Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

यहां कानून से भी लंबे निकले सोशल मीडिया के हाथ…

Spread the love

बंगलुरू में मिली तीन माह पूर्व गायब पत्नी, नेपाल में गिरोह का सरगना

पिथौरागढ़, 26 सितंबर 2018। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जैसे दूरस्थ जिले से सोशल मीडिया के सदुपयोग का एक बड़ा मामला प्रकाश में आया है। एक पति ने अपनी तीन माह पूर्व गायब हुई पत्नी की तलाश के लिए सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक का सहारा लिया। उसने अपनी पत्नी की फोटो फेसबुक पर डाली, जो कि वायरल हाते हुए बंगलुरू के एक गांव तक पहुंच गई। जहां उसकी ही एक महिला रिश्तेदार और तीन अन्य लोगों ने उसकी पत्नी को मामूली कीमत पर बेच दिया गया था। गांव के लोगों ने जब फेसबुक पर पीड़िता की फोटो देखी तो उसके पति को सूचना दी। इसके बाद महिला का पति बंगलुरू गया और वहां बेच दी गई अपनी पत्नी को छुड़ा कर सोमवार की शाम अपने गांव ले आया। वहीं, पिथौरागढ़ पुलिस ने नेपाल पुलिस की मदद से सीमावर्ती पश्चिमी नेपाल के महाकाली अंचल में मानव तस्करी के बड़े गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए इसके सरगना को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसके अन्य तीन साथियों की तलाशी की जा रही है।
घटनाक्रम के अनुसार पिथौरागढ़ के बैतड़ी की एक महिला तीन माह पूर्व अपने घर से रहस्यमय ढंग से गायब हो गई थी। परिजनों द्वारा काफी खोजबीन भी की गई परंतु उसका पता नहीं चल सका। ऐसे पति ने पत्नी की फोटो फेसबुक में अपलोड कर लोगों से मिलने पर सूचना देने की अपील की। सोशल मीडिया पर वायरल यह पोस्ट बंग्लुरू में कार्य करने वाले महिला के गांव के लोगों तक भी पहुंची। इस बीच उन्हें वह महिला भी दिख गई। जिस पर तत्काल इसकी सूचना फोन से उसके पति को दे दी। इसके बाद महिला का पति बंगलुरू गया और वहां बेच दी गई अपनी पत्नी को छुड़ा कर सोमवार की शाम अपने गांव ले आया।
गांव पहुंचने के बाद महिला ने बताया कि उसकी एक महिला रिश्तेदार सहित चार अन्य लोगों ने उसकी गरीबी का फायदा उठाकर उसे बहलाया-फुसलाया, और उसे किसी पैसे वाले से दूसरी शादी करने का प्रलोभन दिय। घटना पता लगने पर पति ने इस मामले में लिप्त लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने इस मामले में तत्काल कार्रवाई करते हुए मानव तस्करी की इस गैंग के मुखिया डडेलधुरा आलीपाल गांव, पालिका वार्ड नंबर पांच सिन्सेना, नेपाल के गणेश बिष्ट को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में अन्य आरोपित बैतड़ी की एक महिला, डडेलधुरा आलीपाल वार्ड नंबर छह के शंकर अवस्थी और शंकर विक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया है। तीनों अभी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सके हैं। बैतड़ी के पाटन पुलिस प्रहरी उपनिरीक्षक राजेंद्र बहादुर बिष्ट ने बताया कि भारत से खुली सीमा होने के कारण पिछले 11 माह में भारत से लगे बैतड़ी जिले की 44 महिलाएं गायब हुई हैं। जिसमें तलाशी के बाद सात महिलाएं मिल चुकी हैं। 37 महिलाओं का अभी तक कुछ पता नहीं चल सका है।

यह भी पढ़ें: फायदे का समाचार : Facebook, Instagram से PayTm पर कमायें CASH

FACEBOOK चलाते हैं , तो ये वीडियो ज़रूर देखें :

Instagram चलाते हैं , तो ये वीडियो ज़रूर देखें :

रिलायंस जियो ने अपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा देते हुए जियो प्राइम मेंबरशिप को एक साल के लिए बढ़ा दिया है। 31 मार्च 2018 तक जिसने भी जियो प्राइम मेंबरशिप ली होगी, वे अगले एक साल तक बिना कोई शुल्क चुकाए जियो प्राइम मेंबरशिप का फायदा उठा सकेंगे। यानी जियो के मौजूदा ग्राहकों को प्राइम मेंबरशिप को रिन्यू कराने के लिए कोई शुल्क नहीं देना है। जियो ने कहा है कि वो अपने साथ जुड़े सभी लॉयल प्राइम सदस्यों को महत्वपूर्ण समझता है और इन यूजर्स के लिए अतिरिक्त लाभ जारी रखेगा। हालांकि नए जियो ग्राहकों को जियो प्राइम मेंबरशिप के लिए 99 रुपये सालाना खर्च करने होंगे। उल्लेखनीय है कि रिलायंस जियो की प्राइम मेंबरशिप 1 अप्रैल 2017 को शुरू हुई और यह 31 मार्च 2018 को खत्म होने वाली थी। जियो प्राइम मेंबरशिप सब्सक्राइबर्स को भारत में फ्री वॉइस कॉल, 4जी डेटा और एसएमएस सर्विस देती है।

यह भी पढ़ें : 58 रुपये में अनलिमिटेड वॉइस कॉल, 500 एमबी डेटा, और भी बहुत कुछ

टेलीकॉम सेक्टर में यूजर्स को अपनी और अाकर्षित करने के लिए सरकारी कंपनी बीएसएनएल ने एक नया प्लान पेश किया है जिसका नाम ‘द ओनली ट्रैवल पैक’ रखा गया है। इस नए प्लान की कीमत 58 रुपए और वैधता सात दिनों की है। इस नए प्लान को जियो और एयरटेल के प्लान्स के जवाब में बताया जा रहा है। इस प्लान में यूजर्स को किसी भी नेटवर्क पर अनलिमिटेड वॉयस कॉल, प्रतिदिन 100 एसएमएस और 500 MB डाटा दिया जाएगा। इसके अलावा दिल्ली और मुंबई सर्किल्स को छोड़कर शेष सभी जगह रोमिंग कॉल भी मुफ्त रहेगी।

बड़ी खबर : आधार कार्ड है तो कमा सकते हैं ₹ 10,000

मौजूदा मोदी सरकार के पास अंतिम साल बचा है और अगले साल होने वाले आम चुनाव में अपनी स्थिति को मजबूती से पेश करने के लिए सरकार के पास जितना समय है वो उसे लोक लुभावन बनाने में जुट गयी है। हाल ही में वर्तमान सरकार में कई ऐसी योजनायें शुरू की हैं जिससे आम जनमानस को फायदा मिल सके।
इस कड़ी में नयी योजनान्‍तर्गत आप ₹ 10,000 तक की धनराशि का लाभ बहुत ही सरलता से उठा सकते है। यदि आपको रेल आरक्षण केंद्र से टिकट बुक करने से अच्छा ऑनलाइन टिकट बुकिंग अच्छी लगती है, तो आपके लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है, रेलवे ने ऐसे ग्राहकों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी दी है, जिसे जान कर आपके ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहेगा, इसका लाभ उठाने के लिए रेल की वेबसाइट पर आप अपना अकाउंट बनाना होगा ।
इसके आधार लिंक करते हैं, तो आपको ₹ 10,000 मिलने का मौका मिल सकता है। इसके लिये आपको आईआरसीटीसी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्टर होना है, उसके पश्‍चात आपको अपना आधार नंबर लिंक करना है उसके बाद आपको भी ₹ 10,000 जीतने का लकी ड्रा का मौका मिल सकता है।
जानकारी के मुताबिक इस योजना के तहत हर माह पांच विजेताओं की घोषणा की जाएगी, आपको मात्र ₹ 10,000 नहीं बल्कि जितने पैसे आपने टिकट बुकिंग पर खर्च किये है, वो आपको वापस कर दिए जायेंगे, आपको बता दें कि आधार लिंक करने से आप पांच लोगो की जगह बुक कर सकते हैं। इन दिनों यह खुशखबरी सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी हुई है।
भाग्यलक्ष्मी योजना
इसी योजना की तरह उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक बड़ा एलान किया है. यूपी सरकार ने घोषणा की है कि वो राज्य की हर एक लड़की को ₹ 10 हजार का इनाम देगी, जो 10वीं क्लास पास करेगी. ये घोषणा राज्य के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने की है.
आपको बता दें कि 10वीं पास करने वाली लड़कियों को ₹ 10 हजार इनाम देने की घोषणा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 45वें जन्मदिन के मौके पर की गई थी . इससे पहले योगी सरकार ने गरीब मुस्लिम परिवारों की बेटियों की शादी के लिए भी मदद का एलान किया था.
योगी सरकार में मंत्री मोहसिन रजा ने कहा था कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने अल्पसंख्यक समूहों की गरीब लड़कियों के सामूहिक विवाह पर सहमति जताई है और हमने इस राज्य सरकार के 100 डे प्रोग्राम में शामिल कर लिया है. इसके तहत बेटी पैदा होने पर परिवार को ₹ 50 हजार का बॉन्ड दिया जाएगा. इतना ही नहीं मां को भी ₹ 5100 दिए जाएंगे. इस योजना के तहत जैसे-जैसे बेटियां बड़ी होंगी, उनको पढ़ाई में भी आर्थिक सहयोग सरकार की तरफ से मिलेगा.
योजना के तहत कक्षा 6 में पहुंचने पर बेटियों को 3 हजार, कक्षा 8 में ₹ 5 हजार मिलेंगे. जबकि हाईस्कूल में पहुंचने पर उन्हें ₹ 7 हजार और इंटर में आने पर बेटियों को ₹ 8 हजार मिलेंगे.
Loading...

नवीन समाचार

मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है। ’ यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….। मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड

Leave a Reply