News

दूसरे दिन भी हाथ नहीं आ पाया हल्द्वानी से नैनीताल लाते पुलिस अभिरक्षा से फरार हुआ कैदी

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवविवाहिता को जेवहरात सहित मायके से ले उड़ा दूसरे धर्म का युवक


नवीन समाचार, नैनीताल, 8 जुलाई 2020। मंगलवार शाम नाबालिग से दुष्कर्म करने का एक आरोपी ठाकुरद्वारा मुरादाबाद यूपी निवासी भावेश कुमार पुत्र राजपाल सिंह नाम का एक कैदी पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया था। नैनीताल पुलिस ने भारी बारिश के बावजूद पूरी रात्रि और इधर बुधवार को भी उसकी तलाश में खतरनाक खाई में कॉंबिंग अभियान चलाया, बावजूद उसका कोई पता नहीं चल सका।
प्राप्त जानकारी के अनुसार काशीपुर के पुलिस कर्मी उसे हल्द्वानी के पॉस्को न्यायालय में पेश कर नैनीताल जिला कारागार में ले जा रहे थे। तभी वह जिला मुख्यालय से करीब 25 किमी दूर, दोगांव से आगे भेड़िया पखांण के पास खतरनाक खाई की ओर कूद कर फरार हो गया। ज्योलीकोट चौकी प्रभारी दिलीप कुमार ने बताया कि उसके चलती कार का दरवाजा खोलकर खाई की ओर भागने पर पुलिस कर्मी ने भी उसके साथ खाई में कूद मार दी थी। उसके पैर आदि में काफी चोट भी लगी है। इधर मंगलवार पूरी रात्रि भारी बारिश के बावजूद उसकी तलाश में खाई में उतरकर कॉबिंग की गई। वहीं तल्लीताल थाना प्रभारी विजय मेहता ने अपराह्न में बताया कि अभी भी उसके बारे में कोई जानकारी हाथ नहीं लग पाई है। बताया गया है कि आरोपित पर नाबालिग से दुष्कर्म, छेड़छाड़ के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 366, 16/17 व पास्को के तहत मुकदमा दर्ज है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले 24 जून को तल्लीताल थाना क्षेत्र में हल्द्वानी रोड पर नगर से करीब पांच किमी पहले एरीज मोड़ के पास से तथा उसके बाद 4 जुलाई को हल्द्वानी के सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज से फरार हो गया था। इस प्रकार एक पखवाड़े के भीतर ही जनपद से तीसरे कैदी के भागने की घटना सामने आई है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल बिग ब्रेकिंग ‘नवीन समाचार’ एक्सक्लूसिव : अभी-अभी हल्द्वानी से नैनीताल ले जाते कैदी पुलिस अभिरक्षा से फरार, इस पखवाड़े की तीसरी घटना

नवीन समाचार, नैनीताल, 7 जुलाई 2020। एक पखवाड़े के भीतर नैनीताल पुलिस के हाथों तीसरे कैदी के भागने की घटना सामने आई है। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार ठाकुरद्वारा मुरादाबाद यूपी निवासी भावेश पुत्र राजपाल सिंह नाम के कैदी को एक पुलिस कर्मी व एक होमगार्ड हल्द्वानी में पोस्को न्यायालय में पेश कर जिला कारागार नैनीताल ले जा रहे थे। तभी वह जिला मुख्यालय से करीब 25 किमी दूर, दोगांव से आगे भेड़िया पखांण के पास चलती गाड़ी से खतरनाक खाई की ओर कूद कर फरार हो गया। बताया गया है कि भागे हुए कैदी पर नाबालिग से दुष्कर्म, छेड़छाड़ के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 366, 16/17 व पास्को के तहत मुकदमा दर्ज है। पुलिस क्षेत्राधिकारी नैनीताल विजय थापा ने घटना की सूचना आने की पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें : 11 दिन के भीतर एक और कैदी पुलिस की अभिरक्षा से फरार, उत्तराखंड पुलिस की कैदियों की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 4 जुलाई 2020। हल्द्वानी के कोविद समर्पित सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज के बी वार्ड से शनिवार सुबह अपने ही मौसेरे भाई का एक हत्यारोपित सुरक्षा में तैनात चार पुलिस कर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया। हल्द्वानी पुलिस की मदद से सितारगंज पुलिस हत्यारोपी की तलाश में जुट गई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार फरार आरोपी विप्लव सरकार उर्फ रवि पुत्र भवानी ने 26 जून को शक्तिफार्म रुद्रपुर जेल कैम्प गांव में बहने वाली सूखी नदी में पूर्व वर्धमान थाना अम्बिका कालना पश्चिम बंगाल निवासी सुशांत सरकार की पत्थर से कुचलकर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद आरोपी विप्लव सुशांत का मोबाइल, एटीएम लेकर फरार हो गया था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपी को जेल ले जाने से पहले कोरोना जांच के लिए हल्द्वानी के सुशीला तिवारी अस्पताल में लाई थी। लेकिन चार सिपाहियों की तैनाती के बावजूद आरोपी भागने मे सफल हो गया। इससे कैदियों की सुरक्षा व्यवस्था पर एक बार पुनः सवालिया निशान खड़े हो गए हैं। उल्लेखनीय है कि बीती 23 जून की रात्रि को नैनीताल जिला कारागार लाते हुए भी एक कैदी पुलिस कर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया था। कोतवाल संजय कुमार ने बताया पुलिस की पूरी टीम आरोपी की तलाश में जुटी है, सीसीटीवी कैमरे में आरोपी गेट से बाहर को जाते हुए दिखाई दे रहा है।

यह भी पढ़ें : जेल ले जाया जा रहा आरोपित हुआ फरार, बाद में पकड़ कर जेल भेजा…

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 जून 2020। मंगलवार देर रात्रि जिला व मंडल मुख्यालय नैनीताल में पुलिस की अभिरक्षा में जिला कारागार नैनीताल ले जाया जा रहा एक बंदी पुलिसकर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया। हालांकि उसे बाद में करीब साढ़े पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के साथ क्षेत्र में सर्च अभियान चलाकर पकड़ लिया गया। बुधवार को उसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया।
मुख्यालय के तल्लीताल के थाना प्रभारी विजय मेहता ने बताया कि मूलतः यूपी के अमरोहा जनपद के ग्राम तेहरी तहसील हसनपुर का और वर्तमान में गाजियाबाद के छीपीयाला लालकुआं में सूर्या हाइट्स में रहने वाले मनोत्तम त्यागी उर्फ मनु त्यागी पुत्र सुबोध त्यागी को वहीं के निवासी अंकुर त्यागी पुत्र मनोज कुमार त्यागी के साथ जसपुर पुलिस के आरक्षी प्रदीप कुमार व ज्ञानेंद्र कुमार मुतैना धोखाधड़ी व मारपीट आदि से संबंधित मामले में न्यायालय में पेश कर वैगनआर कार से जिला कारागार लेकर आ रहे थे। तभी रात्रि करीब साढ़े आठ बजे वह एरीज मोड़ के पास से कार का दरवाजा खोलकर फरार हुआ। इस पर जसपुर पुलिस के कर्मियों ने तल्लीताल थाने को इसकी सूचना दी। यहां दरोगा दीपक बिष्ट के नेतृत्व में जसपुर पुलिस के साथ ही तल्लीताल थाने के उपेंद्र राठी ने क्षेत्र में सर्च अभियान चलाया। फलस्वरूप रात्रि 2 बजकर 25 मिनट पर उसे रूसी बाईपास के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। उसके खिलाफ पुलिस की अभिरक्षा से भागने का नया मुकदमा भी दर्ज किया गया और बुधवार को उसे मुख्यालय में न्यायालय में पेश कर न्यायाध्ीलय के आदेश पर जेल भेज दिया।
उसके खिलाफ थाना तल्लीताल में फरारी का मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। इसके बाद उसे आज पुनः न्यायालय में पेश कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। बताया गया है कि जसपुर पुलिस के जवान पहले उसे हलद्वानी जेल ले गए थे, लेकिन वहां मना करने पर राज्य में उसे नैनीताल जिला कारागार लाया जा रहा था तभी यह घटना घटित हुई।

यह भी पढ़ें : घर से चाबी गायब कर लॉकर से 50 हजार की नगदी व लाखों के आभूषण चोरी…

नवीन समाचार, नैनीताल, 5 जुलाई 2020। नगर के तल्लीताल थानान्तर्गत एक घर में अलमारी के भीतर के लॉकर से 50 हजार रुपये की नगदी सहित लाखों के जेवर चोरी करने का कुछ अलग सा मामला प्रकाश में आया है। मामले में पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। अलबत्ता, यह दिलचस्प बात प्रकाश में आई है कि लॉकर को तोड़ा नहीं गया है, बल्कि चाबी से खोला गया है। साथ ही यह घटना कब हुई है, यह साफ नहीं है। तल्लीताल के थाना प्रभारी विजय मेहता ने कहा, हो सकता है घर के किसी सदस्य ने ही लॉकर से रुपए व अन्य गायब सामग्री कहीं और रख दी हो। मामले की जांच एसआई दीपक बिष्ट को सौंपी गई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार गृह स्वामी ने तल्लीताल थाने में तहरीर देकर कहा है कि काफी समय से चाबी नहीं मिल रही थी। शनिवार रात्रि लॉकर का लॉक खुला मिला, और लॉकर से 50 हजार रुपए और सोने-चांदी के आभूषण गायब मिले। साथ ही अलमारी के भीतर सारा सामान भी बिखरा हुआ मिला।

यह भी पढ़ें : सैलून में लॉक डाउन के दौरान दूसरी बार चोरी, बाल काटने की मशीनें व कैंचियां भी ले गये चोर

नवीन समाचार, नैनीताल, 1 मई 2020। नगर के सूखाताल स्थित न्यू हेयर ड्रेसर्स सैलून में लॉक डाउन के दौरान दूसरी बार चोरी हो गई। दुकान स्वामी नजाकत सलमानी पुत्र मो. अहमद सलमानी निवासी रॉयल होटल कंपाउंड ने बताया कि बीती रात्रि चोर उनकी दुकान से बाल काटने की दो मशीनें, रेजर व कैंची सहित अन्य सामान चोरी कर ले गये। इससे पहले इसी दुकान में बीती 28 मार्च को भी चोरी हो गयी थी। तब चोर दुकान के गल्ले में रखी नगदी व अन्य सामान चोरी कर ले गये थे।
उल्लेखनीय है कि यह सैलून कच्चे टिन शेड में बना है। पिछली बार भी और इस बार भी चोर पीछे की ओर से टिन शेड का दरवाजा तोड़कर दुकान में घुसे थे। सैलून स्वामी ने बताया कि पुलिस को लिखित सूचना दे दी है। उधर पुलिस ने अभी-अभी सूचना मिलने व जांच करने की बात कही है।

यह भी पढ़ें : लॉक डाउन के बावजूद चोर-उठाईगीर सक्रिय, सैलून से उड़ाई रेजगारी

दुकान के गल्ले से गायब धनराशि दिखाता सैलून मालिक।

नवीन समाचार, देहरादून, 31 मार्च 2020। लॉक डाउन के दौरान मुख्यालय में चोर-उठाईगीर भी सक्रिय हो गए हैं और जहां हाथ लगा वहां हाथ साफ कर रहे हैं। नगर के सूखाताल तिराहा स्थित न्यू हेयर ड्रेसर्स सैलून में बीती रात्रि चोर कच्चे टिन शेड की बनी दुकान को पीछे से तोड़कर अंदर घुस गए और सैलून में कुछ न मिला तो गल्ले में रखी करीब 3-4 सौ रुपए की रेजगारी ही उड़ा ले गए। दुकान स्वामी नजाकत सलमानी पुत्र मो. अहमद सलमानी ने बताया कि उन्होंने मल्लीताल कोतवाली पुलिस में इसकी सूचना दी है। सैलून का पीछे का दरवाजा भी टूटा हुआ है। कोतवाली पुलिस ने जांच करने की बात कही है।

यह भी पढ़ें : शातिर सहेली, शादी में पहनने को 5 तोले के जेवर मांगे और…

नवीन समाचार, लालकुआं (नैनीताल), 5 मार्च 2020। अक्सर महिलाएं अपनी कई चीजें दूसरी महिलाओं को दे देते है। जिससे उसका भी काम चल जाय लेकिन कभी-कभी ऐसा करना आपकों भरी महंगा पड़ सकता है। रिश्तों के नाम लोग एक-दूसरे के साथ खिलवाड़ कर रहे है जिससे लोगों का भरोसा टूटता जा रहा है। मामला बिन्दुखत्ता का है यहां एक महिला ने अपनी सहेली को अपने जेवर शादी में पहनने को दे दिये जब उसने वापस मांग तो वह बहाने बनाने लगी। मामला पुलिस तक पहुंचा तो पुलिस महिला को थाने ले आयी। जब उसने सच बताया कि पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गई।

women jewles

बिन्दुखत्ता के इंद्रानगर निवासी एक महिला ने एक साल पहले अपनी बचपन की छतरपुर रुद्रपुर निवासी सहेली को शादी में पहनने के लिए पांच तोले के जेवर दे दिये। जिसके बाद महिला ने दो दिन बाद अपने सहेली से जेवर वापस मांगे। लेकिन उसने बहाने बना दिये। जब भी पीडि़ता उसे फोन करती वह उसे कुछ न कुछ बहाने बनाकर उसे टरका देती। पिछले एक साल वह गहने नहीं लौटा रही थी।

इस पर पीडि़ता ने कोतवाली पहुंचकर पुलिस को पूरी जानकारी दी। इसके बाद उसने अपनी सहेली को फोन किया। जहां महिला दो महिला सिपाहियों के साथ रुद्रपुर पहुंची। जैसे ही सहेली मिलने के लिए पहुंची तो पुलिस कर्मियों ने उसे पकड़ लिया। इसके बाद पूछताछ में सहेली ने बताया कि उसे पैसों की जरूरत थी इसलिए उसने अपनी सहेली के जेवर बैंक में जमा कर एक लाख का लोन ले लिया। फिलहाल समझौते की बात चल रही है। (साभार : न्यूज़ टुडे नेटवर्क)

यह भी पढ़ें : शाबास तल्लीताल पुलिस : चोरी की सूचना पर कुछ ही घंटों में चोर पकड़ लिए…

नवीन समाचार, नैनीताल, 7 फरवरी 2020। तल्लीताल पुलिस ने चोरी की घटना पर तत्काल कार्रवाई कर चोरों को कुछ ही घंटों के भीतर गिरफ्तार कर लिया। हुआ यह कि शुक्रवार को अमरजीत सिंह पुत्र प्रेम सिंह निवासी स्टोनले कंपाउंड तल्लीताल द्वारा थाना तल्लीताल पर सूचना अंकित कराई कि उनकी दुकान से अरुण व शुभम सिंह बिष्ट द्वारा उनका पर्स जिसमें ₹450, आधार कार्ड, वोटर आईडी आदि चुरा लिए हैं। इस सूचना पर थाना तल्लीताल पर एफ आई आर संख्या 5/ 20 धारा 454 380 भादवि के तहत पंजीकृत कर विवेचना उपनिरीक्षक दिलीप कुमार के सुपुर्द की गई। विवेचना के दौरान आरोपी अरुण कुमार पुत्र राकेश लाल निवासी जीबी पंत हॉस्पिटल तल्लीताल व शुभम सिंह बिष्ट पुत्र धर्म सिंह बिष्ट निवासी नैनी होटल आउटहाउस कंपाउंड माल रोड मल्लीताल को हनुमानगढ़ी के पास से चोरी के सामान के गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें : नोट छापकर 100 के 300 करने वाले ठग पकड़े, बड़ा सवाल तिगुने ‘कराने वाले’ क्या ?

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 20 जनवरी 2020। रुपयों को दुगना करने की बात तो आपने सुनी होगी, पर यहां तो ठग ऐसे उस्ताद निकले कि नोट छापकर रुपए तिगुने करने का झांसा दे गए और लोग भी ऐसे बेवकूफ कि उनके ऐसे झांसे में भी आ गए और 55000 रुपए गंवा बैठे। गनीमत रही, हमेशा आरोपों और निशाने में रहने वाली पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए ठगों को दबोचकर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया, वरना यही आरोप लगता-पुलिस कुछ करती नहीं। यह नहीं पूछते, ऐसे लालच में फंसे क्यों ? जब हमेशा से कहा गया है-लालच बुरी बला है। पकड़े गए नोट छापने वाले ठगों में एक नैनीताल का जबकि दो मुरादाबाद के हैं। हुआ यह कि रविवार 19 जनवरी को नैनीताल के आनंद सिंह पुत्र मोहन सिंह निवासी स्टाफ हाउस माल्टन कॉटेज मल्लीताल नैनीताल ने शिकायत दर्ज कराई कि थाना काठगोदाम पर दिलीप माथुर पुत्र चंद्रपाल सिंह निवासी मोटा पानी शिया मस्जिद कृष्णापुर गुफा महादेव तल्लीताल नैनीताल तथा गली नंबर 10 बाग सैजादी थाना कटघर चौकी दशराया जनपद मुरादाबाद निवासी सिफत पुत्र कमर खान व अन्जान पुत्र रियाज ने उसे नोट बनाने की मशीन से नोट बनाकर दिखाए तथा कम पैसों में अधिक पैसों का झांसा देकर धोखे से 55000 रुपए हड़प लिए। तहरीर के आधार पर पुलिस ने थाना काठगोदाम में मुकदमा दर्ज किया एसएसपी सुनील कुमार मीणा एवं एएसपी अमित श्रीवास्तव के निर्देशों पर सीओ हल्द्वानी दिनेश चंद्र ढौडियाल के पर्यवेक्षण एवं थानाध्यक्ष काठगोदाम नंदन सिंह रावत के नेतृत्व में उपनिरीक्षक दान सिंह मेहता, एसओजी प्रभारी दिनेश चंद्र पंत, आरक्षी रतन सिंह, कुंदन सिंह व चंदन सिंह की टीम गठित कर तीनों आरोपितों को ठगी की सामग्री सहित ’धोखाधड़ी करने वाली नोट छापने वाली कथित मशीन के अलावा कुछ सिक्कों व सफेद धातु के आभूषण तथा एक स्विफ्ट डिजायर कार के साथ भीमताल तिराहे से गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें : महिला की आवाज पर हनी ट्रेप में फंस गया हल्द्वानी का व्यवसायी, पड़ गए थे लेने की जगह कथित पुलिस-पत्रकारों को पड़ गए थे 10 लाख देने..

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 17 जनवरी 2020। हल्द्वानी का एक व्यवसायी मुकेश कुमार अग्रवाल एक अनजान महिला की आवाज पर खिंचा चला गया और अपहर्ताओं के चंगुल में फंस गया। महिला से मिलन की खुशी की जगह हनी ट्रेप में फंस गया और 10 लाख रुपए देने की नौबत आ गई। गनीमत रही कि परिजनों ने समय पर पुलिस को सूचना दे दी, जिससे बमुश्किल जान बच गई है। बताया जा रहा है कि व्यवसायी जब महिला के पास पहुंचा, उसके गिरोह के चार पुरुष सदस्यों ने खुद को पत्रकार बताकर महिला के साथ पकड़े जाने की बात सार्वजनिक करने की बात कह 10 लाख रुपए की मांग की।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप से इस लिंक https://chat.whatsapp.com/ECouFBsgQEl5z5oH7FVYCO पर क्लिक करके जुड़ें।

हल्द्वानी के तल्ली बमौरी में रहने वाले व हीरानगर में जनरल स्टोर चलाने वाले व्यवसायी मुकेश कुमार अग्रवाल की बुधवार 15 जनवरी की रात छोटे भाई ने कोतवाली पहुंचकर लापता होने की सूचना दी थी। बताया गया कि बुधवार की सुबह 11 बजे भाई कुसुमखेड़ा के कारोबारी अरमान शेख के साथ रुद्रपुर के लिए निकला था। शाम को अरमान तो वापस आ गया, लेकिन मुकेश नहीं लौटा। परिवार वालों के अनहोनी की आशंका जताने पर पुलिस में हड़कंप मचा। बताया गया कि दोनों के बीच पैसों के लेनदेन का मामला फंसा था। बताया गया है कि मुकेश को फंसाने की नीयत से उसके दोस्त अरमान ने ही एक महिला के जरिए उसे फोन कराया। महिला ने उसे मिलने के लिए रुद्रपुर बुलाया। मुकेश अरमान के साथ ही रुद्रपुर चला गया। वहां बिलासपुर स्थित एक फार्म हाउस में महिला से मुलाकात के दौरान गिरोह के चार सदस्य खुद को पुलिस व पत्रकार बताकर उन्हें फंसाने लगे। साथ अरमान ने उनसे व्यवसायी पर शेष अपने रुपए बतौर कमीशन में तय किये और खुद लौट आया। कथित पत्रकार बने बदमाशों ने मुकेश को छोड़ने के एवज में दस लाख रुपए की मांग की। रकम नही मिलने पर जान से मारने की धमकी भी दी। उधर फिरौती मांगने के आरोपी बदमाश नरपजीत सिंह व रईस अहमद के साथ अरमान शेख  और महिला मुरादाबाद में पहले भी लूटपाट व चोरी की घटनाओं में पहले से ही वांछित हैं। लिहाजा आरोपी बदमाश नरपजीत सिंह व रईस अहमद मुरादाबाद पुलिस व एक महिला एसओजी द्वारा पकड़े गए। इससे व्यवसायी मुकेश की जान बच गई। अरमान शेख भी पकड़ लिया गया है, जबकि उनका एक साथी फरार बताया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग : नैनीताल पुलिस ने 3 को किया जिला बदर, 6 माह के लिए नहीं घुस पाएंगे जिले में

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 6 जनवरी 2019। नैनीताल जिले की पुलिस ने थाना बनभूलपुरा के 26-06-2018 को मुकदमा अपराध संख्या 02/18 में अनवर खाॅ पुत्र सद्दन खाॅ निवासी मलिक का बगीचा, 16-10-2017 को मुकदमा अपराध संख्या 19/17 में सहाबुद्दीन उर्फ साबू कसाई पुत्र अल्लाउद्दीन उर्फ मुन्ना निवासी इन्द्रानगर ठोकर थाना बनभूलपुरा व 13-11-2017 को मुकदमा अपराध संख्या 26/17 में मौ. अजीम पुत्र मौ. इकबाल निवासी उत्तर उजाला थाना बनभूलपुरा जनपद नैनीताल के विरूद्व धारा 3/4 उत्तर प्रदेश गुण्डा नियन्त्रण अधिनियम 1970 के अन्तर्गत कार्यवाही की थी। अब सोमवार को इन तीनों को 6 माह के लिये जिला बदर कर दिया है।

यह भी पढ़ें : बर्खास्त सिपाही बना अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह का सरगना, नैनीताल था खास निसाने पर…

-पुलिस ने चोरी के चार वाहनों के साथ पकड़े अंतर्राज्यीय गिरोह के दो सदस्य
-सरगना यूपी पुलिस का बर्खास्त सिपाही, नये वाहनों के सुरक्षा सॉफ्टवेयर में आसानी से छेड़छाड़ कर उड़ाते थे वाहन

पुलिस की गिरफ्त में बरामद की गई चार चोरी की कारों के साथ अंतर्राज्यीय चोर गिरोह के सदस्य।

नवीन समाचार, नैनीताल, 4 जनवरी 2019। नैनीताल पुलिस ने अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह के सरगना सहित दो लोगों को चोरी की चार गाड़ियों के साथ यूपी के बरेली से दबोचने में बड़ी सफलता हासिल की है। पकड़े गये चोरों में सरगना बताया जा रहा एक चोर यूपी पुलिस का बर्खास्त सिपाही है, जोकि राज्य बनने के बाद भी एक दशक पूर्व करीब एक दशक तक नैनीताल में कार्यरत रहा है। उस पर यूपी में हत्या व जान से मारने के भी आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। उनके कब्जे से नगर से चुराये दो एवं यूपी से चुराये गए दो अन्य वाहन बरामद किये गए हैं। एएसपी ने चोरों को दबोचने वाले पुलिस कर्मियों को अपनी ओर से नियमानुसार एक हजार रुपए के पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

शनिवार को स्थानीय पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में एएसपी राजीव मोहन ने बताया कि गत तीन दिसंबर 2019 को आरचौड रिजॉर्ट गंगवाचौड़ मुक्तेश्वर निवासी विक्रम बिष्ट पुत्र हरेंद्र सिंह ने थाना तल्लीताल में अपनी स्कॉर्पियो कार संख्या यूके04वी-1177 के एक दिसंबर की रात्रि में तथा नगर के नयाल कॉटेज सिपाही धारा तल्लीताल निवासी रविंद्र नयाल पुत्र इंद्र सिंह नयाल ने 15 दिसंबर को अपनी आई-10 कार संख्या यूके04-4256 के चोरी होने की सूचना थाना तल्लीताल में दर्ज कराई। मामले की विवेचना करते तल्लीताल के थाना प्रभारी उपनिरीक्षक विजय मेहता व उपनिरीक्षक दिलीप कुमार द्वार की गई। कार चोरी की दो घटनाओं से हरकत में आई नैनीताल पुलिस ने एसएसपी सुनील कुमार मीणा व एएसपी राजीव मोहन ने एसओजी का भी गठन कर बरेली, शाहजहांपुर, कानपुर, झांसी इत्यादि जनपदों में वाहनों की तलाश की गई। परिणाम स्वरूप तीन जनवरी को एसओजी प्रभारी निरीक्षक अबुल कलाम, एसआई विजय मेहता व दिलीप कुमार ने दो आरोपितों 45 वर्षीय परवेज अहमद पुत्र सलीम अहमद निवासी-सिया मस्जिद, आशिक चौराहा नई बस्ती, थाना-कोतवाली झांसी यूपी एवं 44 वर्षीय रियासत खान पुत्र-आले मोहम्मद निवासी सूर्य नगर एचएमटी जीटर, उरई, जिला-जालौन यूपी को उपरोक्त दोनों के साथ ही दो अन्य स्कॉर्पियो व इनोवा कारों के गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को पूछताछ मंे दोनों ने बताया कि वह विभिन्न राज्यों से वाहन चोरी की घटनाओं को अंजाम देकर उन्हें फर्जी नंबर प्लेट लगाकर नेपाल ले जाकर 80-85 हजार रुपए में बेचा करते हैं। दोनों पर भारतीय दंड संहिता की धारा धारा-411, 420, 468, 471 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस पूछताछ में यह भी पता चला है कि मुख्य आरोपित परवेज उत्तराखंड पुलिस में वर्ष 2000 से 2009 तक नैनीताल में भी कार्यरत रहा, और बाद में यूपी चला गया, जहां वह आपराधिक कृत्यों में लिप्त होने के कारण वर्ष 2012 में बर्खास्त किया गया। उस पर यूपी में हत्या के दो व हत्या के प्रयास के चार मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस टीम में आरक्षी राजा राम, त्रिलोक रौतेला, जितेंद्र कुमार व गिरीश भट्ट भी शामिल रहे।

नए वाहनों के मजबूत सुरक्षा सिस्टम बेकार, सुरक्षा को लगाएं जीपीएस

नैनीताल। वाहन चोर गिरोह के सरगना परवेज ने बताया कि वह मिनटों में नई गाड़ियों के सुरक्षा सॉफ्टवेयर को तोड़ सकता है। नैनीताल में कार्यरत रहा, यहां लोग वाहनों के प्रति लापरवाह रहते हैं, इसलिए नैनीताल से वाहनों को चोरी करता था। वहीं एएसपी राजीव मोहन ने कहा कि वाहनों में जीपीएस लगाना ही सुरक्षा के लिए सबसे मजबूत व्यवस्था है। अन्य सभी व्यवस्थाएं शातिर चोरों के आगे निष्प्रभावी हैं।

यह भी पढ़ें : नये साल पर सैलानियों के साथ मोबाइल चोर भी रहे सक्रिय, कुछ ही देर में 6 मोबाइल चुराए

नवीन समाचार, नैनीताल, 1 जनवरी 2019। बुधवार को नये वर्ष पर सैलानियों के साथ मोबाइल चोर भी सक्रिय रहे। उन्होंने नगर के मल्लीताल पंत पार्क इलाके में कुछ ही समय अंतराल के भीतर एक के बाद 6 मोबाइल फोन चुरा लिये। इसका खुलासा तब हुआ जब मल्लीताल कोतवाली में एक के बाद एक 6 लोग इस क्षेत्र में अपने मोबाइल गुम होने की शिकायत लेकर पहुंचे। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पुलिस क्षेत्र के सीसीटीवी कैमरों की पड़ताल भी कर रही है।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड रोडवेज की बस से आ रहे नैनीताल के युवक को गजरौला में जहरखुरानों ने बनाया शिकार

नवीन समाचार गजरौला 21 दिसंबर 2019। दिल्ली-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित एक ढाबे पर जहरखुरानों ने एक युवक को अपना शिकार बना कर उसकी जेब से नगदी उड़ा ली तथा उसे झाड़ियों में फेंक कर चले गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार युवक राष्ट्रीय राजमार्ग पर शादीपुर ढाल के निकट सड़क किनारे झाड़ियों में पड़ा हुआ मिला। वहां से गुजर रहे कुछ लोगों की नजर उस पर पड़ी, जिन्होंने उसे उठाकर एक चिकित्सक को दिखाया। होश में आने पर युवक ने अपना परिचय रोहित देवरानी पुत्र शंकर दत्त देवरानी निवासी कालाढूंगी जनपद नैनीताल उत्तराखंड बताया। युवक ने बताया कि वह बीती रात्रि आनंद विहार से हल्द्वानी जाने वाली उत्तराखंड रोडवेज की बस में सवार हुआ था। बस चालक ने बस बृजघाट के पास जिस ढाबे पर रोकी, वहां उसने छोले-भटूरे खाए। इसके बाद उसे होश नहीं रहा। होश में आने पर उसकी जेब में रखी करीब ढाई हजार रुपए की नगदी और जरूरी कागजात गायब मिले। बाद में वह पुलिस के पास शिकायत करने पहुंचा, लेकिन पुलिस ने कहा कि झमेले में पड़ोगे तो कोर्ट-कचहरी के चक्कर लगाने पड़ेंगे। इसलिए वह बिना कार्यवाही किए ही अपने गंतव्य को रवाना हो गया।

यह भी पढ़ें : सभासद ने दो संदिग्धों को किया पुलिस के हवाले

अयारपाटा वार्ड में पकड़े गये दो संदिग्ध।

नवीन समाचार, नैनीताल, 10 दिसंबर 2019। नगर पालिका के अयारपाटा वार्ड के सभासद मनोज साह जगाती ने मंगलवार को अपने वार्ड में घूम रहे दो संदिग्धों को पुलिस के हवाले किया। इन लोगों के नाम मो. शरीफ पुत्र मो. अस्मिल निवासी मोहल्ला रहमतनगर कटहर जिला मुरादाबाद व यासीन पुत्र छोटे मिया निवासी नवाबपुर मुरादाबाद बताये गऐ हैं। दोनों कबाड़ का काम करते हैं, लेकिन चोरी जैसी गतिविधियों में भी लिप्त बताये गये हैं। एएसआई सत्येंद्र गंगोला ने बताया कि दोनों का पुलिस एक्ट में चालान कर दिया गया है।

नैनीताल जनपद की अपराध के पुराने समाचार पढ़नेके लिए इन लाइनों को क्लिक करें।

राज्य के सभी प्रमुख समाचार पोर्टलों में प्रकाशित आज-अभी तक के समाचार पढ़ने के लिए क्लिक करें इस लाइन को…

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप से इस लिंक https://chat.whatsapp.com/ECouFBsgQEl5z5oH7FVYCO पर क्लिक करके जुड़ें।

नवीन समाचार
मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है। ’ यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….। मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड
https://navinsamachar.com
loading...