यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 8077566792 पर संपर्क करें..

दिलचस्प व सबक लेने योग्य भी : अगुवा हुए एक 6 साल के बच्चे ने लगाई गजब की अकल, खुद के साथ बचाई दूसरे बच्चे की भी जान

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 26 अक्तूबर 2019। रुद्रपुर के अगुवा हुए एक बच्चे ने गजब की बुद्धिमानी का परिचय देकर खुद के साथ अपहृत हुए एक और बच्चे को बचा लिया। हुआ यह कि रुद्रपुर के भदईपुरा इलाके में घर के बाहर खेल रहे दो बच्चे लापता हो गए। इसका पता चलते ही परिजनों में हड़कंप मच गया। उन्होंने अपहरण की आशंका जताते हुए पुलिस को सूचना दी। सूचना पर महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस बच्चों की तलाश में तुरंत सक्रिय हो गई। इसी बीच एक बच्चे की मां को फोन पर एक अज्ञात नंबर से कॉल आई। हैलो करने से उसका बच्चा बोला और फोन कट गया। बस इसी एक कॉल ने पुलिस को दोनों बच्चों के अपहर्ता तक पहंुचा दिया, और दोनों बच्चों की जान बच गई और वे अपने परिजनों तक वापस पहुंच गये।
हुआ यह कि रुद्रपुर के वार्ड 14, भदईपुरा निवासी हरी शंकर गंगवार का छह साल का बेटा योगराज और पड़ोस में रहने वाले सुनील गिरी का छह साल का पुत्र शिवा गुरुवार शाम को घर के बाहर खेल रहे थे। रात होने पर दोनों बच्चे घर नहीं आए। इस पर परिजन बाहर आए और उनकी तलाश करने लगे। आसपास योगराज और शिवा नहीं मिले तो परिजनों में हड़कंप मच गया। इस पर बच्चों के अपहरण की आशंका जताते हुए उन्होंने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर कोतवाल कैलाश भट्ट, रम्पुरा चौकी इंचार्ज सतीश कापड़ी पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और जानकारी ली। कुछ देर बाद शिवा का फोन उसकी मां के पास आया। उसने हेलो ही किया था कि फोन कट गया। पुलिस ने फोन की लोकेशन ट्रेस की तो पता चला कि कॉल बहेड़ी से आई थी। जिसके बाद पुलिस टीम बहेड़ी पहुंची। वहां पता चला कि फोन नंबर टिक्की का ठेला लगाने वाले का है। उससे पूछताछ की गई तो, उसने बताया कि एक युवक दो बच्चों के साथ यहां टिक्की खाने आया था। तभी बच्चे ने मुझसे चुपके से फोन मांगकर कॉल किया था, लेकिन जैसे ही फोन रिसीव हुआ, युवक ने बच्चे से फोन छीनकर मुझे लौटा दिया। पुलिस ने ठेले वाले के साथ तलाश कर आरोपित युवक और दोनों बच्चों को बरामद कर लिया। आरोपित युवक ओमवीर उम्र 24 साल, पुत्र संजीव कुमार भदईपुरा का ही रहने वाला है। पुलिस बच्चों और आरोपित को अपने साथ ले आई। फिलहाल बच्चों को परिजनों का सौंप दिया गया है और आरोपित से अपहरण के कारणों के बारे में पुलिस पूछताछ कर रही है।

Leave a Reply

Loading...
loading...