शिनाख्त को लेकर हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : पेट दर्द दिखाने अस्पताल आई नैनीताल जिले की 14 वर्ष की बच्ची ने दिया बच्चे को जन्म, 21 वर्ष की कुंवारी भी बनी मां….

नवीन समाचार, अल्मोड़ा, 18 अगस्त 2022। समाज न जाने किस ओर जा रहा है ? अल्मोड़ा के बेस अस्पताल में पेटदर्द की शिकायत पर उपचार को पहुंची सीमावती नैनीताल जनपद के एक गांव की निवासी 14 वर्षीय नाबालिग किशोरी ने बच्चे को जन्म दिया है। इसके अलावा एक अन्य 21 वर्षीय कुंवारी युवती के भी मां बनने की घटना हुई है। युवती की तीन महीने बाद शादी है। दोनों घटनाओं से लोग अपने बच्चों के प्रति चिंतित हो रहे हैं।

पहली घटना में मां बनी बच्ची की मां का कहना है कि बच्ची अपने ननिहाल में रहती थी। 6 माह पहले नानी की मौत के बाद वह उनके साथ घर आ गई थी। बच्ची ने इस बारे में कभी भी कोई जानकारी परिजनों को नही दी। गुरुवार सुबह बच्ची के पेट में दर्द होने के बाद उसे अस्पताल लाये तो बच्ची ने बच्चे को जन्म दिया है। जांच अधिकारी हेमा कार्की ने बताया कि किशोरी से पूछताछ की जा रही है कि किसने उसके साथ दुराचार किया। अभी युवती कुछ भी बता नही रही है।

इसके अलावा अल्मोड़ा जिले के ताकुला क्षेत्र से दूसरा मामला सामने आया है। जहां पर 21 वर्षीय अविवाहित युवती ने बुधवार को अल्मोड़ा के महिला अस्पताल में स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है लेकिन उस मामले में भी युवती कुछ भी नही बोल रही है। बताया जा रहा है नवजात को जन्म देेने वाली युवती की तीन महीने बाद शादी है। यही कारण है कि परिजन बिना कहीं कोई सूचना दिए लोकलाज के भय से युवती और बच्चे को सुबह ही डिस्चार्ज करा ले गए।

उनका कहना था कि उन्हें बेटी के गर्भवती होने की कोई जानकारी नहीं थी। मामला बालिग से जुड़ा होने और व्यक्तिगत होने के कारण चिकित्सकों ने भी इसे पूरी तरह से गोपनीय रखा। युवती ने किसके बच्चे को जन्म दिया, इस बारे में भी फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। युवती के परिजन अपने साथ नवजात और युवती को घर ले गये हैं। क्षेत्र में इन दोनों खबरों से तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। लोग अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंतित हो रहे हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 16 वर्षीय नाबालिग लड़के ने किया 12 वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म, बच्ची ने दिया बच्चे को जन्म

नवीन समाचार, अल्मोड़ा, 30 जून 2022। एक 12 वर्षीया नाबालिग ने दुष्कर्म के बाद बच्चे को जन्म दिया है। गनीमत है पीड़िता और नवजात दोनों सुरक्षित बताया जा रहा है और चिकित्सकों की देख-रेख में है। बताया गया है कि आरोपित भी नाबालिग है और उसने पीड़िता को धमकी भी दी है। इस कारण पीड़िता की सुरक्षा व्यवस्था के लिए अस्पताल में पुलिस भी लगाई गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव के एक 16 वर्ष के नाबालिग ने अपने गांव की ही 12 वर्षीया नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया था। दुष्कर्म का पता परिजनों को सात माह बाद चला। बीते अप्रैल माह में परिजन अपनी बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंचे। जहां उन्होंने बच्ची का पेट फूलने की बात चिकित्सकों को बताई। जिसके बाद चिकित्सकों ने बताया कि इसके पेट में गर्भ पल रहा है।

घटना के बाद परिजनों ने राजस्व पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई। राजस्व पुलिस से मामला भतरौंजखान थाने को ट्रांसफर हुआ। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपित पंकज को गिरफ्तार किया। आरोपित पंकज फिलहाल जमानत में है। इधर बुधवार को अस्पताल में नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता ने सुरक्षित तरीके से बच्चे को जन्म दिया। जच्चा-बच्चा की हालत ठीक बताई जा रही है। ठीक होने के बाद नवजात और नाबालिग के भविष्य का फैसला बाल कल्याण समिति करेगी। समिति के समक्ष ठीक होने के 24 घंटे के अंदर पेश करना होगा। नवजात को शिशु निकेतन में रखा जा सकता है।

आरोपित के धमकी देने के बाद पीड़िता नाबालिग की अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस तैनात की गई है। ताकि किसी प्रकार की दिक्कत ना हो। वहीं महिला आयोग ने भी स्वजनों की काउंसिलिंग की। ताकि पीड़िता को किसी प्रकार की परेशानी ना हो सके।

राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष ज्योति साह मिश्रा ने कहा कि पीड़िता के परिजनों की काउंसिलिंग की गई है। किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होने दी जाएगी। बाकि पीड़िता और नवजात पर निर्णय सीडब्ल्यूसी करेगी। पीड़िता की सुरक्षा की व्यवस्था के निर्देश दिए हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply