News

सुबह का विचारणीय समाचार : शिक्षक के विरुद्ध बच्चे को सजा के तौर पर दंड बैठक व मैदान के चक्कर लगवाने पर मुकदमा दर्ज

नवीन समाचार, काशीपुर, 19 नवंबर 2022। एक दौर में विद्यालयों में दंड बैठक लगवाना, मैदान के चक्कर लगवाना जैसे कार्य आम बात होते थे, किंतु अब यह सब अपराध की श्रेणी में आ सकता है। शहर के एक विद्यालय के एक शिक्षक के खिलाफ यही कुछ करवाने पर मुकदमा दर्ज किया गया है। यह भी पढ़ें : दुष्कर्म के मामले में लापरवाही पर महिला दरोगा सस्पेंड, इंस्पेक्टर के खिलाफ भी जांच…

प्राप्त जानकारी के अनुसार काशीपुर में अलीगंज रोड स्थित पैराडाइज कॉलोनी में रहने वाली सुधा सागर ने पुलिस को तहरीर देकर आरोप लगाया है कि उनका पुत्र ध्रुवराज शेखर सिंह पुत्र स्व. हरि सिंह रामनगर रोड स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) में दसवीं कक्षा का छात्र है। यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में पुलिस थाने के पास शराब की दुकान के कर्मियों द्वारा युवक को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, सिर पर शराब की बोतल भी फोड़ी..!

बीती 3 नवम्बर को विद्यालय में खेलकूद के पीरियड में हर्ष वालीबॉल को फुटवाल की तरह खेल रहा था। इस पर नाराज हो कर विद्यालय के व्यायाम व खेलकूद शिक्षक ने ध्रुव को शारीरिक रूप से प्रताडित करने के उददेश्य से 100 दंड बैठक लगवाई तथा इसके उपरान्त भी उनका गुस्सा शांत नहीं हुआ तो उन्होंने उसके साथ गाली गलौच के साथ हाथ ऊपर करके मैदान के 3-4 चक्कर पूरे लगाने के लिये कहा। यह भी पढ़ें : स्पा सेंटर में मसाज की आड़ में देह व्यापार होते पकड़ा, 2 गिरफ्तार, 3 महिलाएं मुक्त कराईं…

इस कारण उनके पुत्र का घर वापस आने के बाद स्वास्थ्य ज्यादा खराब हो गया। उसके पूरे शरीर में दर्द होने लगा तथा 3 दिन तक दर्द के कारण वह अपने पैरो पर खड़ा नहीं हो पाया। उसका एक सप्ताह से स्पर्श हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है। तभी से उनका पुत्र बहुत डरा, सहमा और भयभीत है। यह भी पढ़ें : बड़ा समाचार: उत्तराखंड सरकार का राजद्रोह व सीबीआई जांच मामले में यूटर्न, पीछे पूर्व सीएम की नाराजगी !

आगे कहा कि जब वह इसकी शिकायत दर्ज कराने स्कूल गयीं तो विद्यालय की प्रधानाचार्या ने विद्यालय के गेट के बाहर 3 घंटे तक खड़ा रखा तथा अपने खेल शिक्षक का पक्ष लेते हुए उनकी बात को सही ढंग से नही सुना तथा उन्हें बच्चे की बोर्ड की परीक्षा का डर दिखाकर वहाँ से डरा-धमका कर वापस भेज दिया। अब उन्हें अपने पुत्र को स्कूल भेजने में भी किसी अनहोनी का खतरा महसूस हो रहा है। इस पर पुुुलिस ने छात्र की माँ की तहरीर पर खेल शिक्षक के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 323 व 504 के तहत अभियोग दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शिक्षक पर छात्रा का शारीरिक व मानसिक उत्पीड़न करने का आरोप….

नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के आरोपी शिक्षक के खिलाफ मुकदमा दर्जनवीन समाचार, हरिद्वार, 19 नवंबर 2022। शहर के पन्ना लाल भल्ला इंटर कालेज के वाणिज्य के प्रवक्ता सुनील कुमार पर बीते अगस्त माह में इंटर में पढ़ने वाली की एक छात्रा का मानसिक व शारीरिक उत्पीड़न करने का आरोप लगा है। मामले में पीड़िता की ओर से प्रधानाचार्य ओमप्रकाश गौनियाल को साक्ष्य सहित शिकायत दर्ज कराई गई। इस पर प्रधानाचार्य ने शिक्षक से स्पष्टीकरण लेने के साथ ही विद्यालय प्रबंधन व नगर आयुक्त को अवगत कराया। इस पर नगर आयुक्त ने जांच समिति गठित की। यह भी पढ़ें : उत्तराखंड: कल 12 की मौत के बाद अब एक और बड़ी दुर्घटना, आधा दर्जन लोग हताहत

जांच समिति की रिपोर्ट के बाद विद्यालय प्रबंधन ने आरोपित शिक्षक को बीते बुधवार को निलंबित कर दिया था। साथ ही जांच समिति ने शिक्षक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए थे। इस पर भल्ला इंटर कालेज के प्रधानाचार्य की शिकायत पर आरोपित शिक्षक सुनील कुमार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। शहर कोतवाली प्रभारी राकेंद्र सिंह कठैत ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। यह भी पढ़ें : उत्तराखंड: कल 12 की मौत के बाद अब एक और बड़ी दुर्घटना, आधा दर्जन लोग हताहत

इधर शनिवार को ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ की ब्रांड एंबेसडर डॉ. मनु शिवपुरी ने नाबालिग छात्रा का शोषण करने वाले आरोपी शिक्षक की गिरफ्तारी की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि मामले को दबाने का  प्रयास किया जा रहा था। अध्यापक पूर्व में भी ऐसी गतिविधियों में संलिप्त पाया गया था। यह भी पढ़ें : उत्तराखंड: सरकारी विद्यालय में भारी मात्रा में जिलेटिन की छड़ों सहित विष्फोटक सामग्री मिली, हड़कंप, बम निरोधक दस्ता बुलाया गया

इस पर पहले भी विद्यालय प्रबंधन ने उसकी गलती को स्वीकार किया था। शिवपुरी के अनुसार शिक्षक को बचाने के लिए छात्राओं के फर्जी हस्ताक्षर कर एक पत्र प्रधानाचार्य को दिया गया था, जिसमें लिखा गया था कि छात्राएं अब कोई कार्रवाई नहीं चाहती। उन्होंने आरोपित शिक्षक के सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की फॉरेंसिक जांच कराने की मांग भी की। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : बाल दिवस मनाने गई 50 बच्चों से भरी स्कूल बस पलटी, एक छात्रा सहित दो की मौत, सीएम ने जताया शोक

jagranनवीन समाचार, हल्द्वानी, 14 नवंबर 2022। उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले के सितारगंज के नजदीक नयागांव भट्टे के पास बाल दिवस मनाने किच्छा से नानकमत्ता आए करीब 50 बच्चों से भरी स्कूल बस की ट्रक से टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जोर की थी कि बस सड़क पर पलट गई। दुर्घटना में एक छात्रा और एक विद्यालय कर्मी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि कई बच्चों के हाथ-पैर टूट गए हैं। यह भी पढ़ें : दुःखद: बाल दिवस पर विद्यालय आया 12 साल का बच्चा अचानक गिरा और हो गई मौत, हंगामा…

प्राप्त जानकारी के अनुसार वैद्य राम सुधी सिंह गर्ल्स स्कूल किच्छा की छात्राओं को स्कूल की ओर से बाल दिवस पर स्कूल बस से नानकमत्ता टूर पर लाया गया था। बस में स्टाफ के साथ करीब 50 से अधिक छात्राएं थीं। शाम को वापसी के दौरान सितारगंज में स्कूल बस को ट्रक ने टक्कर मार दी। इससे बस पहल गई और बच्चों की चीख-पुकार मच गई। यह भी पढ़ें : आज व कल उत्तराखंड के एक दरोगा व दो पुलिस कर्मी भुगतेंगे अनूठी सजा, श्मशान घाटों पर शवदाह में करेंगे सहयोग, जानें क्यों

दुर्घटना में घायल बच्चों को बस से निकाल कर लोगों ने अपने वाहनों से अस्पताल पहुंचाया। पुलिस कर्मी और एंबुलसें भी मौके पर पहुंचे और बच्चों को अस्पताल भिजवाया। सितारगंज अस्पताल में बच्चों को प्राथमिक उपचार दिया जा रहा है। गंभीर रूप से घायल बच्चों को हायर सेंटर रेफर किया जा रहा है। यह भी पढ़ें : पत्नी व उसके प्रेमी ने किया सोते हुए पति का गला दबाने का प्रयास, फिर….

बताया जा रहा है कि चालक बस को सड़क पर गलत ओर से लेकर जा रहा था। तभी अचानक किच्छा हाईवे स्थित भिटौरा के पास किच्छा की ओर से आ रहे ट्रक ने बस को टक्कर मार दी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी दुर्घटना पर दुःख व्यक्त किया है और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। जबकि डीएम युगल किशोर पंत ने बताया कि सभी घायलों का इलाज सरकार की तरफ से निशुल्क करवाया जाएगा। मृतकों के परिजनों को दो लाख की सहायता राशि दी जाएगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दीपावली के बाद परीक्षा के दिन भी शिक्षक नहीं पहुंचे शिक्षक, बैरंग लौटे बच्चे, अब गिरी गाज…

नवीन समाचार, उत्तरकाशी, 1 नवंबर 2022। लोग सरकारी नौकरी तो जीवन के बड़े लक्ष्य के रूप में चाहते हैं, लेकिन जब सरकारी नौकरी मिल जाती है तो सरकारी पद की गरिमा एवं जिम्मेदारी का पालन नहीं करते। ऐसा होता तो आम है, पर पकड़े कुछ ही लोग जाते हैं। यह भी पढ़ें : नैनीताल : पैराग्लाइडिंग के दौरान साल का तीसरा हादसा, गई एक सैलानी की जान

उत्तरकाशी जनपद के राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय जेमर के प्रधानाध्यापक सहित चार शिक्षक दीपावली का अवकाश खत्म होने के बाद भी विद्यालय नहीं पहुंचे। शिकायत मिलने एवं जवाब तलब किए जाने पर उपयुक्त जवाब न मिलने पर उन्हें निलंबित कर जनपद मुख्यालय से संबद्ध कर दिया है। यह भी पढ़ें : सुबह-सुबह शराब के नशे में धुत मिले डॉक्टर साहब, वीडियो वायरल हुआ तो नौकरी से बर्खास्त

बताया गया है कि उच्च प्राथमिक विद्यालय जेमर में दिवाली के अवकाश के बाद भी शनिवार को 4 प्रधानाध्यापक सहित 4 शिक्षक विद्यालय नहीं पहुंचे। स्थिति इतनी हास्यास्पद हो गई कि छात्र अंग्रेजी का प्रश्न पत्र देने विद्यालय पहुंचे तो विद्यालय बंद मिला। काफी देर इंतजार करने के बाद भी जब कोई शिक्षक नहीं आया तो छात्र लौट गए। इस पर आक्रोशित ग्रामीणों ने विद्यालय पहुंचकर मुख्य गेट पर ताला लगा दिया, और उच्चाधिकारियों से शिकायत की। यह भी पढ़ें : पूरे दिन सुनवाई के बाद HC से हल्द्वानी की रेलवे भूमि के अतिक्रमण पर आई बड़ी खबर, अतिक्रमणकारियों का संशोधन प्रार्थना पत्र निरस्त

मामला संज्ञान में आने पर शिक्षा विभाग ने यहां तैनात प्रधानाध्यापक सहित चारों शिक्षकों को 31 अक्तूबर तक स्पष्टीकरण देने के लिए कहा गया। जिला शिक्षा अधिकारी बेसिक पदमेंद्र सकलानी ने बताया कि सोमवार को वह स्वयं विद्यालय पहुंचे हैं, और मामले में सत्यता पाए जाने पर निलंबन की कार्रवाई की गई है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शिक्षक ने की छात्रा के साथ अश्लील हरकत, गिरफ्तार

नवीन समाचार, जसपुर, 23 अक्टूबर 2022। कल 22 अक्टूबर को एक व्यक्ति ने कोतवाली जसपुर में लिखित तहरीर दी कि उसकी नाबालिग पुत्री के साथ उसके स्कूल के ही अध्यापक राजपाल सिंह ने अश्लील हरकत की है। शिक्षक ने राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में कक्षा 9 में पढ़ने वाली 15 वर्षीय छात्रा को पैंट सिलवाने के बहाने कमरे में बुलाया और दरवाजा बंद कर कन्धे पर हाथ फेरने लगा। साथ ही शिक्षक ने किसी को बताने पर उसे गणित विषय में फेल करने की धमकी दी। किसी तरह वह शिक्षक के चंगुल से छूटकर बाहर आई। नवीन समाचार’ के माध्यम से दीपावली पर अपने प्रियजनों को शुभकामना संदेश दें मात्र 500 रुपए में… संपर्क करें 8077566792, 9412037779 पर, अपना संदेश भेजें saharanavinjoshi@gmail.com पर… यह भी पढ़ें : धामी सरकार एक और पूर्व नौकरशाह पर शिकंजा कसने की तैयारी में, शासन ने दी मुकदमा दर्ज करने की अनुमति

पीड़ित की तहरीर के आधार पर कोतवाली जसपुर में भारतीय दंड संहिता की धारा 354 व ⅞ पोक्सो एक्ट के तहत अभियोग पंजीकृत कर विवेचना उप निरीक्षक नेहा ध्यानी को दी गयी। इसके बाद आरोपित की गिरफ़्तारी हेतु उच्चाधिकारियों के निर्देशो पर पुलिस टीम का गठन कर प्रभारी निरीक्षक जसपुर के निकट पर्यवेक्षण में आरोपित राजपाल सिंह उर्फ़ राजकुमार पुत्र रघु निवासी शिवगौरी विहार थाना काशीपुर ऊधमसिंह नगर को मुखविर की सूचना पर पतरामपुर से तिरथनगर भोगपुर को जाने वाले मार्ग पर आज रविवार सुबह 9:40 बजे गिरफ़्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया गया हैं। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शिक्षिका को भारी पड़ा सातवी कक्षा के छात्र को टोकना, छात्र ने नहीं, जिन्होंने मारा शिक्षिका को थप्पड़, हुए गिरफ्तार……

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 अक्तूबर 2022। पीरुमदारा स्थित किसान इंटर कॉलेज में मंगलवार को ग्राम उदयपुरी चोपड़ा निवासी एक छात्र को अनुशासनहीनता से रोकने पर बखेड़ा खड़ा हो गया। सातवीं कक्षा का यह छात्र अपने ताऊ के बेटों को विद्यालय में बुलाकर ले आया। उन्होंने शिक्षिका को थप्पड़ जड़ दिया और शिक्षिका की चीख सुनकर उन्हें बचाने के लिए दूसरे शिक्षक पर भी रॉड से हमला कर दिया गया। घटना के तीन छात्र-छात्राएं भी घायल हो गए। इस मामले में सातवीं कक्षा के छात्र द्वारा शिक्षिका को थप्पड़ मारने के समाचार भी आ रहे थे। बहरहाल सच्चाई यह है कि छात्र नहीं उसके तवेरे भाइयों ने शिक्षिका व अन्य शिक्षक पर हमला किया। उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। यह भी पढ़ें : सोशल मीडिया पर आए एक वीडियो के बाद तीन पुलिस कर्मियों पर डीआईजी ने की प्रशासनिक कार्रवाई…

हमले में घायल शिक्षक-शिक्षिका एवं छात्र-छात्राएं

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार पीरुमदारा स्थित किसान इंटर कॉलेज शिक्षिका सीता रावत ने मंगलवार 18 अक्टूबर को अनुशासनहीनता पर सातवीं कक्षा के एक छात्र को टोका था। इस पर वह कक्षा छोड़कर घर जाकर अपने परिजनों, चचेरे भाईें मोहम्मद तसलीम पुत्र मोहम्मद जान, मोहम्मद तनवीर पुत्र मोहम्मद तसलीम व शाहरुख सैफी उत्तर मोहम्मद तसलीम निवासी उदयपुरी चोपड़ा पीरुमदारा को स्कूल में बुला लाया। यह भी पढ़ें : आंचल ने अपने इतिहास में पहली बार, डेढ़ माह में दूसरी बार बढ़ा दिए दुग्ध उत्पादों के दाम…

सुबह 11.30 बजे जब शिक्षिका कक्षा सात की कक्षा ले रही थी, उसके परिजनों द्वारा आवेश में आकर स्कूल के अध्यापक, अध्यापिका तथा छात्रों से गाली गलीच व मार पीट की गई। उन्होंने आते ही शिक्षिका का थप्पड़ जड़ दिया। साथ ही उनके हाथ में पेन चुभा दी। शिक्षिका के चीखने पर बगल की कक्षा में पढ़ा रहे शिक्षक गौरव कुमार शाह वहां आकर बीच-बचाव करने लगे तो आरोपितों ने उन्हें भी सिर पर लोहे की रॉड से प्रहार कर लहूलुहान घायल कर दिया। घटना में दो छात्र व एक छात्रा भी घायल हुए। इसके बाद हमलावर भाग निकले। इस पर विद्यालय के प्रधानाचार्य हरेंद्र सिंह चौधरी ने कोतवाली में आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। यह भी पढ़ें : कलयुगी पिता ने अपनी ही 12 व 14 साल की नाबालिग बेटियों से किया दुष्कर्म का प्रयास, विरोध करने पर पत्नी को पीटा…

कोतवाल अरुण कुमार सैनी ने बताया कि नामजद आरोपितों के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है, तथा दो आरोपितों को गिरफ्तार कर उन्हें कोर्ट में पेश करने की कार्रवाई की जा रही है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कॉलेज प्रबंधन के चार लोगों के खिलाफ दो छात्रों की हत्या के आरोप में अभियोग दर्ज

Droan College of Nursing, Rudrapur: Admission, Fees, Courses, Placements,  Cutoff, Rankingनवीन समाचार, कालाढुंगी, 21 मई 2022। बीते सप्ताह नैनीताल जनपद के कालाढुंगी के पास स्थित कार्बेट फॉल में नहाते समय डूबने से दो छात्रों की मौत हो गई थी। अब इस मामले में छात्रों के परिजनों की तहरीर पर दिनेशपुर के द्रोण कॉलेज ऑफ नर्सिंग के प्रबंधन और प्रधानाचार्य पर कालाढूंगी थाने में दो छात्रों की गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज हुआ है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों द्रोण कालेज दिनेशपुर के छात्रों का दल नैनीताल गया था। लेकिन वहां पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद स्कूल के शिक्षक कालाढूंगी कार्बेट फॉल चले गये थे। जहां नहाते समय नर्सिंग की पढ़ाई कर रहे दो छात्रों की डूबने से मौत हो गयी। इस मामले में परिजनों ने स्कूल प्रबंधन पर छात्रों की मौत का जिम्मेदार होने का आरोप लगाया है, और कालाढूंगी पुलिस को तहरीर सौंपकर कार्यवाही की मांग की है।

कालाढूंगी के थानाध्यक्ष राजवीर सिंह नेगी ने बताया कि परिजनों की तहरीर पर द्रोण कालेज के विजय भूषण गर्ग, सुरेंद्र ग्रोवर, किशोर शर्मा, व निलंबित प्रधानाचार्य हरप्रीत कौर के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का अभियोग दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 18 स्कूली बच्चों को ले जा रहा स्कूल वाहन दुर्घटनाग्रस्त, एयरलिफ्ट करने को हेलीकाप्टर मंगाया…

-9 बच्चों की मौत, 3 बच्चे एयरलिफ्ट कर एम्स पहुंचाए…

नवीन समाचार, नई टिहरी, 6 अगस्त 2019। नई टिहरी के लंबगांव रज्जा खेत मोटर मार्ग पर जिला मुख्यालय से करीब 40 किमी दूर, प्रतापनगर के कंगसाली गांव से 18 बच्चों को लेकर मदननेगी नाम के स्थान को जा रहा स्कूल वाहन मैक्स संख्या यूए07क्यू-3126 कंगसाली के समीप मंगलवार सुबह दुर्घटनाग्रस्त हो गया। स्कूल वाहन के करीब दो सौ मीटर गहरी खाई में गिरने से उसमें सवार 9 बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई, जबिक 8 बच्चों की घायल होने की सूचना है। यह सभी बच्चे कंगसाली गांव के थे, और मदननेगी में एक अंग्रेजी स्कूल में पढ़ते थे। ग्रामीणों की सूचना मिलते ही एसडीआरएफ, जिला प्रशासन और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। घायलों को रेस्क्यू कर जिला अस्पताल पहुंचाया गया जबकि गंभीर 6 बच्चों में से तीन को हेलीकाप्टर से एयर लिफ्ट कर एम्स ऋषिकेश एम्स ले जाया गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह करीब साढ़े सात बजे हुई दुर्घटना में ऋषभ (5 वर्ष) पुत्र जस्सी, अयान (4 वर्ष) पुत्र अतर सिंह, आदित्य (8 वर्ष) पुत्र अरविंद, विहान (5 वर्ष) पुत्र अजयपाल सिंह, इशान (6 वर्ष) पुत्र दर्मियान, अभिनव (6 वर्ष) पुत्र सोबन सिंह, साहिल (13 वर्ष) पुत्र विशन सिंह, आदित्य (10 वर्ष) पुत्र अरविंद, वंश (5 वर्ष) पुत्र प्रवीन सिंह की मौत हो गई। वहीं नौ घायल बच्चे घायल हुए। इनमें से गंभीर घायल अखिलेश चौहान (7 वर्ष), सूरज चौहान (8 वर्ष), आशीष सेमवाल (10 वर्ष), प्रिंस (9 वर्ष), कृष्णा (6 वर्ष) व कान्हा (8 वर्ष) पुत्र उमेद सिंह को एम्स ऋषिकेश रेफर किया गया। वाहन को लक्ष्मण रतूड़ी पुत्र प्रेमदत्त निवासी रिंडोल चला रहा था। देहरादून में पंजीकृत दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी कुंवर सिंह की है, और 10 सीटों के लिए स्वीकृत है। अलबत्ता इसे कोई और चलवा रहा था।

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply