News

गरीबी रेखा से नीचे के मेधावी बच्चों को भेंट की 2.7 लाख की छात्रवृत्ति

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
छात्रवृत्ति वितरण कार्यक्रम में आयोजक एवं छात्रवृत्ति प्राप्त करने वाले मेधावी बच्चे।

नवीन समाचार, नैनीताल, 11 अप्रैल 2021। अमेरिका में कार्यरत नगर के संदीप सिंह खेतवाल की प्रेरणा से डीडीएस चाइल्ड फेडरेशन के द्वारा नगर के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों के मेधावी बच्चों को पढ़ाई जारी रखने के लिए वर्ष 2018 से हर वर्ष छात्रवृत्ति दी जाती है। इस कार्य में सेवानिवृत्त मुख्य आयकर आयुक्त तारा कुमार साह के द्वारा भी फाउंडेशन को सहयोग दिया जाता है। रविवार को श्रीराम सेवक सभा के सभागार में फाउंडेशन की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में ऐसे 30 मेधावी बच्चों को प्रत्येक माह 2250 की दर से तीन माह की कुल 2.7 लाख रुपए की छात्रवृत्ति भेंट की गई। बताया गया कि इससे पहले अक्टूबर 2020 में भी इन बच्चों को 6 माह की 5.4 लाख रुपए की छात्रवृत्ति वितरित की गई थी। फाउंडेशन के द्वारा किसी एक विषय में कमजोर बच्चों को अलग से निःशुल्क कक्षाएं भी उपलब्ध कराई जाती हैं। इस मौके पर संस्था की अध्यक्ष डॉ. सरस्वती खेतवाल, सचिव ममता रावत सहित दीपक गुरुरानी टीके साह, शंकर दत्त जोशी, पूर्व सभासद किरन साह, श्रीराम सेवक सभा के अध्यक्ष मनोज साह व उपाध्यक्ष विमल चौधरी आदि भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : पिछले सप्ताह यूपी के सीएम योगी से मिले आंध्र प्रदेश के 20 बच्चे नैनीताल में निकले कोरोना पॉजिटिव

नवीन समाचार, नैनीताल, 09 अप्रैल 2021। शुक्रवार को देश-प्रदेश में काफी अधिक मामलों के बावजूद नैनीताल जिले में अपेक्षाकृत कम 22 मामले ही आए। खास बात यह है कि इन 22 में से 20 मामले नैनीताल जिला मुख्यालय से आए हैं। यह सभी आंध्र प्रदेश के आदिवासी बच्चे हैं जो दो माह पूर्व 6 फ़रवरी को आंध्र प्रदेश से साइकिलों पर भारत भ्रमण पर निकले थे। इससे भी बड़ी बात यह कि यह बच्चे पिछले सप्ताह दो अप्रैल को लखनऊ में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले थे और उनके साथ फोटो भी खिंचवाए थे। इससे पहले बच्चों का यह समूह एक सप्ताह यूपी में विभिन्न स्थानों पर घूमता रहा था। वहां उन्होंने अयोध्या में रामलला के दर्शन भी किए थे। इस दौरान होली पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनके लिए मिठाई भी भिजवाई थी। यह भी दिलचस्प है कि यह बच्चे आंध्र प्रदेश से तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश यानी छह राज्यों से होते हुए नैनीताल पहुंचे और उन्होंने स्वीकारा कि इस दौरान उनकी रास्ते में कहीं जांच नहीं हुई।

पहनने को कपड़े-जूते भी नहीं
नैनीताल। बीडी पांडे जिला चिकित्सालय के पीएमएम डॉ. केएस धामी ने बताया कि शुक्रवार को आंध्र प्रदेश से आए 24 सदस्यीय दल के लोगों की कोरोना जांच की गई थी, इनमें से 20 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमित पाए गए लोगों में 80 फीसद बच्चे हैं। इसके बाद सभी 24 लोगों को सूखाताल स्थित कोविद केयर सेंटर में रखा जा रहा है। बच्चों के पास जूते व कपड़े भी नहीं थे। डीएम धीराज गर्ब्याल ने बताया कि नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर अनुराग आर्य को भेजकर उनके लिए मां नयना देवी व्यापार मंडल की मदद से कपड़ों, जूतों T-शर्टस, पजामा, चप्पल, बिस्किट्स और फलों और साबुन आदि की व्यवस्था की गई। इस कार्य में माँ नयना देवी व्यापार मंडल के महेश अरोरा, सुमित खन्ना, गिरीश कांडपाल, तन्मय कांडपाल, राम सेवक सभा अध्यक्ष मनोज साह, व्यापार मंडल अध्यक्ष पुनीत टंडन, तरुण कांडपाल, रोमित साह, शैलेंद्र साह, अमित साह, ख़ुर्शीद हूसेन आदि ने योगदान दिया। 

यह भी पढ़ें : आंध्र प्रदेश के डेढ़ दर्जन नाबालिग बच्चों ने नैनीताल आकर खोली पूरे देश की कोरोना से संबंधित सक्रियता की पोल

-छह राज्यों से बिना कोरोना जांच कराए नैनीताल पहुंचे

बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में कोरोना की जांच के लिए लाए गए बच्चे।

नवीन समाचार, नैनीताल, 09 अप्रैल 2021। कोरोना की दूसरी लहर के लगातार बढ़ते संकट के बीच करीब डेढ़ दर्जन बच्चों ने देश की कोरोना के प्रति व्यवस्थाओं की पोल खोलकर रख दी है। आठ से 15 वर्ष की उम्र के यह बच्चे आंध्र प्रदेश के निवासी हैं और वहां से बीती छह फरवरी को वनों के प्रति देश में जागरूकता फैलाने के लिए बने ‘चिल्ड्रन ऑफ फॉरेस्ट्स’ नाम के 24 सदस्यीय समूह के साथ साइकिलों से देश के भ्रमण पर निकले हैं। उनका उद्देश्य तो नेक है, लेकिन जिस तरह वह मौजूदा कोरोना के अति सक्रियता के दौर में आंध्र प्रदेश से तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश होते हुए छह राज्यों से होते हुए बिना कोरोना जांच के नैनीताल पहुंचे हैं, वह निश्चित ही बड़े सवाल खड़े करने वाला है। उल्लेखनीय है कि 18 से कम उम्र के नाबालिग बच्चे तो कोरोना के दृष्टिगत अधिक खतरे में बताए गए हैं और उन्हें घर पर ही रहने की सलाह दी गई है। अलबत्ता मुख्यालय पहुंचने पर उनका शुक्रवार को बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में कोरोना परीक्षण कराया गया है।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में दोहराया जाएगा ‘नायक’ फिल्म वाला प्रयोग, एक दिन के लिए मुख्यमंत्री बनेंगी सृष्टि, विधानसभा में विभागीय समीक्षा बैठक भी लेंगी

नवीन समाचार, देहरादून, 22 जनवरी 2021। जी हां उत्तराखंड में उत्तराखंड में भी ‘नायक’ फिल्म वाला प्रयोग दोहराया जाएगा। एक दिन के लिए सृष्टि गोस्वामी नाम की छात्रा प्रदेश की मुख्यमंत्री बनेंगी और इस  दौरान विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक भी लेंगी। उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड में बाल विधानसभा का प्राविधान पहले से है। हर तीन वर्ष के लिए यहां बाल मुख्यमंत्री चुना जाता है। सृष्टि वर्तमान में उत्तराखंड की बाल मुख्यमंत्री हैं, लेकिन उसे आगामी बालिका दिवस 24 जनवरी के दिन एक दिन के लिए प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया जा रहा है। वह इस दिन राज्य की विभिन्न विकास कार्यों की समीक्षा बैठक भी लेंगी। बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष उषा नेगी की ओर से बाकायदा प्रदेश के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर इस समीक्षा बैठक के लिए नोडल अधिकारियों की नियुक्ति करने को कहा गया है जो उत्तराखंड विधानसभा के कक्ष संख्या 120 में पांच-पांच मिनट के लिए अपने कार्यों का प्रस्तुतीकरण देंगे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सृष्टि हरिद्वार जिले के गांव दौलतपुर की रहने वाली हैं। सृष्टि के पिता प्रवीण गोस्वामी गांव में ही एक छोटी सी दुकान चलाते हैं। उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड बाल विधानसभा में सृष्टि के अलावा नमन जोशी विधानसभा अध्यक्ष, आसिफ हसन नेता प्रतिपक्ष तथा कुमकुम पंत को बाल गृह मंत्री, प्रियंका नौटियाल को बाल महिला एवं बाल विकास मंत्री, नितिन मेहता को बाल शिक्षा, खेलकूद एवं युवा कल्याण मंत्री व भरत सिंह को बाल आपदा प्रबंधन एवं समाज कल्याण मंत्री बनाया गया है।  

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply

loading...