Accident

बड़ी दुर्घटना : बेकाबू ट्रक ने कई लोगों को रोंदा..

Imageनवीन समाचार, देहरादून, 28 नवंबर 2022। देहरादून के पटेल नगर में के चंद्रमणि चौक पर सोमवार को एक अनियंत्रित हुए ट्रक ने सड़क किनारे कई मोटरसाइकिल सवारों को कुचल दिया। सड़क के किनारे एक दुकानदार भी चपेट में आया। बताया जा रहा है कि ट्रक के ब्रेक हो गए थे।  हादसे में एक की मौत हुई और तीन लोग घायल हुए हैं। उन्‍हेंं 108 के जरिए अस्‍पताल ले जाया गया है। यह भी पढ़ें : शादियों के साइड इफेक्ट : बारात में आए युवक की लड़की भगाने के शक में धुना, पुलिस को सोंपा…

Imageप्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह लगभग साढ़े 11 बजे देहरादून के चंद्रमणि चौक पर ट्रक के ब्रेक फेल होने के कारण काफी दूर से हॉर्न बजाते हुए आ रहा था, लेकिन यहां पहुँचकर वह अनियंत्रित हो गया। उसने चंद्रमणि चौक पर तीन मोटरसाइकिल सवारों और एक सड़क किनारे के दुकानदार को कुचल दिया। यह भी पढ़ें : नैनीताल: पेड़ पर लटका मिला 34 वर्षय व्यक्ति का शव

Imageबताया जा रहा है कि कई लोग ट्रक के नीचे दब गए हैं। बताया जा रहा है कि सूचना देने के काफी देर बाद पुलिस मौके पर पहुंची। घटना के बाद सड़क पर लंबा जाम लग गया। पुलिस स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को ट्रक के नीचे से निकाल रही है।

पटेलनगर कोतवाली के इंस्पेक्टर सूर्यभूषण नेगी ने बताया कि एक ट्रक जो कि सहारनपुर की तरफ से आ रहा था, चंद्रबनी के निकट ट्रक बेकाबू होकर सड़क के किनारे अवैध रूप से बनी झोपड़ियों में घुस गया। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : रात्रि में नाले में गिरा व्यक्ति, पता न चलता तो…

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 नवंबर 2022। जिला मुख्यालय में गुरुवार देर रात्रि अधेड़ उम्र का एक व्यक्ति इंडिया व एवरिस्ट होटल के बीच के नाले में ओंधे मुंह गिर गया। गिरने से उसके सिर में चोट आई। गनीमत रही कि कुछ लोगों ने उसे देख लिया और तल्लीताल थाना पुलिस को सूचना दे दी। यह भी पढ़ें : Big Breaking : उत्तराखंड विधानसभा के बर्खास्त कर्मचारियों पर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, एकलपीठ के आदेश को किया निरस्त

इस पर थाने के चीता मोबाइल प्रभारी शिवराज राणा ने मौके तक आते-आते 108 एंबुलेंस को बुला लिया और स्थानीय लोगों की मदद से तुरंत उसे नाले से निकालकर बीडी पांडे जिला चिकित्सालय भेज दिया। यह भी पढ़ें : महिला अधिवक्ता से साथी अधिवक्ता ने किया ब्लैकमेल कर दुष्कर्म देखें वीडियो:

बताया गया कि संबंधित व्यक्ति नशे में भी लग रहा था। संभवतया इसी कारण वह नाले में गिरा होगा। यदि उसे रात्रि में कोई नाले में न गिरता, तो संभवतया रात भर वह वहीं पड़े रहता और कोई अनहोनी भी हो सकती थी। चीता मोबाइल प्रभारी ने उपस्थित लोगों से कहा कि ऐसी स्थिति में सबसे पहले एंबुलेंस को ही सूचना देनी चाहिए। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : चलते वाहन पर गिरा विशाल बोल्डर, चालक-परिचालक की मौके पर ही दर्दनाक मौत

पिथौरागढ़ में पहाड़ी से कैंटर पर गिरा भारी भरकम बोल्डर, चालक और क्लीनर की  मौत;वाहन से निकलने का भी न मिला मौका - In Pithoragarh a huge boulder fell  from the hillनवीन समाचार, पिथौरागढ़, 23 नवंबर 2022। पिथौरागढ़ जिले की सीमांत धारचूला तहसील में राष्ट्रीय राजमार्ग पर पहाडी से बिन बारिश के गिरे बोल्डर की चपेट में आने से एक मिनी ट्रक चालक और उसके सहकर्मी की दर्दनाक मौेत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा भरकर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। परिजनों को दुर्घटना की सूचना दे दी गई है। दुर्घटना के बाद नेशनल हाईवे पर लंबा जाम भी लग गया। यह भी पढ़ें : उत्तराखंड ब्रेकिंग: कल की छुट्टी पर आया बड़ा अपडेट

प्राप्त जानकारी के अनुसार धारचूला से पिथौरागढ़ की ओर वापस लौट रहे मिनी ट्रक पर अपराह्न करीब चार बजे तहसील मुख्यालय से लगभग सात किमी दूर कालिका के घौचा नामक स्थान पर अचानक पहाड़ी से विशाल बोल्डर आ गिरा, और मिनी ट्रक के केबिन को तोड़ते हुए चालक और परिचालक के ऊपर जा गिरा। इससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। यह भी पढ़ें : पति को बांधकर विवाहिता के साथ चार युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, नाबालिग भतीजी के साथ भी की छेड़छाड़

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे और बोल्डर को हटाकर दोनों मृतकों के शव बाहर निकाले। उनकी जेब से मिले पहचान पत्र के आधार पर उनकी पहचान 30 वर्षीय चालक अमित खर्कवाल पुत्र धर्मानंद खर्कवाल निवासी ग्राम खर्क चंपावत और 21 वर्षीय परिचालक दीपक पाठक पुत्र प्रकाश पाठक निवासी दशौली पिथौरागढ़ के रूप में हुई। यह भी पढ़ें : डॉ. साह के असामयिक निधन से चिकित्साजगत में शोक की लहर….

दोनों के शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए धारचूला सामुदायिक स्वास्थ केंद्र भेजा गया है। उनके परिजनों को घटना की सूचना दे दी गई है। परिजनों के देर रात तक धारचूला पहुंचने की उम्मीद है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : भूकंप के झटके के बीच खुद को बचाने के लिए छत से कूदी युवती…

प्रतीकात्मक चित्र नवीन समाचार, रुद्रपुर, 9 नवंबर 2022। लोग परेशानी के समय उस परेशानी से होने वाली परेशानी से बड़ी परेशानी की ओर भागने लगते हैं। ऐसा ही कुछ एक लड़की ने किया। मंगलवार की देर रात आए भूकंप के तीव्र झटके के दौरान आदर्श इंदिरा बंगाली कॉलोनी में एक युवती जान बचाने की खातिर छत से कूद गई और गंभीर रूप से घायल हो गई। उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह भी पढ़ें : बदलता दौर: हद है, लड़की ने लड़के द्वारा दिया लहंगा पसंद न आने पर कर दिया शादी से इंकार !

बताया गया है कि मंगलवार रात्रि आए भूकंप के झटकों के दौरान लोग जान बचाने के लिए घरों से बाहर निकलकर खुले मैदान में आ गए और फोन कर सगे संबंधियों से घर से बाहर आने की अपील भी करने लगे और करीब एक घंटे तक डर के कारण घरों में अंदर वापस नहीं गए। इस दौरान रात्रि एक बजकर 58 मिनट पर अचानक मकान हिलने लगे। घर में रखे सामान, पंखे, बेड, दरवाजे और खिड़कियों के हिलने से लोगों की नींद टूटी तो उन्हें भूकंप का आभास हुआ। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : हाथ में फटा पटाखा, महंगे उपचार के बाद भी काटना पड़ गया हाथ

जलने बाद तुरंत करें ये काम न होगा दर्द और न पड़ेंगे निशान -  try-these-tips-to-remove-scars-on-burned-skin - Nari Punjab Kesariनवीन समाचार, बाजपुर, 27 अक्तूबर 2022। दीपावली पर पटाखे फोड़ने के दौरान बरती गई लापरवाही भारी पड़ जाती है। ऊधम सिंह नगर के बाजपुर में भी यही हुआ। यहां दीपावली के दिन एक परिवार के एक बालक को इस त्यौहार पर अपना हाथ खोना पड़ गया। इससे यह त्यौहार इस परिवार के लिए जीवन भर के दुख का कारण बन गया है। यह भी पढ़ें : पुलिस ने ब्यूटी पार्लर में सेक्स रैकेट चलने की सूचना पर मारा छापा, माजरा निकला कुछ और फिर हंगामे के बाद हुआ मामले का सुखद पटाक्षेप…

बताया गया है कि दीपावली की रात पटाखा फोड़ने के दौरान बाजपुर के वार्ड नंबर 1 मझरा प्रभु निवासी पवन पाल पुत्र सील चंद्र दीपावली की रात करीब 9 बजे अपने घर की छत पर अपने दोस्त के साथ पटाखे फोड़ रहा था। इस दौरान एक पटाखा पवन के हाथ में ही फट गया। यह भी पढ़ें : शादी के बाद भी मिलते रहे प्रेमी-प्रेमिका, आज मिले तो रंगे हाथों पकड़े गए और हो गया तमाशा…

इससे उसका हाथ बुरी तरह से फूल गया और बड़े निजी चिकित्सालय में महंगे उपचार के बाद भी कोई लाभ नहीं हुआ और पवन का हाथ कलाई के पास से काटना पड़ गया है। इस घटना से जहां पवन जीवन भर के लिए अपना हाथ खो चुका है, वहीं उसके परिवार के लिए भी खुशियों का यह पर्व दुखों में बदल गया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग : पुल से गिरे दूसरे व्यक्ति की भी हुई मौत…

एसपी अमित श्रीवास्तव ने कहा कि घटना की जांच की जा रही है।

नवीन समाचार, बागेश्वर, 25 अक्तूबर 2022। बागेश्वर-आरे बाईपास में सरयू नदी पर बने पुल की पुताई करने के दौरान गिरे दूसरे पेंटर की भी मंगलवार को मौत हो गई। जिला चिकित्सालय से हायर सेंटर ले जाते समय अल्मोड़ा के समीप उसने भी दम तोड़ दिया। यह भी पढ़ें : दीपावली के दिन दुर्घटना, माता-पिता के बाद अभी-अभी 6 वर्षीय बच्चे की भी मौत….

मालूम हो कि बागेश्वर-आरे बाईपास में सरयू नदी पर बने मोटर पुल में पुताई करते हुए सोमवार शाम को अचानक पाइप खिसकने से पेंट कर रहे अमरोहा उत्तर प्रदेश निवासी दो पेंटर शाहनवाज अहमद पुत्र अब्दुल सत्तार उम्र 40 साल और मोहम्मद अकरम पुत्र मोहम्मद नबी उम्र 55 साल सरयू नदी में गिर कर गंभीर रूप से घायल हो गए थे। यह भी पढ़ें : नैनीताल: दिवाली पर दुकान बढ़ाते अचानक गिरा व्यवसायी, मौत

मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया। गंभीर रूप से घायल मोहम्मद अकरम ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। वहीं दूसरे घायल शाहनवाज को हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया था, लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही उसकी भी मौत हो गई। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : पति से झगड़ा होने पर चलती बाइक से डेढ़ वर्ष के बच्चे के साथ कूदी महिला..दो युवक नदी में गिरे, एक की मौत दूसरा, दूसरा भी गंभीर

नवीन समाचार, बागेश्वर, 24 अक्तूबर 2022। जनपद में दीपोत्सव के दिन एक दर्दनाक घटना हो गयी। यहां सरयू नदी के पुल की पेंटिंग कर रहे दो युवक नदी में जा गिरे। इनमें से एक युवक की मौत हो गई, जबकि दूसरा भी गंभीर रूप से घायल है। यह भी पढ़ें : झील में डूबा 33 वर्षीय युवक, दो दिन बाद एसडीआरएफ ने किया शव बरामद

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार बागेश्वर-कपकोट मोटर मार्ग पर स्थित आरे बाईपास में सरयू नदी पर बने मोटर पुल में सोमवार को वर्तमान में नगर के दुग बाजार इलाके में रह रहे मूलतः अमरोहा उत्तर प्रदेश निवासी शाहनवाज अहमद पुत्र अब्दुल सत्तार और मोहम्मद अकरम पुत्र मोहम्मद नबी के द्वारा पेंटिंग का कार्य किया जा रहा था। इस दौरान पेंटिंग के दौरान बांधा गया पाइप अचानक खिसक गया और पेंटिंग कर रहे दोनों युवकों का संतुलन बिगड़ गया और वे सरयू नदी में जा गिरे। यह भी पढ़ें : शादी के एक सप्ताह बाद ही पत्नी पर अन्य से संबंध बनाने का दबाव बनाने लगा था पति, न मानी तो दे दिया तीन तलाक !

दुर्घटना की सूचना के बाद हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां गंभीर रूप से घायल मोहम्मद अकरम की उपचार के दौरान मौत हो गई है। जबकि दूसरा घायल जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है। उसकी भी हालत गंभीर बताई जा रही है। एसपी अमित श्रीवास्तव ने कहा कि घटना की जांच की जा रही है। दुर्घटना कैसे हुई इसका पता लगाया जा रहा है। जांच के बाद ही पुलिस आगे कोई कार्रवाई करेगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : केदारनाथ में बड़ा हादसा, हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, पायटट सहित सभी 7 यात्रियों की मौत

Imageनवीन समाचार, देहरादून, 18 अक्तूबर 2022। उत्तराखंड में मंगलवार काला मंगलवार साबित हुआ। राज्य में सुबह केदारनाथ में एक हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया है। दुर्घटना में पायलट सहित सात लोगों की मौत हो गई है। दुर्घटना का कारण खराब मौसम को बताया जा रहा है। यहां हो रही बारिश और बर्फबारी के बीच रेस्क्यू कार्य किया जा रहा है। यह भी पढ़ें : अंकिता हत्याकांड में एक नई अपडेट: अंकिता की स्वैप डीएनए जांच की फॉरेंसिक रिपोर्ट आई…देखें विडियो :

Imageराष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया व मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी इस दुर्घटना पर दुख जताया है। अगले आदेश तक केदारनाथ में हेली सेवाओं पर रोक लगा दी गई है। दुर्घटना की जांच डीजीसीए और केंद्र को सोंपी गई है। यह भी पढ़ें : अवमानना याचिका की तलवार लटकने के बाद फिर शुरू हुआ प्रशासन व फड़ वालों के बीच चूहे-बिल्ली का खेल

बताया गया है कि दुर्घटना मंगलवार सुबह 11 बजकर 40 मिनट पर गरुड़चट्टी के पास हुई। बताया जा रहा है कि हेलिकॉप्टर आर्यन एवियशन हेली कंपनी का था। हेलीकॉप्टर ने केदारनाथ बेस कैंप से नारायण कोटी-गुप्तकाशी के लिए उड़ान भरी थी। हेलीकॉप्टर में पायलट सहित सात लोग सवार थे। हेलीकॉप्टर दुर्घटना केदारनाथ से लगभग 3 किलोमीटर दूरी पर नंदी के पास हुई है। यह भी पढ़ें : बागेश्वर के सद्भाव ने तीसरी बार जीती 5वीं लिटिल मास्टर चेस चैंपियनशिप

बताया जा रहा है कि केदारनाथ में घना कोहरा लगा हुआ है। कोहरे के कारण दृश्यता कम होने पर हेलीकॉप्टर पहाड़ी से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। दुर्घटना में पायलट सहित सभी सात सवारों की मौत हो गई है। यह भी पढ़ें : हाईकोर्ट के ब्रीफ होल्डरों व चतुर्थ श्रेणी कर्मियों से भी कम है जिला कोर्ट के सरकारी अधिवक्ताओं का मानदेय

मृतकों में तीन यात्री गुजरात, एक कर्नाटक, एक तमिलनाडु और एक झारखंड का है। पायलट मुंबई के रहने वाले हैं। मृतकों की पहचान पायलट कैप्टन अनिल सिंह, पूर्वा रामानुज, क्रुति, उर्वी, सुजाथा, प्रेम कुमार व कला रमेश के रूप में हुई है। हादसे के दो घंटे बाद भी मलबे से आग की लपटें उठती रहीं। बचाव टीम ने सभी सातों मृतकों के शवों को बरामद कर लिया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल ब्रेकिंग : रात्रि में खाई में गिरा युवक, सुबह पता चलने पर बचाया, पर हुई मौत

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 अक्तूबर 2022। बीती शाम नगर के निकट मनोरा गांव निवासी एक व्यक्ति पैदल घर वापस लौटते हुए खाई में गिर गया। सुबह उसके खाई में गिरने की जानकारी लगने पर एसडीआरएफ, अग्निशमन बल व तल्लीताल पुलिस के जवानों ने उसे खाई से सुरक्षित बाहर निकालकर बीडी पांडे जिला चिकित्सालय पहुंचाया, जहां उपचार के दौरान घायल युवक ने दम तोड़ दिया। देखें बचाव का वीडियो:

शनिवार सुबह मंदिर जाने वाले लोगों ने खाई में पड़े व्यक्ति को देखा तो पुलिस को सूचना दी। लगभग 7.25 बजे फायर स्टेशन नैनीताल के कंट्रोल रूम को सूचना मिली कि हल्द्वानी रोड़ पर कोई व्यक्ति खाई मे गिर गया है। शीघ्र ही फायर सर्विस का बचाव दल घटना स्थल पर पहुँचा और हल्द्वानी रोड़ पर तीन मूर्ति के पास तीक्ष्ण ढलान वाली पहाड़ी पर करीब 20-25 मीटर की गहराई में एक व्यक्ति को घायल व बेहोशी की अवस्था में पड़ा देखा। बिना देरी करते हुए अग्निशमन कर्मियों व एसडीआरएफ के जवानों ने बमुश्किल खाई में उतरकर घायल व्यक्ति को स्ट्रेचर व रस्सियों के सहारे कड़ी मशक्कत कर सड़क तक लाकर 108 आपातकालीन एंबुलेंस की मदद से बीडी पांडे जिला चिकित्सालय पहुंचाया। बचाव दल में लीडिंग फायर मैन मखन सिंह व राजेंद्र सिंह तथा फायरमैन मोहम्मद उमर, मोहम्मद सलीम, मनोज कुमार व शैलेन्द्र सिंह शामिल रहे। यह भी पढ़ें : युवा हैं, और नौकरी चाहिए तो नैनीताल बैंक में करें आवेदन…

अलबत्ता, बीडी पांडे जिला चिकित्सालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार घायल युवक बेहोशी की स्थिति में था। जिला चिकित्सालय की ईएमओ डॉ मेहल रतन ने बताया कि उसकी नब्ज भी हल्की चल रही थी। उसे बचाने के पूरे प्रयास किए गए, किंतु चिकित्सालय पहुंचने के करीब आधे घंटे बाद युवक ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। समाचार लिखे जाने तक युवक के परिजन अस्पताल नहीं पहुंचे हैं। इसलिए उसकी ठीक से पहचान नहीं हो पाई है। यह भी पढ़ें : आक्रोशित करने वाली वारदात: उत्तराखंड के युवक की हरियाणा में हैवानियत के बाद …

अलबत्ता अपुष्ट जानकारी के अनुसार युवक की पहचान लगभग 40 वर्षीय पारस पंत निवासी मनोरा गांव के रूप में हुई है। बताया गया है कि वह नगर में प्लंबर के रूप में काम करता था। शुक्रवार शाम को वह रोज की तरह पैदल घर के लिए निकला था। तभी संभवतया वह खाई में गिर गया होगा। बताया गया है कि मृतक अविवाहित था। उसके घर में केवल एक बड़ा भाई है। पुलिस ने उसे सूचना दे दी है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : सीएम धामी के आगमन से ठीक पहले वाहन की टक्कर से पलटी कार, फिर दिखी नैनीताल वासियों की ‘संघे शक्तिः’

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 6 अक्तूबर 2022। नगर में मुख्यमंत्री धामी के आगमन से ठीक पहले मुख्यमंत्री के कार्यक्रम स्थल के पास ही एक वाहन की टक्कर के बाद एक कार पलट गई। इससे कुछ देर के लिए मौके पर अफरातफरी मच गई। इस बीच टक्कर मारने वाले वाहन का चालक अपने वाहन को मौका देखकर भगा ले गया, जबकि स्थानीय लोगों ने एक पल में पलटे हुए वाहन को सड़क पर सीधा खड़ा कर दिया। इसका वीडियो भी सामने आया है, देखें वीडियोः

दुर्घटना में टक्कर मारने वाले वाहन का नंबर यूके04टीबी-1866 व पलटने वाली कार का नंबर यूके04एफ-5597 बताया जा रहा है। दुर्घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। दुर्घटना के बाद पलटे वाले वाहन को भी मौके से भेजकर पुलिस ने भी राहत की सांस ली। कोतवाली पुलिस की ओर से बताया गया है कि बाद में दोनों वाहन चालकों में दुर्घटना से हुए नुकसान को लेकर समझौता हो गया। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : रुद्रपुर में पखवाड़े भर के भीतर फिर जहरीली गैस कांड, 5-5 सौ रुपए के लिए 6 लोग आए चपेट में

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 11 सितंबर 2022। जिला मुख्यालय में पखवाड़े भर पूर्व ट्रांजिट कैंप क्षेत्र में जहरीली गैस के रिसाव से आम लोगों के साथ ही कई पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के भी चपेट में आने की घटना के बाद एक बार फिर जहरीली गैस की चपेट में आकर छह मजदूर घायल हो गए।

बताया गया है कि सिडकुल की एमएमटी यानी मेटलमैन माइक्रो टर्नर्स फैक्ट्री में केवल 500 रुपए के लिए गंदे पानी का टैंक साफ करने के दौरान छह मजदूर गैस की चपेट में आकर बेहोश हो गए। आनन-फानन में गंभीर हालत में तीन लोगों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनके अलावा तीन अन्य लोग भी गैस की चपेट में आए हैं। अलबत्ता, उनकी हालत सामान्य बनी हुई है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार साफ-सफाई करने के ठेके लेने वाला ग्रीन पार्क निवासी प्रवीण रविवार को अपने साथ दिहाड़ी पर काम करने वाले प्रीत विहार निवासी प्रकाश, खेड़ा निवासी सुरेश, सचिन और रमेश व प्रीत विहार निवासी दिनेश को मजदूरी के लिए 500-500 रुपए की दिहाड़ी पर सिडकुल के सेक्टर 9 स्थित एमएमटी फैक्ट्री में मजदूरी कराने के लिए ले गया था। बताया जा रहा है कि जैसे ही खेड़ा निवासी सुरेश बिना सुरक्षा उपकरण के थिनर के टैंक की सफाई करने के लिए उतरा तो गैस लीक होने के कारण बेहोश हो गया और टैंक में गिर गया।

सुरेश को बेहोश होता देख सचिन और रमेश ने शोर मचाते हुए उसे बचाने का प्रयास किया। लेकिन इस कोशिश में वे भी बेहोश हो गए। शोर होने पर फैक्ट्री के तीन कर्मचारियों ने उन्हें जैसे-तैसे बाहर निकाला तो तीनों कर्मचारी भी गैस की चपेट में आ गए। बेहोश हुए सुरेश, सचिन और रमेश को किच्छा रोड स्थित निजी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया। जहां एक की हालत गंभीर बनी हुई है। जबकि ठेकेदार प्रवीण और दिनेश को काशीपुर रोड स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सीओ पंतनगर तपेश कुमार ने बताया कि गैस की चपेट में आकर छह मजदूर बेहोश हुए थे। तीन की हालत सामान्य है, जबकि तीन लोगों को उपचार के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जांच में फैक्ट्री प्रबंधन की गलती निकली तो कार्रवाई की जाएगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : कबाड़ी के गोदाम से जहरीली गैस का रिसाव, एसएसपी-एसडीएम सहित 35 लोग आए चपेट में, 10 आईसीयू में

jagranनवीन समाचार, रुद्रपुर, 30 अगस्त 2022। उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले के मुख्यालय रुद्रपुर के ट्रांजिट कैंप के आजाद नगर-राजा कॉलोनी क्षेत्र में मंगलवार सुबह तड़के से जहरीली गैस का रिसाव हो गया। यह रिसाव एक कबाड़ी के गोदाम में रखे गैस सिलेंडर से हुआ है, जिसे कबाड़ी सुबह करीब 4 बजे काट रहा था। उसे दिक्कत हुई तो वह सिलेंडर पर कपड़ा डालकर भागा। लेकिन आसपास के अनेक लोग इसकी चपेट में आकर बेहोश हो गये। यहां तक कि सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे एसएसपी, किच्छा के एसडीएम भी इसकी चपेट में आ गए। कई चूहे व मुर्गियों आदि जीव-जंतुओं की इस कारण मौत होने की भी सूचना है, जबकि कई छोटे पौधे भी इस कारण मुरझा गए हैं।

बताया गया है कि इस मामले में अब तक एसएसपी, किच्छा के एसडीएम सहित करीब 35 लोग उल्टी व सांस लेने में दिक्कत होने से बीमार हो गए हैं। सभी को जवाहर लाल नेहरू जिला अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया है। इनमें से दस लोगों को आईसीयू में व अन्य को सामान्य वार्ड में रखा गया है। सभी को ऑक्सीजन सपोर्ट दिया गया है। इसके बाद सभी के स्वास्थ्य में सुधार होता बताया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार क्षेत्रीय लोगों को सोमवार देर रात से गैस रिसाव से लोगों को सांस लेने में थोड़ी दिक्कत हो रही थी, लेकिन लोगों ने इसे नजरअंदाज कर कमरे के दरवाजे अंदर से ठीक से बंद कर लिए। लेकिन मंगलवार सुबह जब लोगों ने उठकर दरवाजे खोले तो तेजी से जहरीली गैस का झोंका कमरे में आया तो लोगों को उल्टी व सांस लेने में दिक्कत होने लगी। इससे लोगों में हड़कंप मच गया। सूचना पर राहत पहुंचाने के लिए पहुंचे एसएसपी मंजूनाथ टीसी, एसडीएम किच्छा कौस्तुभ मिश्रा, सीएफओ वंश बहादुर यादव, सीओ यातायात आशीष भारद्वाज, एसडीआरएफ के प्रभारी बालम सिंह, जवान चंदन बिष्ट, प्रकाश मेहता, अग्निशमन कर्मी चंदन सिंह, सीओ के गनर गणेश, भुवन चंद्र सहित 35 लोगों की हालत बिगड़ने लगी।

इस पर उन्हें जिला अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया। एसडीआरएफ ने कबाड़ी के गोदाम में रखे सिलिंडर को निकालकर दूर रखवा दिया है। एडीएम डॉ. ललित नारायण मिश्र ने बताया कि कौन सी गैस का रिसाव हुआ है, इसकी जांच की जा रही है। अस्पताल में भर्ती लोगों को बेहतर इलाज की व्यवस्था की गई है। लोगों के स्वास्थ्य में सुधार है। गैस से बेहोश हुए लोगों में रामवती, सीमा, शीतल, विशाल, बबली, देवी, लक्ष्मी, सचिन, सलोनी, स्वाति, विकास, पूनम, सोनी, मुकेश, शीला, ज्योत्सना, पंकज, जोगराज, राजवीर, अनीता, पुष्पा देवी, नितिन आदि शामिल हैं, सभी का जिला चिकित्सालय में उपचार कराया जा रहा है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : भाजयुमो के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष की रैली में हादसा, शशांक सहित कई युवा नेता झुलसे…

नवीन समाचार, देहरादून, 6 सितंबर 2022। बुधवार को राजधानी में भाजयुमो यानी भारतीय जनता युवा मोर्चा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष शशांक रावत की स्वागत रैली में हादसा हो गया। इस दौरान उनके स्वागत के दौरान हवा में छोड़ने के लिए लाए गए रंगबिरंगे गुब्बारों के गुच्छे में हवा में छोड़ने से पहले ही तब आग लग गई जब शशांक इसके सबसे अधिक करीब थे। हादसे में शशांक का चेहरा एक ओर से झुलस गया। उन्हें चिकित्सालय ले जाया गया, जहां उपचार के बाद उन्हें फिलहाल तो छुट्टी दे दी गई, लेकिन फिर से दिखाने को भी कहा गया।

हुआ यह कि महानगर युवा मोर्चा की ओर से निकाली गई बाइक रैली में शामिल होने के लिए जैसे ही शशांक रावत कार में चढ़े और गैस से भरे गुब्बारों के गुच्छे को हवा में छोड़ना चाह रहे थे, तभी किसी ने पास से चिंगारी वाली गन चना दी। इससे शशांक रावत के साथ ही महानगर अध्यक्ष अंशुल चावला सहित छह कार्यकर्ता झुलस गए। किसी का चेहरा तो किसी के हाथ जुलस गए। कुछ के बाल भी जल गए। शशांक का चेहरा बांयी तरफ से जल गया। सभी को कोरोनेशन अस्पताल में प्राथमिक उपचार देने के बाद घर भेजा गया। इसके बाद रैली नहीं भी स्थगित हो गई।

कोरोनेशन अस्पताल के डॉ. दीपक गहतोड़ी ने बताया कि सभी की हालत खतरे से बाहर है। प्रदेश अध्यक्ष शशांक रावत ज्यादा झुलसे थे। उनका चेहरा तरफ से जला है। इसलिए उनको कुछ देर परीक्षण में रखने के बाद छुट्टी दी गई। गुरुवार को दोबारा दिखाने की सलाह दी है। वहीं, अंशुल चावला का चेहरा, नवीन कुमार का दांया हाथ जला है। जबकि ऋषभ के चेहरे पर हल्की लाली आई है। सभी की हालत ठीक है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : भारी पड़ी गाड़ी सिखाने की जिद, सीखने वाले ने कार खाई में गिराई, सिखाने वाले की मौत

In Shravasti Married Woman Found Dead In House Under Suspicious  Circumstances Accused Of Dowry Murderनवीन समाचार, हल्द्वानी, 1 सितंबर 2022। गाड़ी सीखने की जिद ने एक युवक की जान चली गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार थुवा ब्लॉक ताड़ीखेत भवाली निवासी पंकज कुमार (26) पुत्र भूपाल राम पेशे से वाहन चालक है। घर में पिता के अलावा मां हीरा देवी, एक छोटा भाई व तीन बहनें हैं।

पंकज के चाचा हरीश चंद्र ने बताया कि गांव में रहने वाले प्रकाश चंद्र को सेकेंड हैंड चार पहिया गाड़ी का सौदा करना था। सौदा होने पर वह गाड़ी घर लाने के लिए बीती 25 अगस्त को पंकज को अपने साथ ले गए। प्रकाश चंद्र के साथ उनका बेटा सुनील कुमार भी था।

रात आधे रास्ते तक गाड़ी पंकज लाया। इसके बाद सुनील गाड़ी चलाने की जिद करने लगा। जब वह नहीं माना तो मजबूरन गाड़ी सुनील को सौंप दी और कुछ ही दूर बाद गाड़ी करीब ढाई सौ मीटर नीचे खाई में गिर गई। तीनों घायल हो गए। ग्रामीण और पुलिस की मदद से घायलों को गरमपानी स्थित सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया। मामूली चोटें होने पर पिता-पुत्र को छुट्टी दे गई। जबकि हालत नाजुक होने पर पंकज को एसटीएच रेफर कर दिया गया। जहां मंगलवार देर रात उसकी मौत हो गई। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 15 वर्षीय बच्चे की सेल्फी लेते हुए दुःखद मौत

Student Slipped While Taking Selfie, Died. - सेल्फी का शौक जिंदगी पर पड़ा  भारी, पहाड़ी से गिरकर छात्र की मौत - Amar Ujala Hindi News Liveनवीन समाचार, उत्तरकाशी, 23 अगस्त 2022। सेल्फी लेते हुए कई लोगों की जान जा चुकी है, लेकिन लोग अब भी इस दौरान अपेक्षित सावधानी नहीं बरत रहे हैं। मंगलवार सुबह उत्तरकाशी के जोशियाड़ा बैराज के पास सेल्फी लेते वक्त एक 15 वर्षीय किशोर पैर फिसलने से भागीरथी नदी में जा गिरा। वहां मौजूद कुछ लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी और डूबते बच्चे को रेस्क्यू कर बाहर निकाला। बेहोशी की हालत में उसे जिला अस्पताल में उपचार के लिए ले जाया गया, लेकिन यहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

उत्तरकाशी कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार डुंडा ब्लॉक के धनारी फोल्ड स्थित बमणगांव का रहने वाला 15 वर्षीय मनीष उनियाल पुत्र दुर्गा प्रसाद मंगलवार की सुबह जोशियाड़ा बैराज के पास घूमने गया था। इसी दौरान बैराज क्षेत्र में सेल्फी लेते वक्त उसका पैर फिसल गया और वह भागीरथी नदी में जा गिरा। इस पर उसे बचाया न जा सका।

बताया गया है कि मनीष स्थानीय गणेश दत्त विद्या मंदिर इंटर कॉलेज उत्तरकाशी में पढ़ता था। पुलिस ने परिजनों को घटना की सूचना दे दी है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : 24 वर्षीय मां व उसकी एक वर्षीय बच्ची की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

-दही बिलोकर छांझ व मक्खन, घी बेचने का काम करती थी महिला
नवीन समाचार, चमोली, 13 अगस्त 2022। उत्तराखंड के चमोली जिले से दुःखद समाचार है। जनपद के पोखरी विकास खंड के ग्राम पंचायत गोदी गिंवाला में एक महिला और उसकी एक साल की बच्ची की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। दोनों के शरीर घर में आसपास पड़े मिले। उन्हें बचाने की कोशिश में अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि दोनों की मौत दही बिलोने की बिजली की मशीन से बिजली का करंट लगने की वजह से हुई है।

ग्राम प्रधान पूनम देवी और पूर्व प्रधान युद्धवीर सिंह नेगी ने बताया कि ग्राम पंचायत गोदी गिंवाला निवासी 24 वर्षीया विद्या देवी पत्नी प्रवीण सिंह रावत गांव में अपनी एक साल की बेटी अदिति तथा सास व ससुर विद्या देवी सास और ससुर के साथ रहती थी जबकि उसका पति दिल्ली में नौकरी करता है। वह घर में ही दूध, दही से छांछ, मक्खन व घी बनाकर बेचने का काम करती थी।

उन्होंने बताया कि शुक्रवार सुबह गांव का एक व्यक्ति विद्या देवी के घर छांछ लेने पहुंचा तो वहां मां-बेटी अचेत पड़ी थी और पास में छाछ निकालने वाली इलेक्ट्रॉनिक मशीन चल रही थी। ग्रामीण ने आशंका जताई कि मां-बेटी की यह हालत मशीन से करंट लगने से हुई होगी। ग्रामीण ने घटना की जानकारी गांव के अन्य लोगों को दी। घटना के समय महिला की ससुर कुंवर सिंह व सास गांव से कुछ दूर गौशाला गए हुए थे। महिला व बच्ची घर में अकेले ही थी। ग्रामीण व परिजन उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाने लगे लेकिन रास्ते में दोनों की मौत हो गई।

ग्राम प्रधान पूनम देवी ने बताया कि विद्या देवी के मायके वालों को घटना की सूचना दे दी गई है। साथ ही राजस्व पुलिस को भी ग्रामीणों ने इसकी सूचना दे दी है। घटना के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है। सूचना पर महिला के मायके सलना डांडा चंद्रनगर से उसकी मां शिवदेई और पिता शंकर सिंह रावत भी गांव पहुंचे। उन्होंने अपनी बेटी व नवासी की मौत का कारण करंट को ही माना और उनकी मौत के लिए किसी पर शक नहीं जताया इसके बाद महिला व बच्ची का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : नाबालिग से दुष्कर्म के ‘जिला बदर’ आरोपित की चोरी के प्रयास में छत से गिरकर मौत

भेंस की वजह से गई मालिक की जान, सांप के काटने से 7वीं कक्षा की छात्रा की मौत  — नवीन समाचार : समाचार नवीन दृष्टिकोण से….नवीन समाचार, रुद्रपुर, 27 जुलाई 2022। शहर में छत के रास्ते एक घर में चोरी करने गए एक नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपित की छत से गिरकर मौत हो गई। घटना मंगलवार की रात्रि करीब 3 बजे की बताई गई है। आरोप है कि मृतक घर में चोरी के लिए घुसा। उसके घुसने की आहट पर लोग जगे तो वह हड़बड़ा कर भागने लगा। भागने के दौरान ही वह छत से गिर गया। मृतक पर उत्तर प्रदेश में नाबालिग से दुष्कर्म करने के आरोप में पॉक्सो अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज है। साथ ही उसके खिलाफ जिला बदर की भी कार्रवाई हो चुकी है। इस कारण ही वह रुद्रपुर में आकर रहने लगा था।

बताया गया है कि मृतक 20 वर्षीय मो. इस्लाम उर्फ गुड्डू पुत्र मंजूर हसन निवासी टेहरी ख्वाजा थाना खजुरिया जनपद रामपुर उत्तर प्रदेश का निवासी था। मंगगलवार की रात तीन बजे वह चोरी के इरादे से नई बस्ती खेड़ा में किराए पर रहने वाला राशिद पुत्र नजाकत अली निवासी नौगजा थाना स्वार जनपद रामपुर के घर में घुसा था। घर में किसी के घुसने की भनक राशिद की पत्नी को लगी तो उसने लपककर चोर का हाथ पकड़ लिया। इस पर चोर हड़बड़ी में हाथ छुड़ा कर भागने लगा और भागते समय छत से पैर फिसल जाने के कारण गिरकर मर गया।

डायल 112 पर मिली सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। सूचना पर मृतक का भाई मो. इमरान भी वहां पहुंच गया। यह भी बताया गया है मृतक सिडकुल की डॉलफिन फैक्ट्री में काम भी करता था। उसके खिलाफ रामपुर जिले में में पॉक्सो अधिनियम के तहत दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज है। रम्पुरा चौकी प्रभारी अम्बी राम आर्य ने बताया कि रामपुर पुलिस से संपर्क कर उसका आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : भेंस की वजह से गई मालिक की जान, सांप के काटने से 7वीं कक्षा की छात्रा की मौत

जंगली भैंसा - विकिपीडियानवीन समाचार, हल्द्वानी, 11 जुलाई 2022। कालाढूंगी थाना क्षेत्र के कमोला में मंगलवार को हुई एक दुर्घटना में भैंस बांध रहे अधेड़ व्यक्ति की मौत हो गई। उधर चोरगलिया थाना क्षेत्र में एक 16 वर्षीय 7वीं कक्षा की छात्रा की संाप के काटने से मौत हो गई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कमोला निवासी 50 वर्षीय जगत सिंह पुत्र विजय सिंह गांव में रहकर ही खेती बाड़ी करते थे। मंगलवार की सुबह वह रोजाना की तरह अपने मवेशियों को गौशाला के बाहर बांध रहे थे। इस बीच भैंस दौड़ पड़ी, और भेंस की रस्सी जगत सिंह के हाथ में फंसी रह गई। इस कारण वह भैंस के साथ घिसटते हुए चले गए। जब तक परिवार जन उनकी चीख सुनकर उन्हें बचाने पहुंचते तब तक वह काफी लहूलुहान हो चुके थे। फिर भी परिजन उन्हें उपचार के लिए सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय हल्द्वानी लाए, यहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। चिकित्सकों के अनुसार सिर में चोट लगने से उनकी मौत हुई।

उधर चोरगलिया निवासी नरसिंह बर्गली की पुत्री टीना सुबह घर के पास ही नहर में पानी भर रही थी। इसी दौरान सांप ने उसके पैर में काट लिया। इससे उसका अंगूठा काला पड़ गया। परिजन उसे बचाने की कोशिश में एसटीएच लाए, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के सुपुत्र कर दिया है। बताया गया है कि वन विभाग की ओर से उसके परिजनों को मुआवजा देने की कार्यवाही की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : बेहद दुःखद: शपथ ग्रहण के लिए जा रहे नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान की कार पर गिरा पत्थर, मौत, 2 महिलाओं सहित 3 अन्य भी घायल

नवीन समाचार, टिहरी गढ़वाल, 6 जुलाई 2022। उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल जिले से दुःखद समाचार है। यहां शपथ ग्रहण से पूर्व ही एक नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान की कार पर पहाड़ी से पत्थर गिर गया। पत्थर की चपेट में आने से ग्राम प्रधान की शपथ लेने से पूर्व ही मौत हो गई। जबकि 2 महिलाओं सहित 3 अन्य लोग भी घायल हुए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार को अगलाड़ थत्यूड़ मोटर मार्ग पर करखेत के पास पहाड़ी से पत्थर आने से उसके नीचे एक कार दब गई। दुर्घटना में कार में सवार एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई। मृतक की पहचान नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान प्रताप धीमान के रूप में हुई। बताया गया है कि मृतक टटोर गांव के प्रधान पद का उपचुनाव जीत कर शपथ ग्रहण के लिए थत्यूड़ गांव जा रहे थे। दुर्घटना में चालक अर्जुन सिंह तथा नीतू और एक अन्य महिला घायल हो गई। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : नैनीताल: कॉलेज की 25 फिर ऊंची छत से गिरा 25 वर्षीय युवक

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 1 जुलाई 2022। नगर के डीएसबी परिसर में शुक्रवार को एक 25 वर्षीय युवक करीब 25 फिट ऊंची छत से गिर पड़ा। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे उपचार के लिए बीडी पांडे जिला चिकित्सालय लाया गया और यहां से प्राथमिक उपचार के उपरांत सिर में चोट लगने की संभावना एवं गंभीर स्थिति को देखते हुए हल्द्वानी रेफर कर दिया गया।

जिला चिकित्सालय में घायल ठेकेदार के उपचार में जुटे चिकित्सा कर्मी।

छत से गिरे युवक की पहचान हल्द्वानी निवासी ठेकेदार यूनुस के रूप में हुई है। बताया गया है कि वह यहां रूसा के तहत चित्रकला विभाग के भवन की छत पर कार्य को देखने के लिए चढ़ा था। तभी पैर फिसलने से अनियंत्रित होकर छत से नीचे गिर गया, और गंभीर रूप से घायल हो गया।

मौके पर मौजूद लोगों ने उसे बीडी पांडे जिला चिकित्सालय पहुंचाया। जिला जिला चिकित्सालय डॉ. नेहल ने उसका उपचार किया। उसके सिर में टांके लगाए गए। बताया गया कि सिर में चोट आने के कारण उसकी हालत गंभीर है। इस कारण उसे हायर सेंटर रेफर किया गया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : भयावह हादसा: एडवेंचर पार्क में रोमांच के चक्कर में महिला की चोटी फन कार की चेन में फंसी

-चोटी सहित सिर की पूरी चमड़ी उखड़ गई, गर्दन की हड्डी भी टूट गई, सिर में करीब 20 टांके आए, एम्स दिल्ली ले जाई गई

Alizz पंजा चोटी बाल तत्काल चोटी (काला) ), फैशन महिलाओं सिंथेटिक बाल  कॉस्प्ले लंबे घुंघराले लहरदार नहीं बैंग्स प्राकृतिक काले Wigs कॉस्टयूम ...
प्रतीकात्मक तस्वीर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 23 जून 2022। मुख्यालय के निकट चारखेत स्थित एडवेंचर पार्क में एक महिला पर्यटक की चोटी रोमांच के चक्कर में ‘फन कार’ की चेन में फंस गई। इससे महिला कार से नीचे गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गई। उसके सिर की चमड़ी बालों सहित उखड़ गई, साथ ही उसके गर्दन की हड्डी भी टूट गई। उसे बीडी पांडे जिला चिकित्सालय लाया गया और यहां से प्राथमिक उपचार के बाद हल्द्वानी रेफर किया। बताया जा रहा है, वहां से भी परिजन महिला को उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए दिल्ली एम्स ले गए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यालय से करीब 8 किलोमीटर दूर कालाढुंगी मार्ग पर स्थित एडवेंचर पार्क में बाबा नीब करौरी धाम कॉलोनी आगरा रोड अलीगढ़ निवासी 31 वर्षीय राधिका वर्मा अपने परिवार के साथ बीती देर शाम ‘फन कार’ की सवारी कर रही थी। इसी बीच अचानक उनकी चोटी कार की चेन में फंस गई। तेज झटके के साथ उसके बालों के साथ सिर की चमड़ी उतर गई, और वह कार से नीचे आ गिरी। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद कर्मचारियों ने उसकी चोटी काटकर उसे निजी वाहन से बीडी पांडे जिला चिकित्सालय पहुंचाया।

यहां उनका प्राथमिक उपचार करने वाले डॉ. हाशिम अंसारी ने बताया कि महिला की चोटी के साथ सिर की पूरी चमड़ी उखड़ गई थी, साथ ही गर्दन की एक हड्डी भी टूट गई थी। इस पर उसके सिर में 18 से 20 टांके लगाए गए। उसकी गर्दन के साथ कमर में भी फ्रेक्चर हुआ है। इस पर उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर किया गया। इस मामले में परिजनों ने फन पार्क के संचालकों पर सुरक्षा के प्रबंध न किए जाने का आरोप लगाए हैं। बताया गया है कि संचालकों के द्वारा नगर के सात नंबर क्षेत्र में भी एडवेंचर पार्क का संचालन किया जा रहा है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दुःखद हादसा: शादी के बाद ससुराल से पैदल लौटते दुल्हन खाई में गिरी, पति बचाने कूदा, दोनों की खाई में गिरने से मौत

नवीन समाचार, टिहरी, 22 मई 2022। जनपद के प्रतापनगर के दिजुला घाटी में रविवार को ससुराल से पैदल घर आ रहे नवविवाहित पति पत्नी की गहरी खाई में गिरने से मौत हो गई। बताया गया है कि नवविवाहिता का पैर फिसल गया, इससे वह खाई में गिर गई। उसे बचाने के लिए पति भी उसके पीछे कूद गया और दोनों ही करीब 500 मीटर गहरी खाई में गिर गए और दोनों की हादसे में दुःखद मौत हो गई।

दुल्हन के मायके ग्राम सिलारी के प्रधान सूरज रमोला से प्राप्त जानकारी के अनुसार दिचलि गाँव निवासी मोहन लाल की पिछले माह ही सिलारी गांव निवासी गुना देवी से शादी हुई थी। रविवार को मोहन अपनी पत्नी के साथ अपनी ससुराल सिलारी आया था और आज दोनों वापस अपने गाँव जा रहे थे। गाड़ी न मिलने के कारण मोहन ने अपने दोस्त को बाइक लेकर बुलाया और स्वयं पैदल ही पत्नी को लेकर घर की ओर चल पड़ा।

लेकिन ससुराल से लगभग 2-3 किमी आगे ही अचानक पत्नी गुना देवी का पैर फिसला और मोहन भी उसे बचाने के चक्कर में कूद पड़ा। जब दोस्त उनको लेने आया और उसे वह नहीं मिले तो ग्रामीणों ने उनकी खोजबीन की तो रास्ते में उनका बैग मिला। इस पर लोगों ने उनको खाई में ढूंढना शुरू किया तो दोनों लगभग 500 मीटर गहरी खाई में बेहोशी की हालत में मिले। उन्हें ग्रामीणों द्वारा सड़क पर लाया गया। 108 को फोन कर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार देने के बाद उन्हें हायर सेंटर रेफर कर दिया गया, लेकिन रास्ते में ही दोनों की मौत हो गई। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कॉर्बेट फॉल में डूबे दो छात्र, एक की मौत, दूसरे की तलाश अभी भी जारी…

नवीन समाचार, कालाढुंगी, 15 मई 2022। कार्बेट फाल में 2 छात्रों की डूबने का समाचार है। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और एसडीआरएफ ने एक छात्र के शव को बरामद कर लिया है, जबकि दूसरे युवक की तलाश की जा रही है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार को द्रोण कॉलेज दिनेशपुर के छात्रों का दल कालाढूंगी के कॉर्बेट फॉल घूमने आया था, इसी दौरान अपराह्न करीब ढाई बजे नहाते समय दो छात्र डूब गए। इनमें से एक छात्र करीब 3 बजे खुद ही तालाब की सतह पर आ गया। उसे बचाने की कोशिश में बाजपुर की ओर किसी चिकित्सालय ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

जबकि दूसरे छात्र अभिजीत अधिकारी का कोई पता नहीं चला। सूचना मिलने पहुंचे वन विभाग, कालाढुंगी पुलिस व एसडीआरएफ की टीम ने उसे ढूंढने का प्रयास समाचार लिखे जाने तक भी जारी रखा हुआ है, लेकिन वह नहीं मिल पाया है। माना जा रहा है कि वह पहाड़ी की ऊंचाई से गिरती धार की चपेट में आकर तालाब की गहराई में कहीं फंस गया होगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : काफल तोड़ रही महिला पेड़ से गिरी, मौत, बिन मां के हुए 6 व 4 साल के बच्चे

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 7 मई 2022। पिछले शनिवार को नैनीताल जिले के ओखलढूंगा में काफल तोड़ने के लिए पेड़ पर चढ़ी एक 27 वर्षीय महिला टहनी टूटने से गिर कर गंभीर रूप से घायल हो गई थी। ठीक एक सप्ताह के बाद शनिवार को उसकी उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। महिला की 6 साल की बेटी और चार साल का बेटा है, जिनके सिर से मां के आंचल की छांव छूट गई है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के उपरांत शव परिजनों को सोंप दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम सिरोड़ी पोस्ट ओखलढूंगा निवासी 27 वर्षीय दीपा देवी पत्नी गोपाल सिंह गत शनिवार यानी 30 अप्रैल को अपने खेत के पास ही एक काफल के पेड़ पर चढ़ी हुई थी। बताया गया है कि जब वह काफल तोड़कर नीचे उतर रही थी, तभी टहनी टूट गई। जिससे वह गम्भीर रूप से घायल हो गई।

घायल अवस्था में उसे डा. सुशीला तिवारी चिकित्सालय लाया गया, जहां तभी से उसका उपचार चल रहा था। आज शनिवार को ठीक एक सप्ताह के बाद जीवन-मृत्यु के बीच जूझते हुए आखिर वह जीवन की जंग हार गई। उसकी मौत से घरवालों में शोक छा गया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : हेलमेट पहने होने के बावजूद सिर पर मौत बनकर गिरा आग लगने से जला पेड़, 29 वर्षीय युवक की मौत….

नवीन समाचार, किच्छा, 2 मई 2022। ऊधमसिंह नगर जिले के किच्छा में चलती बाइक पर आग लगने के बाद जड़ें कमजोर होने से गिरे पेड़ के नीचे दबने से चालक की दर्दनाक मौत हो गयी, जबकि उसके चाचा भी गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें रुद्रपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया है। युवक ने हेलमेट भी लगा रखा था, जो पेड़ के गिरने से चकनाचूर हो गया, और युवक का सिर फट गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 29 वर्षीय मो. उवेस पुत्र मो. हनीफ निवासी लहसोई बहेड़ी जनपद बरेली उत्तर प्रदेश अपने चाचा मो. रफीक की दवा लेने किच्छा से रुद्रपुर की ओर जा रहा था। खमरिया में खेत मे गेहूं की नरई में आग लगाने के बाद सड़क किनारे सूखे पेड़ ने भी आग पकड़ ली और उसकी जड़ सुलग गयी जिससे पेड़ की जड़ कमजोर होने के कारण गिर गया, और सड़क से गुजर रहा उवैश उसकी चपेट में आ गया। सिर में गंभीर रूप से चोट लगने के कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुच गई, और शव का पंचनामा भर कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नौकुचियाताल में पैराग्लाइडिंग में हादसा, पर्यटक सुरक्षित, पाइलट गंभीर घायल

नवीन समाचार, भीमताल, 1 मई 2022। हादसे कहीं भी हो सकते हैं। जनपद के नौकुचियाताल क्षेत्र में होने वाली पैराग्लाइडिंग में रविवार को हादसा हो गया। दुर्घटना में गिरीश नाम का स्थानीय पायलट ने पर्यटक को तो सकुशल बचा लिया पर वह स्वयं गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे उपचार के लिए हल्द्वानी भेजा गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार दोपहर भीमताल के पांडेगांव में पर्यटक पैराग्लाडिंग कर रहे थे। इसी दौरान एक पैराग्लाइडर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हादसे में पर्यटक तो बाल-बाल बच गया लेकिन पायलट को काफी चोटें आईं। पैराग्लाइडिंग संचालक ने घायल पायलट गिरीश को उपचार के लिए हल्द्वानी भिजवाया।

उल्लेखनीय है कि कुछ समय पूर्व शासन ने पैराग्लाइडिंग को पूर्ण रूप से बंद कर दिया था। बाद में इसे शुरू कराने के लिए स्थानीय स्तर पर उठी मांग के बाद देहरादून से पहुंची टीम ने यहां कुछ साइट संचालकों को पैराग्लाइडिंग की अनुमति प्रदान कर दी थी। टीम ने प्रशिक्षित पायलटों का टेस्ट भी लिया था। जिन पायलटों ने टेस्ट पास किया था उन्हें उडने की अनुमति प्रदान की गई। लेकिन बताया जा रहा है कि इसकी आड़ में कुछ पैराग्लाइडिंग संचालकों ने नौसिखिये पाइलटों से भी पैराग्लाइडर उड़ाना शुरू कर दिया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : पहाड़ पर गेहूं मढ़ाई की मशीन में फंसने से महिला की दर्दनाक मौत…

Bageshwar News : सोमेश्वर में थ्रेशर मशीन में फंसकर महिला की दर्दनाक मौतनवीन समाचार, अल्मोड़ा, 1 मई 2022। सामूहिकता की कमी के साथ पहाड़ों पर भी मैदानी क्षेत्रो की तरह उन्नत कृषि उपकरणों-मशीनों का प्रयोग किया जाने लगा है। रविवार को जरा सी असावधानी की वजह से सोमेश्वर में थ्रेशर मशीन की चपेट में आने से एक महिला की दर्दनाक मौत हो गई। घटना के बाद पूरे गांव में शोक की लहर है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार अल्मोड़ा जनपद की सोमेश्वर तहसील के चनौदा गांव में 35 वर्षीय महिला दीपा देवी पत्नी अशोक भाकुनी रविवार को खेत में थ्रेशर मशीन में गेहूं की मड़ाई का काम कर रही थी। तभी उसकी साड़ी थ्रेशर मशीन के साफ्ट में फंस गई। इस पर मशीन ने उसको अपनी तरफ खींच लिया।

हादसे में उसके सिर, हाथ पर गंभीर चोटें आने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई। परिजनों से सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर अल्मोड़ा मुख्यालय पोस्टमार्टम के लिए ले आई। बताया गया है कि मृतका दीपा देवी के पति हिमांचल प्रदेश के पठानकोट में होटल में नौकरी करते हैं। जबकि उनके दो बच्चे 11 वर्षीय पुत्र तथा 9 वर्षीय पुत्री है। इस हृदय विदारक घटना के बाद दीपा के परिवार तथा गांव में मातम पसर गया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल : होटल के तीसरी मंजिल की बालकनी से गिरा 27 वर्षीय युवक, मौत….

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 अप्रैल 2022। दोस्तों के साथ नैनीताल घूमने आया बाराबंकी का एक 26 वर्षीय युवा पर्यटक होटल की तीसरी मंजिल की बालकनी से गिर गया। गंभीर रूप से घायल अवस्था में उसे एसटीएच हल्द्वानी ले जाया गया। वहां उपचार के दौरान पर्यटक की मौत हो गई। पुलिस ने परिजनों को सूचना देकर पोस्टमार्टम की तैयारी शुरू कर दी है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार जलालपुर दादरा राजापुर बाराबंकी उत्तर प्रदेश निवासी 26 वर्षीय नीरज कुमार वर्मा पुत्र सुरेंद्र कुमार वर्मा बुधवार को अपने चार दोस्तों के साथ नैनीताल घूमने के लिए आया था। यहां उन्हें दो दिन नैनीताल में बिताने थे। दोस्तों के अनुसार सभी हल्द्वानी रोड स्थित शशि होटल में ठहरे थे। रात को साढ़े 11 बजे नीरज तीसरे मंजिल पर स्थित कमरे की बालकनी से गिर गया।

गंभीर हालत में उसे इलाज के लिए पहले बीडी पांडे जिला चिकित्सालय ले जाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद और उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉ. सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी ले जाया गया। जहां रात्रि में ही उसने दम तोड़ दिया। सूचना मिलने पर मेडिकल चौकी पुलिस ने एसटीएच पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : हृदयविदारक तरीके से मजदूर का गला कटा हुआ मिला, मौत

-बिजली की फिटिंग के कटर मशीन से झिर्री काटने के दौरान लापरवाही से हुआ हादसा मान रही पुलिस
robbers attack on man and died in hospital - मोटरसाइकिल सवार युवकों ने मजदूर  का काटा गला, मोबाइल छीनकर हो गए फरारडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 अप्रैल 2022। निकटवर्ती भवाली के तिरछाखेत में बिजली फिटिंग के लिए कटर मशीन से झिर्री काट रहे एक मजदूर का कटर से गला कटने का हृदयविदारक मामला प्रकाश में आया है। घटना संभवतया सोमवार रात्रि की है, पर मंगलवार सुबह अन्य मजदूरों ने उसे खून लथपथ पड़ा देख खैरना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार शाम 55 वर्षीय रमेश चंद्र पुत्र देव राम निवासी भोनियाधार तिरछाखेत में एक निर्माणाधीन घर में बिजली फिटिंग के लिए कटर मशीन से झिर्री काट रहा था। माना जा रहा है कि इसी बीच अचानक कटर मशीन से उसका गला पूरी तरह कट गया होगा। सुबह पता चलने पर उसे साथी खैरना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गये जहां चिकित्सक डॉ. रमेश कुमार ने बताया कि रमेश की पहले ही मौत हो चुकी है।

हादसे की सूचना पर पहुंचे एसआई गुलाब सिंह कंबोज ने कहा कि हादसे की जांच की जा रही है। मजूदर रमेश के भतीजे राजेश ने बताया वह पिछले पांच सालों से तिरछाखेत में कार्य कर रहे थे। सोमवार शाम वह घर नहीं पहुंचे। सुबह निर्माण कार्य स्थल से फोन पर हादसे की जानकारी मिली। भवाली के कोतवाल संजय गर्ब्याल ने बताया कि मजदूर की लापरवाही से गर्दन कट गई होगी। कटर मशीन में खून के निशान मिले हैं। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में 8 वर्षीय मासूम बच्चे की तीसरी मंजिल की छत से गिरकर मौत

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 10 अप्रैल 2022। बरेली रोड में एक परिवार के लिए आ रहीं खुशियां मातम में बदल गईं। शनिवार शाम पुराना घर बेचकर नए घर में शिफ्ट होने से पहले 8 वर्षीय मासूम बच्चे की तीसरी मंजिल की छत से गिरकर मौत हो गई। रविवार को पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। घटना से परिवार में कोहराम मचा है। बच्चे की मां बेसुध है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार इंदिरा नगर बरेली रोड निवासी राजमिस्त्री शानू अपने तीन बच्चों व पत्नी के साथ रहता है। कुछ दिन पहले उसने अपना इंदिरा नगर वाला घर बेचकर गौलापार में नया घर बना लिया था। बीते शनिवार को पूरा परिवार नए घर में शिफ्ट होने की तैयारी कर रहा था। शानू ने सामान निकालने के लिए तीसरी मंजिल की छत पर लगे जाल को खोल दिया था। इस दौरान शानू का 8 वर्षीय बेटा तनवीर वहीं पर खेल रहा था। सभी अपना सामान पैक करने में व्यस्त थे।

बताया जा रहा है कि जाल के पास पानी गिरा हुआ था। इसी बीच मासूम का खेलते हुए पैर फिसल गया। इससे वह जाल के रास्ते दूसरी मंजिल पर आ गिरा और गंभीर घायल हो गया। आनन-फानन में परिजन उसे एसटीएच लाए, जहां देर रात उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। मासूम बेटे की मौत से परिवार में कोहराम मच गया। तनवीर का एक बड़ा भाई और एक छोटी बहन है। मेडिकल चौकी प्रभारी अनिल आर्य ने बताया कि शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नवरात्रि पर ब्रत के खाने से 125  लोगों में फूड पॉइज़निंग….

नवीन समाचार, हरिद्वार, 3 अप्रैल 2022। नवरात्रि पर कुट्टू का आटा खाने से शहर के विभिन्न क्षेत्रों से लगभग 125 लोगो के बीमार होने की खबर है। लोगो में फ़ूड प्वाइजिंग की शिकायत के बाद जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका प्राथमिक उपचार शुरू कर दिया गया है।

वही श्यामपुर गांव के पास भी कई लोग फूड प्वॉइजनिंग के शिकार हुए हैं। जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ चंदन मिश्रा का कहना है कि मरीजों को उपचार देना शुरू कर दिया गया है। कुछ की हालात ज्यादा खराब है। समय पर इलाज शुरू कर दिया गया है। जिससे मरीजों को जल्द राहत मिल सकेगी।

बीमार लोगों को हरिद्वार के जिला अस्पताल, कनखल स्थित रामकिशन मिशन, भूमानंद और श्यामपुर कांगड़ी स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। मरीजों की संख्या बढ़ भी सकती है। जिलाधिकारी ने कुट्टू के आटे की बिक्री पर रोक लगाने के निर्देश जारी कर दिए हैं। साथ ही जांच में दोषी पाए जाने वालों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की बात जिलाधिकारी ने कही है।

पहले नवरात्र पर व्रत रखने वाले कई लोगों ने शनिवार रात में कुट्टू के आटे की पकौड़ी, रोटी और पूरी खाई। लेकिन रात में ब्रह्मपुरी में बहुत से लोगों को उल्टी, पेट खराब और कंपकंपी की शिकायत होने लगी। इसके बाद शनिवार रात करीब एक बजे इक्का-दुक्का मरीज जिला अस्पताल पहुंचने लगे। जिनका इलाज कर चिकित्सकों ने उन्हें घर भेज दिया। रविवार तड़के चार बजे तक ब्रह्मपुरी और श्यामपुर कांगड़ी से ऐसे ही मरीजों की संख्या लगातार बढ़ने लगी और लोग अलग-अलग अस्पताल पहुंचने लगे। 

सीएमओ डॉ. कुमार खगेंद्र सिंह ने बताया कि जिला और मेला अस्पताल में कुल भर्ती मरीजों की संख्या 78 है। कनखल स्थित रामकिशन मिशन अस्पताल में 14,  हरिद्वार-रुड़की हाइवे स्थित अस्पताल में 18 और श्यामपुर स्थित निजी अस्पताल में करीब 15 लोग भर्ती हैं। जिलाधिकारी ने विनय शंकर पांडेय ने कहा कि कुट्टू का आटा कहां से खरीदा गया इसकी जांच के लिए आदेश दे दिए गए हैं। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।

कुट्टू प्रकरण में जो भी दोषी होगा, बख्शा नहीं जाएगा : धन सिंहबीमार हुए मरीजों को देखने स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत जिला अस्पताल पहुंचे। मंत्री इस घटना से खफा दिखे। उन्होंने कहा जो भी दोषी है वह व्यापारी हो या संबंधित विभागीय अधिकारी किसी को नहीं बख्शा जाएगा। उन्होंने कहा कि हरिद्वार में हर साल इस प्रकार की घटनाएं हो रही हैं। दो दिन में संबंधित विभाग की समीक्षा बैठक ली जाएगी। मंत्री ने जिला अस्पताल और मेला अस्पताल में भर्ती मरीजों का हालचाल जाना। उन्होंने कहा कि ईश्वर का शुक्र है कि सभी मरीज खतरे से बाहर हैं। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल में होली के इफेक्ट : शराब पीकर दूसरी मंजिल से गिरा युवक, होश में आने का इंतजार….

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 18 मार्च 2022। होली-दीपावली जैसे सबसे बड़े त्योहारों को कुछ लोग शराब पीकर बदनाम करने पर तुले रहते हैं। नगर के न्यू कॉलोनी दुर्गापुर 33 वर्षीय युवक दीपक कुमार आर्या पुत्र प्रताप राम शनिवार को घर पर होली मनाने के दौरान असंतुलित होकर दूसरी मंजिल से गिरकर घायल हो गया।

उसे बेहोशी की अवस्था में उपचार के लिए बीडी पांडे जिला चिकित्सालय लाया गया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद भी वह होश में नहीं आ पाया। इस पर उसे सिर में लगी चोट को देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया।

जिला चिकित्सालय के आपातकालीन चिकित्सा अधिकारी डॉ. हाशिम अंसारी ने बताया कि वह शराब भी पिया हुआ था। संभवतया इसी कारण शराब के नशे में वह दूसरी मंजिल से नीचे गिरा। उसके सिर तथा कमर व अन्य हिस्सों में गंभीर चोटें आई हैं। गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे उच्च केंद्र के लिए संदर्भित कर दिया गया। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : होली के दिन लेंटर का सरिया बिजली की लाइन को छूने से एक की मौत…

नवीन समाचार, कपकोट, 18 मार्च 2022। होली का त्यौहार पर निकटवर्ती जगथाना गांव मेंएक व्यक्ति की मौत से रंग में होली की खुशियों पर ग्रहण लग गया। बताया गया है कि यहा घर पर लेंटर डालते समय लोहे का सरिया बिजली के तारों को छू गया, जिस कारण यह बड़ा हादसा हो गया। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जगथाना गांव में मकान की छत का लेंटर डाला जा रहा था। इसी दौरान लोहे का एक सरिया बिजली की तारों को छू गया और 44 साल का गुंजन सिंह पुत्र मंगल सिंह उसकी चपेट में आ गया। उसे लोग तत्काल जिला चिकित्सालय ले गए, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। कोतवाल जगदीश ढकरियाल ने बताया कि शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल ब्रेकिंग: कार हवा में खाई की ओर लटकी…

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 22 फरवरी 2022। मंगलवार शाम सड़क के किनारे रेलिंग न होने से एक कार संख्या यूके04-7771 सड़क किनारे खाई की ओर लटक गई। कार का एक अगला पहिया हवा में आ गया। दुर्घटना के समय कार में कार स्वामी रवि कुमार स्वामी का पुत्र सवार था। इसे संयोग कहें या कोई दैवीय शक्ति, कार इस स्थिति में रुक गई, अन्यथा कार सवार के साथ बड़ा हादसा हो सकता था।

इस प्रकार कार में तो कोई क्षति नहीं हुई, परंतु इस कारण नीचे स्थित भाजपा नेत्री तारा राणा के आवास के पास खड़ी उनकी स्कूटी के शीशे टूट गए। भाजपा नेत्री ने कहा कि लंबे समय से यहां सड़क किनारे रेलिंग लगाने की मांग की जा रही है। रेलिंग लगी होती, तो ऐसी नौबत भी नहीं आती। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : महाराष्ट्र निवासी सोने के कारीगर की मौत पर चर्चाएं

नवीन समाचार, भवाली, 15 जनवरी 2022। रविवार को नगर के एक प्रतिष्ठान में सोने के कारोबार से जुड़े करीब 50 वर्षीय अरुण मराठा नाम के व्यक्ति अपने कमरे में मृत मिले।। बताया गया कि मूलतः महाराष्ट्र निवासी अरुण अपने बच्चों को महाराष्ट्र स्थित मूल घर छोड़कर अभी तीन-चार दिन पूर्व ही आया था। उसकी रविवार को अचानक मौत से नगर में तरह-तरह की चर्चाएं रहीं।

महाराष्ट्र से लौटने के कारण लोग कोरोना की वजह से उसकी मौत होने की भी चर्चा करते रहे। अलबत्ता नगर कोतवाल संजय गर्ब्याल ने प्रथम दृष्टया बताया कि वह बीमार था। संभवतया बीमारी की वजह से उसकी मौत हुई। पुलिस ने शव का पंचायतनामा भर दिया है। उल्लेखनीय है कि अरुण नगर में गणेशोत्सव का आयोजन भी कराता था। सामाजिक कायों में भी उसकी भागेदारी रहती थी। वह थोक में चेन लाकर भी बेचता था और सोने को गलाने का काम भी करता था। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 15 दिन के भीतर नियति ने पिता के बाद छीन लिया बेटा, त्योहार पर घर में मचा कोहराम

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 13 जनवरी 2022। खैरना-रानीखेत राज्य मोटर मार्ग पर भुजान के समीप गुरुवार शाम डंपर की टक्कर से एक बाइक सवार युवक की मौत हो गई। 15 दिन पहले ही युवक के पिता की मौत हुई थी। मृतक उत्तरायणी-घुघुतिया के लिए सामान लेने बाजार आया था। उसकी मौत की खबर से उसकी मां बेहोश हो गई और त्योहार से ठीक पहले घर में कोहराम मच गया।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार शाम लगभग साढ़े पांच बजे तिपोला निवासी 27 वर्षीय आशुतोष उप्रेती उर्फ अरविंद (27) पुत्र स्वर्गीय सुरेश उप्रेती बाइक से खैरना से घुघुतिया त्योहार का सामान लेकर अपन बाइक संख्या यूके01बी-5625 से गांव वापस लौट रहा था, तभी भुजान बाजार के समीप बर्धों से खैरना की तरफ आ रहे एक डंपर संख्या यूके04सीए-9852 ने उसकी बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी थी कि बाइक के परखच्चे उड़ गए।

हादसे में अरविंद गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे तत्काल निजी वाहन से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खैरना लाया गया, जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि अरविंद किसी निजी संस्थान में काम करता था। 15 दिन पहले ही उसके पिता की मौत हुई है। अरविंद की मौत की सूचना मिलते ही उसकी मां अस्पताल पहुंचीं और पुत्र का शव देखकर बेहोश हो गईं। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया गया है। शुक्रवार सुबह शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाएगा। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : भारी पड़ा युवक-युवतियों को नए वर्ष का जश्न, थर्टी फर्स्ट मनाने गए नैनीताल-अल्मोड़ा के दो युवकों की मौत

नवीन समाचार, अल्मोड़ा/मुनस्यारी, 2 जनवरी 2022। अंग्रेजी कलेंडर वर्ष की आखिरी रात नए साल के नाम पर जश्न मनाना नए दौर का शगल है। अनेक लोग इस दौरान सबसे पहले मंदिरों मंे दर्शन कर नए वर्ष में जाना चाहते हैं तो अन्य जश्न मनाकर। लेकिन ऐसे मौके नाजुक भी होते हैं। वैष्णो देवी में हुआ हादसा इसका उदाहरण है। इधर कुमाऊं मंडल में भी नैनीताल व अल्मोड़ा के दो युवकों पर नए वर्ष का जश्न जानलेवा साबित हुआ है। नैनीताल के युवक ने जहां प्रेमिका के साथ नए वर्ष का जश्न मनाते हुए आत्महत्या कर ली वहीं अल्मोड़ा का युवक माइनस 15 डिग्री सेल्सियस तापमान में खुले टेंट में रहते हुए ठंड व ऑक्सीजन की कमी से जान गंवा बैठा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नैनीताल के तल्लीताल थाना क्षेत्र निवासी कंचन कुमार आर्य अपनी प्रेमिका के साथ नया साल मनाने अपनी प्रेमिका के साथ अल्मोड़ा के शहरफाटक स्थित एक होटल में रुका था। रात में किसी बात पर प्रेमी युगल के बीच अनबन हो गई, जिसके बाद युवक ने जहरीला पदार्थ गटक लिया। उसे लमगड़ा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। मृतक मानिला सल्ट में अपना मेडिकल स्टोर चलाता था, जबकि युवती हल्द्वानी में अपनी पैथोलॉजी लैब चलाती है।

वहीं दूसरी घटना मुनस्यारी के खलिया टाप की है। यहां अल्मोड़ा के तीन युवक और दो युवतियां दस हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित खलिया टॉप के भुजानी प्रतिबंधित क्षेत्र में अवैध तरीके से नए वर्ष का जश्न अधिक रोमांच के साथ मनाने के लिए माइनस 15 डिग्री सेल्सियस तापमान में टेंट में रुके थे। इनमें से एक 24 वर्षीय युवक दीपक नेगी पुत्र खीम सिंह नेगी निवासी बड़ा बगीचा अल्मोड़ा को सुबह साढ़े चार बजे सांस लेने में दिक्कत होने लगी।

उसके साथी उसे एक नेपाली मजदूर की मदद से कंधों पर लाद कर बमुश्किल थल-मुनस्यारी मार्ग पर खलिया द्वार बलाती तक और वहां से सुबह सात बजे 108 आपातकालीन वाहन से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुन्स्यारी लाए। जहां पर चिकित्सक डा. मोहसिन रजा ने उसे मृत घोषित कर दिया। उन्होंने बताया कि दीपक की मौत अस्पताल पहुंचने से पूर्व हो चुकी थी। प्रथमदृष्टया माना जा रहा है कि दीपक की मौत ठंड व ऑक्सीजन की कमी से हुई है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : अवैध रूप से लीसा ले जाता नैनीताल निवासी का ट्रक दुघर्टनाग्रस्त, एक की मौत, कुछ फरार…

द्वाराहाट के करीब अवैध लीसा लदा ट्रक खाई में गिरा, चालक की मौतनवीन समाचार, द्वाराहाट, 28 दिसंबर 2021। अल्मोड़ा जिले के द्वाराहाट के पास अवैध लीसे से भरा एक ट्रक खाई में जाकर पलट गया। दुर्घटना में चालक की मौके पर ही मौत हो गई। उसकी शिनाख्त नहीं हो सकी है। अंदेशा है कि ट्रक में एक-दो लोग और मौजूद थे। ट्रक के दुघर्टनाग्रस्त होने पर वह फरार हो गए। पुलिस ट्रक में फंसे चालक के शव को निकाल लीसे के टिन निकालने में जुटी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह यूके04सीए-9904 नंबर का ट्रक द्वाराहाट से चौखुटिया की ओर रवाना हुआ था। द्वाराहाट से करीब दो किलोमीटर दूर पंथिनगाड़ पर ट्रक अनियंत्रित होकर खाई की ओर करीब 30 फुट दूर जा गिरा। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। जांच में पता लगा कि लीसे के कुछ टिनों पर सोमेश्वर रेंज अंकित है। इस कारण ट्रक के सोमेश्वर से चलने की संभावना जताई जा रही है। पुलिस, वन विभाग व अन्य टीमें लीसे के टिनों को निकालने में जुटीं हैं। बताया जा रहा है कि लीसा अवैध रूप से ले जाया जा रहा था। ट्रक का मालिक ज्योलीकोट निवासी घनश्याम मेहरा बताया गया है।

भारी मात्रा में लीसा लदा होने के कारण वन विभाग, अग्निशमन व एसडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंची। ट्रक के अंदर एक चप्पल व एक जूते की मौजूदगी से अनुमान लगाया जा रहा है कि उसमें अन्य लोग भी मौजूद रहे होंगे। उनका अभी तक कोई पता नहीं चल सका है।घटना स्थल पर एसडीएम जयवर्धन शर्मा, प्रभारी निरीक्षक राजेंद्र सिंह बिष्ट, तहसीलदार दिलीप सिंह के अतिरिक्त अन्य विभागों के अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : प्रवास से गांव वापस लौटने को आए थे पति-पत्नी, अंगीठी की गैस लगने से हुई मौत….

खतरनाक अंगीठी : कमरे में जल रही अंगीठी की गैस से मां-बेटे की हालत गंभीर |  Khabar Uttarakhand Newsनवीन समाचार, लोहाघाट, 11 दिसंबर 2021। चंपावत जनपद की लोहाघाट तहसील के बाराकोट विकासखड के पड़ासोंसेरा गांव में ठंड से बचाव के लिए सुलगायी गई अंगीठी की गैस से दम घुटने से दंपति की मौत हो गई। शुक्रवार सुबह पति-पत्नी बिस्तर पर मृत पड़े मिले। मृतक गिरधर सिंह चंडीगढ़ में शिक्षा विभाग में चतुर्थ श्रेणी पद पर कार्यरत थे। उनका परिवार चंढीगढ़ में रहता था। इधर पांच दिन पूर्व ही पति-पत्नी गांव में मकान बनाने के लिए आए थे। इस घटना के बाद गांव में शोक की लहर दौड़ गई है। शनिवार को पुत्र के आने के बाद दोनों का अंतिम संस्कार किया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पड़ासौंसेरा गांव के निवासी 58 वर्षीय गिरधर सिंह अधिकारी और उनकी 55 वर्षीय पत्नी कलावती देवी गुरुवार रात ठंड से बचने के लिए अंगीठी जलाकर सोये थे। शुक्रवार सुबह जब काफी देर तक उनके घर का दरवाजा नहीं खुला तो पड़ोसियों को अनहोनी का शक हुआ। इस पर उन्होंने बलपूर्वक दरवाजा खोला तो भीतर बिस्तर में पति-पत्नी मृत मिले। इस पर ग्रामीणों ने राजस्व पुलिस को फोन से सूचना दी। सूचना मिलते ही कानूनगो छत्र सिंह बोहरा व राजस्व उप निरीक्षक पवन जुकरिया दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे। तहसीलदार विजय गोस्वामी ने बताया कि मृत दंपति के शरीर फूल गए थे। अंदर अंगीठी भी पाई गई।

उन्होंने बताया कि प्रथमदृष्टया अंगीठी के कोयलों से निकली जहरीली गैस से दम घुटने के कारण दंपति की मौत हुई प्रतीत होती है। राजस्व उपनिरीक्षक पवन जुकरिया ने बताया कि परिजनों के पोस्टमार्टम न करने के अनुरोध को लेकर प्रार्थना पत्र के आधार पर शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं। शनिवार को शवों का पंचनामा भरा गया। शनिवार को बेटे राजेन्द्र सिंह के आने के बाद दंपति का अंतिम संस्कार कर दिया गया। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दुःखद : चार दिन बाद बेटी की बिदाई की तैयारियों में जुटे पिता की मधुमक्खियों के हमले में मौत

नवीन समाचार, सितारगंज, 24 नवंबर 2021। उत्तराखंड के ऊधमसिंहनगर जिले के सितारगंज में मधुमक्खियों के झुंड के हमले से एक बुजुर्ग की मौत हो गई। दुःखद बात यह भी रही कि मृतक चार दिन बाद तय अपनी बेटी की शादी का न्योता देकर लौट रहा था, तभी उस पर मधुमक्खियों के झुंड ने हमला बोल दिया। बेटी की शादी की तैयारियों के बीच पिता की इस तरह दुःखद मौत से घर ही नहीं पूरे क्षेत्र में माहौल गमगीन हो गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार को नानकमत्ता के बंगाली कालोनी निवासी 60 वर्षीय राजन मृधा अपने साले प्रतापपुर नंबर सात निवासी विपुल मंडल के साथ शक्तिफार्म रिश्तेदारी में अपनी बेटी की शादी की दावत देने गए थे और वहां विवाह सामग्री लेकर लौट रहे थे। तभी शाम करीब चार बजे पाल घर गांव के पास से गुजरते हुए मधुमक्खियों ने दोनों पर हमला कर दिया। राजन पर अत्यधिक मधुमक्खियां लिपटने से वह बेहोश हो गए। इस पर वहां से गुजर रहे शिक्षक जयंत मंडल ने उन्हें अपने वाहन से तुरंत ही नगर के प्रयास अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उन्हें अन्यत्र रेफर कर दिया, लेकिन दूसरे अस्पताल ले जाने से पहले ही उनकी मौत हो गई। मृतक के तीन बेटे व दो बेटियां हैं। सबसे छोटी बेटी का सोमवार को विवाह होना तय है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : मां की चूक से खौलते पानी में गिरा 3 साल का मासूम, और…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 6 नवंबर 2021। खौलते पानी की बाल्टी में गिरने से एसटीएच हल्द्वानी के वार्ड ब्वाय के तीन वर्षीय बेटे की मौत हो गई। बच्चा नहाने के लिए बाथरूम में अपनी मां के साथ गया था। इसी दौरान यह हादसा हुआ। मासूम की मौत से उसके परिजनों में कोहराम मच गया है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार मूलरूप से गंगोलीहाट पिथौरागढ़ निवासी देवेंद्र भट्ट एसटीएच मेडिकल कॉलेज परिसर स्थित प्रिंसिपल आवास में वार्ड बॉय हैं। शनिवार को देवेंद्र की पत्नी भावना बेटे को नहलाने के लिए बाथरूम में गई थी। इसी दौरान वह खौलते हुए पानी की बाल्टी को लेकर बाथरूम में लेकर पहुंची। भावना बच्चे के कपड़ों को हैंगर पर टांग ही रही थी कि तभी बच्चा पानी की बाल्टी में उल्टा गिर गया, और गंभीर रूप से झुलस गया। इस पर परिजन उसे तत्काल निजी अस्पताल लेकर गए। जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव पीएम के लिए मोर्चरी में भेज दिया है। डॉक्टरों के अनुसार बच्चा 30 प्रतिशत झुलसा है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : पहाड़ी से कारों पर गिरे विशालकाय बोल्डर, 4 कारें और स्कूटी दबी.. और….

नवीन समाचार, जोशीमठ (चमोली), सितंबर 2021।
उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में बरसात के बाद आयी आपदा के कारण पहाड़ कमजोर होने लगे हैं। इसका नतीजा यह है कि अभी भी पहाड़ों से बोल्डर गिरने की घटनाएं अक्सर हो रही हैं। ताजा मामला दीपावली की रात्रि का है। यहां पहाड़ी से गिरे विशालकाय पत्थर की चपेट में सड़क पर पार्क की गई कार आ गई और क्षतिग्रस्त हो गई। ग़नीमत रही कि कार में कोई नहीं था, अन्यथा बड़ी जनहानि हो सकती थी।

घटना जिले के जोशीमठ विकास खंड के सीमांत गांव सूकी के पास भोरपाणी की है। यहां दीवाली की रात्रि गुरुवार को बिन बरसात के ही पहाड़ी से भारी बोल्डर आने से दो अल्टो कारें, एक बलैनो कार और एक स्कूटी इसकी चपेट में आकर दब गये। रात्रि का वक्त होने से भी जनहानि नहीं हुई। लेकिन बोल्डर की चपेट में आने से चारों वाहन बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गये। सुकी के प्रधान लक्ष्मण सिंह बुटोला ने बताया कि चारों वाहन सुकी गांव के निवासियों के थे, जो रात्रि में सड़क के किनारे पार्क की गई थी। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : जंगली अंग्यारों के हमले से महिला की मौत, पालतू कुत्ता भी मारा गया

नवीन समाचार, रानीखेत, 31 अक्टूबर 2021। अल्मोड़ा जनपद के द्वाराहाट ब्लॉक के मनेला गांव में सैकड़ों जंगली बर्रों-अंग्यारों के झुंड के हमले से एक महिला और उसके कुत्ते की मौत हो गई। बताया गया है कि महिला खेतों में घास काट रही थी, उसका कुत्ता भी पास ही था। तभी उन पर अंग्यारों ने अचानक हमला बोल दिया।

उत्तराखंड- यहां ततैयों के हमले में युवक की मौत, कई घायल, मचा हड़कंप -  Khabar Pahadविषैले अंग्यारों के डंक लगने से कुत्ता मौके पर ही मारा गया, जबकि महिला ने नागरिक चिकित्सालय में उपचार के दौरान तीन दिन जीवन-मृत्यु के बीच संघर्ष करने के बाद दम तोड़ दिया। हादसे से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गत 28 अक्टूबर को मनेला गांव निवासी जसवंत सिंह की पत्नी खष्टी देवी घर से कुछ दूर खेत में घास काटने गई थी। इसी दौरान सैकड़ों अंग्यारों के झुंड ने उस पर हमला कर दिया। खष्टी ने अंग्यारों के झुंड से बचने की भरसक कोशिश की पर वह बच नहीं पाई।

उसके भतीजे गोविंद बिष्ट तथा ऐराड़ी के ग्राम प्रधान गोविंद ऐरड़ा आदि उसे गंभीर हालत में गोविंद सिंह माहरा नागरिक चिकित्सालय रानीखेत ले आए। यहां तीन दिन संघर्ष के बाद खष्टी जिंदगी की जंग हार गई। दिल्ली में नौकरी करने वाले पुत्रों के घर पहुंचने के बाद मृतका का अंतिम संस्कार किया गया। स्वजनों ने राजस्व पुलिस में शिकायत कर वन विभाग को भी सूचना भेज दी है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : हाय, पहाड़ की नारी-तेरी ऐसी नियति: घास काटने जंगल गई गर्भवती नवविवाहिता की पहाड़ी से गिरकर मौत

नवीन समाचार, कपकोट (बागेश्वर), 5 अक्टूबर 2021। पहाड़ की महिलाओं के श्रम-कष्ट आज भी पहाड़ से बड़े हैं। यहां नवविवाहिता एवं गर्भवती महिलाओं को भी ईधन व चारे के लिए दुर्गम जंगलों में जाना दैनिक दिनचर्या का हिस्सा है। ऐसे में हर वर्ष कई को अपनी जान भी गंवानी पड़ती है। ऐसा ही एक मामला कपकोट के चुचेर गांव में सामने आया है। यहां गत अप्रैल माह में विवाह होने के बाद इधर गर्भवती हुई 22 वर्षीय नवविवाहिता की पहाड़ी से गिरकर दर्दनाक मौत होने का दुःखद समाचार है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिसघटना की अन्य कोणों से भी जांच कर रही है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना कपकोट क्षेत्रांतर्गत चुचेर गांव निवासी 22 वर्षीय नीमा देवी पत्नी प्रकाश कोरंगा मंगलवार को लगभग चार बजे घास काटने के लिए पास के जंगल में गई थी, लेकिन देर रात तक घर नहीं लौटी। इस पर परिजनों ने रात भर उसकी तलाश की। इस पर बुधवार सुबह लगभग सात बजे उसका शव 60 मीटर नीचे गहरी खाई में देखा गया। इस पर परिजनों ने पुलिस को इसकी तत्काल सूचना दी।

सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष मदन लाल दलबल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि प्रथमदृष्टया गर्भवती महिला घास काटते समय पैर फिसलने की वजह से खाई में गिर गई होगी। उसका पति रुद्रपुर में नौकरी करता है। महिला के मायके को भी सूचना दी गई है। उनके आने के बाद ही शव का पोस्टमार्टम होगा। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : ऑनलाइन गेम खेलते हुए तीसरी मंजिल से सड़क पर गिरा 15 वर्षीय किशोर…

नवीन समाचार, रुड़की, 3 अक्टूबर 2021। मोबाइल पर ऑनलाइन गेम बच्चों के लिए कई तरह से जानलेवा साबित हो रहे हैं। रुड़की के गंगनहर कोतवाली क्षेत्र में एक 15 वर्षीय किशोर की तीसरी मंजिल से गिरकर मौत हो गई। बताया गया है कि किशोर ऑनलाइन गेम खेल रहा था और गेम खेलते-खेलते उसे खयाल नहीं रहा और वह तीसरी मंजिल से जमीन पर गिर गया। इससे किशोर के परिवार में कोहराम मच गया है। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नेहरू स्टेडियम के पास रहने वाले ललित बजाज का पुत्र सुजल बजाज (15) शनिवार देर रात छत पर ऑनलाइन गेम खेलते हुए टहल रहा था। इसी बीच सुजल का छत पर संतुलन बिगड़ गया और वह तीसरी मंजिल से सीधा सड़क पर आ गिरा। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

यह भी पढ़ें : 33 यात्रियों से भरी रोडवेज बस की अचानक निकली पहियों की रॉड और…

डॉ. नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 15 सितंबर 2021। बुधवार को नैनीताल जिला मुख्यालय के निकटवर्ती ज्योलीकोट कस्बे के पास एक रोडवेज बस के पहियों की रॉड अचानक निकल जाने से बस में सवार 33 यात्रियों सहित 35 लोगों की जान पर बन आई। अलबत्ता चालक ने अपनी सूझ-बूझ से बस को सुरक्षित रोक लिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसर पिथौरागढ़ से हल्द्वानी की ओर जा रही रोडवेज की बस संख्या यूके04पीए-3287 के अगले पहियों की रॉड अचानक निकल गयी। घटना देर शाम करीब 6 बजे की है। पिथौरागढ़ डिपो कि इस बस को चालक नवीन चंद्र पिथौरागढ़ से हल्द्वानी की ओर लेकर जा रहे थे कि ज्योलीकोट मुख्य बाजार के पास बस के अगले हिस्से के टायरों को रोकने वाली टयूब का नट खुल कर गिर गया और चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगा कर वाहन को रोक दिया। इससे वाहन कुछ दूर तक घिसटते हुए रुक गयी।

व्यस्ततम मार्ग में इस दौरान बस अन्य वाहन से नहीं टकराई और हादसा टल गया। बस में इस समय 33 यात्रियों तथा चालक-परिचालक सहित कुल 35 लोग सवार थे। बाद में यात्रियों ने अन्य वाहनों से अपने गंतव्य को प्रस्थान किया। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दु:खद : जंगल में मछली मारने गया व्यक्ति मगरमच्छ का निवाला बना !

नवीन समाचार, सितारगंज, 10 सितंबर 2021। ऊधमसिंह नगर जनपद के सितारगंज से लगे गांव से सटे डाली रेंज के जंगल में मछली मारने गये एक व्यक्ति के मगरमच्छ का शिकार बनने की घटना प्रकाश में आ रही है। गिरजावती, राजवंती, मालती, अमरावती आदि घास काटने के लिए कटना डोली रेंज के जंगल में गई महिलाओं का कहना है कि उन्होंनेएक व्यक्ति को समीपवर्ती कटना नाले में मछली मारते हुए देखा था। वह यहां से कुछ दूर आगे पहुंची ही थीं कि नाले से बचाओ-बचाओ की आवाज आने लगीं। वह भाग कर वापस आईं तो उन्होंने पानी में हलचल होते हुई देखी, जो कि कुछ देर बाद शांत हो गई।

महिलाओं ने शोर मचाकर ग्रामीणों को मौके पर बुलाया। इसके बाद ग्रामीणों ने काफी देर तक नाले में मछली मारने वाले अज्ञात व्यक्ति व मगरमच्छ की तलाश की। लेकिन कुछ भी पता नहीं चल सका। महिलाओं के अनुसार मगरमच्छ का निवाला बना अज्ञात व्यक्ति बंगाली समुदाय का प्रतीत हो रहा था। तीलियापुर की ग्राम प्रधान निमिषा डसीला ने मामले की लिखित सूचना वन क्षेत्राधिकारी डॉली रेंज अनिल जोशी की दी है। वन क्षेत्राधिकारी अनिल जोशी ने बताया कि कुछ महिलाओं द्वारा मगरमच्छ द्वारा ग्रामीण को निगलने की सूचना दी है, जिसके बाद वन कर्मियों को मौके पर भेजा गया है। मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि शक्ति फार्म पुलिस को भी सूचना दे दी गई है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : धार्मिक आयोजन के दौरान 50 से अधिक ग्रामीण बीमार, अनेक अस्पतालों में भर्ती

क्यों होती है फूड प्वाइजनिंग? जानिये कारण और बचाव के उपाय - Jansattaनवीन समाचार, उत्तरकाशी, 4 सितंबर 2021। उत्तरकाशी जिले के बड़कोट के खरसाली गांव में एक धार्मिक कार्यक्रम में भोजन और फलाहार खाने से 50 से अधिक ग्रामीण बीमार हो गए हैं। इनमें से गंभीर रूप से बीमार लोगों को ग्रामीणों ने सीएचसी बड़कोट तथा सीएचसी नौगांव में भर्ती कराया है। जबकि शेष ग्रामीणों का चिकित्सकों की टीम द्वारा गांव में ही उपचार किया जा रहा है। शुक्र है कि चिकित्सकों ने सभी बीमार गामीणों को खतरे से बाहर बताया है। इसे फूड प्वाइजनिंग की घटना बताया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार माता यमुना के शीतकालीन प्रवास स्थल नौगांव ब्लॉक के खरसाली गांव में स्थानीय इष्टदेव सोमेश्वर देवता का पांच दिवसीय यज्ञ अनुष्ठान चल रहा है। शनिवार को पूजा के बाद आयोजन में शामिल ग्रामीणों ने सामूहिक भोज-फलाहार किया। भोजन करने के कुछ देर बाद 50 से अधिक ग्रामीणों को उल्टी व दस्त की शिकायत होने लगी। इनमें से गंभीर बीमार 6 लोगों को सीएचसी बड़कोट में तथा 5 लोगों को सीएचसी नौगांव में भर्ती कराया गया। वहीं गांव से फूड प्वाइजनिंग की सूचना मिलते ही चिकित्सकों की टीम खरसाली पहुंची, जहां चिकित्सकों द्वारा बीमार लोगों का इलाज किया जा रहा है। बड़कोट चिकित्साधिकारी डॉ. रोहित भंडारी और डा. पवन रावत का कहना है कि खरसाली गांव के फूड प्वॉइजनिंग से प्रभावित सभी ग्रामीण खतरे से बाहर हैं। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : अधूरी रह गई राखी बांधने की हसरत, 11 साल की बहन व दादा-दादी की जंगली मशरूम खाने से मौत

नवीन समाचार, ऋषिकेश 21 अगस्त 2021। जंगली मशरूम खाने से शनिवार को एक ही परिवार के तीन लोगों ने एम्स ऋषिकेश में दम तोड़ दिया। दादा, दादी और पोती की मौत से उनके प्रतापनगर क्षेत्र की ओण पट्टी के गांव शुक्री में मातम पसर गया है। प्रतापनगर में जंगली मशरूम खाने से मौत की यह दूसरी घटना है। इससे पहले खोलगढ़ गांव में पिता और पुत्री की मौत जंगली मशरूम खाने से हो गई थी। हादसे में 11 साल की सलोनी उर्फ किरन भी शामिल है, जिसके दो भाई रक्षाबंधन पर उसके हाथों से राखी बांधे जाने का इंतजार कर रहे थे। लेकिन इससे पहले ही यह दुःखद घटना हो गई।

saloni
मृतक दादा-दादी व पोती

प्राप्त जानकारी के अनुसार ओण पट्टी के शुक्री गांव निवासी सुंदरलाल सेमवाल (62) उनकी पत्नी विमला देवी (60) और पोती सलोनी उर्फ किरन (11) ने 14 अगस्त की रात को जंगलीे मशरूम की सब्जी खाई थी। सलोनी की मां ममता ने किसी वजह से यह सब्जी नहीं खाई थी। रात को ही तीनों लोगों की तबीयत बिगड़ने लगी। 15 अगस्त की सुबह को उन्होंने एक निजी डॉक्टर से दवा ली, लेकिन हालात में सुधार नहीं हुआ। इस पर गांव के लोगों ने तीनों को 16 अगस्त को एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया। इधर सलोनी ने 19 अगस्त की रात और उसके दादा सुंदर लाल सेमवाल तथा दादी विमला देवी ने शुक्रवार रात इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। सुंदर लाल सेमवाल का बेटा यानी बच्ची का पिता सुरेश पंजाब में एक होटल में नौकरी करता है। वह शुक्रवार रात ऋषिकेश पहुंच गया था। शनिवार को तीनों का ऋषिकेश स्थित पूर्णानंद घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। 11 साल की मासूम सलोनी दो भाइयों-रजत (20) और अमन (13) की इकलौती बहन थी। दोनों भाई और अन्य सभी सलोनी को बहुत प्यार करते थे। तीनों को रक्षाबंधन के त्योहार का बेसब्री से इंतजार था। लेकिन, भाइयों की कलाई पर प्यार की डोर बांधने से पहले ही सलोनी यह दुनिया छोड़कर चली गई। अब दोनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

इससे पहले सात अगस्त को जंगली मशरूम की सब्जी खाने से क्षेत्र के खोलगढ़ निवासी टैक्सी चालक चमन सिंह (47) और उनकी बेटी आशा (13) की उपचार के दौरान मौत हो गई थी। चिकित्सकों के अनुसार बारिश के मौसम में जंगलों में उगने वाली मशरूम की कई प्रजातियां जहरीली होती हैं। इनमें अमीनो टोक्सिन मौजूद होते हैं। यह यकृत और किडनी को नुकसान पहुंचाते हैं। इन्हें खाने से फूड पॉइजनिंग होती है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल जनपद में पहाड़ से गिरे पत्थर ने ली एक और जान, एक अन्य गंभीर

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 19 अगस्त 2021। नैनीताल जनपद में पहाड़ से गिरे पत्थर ने एक और जान ले ली है, जबकि मृतक का साथी गंभीर है। घटना अल्मोड़ा-भवाली राष्ट्रीय राजमार्ग-87 पर दोपांखी के समीप हुई। यहां पहले से ही जर्जर पहाड़ी पर राजमार्ग चौड़ीकरण के कारण सीधे काटे गए पहाड़ों के कारण लगातार पत्थरों के गिरने के भय हमेशा बना रहता है। इन्ही कारणों से बुधवार को बिना किसी बारिश के ही एक विशाल पत्थर बाइक संख्या यूके04एबी-3425 पर गिर गया।

इससे बाइक सवार मंगल पड़ाव हल्द्वानी निवासी 26 वर्षीय सौरभ सागर की मौत हो गई, जबकि उसका साथी जेल रोड हल्द्वानी निवासी पंकज गोस्वामी गंभीर रूप से घायल हो गया। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व नैनीताल कालाढुंगी रोड पर पत्थर गिरने से एक सैलानी की मौत हो गईं थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार को सौरभ सागर और पंकज गोस्वामी बाइक संख्या यूके04एबी-3425 से अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज में फ्लेक्सी लगाने के लिए जा रहे थे। तभी दोपांखी के पास थुवा की पहाड़ी से अचानक एक पत्थर बाइक पर आ गिरा। इस कारण पत्थर के साथ ही दोनों खाई की ओर जा गिरे। घटना की सूचना मिलते ही राजमार्ग से गुजर रहे सेना के जवानों तथा चौकी पुलिस खैरना के राजेंद्र गोस्वामी व प्रयाग जोशी ने आसपास के लोगो की मदद से बचाव अभियान शुरू किया, और दोनों को बमुश्किल खाई से बाहर निकाला।

उन्हें 108 आपातकालीन एंबुलेंस सेवा से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गरमपानी पहुंचाया गया। जहां चिकित्सकों ने सौरभ सागर को मृत घोषित कर दिया जबकि पंकज गोस्वामी को प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत में हायर सेंटर हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। दुर्घटना के बाद राजमार्ग पर लंबा जाम भी लगा रहा। पुलिस ने यातायात सुचारू कराया और मृतक के परिजनों को सूचना दी। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : युवक सेल्फी प्वॉइंट से गिरा, हाथ टूटा, पहले दिमाग में कील घुसने की थी चर्चा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 16 अगस्त 2021। मुख्यालय के निकटवर्ती भूमियाधार में हुई एक दुर्घटना में एक स्थानीय युवक का हाथ टूटने का समाचार है। प्राप्त जानकारी के अनुसार भूमियाधार निवासी करीब 30 वर्षीय युवक प्रमोद कुमार नैनीताल-भवाली रोड पर भूमियाधार के पास स्थित सेल्फी प्वॉइंट पर किसी कारण असंतुलित होकर पहाड़ी से नीचे की ओर गिर गया। युवक को उपचार के लिए बीडी पांडे जिला चिकित्सालय लाया गया।

चिकित्सकों ने बताया कि उसका दांया हाथ कोहनी के पास से पूरी तरह से टूट गया है। संभवतया मंगलवार को उसका ऑपरेशन किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि उपचार के दौरान युवक के सिर के पीछे की ओर दिमाग में कील घुसे होने का सूचना भी आई। अलबत्ता चिकित्सकों ने इससे इंकार करते हुए बताया कि टूटे हाथ को संभालने के लिए हाथ में लकड़ी का फट्टा बांधा गया था। एक्सरे में किसी कारण फट्टे का कोई हिस्सा दिमाग की ओर कील सा नजर आने के कारण भ्रमपूर्ण स्थिति बन गई थी। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : लगातार दूसरे दिन कार पर पहाड़ से बोल्डर गिरा, सैनिकों की मदद के बावजूद पत्रकार की मौत

नवीन समाचार, ऋषिकेश, 21 जुलाई 2021। उत्तराखंड में लगातार दूसरे दिन पहाड़ से चलती कार पर बोल्डर गिरने से कार सवार की मौत की घटना हुई है। आज गढ़वाल में बोल्डर गिरने से कार सवार मूलतः पत्रकार एवं नरेंद्रनगर डिग्री कॉलेज में पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. मनोज सुंदरियाल की मौत हो गई है। बुधवार दोपहर करीब 3 बजे डॉ. मनोज सुंदरियाल ऋषिकेश से पौड़ी जा रहे थे कि अचानक ऋषिकेश-बद्रीनाथ हाईवे पर तोता घाटी व सौणपाणी के बीच में पहाड़ी से एक बोल्डर उनकी कार पर पीछे के हिस्से में गिरा।

हादसे के बाद आगे बैठे उनके बड़े भाई पंकज और चालक तो बाहर निकल आए पर पीछे बैठे मनोज कुचली हुई कार में फंसे रहे। इस दौरान ऋषिकेश की ओर जा रहे सेना के जवानों ने रुक कर कटर से कार की छत व दरवाजे काटकर किसी तरह मनोज को बाहर निकाला और 108 आपातकालीन सेवा की मदद से एम्स ऋषिकेश के ट्रॉमा सेंटर भिजवाया, जहां उपचार के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। कार में सवार उनके भाई को भी चोट आई है। उन्हे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

उल्लेखनीय है कि ऋषिकेश बद्रीनाथ हाईवे पर इन दिनों ऑलवेदर रोड प्रोजेक्ट अंतर्गत सड़क चौड़ीकरण का कार्य चल रहा है। इस दौरान बारिश लगातार होने के कारण पहाड़ी से पत्थर गिर रह रहे है। इस दौरान बोल्डर खिसका और कार पर गिर गया। सेना के जवानों ने कार को काट कर घायल व मृतक को बाहर निकाला। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : बिग ब्रेकिंग: नैनीताल की ओर आते कार पर पहाड़ से बोल्डर गिरा, हरियाणा के व्यवसायी की मौत

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 20 जुलाई 2021। जनपद मुख्यालय को जोड़ने वाले कालाढुंगी मार्ग पर मुख्यालय से करीब 15 किमी दूर बजून के पास सैलानियों की कार पर ऊंचे पहाड़ से एक बड़ा भारी बोल्डर गिर गया। बोल्डर इतना बड़ा था व पहाड़ की ऊंचाई से गिरा था कि कार पूरी तरह से पिचक गई। दुर्घटना में कार चला रहे हरियाणा के व्यवसायी की मौत हो गई, जबकि उसकी पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गई। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर घायल हुई महिला को कार से दरवाजा कटवाकर किसी तरह निकालकर 108 आपातकालीन सेवा के माध्यम से उपचार के लिए हल्द्वानी के चिकित्सालय भेजा, जबकि मृतक के शव को को भी कार का दरवाजा काट कर निकालने के बाद मुख्यालय स्थित जिला चिकित्सालय के शव गृह में भेज दिया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कालाढुंगी रोड पर बजून के निकट बूड़ा पहाड़ झरने के पास हरियाणा के सैलानियों की क्रेटा कार संख्या एचआर26सीडब्लू-0789 के गुजरने के दौरान अचानक पहाड़ से बड़ा बोल्डर लुड़क कर उस पर आ गिरा। दुर्घटना में कार चला रहे कार स्वामी 55 वर्षीय व्यवसायी हनुमंत तलवार पुत्र रवींद्र नाथ तलवार निवासी 21/503 हैरिटेज सिटी एमजी रोड गुड़गांव की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उनकी पत्नी 55 वर्षीय मीना तलवार की गर्दन में गंभीर चोट आई है। मौके पर मौजूद तहसीलदार व अल्मोड़ा जिला चिकित्सालय की चिकित्सक ने महिला को प्राथमिक उपचार कर हल्द्वानी के चिकित्सालय भिजवा दिया, और बाद में व्यवसायी के शव को जिला मुख्यालय लाया गया। देखें विडियो :

मल्लीताल कोतवाली के उपनिरीक्षक कश्मीर सिंह ने बताया कि दोनों पति-पत्नी मुक्तेश्वर में होम स्टे में रहने के लिए जा रहे थे। गनीमत रही कि कार बोल्डर की चपेट में आने के बाद सड़क किनारे लगी पक्की रेलिंग में अटक गई, अन्यथा कार के खाई में गिरने से महिला की जान भी जोखिम में होती। बचाव कार्य में नगर कोतवाल अशोक कुमार सिंह एवं कोतवाली के पुलिस कर्मियों के साथ ही अग्निशमन विभाग के राजेंद्र नाथ, उमेश कुमार, कुलदीप कुमार, विक्रांत सिंह व जसवीर सिंह की घायल व मृतक को कार को काटकर बाहर निकालने में उल्लेखनीय भूमिका रही। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : मकान की छत गिरने से एक की मौत, एक अन्य गंभीर…

नवीन समाचार, हल्दूचौड़ (नैनीताल), 16 जुलाई 2021। हल्दूचौड़ के शिवपुरी में शुक्रवार सुबह-सुबह एक मकान की छत तोड़े जाने के दौरान अचानक गिरने से एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि एक अन्य मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए और घायल को उपचार हेतु हल्द्वानी के अस्पताल डॉ. भिजवाया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शिवपुरी में आनंद सिंह राणा द्वारा के पुराने मकान को जीर्णोद्धार करने के लिए तोड़ा जा रहा था। इसी दौरान छत तोड़ते समय यह हादसा हुआ। इस दौरान अचानक छत उम्मीद से पहले भरभरा कर नीचे गिर गई। दुर्घटना में लालकुआं हाथीखाना निवासी 26 वर्षीय फईम पुत्र सलीम व वीआईपी गेट दो किलोमीटर निवासी पप्पू पुत्र राजेंद्र छत के मलबे के नीचे दब गए, और जब तक उन्हें मलबे से बाहर निकाला जाता, फई म की मौत हो गई थी, जबकि पप्पू गंभीर रूप से घायल हो गया था।

सूचना मिलने पर हल्दूचौड़ के चौकी प्रभारी अजेंद्र प्रसाद पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और आवश्यक कार्रवाई की। गई। जिन्होंने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। चौकी प्रभारी अजेंद्र प्रसाद ने मामले की जांच कर कार्रवाई करने की बात कही है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : छत से खेलते हुए गिरी 7 वर्ष की बच्ची

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 08 जुलाई 2021। नगर के मल्लीताल क्षेत्र में एक सात वर्षीय बच्ची खेलते हुए छत से गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गई। परिजन उसे बेहोशी की अवस्था में तुरंत बीडी पांडे जिला चिकित्सालय ले गए। जहां प्राथमिक उपचार के बाद बच्ची को उच्च केंद्र के लिए संदर्भित कर दिया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के चार्टन लॉज निवासी राजन कुमार की सात वर्षीय बेटी रक्षिता छत पर खेल रही थी। इसी दौरान बच्ची एकाएक अनियंत्रित होकर छत से नीचे गिर गई, और गंभीर रूप से घायल हो गई। परिजन बेहोशी की हालत में उसे बीडी पांडे अस्पताल ले गए। जहां गंभीर हालत देखते हुए चिकित्सकों ने उसे हल्द्वानी भेज दिया। चिकित्सकों के अनुसार बच्ची की हालत कुछ सुधार के बावजूद चिंताजनक बनी हुई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

 

Leave a Reply