Education

राजनीति विज्ञान में सहायक प्राध्यापक बनने पर उच्च शिक्षा मंत्री ने दी बधाई

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 जनवरी 2021। कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीएसबी परिसर के 9 राजनीति विज्ञान के संविदा प्राध्यापकों एवं शोधार्थियों का चयन संघ लोक सेवा आयोग से मंगलवार को हुआ था। बुधवार को मुख्यालय पहुंचे प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत एवं कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके जोशी ने चयनित सहायक प्राध्यापकों को उनके चयन पर बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर कुमाऊं विश्वविद्यालय के महिला अध्ययन केंद्र मे राजनीति विज्ञान की विभागाध्यक्ष प्रो. नीता बोरा शर्मा, प्रो. दिव्या उपाध्याय जोशी, प्रो मधुरेन्द्र कुमार, मोहित रौतेला, भूमिका, रवि कुमार, नीमा, अविनाश, हरीश राणा, पंकज मनोज कुमार आदि ने डा. केतकी, डा. मोनिका, डा. प्रदीप, डा. दीपा मेहरा, डा. योगेश, डा. रेखा, पूजा, दीपक, राज, ममता व ओंकार आदि को बधाई दी।

यह भी पढ़ें : परिणाम घोषित: मोनिका, केतकी, दीपक, दीपा, पूजा, ओंकार, रेखा, प्रदीप, योगेश आदि बने असिस्टेंट प्रोफेसर

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जनवरी 2021। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित असिस्टेंट प्रोफेसर की परीक्षा में राजनीति विज्ञान विषय के परिणाम मंगलवार 19 जनवरी 2021 को घोषित किये गये। इसमें 75 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया है। सफल घोषित अभ्यर्थियों में कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीएसबी परिसर नैनीताल ने विशेष उपलब्धि प्राप्त की है। यहां श्रेष्ठता क्रम में डॉ मोनिका बिष्ट, डॉ केतकी तारा कुमइयां, दीपक जोशी, दीपा मेहरा, पूजा, ओंकार चतुर्वेदी, रेखा, डॉ प्रदीप कुमार व योगेश सिंह राणा आदि 9 लोग चयनित हुए हैं। इस उपलब्धि पर कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके जोशी, परिसर निदेशक प्रो. एलएम जोशी, कुलानुशासक एवम राजनीति विज्ञान विभागाध्यक्ष प्रो. नीता बोरा शर्मा, शोध निदेशक एवम कूटा अध्यक्ष प्रो. ललित तिवारी, प्रो. सुचेतन साह, डॉ. विजय एवं समस्त प्राध्यापकों, शोधार्थियों एवं शिक्षार्थियों ने सफल अभ्यर्थियों को बधाई उज्जवल भविष्य की शुभकानाएं दी हैं।

यह भी पढ़ें : पीएचडी में प्रवेश हेतु अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग 11-12 को..

नवीन समाचार, नैनीताल, 05 जनवरी 2020। कुमाऊं विश्वविद्यालय की पीएचडी प्रवेश परीक्षा में उत्तीर्ण हुए तथा पीएचडी प्रवेश परीक्षा 2020 से छूट प्राप्त अभ्यर्थियों के प्रवेश हेतु काउंसिलिंग प्रक्रिया आगामी 11 व 12 जनवरी को हेागी। विश्वविद्यालय के डीआईसी निदेशक प्रो. संजय पंत ने बताया कि काउंसिलिंग कला संकाय के लिए 11 व अन्य सभी संकायों के लिए 12 जनवरी को सुबह साढ़े 10 से शाम साढ़े चार बजे तक होगी। इस हेतु वरीयता सूची बुधवार 6 जनवरी को विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड की जाएगी। अभ्यर्थियों को काउंसिलिंग के लिए 1500 रुपए की फीस 6 जनवरी की अपराह्न दो बजे से ऑनलाइन जमा करनी होगी। विस्तृत जानकारी विश्वविद्यालय की वेबसाइट से प्राप्त की जा सकती है।

यह भी पढ़ें : इंतजार खत्म : कुमाऊं विश्वविद्यालय ने जारी किए पीएचडी प्रवेश परीक्षा के साक्षात्कार बाद परिणाम

नवीन समाचार, नैनीताल, 04 जनवरी 2020। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने गत 1 नवंबर को आयोजित हुई पीएचडी प्रवेश परीक्षा एवं इसमें उत्तीर्ण तथा आरडीईटी एक्जैम्टेड अर्ह अभ्यर्थियों के 21 से 23 दिसंबर के बीच आयोजित हुए साक्षात्कार के परिणाम सोमवार को अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दिए हैं। कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीआईसी निदेशक प्रो. संजय पंत ने बताया कि परीक्षार्थी अपनी पंजीकरण संख्या अंकित करने के बाद अपना परीक्षाफल-स्कोर कार्ड डाउनलोड पर प्रिंट आउट ले सकते हैं। प्रवेश परीक्षा में उत्तीर्ण व अर्ह अभ्यर्थियों को पीएचडी पाठ्यक्रम में प्रवेश काउंसिलिंग के पश्चात उपलब्ध सीटों के सापेक्ष वरीयता के आधार पर दिया जाएगा। जो अभ्यर्थी साक्षात्कार में शामिल नहीं हुए हैं, वे काउंसिलिंग के लिए अर्ह नहीं होंगे।

यह भी पढ़ें : कुमाऊं विश्वविद्यालय ने गणित की पीएचडी प्रवेश परीक्षा का परिणाम रद्द किया

नवीन समाचार, नैनीताल, 31 दिसम्बर 2020। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए गत एक नवंबर को आयोजित हुई पीएचडी की प्रवेश परीक्षाओं में से गणित विषय की परीक्षा के परीक्षाफल को तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया है। उल्लेखनीय है कि अल्मोड़ा में इस परीक्षा में धांधली के आरोप लगाते हुए परीक्षाफल निरस्त किए जाने की मांग की जा रही थी। छात्रों का आरोप था कि इस परीक्षा में धांधली के कारण ही कई छात्रों ने 90 से अधिक अंक प्राप्त कर लिए हैं।
इधर बृहस्पतिवार को इस संबंध में कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीआईसी निदेशक एवं प्रवेश परीक्षा के समन्वयक प्रो. संजय पंत की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया कि इस संबंध में गठित जांच समिति की अनुशंसा पर कुलपति प्रो. एनके जोशी ने प्रशासनिक पारदर्शिता, निष्पक्षता, परीक्षा की गोपनीयता, गंभीरता, सुचिता तथा विश्वविद्यालय की गरिमा एवं छवि तथा व्यापक छात्रहित को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल : वरिष्ठ पत्रकार के भतीजे बनेंगे न्यायाधीश,उत्तराखंड पीसीएस-जे में हुआ चयन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 23 दिसम्बर 2020। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने मंगलवार को उत्तराखंड न्यायिक सेवा सिविल जज जूनियर डिवीजन परीक्षा 2019 का परिणाम जारी कर दिया है। उल्लेखनीय है कि आयोग ने इसी साल 22 मई को पीसीएस-जे की मुख्य परीक्षा का परिणाम जारी किया था। इस परीक्षा में चयनित उम्मीदवारों को 17 से 20 सितंबर के बीच साक्षात्कार के लिए बुलाया गया। मंगलवार को जारी नतीजों में कुल 17 उम्मीदवारों ने कामयाबी हासिल की है।
इनमें पहले स्थान पर उदीशा सिंह, दूसरे स्थान पर आदर्श त्रिपाठी और तीसरे स्थान पर अंजू रहे। साथ ही हर्षिता शर्मा, स्नेहा नारंग, प्रियांशी नगरकोटि, गुलिस्ता अंजुम, प्रिया शाह, आयशा फरहीन, जहां आरा अंसारी, नितिन शाह, संतोष पच्छमी, शमशाद अली, देवांश राठौर, सिद्धार्थ कुमार, अलका और नवल सिंह बिष्ट भी 17 स्थानों में चयनित हुए हैं।

नवल बिष्ट

इनमें 17वें स्थान पर रहे सरोवरनगरी की निकटवर्ती ग्रामसभा भूमियाधार के निवासी नवल सिंह बिष्ट ने उत्तराखंड न्यायिक सेवा सिविल जज (जूनियर डिविजन) की मुख्य परीक्षा पास कर जिले का नाम प्रदेश में बढ़ाया है। इससे क्षेत्र में खुशी का माहौल है। नगर एवं प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार चंद्रेक बिष्ट के भतीजे नवल नेमहर्षि विद्या मंदिर और गोविंद बल्लभ पंत इंटर कॉलेज भवाली से इंटर तक की पढ़ाई करने के बाद डीएसबी परिसर नैनीताल से स्नातक के बाद सोबन सिंह जीना परिसर अल्मोड़ा से एलएलबी की है। वर्तमान में वह जिला नैनीताल जिला न्यायालय में वकालत करने के साथ न्यायिक सेवा की तैयारी कर रहे थे। उनका कहना है कि निष्पक्ष न्याय करना उनका लक्ष्य है। नवल ने अपनी सफलता का श्रेय अपने पिता आनंद सिंह, माता शारदा बिष्ट के साथ अपने गुरुजनों और दोस्तों को दिया है। उनके पिता आनंद सिंह बिष्ट की भूमियाधार में जनरल स्टोर की दुकान है। और माता सरोज बिष्ट गृहणी हैं। क्षेत्र पंचायत सदस्य अंजली बिष्ट, समाजसेवी पंकज बिष्ट सहित तमाम ग्रामीणों ने फूल मालाओं के साथ उनका स्वागत किया। वहीं कमल बिष्ट, पुनीत बिष्ट, अंकित बिष्ट, गौरव बिष्ट, मनीष बिष्ट व आकाश बिष्ट आदि ने उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।

यह भी पढ़ें : इंतजार खत्म: कुमाऊं विश्वविद्यालय ने घोषित किए पीएचडी परीक्षाा के परिणाम

नवीन समाचार, नैनीताल, 03 दिसम्बर 2020। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने गत 1 नवंबर को आयोजित की गई पीएचडी की लिखित प्रवेश परीक्षा-2020 के परिणाम बृहस्पतिवार को योग्य एवं अयोग्य यानी क्वालीफाइड एवं नॉन क्वालीफाइड आधार पर जारी कर दिए हैं। विश्वविद्यालय के डीआईसी निदेशक प्रो. संजय पंत ने बताया कि योग्य अभ्यर्थियों की विषयवार विस्तृत सूची विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध कराई जा रही है। योग्य अभ्यर्थियों के साक्षात्कार, प्रस्तुतीकरण 21, 22 व 23 दिसंबर को आयोजित किए जाएंगे। इसकी विस्तृत सूचना पृथक से सभी योग्य अभ्यर्थियों को साक्षात्कार पत्र के माध्यम से भेजी जाएगी। साक्षात्कार, प्रस्तुतीकरण के उपरांत विश्वविद्यालय के द्वारा अर्ह अभ्यर्थियों की अंतिम वरीयता सूची जारी की जाएगी। आरडीईटी एक्जैम्प्टेड श्रेणी के अंतर्गत आने वाले अभ्यर्थियों को भी साक्षात्कार में प्रतिभाग करना आवश्यक होगा। लिखित परीक्षा में योग्य घोषित अभ्यर्थियों को पांच से 18 दिसंबर के बीच 300 रुपए साक्षात्कार शुल्क विश्वविद्यालय की वेबसाइट के माध्मय से ऑनलाइन जमा करना होगा, तभी वे अपने साक्षात्कार पत्र डाउनलोड कर सकते हैं।
इस लिंक पर देखें अपना परिणाम : https://kuadmission.com/home/final_result_qualified_upload.pdf
बीए-एमए के परीक्षा परिणाम भी घोषित
नैनीताल। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने बृहस्पतिवार को बीए के छठे एवं एमए गृह विज्ञान के चौथे सेमेस्टर के परीक्षा परिणाम भी घोषित कर दिए हैं।

यह भी पढ़ें : अभी परीक्षाफल घोषित करो, वरना नौकरी के लिए करना पड़ेगा 3-4 वर्ष का इंतजार..

नवीन समाचार, नैनीताल, 09 अक्टूबर 2020। बीएड चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाएं दे चुके छात्र-छात्राओं ने अपना परीक्षाफल शीघ्र घोषित करने की मांग की है। उनके एक शिष्टमंडल ने शुक्रवार को कुमाऊं विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक एवं उप रजिस्ट्रार के माध्यम से कुलपति को ज्ञापन भेजा। ज्ञापन में उनका कहना है कि गत 18 सितंबर को उनकी परीक्षाएं हुए 20 दिन हो चुके हैं। इन दिनों पिछले एक सप्ताह से लगातार आर्मी पब्लिक स्कूल व उत्तराखंड लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित प्रवक्ता संवर्ग की सहित सरकारी और गैर सरकारी विद्यालयों में अनलॉक की घोषणा के बाद बीएड प्रशिक्षितों के लिए शिक्षकों की नियुक्तियां निकल रही हैं। यदि उनका परीक्षाफल जारी हो जाता तो वे भी इन पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं। अन्यथा वे आवेदन नहीं कर सकते, और उन्हें आगे नौकरी के लिए 3-4 वर्ष का इंतजार करना पड़ सकता है। ज्ञापन देने वालों में शंकर दयाल जोशी, सुनील पाठक, मोहित पांडे, दिव्या पाठक, हरेंद्र परगाई, हेमंत आर्या, संगीता, मेघा अधिकारी, नेहा मिश्र, मुकेश पंत, कमल बोरा, हिमांशु कांडपाल, पूनम, बबीता, दर्शिका कुटियाल, ज्योति आर्या, शंकरानंद, बृजेश पंत व प्रियंका बिष्ट सहित अन्य विद्यार्थी शामिल रहे।
बीएड व एमएड की प्रवेश परीक्षा के आवेदन पत्र भरने की अंतिम तिथि करीब
नैनीताल। कुमाऊं विश्वविद्यालय की वर्ष 2020 की बीएड व एमएड की प्रवेश परीक्षा के आवेदन पत्र इन दिनों भरे जा रहे हैं। विश्वविद्यालय के निदेशक डीआईसी प्रो. संजय पंत ने याद दिलाया कि आवेदन पत्र आगामी 25 अक्टूबर तक ही भरे जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि यह परीक्षा आगामी 8 नवंबर को प्रस्तावित है। अब तक काफी कम संख्या में ही आवेदन किये गए हैं।

यह भी पढ़ें : पॉलीटेक्निक प्रवेश परीक्षा में बेतालघाट के हर्षित ने किया टॉप, भानु 72वें स्थान पर

नवीन समाचार, नैनीताल, 30 सितंबर 2020। जनपद के बेतालघाट विकासखंड के दो होनहारों ने उत्तराखंड की पॉलीटेक्निक प्रवेश परीक्षा-जेईईपी की श्रेष्ठता सूची में शामिल होकर अपना, अपने परिवार व क्षेत्र का नाम रोशन किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार जोशी खोला-डाबर निवासी के हर्षित जोशी पुत्र ललित मोहन जोशी ने प्रदेश में प्रथम तथा मल्लागांव के भानु प्रताप सिंह पुत्र जसवंत सिंह जलाल ने प्रदेश में 72वां स्थान प्राप्त किया। हर्षित के पिता गांव में ही दुकान चलाते है और माता गृहणी हैं। जबकि भानु प्रताप सिंह जलाल के पिता सीमा सुरक्षा बल में इंस्पेक्टर के पद पर सेवायें दे रहे हैं और माता गृहणी हैं। दोनों होनहारों व उनके परिजनों को क्षेत्रवासियों से लगातार बधाइयां मिल रही हैं।

यहाँ से देखें अपना परिणाम : http://www.ubtejeep.in/Result_Test/jeeprank.aspx

यह भी पढ़ें : कुमाऊं विश्वविद्यालय ने 6 पाठ्यक्रमों के परिणाम किए घोषित…

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अगस्त 2020। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने बृहस्पतिवार को बीएमएस-एमबीए इंटीग्रेटेड के दूसरे, चौथे, छठे व आठवें एवं बीएससी एग्रीकल्चर व मास्टर इन आर्ट्स इंस सोसियल वर्क के दूसरे सेमेस्टर सहित कुल 6 पाठ्यक्रमों के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिये हैं। परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि परीक्षार्थी विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट से परिणाम के साथ अंकतालिका की प्रति भी डाउनलोड कर सकते हैं। साथ ही बताया कि अब तब परीक्षा आवेदन फार्म व परीक्षा शुल्क जमा न करने वाले परीक्षार्थियों तथा अब तक आंतरिक मूल्यांकन के अंक उपलब्ध न कराने वाले कॉलेजों के परिणाम रोके भी गए हैं।

यह भी पढ़ें : कुमाऊं विश्वविद्यालय ने एक दर्जन पाठ्यक्रमों के परिणाम किए घोषित..

नवीन समाचार, नैनीताल, 18 अगस्त 2020। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने मंगलवार को बीएससी फॉरेस्ट्री के छठे, वी-वॉक डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस सर्विसेज व हॉस्पिटेलिटी मैनेजमेंट के पांचवे, बीए इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन के चौथे तथा एमएससी रिमोट सेंसिंग एंड जीआईएस, एमबीए रूरल मैनेजमेंट एंड इंटरप्रिन्योरशिप डेवलपमेंट, एमबी एक्जीक्यूटिव व एमएससी फूड टेक्नोलॉजी के दूसरे सेमेस्टर सहित कुल 8 पाठ्यक्रमों के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिये हैं। परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि परीक्षार्थी विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट https://www.kunainital.ac.in/ से परिणाम के साथ अंकतालिका की प्रति भी डाउनलोड कर सकते हैं। साथ ही बताया कि अब तब परीक्षा आवेदन फार्म व परीक्षा शुल्क जमा न करने वाले परीक्षार्थियों तथा अब तक आंतरिक मूल्यांकन के अंक उपलब्ध न कराने वाले कॉलेजों के परिणाम रोके भी गए हैं।

यह भी पढ़ें : कुमाऊं विश्वविद्यालय ने एक दर्जन पाठ्यक्रमों के परिणाम किए घोषित

नवीन समाचार, नैनीताल, 17 अगस्त 2020। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने सोमवार को बी-वॉक इन हॉस्पिटेलिटी मैनेजमेंट, ऑटोमोबाइल टेक्नोलॉजी, फूड टेक्नोलॉजी, बायो टेक्नोलॉजी, डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस सर्विसेज, ऑटोमोबाइल टेक्नोलॉजी, एलएलएम, एमएससी-टेक्सटाइल एंड एपीरल डिजाइनिंग तथा फूड एंड न्यूट्रीशन के कुल 11 पाठ्यक्रमों के दूसरे-चौथे सेमेस्टर के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिये हैं। अब तब परीक्षा आवेदन फार्म व परीक्षा शुल्क जमा न करने वाले परीक्षार्थियों तथा अब तक आंतरिक मूल्यांकन के अंक उपलब्ध न कराने वाले कॉलेजों के परिणाम रोके भी गए हैं। परिणाम कुमाऊं विश्वविद्यालय की वेबसाइट https://www.kunainital.ac.in/ पर देखे जा सकते हैं। 

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड के 11 लालों ने यूपीएससी की परीक्षा में किया धमाल, भवाली के अमित भी शामिल

नवीन समाचार, नैनीताल, 4 अगस्त 2020। संघ लोक सेवा आयोग यानी यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा में उत्तराखंड के 11 युवाओं ने अपनी प्रतिभा का जौहर दिखाया दिखा कर राज्य का मान-सम्मान बढ़ाया है। रामनगर निवासी शुभम बसंल ने देश की इस सर्वाधिक प्रतिष्ठित परीक्षा में अखिल भारतीय स्तर पर ४३वीं रैंक हासिल कर उत्तराखंड का डंका बजाया, वहीं देहरादून, रुड़की, ऊधमसिंहनगर, चमोली, रुद्रप्रयाग, नैनीताल और अल्मोड़ा की प्रतिभाओं ने कमाल किया है।
संघ लोक सेवा आयोग ने मंगलवार को सिविल सेवा परीक्षा-२०१९ का फाइनल रिजल्ट जारी किया है। हर बार की तरह इस बार भी प्रदेश के होनहारों ने खुद को साबित किया है। अखिल भारतीय स्तर पर ४३वीं रैंक हासिल करने वाले आरबीआई कानपुर में जनरल मैनेजर शुभम ने तीसरे प्रयास में यह सफलता हासिल की है। रामनगर निवासी अतुल बंसल के पुत्र शुभम बंसल ने वर्ष २०११ में हाईस्कूल की परीक्षा लिटिल स्कालर्स काशीपुर से ग्रेड ए प्लस लाकर पास की। १२वीं परीक्षा आरके पुरम दिल्ली स्थित डीपीएस स्कूल से उत्तीर्ण की। २०१७ में दिल्ली में ही रह कर इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। २०१९ में रिजर्व बैंक का मैनेजर पद की परीक्षा क्वालीफाई किया। दून की बेटी विशाखा डबराल ने अखिल भारतीय स्तर पर १३४वीं रैंक अर्जित की है। यह दूसरा मौका है जब उन्हें सिविल सेवा परीक्षा में कामयाबी मिली है। वह अभी आईपीएस का प्रशिक्षण ले रही हैं। 163 वीं रैंक हासिल करने वाले बागेश्वर के सिद्धार्थ धपोला ने पिछली बार भी यूपीएसएससी क्वालीफाई किया था। इस समय वे तब उन्हें आईआरएस मिला था। इस वक्त वह शिमला में प्रशिक्षण ले रहे हैं। रुड़की के ओजस्वी राज ने २२७वींदून निवासी मुकुल जमलोकी ने परीक्षा में २६०वीं रैंक हासिल की है। रुद्रप्रयाग उत्तराखंड के मुकुल जमलोकी इस वक्त इंडियन पोस्टल सर्विस का प्रशिक्षण ले रहे हैं। वह पिछली बार भी ४०५वीं रैंक के साथ चयनित हुए थे और इस वक्त भारतीय पोस्टल सेवा में उत्तराखंड में कार्यरत हैं। इससे भी पहले प्रयास में वे भारतीय सूचना सेवा में ५०४वीं रैंक के साथ चयनित हुए थे और डेढ़ वर्ष हरियाणा में भारतीय सूचना सेवा में कार्यरत रहे। मुकुल के पिता डॉ. ओमप्रकाश जमलोकी दूरदर्शन केंद्र दिल्ली में वरिष्ठ छायाकार के पद पर कार्यरत हैं तथा उनकी मां दिल्ली सरकार के स्कूल में शिक्षिका हैं।

यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) की परीक्षा में चमोली के खाल भिकोना गांव निवासी प्रशांत बादल नेगी ने ३९७वीं रैंक प्राप्त की है। प्रशांत ने इस सफलता को अर्जित करने के लिए सात साल तक कड़ी मेहनत की। प्रशांत ने इंटर तक की पढ़ाई जीआईसी गोपेश्वर में करने के बाद ग्रेजुएशन नोएडा से की। वर्ष २०१९ में साइकोलॉजी से नेट क्वालीफाइ किया है। प्रशांत के पिता हरेंद्र सिंह नेगी गोपेश्वर में व्यवसायी हैं और माता पूनम नेगी गृहणी हैं। वहीं दून निवासी यशवंत सिंह की पुत्री भानु सिंह ने ६१८वीं रैंक हासिल की है। भानु सिंह ने इंटर की परीक्षा पास करने के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक किया। ऊधमसिंहनगर जिले के बाजपुर निवासी ऋजुल ने भी यूपीएससी क्वालीफाई किया है। उन्हें यूपीएससी में 702वीं रैंक प्राप्त हुई है। वह वन विभाग खटीमा में एसडीओ के पद पर कार्यरत हैं। जनजातीय क्षेत्र जौनसार बावर की बेटियों ने भी सिविल सेवा परीक्षा में सफलता हासिल कर राज्य का नाम रोशन किया है। नेवी गांव निवासी सृष्टि ने ७३४ और त्यूणी तहसील अंतर्गत देवाघार खत के मेघाटू गांव निवासी श्रुति शर्मा ने ७७५वीं रैंक हासिल की। भवाली के घोड़ाखाल निवासी अमित दत्त ने यूपीएससी में 761वीं रैंक हासिल की है। वह हल्द्वानी में बतौर राज्य कर अधिकारी कार्यरत हैं।  मूल रूप से भवाली निवासी अमित दत्त ने सरस्वती अकेडमी अल्मोड़ा से इंटर की परीक्षा पास की। अमित की माता का नाम शारदा देवी व पिता का नाम सुनील दत्त है।
उल्लेखनीय है कि सिविल सेवा परीक्षा २०१९ के परिणाम में पहले स्थान पर प्रदीप सिंह, दूसरे स्थान पर जतिन किशोर और तीसरे स्थान पर प्रतिभा वर्मा रहे हैं। परीक्षा के माध्यम से कुल ८२९ उम्मीदवारों का चयन किया गया है। इसमें जनरल कैटेगरी के ३०४ उम्मीदवार, ईडब्ल्यूएस के ७८ उम्मीदवार, ओबीसी के २५१, एससी के १२९ और एसटी कैटेगरी के ६७ उम्मीदवार शामिल हैं।

यह भी पढ़ें : मां आंगनबाड़ी में, और बेटी ने प्राप्त किया राज्य में 25वां स्थान

दिव्यांशी कुलौरा

नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2020। जनपद के सुदूरवर्ती क्षेत्र राजकीय इंटर कॉलेज गुनियालेख की बालिका दिव्यांशी कुलौरा ने उत्तराखंड बोर्ड की कक्षा 12 की मैरिट सूची में 25वां स्थान प्राप्त किया है। विद्यालय के प्रधानाचार्य गौरीशंकर काण्डपाल ने बताया कि दिव्यांशी ने हिंदी में 95, गणित में 94, रसायन विज्ञान में 92, भौतिक विज्ञान में 87 व अंग्रेजी में 85 सहित कुल 453 अंकों के साथ 90.6 फीसद अंकों को प्राप्त करते हुए यह उपलब्धि हासिल की है। दिव्यांशी की उपलब्धि इसलिए भी बड़ी है कि उनके पिता का स्वर्गवास हो चुका है और नीलिमा कुलौरा आंगनबाड़ी में कार्य करके उन्हें पालती व पढ़ाती हैं। वह आगे भारतीय सिविल सेवा में जाकर देश की सेवा करना चाहती हैं।

राज्य में दूसरा स्थान प्राप्त करने वाले नैनीताल के युगल बनना चाहते हैं शिक्षक
नैनीताल। नैनीताल जनपद के रामगढ़ ब्लाक के राजकीय इंटर कॉलेज प्यूड़ा के इंटरमीडिएट के छात्र युगल जोशी ने अंग्रेजी में 97, भौतिकी में 99, रसायन विज्ञान में 92, जीव विज्ञान में 94 और गणित में 95 नंबरों के साथ 500 में से 477 यानी 95.40 प्रतिशत अंक प्राप्त कर उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा में प्रदेश में द्वितीय स्थान प्राप्त कर जनपद का मान बढ़ाया है। उल्लेखनीय है कि युगल ने हाईस्कूल की परीक्षा में भी 97 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रदेश में पांचवा स्थान प्राप्त किया था। युगल जिस विद्यालय में पढ़ते हैं उसी में उनके पिता प्रकाश चंद्र जोशी गणित के प्रवक्ता हैं, जबकि मां मीना जोशी गृहणी है।
उनकी उपलब्धि पर उनके पिता के साथ ही विद्यालय के प्रधानाचार्य बालकृष्ण मुकंद तिवारी ने गर्व व्यक्त किया है। युगल का कहना है कि उन्होंने सोशल मीडिया से दूर रहकर तथा चार से पांच घंटे की रोजाना पढ़ाई करके यह मुकाम प्राप्त किया है। उनका परिवार मूलरूप से ओखलकांडा ब्लाक के महतोला गांव से है। भविष्य में वह अपने पिता की तरह शिक्षा विभाग में शिक्षक के रूप में शामिल होकर पहाड़ में शिक्षा के स्तर को बेहतर करना चाहते हैं। ताकि पहाड़ की शिक्षा को मजबूती मिल सके। उल्लेखनीय है कि वे तीन भाई-बहन है। उनकी बड़ी बहन दीक्षा जोशी भी हाईस्कूल की परीक्षा में प्रदेश में 9वां और इंटरमीडिएट में चौथा स्थान प्राप्त कर चुकी हैं। जबकि छोटा भाई अभी कक्षा छह में पढ़ रहा है। युगल पांच बार प्रदेश की ओर से राष्ट्रीय स्तर पर विज्ञान की विभिन्न गतिविधियों में सात बार राज्य स्तर पर क्विज शामिल हो चुके हैं, एवं विज्ञान मॉडल प्रतियोगिताओं पर सात बार प्रथम आ चुके हैं। उन्होंने एनसीआरटी की नेशनल क्विज प्रतियोगिता में राज्य का प्रतिनिधित्व कर लिखित परीक्षा में भी राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त किया था।

यह भी पढ़ें : नैनीताल के मेधावियों ने किया ऐसा कमाल का प्रदर्शन कि हर कोई कह उठेगा वाह !

नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2020। उत्तराखंड माध्यमिक शिक्षा परिषद के बुधवार को आये परिणामों में शिक्षा नगरी के रूप में विख्यात सरोवरनगरी के भारतीय शहीद सैनिक विद्यालय के छात्र मुकेश उपाध्याय ने 500 में से 475 यानी 95 फीसद अंक प्राप्त करके प्रदेश में तीसरा स्थान प्राप्त किया है। खास बात यह है कि उन्हें सभी विषयों में करीब-करीब समान, भौतिकी में 98, अंग्रेजी में 96, गणित में 95 तथा हिंदी व रसायन विज्ञान में 93-93 अंक मिले हैं। मुकेश के पिता मोहन चंद्र उपाध्यक्ष कृषक एवं मां प्रभा गृहणी हैं, तथा गांव में रहते हैं। जबकि मुकेश नगर के सात नंबर क्षेत्र में अपने ताऊ के साथ रहकर पढ़ रहे हैं। मुकेश ने बताया कि वह विद्यालय के पूर्व टॉपर छात्रों की तरह भविष्य में प्रशासनिक सेवाओं में जाना चाहते हैं। वहीं इसी विद्यालय की अंजली वर्मा भी मैरिट सूची में 94.6 फीसद अंकों के साथ शीर्ष 5 में रही हैं। अंजली ने गणित, भौतिकी व रसायन में 100 में से 100 अंक प्राप्त कर कमाल का प्रदर्शन किया है। उल्लेखनीय है कि इन तीन विषयों में 100 में 100 अंक मैरिट में पहले, दूसरे व तीसरे स्थान पर रहे सात में से केवल एक छात्र के ही हैं। इसके अलावा अंजली ने अंग्रेजी में 90 व हिंदी में 83 अंक प्राप्त किये हैं। इनके अलावा मुख्यालय स्थित इसी विद्यालय के संस्थापक स्वर्गीय प्रताप भैया द्वारा स्थापित निशांत यानी राष्ट्रीय शहीद सैनिक स्मारक विद्यालय की छात्रा मीनू मठपाल ने मैरिट में 21वां स्थान प्राप्त कर अपनी बड़ी बहन अंजली मठपाल से ली गई प्रेरणा को साकार किया है। उल्लेखनीय है कि नगर के सात नंबर क्षेत्र में स्थित एक आवासीय कॉलोनी के आउट हाउस में रहने वाले परिवार की बेटी अंजली ने भी इंटर की बोर्ड परीक्षा की मैरिट में स्थान बनाकर अपनी माता दीपा व पिता गोविंद मठपाल का सिर गर्व से ऊंचा किया था।

महेंद्र कुमार

वहीं हाईस्कूल के परिणाम की बात करें तो नगर के बिशप शॉ इंटर कॉलेज के छात्र महेंद्र कुमार ने मैरिट सूची में 23वां स्थान प्राप्त कर शिक्षानगरी की प्रतिष्ठा को बचाया है। महेंद्र को बोर्ड परीक्षा में 93.6 फीसद अंक मिले हैं। उन्हें गणित में 99, अंग्रजी में 96, सामाजिक विज्ञान में 95, एसएलएससी में 93, अंग्रेजी में 84 अंक प्राप्त किये हैं। मूलतः अल्मोड़ा जनपद के निवासी महेंद्र के पिता त्रिलोक राम नैनी झील में नाव चलाते हैं, और इन दिनों लॉक डाउन में बेरोजगार होने के कारण परिवार सहित गांव चले गए हैं। जबकि मां प्रेमा देवी गृहणी है। वह भविष्य में इंजीनियर बनना चाहते हैं। उन्होंने यह सफलता मोबाइल से दूर रहकर, और बिना ट्यूशन नियमित घर पर पढ़ाई करके प्राप्त की है।

ज्योलीकोट के सेंट एंथनी स्कूल का भी रहा उल्लेखनीय प्रदर्शन
ज्योलीकोट। अपने उत्कृष्ट परीक्षा परिणामों के लिये जानी जाने वाली क्षेत्र की प्रमुख शिक्षण संस्था संत एंथोनी इंटर कालेज के मेधावियों ने उत्तराखंड बोर्ड परीक्षाओं में शानदार प्रदर्शन किया है। यहाँ प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण होने वालों का दबदबा रहा है। विद्यालय में हाईस्कूल में 92 प्रतिशत परिणामों के साथ 42 परीक्षार्थियों ने प्रथम स्थान प्राप्त किया है जिसमें 17 विद्यार्थियों ने विशेष योग्यता भी प्राप्त की है। जबकि 14 परीक्षार्थियों ने द्वितीय व 3 ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। हाइस्कूल में 88 प्रतिशत अंकों के साथ कनिका राजपूत और इंटर मे कोमल बिष्ट 80 प्रतिशत प्रतिशत अंको के साथ अव्वल रही हैं। इंटर के 85 प्रतिशत परीक्षा परिणाम में 32 में से 30 परीक्षार्थियों ने प्रथम स्थान, जिसमें 12 विशेष योग्यता सहित हैं। वहीं दो परीक्षार्थियों को द्वितीय स्थान मिला। उल्लेखनीय है कि ग्रामीण परिवेश में सीमित संसाधनों के बीच विद्यालय का परीक्षा परिणाम हमेशा बेहतर रहता है। वर्ष 2011 में दीन दयाल उपाध्याय शैक्षणिक उत्कृष्टता सम्मान में द्वितीय पुरुस्कार भी मिल चुका है।

उधर, ओखलकांडा ब्लाक के ग्राम सभा टांडा गांव की राजकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बमोरी-हल्द्वानी में पढ़ने वाली दीक्षा परगाँई ने हाईस्कूल में 83.4 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। क्षेत्र का नाम रोशन करने के लिए उन्हें उनके परिजनों तथा क्षेत्र के लोगों ने बधाई दी है। दीक्षा के भाई मदन परगाँई ने बताया कि दीक्षा से उन्हें आगे भी इसी तरह क्षेत्र का नाम रोशन करने की उम्मीदें हैं।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग : इंतजार ख़त्म : उत्तराखंड बोर्ड का परिणाम घोषित, 12वीं में जसपुर की ब्यूटी ने शीर्ष व नैनीताल के युगल दूसरे स्थान पर…

नवीन समाचार, रामनगर, 29 जुलाई 2020। उत्तराखंड माध्यमिक शिक्षा परिषद का परिणाम बुधवार सुबह 11 बजे घोषित हो गया है। आज प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने बोर्ड कार्यालय में परीक्षाफल घोषित किया। प्रापत जानकारी के अनुसार इंटरमीडिएट में जसपुर की ब्यूटी वत्सला उत्तराखंड में शीर्ष पर रही हैं। वहीं दूसरे स्थान पर नैनीताल के युगल जोशी हैं। हाईस्कूल में टिहरी के गौरव सकलानी ने उत्तराखंड टॉप किया है। परिणाम अभी बोर्ड की वेबसाइट https://ubse.uk.gov.in/ व  http://uaresults.nic.in/ पर जारी नहीं हुआ, क्योंकि यह वेबसाइट खराब है।  परीक्षा परिणाम इस लिंक पर (https://hindi.news18.com/news/career/board-results-uttarakhand-board/)  देखा जा सकता है।  

यहाँ देखिये हाई स्कूल की मेरिट सूची ⇒merit high school, देखिये इंटर की मेरिट सूची ⇒ MERIT inter

उल्लेखनीय है कि इस वर्ष हाईस्कूल में 147588 और इंटर में 119216 यानी कुल 2 लाख 66 हजार 804 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। संपूर्ण परिणाम में बेटियों का दबदबा रहा है। 83.63 फीसद बेटियों ने सफलता हासिल की है तो 76.68 फीसद बालक उत्तीर्ण हुए हैं। हालांकि बेटियों की उत्तीर्ण संख्या में 0.16 फीसद की कमी आई और जबकि बालकों उत्तीर्ण संख्या में 0.39 फीसद की बढोत्तरी हुई है। इस वर्ष परीक्षार्थियों की उत्तीर्ण संख्या में 0.13 फीसद की वृद्धि हुई है। अच्छे नंबरों से भी परीक्षा पास करने वालों अभ्यर्थियों की संख्या पिछली बार की अपेक्षा 0.07 फीसद अधिक है।

10वीं बोर्ड परीक्षा में दूसरे स्थान पर 97.80 फीसद अंकों के साथ ऊधमसिंह नगर की जिज्ञासा व 97.60 फीसद अंकों के साथ पौड़ी की शिवानी रावत, रूद्रप्रयाग के तनुज जगवान और पिथौरागढ़ के लक्षित सिंह बिष्ट सुंयक्त रूप से तीसरे स्थान पर रहे। जबकि, इंटर में 95.40 फीसद अंकों के साथ दूसरे स्थान पर नैनीताल जिले के युगल जोशी व तीसरे स्थान पर 95 फीसद अंकों के साथ पांच छात्र संयुक्त रूप से रहे। इनमें देहरादून के राहुल यादव, टिहरी गढ़वाल के सार्थक मैठाणी, चमोली के वैभव थपलियाल, अल्मोड़ा के दीपक सती और नैनीताल के मुकेश उपाध्याय शामिल रहे।

शीर्ष 10 में रहे इंटरमीडिएट के विद्यार्थी :

 96.60 – ब्यूटी वत्सल, पंडित पूर्णानंद तिवारी इंटर कॉलेज जसपुर, ऊधमसिंह नगर 

95.40 – युगल जोशी, राजकीय इंटर कॉलेज प्यूड़ा, नैनीताल

95.00 – राहुल यादव,सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज आवास विकास ऋषिकेश, देहरादून

        – सार्थक मैठानी, सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज उनियालीसारी चंबा, टिहरी गढ़वाल

        – वैभव थपलियाल, राजकीय इंटर कॉलेज सिमली, चमोली

        – दीपक सती, रानीखेत इंटर कालेज, अल्मोड़ा

        – मुकेश उपाध्याय, बीएसएस विद्यालय नैनीताल, नैनीताल

94.80 – आकाश, सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज सेस्टर-2 भेल रानीपुर, हरिद्वार

        – अॢपत त्रिपाठी,सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज सेस्टर-2 भेल रानीपुर, हरिद्वार 

        – प्रशांत चमोली, सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज जाखनधार, टिहरी गढ़वाल

        – जतिन पुष्पवान, सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज श्रीकोट गंगानाली, पौड़ी गढ़वाल

        – कमल चंद्र जोशी, पीपी एसवी इंटर कॉलेज नानकमत्ता, ऊधमसिंह नगर

94.60  – अजीता तिवारी, डॉ. एलडीबी विवेकानंद वीएमआईसी द्वाराहाट, अल्मोड़ा

        – गौरव बिष्ट, विवेकानंद वीएमआईसी मंडलसेरा, बागेश्वर

        – अंजलि वर्मा, बीएसएस विद्यालय, नैनीताल

94.40 – गालभ जोशी, विवेकानंद इंटर कॉलेज रानीधारा, अल्मोड़ा

       – अंजलि सिंह, राणा प्रताप इंटर कॉलेज खटीमा, ऊधमसिंह नगर

94.20 – प्राची राणा, आईपी इंटर कॉलेज लक्सर, हरिद्वार

       – श्रृष्टि रयाल, विवेकानन्द एकेडमी एसएसएस खादरी, देहरादून

       – अभय नेगी, सीएआईसी, अगस्त्यमुनि, रुद्रप्रयाग

       – अभिषेक सिंह मेहता, विवेकानंद वीएमआईसी लोहाघाट, चंपावत

       – करुणा बुधलाकोटी, एसएसएसएनजी राजकीय इंटर कॉलेज बगर, नैनीताल

94.00 – रोहित झा, सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज आवास विकास ऋषिकेश, देहरादून

       – दीपांशु जोशी, विवेकानंद विद्या मंदिर इंटर कॉलेज लोहाघाट, चंपावत

       – चिन्मय प्रवाह पंत, विवेकानंद इंटर कॉलेज रानीधारा, अल्मोड़ा

       – अंजलि सती, राजकीय इंटर कॉलेज श्रीकोट, बागेश्वर

       – आदर्श कुमार सिद्धू, आरएलएस चौहान एसवीएमआईसी जसपुर, ऊधमसिंह नगर

       – अनुराग चौहान, आरएलएस चौहान एसवीएमआईसी जसपुर, ऊधमसिंह नगर

93.80 – तृप्ति जखवाल, राजकीय इंटर कॉलेज बजूनियाहल्दू, नैनीताल

       – दीपक गंगवार, सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज रुद्रपुर, ऊधमसिंह नगर

       – रोहित चंद्र जोशी, पीपी एसवीएमआईसी नानकमत्ता, ऊधमसिंह नगर

93.60 – भूपेंद्र सिंह कुल्याल, विवेकानंद वीएमआईसी लोहाघाट, चम्पावत

शीर्ष 10 में रहे हाईस्कूल के विद्यार्थी : 

98.20 गौरव सकलानी एसवीएनआईसी न्यू टिहरी गढ़वाल

97.80 जिज्ञासा एसवीएनएचएचएस काशीपुर उधममसिंहनगर

97.60 शिवानी रावत ब्राइट केरियर चिल्ड्रन एकेडमी निरमा चौड़

97.60 तनुज जगवान एडीएसवीएचएमएचएसएस सूरी भरदार रूद्रप्रयाग

97.60 लक्षित बिष्ट, ग्लोरियल आईसी डीडीहाट पिथौरागढ़

97.40 आंचल, बीएचएसवीएम टिहरी गढ़वाल

97.40 प्रापन दीप गौरी एमपीआईसी विजयानगर रूद्रप्रयाग

97.40 विवेक कुमार उदयराज हिंदू इंटर कॉलेज काशीपुर

97.20 आकाश कुमार एसवीएमआईसी सेक्टर 2 रानीपुर हरिद्वार

97.20 सुमित राना, एसवीएमएचएसएस कांडीसोर टिहरी गढ़वाल

97.20 सुमित महता विवेकानंद वीआईएमआईसी मंडलासेरा बागेश्वर

97   सहबान अली, राष्ट्रीय इंटर इंटर कॉलेज बालास्वागज हरिद्वार

97  निलेश सिंह, जीआईसीआईडीपीएल ऋषिकेश देहरादून

97 पवन रतूड़ी एसवीएमआईसी नई टिहरी गढ़वाल 

97 दीपांशु एसएमटीपीवाईएसएम आईसी धालवा टिहरी गढ़वाल

97 सौरभव कुमार आरएएसवीएमआईसी पदमापुर मोटाधक पौड़ी गढ़वाल

97 पल्लवी भैसोड़ा केएमएसवी हिमालया आईसी चौकोरी पिथौरागढ़

97 मनीषा रावत, विवेकानंद एचएसएस बिसा बागेश्वर

96.80 रितेश भट्ट आरएएसवीएम इंटर कॉलेज पदमापुर मोटाधक पौड़ी गढ़वाल

96.80 ईशा एसवीएम, एचएसएस ऊखीमठ रूद्रप्रयाग

96.80 मेघा बोरा केएमएसवी हिमालया आईसी चौकोरी पिथौरागढ़

96.80 नीरज सिंह राठौर, विवेकानंद वीएएमआईसी मंडलासेरा बागेश्रर

96.80 खुशी टीएसएसवीवीएमआईसी काशीपुर उधमसिंह 96.60

96.69 प्रत्युमन कंडपाल एसवीएमआईसी मायापुर हरिद्वार

96.60 अभिनव सिंह, एसवीएमआईसी माधी कालोनी चौराज टिहरी गढ़वाल

96.60 मोनिका नौगाई एसवीएमआईसी देवप्रयाग टिहरी गढ़वाल

96.60 प्रणय जगवान, गौरी एमपीआईसी विजयनगर रूद्रप्रयाग

96.60 खोलिया विवेकानंद आईसी गरूड़ बागेश्वर

96.60 गौरव सिंह रावत विवेकानंद वीएमआईसी मंडलासेरा बागेश्वर

96.60 अर्पित जोशी, एसडीएसएमएसवी मंदिर एचएसएस रामगढ़ नैनीताल

96.40 रितिका डिमरी यूएमए उमा एसवीएमएचएस कर्णप्रयाग चमोली

96.40 दीक्षा चुफाल शिखर आईसी डीडीहाट पिथ्रौरागढ़

96.40 कोमल जोशी, टीपी एसवीएमआईसी नानकमत्ता उधमसिंह नगर

96.20 प्रियांशु चौहान, मॉडल जीआईसी डाक पत्थर देहरादून

96.20 आदित्य एमएसएसवीएमआईसी बिलानी रूद्रप्रयाग 

96.20 तनुज बिष्ट एचडीवीवीवीएम आईसी पिथौरागढ़

96.20 आंकाक्षा बोरा,  जीआईसी रानीखेत अल्मोड़ा

96.20 हिमांशु सिंह डीएमजीएआईसी चंकी फार्म खटीमा उधमसिंहनगर

96.20 कमलदीप भट्ट एवीएसएमआईसी गोजारिया खटीमा

96.20 शोएब अंसारी राणाप्रताप आईसी खटीमा उधमसिंहनगर

96.20 मनोज जोशी, पीपीएसवीएमआईसी नानकमत्ता उधमसिंहनगर

96.20 शिखा राणा पीपीएसवीएमआईसी नानकमत्ता उधमसिंहनगर

यह भी पढ़ें : खुशखबरी: उत्तराखंड बोर्ड के 10वीं व 12वीं के परिणाम घोषित होने की तिथि घोषित

नवीन समाचार, रामनगर, 26 जुलाई 2020। उत्तराखंड बोर्ड यानी उत्तराखंड माध्यमिक शिक्षा परिषद के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम जारी होने की तिथि घोषित हो गई है। परिणाम आगामी 29 जुलाई को बोर्ड मुख्यालय रामनगर से जारी होंगे। प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय बुधवार को सुबह 11 बजे रामनगर में परिणामों की घोषणा करेंगे।
उल्लेखनीय है कि इस वर्ष बोर्ड परीक्षाओं के दौरान आए कोरोना के व्यवधान के बीच उत्तराखंड की हाईस्कूल व इंटर की बोर्ड परीक्षाओं में 2,71,690 परीक्षार्थी शामिल हुए हैं। इनमें इंटर के 1 लाख 21 हजार 301 व हाईस्कूल के 1 लाख 50 हजार 389 परीक्षार्थी शामिल हुए हैं। मार्च में कोरोना संकट के चलते लगे लॉकडाउन की वजह से परीक्षाएं बीच में ही रद्द कर दी गई थीं। इस कारण दसवीं कक्षा के अलग-अलग विषयों के पांच एवं 12वीं के अलग-अलग विषयों के 8 प्रश्न पत्र नहीं हो पाए थे। बाद में इन्हें जून में कराया गया। परीक्षा के लिए प्रदेशभर में 1324 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। इस बार परीक्षा में देरी होने की वजह से परिणामों में भी देरी हुई है। परीक्षार्थी परीक्षा परिणाम उत्तराखंड बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट ubse.uk.gov.in  पर क्लिक कर के देख सकते हैं।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply

loading...