उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 16 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 12.6 मिलियन यानी 1.26 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

March 3, 2024

कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत (Deepak Rawat) ने की छापेमारी, अवैध फैक्टरी पकड़ी…

0

Kumaon Commissioner Deepak Rawat

Deepak Rawat

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 27 जनवरी 2024 (Deepak Rawat)। कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत ने हल्द्वानी के रामपुर रोड में पेंट की एक अवैध फैक्ट्री पकड़ी है। बताया गया है कि एक शिकायत पर की गयी छापेमारी में फैक्ट्री में अवैध रूप से पेंट बनाया जा रहा था। कमिश्नर ने फैक्ट्री को सील और फैक्ट्री मालिक के विरुद्ध अभियोग दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

(Deepak Rawat)प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री रावत ने आज रामपुर रोड स्थित एक फैक्ट्री में छापेमारी की। बताया जा रहा है कि छापेमारी के दौरान फैक्ट्री में अवैध रूप से दीवार पर करने वाले पेंट बनाए जा रहे थे। श्री रावत ने कहा कि जनता मिलन कार्यक्रम में कुछ लोगों द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई थी कि रिहायशी इलाके में एक अवैध फैक्ट्री चल रही है।

शिकायत मिलने के बाद पूरे मामले की जांच की गई तो शिकायत सही पाई गई। उन्होंने कहा कि फैक्ट्री स्वामी द्वारा डिटर्जेंट पाउडर और साबुन बनाने के नाम पर फैक्ट्री लगाई गई थी, लेकिन उसमें अवैध रूप से पेंट बनाने का काम चल रहा था। फैक्ट्री के अंदर भारी मात्रा में ज्वलनशील पदार्थ भी रखे गए हैं, लेकिन फैक्ट्री मालिक के पास अग्निशमन विभाग का कोई लाइसेंस नहीं था। इसलिये फैक्ट्री को सील और फैक्ट्री मालिक के विरुद्ध अभियोग दर्ज करने के निर्देश दिए गये हैं।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप चैनल से, फेसबुक ग्रुप से, गूगल न्यूज से, टेलीग्राम से, कू से, एक्स से, कुटुंब एप से और डेलीहंट से जुड़ें। अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..। 

यह भी पढ़ें : नैनीताल (Deepak Rawat) : मंडलायुक्त को रेस्टोरेंट में मिले दाल में फफूंद और सब्जियों में कॉकरोच

नवीन समाचार, नैनीताल, 8 जनवरी 2024। पर्यटन नगरी में कुछ होटल-रेस्टोरेंट सैलानियों को दूषित भोजन परोस रहे हैं, लेकिन लगता है खाद्य विभाग केवल त्योहारों के दिनों में दिखाने भर को नमूने लेने तक सीमित एवं शेष समय सोया रहता है।

कुमाऊं मंडल आयुक्त दीपक रावत (Deepak Rawat) ने नगर के मल्लीताल क्षेत्र के खड़ी बाजार, गाड़ी पड़ाव, गोलघर, पंत पार्क, डीएसए पार्किंग आदि का निरीक्षण करने के दौरान विभागीय कारगुजारियों की पोल खुल गयी।  यह भी पढ़ें : कमिश्नर दीपक रावत की नैनीताल के एक रेस्टोरेंट में की गयी कार्रवाई से बनी भ्रम की स्थिति

Deepak Rawatप्राप्त जानकारी के अनुसार श्री रावत को निरीक्षण के दौरान देहली दरबार रेस्टोरेंट के किचन में गंदगी के बीच दाल में फफूंद और कटी हुई सब्जी में कॉकरोज तथा खुले में मक्खन व बासी दाल मखानी आदि मिले। इस पर उन्होंने मौके पर ही रेस्टोरेंट बंद करवाकर खाद्य सुरक्षा अधिकारी को रेस्टोरेंट सील करने के साथ ही कार्रवाई के निर्देश दिए। इस पर खाद्य विभाग ने संचालक फराह खान के खिलाफ चालानी कार्रवाई की, तथा रेस्टोरेंट से आटे और पनीर के नमूने लिये। देखें कमिश्नर दीपक रावत की कार्रवाई का वीडियोः

इसके अलावा श्री रावत (Deepak Rawat) ने पंत पार्क क्षेत्र में नगर पालिका की ओर रास्ते के दोनों ओर निजी व टैक्सी वाहन पार्क किये मिलने पर कड़ी नाराजगी जतायी और आरटीओ को वाहन स्वामियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए। साथ ही मल्लीताल गोलघर के पास मोबाइल टावर लगाये जाने पर भी आयुक्त ने नाराजगी जतायी।

देखें दिल्ली दरबार के स्वामी का स्पष्टीकरण:

पूछे जाने पर नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी राहुल आनंद ने बताया कि संबंधित कंपनी को शहर के आठ स्थानों पर टावर लगाने की अनुमति दी गई थी। मल्लीताल क्षेत्र में ओपर एयर थियेटर के समीप टावर की अनुमति दी गयी थी, जबकि ठकेदार ने गोलघर चौराहे के समीप टावर लगा दिया। इस पर पालिका ने ठेकेदार को टावर को हटवाने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान पुलिस टीम ने खड़ी बाजार, तिब्बती बाजार क्षेत्र में दुकान से बाहर अतिक्रमण करने वाले दस व्यापारियों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की।

इसके अलावा मंडलायुक्त (Deepak Rawat) ने ऊर्जा निगम से अनुबंधित मजदूरों को बाहरी ठेकेदार के लिए कार्य करते पाए जाने पर शहर में तैनात आउटसोर्स कर्मियों की जानकारी मांगी और उनका उपस्थिति रजिस्टर, अनुबंध पत्र और भुगतान संबंधित दस्तावेजों की जांच की। ठेकेदार के उपस्थिति रजिस्टर में चार से पांच कर्मचारी ही काम करते मिले जबकि विभाग के साथ किए अनुबंध में 12 कर्मी तैनात करने की शर्त अंकित थी। इस पर उन्होंने अधिशासी अभियंता को कार्रवाई के निर्देश दिए।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यहां क्लिक कर हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से, हमारे टेलीग्राम पेज से, कू से, कुटुंब एप से, डेलीहंट से और यहां क्लिक कर हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ें। हमारे माध्यम से अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..

यह भी पढ़ें : कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत (Kumaon Commissioner Deepak Rawat) ने हल्द्वानी में पाल कोलोनाइजर के ईको टाऊन एरिया में प्लॉटों की बिक्री पर लगाई रोक

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 16 जून 2023। कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत (Deepak Rawat) ने हल्द्वानी में पाल कोलोनाइजर के ईको टाऊन एरिया में प्लॉटों की बिक्री पर रोक लगाने की बड़ी कार्रवाई की है। बताया गया है कि श्री रावत को जनमिलन कार्यक्रम में लोगांे अवगत कराया था कि ईको टाऊन एरिया में मानकों के विरुद्व भूखंडों की प्लॉटिंग की जा रही है। इसे गम्भीरता से लेते हुये आयुक्त ने शुकवार की सायं ईको टाऊन फेस-1, 2 एवं 3 का स्थलीय निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान (Deepak Rawat) पाया कि तीन कालोनियों में उचित सुविधायें एवं ग्रीन स्पेस नहीं दिया गया है। साथ ही सडक, नालों एवं ड्रेनेज सिस्टम एवं एसटीपी का का कोई प्रबंध नही मिला। आयुक्त ने इसको गम्भीरता से लेते हुये नगर आयुक्त के साथ ही सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्लॉटों की ब्रिकी पर तत्काल रोक लगाई जाए।

इसके अलावा आयुक्त (Deepak Rawat) ने ईको टाउन कालोनी के निरीक्षण के दौरान पाया कि टाउन सिटी के अन्दर बहुतायत में बहुमंजिला फ्लैट बनाकर बेचे जा रहे है जो नियम विरूद्व हैं। आयुक्त (Deepak Rawat) ने मौके पर सिटी मजिस्टेट को निर्देश दिये कि टाउन सिटी के अन्दर बहुमंजिला फ्लैटों के मानचित्र किसके द्वारा स्वीकृत किये गये, इसकी आख्या प्रस्तुत करें और कोलोनाजर को नोटिस दें।

आयुक्त (Deepak Rawat) ने कहा कि टाउन सिटी मानचित्र के अनुसार पार्क, सड़क, सड़क के दोनों ओर नालियां एवं ड्रेनेज सिस्टम स्थलीय निरीक्षण में नही पाया गया। आयुक्त ने कहा कि आम लोगों को जो सुविधायें दी जानी थी वह नही दी गई। इसे गम्भीरता से लेते हुये तत्काल नोटिस के साथ ही ब्रिकी पर रोक लगाने के निर्देश दिये।

निरीक्षण के दौरान मौके पर नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय, सिटी मजिस्टेªट ऋचा सिंह, उपजिलाधिकारी मनीष कुमार सिंह, तहसीलदार संजय कुमार के साथ ही राजस्व निरीक्षक एवं प्राधिकरण के कर्मचारी उपस्थित रहे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला नैनीताल : दिल के सबसे करीब, सचमुच धरती पर प्रकृति का स्वर्ग