News

राजस्व उपनिरीक्षक की फेसबुक आईडी हैक पर हजारों रुपए उड़ाए…

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
नवीन समाचार, नैनीताल, 27 सितंबर 2020। मुख्यालय निवासी राजस्व उपनिरीक्षक (पटवारी) अमित साह की फेसबुक आईडी हैक कर उनके खाते से मैसेंजर पर संदेश भर पर उनके दोस्तो-रिश्तेदारों से कम से कम 25 हजार रुपए उड़ाने का मामला प्रकाश में आया है। श्री साह ने बताया कि उनके फेसबुक मैसेंजर से आईसीयू में भर्ती किसी बच्चे की फोटो को दोस्त का बेटा बताकर उनके दोस्तों की सूची में शामिल लोगों को बच्चे के इलाज के लिए रुपयों की मांग की गई। इस पर उनके एक रिश्तेदार ने 20 हजार एवं दूसरे ने पांच हजार रुपए बताए हुए पेटीएम के बैंक खाते आदि पर ऑनलाइन जमा भी करा दिए। कुछ और लोगों द्वारा भी रुपए डाले हो सकते हैं, पर इसकी अभी सही जानकारी नहीं है। इस पर उन्होंने तल्लीताल थाना पुलिस में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर साइबर सेल को जांच भेजने की बात कही है।

यह भी पढ़ें : नौकरी दिलाने के नाम पर नौ लाख रुपए ठगने के आरोपित की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज..

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 सितंबर 2020। जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजीव कुमार खुल्बे की अदालत ने शुक्रवार को बेरोजगारों को नौकरी दिलाने के नाम पर नौ लाख रुपए ठगने के एक आरोपित अंशु मौर्या की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज कर दी।
मामले में आरोपित की गत अगस्त माह में अग्रिम जमानत के प्राविधान के तहत दाखिल किये गए प्रार्थना पत्र का विरोध करते हुए जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी सुशील कुमार शर्मा ने न्यायालय के समक्ष तर्क दिया कि आरोपित अंशु मौर्या ने रिपोर्टकर्ता व उसके परिवार के सदस्यों को झूठ बोलकर झांसे में लिया था कि उसकी नौकरी अन्य आरोपित दीपा व उसके पति रजत गीता व हैरी रंधावा के द्वारा लगाई गई थी, जबकि उसके पिता के अनुसार वह बेरोजगार था। वह अन्य आरोपितों से रुपए लेकर झूठ बोलकर बेरोजगारों को फंसाता था। उसकी बात का विश्वास करके ही रिपोर्टकर्ता ने अपने भाई की नौकरी के लिए आरोपितों को नौ लाख रुपए दिए थे। लिहाजा उसके द्वारा दिया गया अग्रिम जमानत का प्रार्थना पत्र निराधार है और पुलिस से बचने के लिए है।

यह भी पढ़ें : फौजी से हनी-ट्रैपिंग : युवती ने दो लाख की ऑनलाइन शॉपिंग कराई, फिर दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करा मामले को निपटाने के लिये की डिमांड

नवीन समाचार, लालकुुआं, 10 सितंबर 2020। फौजी से हनी-ट्रैपिंग कर दो लाख की ऑनलाइन शॉपिंग कराने के बाद
दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करवाया गया, और फिर मामला निपटाने के बाद युवती से मामला निपटाने के लिए 50 हजार रुपये की डिमांड की गई। फौजी इसकी शिकायत लेकर थाने से लेकर उच्चाधिकारियों तक गया, लेकिन किसी ने उसकी न सुनी। आखिर उसकी अदालत में लगाई गई गुहार के बाद अदालत ने युवती पर फर्जी फेसबुक आइडी बनाकर बदनाम करने और दो लाख रुपए की खरीदारी कर आर्थिक क्षति पहुंचाने के आरोप में लालकुआं कोतवाली में युवती व उसके सहयोगियों पर मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार लालकुआं क्षेत्र के मूल निवासी फौजी की वर्ष 2018 में सोशल मीडिया के माध्यम से एक युवती से दाेस्ती हो गयी थी। फोन नंबर शेयर होने के साथ ही घर आने पर दोनों की मुलाकात भी होने लगी। आरोप है कि दोस्ती कर युवती फौजी से आए दिन ऑनलाइन शापिंग के साथ अपना फोन भी फौजी से ही रिचार्ज करवाती थी। नवंबर 2018 में उसके गलत आचरण का पता लगने पर फौजी ने उस से बात करने बंद कर दी। जनवरी में युवती ने फौजी के नाम की फेक फेसबुक आइडी बना दी और बदनाम करने लगी। यही नहीं फौजी के घरवालों को फोन नंबरों पर गंदी फोटो भेजकर 50 हजार रुपये की मांग कर दुष्कर्म के झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देने लगी। आरोप है कि डिमांड पूरी नहीं करने पर युवती ने लालकुआं थाने में फौजी पर दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करवा दिया। फौजी ने इसकी शिकायत थाना स्तर से लेकर पुलिस के उच्चाधिकारियों से की, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद न्यायालय द्वितीय न्यायिक मजिस्ट्रेट हल्द्वानी की शरण ली गयी। न्यायालय ने फौजी की शिकायत पर मुकदमा दर्ज करने के लालकुआं थाना पुलिस को आदेश जारी कर दिए हैं।

यह भी पढ़ें : उच्च न्यायालय में फर्जी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने पर पति-पत्नी के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

नवीन समाचार, नैनीताल, 06 सितंबर 2020। उत्तराखंड उच्च न्यायालय में एक महिला द्वारा हाईस्कूल के फर्जी प्रमाण पत्र व फर्जी आधार कार्ड आदि प्रस्तुत करने का मामला प्रकाश में आया है। इस पर उच्च न्यायालय के न्यायिक रजिस्ट्रार धर्मेंद्र सिंह अधिकारी के आदेश पर मल्लीताल कोतवाली पुलिस ने रविवार को फर्जी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने वाली टीनू पत्नी अंकित कुमार, उसके पति अंकित कुमार पुत्र मदन पाल निवासी ग्राम मुंडलाना थाना मंगलौर जनपद हरिद्वार के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 467, 468 व 471 के तहत मामला पंजीकृत कर दिया है। मामले की विवेचना महिला उपनिरीक्षक पुष्पा बिष्ट को सोंपी गई है।

यह भी पढ़ें : अधिक ब्याज व कमीशन के लालच में 29.3 लाख की ठगी, 9 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

-पैंसे लेकर भवाली का ऑफिस बंद कर भागी चिटफंड कंपनी
नवीन समाचार, नैनीताल, 1 सितंबर 2020। भवाली की एक चिटफंड कंपनी पर लोगों को अधिक ब्याज देने का लालच देकर लाखों की धोखाधड़ी कर भागने का मामला प्रकाश में आया है। कोतवाली पुलिस ने इस संबंध में महिला और कंपनी की एजेंट की तहरीर पर कंपनी के नौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मल्लीताल पॉपुलर कंपाउंड निवासी सावित्री देवी ने कोतवाली मल्लीताल में तहरीर देकर आरोप लगाया है कि वर्ष 2013 में भवाली स्थित भूमि सेल्स इंडिया लिमिटेड कंपनी के कर्मचारी अमित कुमार ने उन्हें कंपनी के मैनेजर बताते हुए इंद्रजीत से मिलाया। इंद्रजीत ने कंपनी में लोगों का पैसा जमा करने और उन्हें लोन दिलाने के लिए अधिक कमीशन देने की बात कह सावित्री को एजेंट के रूप में काम करने के लिए कहा। शुरुआती दौर में लोगों के खाते खुलवाने और पैसा जमा करने पर मुनाफे के तौर पर उन्हें अच्छा खासा पैसा भी मिलने लगा। इसके बाद उन्होंने चार अन्य महिलाओं को भी कंपनी में बतौर एजेंट जोड़ दिया। उन्होंने बताया कि बीते वर्ष कंपनी का नाम बदलकर सरल भूमि कोऑपरेटिव अर्बन थ्रफ्ट क्रेडिट सोसायटी लिमिटेड रख दिया गया। इस बीच कुछ खाताधारकों की मार्च में स्कीम पूरी होने पर उन्होंने कंपनी के कर्मचारियों से खाताधारकों की ओर से जमा किए 29.30 लाख रुपये और ब्याज देने की बात कही। इसके बाद से ही कर्मचारी बहाने बनाकर उन्हें टालने लगे। अब कर्मचारियों ने उनका फोन उठाना भी बंद कर दिया है। इसके बाद जब उन्होंने भवाली स्थित कंपनी कार्यालय जाकर पूछताछ करनी चाही तो वहां पता चला कि वह लंबे समय से बंद है। मल्लीताल कोतवाली के वरिष्ठ उप निरीक्षक मो. यूनुस ने बताया कि इस मामले में भूमि सेल्स इंडिया लिमिटेड दिल्ली के डायरेक्टर अनूप कुमार श्रीवास्तव निवासी खिचरीपुर जिला सरोदा खादर (पूर्वी दिल्ली), मैनेजर इंद्रजीत निवासी भूमियाधार, अकाउंटेंट भारती निवासी भवाली, अमित कुमार निवासी भूमियाधार, विमल रावत, गौरव सक्सेना, मोहम्मद इमरान, राजेश कुमार पटेल, अब्दुल रहमान के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 406 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले में पीड़ितों के बयान दर्ज कर जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें : एक्सक्लूसिव: बैंक में नकली नोट जमा करने पर 17 लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज

नवीन समाचार, नैनीताल, 21 जुलाई 2020। नैनीताल पुलिस ने मंगलवार देर शाम 17 लोगो के खिलाफ बैंक में नकली नोट जमा करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है। यह मुकदमा भारतीय स्टेट बैंक की मल्लीताल स्थित मुख्य शाखा के मुख्य प्रबंधक द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर दर्ज किया गया है।
मल्लीताल कोतवाली के उप निरीक्षक मो. यूनुस ने बताया कि भारतीय स्टेट बैंक की मल्लीताल शाखा में अप्रैल 2019 से मार्च 2020 तक लगभग 15,200 रुपए के 17 जाली नोट विभिन्न तिथियों को जमा किये गये। स्टेट बैंक की ओर से दी गई तहरीर में इन नोटों को जमा करने वाले व्यक्तियों के बैंक खाता नंबर की जानकारी भी पुलिस को उपलब्ध कराई गई है। इनमें कुछ शराब कंपनियों से संबंधित लोग भी बताये जा रहे हैं। हालांकि इस मामले में स्टेट बैंक की भूमिका लापरवाही वाली नजर आती है। क्योंकि यह मामले एक वर्ष से भी अधिक पुराने हैं, और इन मामलों की आखिरी तिथि मार्च 2020 को भी करीब तीन माह बीतने को हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि यदि किसी व्यक्ति ने यदि गलती से अप्रैल 2019 में कोई नकली नोट अपने बैंक खाते में जमा किया होगा तो वह 15 महीने बाद पुलिस की जांच में कैसे उस नोट के बारे में जानकारी दे पाएगा। ऐसे में इस मुकदमे से बैंक के सभी खाताधारकों पर भी कार्रवाई की तलवार लटक गई है, क्योंकि नकली व असली नोटों में आम जन को पूरी जानकारी न होने के कारण ऐसी घटना किसी के हाथों भी हो सकती है।

यह भी पढ़ें : ओएलएक्स के जरिये 80 हजार की ऑनलाइन ठगी

नवीन समाचार, नैनीताल, 3 जुलाई 2020। सरोवरनगरी में एक पखवाड़े के भीतर ही ओएलएक्स के जरिये मोटरसाइकिल खरीदने के नाम पर ऑनलाइन ठगी का कमोबेश समान व दूसरा मामला प्रकाश में आया है। मल्लीताल कोतवाली पुलिस को शुक्रवार को मिली शिकायत के अनुसार निकटवर्ती ग्राम मंगोली निवासी अंकित ध्यानी ने गत 27 जून को ओएलएक्स के माध्यम से मनोज कुमार नाम के व्यक्ति से यूपी15सीएस-5413 नंबर की बुलेट मोटर साइकिल 80 हजार रुपए में खरीदने का सौदा तय किया और बृहस्पतिवार दो जुलाई को उसे फोन-पे के जरिये 80 हजार रुपए का ऑनलाइन भुगतान कर दिया। लेकिन भुगतान करते हुए विक्रेता मनोज कुमार ने अपना फोन बंद कर दिया है। इस पर ठगे जाने का अहसास होने पर अंकित ने मल्लीताल कोतवाली में शिकायत दर्ज कराई है। एएसआई सत्येंद्र गंगोला को मामले की जांच सोंपी गई है।
उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी नगर निवासी एक युवक से गत 24 जून को ओएलएक्स के जरिये 80 हजार रुपए में म्यूजिक सिस्टम खरीदे जाने को लेकर 61 हजार रुपए की ठगी का मामला प्रकाश में आया था। इस मामले की जांच भी एएसआई गंगोला ही कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें : नैनीताल में ओएलएक्स से क्यूआर कोड लेकर 61 हजार की ठगी

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 जून 2020। नैनीताल में एक युवक से ऑनलाइन म्यूजिक का ड्रम सेट खरीदने के नाम पर 61 हजार रुपये की ठगी किए जाने का मामला सामने आया है। पीड़ित के प्रार्थना पर पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर मामला साइबर सेल को भेज दिया है।
मल्लीताल कोतवाली के एएसआई सत्येंद्र गंगोला ने बताया कि नगर के न्यू हाउस पिटरिया, राजकीय पॉलीटेक्निक मल्लीताल नैनीताल निवासी रोहन मेहर ने अपना ड्रम सेट बिक्री के लिए ओएलएक्स पर डाला था। इस पर किसी व्यक्ति ने खुद को तल्लीताल स्थित भारतीय सेना के सेंटर तैनात नन्हे लाल बताते उससे 12 हजार कीमत के ड्रम को खरीदने की हामी भरी और रुपए उसके खाते में डालने के लिए क्यूआर कोड मांगा और रुपये डालने के बजाय उसके खाते से तत्काल ही 61 हजार रुपये निकाल लिए। तब से संबंधित व्यक्ति फोन नहीं उठा रहा है। एएसआई गंगोला ने कहा कि मामला जांच कर साइबर सेल को भेजा जा रहा है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल एक्सक्लूसिव : स्वास्थ्य विभाग के नाम पर क्वारन्टाइन सेंटर में रह रहे व्यक्ति से 15 हजार की ठगी

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 मई 2020। जनपद के बेतालघाट विकास खंड के तिवाड़ीगांव में क्वारन्टाइन में रह रहे व्यक्ति से स्वास्थ्य विभाग के नाम पर करीब 15 हजार रुपए की ठगी का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। यहां क्वारन्टाइन में रह रहे नवीन चंद्र ने बताया कि वह दिल्ली में एक कॉस्मैटिक कंपनी में काम करता है। बीती 14 मई को निजी कार बुक कराकर वह दो अन्य लोगों के साथ गांव आ गया था, तभी से गांव के स्कूल के पास 14 दिन के क्वारन्टाइन में रह रहा है। उसकी पत्नी प्रेमा देवी ने अगस्त 2019 में मुख्यालय स्थित बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में एक बच्ची को जन्म दिया था।
इधर रविवार दोपहर उसके पास स्वास्थ्य विभाग देहरादून के नाम पर एक फोन आया। संबंधित व्यक्ति ने उसे उसकी पत्नी के प्रसव व बच्ची के जन्म से संबंधित सभी सही-सही जानकारियां देकर विश्वास दिलाया कि वह स्वास्थ्य विभाग का ही व्यक्ति है, साथ ही भरोसा दिलाने के लिए गांव की आशा कार्यकत्री को भी मोबाइल पर कांफ्रेंस‘ में लेकर पुष्टि कराते हुए बताया कि उसके पांच हजार रुपये स्वास्थ्य विभाग में पड़े हैं। इस प्रकार झांसा देकर उसने पहले उसकी पास बुक और एटीएम नंबर तथा बाद में ओटीपी आने पर दुबारा आशा कार्यकत्री को काफ्रेंस पर लेकर ओटीपी नंबर भी हासिल कर लिया। ओटीपी नंबर देते करीब पौने दो बजे उसके बैंक खाते से 14 हजार 830 रुपए निकल गये। रविवार होने और क्वारन्टाइन सेंटर में होने के कारण वह बैंक एवं पुलिस में भी इसकी शिकायत करने में कठिनाई हो रही है। क्षेत्र निवासी अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष पीसी गोरखा ने भी पीड़ित को हरसंभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया है। इस बारे में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से संपर्क करने का प्रयास किया गया किंतु किसी ने फोन नहीं उठाया। इस बारे में जनपद की अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. रश्मि पंत ने पूरे मामले व खासकर आशा कार्यकत्री की भूमिका की जांच कराने की बात कही है।

यह भी पढ़ें : उप निबंधक कार्यालय में दो बार हो गई एक फ्लैट की रजिस्ट्री

नवीन समाचार, नैनीताल, 27 जनवरी 2020। नगर के किलार्नी कंपाउंड क्षेत्र के एक फ्लैट का दो बार बिक्री होने का मामला प्रकाश में आ गया है। यहां तक कि दोनों बार इस एक फ्लैट की मुख्यालय स्थित उप निबंधक कार्यालय में रजिस्ट्री भी हो गई। पीड़ित ने मामले में पुलिस एवं नगर पालिका में इसकी शिकायत की है।
पीड़ित हरमनजीत कौर बिर्क पत्नी गुरजीत सिंह बिर्क ने तल्लीताल के थानाध्यक्ष को दिये गये शिकायती पत्र में कहा है कि उन्होंने 7 अक्टूबर 2015 को नगर के अयारपाटा स्थित किलार्नी कंपाउंड में जनार्दन सिंह पुत्र खेम चंद्र व भावना सिंह पत्नी जनार्दन सिंह से पहले तल पर 789 वर्ग फिट यानी 73.34 वर्गमीटर क्षेत्रफल का एक फ्लैट नंबर 1 खरीदा था। यह उप निबंधक कार्यालय नैनीताल में बही संख्या 1 जिल्द 1,355 के पृष्ठ 1 से 18 पर क्रमांक 1725 पर दर्ज है। इसी तिथि से वह इस फ्लैट पर काबिज भी हो गई थीं। इधर गत 21 जनवरी को एक व्यक्ति ने उनके फ्लैट पर आकर बताया कि उनका फ्लैट उन्हें बेच दिया गया है। जांच करने पर पता चला कि जनार्दन सिंह व उनकी पत्नी भावना सिंह ने उनके फ्लैट को गलत बयानी कर क्षेत्रफल 72.30 वर्ग मीटर बताकर शाकिर हुसैन पुत्र साबिर हुसैन निवासी आजाद नगर लाइन नंबर 12 मीट मार्केट हल्द्वानी को बेच दिया है और उप निबंधक कार्यालय में 16 दिसंबर 2019 को बही संख्या 1 जिल्द 1756 के पृष्ठ संख्या 47 से 68 पर क्रमांक 2139 पर दर्ज कर दी गई है। मामले में पुलिस से जनार्दन सिंह व भावना सिंह के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई है। साथ ही नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी को पत्र सोंपकर इस फ्लैट का दाखिल खारिज किसी अन्य के नाम पर न करने का अनुरोध किया है।

यह भी पढ़ें : सुहागरात को ही पति-ससुरालियों को लाखों का चूना लगा फुर्र हो गई दुल्हन

प्रतीकात्मक फोटो।

नवीन समाचार, हरिद्वार, 23 दिसंबर 2019। जनपद के एक परिवार से दुल्हन बनकर आई ठग द्वारा सुहागरात को ही पति व ससुरालियों को लाखों का चूना लगाकर फरार होने का मामला सामने आया है। पीड़ित परिवार अब हरिद्वार और रुड़की पुलिस के चक्कर काट रहा है। रुड़की में एक दुल्हन ने शादी के नाम पर लाखों की ठगी को अंजाम दिया।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप से इस लिंक https://chat.whatsapp.com/ECouFBsgQEl5z5oH7FVYCO पर क्लिक करके जुड़ें।

बताया गया है कि हरिद्वार में बीती 18 दिसंबर को एक विवाह हुआ था। लेकिन सुहागरात की ही रात दुल्हन घर के तमाम सोने-चांदी के जेवहरात और दूल्हे के पर्स से 50,000 रुपए की नगदी लेकर फरार हो गई। जब ससुरालियों को इस बात का पता चला तो उनके होश उड़ गये। पीड़ित परिवार हरिद्वार कोतवाली पहुंचा, और कार्रवाई की मांग की। यहां से उन्हें रुड़की पुलिस के पास भेज दिया गया। पीड़ित परिवार ने कोतवाली पहुंचकर पुलिस से है।
बताया गया है कि पंचकूला (कालका) की रहने वाली सोनिया नाम की महिला की रिश्तेदारी रुड़की में है। पंचकूला में सोनिया की मौसी की लड़की रहती है। सोनिया ने सोनू से अपने शाहजहांपुर में रहने वाले भाई महावीर की शादी के लिए लड़की की तलाश करने के लिए बोला था। इसके बाद सोनू की मुलाकात महावीर से हुई। महावीर ने सोनू को बताया कि वह भी अपनी बहन की शादी के लिए लड़का ढूंढ रहा है जिसके बाद दोनों परिवारों ने एक दूसरे से संपर्क किया, और आपसी सहमति से गत 18 दिसंबर को शादी कर ली, जिसक यह अंजाम हुआ है।

यह भी पढ़ें : भाजयुमो प्रदेश मंत्री सहित चार पर जमीन धोखाधड़ी से कब्जाने का मुकदमा दर्ज

नवीन समाचार, किच्छा (ऊधमसिंह नगर), 15 दिसंबर 2019। ऊधमसिंह नगर जनपद की किच्छा पुलिस ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर भूमि की रजिस्ट्री करवाने के मामले में न्यायालय के आदेश पर सत्तारूढ़ दल के युवा मोर्चा-भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश मंत्री सहित चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया है।
मामले के अनुसार ग्राम बंडिया किच्छा निवासी आनंद किशोर ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र दिया था कि उसके पिता स्वर्गीय दामोदर दुबे की 1978 से काबिज 10 एकड़ कृषि भूमि पर 13 अगस्त 2011 को उसके चचेरे भाई सच्चिदानंद दुबे ने रजिस्ट्रार कार्यालय के कर्मचारियों की मिलीभगत से कूटरचित कागजात तैयार कर उनकी 2.0225 हैक्टेयर भूमि का भाजयुमो के प्रदेश मंत्री हिमांशु शुक्ला, बृजेश शुक्ला, रजनीश शुक्ला के नाम पर फर्जी बैनामा व दाखिल खारिज करा दिया है। साथ ही 18 सितंबर 2019 को दुबे ने गाली गलौज करते हुए जमीन में कब्जा करने की धमकी भी दी। जिसके बाद पीड़ित पुलिस में शिकायत करने गया, लेकिन कोई कार्रवाई ना होने पर उसने न्यायालय की शरण ली। जहां न्यायालय के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने सच्चिदानंद दुबे, रजनीश शुक्ला, हिमांशु शुक्ला, बृजेश शुक्ला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें : माना ही नहीं कि लालच बुरी बला है, उच्च अधिकारी को लालच के फेर में ठगों ने लगाया 4 लाख का चूना….

नवीन समाचार, किच्छा, 14 दिसंबर 2019। कहा गया है कि लालच बुरी बला है, लेकिन अच्छे भले, पढ़े-लिखे उच्च पदस्थ अधिकारी भी अपना लालच न छोड़ पाएं तो क्या कहना। उत्तराखंड जल संस्थान के महाप्रबंधक डीके मिश्रा निवासी पंजाबी मोहल्ला किच्छा को ठगों ने मोबाइल टावर लगाने के नाम पर तीन लाख 93 हजार 845 रुपये का चूना लगा दिया। महाप्रबंधक द्वारा दी गई तहरीर पर एसएसपी के निर्देश पर पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।
बताया गया है कि एक दैनिक समाचार पत्र में गत तीन नवंबर को इंडस टावर्स बंगलुरू द्वारा प्रकाशित विज्ञापन देखने के बाद महाप्रबंधक मिश्रा ने अपने अग्रसेन कॉलोनी रुद्रपुर स्थित मकान पर टावर लगाने के संबंध में दिए गए टोल फ्री नंबर पर बात की थी। और कंपनी के लीगल एडवाइजर शिवम कुमार के कहने पर पहले तीन हजार 840 रुपये आवेदन के लिए, और बाद में कंपनी के प्रतिनिधि कमल सिंह द्वारा सूचित करने पर 25 हजार रुपए लीज के रूप में तथा नवंबर को 62 हजार, 14 नवंबर को एक लाख 45 हजार रुपये व 16 नवंबर को एक लाख 20 हजार रुपये फिर जमा कराए। इसके बाद कंपनी के प्रतिनिधि द्वारा भुगतान की जाने वाली 40 लाख की प्रथम किस्त का पांच प्रतिशत दो लाख रुपये का और भुगतान करने के लिए कहा तो उनका माथा ठनका। इससे इन्कार कर अब तक जमा रकम वापस करने की मांग की तो साफ मना कर दिया गया। पुलिस ने डीके मिश्रा की तहरीर पर कमल सिंह, आलोक पांडे व अरुण शर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें : बुजुर्ग के खातों से दो दिन में एटीएम हैक कर 80 हजार रुपए गायब..

-हल्द्वानी के एक डाइग्नोसिस सेंटर व एक अस्पताल में एटीएम कार्ड से भुगतान करने के बाद हुई वारदात
नवीन समाचार, नैनीताल, 12 दिसंबर 2019। नगर के तल्लीताल निवासी बुजुर्ग के खाते से दो दिनों के भीतर एटीएम कार्ड के जरिये 80 हजार रुपए निकलने का मामला प्रकाश में आया है। बुजुर्ग ने बैंक एवं तल्लीताल थाना पुलिस को सूचना देकर रुपए वापस दिलाने की गुहार लगाई है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार तल्लीताल गंगा निवास निवासी बुजुर्ग देब सिंह बिष्ट पुत्र स्वर्गीय एमएस बिष्ट हल्द्वानी उपचार के लिए गए थे। इस दौरान उन्होंने हल्द्वानी के एक डायग्नोस्टिक सेंटर, एक अस्पताल व एक पेट्रोल पंप में एटीएम कार्ड से भुगतान कराया था। इसके अगले दिन ही तीन दिसंबर को उनके खाते से 40 हजार व चार दिसंबर को दो बार में 20-20 हजार रुपए निकल गए। तल्लीताल थानाध्यक्ष राहुल राठी ने बताया कि बुजुर्ग का एटीएम हैक कर कलकत्ता से पैंसे निकलने का पता चला है। बैंक ने बुजुर्ग की कोई गलती न मानते हुए तीन माह में धनराशि वापस दिलाने का भरोसा दिया है।

‘नवीन समाचार’ के धोखाधड़ी से संबंधित पुराने समाचारों के लिए इन लाइनों को क्लिक करें।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

One Reply to “राजस्व उपनिरीक्षक की फेसबुक आईडी हैक पर हजारों रुपए उड़ाए…

Leave a Reply

loading...