चौड़ीकरण के लिए बंद हुआ रानीबाग-नैनीताल एनएच, गड्ढे भी दिखवा लें साहब

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप https://chat.whatsapp.com/BXdT59sVppXJRoqYQQLlAp से इस लिंक पर क्लिक करके जुड़ें।
-ज्योलीकोट से बल्दियाखान के बीच अत्यधिक गड्ढों से भरी हुई है सड़क

नैनीताल एनएच पर पड़े गड्ढों की स्थिति।

नवीन समाचार, नैनीताल, 22 फरवरी 2020। नैनीताल मुख्यालय को मैदानी क्षेत्रों से जोड़ने वाला प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 87ई, नया नाम 109 रानीबाग से नैनीताल के बीच शनिवार को अगले 15 दिनों तक सुबह 10 से शाम चार बजे तक के लिए बंद हो गया है। इसे दोगांव के पास भेड़िया पखांण नाम के स्थान पर चौड़ा किया जा रहा है। इसके बाद शनिवार को नैनीताल एवं रानीबाग से इस मार्ग पर सुबह वाहनों का आवागमन रोक दिया गया और वाहनों को भीमताल, भवाली के रास्ते भेजा गया। इस हेतु सड़क पर भवाली के मस्जिद तिराहा, रानीबाग तिराहा व नैनीताल डांठ पर पुलिस ने वाहनों को रोकने की व्यवस्था की।
गौरतलब है कि इस मार्ग पर खासकर ज्योलीकोट से बल्दियाखान के बीच की सड़क अपने इतिहास में सबसे बुरे दौर में है। सड़क काफी गड्ढों से तो पटी हुई है ही, पूर्व में गड्ढों पर लगाए गए पैबंद भी उखड़ कर नई आफत बन गए हैं। इस कारण नैनीताल आने वाले वाहनों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। खासकर कई दोपहिया वाहन तो अचानक दिखने पर गड्ढों में गिरकर चोटिल भी हो चुके हैं। आगे जल्द ही ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन की शुरुआत भी होने जा रही है। तब यह गड्ढे नैनीताल के साथ ही राज्य की विकास की छवि को भी देश-दुनिया में प्रभावित करेंगे। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि इस अवधि में जब मार्ग पर वाहनों का आवागमन रुका रहेगा, प्रशासन इन गड्ढों की भी मरम्मत करा लेगा। इस पर भीमताल विकास खंड के ज्येष्ठ प्रमुख एवं कांग्रेस नेता हिमांशु पांडे ने स्वीकारा कि यह सड़क राज्य में डबल इंजन की सरकार होने के बावजूद इतिहास में सर्वाधिक बुरे दौर में है। सोमवार को सड़क की मरम्मत के लिए डीएम को ज्ञापन सोंपा जाएगा।

यह भी पढ़ें : ठंडी सड़क का गेट तोड़ा, अब दौड़ा रहे कार, जिम्मेदार सोये

शुक्रवार दोपहर बारिश के बीच ठंडी सड़क पर गुजरती कार।

नवीन समाचार, नैनीताल, 22 फरवरी 2020। नगर के प्रसिद्ध पैदल पथ-ठंडी सड़क पर वाहनों के आवागमन को रोकने के लिए लगाए गए एक गेट को असामाजिक तत्वों ने तोड़ डाला है। इसके बाद इस पैदल मार्ग पर धड़ल्ले से साइकिल व दोपहिया के वाहनों के साथ कारें भी घूम रही हैं। इससे क्षेत्रवासियों में आक्रोश है। उल्लेखनीय है कि पूर्व में तत्कालीन झील विकास प्राधिकरण ने एक दशक पूर्व ठंडी सड़क का लाखों रुपए खर्च कर जीर्णोद्धार व सौंदयीकरण कार्य करने के बाद इसके दोनों ओर लोहे के गेट लगाए थे। इसके बाद केवल जरूरत पड़ने पर पुलिस या नगर पालिका के वाहन ही इस मार्ग पर जाते रहे हैं। गेट की चाबी पुलिस के पास रहती है। लेकिन अब ना ही गेट तोड़ने पर किसी को कोई जानकारी है और ना ही वाहनों के चलने पर। वाहनों को रोकने पर भी जिम्मेदार विभाग कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। क्षेत्रीय सभासद मनोज साह जगाती ने भी इस मार्ग पर शुक्रवार को कार को गुजरते देखने पर कड़ी नाराजगी जताई है।

यह भी पढ़ें : 40 माह से चल रही अस्थायी व्यवस्था, अब सप्ताह भर बंद रहेगा एनएच-87ई, वजह चिंताजनक…

बीरभट्टी पुल पर अग्निकांड 25 सितम्बर 2020
बीरभट्टी पुल पर अग्निकांड 25 सितम्बर 2020
बीरभट्टी पुल पर अग्निकांड 25 सितम्बर 2020
बीरभट्टी पुल पर अग्निकांड 25 सितम्बर 2020

नवीन समाचार, नैनीताल, 2 फरवरी 2020। राष्ट्रीय राजमार्ग 87-विस्तार पर आगामी 5 फरवरी से 11 फरवरी तक वाहनों का आवागमन बंद रहेगा। इस मार्ग पर बीरभट्टी के पास बलियानाले पर बने वैली ब्रिज के रूटीन मेन्टीनेंस यानी सामयिक अनुरक्षण के लिए डीएम सविन बंसल ने इस मार्ग पर ज्योलीकोट के नंबर-1 बैंड से भवाली सेनिटोरियम के पास मस्जिद तिराहा बैंड से वाहनों का आवागमन बंद रखने के आदेश जारी किये हैं। अलबत्ता आदेश में यह साफ नहीं है कि इस दौरान ज्योलीकोट के नंबर-1 बैंड से मस्जिद तिराहा बैंड के बीच के आधा दर्जन से अधिक गांवों के ग्रामीणों का आवागमन इस दौरान कैसे होगा।
उल्लेखनीय है कि 25 सितंबर 2017 को बीरभट्टी में अंग्रेजी दौर में बना 100 से अधिक वर्ष पुराना मूल लोहे के गार्डर युक्त पुल इसमें से गुजरते घरेलू गैस सिलंेडर लेकर जा रहे ट्रक मं विष्फोट हो जाने के कारण क्षतिग्रस्त हो गया था। बाद में कई दिन तक वाहनों का आवागमन बंद रहने के बाद यहां अस्थायी वैली ब्रिज बनाया गया, और 40 माह बीतने तक भी इसी अस्थायी पुल से काम चलाया जा रहा है। बीच में जून 2019 में इसकी जगह दो लेन का स्टील गार्डर का स्थायी मजबूत पुल बनाने के लिए 4.62 करोड़ रुपए शासन से जारी होने की बात कही गई थी, किंतु अब तक पुल के निर्माण की बात धरातल पर नजर नहीं आ रही है। बल्कि पुराने अस्थायी पुल की मरम्मत करने की बात कही गई है।

यह भी पढ़ें : इस बार बमुश्किल हुआ ‘नवीन समाचार’ की खबर का असर: युवाओं के जोर देने पर जागा प्रशासन..

नवीन समाचार, नैनीताल, 22 जनवरी 2020। सामान्यतया मीडिया प्रतिष्ठान अपनी खबर का असर होने पर गर्व से समाचार प्रकाशित करते हैं, लेकिन आज हम अपनी खबर का बमुश्किल असर होने पर समाचार प्रकाशित कर रहे हैं। प्रशासन भी मीडिया में आए समाचारों को गंभीरता से लेता रहा है, लेकिन बदलते वक्त में अब प्रशासन मीडिया को कितना गंभीरता से ले रहा है। यह समाचार इसकी बानगी है।

हमने गत 18 जनवरी को ‘नवीन समाचार’ में ‘कारस्तानी : नैनीताल में श्मशान घाट के पास सड़क किनारे धरती फाड़ कर ऊपर आ रहीं शराब की सैकड़ों बोतलें !’ शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया था। इस समाचार के लिए प्रशासन से भी बात की गई थी। समाचार प्रकाशित होने के बाद इस समाचार को काफी अच्छी व्यूअरशिप मिली। अनेक लोग इसे पढ़कर उद्वेलित भी हुए, लेकिन प्रशासन के कानों में जूं भी नहीं रैंगी। उल्लेखनीय है कि प्रशासन के द्वारा ही यह अवैध रूप से बेची जाने के कारण पकड़ी गई शराब की बोतलें असंवेदनशीलता दिखाते हुए स्वयं तोड़कर श्मशान घाट के ठीक ऊपर, सड़क किनारे डाली गई थीं। जब इन्हें यहां डाला गया था, तब भी नगर के लोगों ने इस पर ऐतराज जताया था, बावजूद प्रशासन का कार्रवाई न करना प्रशासन की कार्यप्रणाली को बेपर्दा कर गया है।

अलबत्ता, इधर नगर में साफ-सफाई के कार्यों में सक्रिय संस्था ‘ग्रीन आर्मी’ के युवा सदस्य भी इस समाचार से उद्वेलित एवं समाचार प्रकाशित होने के बावजूद कार्रवाई न होने से आक्रोशित हुए और उन्होंने बुधवार को संबंधित समस्या से स्वयं जनपद के एडीएम एसएस पांगती से मिलकर उनका ध्यान इस ओर आकृष्ट कराया। इस पर श्री पांगती ने नगर पालिका के अधिकारियों को सड़क पर उभर आई कांच की बोतलों को हटाने के लिए निर्देशित किया। इसके बाद ग्रीन आर्मी के सदस्यों की मौजूदगी में नगर पालिका के कर्मियों ने सड़क किनारे तोड़ी गई शराब की बोतलों को मौके से हटवाया। कार्रवाई के दौरान नगर पालिका के एसआई कुलदीप कुमार व उनकी टीम तथा ग्रीन आर्मी के गोविंद प्रसाद, जय जोशी, भास्कर आर्य, अजय कुमार, विमल चंद्र, विक्की आर्य व सुनील चंद्र आदि सदस्य मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : कारस्तानी : नैनीताल में श्मशान घाट के पास सड़क किनारे धरती फाड़ कर ऊपर आ रहीं शराब की सैकड़ों बोतलें !

सड़क पर उभरी शराब की बोतलें

नवीन समाचार, नैनीताल, 18 जनवरी 2020। प्रशासन ने पिछले दिनों अवैध रूप से विपणन की जा रही शराब की सैकड़ों बोतलें भवाली रोड पर पाइंस श्मशान घाट के पास सड़क किनारे तोड़ दी थीं। तब स्थानीय लोगों ने इस पर आपत्ति भी की थी। लोगों को आशंका थी कि इन टूटी शराब की बोतलों का कांच बहकर श्मशान घाट की ओर जाएगा एवं वहां नंगे पैर शव दाह करने वाले लोगों के पैर में गढ़ सकता है। इस पर प्रशासन की ओर से आश्वस्त किया गया था कि शराब की बोतलें नियमानुसार ही यहां निस्तारित की जा रही हैं। इन्हें जेसीबी की मदद से जमीन में गहरे में दबाया जाएगा। लेकिन प्रशासन की आश्वस्ति के बावजूद इधर शराब की टूटी-अधटूटी बोतलें सड़क की सतह पर उभर आई हैं। इससे लोगों में प्रशासन के खिलाफ नाराजगी नजर आ रही है। नैनीताल टैक्सी यूनियन के अध्यक्ष नीरज जोशी ने बताया कि उन्हें 500 शराब की बोतलों को न्यायालय के आदेश पर तोड़ने की जानकारी दी गई थी, तथा आश्वस्त किया गया था कि इन्हें जमीन में गाढ़ा जाएगा, किंतु ऐसा नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि श्मशान घाट से आगे व कॉजवे से पहले यह बोतलें सड़क पर उभर आई हैं। एसडीएम विनोद कुमार ने मामले का संज्ञान लेकर बोतलों का कांच हटवाने की बात कही।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड परिवहन निगम की वेबसाइट पर सार्वजनिक हो रही ऑनलाइन बुकिंग करने वालों की जानकारी

नवीन समाचार, नैनीताल, 5 जनवरी 2020। उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों में  करने पर ऑनलाइन बुकिंग करने वाले सभी  यात्रियों के क्रेडिट कार्ड व डेबिट कार्ड की पूरी जानकारी  दिखाई दे रही है। इससे पहले बुकिंग कर चुके सभी यात्रियों के नाम, उनके बैंक कार्ड के नंबर, यहां तक कि कार्ड की एक्सपायरी डेट भी सबको सार्वजनिक तौर पर दिखाई दे रही है। नगर के अधिवक्ता पंकज कुलौरा ने कहा कि इस तरह उत्तराखंड परिवहन निगम हैकरों को उनकी वेबसाइट प्रयोक्ताओं के बैंक कार्डों को हैक करने का आमंत्रण दे रहा है। उन्होंने बताया कि अपने छोटे भाई  पवन कुलौरा की हल्द्वानी से  दिल्ली के लिए बुकिंग करते हुए सबके बैंक कार्डों की जानकारी दिखी।

One thought on “चौड़ीकरण के लिए बंद हुआ रानीबाग-नैनीताल एनएच, गड्ढे भी दिखवा लें साहब

Leave a Reply

Loading...
loading...
google.com, pub-5887776798906288, DIRECT, f08c47fec0942fa0

ads

यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 9411591448 पर संपर्क करें..