Politics

आप के पास एक कर्नल, हमारे पास सिपाही से लेकर जनरल तक की फौज

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने वालों के बहकावे में नहीं आएंगे

यह बातें भाजपा सरकार में काबीना मंत्री गणेश जोशी ने एक कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान कहीं।
काबीना मंत्री गणेश जोशी

नवीन समाचार, देहरादून, 25 जुलाई 2021। ‘आम आदमी पार्टी के पास एक कर्नल है, जबकि, उत्तराखंड में भाजपा के पास सिपाही से लेकर जनरल तक की फौज है। सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने वाली आम आदमी पार्टी की दाल उत्तराखंड में नहीं गलेगी। यह बातें भाजपा सरकार में काबीना मंत्री गणेश जोशी ने रविवार को एक कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान कहीं।

श्री जोशी ने आम आदमी पार्टी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उत्तराखंड से हर पांचवा व्यक्ति सेना में है और यह वीरों की भूमि है। ऐसे में आम आदमी पार्टी के एक कर्नल के नाम पर यहां सत्ता में आने का सपना हास्यास्पद है। उन्होंने कहा कि जिस पार्टी का मुख्यमंत्री केंद्र सरकार से सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगता हो, उसे वीरों के राज्य उत्तराखंड में कौन स्वीकार करेगा। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : राजनीति बाद में कर लेंगे…. अभी कोरोना को हराने के लिए समर्थ लोगों के लिए सेवा का समय…

डॉ.नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 मई 2021। भीमताल के ब्लॉक प्रमुख डॉ. हरीश बिष्ट ने खनन व्यवसायियों व होटल स्वामियों व उद्योगपतियों एवं समर्थ लोगों से कोरोना के विरुद्ध सेवा कार्य में आगे आने का आह्वान करते हुए कहा कि समर्थ लोग सेवा के लिए आगे आएंगे, तभी कोरोना हारेगा। डॉ. बिष्ट शनिवार को वाईएमसीए के तत्वावधान में प्रथम पंक्ति के कोरोना योद्धाओं एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को बतौर मुख्य अतिथि सम्मानित कर रहे थे। उन्होंने संस्था की ओर से कोरोना योद्धाओं एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को कोरोना किट व प्रोटीन युक्त अनाज भी प्रदान किया। उन्होंने कहा कि इस आपदा से निपटे तो राजनीति के लिए भविष्य में अवसर मिलते रहेंगे। अभी समर्थ लोगों के लिए सेवा का समय है। सेवा ही संकल्प के अभियान को मूर्त रूप देकर ही देश कोरोना से जीतेगा। कार्यक्रम में पवन शाह, संदीप पांडे, प्रिंस, आशा उप्रेती, दुर्गा दत्त पलड़िया, दीपक पांडे, दिग्विजय बिष्ट, दीपक पलड़िया, विनोद आर्या, रमेश शर्मा व प्रकाश चंद्र आदि भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : नैनीताल में चैंपियन ने कहा-कांग्रेस बुझता हुआ दिया, आआपा चाय की प्याली का तूफान

-पत्नी-बच्चों के साथ नैनीताल पहुंचे भाजपा के बहुचर्चित विधायक प्रणव चैंपियन राजनीतिक मुद्दों पर खुलकर बोले

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 जनवरी 2021। बुधवार को भाजपा के बहुचर्चित विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन सरोवर नगरी नैनीताल पहुंचे। इस दौरान उन्होंने यहां विश्व प्रसिद्ध नैनी झील में नौकायन का आनंद लिया तथा नगर की आराध्य देवी माता नयना के मंदिर में पूजा अर्चना भी की। इस मौके पर पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी आपसी कलह से अपने पतन की राह पर है, और आगामी विधानसभा चुनाव में 11 से शून्य पर आने वाली है। साथ ही उन्होंने राज्य में भाजपा के दूसरी बार प्रचंड बहुमत से सरकार बनाने की बात भी कही। वहीं आम आदमी पार्टी पर कहा कि वह चाय की प्याली में आए तूफान की तरह है। त्रिवेंद्र सरकार शुरू से जीरो टॉलरेंस की सरकार रही। सरकार पर एक भी भ्रष्टाचार का दाग नहीं है। यह भी खुलासा किया कि वह आगामी विधानसभा चुनाव के लिए स्वयं के साथ ही अपनी पत्नी के लिए भी तैयारी कर रहे हैं। जबकि उनके पुत्र की जिला पंचायत चुनाव के लिए तैयारी चल रही है। उन्होंने राज्य में बेरोजगारों के लिए वोकेशनल पाठ्यक्रम चलाने और साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने की आवश्यकता जताई। दावा किया कि बच्चों के लिए कार्बेट पार्क का भ्रमण करने के दौरान उन्होंने एक दिन में चार बाघ देखे। एक बाघ ने हाथी का सिर फाड़ा हुआ था। एक बाघ ने उनकी जिप्सी पर भी हमला किया।

यह भी पढ़ें : सिसौदिया को कौशिक ने उन्हीं की भाषा में दिया जवाब, पत्र की छोटी सी कमी उजागर कर लगाया बड़ा आरोप

नवीन समाचार देहरादून, 03 जनवरी 2021। विकास के उत्तराखंड और दिल्ली मॉडल पर आप नेता व दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया की बहस की चुनौती का उत्तराखंड के नेता प्रतिपक्ष मदन कौशिक ने उन्हीं की भाषा में जवाब दिया है। यानी बयान का जवाब बयान व पत्र का जवाब पत्र से। वहीं दोनों नेताओं के बीच जिस असंभव बहस की लोग उम्मीद करने लगे थे, वह कभी उस रूप में न होनी थी, न होगी। राजनीति को जानने वाले लोग जानते हैं ऐसी बहस की सिर्फ जुबानी चुनौतियां अक्सर दी जाती हैं। लेकिन ऐसी बहसें शायद ही किसी ने देखी होंगी।
सिसौदिया की चुनौती का जवाब देते हुए कौशिक ने पहले तो सिसौदिया के पत्र की छोटी सी कमी, बहस की तारीख 4 जनवरी 2021 की जगह 4 जनवरी 2020 लिखने को रेखांकित करते हुए उनकी गैर गंभीरता पर सवाल उठाए। कहा, पत्र जल्दबाजी में लिखा गया है। राजनीति बेहद गंभीर विषय है। उसमें ऐसी गैर गंभीरता का कोई स्थान नहीं है। साथ ही उत्तराखंड के विकास के कई विषय रखे। खासकर स्वास्थ्य के विषय पर कहा कि उत्तराखंड ने कोरोना की बेहद विषम स्थितियों में अपने राज्य वासियों का खयाल रखा। जबकि दिल्ली में कोरोना के उपचार की स्थितियां किसी से छुपी नहीं हैं। उन्होंने आआपा को उत्तराखंड में अबकी बार केजरीवाल सरकार के होर्डिंग्स को लेकर भी घेरा। पूछा कि क्या केजरीवाल उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के प्रत्याशी होंगे या आप पार्टी का मतलब केजरीवाल हैं। उन्होंने सिसौदिया को उत्तराखंड के समाचार चैनलों पर होने वाली बहस में हिस्सा लेने की भी लगे हाथ सलाह दे डाली।

यह भी पढ़ें : कौशिक से उत्तराखंड व दिल्ली के विकास पर बहस के लिए सिसौदिया ने की समय की पेशकश

नवीन समाचार, देहरादून, 02 जनवरी 2021। उत्तराखंड सरकार के प्रवक्ता व कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक के बीच पिछले कई दिनों से खुली बहस की चुनौती पर आम आदमी पार्टी बढ़त लेने की कोशिश करती दिख रही है। पार्टी ने शनिवार को प्रदेश में कई स्थानों पर अपने नेताओं की प्रेस वार्ता के जरिये यह प्रचार करने की कोशिश की उनके नेता, दिल्ली के उप मुख्यमंत्री व आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने कौशिक की चुनौती के अनुरूप बहस की तिथि की पेशकश कर दी है। सिसौदिया तीन जनवरी को देहरादून पहुंचेंगे और चार जनवरी को कौशिक से दिन में 11 बजे देहरादून के सर्वे चौक स्थित आइआरडीटी सभागार में में बहस के लिए तैयार रहेंगे। आगे उन्होंने कौशिक को छह जनवरी को दिल्ली मॉडल पर डिबेट और दिल्ली के विकास को दिखाने के लिए दिल्ली में आमंत्रित किया गया है। बताया गया कि मनीष सिसोदिया ने मदन कौशिक को लिखे पत्र में कहा है, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि आप अपने निमंत्रण से पीछे नहीं हटेंगे और चार जनवरी को देहरादून में और छह जनवरी को दिल्ली में मेरे साथ जनहित कार्यों व विकास मॉडल पर खुली चर्चा के लिए समय निकालेंगे।’ आगे देखने वाली बात होगी कि कौशिक इस पेशकश पर क्या रुख दिखाते हैं। हालांकि मौजूदा स्थितियों में उनके लिए ऐसा करना राजनीतिक तौर पर मुफीद नहीं होगा।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप से इस लिंक https://chat.whatsapp.com/ECouFBsgQEl5z5oH7FVYCO पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : हरीश रावत के कांग्रेस में वापसी संबंधी ट्वीट पर बोले हरक

नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जनवरी 2020। नैनीताल चिड़ियाघर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रदेश के वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के ट्वीट और कांग्रेस में वापसी की बात से जवाब दिया। हरीश रावत की ट्वीट का हवाला देते हुए उनसे पूछा गया कि हरदा ने कहा है कि वह किसी की वापसी में बाधा नहीं बनेंगे। इस पर हरक सिंह रावत ने कहा कि वापसी का सवाल ही नहीं है। कहा कि जब पार्टी में हालात बेहद खराब हो गए थे, तब हरीश रावत को हर स्तर पर समझाने की कोशिश की गई थी। पार्टी पदाधिकारियों की उपेक्षा पर भी उनसे सवाल किए गए थे। लेकिन तब उन्होंने एक न सुनी, जिसके कारण कांग्रेस छोड़ने का निर्णय लेना पड़ा। हालांकि उन्होंने हंसते हुए यह भी कहा कि राजनीति में ना तो कोई स्थायी दोस्त होता है और ना ही स्थायी दुश्मन। कहा कि उनकी हरीश रावत के साथ कोई व्यक्तिगत नाराजगी या तनातनी नहीं है। जो कुछ है राजनीतिक है। उल्लेखनीय है कि हरक सिंह रावत उन नौ विधायकों में शामिल थे जिन्होंने 18 मार्च 2016 को तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत की सरकार में मंत्री होते हुए भी बगावत कर बगावत कर भाजपा के लैटर पैड पर राज्यपाल को समर्थन वापस लेने का पत्र सौंपा था, जिसके बाद हरीश रावत को कुछ समय के लिए अपदस्थ होना पड़ा था और राज्य को राष्ट्रपति शासन भी झेलना पड़ा था। बाद में सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों से हरीश रावत की सरकार बहाल हो पाई थी। इन नौ कद्दावर नेताओं के भाजपा में आने के बाद कांग्रेस काफी कमजोर हुई और पिछले विधानसभा चुनावों में 70 सदस्यीय विधानसभा में 11 की संख्या पर सिमट गई, लेकिन इन नेताओं के भाजपा में होने के बावजूद खासकर हरक सिंह के कई बयानों से बागियों के कांग्रेस में वापसी की चर्चाएं भी होती रही हैं।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply