यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 8077566792 पर संपर्क करें..
 

ससुरालियों ने तोड़ीं घर जमाई की अंगुलियां

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये

-पीड़ित ने एसएसपी को पत्र लिखकर बताई व्यथा, राजस्व पुलिस और पुलिस ने भी शिकायत पर नहीं की कोई कार्रवाई

'
'
पीड़ित घर जमाई

नवीन समाचार, नैनीताल, 4 अगस्त 2019। जनपद के ग्राम जाख पट्टी पाडली तहसील कोश्यां कुटौली में अपनी ससुराल में रहने वाले दीप सिंह पुत्र मल्लू सिंह ने जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगाई है। दीप सिंह के सिर में चोट है और हाथों की अंगुलियां टूटी हुई हैं, जिनका वह बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में उपचार करा रहा है। उसका कहना है कि वह गांव में अपनी पत्नी व तीन बच्चों के साथ ससुराल के लोगों द्वारा दी गयी जमीन पर रहकर अपने परिवार की गुजर-बसर करता है। गांव के अन्य लोग ससुराल में रहने के कारण उससे रंजिश रखते हैं और उसे ससुराल के घर व जमीन से बेदखल करना चाहते हैं और इसलिए अक्सर उसका रास्ता रोकने, खेतों मंे जानवर छोड़ने जैसी हरकतें करते रहते हैं।
इधर गत 31 जुलाई को उसके साथ गांव में कांति सिंह पुत्र गोपाल सिंह, हरेंद्र नेगी पुत्र हीरा सिंह, जीवन सिंह पुत्र नैन सिंह व नैन सिंह पुत्र हीरा सिंह ने झगड़ा किया और एक अगस्त की रात्रि करीब नौ बजे ये तथा चंदन सिंह पुत्र धन सिंह, दीवान सिंह पुत्र प्रताप सिंह, हरक सिंह व त्रिलोक सिंह आदि ने घर में घुसकर लाठी-डंडों से पिटाई की, जिससे उसे हाथ व सिर पर गंभीर चोटें पहुंचाकर उसे अधमरा कर छोड़ गये। साथ ही यह भी कहते हुए गये कि वह जल्दी से जल्दी गांव से चला जाये, अन्यथा उसे जान से मार देंगे। उसने हमेले के बाद 100 नंबर पर फोन कर पुलिस बुलाई, किंतु पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। यही नहीं, बाद में वह घटना की रिपोर्ट लिखाने थाना भवाली गया परंतु दो घंटे थाने में बैठाने के बाद भी उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई।
चित्र परिचय 04एनटीएल-5ः नैनीताल। ससुरालियों द्वारा पीटा गया घायल जमाई।

नवीन समाचार

मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है। ’ यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….। मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड

Leave a Reply

Next Post

नैनीताल की शत्रु संपत्ति पर फिर अवैध कब्जों की कोशिश !

Sun Aug 4 , 2019
यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये नवीन समाचार, नैनीताल, 4 अगस्त 2019। नगर के मेट्रोपोल होटल की शत्रु संपत्ति पर फिर अवैध कब्जे होने की चर्चाएं हैं। यहां कुछ लोगों के रहने की सूचनाएं हैं। यहां लिये गये एक चित्र में शत्रु संपत्ति में के एक घर से […]
Loading...

Breaking News

ads (1)