उत्तराखंड सरकार से 'A' श्रेणी में मान्यता प्राप्त रही, 16 लाख से अधिक उपयोक्ताओं के द्वारा 12.6 मिलियन यानी 1.26 करोड़ से अधिक बार पढी गई अपनी पसंदीदा व भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ में आपका स्वागत है...‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने व्यवसाय-सेवाओं को अपने उपभोक्ताओं तक पहुँचाने के लिए संपर्क करें मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व saharanavinjoshi@gmail.com पर... | क्या आपको वास्तव में कुछ भी FREE में मिलता है ? समाचारों के अलावा...? यदि नहीं तो ‘नवीन समाचार’ को सहयोग करें। ‘नवीन समाचार’ के माध्यम से अपने परिचितों, प्रेमियों, मित्रों को शुभकामना संदेश दें... अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने में हमें भी सहयोग का अवसर दें... संपर्क करें : मोबाईल 8077566792, व्हाट्सप्प 9412037779 व navinsamachar@gmail.com पर।

March 3, 2024

Khadya : घी में डालडा मिलाकर बेच रही थी हल्द्वानी की डेयरी, पकड़ी गई… कार्बाइड से पकाये जा रहे फल…

0

Khadya

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 28 जनवरी 2024 (Khadya)। प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने रविवार को शहर के बरेली रोड, मंगल पड़ाव और पीलीकोठी समेत आसपास के विभिन्न खाद्य प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया।

(Khadya) बलरामपुर: खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने छापेमारी कर भरे नमूनेइस दौरान मंगल पड़ाव स्थित गोपाल जी डेयरी में निरीक्षण में घी में डालडा की मिलावट के संदेह के आधार पर घी और पनीर का सैंपल राज्य खाद्य विश्लेषणशाला रुद्रपुर भेजा गया। मौके पर प्रतिष्ठान स्वामी ने डालडा में मिलावट की बात स्वीकार की। इस पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि सैंपल की जांच रिपोर्ट मिलने के बाद खाद्य सुरक्षा एवं मानक के तहत आगे की कार्यवाही की जाएगी।

इसके अलावा पीलीकोठी स्थित आंचल मिल्क पार्लर डेयरी के निरीक्षण के दौरान प्रतिष्ठान स्वामी खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के तहत पंजीकरण पेश नहीं कर सका। यहां से टीम ने गजक का नमूना संग्रहीत कर खाद्य प्रयोगशाला को भेजी गई।

जबकि बरेली रोड में फलों के गोदामों का निरीक्षण भी किया गया। अधिकारियों ने बताया कि फलों को पकाने में कार्बाइड का प्रयोग करने वालों पर कार्रवाही की जाएगी। कार्रवाई में खाद्य सुरक्षा अधिकारी अभय कुमार, संजय कुमार आदि मौजूद रहे।

आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यहां क्लिक कर हमारे व्हाट्सएप चैनल से, फेसबुक ग्रुप से, गूगल न्यूज से, टेलीग्राम से, कू से, एक्स से, कुटुंब एप से और डेलीहंट से जुड़ें। अमेजॉन पर सर्वाधिक छूटों के साथ खरीददारी करने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..

यहाँ क्लिक कर सीधे संबंधित को पढ़ें

यह भी पढ़ें Khadya : मिठाई बनाने में प्रयोग हो रहे थे मुर्गी दाना, फिटकरी का घोल, नकली रिफाइंड, रंग और केवड़े की खुशबू ! रुद्रपुर, हल्द्वानी, सितारगंज, अल्मोड़ा की नामी दुकानों में हो रही थी आपूर्ति

Khadya मिठाइयों में मिलावट है या नहीं, इन आसान तरीकों से घर पर ही करें पहचान, रहें  सेहतमंद - How To Check Mixed Material In Sweets Desserts Read This Article  Meerut - Amarनवीन समाचार, किच्छा, 28 जनवरी 2023 Khadya। उत्तराखंड की ऊधमसिंह नगर पुलिस ने एक फार्म हाउस पर छापा मारकर वहां चल रहे मिठाई बनाने के ऐसे कारखाने का भंडाफोड़ किया है, जिसाके मिठाई बनाने के लाइसेंस की तारीख निकल गई थी। जहां से पुलिस को जानवरों को खिलाए जाने वाला मुर्गी दाना, फिटकरी का घोल, नकली रिफाइंड, रंग तथा केवड़े की खुशबू आदि सामग्री मिली है।

साथ ही यहां बाल श्रम करने वाले तीन नाबालिग किशोरों को छुड़वाया गया है और दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा यहां बनने वाली डोडा बर्फी और मिल्क केक का नमूना प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजा है। बताया गया है कि कि डोडा बर्फी व मिल्क केक को रुद्रपुर, हल्द्वानी, सितारगंज, अल्मोड़ा की नामी गिरामी मिठाई की दुकानों में आपूर्ति की जाती थी। यह भी पढ़ें : फर्जी डिग्री से बने चार फर्जी चिकित्सक गिरफ्तार

Nainital News:मिलावटी मिठाई कारखाना प्रकरण में दो गिरफ्तार, मौके से तीन  नाबालिग काम करते मिले - Crime. - Nainital Newsपुलभट्टा पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार सीओ ओमप्रकाश शर्मा और पुलभट्टा थानाध्यक्ष कमलेश भट्ट ने मिलावट की आशंका पर शहदौरा स्थित एक फार्म हाउस में चल रहे मिठाई बनाने के कारखाने पर छापा मारा। इस दौरान वहां जानवरों को खिलाए जाने वाला मुर्गी दाना, फिटकरी का घोल, नकली रिफाइंड, रंग तथा केवड़े की खुशबू आदि सामग्री बरामद की गई।

कारखाने से दो लोगों को गिरफ्तार किया है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी आशा आर्य ने डोडा बर्फी और मिल्क केक का नमूना प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजा है। यह भी पढ़ें : धर्मांतरण व समान नागरिक संहिता की कड़ी में उत्तराखंड सरकार की अब गायों के संरक्षण के लिए दो बड़ी ‘गेम चेंजर’ योजनाएं !

थानाध्यक्ष ने बताया कि यहां तीन किशोरों से मिठाई बनाने का काम करवाया जाता था। मौके से सुरेश शर्मा निवासी शहदौरा और रिंकू कुशवाहा निवासी सरदना जिला मेरठ को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि यह सारा कारोबार सरदना जिला मेरठ के एक व्यक्ति का है। वह शहदौरा में मिठाई बनाने का काम करता है।

उन्होंने बताया कि डोडा बर्फी व मिल्क केक को रुद्रपुर, हल्द्वानी, सितारगंज, अल्मोड़ा की नामी मिठाई की दुकानों पर कार से सप्लाई करते थे। मौके से फिटकरी का घोल, नकली रिफाइंड, कलर, तीन बोतलें केवड़ा सेंट भी बरामद किया गया है। यह भी पढ़ें : नैनीताल : वन विभागीय STF व SOG को मिली बड़ी सफलता, हाथी दाँत के साथ तस्कर दबोचे…

शनिवार सुबह खाद्य सुरक्षा अधिकारी आशा आर्या ने बताया कि मिठाई बनाने का लाइसेंस की तारीख निकल जाने के बावजूद मिठाई बनाने के आरोप में कोर्ट में चालान पेश करने की कार्रवाई की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल में खाद्य सुरक्षा विभाग की छापेमारी, 4 होटल-रेस्टारेंटों में मिलीं अनियमितताएं…

नवीन समाचार, नैनीताल, 23 नवंबर 2022। खाद्य सुरक्षा अधिकारी कैलाश टम्टा ने गुरुवार को नगर के मॉल रोड स्थित 25 होटलों-रेस्टोरेंटों में नियमित जांच की। जांच के दौरान टीम को चार में अनियमितता मिली हैं। इन पर उनके प्रबंधन को नोटिस जारी कर एक सप्ताह के भीतर जवाब पेश करने के निर्देश दिए गए हैं। यह भी पढ़ें : उत्तराखंड ब्रेकिंग: कल की छुट्टी पर आया बड़ा अपडेट

खाद्य सुरक्षा अधिकारी कैलाश टम्टा ने बताया कि मॉल रोड क्षेत्र में ‘दि मेपल रेजिडेंसी’ का बिना खाद्य सुरक्षा लाइसेंस के संचालित किये जाने पर चालान किया गया है। इसके अलावा होटल फ्लैटीज व हारमोनी हॉल अपना लाइसेंस नहीं दिखा पाए। उन्हें एक सप्ताह के भीतर लाइसेंस खाद्य सुरक्षा विभाग में पेश करने के निर्देश दिए हैं।

(Khadya) जबकि पुष्कर विला होटल के संचालकों का कहना था कि वह अपने ग्राहकों के लिए किचन का संचालन नहीं करते हैं। उनकी कही बात की सत्यता की जांच की जाएगी। यह भी पढ़ें : पति को बांधकर विवाहिता के साथ चार युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, नाबालिग भतीजी के साथ भी की छेड़छाड़

श्री टम्टा ने बताया कि यह नियमित जांच मंडलायुक्त दीपक रावत के 10 दिनों तक बिना लाइसेंस के चलने वाले होटल-रेस्टारेंटों-भोजन बेचने वाले प्रतिष्ठानों की जांच करने के निर्देशों पर की गई। जांच आगे भी जारी रहेगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : उच्चाधिकारी संज्ञान लें: आठ वर्ष पुराने नियमों से राशन कार्डों के सत्यापन की कवायद, ऐसे तो पात्र हो जाएंगे लाभ से वंचित

गरीबों का राशन डकारने वालों पर होगा मुकदमा: सरकार ने दी मोहलत, दस दिन में  स्वयं कार्ड सरेंडर कर दें, नहीं होगी कार्रवाईडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 8 मई 2022। प्रदेश का खाद्य आपूर्ति विभाग वर्ष 2014 के यानी आठ वर्ष पुराने शासनादेश से पात्रों को राशन कार्ड के जरिए सस्ता खाद्यान्न प्राप्त करने के अधिकार से वंचित करने जा रहा है।

इस बारे में प्रदेश के नैनीताल, ऊधमसिंह नगर आदि कई जिलों के जिलाधिकारियों की ओर से भी लोगों से अपने राशन कार्ड सरेंडर करने का आदेश जारी हुआ है, इससे समाज के कमजोर वर्ग के लोगों में राशन कार्ड सरेंडर करने पर सस्ते खाद्यान्न से वंचित होने और भोजन का संकट उत्पन्न होने एवं सरेंडर न करने पर डीएम चेतावनी के अनुसार मुकदमा दर्ज होने का संकट उत्पन्न हो गया है।

समाचार पत्रों के माध्यम से आए डीएम के आदेश में कहा गया है कि कृषि सहित सभी स्रोतों से पूरे परिवार की 1.5 लाख रुपए से अधिक आय वाले सफेद कार्ड धारक और 5 लाख से अधिक आय वाले पीले कार्ड धारक अपने कार्डों को सरेंडर करें। ऐसा न करने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

इस मामले में ‘नवीन समाचार’ ने शासन में बात की तो उच्चाधिकारियों ने नाम न छापने की शर्त पर इसे सरकार की बड़ी चूक बताया। कहा कि 2013-14 में 1.8 लाख रुपए की आय कर मुक्त थी, इसलिए 1.5 नहीं बल्कि 1.8 लाख से कम आय वालों को सफेद राशन कार्ड उपलब्ध कराए गए।

(Khadya) अब वर्तमान में 5 लाख तक की आय कर मुक्त है, इसलिए सफेद कार्ड की सीमा 5 लाख एवं इसी तरह पीले कार्ड की आय सीमा भी बढ़नी चाहिए। लेकिन इसे बढ़ाए बिना कार्ड सरेंडर करने को कहा जाना गलत है। आशा है जिम्मेदार अधिकारी इस समस्या का संज्ञान लेंगे। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : बाजार में बेचा या जानवरों को खिलाया जा रहा है सरकारी सस्ता राशन, डीएम ने राशन कार्डों के दुरुपयोग पर मुकदमा दर्ज करने के प्रति चेताया

नवीन समाचार, नैनीताल, 2 मई 2022। डीएम के 25 दिन पूर्व के आदेश के बाद भी जनपद में अनेक राशन कार्ड नियमविरुद्ध चल रहे हैं। इस पर डीएम धीराज गर्ब्याल ने दोबारा आदेश जारी कर लोगों को 15 दिन में राशनकार्ड सरेंडर नहीं करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है। कहा कि मानकों के विपरीत जिन परिवार के सदस्यों ने नियमविरुद्ध राशनकार्ड बनाए हैं, वे अपना राशनकार्ड सरेंडर कर लें। जांच में पकड़े जाने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

बताया गया है कि परिवार की वार्षिक आय 1.80 लाख रुपये से कम होने पर सफेद राशन कार्ड तथा परिवार की वार्षिक आय 1.80 लाख रुपये से अधिक और 5 लाख रुपये से कम होने पर पीला कार्ड बनेगा। इन नियमों के खिलाफ जो भी राशन कार्ड बने हैं, उन्हें सरेंडर किया जाना है।

ऐसी जानकारी भी है कि अनेक अपात्र सस्ते गल्ले की दुकानों से राशन लेकर बाजार में बेच रहे हैं और उसके बदले अच्छा महंगा चावल लेकर खा रहे हैं। यह चावल मिलों में पीसा जा रहा है। कई लोग आसपास के लोगों के राशन कार्ड लेकर कारों में आकर पूरा बोरा गेहूं या चावल भी सस्ते गल्ले की दुकानों से लेकर जा रहे हैं।

(Khadya) यदि इन दुकानों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं तो इस अवैध गतिविधि का आसानी से भंडाफोड़ किया जा सकता है। इसके अलावा अनेक लोग जानवरों को खिलाने के लिए भी सस्ता राशन ले जाकर इस व्यवस्था का दुरुपयोग कर रहे हैं। इस पर रोक लगाए जाने की नितांत आवश्यकता है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : गलत तरीके से बने राशन कार्डों की छंटाई शुरू

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 6 अगस्त 2021। जनपद में पात्रता के अनुसार राशन कार्ड धारकों का सत्यापन किया जा रहा है। डीएम धीराज गर्ब्याल ने बताया कि इसके अंतर्गत लाभार्थियों को चयनित करते हुए अपात्र परिवारों के राशन कार्डों को निरस्त किये जाने की कार्यवाही की जा रही है।

उन्होंने आय के आधार पर कार्ड धारकों की पात्रता के मानकों की जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (अन्त्योदय एवं प्राथमिक परिवार) के अंतर्गत 15 हजार से कम मासिक आय वाले, अन्त्योदय अन्न योजना के अंतर्गत विधवा महिला, असाध्य रोग से पीड़ित व्यक्ति, दिव्यांगता से पीड़ित अथवा 60 वर्ष से अधिक आयु के निराश्रित व आय के साधन विहीन परिवार तथा राज्य खाद्य योजना के अंतर्गत पंच लाख रूपये से कम वार्षिक आय वाले परिवार आते हैं।

उन्होंने अपात्रों से अपने राशन कार्ड निरस्त करवाने एवं पात्रों से 15 दिन के भीतर आधार कार्ड, मुखिया की पासपोर्ट साईज फोटो आदि कागजात ग्रामीण क्षेत्रों में संबंधित ग्राम पंचायत विकास अधिकारी या खंड विकास अधिकारी कार्यालय में व शहरी क्षेत्र में निकटतम पूर्ति निरीक्षक कार्यालय तथा जिला पूर्ति कार्यालय में जमा कर ऑनलाइन वेलिडेशन करवाने को कहा है।

(Khadya) उन्होंने कहा कि सत्यापन के उपरांत कार्ड धारक का कार्ड पात्रता के अनुरूप नहीं पाये जाने पर संबंधित के विरूद्ध नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : मिलावटखोरी पर हल्द्वानी के एक व्यवसायी पर दो लाख रुपए का जुर्माना

नवीन समाचार, अल्मोड़ा, 4 अगस्त 2021। गुड़ में मिलावटखोरी के आरोप में न्याय निर्णयन अधिकारी-अपर जिला मजिस्ट्रेट की अदालत ने हल्द्वानी के व्यवसायी पर दो लाख रुपये जुर्माना लगाया है। जनस्वास्थ्य से खिलवाड़ के मामले में यह अब तक का सबसे बड़ा जुर्माना बताया जा रहा है। वहीं एक अन्य मामले में भिकियासैंण के होटल स्वामी पर भी 20 हजार रुपए का अर्थदंड लगाया गया है। दोनों व्यवसासियों से 30 दिन के अंदर जुर्माना अदा करने को कहा गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्ष 2015 में जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी अभय कुमार सिंह ने हल्द्वानी मंडी के व्यवसायी शंकर एंड संस के गुड़ के ट्रक से नमूने लेकर राजकीय खाद्य प्रयोगशाला रुद्रपुर में जांच कराई गई थी। जांच में गुड़ में अधोमानक यानी मिलावटी निकला। मामले में आरोपित ने लिखित रूप से अपना अपराध स्वीकार किया। अपर जिला मजिस्ट्रेट बीएल फिरमाल की अदालत ने इसे जनस्वास्थ्य से खिलवाड़ करार देते हुए दोषी ठहराते हुए दो लाख रुपये जुर्माना सुनाया।

वहीं दूसरे मामले में खाद्य सुरक्षा अधिकारी अभय ने भिकियासेंण के होटल इंसेस ऑफ नेचर से वर्ष 2019 में दाल के नमूने भरकर जांच के लिए रुद्रपुर स्थित प्रयोगशाला को भेजे थे। जांच में दाल मिलावटी पाई गई। जनस्वास्थ्य से खिलवाड़ पर एडीएम की कोर्ट ने दोषी होटल संचालक पर एक लाख रुपये जुर्माना लगाया। होटल स्वामी अनिरुद्ध फैसले के खिलाफ खाद्य सुरक्षा अपीलीय अभिकरण (हल्द्वानी) पहुंच गया।

मगर अपीलीय अधिकारी ने स्थगनादेश देते हुए मामला सुनवाई के लिए वापस न्याय निर्णय अधिकारी अल्मोड़ा को सौंप दिया। जहां पुनः सुनवाई हुई। वादी अनिरुद्ध के अपराध स्वीकार करने पर जुर्माने की राशि घटाकर 20 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया गया। खाद्य सुरक्षा अधिकारी अभय के अनुसार मिलावटखोरी पर दो लाख रुपये का जुर्माना लगाने का यह अब तक का सबसे बड़ा मामला है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : खुशखबरी: उत्तराखंड में 23 लाख परिवारों को राशन कार्ड पर मिलेगा 20 किलो खाद्यान्न व दो किलो चीनी

नवीन समाचार, देहरादून, 17 अप्रैल 2021। उत्तराखंड के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बंशीधर भगत ने बताया कि राज्य सरकार ने 23 लाख परिवारों को राशन कार्ड पर साढ़े सात किलो के बजाए 20 किलो खाद्यान्न देने के निर्देश दिए जा रहे हैं। साथ ही चीनी भी अब 800 ग्राम के बजाए दो किलो दी जाएगी। वहीं, राशन डीलरों का लाभांश भी 10 रुपये प्रति कुंतल से बढ़ाकर 143 रुपये प्रति कुंतल करने का निर्णय लिया गया है।

मंत्री बंशीधर भगत एवं मंत्री गणेश जोशी ने शनिवार को विजयपुर नयागांव हाथीबड़कला में एमडीडीए की अवस्थापना मद से 118.92 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले सामुदायिक भवन का भूमि पूजन करने के बाद यह बात कही। भगत ने कहा कि सामुदायिक भवन के निर्माण से क्षेत्रवासियों को लाभ मिलेगा। सरकार जल्द ही प्रदेश के 23 लाख परिवारों को दो किलो चीनी देने पर विचार कर रही है। खाद्यान्न वितरण में गेहूं एवं चावल की मात्रा भी बढ़ायी जाएगी।

वहीं कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि सरकार सैनिकों के हितों के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार जल्द ही सैन्यधाम का निर्माण करने जा रही है। हम प्रदेश के प्रत्येक शहीद के घर से मिट्टी लाऐगें और वह मिट्टी सैन्यधाम निर्माण में प्रयोग की जाएगी। हमारी सरकार शहीदों की शहादत को सम्मान देने तथा उनके परिवारजनों की भावनाओं का सम्मान करने के लिए कृत संकल्पित है।

(Khadya) कार्यक्रम अध्यक्ष कैप्टन खेमबहादुर थापा,हल्द्वानी के मेयर जोगेन्द्र रौतेला,मण्डल अध्यक्ष राजीव गुरुंग, भाजपा मण्डल अध्यक्ष ज्योति कोटिया,पार्षद सागर लामा सहित कई अन्य लोग उपस्थित रहे। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला नैनीताल : दिल के सबसे करीब, सचमुच धरती पर प्रकृति का स्वर्ग